Author, Poet and lot more…life beyond politics

Published By : Admin | March 25, 2014 | 11:16 IST
Share
 
Comments

A passionate writer, poet and a lover of culture…these are some of the other ways to describe Narendra Modi. Despite his busy, often punishing schedule, Narendra Modi devotes time to some of the things he enjoys doing be it Yoga, writing, interacting with people on social media etc. In between his rallies you’ll see some Tweets by him on his experiences there. He has been writing since he was young. This section takes you through a fact of Narendra Modi that is often lost in this era of 24/7 Breaking News!

“Yoga is India’s gift to humankind through which we can reach out to the entire world. Yoga is not only about Rog Mukti but also about Bhog Mukti.”
One of Narendra Modi’s finest speeches on a topic that is very close to him- Yoga.
 
His books are as powerful, insightful and informative as his speeches. Each and every book by Narendra Modi is a treasure of information, rich ideas and chronicles what he went through in his life.
Get a glimpse of Gujarat during the dark days of the Emergency, read about Narendra Modi’s view of social equality and know why he feels its most important to leave a green planet for our future generations…
 
“Sakshibhaav is a compilation of my Samvaad with Jagad Janani Maa when I was 36…it connects the reader with me and enables the reader to know me through my words, not only newspapers.”
Did you know as a youngster Narendra Modi used to write a diary but burnt the pages every 6-8 months? One day a Pracharak saw him doing that and urged him against it…those papers took form of Sakshibhaav, a collection of thoughts of a 36-year-old Narendra Modi.
 
“What cannot be explained in prose can often be expressed in poetry…”
Here is an assortment of Narendra Modi’s poems. Written in Gujarati, they revolve around themes such as Mother Nature and Patriotism.
 
“Art, music and literature should not be dependent on the state. There should be no limitations. Governments should only recognize and promote such talent.”
This sums up Narendra Modi’s belief on popular culture. Having been actively involved in the anti-Emergency struggle, Freedom of Expression is an article of faith for him, which he follows in letter and spirit. You will enjoy this interaction of his with eminent artistes.
From the heart of autumn rises the spring!

A beautiful poem written by Shri Narendra Modi that has been sung by artist Parthiv Gohil
 
Celebrating the colour and dynamism of Navratri with a beautiful poem
A poem written by Shri Narendra Modi on Navratri
'من کی بات ' کے لئے اپنے مشوروں سے نوازیں.
وزیر اعظم نے ’پریکشا پے چرچا 2022‘ میں شرکت کے لیے مدعو کیا
Explore More
اترپردیش کے وارانسی میں کاشی وشوناتھ دھام کے افتتاح کے موقع پر وزیر اعظم کی تقریر کا متن

Popular Speeches

اترپردیش کے وارانسی میں کاشی وشوناتھ دھام کے افتتاح کے موقع پر وزیر اعظم کی تقریر کا متن
 Grant up to Rs 10 lakh to ICAR institutes, KVKs, state agri universities for purchase of drones, says Agriculture ministry

Media Coverage

Grant up to Rs 10 lakh to ICAR institutes, KVKs, state agri universities for purchase of drones, says Agriculture ministry
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM Modi fulfils Nanna's Kashmir dream, which he was once jailed for
November 16, 2021
Share
 
Comments

जनसंघ और उसके बाद बनी भाजपा के संस्थापक सदस्य रहे लक्ष्मीनारायण गुप्ता 'नन्ना' प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कार्यशैली से अत्यधिक प्रभावित हैं। नन्ना ने बताया कि वे डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी द्वारा कश्मीर में दो निशान, दो विधान के खिलाफ शुरू किए गए आंदोलन में शामिल होकर जेल गए थे। आज कश्मीर से धारा-370 और 35-ए हटाकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने श्यामा प्रसाद मुखर्जी सहित करोड़ों देशवासियों का जो सपना पूरा किया है। उससे वह मोदी से बेहद प्रभावित हैं और उनकी लंबी आयु के लिए ईश्वर से प्रार्थना करते हैं। हरिभूमि के साथ इंटरव्यू में नन्ना ने विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।

सवाल : मोदी की कार्यशैली से आप कितने प्रभावित हैं, उनके योगदान को किस रूप में देखते हैं।

जवाब : मैं, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कार्यशैली से बहुत प्रभावित हूं। मैंने जिस कश्मीर में दो निशान, दो विधान का विरोध करते हुए डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के आंदोलन में सहभागिता की और जेल गया। आज वर्षो बाद कश्मीर में धारा-370 और 35-ए हटने के बाद वह सपना पूरा हुआ। मेरे साथ करोड़ों भारतीयों का सपना पूरा हुआ। मोदी की कार्यशैली सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास है, जो देशवासियों को बिना भेदभाव के साथ एकजुटता और समानता का संदेश देती है। उनके नेतृत्व में देश का सम्मान दुनियाभर में बढ़ा है, आज भारत मजबूत राष्ट्रों में गिना जाता है।

सवाल : आप जनसंघ के संस्थापक सदस्य रहे, आपके सामने भाजपा का गठन हुआ, उस दौरान पार्टी के लिए क्या चुनौतियां थीं।

जवाब : उस दौरान पार्टी के पास संसाधनों का बेहद अभाव था। तब हम साइकिल से गांव-गांव जाकर लोगों के बीच भाजपा का प्रचार करते थे। ग्रामीणों के बीच पहुंचकर मीटिंग करके उन्हें पार्टी की नीतियों के बारे में समझाते थे। पैसों का अभाव था तो वकालत करने से जो राशि प्राप्त हो जाती थी, उसी में से खर्च चलाते थे। तब गांवों में जाकर कैंप लगाकर फॉर्म भरवाए। पार्टी से हजारों कार्यकर्ताओं को जोड़ा, जिससे पार्टी मजबूत हुई।

सवाल: उस समय की भाजपा और आज की भाजपा में संगठन स्तर पर क्या परिवर्तन देखते हैं।

जवाब : उस दौरान कार्यकर्ताओं ने साधनों के अभाव के बीच पार्टी के लिए पूरी मेहनत व निष्ठा के साथ काम किया। आज भी कर रहे हैं, लेकिन आज संसाधन बेहतर है। उस वक्त की गई मेहनत से जो प्लेटफॉर्म तैयार हुआ, उससे संगठन शक्ति बढ़ती गई और आज संगठन का स्वरूप देश में सबसे मजबूत है।

सवाल : आज भाजपा में दूसरे दलों से बाहरी नेता बड़ी संख्या में आ रहे हैं, उन्हें सत्ता व संगठन में महत्वपूर्ण पद मिल रहे हैं। इससे भाजपा के पुराने नेता अपने को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं, आप क्या मानते हैं।

जवाब : मैं ऐसा नहीं मानता हूं, भाजपा परिवार की राष्ट्रवादी विचारधारा से अगर लोग जुड़ रहे हैं तो स्वाभाविक रूप से नए लोगों को स्थान दिया जाता है। ऐसा नहीं है कि पुराने कार्यकर्ता की उपेक्षा हो रही है। पुराने लोगों को अब पद की जरूरत नहीं हैं। वे संरक्षक के रूप में नई भूमिका को स्वीकार कर रहे हैं।

 

 

Author Name: HariBhoomi News - Bhopal

Disclaimer:

This article was first published in HariBhoomi News - Bhopal.

It is part of an endeavour to collect stories which narrate or recount people’s anecdotes/opinion/analysis on Prime Minister Shri Narendra Modi & his impact on lives of people.