ಶೇರ್
 
Comments
ಯಾವುದೇ ಮಿಷನ್‌ನ ಚೈತನ್ಯವು 'ಯುವಕರ ಚೈತನ್ಯವನ್ನು ಅವಲಂಬಿಸಿರುತ್ತದೆ: ಪ್ರಧಾನಿ ಮೋದಿ
ಭಾರತವು 'ದುರ್ಬಲವಾದ ಐದು' ನಿಂದ 'ವಿಶ್ವದ ಐದನೇ ಅತಿದೊಡ್ಡ ಆರ್ಥಿಕತೆಯಾಗಿ ಪರಿವರ್ತನೆಗೊಂಡಿದೆ: ಪ್ರಧಾನಿ ಮೋದಿ
ಬಿಜೆಪಿ ಮತ್ತು ಈ ದೇಶದ ಯುವಕರು ಒಂದೇ ತರಂಗಾಂತರವನ್ನು ಹೊಂದಿದ್ದಾರೆ. ನಾವು ಸುಧಾರಣೆಗಳನ್ನು ತರುತ್ತೇವೆ ಮತ್ತು ಯುವಕರು ಯಶಸ್ವಿ ಯುವಕರ ನೇತೃತ್ವದ ಪಾಲುದಾರಿಕೆ ಮತ್ತು ಬದಲಾವಣೆಯನ್ನು ಸಕ್ರಿಯಗೊಳಿಸುವ ಫಲಿತಾಂಶಗಳನ್ನು ತರುತ್ತಾರೆ: ಪ್ರಧಾನಿ ಮೋದಿ
ನಾವು ಬಾಹ್ಯಾಕಾಶ, ರಕ್ಷಣೆ ಮತ್ತು ಪಿಎಲ್‌ಐ ಕ್ಷೇತ್ರಗಳಲ್ಲಿ ಸುಧಾರಣೆಗಳನ್ನು ತಂದಿದ್ದೇವೆ - ಭಾರತವನ್ನು ಆತ್ಮನಿರ್ಭರ್ ನಮ್ಮ ಯುವಕರಿಗೆ ಅವಕಾಶಗಳನ್ನು ಉತ್ತೇಜಿಸುತ್ತದೆ - ಪ್ರಧಾನಿ ಮೋದಿ
ನಮ್ಮ ಧ್ಯೇಯವೆಂದರೆ ನಮ್ಮ ದೇಶದ ಯುವಕರ ಸಾಮರ್ಥ್ಯವನ್ನು ಅನ್ಲಾಕ್ ಮಾಡುವುದು. - ಪ್ರಧಾನಿ ಮೋದಿ

भारत माता की, भारत माता की
प्रिय मलयाली युवा सुहुरुतुक्-कले, नमस्कारम्
Vibrant Youth for Modifying Kerala- के इस Vibrant आयोजन में मेरे सभी युवा दोस्तों का बहुत-बहुत अभिनंदन। कोई मिशन Vibrant तब बनता है, जब उसके पीछे Vibrant Youth की Energy लगती है। और, बात जब केरला की होती है, तो ये इतना भव्य और सुंदर है कि यहां आकर ऊर्जा और बढ़ जाती है।

ये खुशी की बात है कि देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। और अभी ये जो कार्यक्रम हो रहा है सेक्रेड हार्ट कॉलेज में, वो भी अपना अमृत महोत्सव मना रहे हैं, और दोनों का इस प्रकार का मिलन अपने-आप में बहुत ही शुभ संकेत है।

साथियों,
आज जब हमारा देश अमृतकाल की यात्रा शुरू कर रहा है, युवम के जरिए केरला के युवाओं का ये संकल्प बहुत अहम है। मैं आप सभी को इस भव्य आयोजन के लिए बहुत-बहुत बधाई देता हूं। प्रदेश की टीम को भी बहुत बधाई देता हूं।

साथियों,
अभी कुछ सप्ताह पहले ही मैं, केरला के एक 99 ईयर के युवा से मिला था। 99 ईयर के वो युवा हैं, प्रसिद्ध गांधीवादी श्री वी.पी. अप्पू-कुट्टन पोडुवाल। इन्हें भाजपा सरकार ने पद्म सम्मान देकर अपना गौरव बढ़ाया है। इसी तरह कलरीपयट्टू गुरू श्री S.R.D. Prasad हों, इतिहासकार श्री सी. आई. आईसेक हों या फिर पारंपरिक खेती को बढ़ावा देने वाले किसान श्री चेरूवायल रामन जी, केरला की हर प्रतिभा से हमें सीखने को मिलता है। प्रसिद्ध वैज्ञानिक नंबी नारायण जी से भी कितने ही युवा प्रेरित होते हैं। हमें याद रखना है, जब भारत की परम्पराओं और ज्ञान के पुनरोदय की जरूरत पड़ी, तो केरला से ही आदि शंकराचार्य निकले। जब विकृतियों और रूढ़ियों के खिलाफ समाज को जागरूक करने की जरूरत हुई, तो भी केरला से नारायण गुरु जैसे सुधारक आए। स्वतंत्रता के आंदोलन में अकम्मा चेरियन, के कुमार, कोयापल्ली केलप्पन, एन के दामोदरन नायर, स्वदेशी पद्मनाभ आयंगर जैसे अनगिनत सेनानियों ने मां भारती के लिए अपना सब कुछ न्योछावर कर दिया। मुझे खुशी है कि, उस परंपरा को आगे बढ़ाते हुए आज केरला का युवा एक बार फिर अपनी जिम्मेदारी को निभाने के लिए तत्पर है।

आज हर कोई ये कह रहा है कि 21वीं सदी भारत की सदी है। भारत वो देश है जिसके पास युवाशक्ति का भरपूर भंडार है। पहले सोच थी कि इस देश में कुछ बदलेगा ही नहीं, लेकिन अब सोच ये है कि हमारा ये देश अब पूरी दुनिया को बदल सकता है। आज का भारत स्टार्टअप इंडिया और स्टैंडअप इंडिया की बात करता है। आज का भारत आत्मनिर्भर भारत और डिजिटल इंडिया की बात करता है। एक समय था जब भारत की गिनती Fragile Five में होती थी, लेकिन अब हमें Fastest Growing Economy कहा जा रहा है। ये आप सभी युवाओं ने ही करके दिखाया है और इसलिए मेरा सबसे ज्यादा भरोसा युवाओं पर है, आप सभी नौजवानों पर है। मुझे खुशी है कि आज जब देश नए भारत का संकल्प लेकर कदम बढ़ा रहा है, आज जब भारत बड़ी वैश्विक जिम्मेदारियां निभा रहा है, तब देश और केरल का युवा भारत की इस विकासयात्रा को अपना नेतृत्व देने के लिए आगे आया है।

साथियों,
जी-20 के प्रेसिडेंट के तौर पर आज भारत में लगातार इससे जुड़ी बैठकें हो रही हैं। यहां केरला में भी जी-20 की जो बैठकें हुईं, उसे आप सभी के सहयोग ने और ज्यादा सफल बना दिया। मुझे खुशी है कि केरल के युवाओं ने इन बैठकों के आयोजन में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। कुमाराकोम में शेरपा की बैठक हो, तिरुवनंतपुरम में हेल्थ वर्किंग ग्रुप की बैठक हो, वर्किंग ग्रुप्स की अन्य बैठकें हों, केरला के लोगों के प्रोफेशनलिज्म ने इनमें बहुत मदद की। और वैसे भी केरला के लोगों ने, उनका वैश्विक गतिविधियों के प्रति जो रुझान है, वो अद्भुत है। केरला में जी-20 की होने वाली बैठकों के लिए मैं केरला के युवाओं को, उनका मैं हृदय से अग्रिम आभार व्यक्त करता हूं। क्योंकि आपके सहयोग के कारण दुनिया में भारत की छवि बनने में बहुत बड़ी मदद मिली है। आज BJP और देश का Youth एक ही Wavelength और Vision को शेयर करते हैं। हम Reforms लाते हैं, और मेरे युवा Results लाकर के देते हैं। ये सरकार और युवा के बीच एक घनिष्ठ Partnership है। भाजपा ने इस दौर को Youth-led Development का युग बना दिया है।

साथियों,
पहले की सरकारों ने जहां हर सेक्टर में घोटाले किए, वहीं भाजपा की सरकार, हर सेक्टर में युवाओं के लिए नए अवसर बना रही है। भाजपा की सरकार ने आत्मनिर्भर भारत अभियान चलाकर युवाओं को नए अवसर दिए हैं। भाजपा की सरकार ने वोकल फॉर लोकल के मंत्र से स्थानीय उत्पादन को बढ़ावा दिया है। भाजपा की सरकार ने स्पेस सेक्टर खोलकर युवाओं के लिए नए अवसर बनाए हैं। भाजपा की सरकार ने डिफेंस सेक्टर को खोलकर, देश के युवाओं को नए मौके दिए। भाजपा की सरकार ने PLI स्कीम के माध्यम से देश में मैन्यूफैक्चरिंग बढ़ाई है। भाजपा की सरकार ने अपनी नीतियों से एक्सपोर्ट बढ़ाया है। आज देश में, केरला में जो highways, i-ways, railways, waterways और airways बन रहे हैं, उससे भी रोजगार के लाखों मौके बन रहे हैं। केरला के युवा जानते हैं कि आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का, किसी भी राज्य के विकास में कितना बड़ा योगदान होता है। केरला में इंफ्रास्ट्रक्चर सुधरेगा तो यहां रोजगार के नए मौके बनेंगे, यहां नई इंडस्ट्री आएगी, यहां टूरिज्म बढ़ेगा। कन्नूर-कोच्चि में एयरपोर्ट हो या फिर थिरुवनंतपुरम एयरपोर्ट का विकास, ये सभी इसी सोच के साथ किया जा रहा है। कोच्चि मेट्रो पर भी केंद्र सरकार, बहुत तेजी से काम करवा रही है। कल से केरला में पहली वंदेभारत ट्रेन भी चलने जा रही है।

साथियों,
केरल की अर्थव्यवस्था में Blue Economy, फिशरीज का बहुत बड़ा योगदान है। फिशरीज सेक्टर से जुड़े हमारे भाई-बहनों की Ease of Living भी हमारी सरकार की प्राथमिकता है। फिशरीज सेक्टर के मॉर्डनाइजेशन पर हमारी सरकार बहुत ध्यान दे रही है। प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के माध्यम से केरला में भी करीब-करीब 800 करोड़ रुपए की मदद स्वीकृत की गई है। नए फिशिंग हार्बर बनाना हो, पोस्ट-हार्वेस्ट इंफ्रास्ट्रक्चर हो, गरीब मछुवारों को आर्थिक मदद हो, भाजपा की केंद्र सरकार हर संभव काम कर रही है। ये हमारी ही सरकार है जिसने केंद्र में फिशरीज के लिए अलग मंत्रालय बनाया। ये हमारी ही सरकार है जो किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) के लाभार्थियों के दायरे में मछुवारे भाई-बहनों को भी लाई।

साथियों,
केंद्र सरकार, देश के युवाओं की हर जरूरत का ध्यान रखते हुए काम कर रही है। कुछ दिन पहले ही हमारी सरकार ने एक और बड़ा फैसला लिया है, जिसका लाभ केरला के युवाओं को भी मिलेगा। केंद्र सरकार ने तय किया है कि Central Armed Police Forces में Constable पद के लिए होने वाली परीक्षाएं अब इंग्लिश और हिंदी के साथ, भारत की 13 और भाषाओं में भी होगी। यानि अब मलयालम में भी ये परीक्षा होगी। इसके लिए मैं केरला के युवाओं को भी बहुत-बहुत बधाई देता हूं।

साथियों,
केंद्र सरकार की योजनाओं से देश में रोजगार और स्वरोजगार के मौके लगातार बढ़ रहे हैं। इसके अलावा हमारी सरकार, युवाओं को परमानेंट सरकारी नौकरी देने के लिए रोजगार मेलों का आयोजन भी कर रही है। जहां-जहां भाजपा की राज्य सरकारें हैं, वहां भी नौजवानों को सरकारी नौकरी देने का अभियान तेज गति से चल रहा है। लेकिन केरला में जो सरकार है, उसका फोकस युवाओं को रोजगार और स्वरोजगार पर नहीं है। मुझे बताया गया है, केरला में ना रोजगार मेलों का आयोजन होता है और ना ही सरकारी भर्तियों पर उतना ध्यान दिया जा रहा है। केरला के युवा, राज्य सरकार के इस रवैये को कभी भूल नहीं सकते।

साथियों,
भारत के True Potential को Unlock करने के लिए ये जरूरी है कि हम हर नए क्षेत्र में Lead लें। ईश्वर ने केरला को अद्भुत प्राकृतिक सौन्दर्य दिया है, अद्भुत विरासत दी है, अद्भुत कला और संस्कृति दी है। केरला वैश्विक स्तर पर भारत के आकर्षण का, पर्यटन की अपार संभावनाओं का सबसे प्रमुख चेहरा बन सकता है। मैं चाहूंगा कि युवम पूरी दुनिया के युवाओं को केरला की इस तस्वीर से परिचित कराने का एक मंच बने, इन संभावनाओं को साकार करने का मंच बने।

साथियों,
ट्रेडिशनल मेडिसीन केरला की बहुत बड़ी ताकत है, बहुत बड़ी विरासत है। इस क्षेत्र में केरला के लोगों का हजारों वर्ष पुराना ज्ञान पूरे विश्व की मदद कर सकता है। मुझे याद है, अपने मन की बात कार्यक्रम में मैंने केन्या के पूर्व पीएम का जिक्र किया था। उनकी बेटी की आंख, केरला में हुए उपचार से ही ठीक हुई थी। पारंपरिक और प्राकृतिक चिकित्सा में केरल के सामर्थ्य को हमें लगातार बढ़ाना है। साथियों, वैसे मन की बात में, मैं जब भी केरला के लोगों की बात करता हूं, तो मुझे बहुत खुशी मिलती है। आपको बहुत सारे लेटर्स मुझे मन की बात के लिए हमेशा मिलते हैं। इस कार्यक्रम के अब सौ एपिसोड पूरे होने जा रहे हैं। सेंचुरी हो रही है। इस रविवार को मैं आपसे मन की बात के जरिए, फिर से मिलने वाला भी हूं।

साथियों,
जब देश तेजी से बढ़ता है, तो केरला जैसे प्रतिभाशाली राज्य की भागीदारी उसमें बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है। लेकिन सच्चाई ये भी है, कि बीते वर्षों में केरला के युवाओं को नए अवसर देने के वो प्रयास नहीं हुए जो होने चाहिए थे। दो तरह की Ideology के संघर्ष में केरल का बहुत नुकसान हो रहा है। यहां एक Ideology है जो अपनी पार्टी को केरला के हित से भी ऊपर समझती है। वहीं दूसरी एक और Ideology, एक परिवार को हर चीज से ऊपर रखती है। ये दोनों मिलकर हिंसा को बढ़ावा देते हैं, भ्रष्टाचार को बढ़ावा देते हैं। केरला के युवाओं को, इन दोनों ही Ideology को परास्त करने के लिए मेहनत करनी है।

साथियों,
एक तरफ भाजपा की सरकार, हम सभी लोग देश का एक्सपोर्ट बढ़ाने के लिए, हमारे केरल से ट्रेडिशनल दवाइयां, मेडिसीन दुनिया में जाएं, उसके के लिए दिन रात मेहनत कर रहे हैं तो वहीं यहां केरला में दूसरा ही खेल कुछ लोग चला रहे हैं। यहां पर दिन-रात कुछ लोग Gold की स्मगलिंग के लिए मेहनत करते रहते हैं। केरला के नौजवानों से कोई सच्चाई छिपी नहीं है। वो जानते हैं कि सत्ता में बैठ कुछ लोग, कैसे यहां के युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

साथियों,
केरला के युवाओं के Apsirations और बेचैनी को केंद्र की भाजपा सरकार भली-भांति समझती है। बीते 9 वर्षों में देश ने पूरा प्रयास किया है कि केंद्र से जो योजनाएं शुरू हो रहीं हैं, उनका लाभ केरला के लोगों को मिले। कोरोना के समय केरला ने इतनी कठिनाइयों का सामना किया। हमने गरीबों को मुफ्त राशन दिया, मुफ्त वैक्सीन दी। आज केंद्र सरकार की योजनाओं की वजह से यहां लोगों को मुफ्त इलाज मिल रहा है, अपना घर मिल रहा है, मुद्रा योजना के जरिए आसान लोन मिल रहा है। देश के इन प्रयासों का मकसद है कि गरीब अपने पैरों पर खड़ा हो सके, और हर वर्ग का युवा आत्मनिर्भर बन सके। BJP चाहती है, केरल का युवा डिजिटल इंडिया और AI Revolution को लीड करे। BJP चाहती है, केरल का युवा साइन्स और इनोवेशन में लीड करे। महान मलयाली संस्कृति को भी दुनिया तक पहुंचाए। BJP चाहती है, केरला का युवा स्पोर्ट्स में भी न्यू इंडिया का प्रतिनिधित्व करे।

साथियों,
आपके पास अगले 25 वर्ष का वो समय है, जिसे नए भारत के निर्माण के समय के रूप में याद किया जाएगा। हमारी कितनी ही पीढ़ियों ने देश के लिए असीम बलिदान दिये, देश के लिए असंख्य सपने देखे। हमें केरला और देश की विरासत के वैभव के लिए काम करना है, हमें एक भारत-श्रेष्ठ भारत के संकल्प के लिए काम करना है। हमें देश के लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए काम करना है। हमें अपनी परम्पराओं को समृद्ध करने के लिए काम करना है।

साथियों,
हमें इस बात से सावधान भी रहना है कि हम देशवासियों को भाषा, प्रांत, मत-मजहब के नाम पर बांटने की कोशिश भी होगी। लेकिन, हमें बांटने वाली ऐसी ताकतों को नाकाम करके आगे बढ़ना है। और मुझे खुशी है कि आज सेक्रेड हार्ट कॉलेज, उसके प्लेटिनम जुबली ईयर के निमित्त मुझे भी आज यहां एक पौधा, एक वृक्ष लगाने का अवसर मिला है। ये पौधा हमारी दोस्ती का वटवृक्ष बनेगा। हमारे एक-दूसरे को हाथ से हाथ जोड़ने का एक नया अवसर बनेगा। मुझे विश्वास है, युवम अभियान से जुड़े आप सभी युवा इस दिशा में एक बड़ी भूमिका निभाएंगे।

साथियों,
सूडान में गृहयुद्ध के कारण हमारे अनेकों देशवासी फंसे हैं। हमने ऑपरेशन कावेरी, ऑपरेशन कावेरी का अभियान शुरू किया है। और वहां से हमारे लोगों को सुरक्षित लाने का प्रारंभ हो चुका है। और उसकी निगरानी के लिए हमारे केरल की ही संतान और मेरी सरकार के मंत्री मुरलीधरन जी को मैं उसकी निगरानी के लिए वहां भेज रहा हूं ताकि ऑपरेशन कावेरी बहुत तेज गति से हम सफलतापूर्वक पूर्ण करें।

साथियों,
चाहे नार्थ ईस्ट हो चाहे गोवा हो, जिन-जिन लोगों ने भारतीय जनता पार्टी के काम को देखा है। भारतीय जनता पार्टी सरकार के रवैये को देखा है। वो किसी भी मत का हो, पंथ का हो, संप्रदाय का हो, उसने भारतीय जनता पार्टी को गले लगाया है। और मैं विश्वास से कहता हूं कि जो नार्थ ईस्ट के राज्यों ने करके दिखाया है, जो गोवा लगातार कर रहा है, वो आने वाले दिनों में केरला भी करके रहने वाला है।

साथियों,
आज के ये भव्य विशाल, हजारों लाखों की तादाद में आए हुए, केरल के कोने-कोने से आए हुए ये युवा सागर केरल की धरती पर अब एक शुभ संकेत रूप में आया है। अब केरल का भाग्य आप बदलने वाले हैं और हम आपकी ताकत के साथ जुड़कर के केरल के उज्ज्वल भविष्य के लिए एड़ी-चोटी का जोड़ लगाने के लिए आपको समर्पण का वादा करते हैं।

मेरे युवा साथियों,
आइए हम चल पड़ें, आप नेतृत्व कीजिए, मैं आपके साथ चलने के लिए तैयार हूं। आपका ये उमंग उत्साह देश के युवाओं को भी प्रेरणा देगा। मैं आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद करता हूं, बहुत-बहुत अभिनंदन करता हूं।

आपके मोबाइल फोन की फ्लैशलाइट चालू करके मेरे साथ बोलिए।
भारत माता की,
भारत माता की,
भारत माता की,
भारत माता की।
वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे, वंदे।

 

Explore More
77ನೇ ಸ್ವಾತಂತ್ರ್ಯ ದಿನಾಚರಣೆಯ ಸಂದರ್ಭದಲ್ಲಿ ಕೆಂಪು ಕೋಟೆಯ ಕೊತ್ತಲದಿಂದ ರಾಷ್ಟ್ರವನ್ನು ಉದ್ದೇಶಿಸಿ ಪ್ರಧಾನಮಂತ್ರಿ ಶ್ರೀ ನರೇಂದ್ರ ಮೋದಿ ಅವರು ಮಾಡಿದ ಭಾಷಣದ ಕನ್ನಡ ಪಠ್ಯಾಂತರ

ಜನಪ್ರಿಯ ಭಾಷಣಗಳು

77ನೇ ಸ್ವಾತಂತ್ರ್ಯ ದಿನಾಚರಣೆಯ ಸಂದರ್ಭದಲ್ಲಿ ಕೆಂಪು ಕೋಟೆಯ ಕೊತ್ತಲದಿಂದ ರಾಷ್ಟ್ರವನ್ನು ಉದ್ದೇಶಿಸಿ ಪ್ರಧಾನಮಂತ್ರಿ ಶ್ರೀ ನರೇಂದ್ರ ಮೋದಿ ಅವರು ಮಾಡಿದ ಭಾಷಣದ ಕನ್ನಡ ಪಠ್ಯಾಂತರ
Swachh Bharat Abhiyan: How India has written a success story in cleanliness

Media Coverage

Swachh Bharat Abhiyan: How India has written a success story in cleanliness
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Chhattisgarh steeped in corruption, misrule, scam under Congress: PM Modi
September 30, 2023
ಶೇರ್
 
Comments
People of Chhattisgarh have decided to not tolerate Congress' atrocities anymore: PM Modi in Bilaspur
It is my guarantee that your dreams are my resolution... Your dreams will be fulfilled only when there is a BJP government here: PM Modi in Chhattisgarh
If the Deputy CM of Chhattisgarh says that Delhi does no injustice, this should have been a matter of happiness for all, but Congress had a hurricane: PM Modi in Bilaspur
Chhattisgarh steeped in corruption, misrule, scam, says PM Modi

भारत माता की, भारत माता की।


जम्मो छत्तीसगढ़ के भाई-बहिनी, सियान महतारी मन ल जय जोहार।


बिलासपुर का आह्वान है, छत्तीसगढ़ का ऐलान है- छत्तीसगढ़ में परिवर्तन तय हो गया है। ये जो उत्साह यहां दिख रहा है कि ये परिवर्तन का उद्घोष है। कांग्रेस सरकार के अत्याचारों से त्रस्त छत्तीसगढ़ की जनता कह रही है- अउ नइ सहिबो, बदल के रहिबो ! अउ नइ सहिबो, अउ नइ सहिबो, अउ नइ सहिबो, बदल के रहिबो !

भाइयों-बहनों,
मैं बिलासपुर बहुत बार आया हूं। संगठन का काम करता था तब भी आता था। गुजरात में मुख्यमंत्री था तब भी रमन सिंह मुझे आपसे मिलने के लिए हर मौके पर बुलाते थे। और प्रधानमंत्री बनने के बाद भी हर बार आपके बीच में आया हूं। लेकिन ऐसा उमंग, उत्साह, न भूतो न भविष्यति। मैंने ऐसा उत्साह, ऐसी एनर्जी और पूरी तरह युवाशक्ति और मातृशक्ति, कल्पना से बाहर का दृश्य है। और अच्छा हुआ, पार्टी ने मुझे अंदर से जीप में आने का मुझे अवसर दिया ताकि मैं पुराने-पुराने लोगों के दर्शन तो कर पाया। लेकिन साथ-साथ इस एनर्जी को अनुभव कर पाया। इस उत्साह को अनुभव कर पाया। साथियों, मैं कल्पना कर सकता हूं कि परिवर्तन यात्रा ने कैसी कमाल की है छत्तीसगढ़ में। आज छत्तीसगढ़ आकंठ भ्रष्टाचार और कुशासन से त्रस्त है। रोजगार के नाम पर सिर्फ घोटाले ही घोटाले हैं। हर योजना में भ्रष्टाचार हावी है। इसलिए छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार को हटाने और भाजपा को लाने के लिए आपलोग पूरी तरह तैयार हैं।

मेरे परिवारजनों,
अटल जी ने छत्तीसगढ़ की आकांक्षाओं को समझते हुए, इस प्रदेश का निर्माण किया था। ये भाजपा है, जिसने छत्तीसगढ़ के लोगों के सामर्थ्य को समझा। छत्तीसगढ़ का हाईकोर्ट हमारे बिलासपुर में है। ये काम भाजपा ने किया है। यहां साउथ ईस्ट सेंट्रल रेलवे का मुख्यालय है। ये राजस्व की दृष्टि से भारत के सबसे बड़े रेलवे जोन में से एक है। इसकी स्थापना भी अटल जी की सरकार के दौरान हुई थी। यानि छत्तीसगढ़ के विकास के लिए भाजपा केंद्र में हो या राज्य में पूरी तरह निरंतर समर्पित रही है। आज मैं आपको, आज मैं आपको एक गारंटी देने आया हूं कि आपके हर सपने को साकार करने के लिए मोदी कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगा।

छत्तीसगढ़ के मेरे भाई-बहन,
छत्तीसगढ़ के मेरे भाई-बहन आप लिख लीजिए, ये मोदी की गारंटी है। आपका सपना, आपका सपना अब मोदी का संकल्प है। छत्तीसगढ़ के हर परिवार का सपना तभी साकार होगा, जब छत्तीसगढ़ में भी भाजपा सरकार होगी। दिल्ली से मैं जितनी कोशिश करूं, यहां की कांग्रेस सरकार उसको फेल करने में जुटी रहती है। पिछले 5 वर्षों में छत्तीसगढ़ को केंद्र सरकार से हजारों करोड़ रूपए मिला है। यहां सड़क हो, रेल हो, बिजली हो, दूसरे ऐसे अनेक विकास के काम हों, हमने छत्तीसगढ़ के लिए, आपके लिए पैसे की कोई कमी नहीं रखी। और ये बात मैं कह रहा हूं ऐसा नहीं है। यहां के उपमुख्यमंत्री जी ने सार्वजनिक सभा में कही थी। और उपमुख्यमंत्री जी ने सच बोला तो ये पार्टी के ऊपर से नीचे तक तूफान खड़ा हो गया। उनको फांसी पर लटकाने के खेल खेलने लग गए। सार्वजनिक जीवन में हकीकतों को छिपाया नहीं जा सकता। अगर कांग्रेस के ये नेता, कांग्रेस सरकार के उपमुख्यमंत्री भरी जनसभा में ये कहते हैं कि दिल्ली कभी अन्याय नहीं करता है तो फिर हरेक को खुशी होनी चाहिए। लेकिन पूरी कांग्रेस में तूफान मच गया।

और भाइयों-बहनों, भारत सरकार ने अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए, हम कभी ये नहीं कहते कि हम उपकार कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ में हजारों करोड़ रुपये के इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट हमने मंजूर किए, पैसे भेजे। कांग्रेस सरकार की वजह से या तो वो रुके हुए हैं या बहुत देरी से चल रहे हैं। हर प्रोजेक्ट में रोकटोक करने वाली कांग्रेस सरकार अगर यहां दोबारा आई तो छत्तीसगढ़ भला होगा, जरा जोर से बताइए छत्तीसगढ़ का भला होगा, आपका भला होगा, यहां के युवकों का भला होगा, यहां की माताओं-बहनों का भला होगा।

साथियों,
जब कांग्रेस की सरकार दिल्ली में थी, तब छत्तीसगढ़ के लिए, रेलवे के लिए, ये आंकड़ा याद रखोगे आप, मैं जो आंकड़ा बोलता हूं याद रखोगे आप। ऐसे नहीं, सबलोग बताओ आंकड़ा याद रखोगे। पक्का याद रखोगे। जब दिल्ली में रिमोट कंट्रोल से सरकार चल रही थी कांग्रेस की सरकार थी, और आजकल जो इंडी एलायंस बना है न, उनकी सरकार थी। रेलवे के लिए वर्ष में एवरेज औसतन 300 करोड़ रुपए छत्तीसगढ़ को मिलता था। कितना, जरा फिर से बोलो कितना...किसके समय में। मतलब कि कांग्रेस के समय में रेलवे के लिए 300 करोड़ रुपए मिलता था। लेकिन इस साल भाजपा सरकार ने मैं एक वर्ष की बात बताता हूं। सरकार ने छत्तीसगढ़ में रेलवे के विस्तार के लिए रेलवे के विस्तार के लिए 6 हज़ार करोड़ रुपए दिए हैं। कितने दिए हैं, कितने दिए हैं, किसने दिए हैं, किसने दिए हैं। आप बताइए कहां 300 करोड़ और कहां 6 हज़ार करोड़। ये है मोदी मॉडल। ये है मोदी का छत्तीसगढ़ के प्रति प्रेम। ये है मोदी का छत्तीसगढ़ के विकास के लिए कमिटमेंट। हमारा प्रयास है कि छत्तीसगढ़ में रेलवे ट्रैक का तेज़ी से बिजलीकरण हो, दोहरीकरण हो। हम चाहते हैं यहां बड़ी संख्या में तेज़ गति से चलने वाली ट्रेनें चल सकें, आप सभी को सुविधा हो। ये भाजपा सरकार ही है जिसने छत्तीसगढ़ को आधुनिक वंदे भारत ट्रेन भी दी है।

मेरे परिवारजनों,
गरीब के साथ जितना अन्याय कांग्रेस ने किया है, उतना किसी ने नहीं किया। कोरोना का इतना बड़ा संकट आया। गरीब के इस बेटे ने ये तय किया कि मैं अपने हर गरीब भाई-बहन को संकट की इस घड़ी में मुफ्त राशन दूंगा। हमने गरीब कल्याण अन्न योजना शुरू की। कोई भी परिवार ऐसा न हो जब इन कोरोना की मुसीबत के समय जिसका घर का चूल्हा न जले। ऐसा कोई बेटा-बेटी न हो जिसको रात को भूखा सोना पड़े। और इसीलिए मोदी ने अन्न के भंडार खोल दिए और देश के गरीबों को मुफ्त में अन्न दिया, आज भी चल रहा है। लेकिन छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने, आप सुनिए, गरीब के पेट जाने वाला अन्न, गरीब का जलने वाला चूल्हा, ये भी कांग्रेस के लोगों के लिए चोरी करने का माध्यम बन गया। कांग्रेस सरकार ने इसमें भी घोटाला कर दिया। आज यहां का हर लाभार्थी कांग्रेस सरकार से पूछ रहा है कि बताओ, हमारे हक का राशन कहां गया? पूछोगे कि नहीं पूछोगे, घर जाकरके बताओगे कि नहीं बताओगे। क्या कांग्रेस ने जवाब देना चाहिए कि नहीं देना चाहिए? आप मुझे बताइए साथियों, जो राशन में घोटाला करे, वो वापिस आने चाहिए क्या? उनको दोबारा मौका देना चाहिए क्या? और अगर मौका मिल गया तो ज्यादा घोटाला करेंगे कि नहीं करेंगे? छत्तीसगढ़ पूरी तरह तबाह हो जाएगा कि नहीं हो जाएगा। साथियों, ये तो मैं दिल्ली में बैठा हूं न तो थोड़ा भी डरते हैं। ये दुबारा मौका मिला, दुबारा मौका मिला तो घोटाले करने की इनकी हिम्मत इतनी बढ़ जाएगी, इतनी बढ़ जाएगी कि छत्तीसगढ़ में कोई उनको रोक नहीं पाएगा।

साथियों,
कांग्रेस शासन में अनेकों छोटे-छोटे बच्चों की कुपोषण से मौत की खबरें आई हैं। ये कितनी पीड़ादायक स्थिति है। किसी सरकार की इससे बड़ी असफलता भला क्या हो सकती है? कांग्रेस सरकार ने इस खौफनाक सच्चाई को दबाकर रखा है, छिपाकर रखा है। कांग्रेस नेताओं को अपने बच्चों के जीवन से बहुत सरोकार है, लेकिन आपके बच्चों से, आपके बच्चों के जीवन से कांग्रेस वालों को कोई लेना-देना नहीं है, उनको तो अपने बच्चों की जिंदगी बनानी है।

साथियों,
केंद्र की भाजपा सरकार का प्रयास है कि यहां से जो खनिज संपदा निकलती है, उसका एक हिस्सा यहीं के विकास में लगना चाहिए। इसके लिए भाजपा सरकार ने डिस्ट्रिक्ट मिनरल फंड बनाया है। इसके तहत छत्तीसगढ़ को भी करोड़ों रुपए दिए गए हैं। और जब हमने नियम बनाया तब रमन सिंह जी मुख्यमंत्री थे। वो मुझे स्पेशियली मुझसे मिलने आए थे। और रमन सिंह जी ने कहा कि साहब आपने ऐसा निर्णय किया है कि आपने हिसाब लगाया है कि क्या होगा। मैंने कहा बताइए। बोले मेरे कुछ जिले ऐसे हैं जिनको सिर्फ इस फंड से इतना पैसा मिलेगा, इतना पैसा मिलेगा जितना पहले बजट से नहीं मिला है और अब तो शायद इन जिलों के लिए हमें अतिरिक्त बजट भी नहीं बाटना पड़े और ये जिले आगे निकल जाएंगे। ये शब्द रमन सिंह जी ने आकरके मुझसे कहे थे। लेकिन कांग्रेस ने आते ही उसका भी बंटाधार कर दिया। हमारे छत्तीसगढ़ के दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों के इन पैसों पर भी डाका डाल दिया। कांग्रेस ने यहां शराब घोटाला करके क्या कुछ नहीं कमाया है। अरे ये लोग तो ऐसे हैं गोबर को भी नहीं छोड़ा, गोबर को भी। कांग्रेस ने गौमाता के नाम पर भी घोटाला किया है।

साथियों,
कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ के नौजवानों को क्या-क्या सपने दिखाए थे। और उन्हें क्या मिला- सिर्फ धोखा ! और छत्तीसगढ़ के नौजवान तो छह महीने में ही समझ गए थे मर गए। और जब लोकसभा का चुनाव आया तो सबकी सब सीटों पर भाजपा को विजयी बना दिया था। क्योंकि सब समझ गए थे कि ये धोखा है। भाइयों-बहनों PSC घोटाला, ये PSC घोटाला तो यहां के युवाओं के साथ बहुत बड़ा धोखा है। कांग्रेस की कुनीति को छत्तीसगढ़ के नौजवान भुगत रहे हैं। जिनकी नौकरी लगी- उनके सामने भी अनिश्चितता और जिनको बाहर किया गया, उनके साथ अन्याय। मैं छत्तीसगढ़ के युवाओं को आश्वस्त करता हूं कि जो भी इसके दोषी हैं, मेरे नौजवान लिखकर रखो, जो भी इसके दोषी हैं, भाजपा सरकार बनते ही उन पर कठोर कार्रवाई होगी।

मेरे परिवारजनों,
कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ के धान किसानों को भी हमेशा धोखा दिया है, उनसे झूठ बोला है। यहां के धान किसानों का दाना-दाना, याद रखोगे, मैं बहुत जिम्मेवारी से बोल रहा हूं। याद रखोगे, यहां के धान किसानों का दाना-दाना, केंद्र की भाजपा सरकार खरीदती है। मोदी सरकार खरीदती है। छत्तीसगढ़ के किसानों का धान खरीदकर केंद्र सरकार ने एक लाख करोड़ रुपए से ज्यादा दिए हैं। कितने, फिर से बोलिए कितने, फिर से बोलिए कितने, घर-घर जाकर बताओगे, किसानों को जाकर बताओगे। यहां के धान किसानों को पैसे केंद्र की भाजपा सरकार देती है और दावे यहां कांग्रेस सरकार करती है। अब आपको बोलना चाहिए कि नहीं बोलना चाहिए, जोरों से बोलना चाहिए कि नहीं बोलना चाहिए, बार-बार बोलना चाहिए कि नहीं बोलना चाहिए, सच्चाई लोगों को पहुंचानी चाहिए कि नहीं पहुंचानी चाहिए। उनको बेनकाब करना चाहिए कि नहीं करना चाहिए। करोगे, ढीला मत बोलो, करोगे, करोगे, आप करोगे, पीछे वाले करेंगे, इधर वाले करेंगे, उधर वाले करेंगे। मैं फिर आपको विश्वास दिलाता हूं। भाजपा धान किसानों के प्रति समर्पित है। इसलिए यहां जब भाजपा सरकार बनेगी तो धान किसानों के हितों का पूरा ध्यान रखा जाएगा। और पाई-पाई किसान के पास पहुंचेगी।

साथियों,
मोदी ने पीएम किसान सम्मान निधि का इंतज़ाम ऐसा किया है कि सीधे पैसा किसान के बैंक अकाउंट में पहुंचता है। बीच में कोई बिचौलिया नहीं है, कोई कटकी कंपनी नहीं है। वरना कांग्रेस के एक प्रधानमंत्री ने कहा था कि दिल्ली से एक रूपया भेजते हैं, 15 पैसा पहुंचता है। अगर मेरे समय भी ऐसा हुआ होता तो आपको भला होता क्या। ये मोदी एक रुपया भेजता है तो 100 के 100 पैसे पहुंच जाते हैं भाइयों। कोई पंजा, कोई पंजा इस रुपये को घिस नहीं सकता है। पीएम किसान सम्मान निधि के तहत छत्तीसगढ़ के हर लाभार्थी किसान के खाते में 28 हजार रुपए तक पहुंचे हैं। हम आपकी हर जरूरत का ध्यान रख रहे हैं। केंद्र की भाजपा सरकार ने ये सुनिश्चित किया कि मुश्किल से मुश्किल समय में भी देश में खाद की कमी ना हो। आप भी जानते हैं कि दुनिया में ये कोरोना, ये लड़ाई इसके कारण खाद की कीमत बहुत बढ़ गई है। पिछले 100 साल में इतनी कीमत नहीं रही। इतनी कीमत बढ़ गई है। यूरिया की एक बोरी दुनिया में करीब-करीब 3 हज़ार रुपए तक बिकती है। कितने, कितने, जरा जोर से बोलो कितने में बिकती है। याद रखोगे और भारत में भारत के किसानों को ये बोरी 300 रुपए से भी कम कीमत में मिलती है। 300 रुपए से भी कम। कितने में रुपये में मिलती है, कितने में रुपये में मिलती है, दुनिया में कितने में मिलती है, दुनिया में कितने में मिलती है। कहां तीन हजार और कहां मेरे किसान को 300 रुपये हम यूरिया की बोरी देते हैं भाइयों। और इसके लिए भारत सरकार की तिजोरी में से केंद्र सरकार हज़ारों करोड़ रुपए खर्च कर रही है ताकि किसानों पर बोझ न बने।

मेरे परिवारजनों,
भाजपा सरकार का प्रयास है, गरीबों का जीवन आसान बने, उनका जीवन स्तर सुधरे। आपका जीवन स्तर ऊपर उठना है, तो मुझे लगता है कि जब आपको संतोष होता है, आपके सपने पूरे होते हैं न, तो मेरा संतोष भी बढ़ जाता है, मेरी ऊर्जा भी बढ़ जाती है। मेरा जीवन धन्य हो जाता है जब मेरे देश के गरीबों का कल्याण होता है। हमने शौचालय बनाया, तो दलित, पिछड़े और आदिवासी परिवारों की बहनों की मुश्किलें कम हुईं। हमने सौभाग्य योजना से मुफ्त बिजली कनेक्शन दिया, तो दलित, पिछड़े, आदिवासी परिवारों के घर रौशन हुए। उज्जवला का मुफ्त कनेक्शन दिया तो दलित, पिछड़े, आदिवासी परिवारों की बहनों को धुएं से मुक्ति मिली। हाल में ही उज्जवला की लाभार्थी बहनों के लिए गैस सिलेंडर को 400 रुपए सस्ता किया गया है। और मैंने देखा जब उज्ज्वला योजना शुरू हुई तब जितने परिवार थे। अब कुछ परिवारों में विभाजन होता है, बेटा अलग घर में रहने जाता है तो कुछ परिवार बढ़ गए हैं, तो हमारे कार्यकर्ता बताते थे कि साहब उज्जवला को थोड़ा नया शुरू करना पड़ेगा। पहले राउंड में तो सबको मिल गया लेकिन अब नए परिवार बस गए हैं। आपकी बात को ध्यान में रखकरके 75 लाख नए परिवार के लिए हमने प्रबंध कर दिया है। आने वाले दिनों जैसी-जैसी जरूरत होगी उनको भी उज्जवला गैस कनेक्शन मिल जाएगा। इससे छत्तीसगढ़ के भी अनेक परिवारों को लाभ होगा। हमने आयुष्मान भारत योजना से 5 लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज सुनिश्चित किया है। इसका लाभ भी छत्तीसगढ़ के लाखों दलित, पिछड़े और आदिवासी परिवार उठा रहे हैं। और भाइयों-बहनों 5 लाख रुपए वाली आयुष्मान योजना ये दुनिया में सबसे बड़ी योजना है। दुनिया में सबसे बड़ी। और हमारे यहां तो आपने देखा होगा परिवार में हमारी माताएं-बहनें कितनी ही बीमारी हो, कितनी ही पीड़ा हो, काम करना भी मुश्किल हो, लेकिन माताएं-बहनें परिवार में किसी को पता नहीं चलने देती कि उसको बीमारी है। क्यों, क्योंकि मां-बहनों को लगता है कि अगर बच्चों पता चल गया कि बीमारी है, तो अस्पताल ले जाएंगे, खर्चा हो जाएगा, पैसे तो हैं नहीं, बच्चे कर्ज में डूब जाएंगे, और इसीलिए मां कहती है मैं पीड़ा सहन करूंगी लेकिन बेटे को कर्ज में डूबने नहीं दूंगी। हमारे देश में माताएं-बहनें पीड़ा सहती है लेकिन परिवार पर बोझ नहीं होने देती। ये पीड़ा, ये गरीब मां का बेटा समझता है। और इसीलिए आपके इस बेटे ने गारंटी दी है कि मेरी मां अब तेरा पांच लाख रुपये तक बिल ये तेरा बेटा दे देगा, तेरा बेटा। साथियों मोदी यानि मोदी यानि गारंटी पूरी होने की गारंटी है।

मेरे परिवारजनों,
मोदी ने आपको दी हुई एक और गारंटी पूरी कर दी है। अब लोकसभा और विधानसभा में बहनों के लिए 33 प्रतिशत सीटें आरक्षित हो जाएगी। भाजपा सरकार में नारीशक्ति वंदन अधिनियम अब सच्चाई बन चुका है। और कल ही हमारी राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू जी जो आदिवासी महिला कल उस पर हस्ताक्षर करके अब उसको कानून भी बना दिया है। लेकिन भाइयों-बहनों मोदी तो करेगा, मोदी जो गारंटी देता है न वो पूरी करता है। लेकिन आपको खासकर माताओं-बहनों को बहुत सतर्क रहना होगा। बहुत मुश्किल से इतना बड़ा पड़ाव हमने पार किया है। 30 साल से लटका हुआ था। आप सोचिए, 30 साल। सरकारें आ गई, बोलती रही, नाटक करती रही, काम नहीं किया। कांग्रेस और इसके घमंडिया साथी, उनको लग रहा कि मोदी ने क्या कर दिया। वो गुस्से से भरे हुए हैं। उनको लगता है कि ये सारी माताएं-बहनें अब मोदी को ही आर्शीवाद देगी, उनकी नींद हराम हो गई है। और इसके कारण, डर के कारण अब वो नए-नए खेल रहे हैं। आपको मालूम है, न चाहते हुए भी उनको संसद में समर्थन क्यों करना पड़ा। क्यों करना पड़ा। माताएं-बहनें अब आपकी जो एकता और जागरूकता आई है न, इससे वो डर गए थे, इसीलिए उनको माताओं-बहनों के चरण में आना पड़ा है। लेकिन अब उन्होंने नया खेल शुरू किया है। अब वो बहनों में भी फूट डालना चाहते हैं। उनको लगता है बहनें संगठित हो गई तो इनका तो खेल पूरा। इसीलिए ये माताएं-बहनें संगठित न हो, जातिवाद में उनको तोड़ा जाए, भांति-भांति के तर्क देकरके उनमें विभाजन कर दिया जाए। भांति-भांति के झूठ फैला दिए जाएं। मैं छत्तीसगढ़ की माताओं-बहनों को कहना चाहता हूं ये आने वाले हजारों साल तक प्रभाव पैदा करने वाला निर्णय है। ये परिवार में माताओं-बहनों को नई शक्ति देने वाला काम हुआ है। आपकी बेटी का भविष्य उज्जवल बनाने का काम हुआ है। कृपा करें मेरी माताएं-बहनें ये झूठ बोलने वालों के झूठ में न फंस जाएं। ये आपको तोड़ने की कोशिश करे, मत करना। आपकी एकता बनी रहनी चाहिए। आपके आर्शीवाद बने रहने चाहिए ताकि आपके सपने ये मोदी पूरा कर पाएगा।

साथियों,
मोदी ने बहनों को उनके घर पानी से पाइप पहुंचाने की भी गारंटी दी है। सिर्फ 4 साल के भीतर ही, देश में 10 करोड़ ऐसे परिवारों के घर पाइप से पानी पहुंचाया गया है। लेकिन मुझे एक तकलीफ भी है। नल से जल के लिए छत्तीसगढ़ में जितनी तेज़ी से काम होना चाहिए था, वो नहीं हुआ है। यहां की सरकार को लगता है कि अगर माताओं-बहनों को पानी का जो कष्ट है वो चला जाएगा, माताओं-बहनों को रसोई तक नल से जल आएगा तो ये तो मोदी-मोदी करने लग जाएगी, और इसीलिए, इसीलिए वो माताओं-बहनों को नल से जल मिले नहीं, इसीलिए उस काम को धीरे-धीरे कर रहे हैं, पूरा नहीं कर रहे हैं। कांग्रेस की सरकार को मोदी और मोदी की योजनाएं, दोनों ही पसंद नहीं हैं। इसका एक और बड़ा उदाहरण गरीबों के घर की योजना है। अभी तक देशभर में 4 करोड़ से अधिक गरीब परिवारों को पक्के घर दिए जा चुके हैं। कितने, ऐसे नहीं, जरा जोर से बोलिए, कितने, कितने, कितने, किसको दिया है, चार करोड़ क्या, चार करोड़ क्या, चार करोड़ क्या, किसको दिया है। इस देश के गरीब परिवारों को चार करोड़ पक्का घर, आप कल्पना कर सकते हैं। छत्तीसगढ़ में जब तक रमन सिंह की सरकार थी, तो यहां भी हम तेज़ी से गरीबों के घर बना रहे थे। लेकिन जैसे ही यहां कांग्रेस की सरकार आई, तो उसमें घोटाले तलाशने लगे, कटकी कैसे करें, खोजने लगे। लेकिन मोदी ने ऐसा पक्का कर दिया है सीधा पैसा उस घर में जाता है। तो उनको बड़ी मुश्किल हो रही है, कुछ मिलता नहीं है तो काम क्यों करें। और ये क्या कर रहे हैं, मैं आपको बताना चाहता हूं। ये नहीं कर रहे हैं। मैं आज आपको एक वायदा करना चाहता हूं। यहां भाजपा सरकार बनने के बाद कैबिनेट का पहला फैसला, ये लिखकर रख लीजिए। भाजपा सरकार छत्तीसगढ़ में बनने के बाद पहला फैसला गरीबों के पक्के घर, जो भी बाकी है, सारे के सारे तेज गति से पूरे करके हर गरीब को पक्का घर दिया जाएगा।

मेरे परिवारजनों,
मोदी से कांग्रेस की ये नफरत इसलिए है क्योंकि उनको तकलीफ हो रही है कि पिछड़े समाज से आया हुआ ये इंसान प्रधानमंत्री कैसे बन गया। उनका तो आरक्षण था पीएम की कुर्सी पे। इसलिए वो मोदी के बहाने वो पूरे समाज को गाली देने से भी नहीं चूकते। कांग्रेस के नेताओं को लगता है कि इस समाज को गाली भी देंगे तो कुछ नहीं होगा। गरीब, दलित, आदिवासी, OBC सभी से कांग्रेस, नफरत करती है। कोर्ट सजा देती है, OBC को गाली देने के लिए सजा देती है। फिर भी सुधरने को तैयार नहीं है। OBC के लिए कितनी नफरत होगी इसका ये उदाहरण है। केंद्र में भाजपा सरकार बनी तो, दलित समाज से श्री रामनाथ कोविंद जी को हमने राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया। कांग्रेस ने उनका भी विरोध किया। दूसरी बार सरकार बनी तो हमने भारत को पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति देने का फैसला किया। कांग्रेस ने आदिवासी बेटी का भी विरोध किया। ये विरोध वैचारिक नहीं था। अगर वैचारिक होता तो कांग्रेस अपनी विचारधारा के किसी नेता को मैदान में उतारती। लेकिन कांग्रेस ने बीजेपी के ही एक पुराने नेता को आदिवासी बेटी के विरोध में उम्मीदवार बनाया।

साथियों,
कांग्रेस, एससी समाज को कैसे अपमानित करती है, इसके बारे में गुरु बालदास जी प्रमुखता से आवाज़ उठाते रहे हैं। सतनामी समाज के साथ यहां कैसा बर्ताव हुआ है, ये भी सबने देखा है। ये कांग्रेस की पुरानी मानसिकता है। ये किसी भी दलित, पिछड़े या आदिवासी को आगे बढ़ता देख ही नहीं सकते। जो एक विशेष परिवार के दरबार में हाज़िरी लगाता है, इनके यहां वही आगे बढ़ पाता है।

मेरे परिवारजनों,
भाजपा के लिए सामाजिक न्याय, सबकी भागीदारी का, विकसित भारत के निर्माण का रास्ता है, हमारे पास पक्का रास्ता है। हाल में ही प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना शुरु की गई है। 13 हज़ार करोड़ की ये योजना हमने अपने विश्वकर्मा परिवारों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए बनाई है। इससे छत्तीसगढ़ के हमारे हज़ारों विश्वकर्मा साथियों को भी लाभ होगा। इस योजना से हमारे कुम्हार भाई-बहन, लोहार भाई-बहन, सुत्तार भाई-बहन, सुनार भाई-बहन, फूल की माला बनाने वाले मालाकार भाई-बहन, कपड़े धोने वाले परिवार, बाल काटने वाले परिवार, दर्जी परिवार, खिलौने बनाने वाले परिवार, राजमिस्त्री परिवार, ऐसे जो हमारे तमाम कारीगर हैं, शिल्पकार हैं, उनके लिए हजारों करोड़ की विश्वकर्मा योजना हमने बनाई है। इसके तहत सरकार ट्रेनिंग भी देगी। आधुनिक उपकरण खरीदने के लिए 15 हज़ार रुपए भी देगी। साथ ही, काम शुरु करने और आगे बढ़ाने के लिए लाखों रुपए का सस्ता ऋण भी उपलब्ध होगा। और हां, मैं अपने विश्वकर्मा साथियों को बता दूं कि आपसे बैंक गारंटी नहीं मांगेगा, मेरे विश्वकर्मा भाई मेरे शब्द सुन लीजिए, कोई बैंक आपसे गारंटी नहीं मांगेगा क्योंकि आपकी गारंटी मोदी ने पहले से ही लेके रखी हुई है।

साथियों,
छत्तीसगढ़, कांग्रेस के कुशासन को हटाने के लिए तैयार है। अब भाजपा कार्यकर्ताओं पर बहुत बड़ी जिम्मेदारी है। हमारा संगठन बहुत मजबूत है। छत्तीसगढ़ के बूथ-बूथ में हमारा नेटवर्क है। हमें अपना हर बूथ जीतना है, बूथ पर हर वोटर का दिल जीतना है। जब तक हर बूथ पर कमल नहीं खिलेगा, तब तक हम चैन से नहीं बैठेंगे। घर-घर जाएंगे, एक-एक मतदाता को मिलेंगे। हमारा एक ही नेता है कमल। हमारा एक ही उम्मीदवार है कमल। हमारा एक ही लक्ष्य है कमल को जिताना। इसी जोश के साथ हमें जुटना है और जन-जन को जोड़ना है। मैं फिर एक बार छत्तीसगढ़ भारतीय जनता पार्टी बधाई देता हूं। मैं आप सबका धन्यवाद करता हूं। मैंने ऐसी सभा, ऐसी ऊर्जावान सभा, आज मेरा मन गदगद हो गया दोस्तों। बहुत-बहुत धन्यवाद। मेरे साथ बोलिए-
भारत माता की जय ! भारत माता की जय ! भारत माता की जय !


भारत माता की जय ! भारत माता की जय ! वंदे ! वंदे ! वंदे ! वंदे ! वंदे ! वंदे ! वंदे ! भारत माता की जय ! भारत माता की जय ! भारत माता की जय ! बहुत-बहुत धन्यवाद।