പങ്കിടുക
 
Comments
Odisha has pledged to get rid of its ineffective government: PM Modi in Odisha
The Opposition parties like Congress and BJD have no vision to lead the country into 21st century: PM Modi
Only a BJP government can ensure stability, security and growth for our country in a transparent manner: Prime Minister Modi

जय जगन्नाथ, जय जगन्नाथ।

मंच पर विराजमान भारतीय जनता पार्टी के सभी वरिष्ठ महानुभाव, मुझे फिर एक बार आपके बीच आने का अवसर मिला है। बक्शी जगबंधु, श्री जय राजगुरू, वीर सुरेंद्र साई समेत ओडिशा के सभी वीर बेटे-बेटियों को मेरा नमन। संबलपुर, देवगढ़ और अंगुल के सभी साथियो का भी बहुत-बहुत अभिनंदन।

भाइयो-बहनो, इतनी भीषण गर्मी में ये इतना बड़ा जन सैलाब, इतना जोश, ऐसी ही तस्वीरें जब टीवी के माध्यम से देश के दूसरे हिस्से में पहुंच रही है तब कई लोगों के होश उड़ रहा है। बड़े-बड़े महामिलावटियों को इस चौकीदार के लिए आपका स्नेह उनको समझ ही नहीं आ रहा है की देश चौकीदार को इतना प्यार क्यों कर रहा है। और ऊपर से पहले चरण की वोटिंग में ओडिशा से जो संकेत आए हैं, उससे साफ है की दिल्ली में फिर एक बार मोदी सरकार और ओडिशा में भाजपा सरकार। साथियो, ये समर्थन देश इसलिए दे रहा है क्योंकि सभी एक मजबूत और ईमानदार सरकार चाहते हैं।

भाइयो-बहनो, हमारे देश में साधनों और संसाधनों की कमी नहीं रही, कमी रही है जनता के पैसे के सही इस्तेमाल की। पहले की सरकारों ने कभी इस पर ध्यान नहीं दिया की जितने पैसे दिल्ली से भेजे जा रहे हैं उसका लाभ आप तक पहुंच रहा है की नहीं पहुंच रहा है। आप मुझे बताइए 100 पैसे भेजने पर अगर सिर्फ 15-16 पैसे का ही काम होगा तो यहां विकास हो पाएगा? 100 पैसे में से 85 पैसे कोई दलाल अपनी तिजोरी में भर लेगा तो क्या यहां सड़कें बन पाएंगी, पुल बन पाएंगे, अस्पताल बन पाएंगे? आजादी के इतने साल तक ये भ्रष्टाचार चल रहा था इसे कोई रोकने वाला नहीं था। अब मोदी की सरकार ने, आपके इस चौकीदार की सरकार ने ये व्यवस्था बनाई है की सरकार अगर 100 पैसे भेजे तो पूरे 100 पैसे गरीब पर खर्च हो, 100 के 100 पैसे।

भााइयो-बहनो, इन पांच सालों में अगर आप इस चौकीदार के साथ ना होते तो ये संभव ही नहीं था। आपके इसी आशीर्वाद की वजह से भाजपा की मजबूत सरकार, लोक कल्याण और राष्ट्र कल्याण से जुड़े बड़े-बड़े काम कर पाई है। वरना इससे पहले आपने दिल्ली में एक मजबूर सरकार और भ्रष्ट सरकार भी देखी है। ये वो सरकार थी जो आपकी मिलने वाली चीनी में घोटाला कर जाती थी, ये वो सरकार थी जो आपको मिलने वाले राशन में घोटाला कर जाती थी। ये वो सरकार थी जो किसानों को मिलने वाले यूरिया में घोटाला कर जाती थी, ये वो सरकार थी जो जमीन से निकलने वाले खनिज और कोयले तक में घोटाला कर जाती थी। गरीब के लिए बनी हर योजना पर कुछ लोगों की नजर गिद्धों की तरह रहती थी, जैसे ही पैसा आया ये लोग आपका पैसा लूटने में लग जाते थे। क्या आपका चौकीदार इसे ऐसे ही देखता रहता क्या? मैं तो ठान कर आया था इन दलालों से, इन भ्रष्टाचारियों का मुकाबला करूंगा।

साथियो, जब इस चौकीदार ने इनके भ्रष्टाचार के कारोबार पर प्रहार किया तो इनको इतना कष्ट हुआ है की अब ये मुझे रास्ते से हटा देने पर तुले हुए हैं। भाइयो-बहनो, ये पहले की भ्रष्ट और कमजोर सरकारों का परिणाम है। आजादी के इतने वर्ष बाद भी संपन्न ओडिशा की जनता गरीब ही गरीब होती गई। क्षेत्र के आधार पर भेदभाव, जात-पात के आधार पर भेदभाव यही कांग्रेस और BJD की उपलब्धि रही है। यही कारण है की जहां महानदी और हीराकुंड जैसे बांध हैं वहां का किसान बूंद-बूंद पानी के लिए तरसता है। धान के खेत, किसान के परिश्रम से लहलहाते हैं लेकिन धान को बीमारी से बचाने के लिए सरकार समय पर कार्रवाई नहीं करती। केंद्र सरकार ने तय किया की धान की फसल की लागत का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य किसान को मिले लेकिन यहां की सरकार ने खरीदने के इंतजाम ही नहीं किए। किसानों को बिचौलियों के भरोसे छोड़ दिया गया। 

साथियो, स्थिति ये है की इस चौकीदार ने जो पीएम किसान सम्मान योजना बनाई है, यहां की सरकार के कारण उसका पूरा लाभ आपको नहीं मिल पा रहा है। वजह ये है क्योंकि यहां की सरकार ने किसानों के नाम की जो लिस्ट भेजी है वो भी आधी-अधूरी है जिसकी वजह से सिर्फ साढ़े आठ लाख किसानों के खाते में ही पहली किश्त जा पाई है बाकी लिस्ट यहां की सरकार नहीं दे पा रही है। इन लोगों ने जो खुद एक योजना बनाई उसमें जो घोटाले और घपले हो रहे हैं वो भी आप जानते हैं। भाइयो-बहनो, देश के किसानों को उनकी छोटी-छोटी जरूरतों के लिए, बैंक में सीधे पैसा ट्रांसफर करने के लिए ये चौकीदार प्रतिबद्ध है बल्कि हमने तो इसका दायरा बढ़ाने का संकल्प लिया है। 23 मई को जब फिर एक बार मोदी सरकार आएगी तब ओडिशा के सभी किसान परिवारों के बैंक खाते में सीधी मदद की व्यवस्था हम करने वाले हैं। याद रखिए ओडिशा के हर किसान के खाते में सीधे पैसा आएगा। कोई दलाल आपके पैसे पर पंजा नहीं मार पाएगा। साथियो, ऐसा ही एक और संकल्प है जिसका लाभ संबलपुर सहित पूरे ओडिशा को होने वाला है। भाजपा की सरकार बनने पर, दिल्ली में नई सरकार बनने पर अलग से एक जल-शक्ति मंत्रालय बनाया जाएगा, सिर्फ पानी के लिए अलग मिनिस्ट्री। इसके तहत देश भर की नदियों के, समंदर के बारिश के पानी को जरूरतमंद क्षेत्रों तक पहुंचाने का मिशन चलाया जाएगा। इससे, इस क्षेत्र की पानी की समस्या कम हो पाएगी।

भाइयो-बहनो, इस इलाके के लोगों का कल्याण, देश के तटीय इलाकों में रहने वाले लोगों का कल्याण हमारी प्राथमिकताओं में है। जब अटल जी की सरकार थी तब आदिवासियों के लिए अलग से एक मंत्रालय बनाया गया था। अब हमने फैसला किया है की नई सरकार बनने के बाद एक और मंत्रालय बनाएंगे, मछली पालन से जुड़े भाई-बहनों के लिए अलग फिशरीज मंत्रालय बनाया जाएगा। मछुआरों की छोटी-छोटी जरूरत पर ध्यान देने के लिए बीजेपी की सरकार मत्स्य संपदा योजना भी शुरू करेगी, जिस पर 10 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। मछुआरे भाइयों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा का भी विस्तार किया जा चुका है। लेकिन भाइयो और बहनो, जिनकी प्राथमिकता सिर्फ पीसी की रही हो, कट की रही हो, मलाई खाने की रही हो उनको आपकी चिंता कैसे होगी। चिटफंड और खनन माफिया को ही अगर संरक्षण सरकार देती रहेगी तो सामान्य मानवी की चिंता कैसे संभव है। कोल ब्लॉक घोटाले में किस तरह उंगलियां उठी हैं ये भी ओडिशा के लोग भली-भांति जानते हैं।

साथियो, जमीन के नीचे की संपदा, यहां के जंगलों की समृद्धि ओडिशा की शक्ति है। ओडिशा की यही शक्ति भारत को ताकत दे रही है लेकिन इन जंगलों में रहने वालों की पूछ नहीं बल्कि उनके साथ लूट हुई लूट। आपके इस चौकीदार ने बरसों पुराना खनन कानून बदला, ये तय किया की जो भी संपदा यहां निकलती है उसका एक निश्चित हिस्सा यहां के विकास के लिए लगना चाहिए। भाइयो-बहनो, इस तरह जो डिस्ट्रिक्ट मिनरल फंड बना, उसके तहत ओडिशा को 6 हजार करोड़ रुपए मिले। इससे आपके लिए अस्पताल बनने थे ताकि आपको इलाज के लिए परेशान ना होना पड़े। इससे वनवासियों की बस्तियों में शुद्ध पीने के पानी का इंतजाम होना था ताकि गंदे पानी की वजह से उनके बच्चे बीमार ना पड़ें। इससे स्कूल बनने थे ताकि आदिवासी बच्चों को शिक्षा के लिए भटकना ना पड़े। लेकिन साथियो, ये आप जानकर के हैरान हो जाएंगे की यहां की बीजेडी सरकार ने 6 हजार करोड़ में से सिर्फ एक हजार करोड़ ही खर्च किया है बाकी पैसे पड़े हुए हैं और आप बहुत छोटी-छोटी आवश्यकताओं के लिए परेशान हो रहे हैं। जब सरकारों की नीयत ऐसी हो तो उनको बदलना जरूरी है। 20 साल आपने आंख बंद कर इन पर बहुत भरोसा कर लिया अब ओडिशा की धरती परिवर्तन का मन बना चुकी है। भाइयो-बहनो, यहां की सरकार किस तरह चालाकी से काम कर रही है, ये भी मैं आपको बताता हूं। बताऊं, ये कैसी चालाकी करती है सुनना है आपको? ये गांव के लोगों को पता नहीं है, आपको बताना पड़ेगा, बताएंगे?

देखिए अभी भी जो एक रुपए के चावल गरीबों को यहां मिलता है वो केंद्र की सरकार, ये यहां बताते नहीं हैं। भारत सरकार, दिल्ली में चौकीदार की सरकार 19 रुपया, 30 रुपए में चावल खरीदती है और वो चावल यहां पर पहुंचाती है। यहां की सरकार ज्यादा से ज्यादा, उसमें उसको 2 रुपया डालना पड़ता है, ये चौकीदार की सरकार 25,27,29 रुपए डालती है। ये सिर्फ 2 रुपया डालते हैं और कहते हैं कि यहां पर ओडिशा सरकार ये चावल सस्ते में गरीबों को दे रही है। बताइए झूठ है की नहीं है, ये धोखा है की नहीं है? ये आपके साथ झूठ बोला जाता है की नहीं बोला जाता है? अब मुझे बताइए की अगर आपका बेटा दिल्ली में रहता है और वो आपको मनी ऑर्डर भेजता है और पोस्टमैन आपके घर में आकर के मनी ऑर्डर देता है तो ये पैसा पोस्टमैन देता है की दिल्ली में बैठा आपका बेटा देता है। बताइए कौन देता है? ये पैसा पोस्टमैन देता है की दिल्ली में बैठा आपका बेटा देता है? अब ये कहते है पोस्टमैन देता है, ये आपके गले उतरेगा क्या? मान लीजिए आपका बेटा दिल्ली में बैठा है और पिताजी के लिए एक शर्ट भेजना है, वो कपड़ा खरीद के ले आता है, दर्जी को ढूंढता है नाप देता है, धोबी को देता है प्रेस करवाता है और पैकिंग करके यहां भेजता है और यहां जो लाने वाला एजेंट है उसके जिम्मे है की उसमें बटन लगा दे। और फिर शर्ट आपके यहां पहुंचा देता है, बताइए शर्ट बेटे ने भेजा या बटन लगाने वाले ने भेजा, शर्ट किसने भेजा? ये ऐसा आधा-अधूरा झूठ बोलकर के आपको गुमराह करते हैं।

साथियो, ये मैं नहीं कहता की ओडिशा सरकार इसको पहुंचाने के लिए मेहनत नहीं करती, करते हैं लेकिन ये भी तो बताओ ये चावल चौकीदार भेजता है तब सस्ते में आता है लेकिन नहीं बताते। साथियो, हमारा ये भी संकल्प है की 23 मई को जब फिर एक बार मोदी सरकार आएगी तब गरीबों को घर देने की स्पीड और बढ़ाई जाएगी। बीते पांच वर्षों में ओडिशा के गांवों में लगभग 12 लाख से अधिक पक्के घर मिल चुके हैं। साल 2022 तक याद रखिए, ये मोदी का वादा है 2022 तक ओडिशा के हर गरीब को, वंचित को, पिछड़े को आदिवासी के पास उसका अपना पक्का घर हो और ये मैं दे कर रहूंगा। और घर भी मामूली नहीं, पक्का घर और घर ऐसा बनेगा जिसमें उज्जवला की गैस हो, सौभाग्य की बिजली हो, उजाला का बल्ब हो और एक शौचालय भी हो। ये कोई वादा नहीं है, ऑलरेडी काम चल रहा है, तेज गति से चल रहा है, ये सभी सुविधाएं गांव-गांव में आज मिल रही हैं। किसी को ये सब-कुछ मिल चुका है और किसी को आने वाले दिनों में मिलने वाला है और ये वादा मैं करने आया हूं। इतना ही नहीं यहां जो नई बीजेपी सरकार बनेगी, ओडिशा में जब नई बीजेपी की सरकार बनेगी, दिल्ली में फिर एक बार भाजपा सरकार बनेगी तो ओडिशा में आयुष्मान भारत योजना भी लागू करेगी। ये योजना लागू होने के बाद यहां के गरीब परिवार को पांच लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज पूरे देश के अस्पतालों में हो सकेगा।

साथियो, आपके आशीर्वाद का ही परिणाम है की पूर्वी भारत को विकास का इंजन बनाने का अभूतपूर्व प्रयास हुआ है। झारसुगुडा में भी वीर सुरेंद्र साई एयरपोर्ट, संबलपुर-तालचेर, संबलपुर-टिटलागढ़, बालांगीर, खोर्धा, राउरकेला, झारसुकरा ऐसे अनेक रेलवे प्रोजेक्ट्स से यहां की कनेक्टिविटी मजबूत हुई है। संबलपुर आईआईएम का परमानेंट कैंपस भी इसी चौकीदार के प्रयास का हिस्सा है। याद करिए, कब से यहां आईआईएम जैसे अच्छे संस्थान की मांग हो रही थी लेकिन यहां की सरकारों ने उन पर ध्यान नहीं दिया। आपके इस चौकीदार ने जनता की आवाज को सुना और आज देश का एक प्रतिष्ठित संस्थान यहां की पहचान से जुड़ा है। इसके पास ही खैरगढ़ में 2जी ऐथेनॉल प्लांट का काम भी चल रहा है और मैं आपको ये भी कहूंगा, ये तो अभी शुरूआत है। आने वाले वर्षों में यहां अनेक संस्थान विकसित करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। साथियो, ये सभी संकल्प तभी पूरे होंगे जब आपका एक-एक वोट कमल के फूल पर पड़ेगा, लोकसभा चुनाव में भी कमल और विधानसभा चुनाव में भी कमल, ऊपर के लिए भी कमल और नीचे के लिए भी कमल। डबल कमल छाप इंजन से भुवनेश्वर में और दिल्ली में विकास के डबल इंजन वाली सरकार बनेगी।

भाइयो-बहनो, मैं आपको विश्वास दिलाता हूं, आप जब कमल पर बटन दबाएंगे ना, जैसे ही कमल पर बटन दबाएंगे, ये आपका वोट सीधा-सीधा मोदी के खाते में जाएगा।
भारत माता की… जय, भारत माता की… जय, बहुत-बहुत धन्यवाद।

ഇന്ത്യയുടെ ഒളിമ്പ്യൻ‌മാരെ പ്രചോദിപ്പിക്കുക! #Cheers4India
Modi Govt's #7YearsOfSeva
Explore More
നടന്നു പോയിക്കോളും എന്ന മനോഭാവം മാറ്റാനുള്ള സമയമാണിത്, മാറ്റം വരുത്താനാവും എന്ന് ചിന്തിക്കുക: പ്രധാനമന്ത്രി മോദി

ജനപ്രിയ പ്രസംഗങ്ങൾ

നടന്നു പോയിക്കോളും എന്ന മനോഭാവം മാറ്റാനുള്ള സമയമാണിത്, മാറ്റം വരുത്താനാവും എന്ന് ചിന്തിക്കുക: പ്രധാനമന്ത്രി മോദി
India's Remdesivir production capacity increased to 122.49 lakh vials per month in June: Government

Media Coverage

India's Remdesivir production capacity increased to 122.49 lakh vials per month in June: Government
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM announces ex-gratia from PMNRF for West Bengal flood victims
August 04, 2021
പങ്കിടുക
 
Comments

The Prime Minister, Shri Narendra Modi has announced an ex-gratia of Rs. 2 lakh to be given to the next of kin of those who lost their lives due to flooding in parts of West Bengal. He also announced Rs. 50,000 to those injured. 

A PMO tweet said, "An ex-gratia of Rs. 2 lakh each from PMNRF would be given to the next of kin of those who lost their lives due to flooding in parts of West Bengal. The injured would be given Rs. 50,000."