PM Modi addresses the Karyakarta Mahakumbh in Bhopal

Published By : Admin | September 25, 2023 | 11:32 IST
Congress dynastic party has a history of graft and appeasement. It's like rusted iron that will be finished if kept in rain: PM Modi
Nari Shakti Vandan Adhiniyam has created a new history in the country, says PM Modi in Bhopal
Congress and it's 'ghamandia' alliance wants to destroy the Sanatan Dharma: PM Modi
PM Modi says the Congress kept people poor in its interest. Over 13.5 cr people came out of poverty under BJP rule in 5 years
Congress turned rich MP into 'Bimaru' state during its long rule after Independence: PM Modi in Bhopal

Addressing the large gathering in Madhya Pradesh’s Bhopal, Prime Minister Narendra Modi said, “Madhya Pradesh is an important centre not only of BJP's ideas but also of its vision of development. Therefore, today when the country has set out on a new development journey in the Amrit Kaal, the role of Madhya Pradesh has become even more important. Today investments are coming to India from all over the world and going to different states. This is the time to develop India and Madhya Pradesh.”

Slamming the Congress party, PM Modi said, “The hallmark of Congress rule in MP was impolicy, bad governance and corruption worth crores. The youth here did not see the poor law and order situation of the Congress era. In each of its terms, the BJP has endeavoured to take Madhya Pradesh to new heights with fresh energy. We have to keep in mind that the path of development created by the people of MP should not go off the road or go astray.”

“We can observe in Rajasthan that when given the opportunity, the Congress party brought about only destruction. Similarly, in Maharashtra, we witnessed how the Congress, upon joining the alliance, prioritized plunder as its primary objective,” he added.

Prime Minister Modi criticized the Congress party, stating that India is currently attracting investments from across the globe, benefiting various states. “This is a pivotal moment for India and Madhya Pradesh to progress. However, at such a critical juncture, if a dynastic party like the Congress, which has a history of being involved in scams worth billions, gains even the slightest foothold, it could lead to significant losses for Madhya Pradesh”, the Prime Minister warned adding that Congress, if voted to power, might hinder the progress of the state and make it ‘Sick’ once again.

Targeting the grand old party, the PM likened Congress to rusty iron that corrodes when exposed to rain. He remarked that Congress has lost the capability to perceive or comprehend national interests. “Congress remained busy only in glorifying one family. Congress remained busy in nourishing the corrupt system in India,” he added.

During the Karyakarta Mahakumbh in Bhopal, PM Modi asserted, “Today the whole world is mesmerized by India's UPI. Record digital transactions are taking place in India. But Congress did not like this either. Today BJP is building modern roads, wide highways and expressways. But Congress criticizes it. Today BJP is bringing modern trains like Vande Bharat and rejuvenating the stations. Everyone is praising Bhopal's Rani Durgavati Railway Station. Congress is also not able to digest this.”

Prime Minister Modi stated, "Under the BJP government's leadership, within a mere 5 years, 13.5 crore people in the country have risen above the poverty line. This achievement surpasses the entire population of Madhya Pradesh. It underscores the tangible impact of Modi's guarantees. When Modi and the BJP give guarantees, they translate into concrete actions that reach every intended beneficiary. ‘Modi means guarantee of fulfillment of every guarantee’.”

Talking about the Nari Shakti Vandan Adhiniyam, the Prime Minister remarked, "Just recently, a law was enacted to reserve 33 percent of seats in the Lok Sabha and Rajya Sabha for our mothers, sisters, and daughters. The Nari Shakti Vandan Adhiniyam has etched a new chapter in our nation's history. For decades, the mothers and sisters of our country had been eagerly awaiting this moment. There were even doubts that it might never come to pass. After all, if Modi is there...every guarantee is guaranteed to be fulfilled.”

Prime Minister Modi stated, "Modi’s temperament is different, his dedication to hard work sets him apart, and his mission has a unique purpose. For me, nothing surpasses the importance of our nation, and no one is more significant than our fellow countrymen. I have experienced poverty myself, but I am determined to ensure that my country does not endure the same fate."

Accusing the Congress for using people’s poverty for publicity, PM Modi said, “For Congress leaders, the life of the poor is an adventure, a tourism. For Congress leaders, Garib Ki Basti is a picnic spot. For Congress, the poor farmer's farm is a ground for photo session. Congress and it’s ‘Ghamandia’ alliance want to destroy our heritage, sanatan dharma. Madhya Pradesh will have to be very careful with such parties.”

Furthermore, PM Modi asserted, “Now Congress has become such a company, it is outsourcing everything from slogans to policies. And who has this contract…do you know? The Congress contract is now with some Urban Naxals. Now only Urban Naxals are running in Congress. Every Congress worker is feeling this on the ground. Therefore, Congress is continuously becoming hollow on the ground also.”

Highlighting the accomplishments of the G20 summit, PM Modi iterated, “India has successfully held the G20 conference a few days ago. This is happening because you elected a stable and strong government in the country. Today, India is regaining the confidence that we lost during the period of thousand years of slavery. The decisions we take today will decide our journey for the coming thousand years. None of this would be feasible without the active involvement of Madhya Pradesh.”

In his closing statements, PM Modi stated, " The upcoming MP assembly polls are very crucial. Our objective is not just to secure victory at the assembly level, but to triumph in every single booth and to win the hearts of the people at each booth. Each booth karyakarta is our candidate, and as such, each karyakarta must put forth their utmost effort." PM Modi also urged people to buy Khadi products on the occasion. He also reminded people to remember the mantra of Vocal for Local as they shop for the festive season.

Click here to read full text speech

Explore More
ভারতের ৭৭তম স্বাধীনতা দিবস উপলক্ষে লালকেল্লার প্রাকার থেকে দেশবাসীর উদ্দেশে প্রধানমন্ত্রীর ভাষণ

জনপ্রিয় ভাষণ

ভারতের ৭৭তম স্বাধীনতা দিবস উপলক্ষে লালকেল্লার প্রাকার থেকে দেশবাসীর উদ্দেশে প্রধানমন্ত্রীর ভাষণ
Indian Air Force’s Made-in-India Samar-II to shield India’s skies against threats from enemies

Media Coverage

Indian Air Force’s Made-in-India Samar-II to shield India’s skies against threats from enemies
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
The Ashwamedha Yagya organized by the Gayatri Parivar has become a grand social campaign: PM Modi
February 25, 2024
"The Ashwamedha Yagya organized by the Gayatri Parivar has become a grand social campaign"
"Integration with larger national and global initiatives will keep youth clear of small problems"
“For building a substance-free India, it is imperative for families to be strong as institutions”
“A motivated youth cannot turn towards substance abuse"

गायत्री परिवार के सभी उपासक, सभी समाजसेवी

उपस्थित साधक साथियों,

देवियों और सज्जनों,

गायत्री परिवार का कोई भी आयोजन इतनी पवित्रता से जुड़ा होता है, कि उसमें शामिल होना अपने आप में सौभाग्य की बात होती है। मुझे खुशी है कि मैं आज देव संस्कृति विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित अश्वमेध यज्ञ का हिस्सा बन रहा हूँ। जब मुझे गायत्री परिवार की तरफ से इस अश्वमेध यज्ञ में शामिल होने का निमंत्रण मिला था, तो समय अभाव के साथ ही मेरे सामने एक दुविधा भी थी। वीडियो के माध्यम से भी इस कार्यक्रम से जुड़ने पर एक समस्या ये थी कि सामान्य मानवी, अश्वमेध यज्ञ को सत्ता के विस्तार से जोड़कर देखता है। आजकल चुनाव के इन दिनों में स्वाभाविक है कि अश्वमेध यज्ञ के कुछ और भी मतलब निकाले जाते। लेकिन फिर मैंने देखा कि ये अश्वमेध यज्ञ, आचार्य श्रीराम शर्मा की भावनाओं को आगे बढ़ा रहा है, अश्वमेध यज्ञ के एक नए अर्थ को प्रतिस्थापित कर रहा है, तो मेरी सारी दुविधा दूर हो गई।

आज गायत्री परिवार का अश्वमेध यज्ञ, सामाजिक संकल्प का एक महा-अभियान बन चुका है। इस अभियान से जो लाखों युवा नशे और व्यसन की कैद से बचेंगे, उनकी वो असीम ऊर्जा राष्ट्र निर्माण के काम में आएगी। युवा ही हमारे राष्ट्र का भविष्य हैं। युवाओं का निर्माण ही राष्ट्र के भविष्य का निर्माण है। उनके कंधों पर ही इस अमृतकाल में भारत को विकसित बनाने की जिम्मेदारी है। मैं इस यज्ञ के लिए गायत्री परिवार को हृदय से शुभकामनाएँ देता हूँ। मैं तो स्वयं भी गायत्री परिवार के सैकड़ों सदस्यों को व्यक्तिगत रूप से जानता हूं। आप सभी भक्ति भाव से, समाज को सशक्त करने में जुटे हैं। श्रीराम शर्मा जी के तर्क, उनके तथ्य, बुराइयों के खिलाफ लड़ने का उनका साहस, व्यक्तिगत जीवन की शुचिता, सबको प्रेरित करने वाली रही है। आप जिस तरह आचार्य श्रीराम शर्मा जी और माता भगवती जी के संकल्पों को आगे बढ़ा रहे हैं, ये वास्तव में सराहनीय है।

साथियों,

नशा एक ऐसी लत होती है जिस पर काबू नहीं पाया गया तो वो उस व्यक्ति का पूरा जीवन तबाह कर देती है। इससे समाज का, देश का बहुत बड़ा नुकसान होता है।इसलिए ही हमारी सरकार ने 3-4 साल पहले एक राष्ट्रव्यापी नशा मुक्त भारत अभियान की शुरूआत की थी। मैं अपने मन की बात कार्यक्रम में भी इस विषय को उठाता रहा हूं। अब तक भारत सरकार के इस अभियान से 11 करोड़ से ज्यादा लोग जुड़ चुके हैं। लोगों को जागरूक करने के लिए बाइक रैलियां निकाली गई हैं, शपथ कार्यक्रम हुए हैं, नुक्कड़ नाटक हुए हैं। सरकार के साथ इस अभियान से सामाजिक संगठनों और धार्मिक संस्थाओं को भी जोड़ा गया है। गायत्री परिवार तो खुद इस अभियान में सरकार के साथ सहभागी है। कोशिश यही है कि नशे के खिलाफ संदेश देश के कोने-कोने में पहुंचे। हमने देखा है,अगर कहीं सूखी घास के ढेर में आग लगी हो तो कोई उस पर पानी फेंकता है, कई मिट्टी फेंकता है। ज्यादा समझदार व्यक्ति, सूखी घास के उस ढेर में, आग से बची घास को दूर हटाने का प्रयास करता है। आज के इस समय में गायत्री परिवार का ये अश्वमेध यज्ञ, इसी भावना को समर्पित है। हमें अपने युवाओं को नशे से बचाना भी है और जिन्हें नशे की लत लग चुकी है, उन्हें नशे की गिरफ्त से छुड़ाना भी है।

साथियों,

हम अपने देश के युवा को जितना ज्यादा बड़े लक्ष्यों से जोड़ेंगे, उतना ही वो छोटी-छोटी गलतियों से बचेंगे। आज देश विकसित भारत के लक्ष्य पर काम कर रहा है, आज देश आत्मनिर्भर होने के लक्ष्य पर काम कर रहा है। आपने देखा है, भारत की अध्यक्षता में G-20 समिट का आयोजन 'One Earth, One Family, One Future' की थीम पर हुआ है। आज दुनिया 'One sun, one world, one grid' जैसे साझा प्रोजेक्ट्स पर काम करने के लिए तैयार हुई है। 'One world, one health' जैसे मिशन आज हमारी साझी मानवीय संवेदनाओं और संकल्पों के गवाह बन रहे हैं। ऐसे राष्ट्रीय और वैश्विक अभियानों में हम जितना ज्यादा देश के युवाओं को जोड़ेंगे, उतना ही युवा किसी गलत रास्ते पर चलने से बचेंगे। आज सरकार स्पोर्ट्स को इतना बढ़ावा दे रही है..आज सरकार साइंस एंड रिसर्च को इतना बढ़ावा दे रही है... आपने देखा है कि चंद्रयान की सफलता ने कैसे युवाओं में टेक्नोलॉजी के लिए नया क्रेज पैदा कर दिया है...ऐसे हर प्रयास, ऐसे हर अभियान, देश के युवाओं को अपनी ऊर्जा सही दिशा में लगाने के लिए प्रेरित करते हैं। फिट इंडिया मूवमेंट हो....खेलो इंडिया प्रतियोगिता हो....ये प्रयास, ये अभियान, देश के युवा को मोटीवेट करते हैं। और एक मोटिवेटेड युवा, नशे की तरफ नहीं मुड़ सकता। देश की युवा शक्ति का पूरा लाभ उठाने के लिए सरकार ने भी मेरा युवा भारत नाम से बहुत बड़ा संगठन बनाया है। सिर्फ 3 महीने में ही इस संगठन से करीब-करीब डेढ़ करोड़ युवा जुड़ चुके हैं। इससे विकसित भारत का सपना साकार करने में युवा शक्ति का सही उपयोग हो पाएगा।

साथियों,

देश को नशे की इस समस्या से मुक्ति दिलाने में बहुत बड़ी भूमिका...परिवार की भी है, हमारे पारिवारिक मूल्यों की भी है। हम नशा मुक्ति को टुकड़ों में नहीं देख सकते। जब एक संस्था के तौर पर परिवार कमजोर पड़ता है, जब परिवार के मूल्यों में गिरावट आती है, तो इसका प्रभाव हर तरफ नजर आता है। जब परिवार की सामूहिक भावना में कमी आती है... जब परिवार के लोग कई-कई दिनों तक एक दूसरे के साथ मिलते नहीं हैं, साथ बैठते नहीं हैं...जब वो अपना सुख-दुख नहीं बांटते... तो इस तरह के खतरे और बढ़ जाते हैं। परिवार का हर सदस्य अपने-अपने मोबाइल में ही जुटा रहेगा तो फिर उसकी अपनी दुनिया बहुत छोटी होती चली जाएगी।इसलिए देश को नशामुक्त बनाने के लिए एक संस्था के तौर पर परिवार का मजबूत होना, उतना ही आवश्यक है।

साथियों,

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह के समय मैंने कहा था कि अब भारत की एक हजार वर्षों की नई यात्रा शुरू हो रही है। आज आजादी के अमृतकाल में हम उस नए युग की आहट देख रहे हैं। मुझे विश्वास है कि, व्यक्ति निर्माण से राष्ट्र निर्माण के इस महाअभियान में हम जरूर सफल होंगे। इसी संकल्प के साथ, एक बार फिर गायत्री परिवार को बहुत-बहुत शुभकामनाएं।

आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद!