ഏതൊരു ദൗത്യത്തിന്റെയും ഊർജ്ജസ്വലത 'യുവാക്കളുടെ ഊർജ്ജസ്വലതയെ ആശ്രയിച്ചിരിക്കുന്നു: പ്രധാനമന്ത്രി മോദി
ഇന്ത്യ ദുർബലമായ അഞ്ചിൽ നിന്ന് ലോകത്തിലെ അഞ്ചാമത്തെ വലിയ സമ്പദ്‌വ്യവസ്ഥയായി മാറിയിരിക്കുന്നു: പ്രധാനമന്ത്രി മോദി
" ബിജെപിക്കും ഈ രാജ്യത്തെ യുവജനങ്ങൾക്കും സമാനമായ തരംഗദൈർഘ്യമുണ്ട്. ഞങ്ങൾ പരിഷ്‌കാരങ്ങൾ കൊണ്ടുവരുന്നു, യുവാക്കൾ വിജയകരമായ യുവാക്കൾ നയിക്കുന്ന പങ്കാളിത്തവും മാറ്റവും പ്രാപ്‌തമാക്കുന്ന ഫലങ്ങൾ കൊണ്ടുവരുന്നു: പ്രധാനമന്ത്രി മോദി"
ബഹിരാകാശ മേഖലയിലും പ്രതിരോധത്തിലും ഞങ്ങൾ പരിഷ്കാരങ്ങൾ കൊണ്ടുവന്നു.ഇന്ത്യയെ ആത്മനിർഭർ ആക്കുന്ന PLI മേഖലകൾ നമ്മുടെ യുവാക്കൾക്കുള്ള അവസരങ്ങൾ പ്രോത്സാഹിപ്പിക്കുന്നു - പ്രധാനമന്ത്രി മോദി
"നമ്മുടെ രാജ്യത്തെ യുവാക്കളുടെ കഴിവുകൾ തുറക്കുക എന്നതാണ് ഞങ്ങളുടെ മുദ്രാവാക്യം." - പ്രധാനമന്ത്രി മോദി

भारत माता की, भारत माता की
प्रिय मलयाली युवा सुहुरुतुक्-कले, नमस्कारम्
Vibrant Youth for Modifying Kerala- के इस Vibrant आयोजन में मेरे सभी युवा दोस्तों का बहुत-बहुत अभिनंदन। कोई मिशन Vibrant तब बनता है, जब उसके पीछे Vibrant Youth की Energy लगती है। और, बात जब केरला की होती है, तो ये इतना भव्य और सुंदर है कि यहां आकर ऊर्जा और बढ़ जाती है।

ये खुशी की बात है कि देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। और अभी ये जो कार्यक्रम हो रहा है सेक्रेड हार्ट कॉलेज में, वो भी अपना अमृत महोत्सव मना रहे हैं, और दोनों का इस प्रकार का मिलन अपने-आप में बहुत ही शुभ संकेत है।

साथियों,
आज जब हमारा देश अमृतकाल की यात्रा शुरू कर रहा है, युवम के जरिए केरला के युवाओं का ये संकल्प बहुत अहम है। मैं आप सभी को इस भव्य आयोजन के लिए बहुत-बहुत बधाई देता हूं। प्रदेश की टीम को भी बहुत बधाई देता हूं।

साथियों,
अभी कुछ सप्ताह पहले ही मैं, केरला के एक 99 ईयर के युवा से मिला था। 99 ईयर के वो युवा हैं, प्रसिद्ध गांधीवादी श्री वी.पी. अप्पू-कुट्टन पोडुवाल। इन्हें भाजपा सरकार ने पद्म सम्मान देकर अपना गौरव बढ़ाया है। इसी तरह कलरीपयट्टू गुरू श्री S.R.D. Prasad हों, इतिहासकार श्री सी. आई. आईसेक हों या फिर पारंपरिक खेती को बढ़ावा देने वाले किसान श्री चेरूवायल रामन जी, केरला की हर प्रतिभा से हमें सीखने को मिलता है। प्रसिद्ध वैज्ञानिक नंबी नारायण जी से भी कितने ही युवा प्रेरित होते हैं। हमें याद रखना है, जब भारत की परम्पराओं और ज्ञान के पुनरोदय की जरूरत पड़ी, तो केरला से ही आदि शंकराचार्य निकले। जब विकृतियों और रूढ़ियों के खिलाफ समाज को जागरूक करने की जरूरत हुई, तो भी केरला से नारायण गुरु जैसे सुधारक आए। स्वतंत्रता के आंदोलन में अकम्मा चेरियन, के कुमार, कोयापल्ली केलप्पन, एन के दामोदरन नायर, स्वदेशी पद्मनाभ आयंगर जैसे अनगिनत सेनानियों ने मां भारती के लिए अपना सब कुछ न्योछावर कर दिया। मुझे खुशी है कि, उस परंपरा को आगे बढ़ाते हुए आज केरला का युवा एक बार फिर अपनी जिम्मेदारी को निभाने के लिए तत्पर है।

आज हर कोई ये कह रहा है कि 21वीं सदी भारत की सदी है। भारत वो देश है जिसके पास युवाशक्ति का भरपूर भंडार है। पहले सोच थी कि इस देश में कुछ बदलेगा ही नहीं, लेकिन अब सोच ये है कि हमारा ये देश अब पूरी दुनिया को बदल सकता है। आज का भारत स्टार्टअप इंडिया और स्टैंडअप इंडिया की बात करता है। आज का भारत आत्मनिर्भर भारत और डिजिटल इंडिया की बात करता है। एक समय था जब भारत की गिनती Fragile Five में होती थी, लेकिन अब हमें Fastest Growing Economy कहा जा रहा है। ये आप सभी युवाओं ने ही करके दिखाया है और इसलिए मेरा सबसे ज्यादा भरोसा युवाओं पर है, आप सभी नौजवानों पर है। मुझे खुशी है कि आज जब देश नए भारत का संकल्प लेकर कदम बढ़ा रहा है, आज जब भारत बड़ी वैश्विक जिम्मेदारियां निभा रहा है, तब देश और केरल का युवा भारत की इस विकासयात्रा को अपना नेतृत्व देने के लिए आगे आया है।

साथियों,
जी-20 के प्रेसिडेंट के तौर पर आज भारत में लगातार इससे जुड़ी बैठकें हो रही हैं। यहां केरला में भी जी-20 की जो बैठकें हुईं, उसे आप सभी के सहयोग ने और ज्यादा सफल बना दिया। मुझे खुशी है कि केरल के युवाओं ने इन बैठकों के आयोजन में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। कुमाराकोम में शेरपा की बैठक हो, तिरुवनंतपुरम में हेल्थ वर्किंग ग्रुप की बैठक हो, वर्किंग ग्रुप्स की अन्य बैठकें हों, केरला के लोगों के प्रोफेशनलिज्म ने इनमें बहुत मदद की। और वैसे भी केरला के लोगों ने, उनका वैश्विक गतिविधियों के प्रति जो रुझान है, वो अद्भुत है। केरला में जी-20 की होने वाली बैठकों के लिए मैं केरला के युवाओं को, उनका मैं हृदय से अग्रिम आभार व्यक्त करता हूं। क्योंकि आपके सहयोग के कारण दुनिया में भारत की छवि बनने में बहुत बड़ी मदद मिली है। आज BJP और देश का Youth एक ही Wavelength और Vision को शेयर करते हैं। हम Reforms लाते हैं, और मेरे युवा Results लाकर के देते हैं। ये सरकार और युवा के बीच एक घनिष्ठ Partnership है। भाजपा ने इस दौर को Youth-led Development का युग बना दिया है।

साथियों,
पहले की सरकारों ने जहां हर सेक्टर में घोटाले किए, वहीं भाजपा की सरकार, हर सेक्टर में युवाओं के लिए नए अवसर बना रही है। भाजपा की सरकार ने आत्मनिर्भर भारत अभियान चलाकर युवाओं को नए अवसर दिए हैं। भाजपा की सरकार ने वोकल फॉर लोकल के मंत्र से स्थानीय उत्पादन को बढ़ावा दिया है। भाजपा की सरकार ने स्पेस सेक्टर खोलकर युवाओं के लिए नए अवसर बनाए हैं। भाजपा की सरकार ने डिफेंस सेक्टर को खोलकर, देश के युवाओं को नए मौके दिए। भाजपा की सरकार ने PLI स्कीम के माध्यम से देश में मैन्यूफैक्चरिंग बढ़ाई है। भाजपा की सरकार ने अपनी नीतियों से एक्सपोर्ट बढ़ाया है। आज देश में, केरला में जो highways, i-ways, railways, waterways और airways बन रहे हैं, उससे भी रोजगार के लाखों मौके बन रहे हैं। केरला के युवा जानते हैं कि आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का, किसी भी राज्य के विकास में कितना बड़ा योगदान होता है। केरला में इंफ्रास्ट्रक्चर सुधरेगा तो यहां रोजगार के नए मौके बनेंगे, यहां नई इंडस्ट्री आएगी, यहां टूरिज्म बढ़ेगा। कन्नूर-कोच्चि में एयरपोर्ट हो या फिर थिरुवनंतपुरम एयरपोर्ट का विकास, ये सभी इसी सोच के साथ किया जा रहा है। कोच्चि मेट्रो पर भी केंद्र सरकार, बहुत तेजी से काम करवा रही है। कल से केरला में पहली वंदेभारत ट्रेन भी चलने जा रही है।

साथियों,
केरल की अर्थव्यवस्था में Blue Economy, फिशरीज का बहुत बड़ा योगदान है। फिशरीज सेक्टर से जुड़े हमारे भाई-बहनों की Ease of Living भी हमारी सरकार की प्राथमिकता है। फिशरीज सेक्टर के मॉर्डनाइजेशन पर हमारी सरकार बहुत ध्यान दे रही है। प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के माध्यम से केरला में भी करीब-करीब 800 करोड़ रुपए की मदद स्वीकृत की गई है। नए फिशिंग हार्बर बनाना हो, पोस्ट-हार्वेस्ट इंफ्रास्ट्रक्चर हो, गरीब मछुवारों को आर्थिक मदद हो, भाजपा की केंद्र सरकार हर संभव काम कर रही है। ये हमारी ही सरकार है जिसने केंद्र में फिशरीज के लिए अलग मंत्रालय बनाया। ये हमारी ही सरकार है जो किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) के लाभार्थियों के दायरे में मछुवारे भाई-बहनों को भी लाई।

साथियों,
केंद्र सरकार, देश के युवाओं की हर जरूरत का ध्यान रखते हुए काम कर रही है। कुछ दिन पहले ही हमारी सरकार ने एक और बड़ा फैसला लिया है, जिसका लाभ केरला के युवाओं को भी मिलेगा। केंद्र सरकार ने तय किया है कि Central Armed Police Forces में Constable पद के लिए होने वाली परीक्षाएं अब इंग्लिश और हिंदी के साथ, भारत की 13 और भाषाओं में भी होगी। यानि अब मलयालम में भी ये परीक्षा होगी। इसके लिए मैं केरला के युवाओं को भी बहुत-बहुत बधाई देता हूं।

साथियों,
केंद्र सरकार की योजनाओं से देश में रोजगार और स्वरोजगार के मौके लगातार बढ़ रहे हैं। इसके अलावा हमारी सरकार, युवाओं को परमानेंट सरकारी नौकरी देने के लिए रोजगार मेलों का आयोजन भी कर रही है। जहां-जहां भाजपा की राज्य सरकारें हैं, वहां भी नौजवानों को सरकारी नौकरी देने का अभियान तेज गति से चल रहा है। लेकिन केरला में जो सरकार है, उसका फोकस युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार पर नहीं है। मुझे बताया गया है, केरला में ना रोजगार मेलों का आयोजन होता है और ना ही सरकारी भर्तियों पर उतना ध्यान दिया जा रहा है। केरला के युवा, राज्य सरकार के इस रवैये को कभी भूल नहीं सकते।

साथियों,
भारत के True Potential को Unlock करने के लिए ये जरूरी है कि हम हर नए क्षेत्र में Lead लें। ईश्वर ने केरला को अद्भुत प्राकृतिक सौन्दर्य दिया है, अद्भुत विरासत दी है, अद्भुत कला और संस्कृति दी है। केरला वैश्विक स्तर पर भारत के आकर्षण का, पर्यटन की अपार संभावनाओं का सबसे प्रमुख चेहरा बन सकता है। मैं चाहूंगा कि युवम पूरी दुनिया के युवाओं को केरला की इस तस्वीर से परिचित कराने का एक मंच बने, इन संभावनाओं को साकार करने का मंच बने।

साथियों,
ट्रेडिशनल मेडिसीन केरला की बहुत बड़ी ताकत है, बहुत बड़ी विरासत है। इस क्षेत्र में केरला के लोगों का हजारों वर्ष पुराना ज्ञान पूरे विश्व की मदद कर सकता है। मुझे याद है, अपने मन की बात कार्यक्रम में मैंने केन्या के पूर्व पीएम का जिक्र किया था। उनकी बेटी की आंख, केरला में हुए उपचार से ही ठीक हुई थी। पारंपरिक और प्राकृतिक चिकित्सा में केरल के सामर्थ्य को हमें लगातार बढ़ाना है। साथियों, वैसे मन की बात में, मैं जब भी केरला के लोगों की बात करता हूं, तो मुझे बहुत खुशी मिलती है। आपको बहुत सारे लेटर्स मुझे मन की बात के लिए हमेशा मिलते हैं। इस कार्यक्रम के अब सौ एपिसोड पूरे होने जा रहे हैं। सेंचुरी हो रही है। इस रविवार को मैं आपसे मन की बात के जरिए, फिर से मिलने वाला भी हूं।

साथियों,
जब देश तेजी से बढ़ता है, तो केरला जैसे प्रतिभाशाली राज्य की भागीदारी उसमें बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है। लेकिन सच्चाई ये भी है, कि बीते वर्षों में केरला के युवाओं को नए अवसर देने के वो प्रयास नहीं हुए जो होने चाहिए थे। दो तरह की Ideology के संघर्ष में केरल का बहुत नुकसान हो रहा है। यहां एक Ideology है जो अपनी पार्टी को केरला के हित से भी ऊपर समझती है। वहीं दूसरी एक और Ideology, एक परिवार को हर चीज से ऊपर रखती है। ये दोनों मिलकर हिंसा को बढ़ावा देते हैं, भ्रष्टाचार को बढ़ावा देते हैं। केरला के युवाओं को, इन दोनों ही Ideology को परास्त करने के लिए मेहनत करनी है।

साथियों,
एक तरफ भाजपा की सरकार, हम सभी लोग देश का एक्सपोर्ट बढ़ाने के लिए, हमारे केरल से ट्रेडिशनल दवाइयां, मेडिसीन दुनिया में जाएं, उसके के लिए दिन रात मेहनत कर रहे हैं तो वहीं यहां केरला में दूसरा ही खेल कुछ लोग चला रहे हैं। यहां पर दिन-रात कुछ लोग Gold की स्मगलिंग के लिए मेहनत करते रहते हैं। केरला के नौजवानों से कोई सच्चाई छिपी नहीं है। वो जानते हैं कि सत्ता में बैठ कुछ लोग, कैसे यहां के युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

साथियों,
केरला के युवाओं के Apsirations और बेचैनी को केंद्र की भाजपा सरकार भली-भांति समझती है। बीते 9 वर्षों में देश ने पूरा प्रयास किया है कि केंद्र से जो योजनाएं शुरू हो रहीं हैं, उनका लाभ केरला के लोगों को मिले। कोरोना के समय केरला ने इतनी कठिनाइयों का सामना किया। हमने गरीबों को मुफ्त राशन दिया, मुफ्त वैक्सीन दी। आज केंद्र सरकार की योजनाओं की वजह से यहां लोगों को मुफ्त इलाज मिल रहा है, अपना घर मिल रहा है, मुद्रा योजना के जरिए आसान लोन मिल रहा है। देश के इन प्रयासों का मकसद है कि गरीब अपने पैरों पर खड़ा हो सके, और हर वर्ग का युवा आत्मनिर्भर बन सके। BJP चाहती है, केरल का युवा डिजिटल इंडिया और AI Revolution को लीड करे। BJP चाहती है, केरल का युवा साइन्स और इनोवेशन में लीड करे। महान मलयाली संस्कृति को भी दुनिया तक पहुंचाए। BJP चाहती है, केरला का युवा स्पोर्ट्स में भी न्यू इंडिया का प्रतिनिधित्व करे।

साथियों,
आपके पास अगले 25 वर्ष का वो समय है, जिसे नए भारत के निर्माण के समय के रूप में याद किया जाएगा। हमारी कितनी ही पीढ़ियों ने देश के लिए असीम बलिदान दिये, देश के लिए असंख्य सपने देखे। हमें केरला और देश की विरासत के वैभव के लिए काम करना है, हमें एक भारत-श्रेष्ठ भारत के संकल्प के लिए काम करना है। हमें देश के लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए काम करना है। हमें अपनी परम्पराओं को समृद्ध करने के लिए काम करना है।

साथियों,
हमें इस बात से सावधान भी रहना है कि हम देशवासियों को भाषा, प्रांत, मत-मजहब के नाम पर बांटने की कोशिश भी होगी। लेकिन, हमें बांटने वाली ऐसी ताकतों को नाकाम करके आगे बढ़ना है। और मुझे खुशी है कि आज सेक्रेड हार्ट कॉलेज, उसके प्लेटिनम जुबली ईयर के निमित्त मुझे भी आज यहां एक पौधा, एक वृक्ष लगाने का अवसर मिला है। ये पौधा हमारी दोस्ती का वटवृक्ष बनेगा। हमारे एक-दूसरे को हाथ से हाथ जोड़ने का एक नया अवसर बनेगा। मुझे विश्वास है, युवम अभियान से जुड़े आप सभी युवा इस दिशा में एक बड़ी भूमिका निभाएंगे।

साथियों,
सूडान में गृहयुद्ध के कारण हमारे अनेकों देशवासी फंसे हैं। हमने ऑपरेशन कावेरी, ऑपरेशन कावेरी का अभियान शुरू किया है। और वहां से हमारे लोगों को सुरक्षित लाने का प्रारंभ हो चुका है। और उसकी निगरानी के लिए हमारे केरल की ही संतान और मेरी सरकार के मंत्री मुरलीधरन जी को मैं उसकी निगरानी के लिए वहां भेज रहा हूं ताकि ऑपरेशन कावेरी बहुत तेज गति से हम सफलतापूर्वक पूर्ण करें।

साथियों,
चाहे नार्थ ईस्ट हो चाहे गोवा हो, जिन-जिन लोगों ने भारतीय जनता पार्टी के काम को देखा है। भारतीय जनता पार्टी सरकार के रवैये को देखा है। वो किसी भी मत का हो, पंथ का हो, संप्रदाय का हो, उसने भारतीय जनता पार्टी को गले लगाया है। और मैं विश्वास से कहता हूं कि जो नार्थ ईस्ट के राज्यों ने करके दिखाया है, जो गोवा लगातार कर रहा है, वो आने वाले दिनों में केरला भी करके रहने वाला है।

साथियों,
आज के ये भव्य विशाल, हजारों लाखों की तादाद में आए हुए, केरल के कोने-कोने से आए हुए ये युवा सागर केरल की धरती पर अब एक शुभ संकेत रूप में आया है। अब केरल का भाग्य आप बदलने वाले हैं और हम आपकी ताकत के साथ जुड़कर के केरल के उज्ज्वल भविष्य के लिए एड़ी-चोटी का जोड़ लगाने के लिए आपको समर्पण का वादा करते हैं।

मेरे युवा साथियों,
आइए हम चल पड़ें, आप नेतृत्व कीजिए, मैं आपके साथ चलने के लिए तैयार हूं। आपका ये उमंग उत्साह देश के युवाओं को भी प्रेरणा देगा। मैं आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद करता हूं, बहुत-बहुत अभिनंदन करता हूं।

आपके मोबाइल फोन की फ्लैशलाइट चालू करके मेरे साथ बोलिए।
भारत माता की,
भारत माता की,
भारत माता की,
भारत माता की।
वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे।

 

Explore More
77-ാം സ്വാതന്ത്ര്യദിനാഘോഷത്തിന്റെ ഭാഗമായി ചെങ്കോട്ടയിൽ നിന്നു പ്രധാനമന്ത്രി ശ്രീ നരേന്ദ്ര മോദി നടത്തിയ അഭിസംബോധനയുടെ പൂർണരൂപം

ജനപ്രിയ പ്രസംഗങ്ങൾ

77-ാം സ്വാതന്ത്ര്യദിനാഘോഷത്തിന്റെ ഭാഗമായി ചെങ്കോട്ടയിൽ നിന്നു പ്രധാനമന്ത്രി ശ്രീ നരേന്ദ്ര മോദി നടത്തിയ അഭിസംബോധനയുടെ പൂർണരൂപം
India among the few vibrant democracies across world, says White House

Media Coverage

India among the few vibrant democracies across world, says White House
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
സോഷ്യൽ മീഡിയ കോർണർ 2024 മെയ് 18
May 18, 2024

India’s Holistic Growth under the leadership of PM Modi