Share
 
Comments
ایک لمبا عرصہ گزر جانے کے بعد بھی بھارت اور روانڈا کے درمیان بہتر تعلقات برقرار ہیں؛ یہ ہمارے لئے فخر کی بات ہے کہ روانڈا کی اقتصادی اور قومی ترقی میں بھارت روانڈا کا ایک بھروسے مند ساتھی بنا رہا ہے: وزیر اعظم مودی
بھارت روانڈا میں بہت جلد اپنا ہائی کمیشن کھولے گا: وزیر اعظم مودی
ہم روانڈا کے ساتھ اپنے کاروباری اور سرمایہ کارانہ تعلقات مضبوط کرنا چاہتے ہیں: وزیر اعظم مودی

Your Excellency President
पॉल कगामे,

Distinguished delegates,
Members of the Media,

यह पहला अवसर है जब भारत का कोई प्रधानमंत्री Rwanda आया है। और मेरा सौभाग्य है कि मेरे मित्र राष्ट्रपति कगामे जी के निमंत्रण पर यह सुअवसर मुझे मिला है।

राष्ट्रपति जी के दोस्ताना शब्दों, और मेरे तथा मेरे delegation के गर्मजोशी भरे स्वागत और सम्मान के लिए मैं ह्रदय से आभार प्रकट करता हूँ। राष्ट्रपति जी स्वयं मेरा स्वागत करने airport आए। उनका यह special gesture पूरे भारत का सम्मान है। कल सुबह, Kigali जेनोसाइड मेमोरियल पर मैं श्रद्धाजंलि अर्पित करूंगा। 1994 के जेनोसाइड के बाद Rwanda ने जो शांति-प्रक्रिया अपनाई है, वह सच्चे अर्थों में सराहनीय और अनूठी है। President Kagame का कुशल नेतृत्व ही है जिनके प्रभावी और सक्षम शासन से Rwanda आज तेज गति से आर्थिक प्रगति कर रहा है।

 Friends,

भारत और Rwanda के संबंध समय की कसौटी पर खरे उतरे हैं। हमारे लिए यह गर्व का विषय है कि Rwanda की आर्थिक विकास और राष्ट्रीय विकास यात्रा में भारत आपका विश्वस्त साझेदार रहा है। Rwanda की विकास यात्रा में हमारा योगदान आगे भी बना रहेगा। हम training, technology, infrastructure development और project assistance के क्षेत्रों में सहयोग करते रहे हैं। Finance, management, rural development और ICT जैसे क्षेत्रों में हम Rwanda के लिए अग्रणी भारतीय संस्थानों में training प्रदान करते हैं। Capacity building में इस योगदान को हम और बढ़ाना चाहेंगे। आज हमने Two hundred million dollars के lines of credit और training के विषय पर समझौते किये हैं। आज हमने नए क्षेत्रों जैसे लेदर और डेरी research सहित दोनों देशों के बीच सहयोग के विभिन्न क्षेत्रों पर भी चर्चा की है। इस संदर्भ में, मैं कल राष्ट्रपति जी के साथ रवेरू आदर्श गाँव की यात्रा के बारे में बहुत उत्सुक हूँ। भारत स्वयं एक कृषि प्रधान देश है, और हमारी अधिकांश जन-संख्या गावों में बसती है। और इसलिए, मैं ग्रामीण जीवन को सुधारने के लिए Rwanda के अनुभव से और राष्ट्रपति जी की पहलों से लाभान्वित होना चाहता हूँ। मेनीफेकचरिंग Sector, Hospitality और Tourism सहित हमने ऐसे बहुत से क्षेत्र प्रस्तावित किए हैं जहां भारत और Rwanda व्यापक विकासात्मक भागीदारी मजबूत कर सकते हैं। हम अपने व्यापारिक और निवेश संबंधों को और अधिक मजबूत करना चाहते हैं। और इसलिए, President कगामे और मैं कल दोनों देशों के प्रमुख business leaders से मिलेंगे और उनके सुझावों पर विचार करेंगे।

 Friends,

मुझे यह बताते हुए प्रसन्नता है कि हम शीघ्र ही Rwanda में High Commission खोलने वाले है। इससे न सिर्फ़ हमारी सरकारों के बीच घनिष्ठ संवाद संभव होगा,साथ ही कोनसूलर, पासपोर्ट और वीज़ा तथा अन्य सुविधाएं भी सुलभ होंगी। हम दोनों देशों के बीच संबंधों को आने वाले समय में और अधिक उच्च स्तर पर ले जाने के लिए आशान्वित हैं।

मैं एक बार फिर राष्ट्रपति जी को अपना हार्दिक आभार देता हूँ। और सवा सौ करोड़ भारतीयों की ओर से रवांडा के लोंगों को भी शुभकामनाएं देता हूँ।

धन्यवाद।

عطیات
Explore More
It is now time to leave the 'Chalta Hai' attitude & think of 'Badal Sakta Hai': PM Modi

Popular Speeches

It is now time to leave the 'Chalta Hai' attitude & think of 'Badal Sakta Hai': PM Modi
India Has Incredible Potential In The Health Sector: Bill Gates

Media Coverage

India Has Incredible Potential In The Health Sector: Bill Gates
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Prime Minister attends All Parties Leaders Meeting ahead of Winter Session of Parliament beginning tomorrow
November 17, 2019
Share
 
Comments

Prime Minister Shri Narendra Modi attended the All Parties Leaders meeting here today. Leaders from all major political parties were present on this occasion and they put forth their views on the upcoming session of Parliament.

In his remarks, Prime Minister observed that this session of the Parliament will be a special occasion for it will mark the 250th session of the Rajya Sabha and expressed his happiness that special events and activities were being planned to mark this occasion. Prime Minister emphasized that the 250th session of the Upper House provided a unique opportunity for highlighting the unique strengths of the Indian Parliament as well as the Indian Constitution, in providing an overarching framework of governance institutions for a diverse country like India. The backdrop of the session being held as India celebrates the 150th birth anniversary of the Father of the Nation Mahatma Gandhi also made it a unique and special occasion.

Prime Minister, while responding to specific issues raised by the representatives of various political parties said that the Government would work together with all parties in a constructive manner to address pending legislations and frame policy solutions for specific issues related to environment and pollution, the economy, the agricultural sector and farmers, and the rights of women, youth and the less privileged sections of society.

Prime Minister also complemented the Presiding officers of the two Houses for smooth running of the last session of Parliament and observed that this had helped to create a positive impact amongst the people about the functioning of the legislative arm of Government. In this regard, Prime Minister made a particular mention of the energetic participation by first term members of Parliament on discussions related to diverse issues and expressed the hope that constructive engagement between the Treasury and opposition benches will make the present session a successful and productive one.