Congress has grown so far from National interest, for so engrossed in the welfare of their family that it does not like the country's achievements: PM
Congress' lies and rumours over EVMs are nothing but an insult of the country's democracy. It must tender an apology for the same: PM Modi in Belagavi
Congress has insulted our Rajas and Maharajas, but when it comes to Nizams and Nawabs, their mouths are sealed: PM Modi on Congress leader's remark

भारत माता की, भारत माता की।

बेलगावी मत्तू चिक्कोडी या सोदारा सोदारियारिगे नन्ना नमस्कारगुड़ु! ताई भुवनेश्वरी और मां सौदत्ती येलम्मा को मैं प्रणाम करता हूं।

भाइयों और बहनों,

सबसे पहले तो मैं कर्नाटका के सभी वोटर्स का अभिनंदन करता हूं। कर्नाटका में मैं जहां-जहां गया हूं मुझे एक स्वर सुनाई देता है, -फिर एक बार...मोदी सरकार! फिर एक बार...मोदी सरकार! फिर एक बार...मोदी सरकार!

साथियों,

हम सभी छत्रपति शिवाजी महाराज को मानने वाले लोग हैं, भगवान बस्वेश्वरा का अनुसरण करने वाले लोग हैं। छत्रपति शिवाजी महाराज ने शक्तिशाली भारत बनाने के लिए काम किया। भगवान बस्वेश्वरा ने अनुभव मंडपम् से डेमोक्रेसी का रास्ता बताया। 10 साल में भारत, शक्तिशाली हुआ, आप मुझे बताइए, भारत का शक्तिशाली होना, आप गर्व होता है। आपको गर्व हुआ? भारत की पहचान, मदर ऑफ डेमोक्रेसी के रूप में होने लगी है, आपको गर्व हुआ या नहीं? ये गर्व होने वाली बात है कि नहीं। भारत से 25 करोड़ लोग गरीबी से बाहर निकले। जब 25 करो़ड़ लोग जब 10 में गरीबी से निकलता है तब आपका आत्मविश्वास बढ़ा की नहीं? इसलिए ही देश कह रहा है- गरीबों के कल्याण के लिए फिर एक बार... मोदी सरकार...!

साथियों,

भारत जब आगे बढ़ता है, भारत जब मजबूत होता है, तो हर भारतीय खुश होता है। लेकिन कांग्रेस देशहित से इतना दूर हो चुकी है, परिवार हित में इतना उलझ गई है कि उसे देश की कोई उपलब्धियां अच्छी नहीं लगती। अब आपको याद होगा, कांग्रेस ने HAL को लेकर झूठ फैलाया। कांग्रेस ने कोरोना काल में मेड इन इंडिया कोरोना वैक्सीन का विरोध किया, यहां तक कह दिया ये भाजपा की वैक्सीन है। भारत की हर सफलता पर उन्हें शर्म आने लगी है। और जैसे उन्हें भारत के वैक्सीन पर भरोसा नहीं, लोगों को उलझन में डालने की कोशिश की, उन्होंने EVM के बहाने, पूरी दुनिया में भारत की डेमोक्रेसी को बदनाम करने की कोशिश की। दो दिन पहले ही सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस वालों को और उनकी पूरी टोली करारा तमाचा मारा है। सवाल ये है कि आखिर कांग्रेस देश को नुकसान होने वाली बातों पर झूठ फैलाकर, लोगों में विश्वास तोड़ने का काम किसके इशारे पर काम कर रही है। कांग्रेस के नेताओं ने EVM पर जो झूठ बोला है। देश का हर नागरिक कहता है इतने महत्वपूर्ण विषय पर झूठ बोलकर आपने देश के लोकतंत्र बर्बाद करने का षडयंत्र किया है। आपको देश से माफी मांगनी चाहिए।

साथियों,

पिछले 10 वर्षो में BJP-NDA सरकार ने देश के नागरिकों की Ease of Living के लिए बहुत काम किया है। इसका एक बड़ा उदाहरण है- भारतीय न्याय संहिता। ये कांग्रेस वाले मानसिक रूप से अंग्रेजों की गुलामी में ही जी रहे थे, वो इससे बाहर ही नहीं आ रहे थे। वो तिरंगा झंडा फहराकर आजादी की तो बात करते थे। लेकिन हर कानून व्यवस्था में मन से अंग्रेजी को जी रहे थे। गुलामी के कालखंड से प्रेरित कितना पुराना, आजादी से पहले का कानून क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम का हटना अब BJP सरकार ने उसे हटा दिया। भारतीय न्याय संहिता में दंड को नहीं, बल्कि नागरिकों को न्याय मिलने को प्राथमिकता दी गई है। इसमें आतंकवाद से जुड़े कानूनों को भी और सख्त किया गया है, दूसरों पर अत्याचार से जुड़े कानूनों को कड़ा बनाया गया है। भारतीय साक्ष्य अधिनियम में इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस को लेकर नए प्रावधान किए गए हैं। एक जुलाई से लागू होने के बाद, ये संहिता देश के हर नागरिक को बहुत मदद करने वाली है।

लेकिन साथियों,

जबसे कर्नाटका में कांग्रेस सरकार आई है, तबसे पूरे स्टेट में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति बहुत खराब है। खराब है कि नहीं। हालत बद से बदतर हो रहा है। यहां बेलगावी में एक आदिवासी बहन के साथ जो कुछ हुआ, चिक्कोडी में जैन मुनि के साथ जो हुआ, वो शर्मसार करने वाला है कि नहीं है, पीड़ा देने वाला है कि नहीं, कर्नाटक की प्रतिष्ठा को धूल में मिलाने वाला है कि नहीं। हुबली में हमारी एक बेटी के साथ जो कॉलेज कैंपस में हुआ उसने तो पूरे देश में भूचाल ला दिया। उस बेटी का परिवार एक्शन की मांग करता रहा, लेकिन कांग्रेस की सरकार तुष्टिकरण को प्राथमिकता देती है। उनके लिए नेहा जैसी बेटियों की जिंदगी कीमत नहीं है, उनको तो अपने वोट बैंक की चिंता है। बैंगलुरु के कैफे में बम धमाका हुआ, तब भी कांग्रेस सरकार ने शुरुआत में इसे लेकर गंभीरता नहीं दिखाई। यहां तक कह दिया ये तो गैस का सिलेंडर फटा था। देश की जनता की आंख में क्यों धूल झोंक रहे हो कांग्रेस के लोग। अगर तुमसे नहीं बनता है तो छोड़करके घर चले जाओ। ये वही कांग्रेस है जिसने वोट के लिए PFI , जो आतंकवाद को पनाह देने वाला देश विरोधी संगठन है, जिस पर मोदी सरकार ने प्रतिबंध लगा दिया है। ऐसे PFI संगठन का चुनाव में मदद लेने के लिए वायनाड में एक सीट जीतने के लिए आप उसको सरेंडर कर रहे हो। उनके कारनामों का बचाव कर रहे हो। लेकिन भाजपा सरकार ने देश और समाज विरोधी PFI को बैन किया है। उसे बड़े-बड़े खैरख्वाह जेलों में सड़ रहे हैं।

साथियों,

कांग्रेस ने हमारे इतिहास को, हमारी आज़ादी की लड़ाई को भी तुष्टिकरण की नज़र से लिखवाया है। और आज भी ये कांग्रेस के शहजादे उसी पाप को आगे बढ़ा रहे हैं। आपने कांग्रेस के शहज़ादे का एक ताजा बयान ज़रूर सुना होगा। शहज़ादे का कहना है कि भारत के राजा-महाराजा अत्याचारी थे, गरीबों की ज़मीन छीन लेते थे। जब मर्जी हो उनका सब हड़प लेते थे। कांग्रेस के शहजादे ने छत्रपत्ति शिवाजी महाराज, कित्तूर की रानी चिन्नमा जैसे व्यक्तित्वों का अपमान किया है। इनका सुशासन, इनकी देशभक्ति आज भी हम सभी को प्रेरित करती है। शहजादे को पता है क्या मैसूर राजघराने का योगदान उनको याद नहीं रहा। मैसूर राजघराने को आज पूरा देश गर्व से याद करता है।

साथियों,

कांग्रेस के शहजादे का ये बयान, सोच-समझकर, वोटबैंक की राजनीति के लिए, तुष्टिकरण के लिए दिया गया बयान है। याद रखिए, शहज़ादे ने राजा-महाराजा को तो बुरा-भला कह दिया, उनकी तो आलोचना कर दी। लेकिन भारत के इतिहास में जो अत्याचार, नवाबों-निजामों, बादशाहों और सुल्तानों ने किए हैं, उसकी बात पर तो शहजादे के मुंह पर ताला लग जाता है, बोलती बंद हो जाती है और राजा-महाराजा को गालियां दे रहे हो, उनको अपमानित करते हो। कांग्रेस को औरंगज़ेब के अत्याचार याद नहीं आते जिसने हमारे सैकड़ों मंदिर को तोड़ा, अपवित्र किया। कांग्रेस तो औरंगजेब का गुणगान करने वाली पार्टियों के साथ खुशी से गठबंधन करती है। इनको वो लोग याद नहीं आते जिन्होंने देशभर में हमारे तीर्थों को तहस-नहस किया, लूटपाट की, हत्याएं कीं, गौहत्याएं की। इनको वो नवाब याद नहीं आए जिन्होंने भारत के विभाजन में बहुत बड़ी भूमिका निभाई। कोई कल्पना कर सकता है कि क्या बनारस के राजा के बिना बनारस हिंदू विश्वविद्यालय की स्थापना संभव हो सकती थी? क्या महारानी अहिल्याबाई होलकर ने मंदिरों का पुनर्निर्माण करा कर हमारे आस्था स्थलों की रक्षा नहीं की थी? मैं गुजरात से आता हूं, मेरा गांव गायकवाड़ स्टेट में पड़ता है, ये बड़ौदा महाराज थे जिन्होंने बाबा साहेब अंबेडकर की प्रतिभा को पहचाना, उनकी शक्ति को पहचाना और उन्हें पढ़ने के लिए विदेश भेजा। ये काम गायकवाड़ महाराजा ने किया था। ये कांग्रेस के शहजादे को इन राजा-महाराजा का योगदान याद नहीं आता है। लेकिन वोटबैंक की राजनीति के लिए ये राजा-महाराजा के खिलाफ बोलने की हिम्मत करते हैं, लेकिन नवाबों के खिलाफ, बादशाहों के खिलाफ, सुल्तानों के खिलाफ एक शब्द बोलने की उनमें ताकत नहीं है। कांग्रेस की तुष्टिकरण की मानसिकता अब देश के सामने खुलकर सामने आ रही है। और यही मानसिकता कांग्रेस के मेनिफेस्टो में भी झलकती है।

साथियों,

आज पूरा देश समझ गया है कि जहां कांग्रेस आई...वहां से विकास का पलायन शुरू हो जाता है। कर्नाटका में भी यही हो रहा है। जब बीजेपी की सरकार यहां थी, तो भारत में FDI का बहुत बड़ा हिस्सा कर्नाटका में आता था। लेकिन अब यहां स्थितियां बदल रही हैं। जब से कांग्रेस सरकार यहां आई है, तबसे रोड के, irrigation के काम बंद पड़ गए हैं। यहां बिजली के कट लगने से हर कोई परेशान है। उद्योग परेशान हैं, लोग परेशान हैं। इसलिए ही लोग कहते हैं- जहां कांग्रेस आई, वहां बर्बादी लाई।

साथियों,

हमारा देश, छोटे किसानों का देश है। कृषि क्षेत्र का कायाकल्प करने के लिए ये बहुत जरूरी है कि हम छोटे किसानों की संगठन शक्ति को एकजुट करें। इसलिए ही BJP-NDA सरकार, FPOs, सेल्फ हेल्प ग्रुप और cooperatives तीनों पर बल दे रहा है। BJP सरकार में देश में 8 हजार नए FPOs बने हैं। ये FPOs Input Cost कम करने से लेकर किसानों को मार्केट रेट दिलाने तक में बड़ी भूमिका निभा रहे हैं। पिछले 10 साल में 10 करोड़ महिलाएं सेल्फ हेल्प ग्रुप में शामिल हुई हैं। इन्हें केंद्र सरकार ने लाखों करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता दी है। केंद्र सरकार पैक्स को मजबूत करने के लिए भी लगातार काम कर रही है। सरकार 60 हजार से ज्यादा पैक्स के कंप्यूटर-राइजेशन का काम भी पूरा करने में जुटी है। NDA सरकार, sugar co-operatives को भी बढ़ावा दे रही है। BJP सरकार ने पेट्रोल में इथेनॉल ब्लेडिंग को बढ़ाकर गन्ना किसानों की बहुत बड़ी मुश्किल आसान की है। इथेनॉल ब्लेंडिंग की वजह से गन्ना किसानों को Seventy Thousand Crore Rupees से ज्यादा मिले हैं। चीनी मिलों पर बकाया होने की उनकी समस्या भी अब दूर हो रही है। लेकिन साथियों, यहां कांग्रेस ने Farmers के साथ जो विश्वासघात किया है, वो तो बहुत बड़ा पाप है। यहां जब बीजेपी की सरकार थी, तो farmers के बैंक अकाउंट में ten thousand रुपए जमा होते थे। कांग्रेस की सरकार ने four thousand रुपए देना बंद कर दिया। अब वोट मिल गया, अब किसान जाने, किसान का काम जाने, उनको परवाह ही नहीं है। अब मोदी जो छह हजार रुपया भेजता है वही किसान को जाता है। यहां के पैसे उन्होंने काट लिए। और पीएम किसान सम्मान निधि के पैसे आपको ऐसे ही मिलते रहेंगे। ये कांग्रेस वालों ने जो पाप किया है उसकी सजा आप इस चुनाव में दीजिए। और मोदी आने वर्षों में भी आपको गारंटी देता है जो दिल्ली से भेजा जाता है वो चालू रहेगा।

साथियों,

आपका ये सेवक, गांव, किसान, नौजवान, नारीशक्ति को सशक्त करके आपकी संपत्ति बढ़ाने में जुटा है। लेकिन कांग्रेस क्या कर रही है? कांग्रेस के शहज़ादे आजकल घोषणा कर रहे हैं और भाई-बहन दोनों कर रहे हैं कि वो अगर चुनाव जीत गए तो पूरे देश का एक्स-रे करेंगे। आपकी प्रॉपर्टी का एक्स-रे किया जाएगा। बैंक के लॉकर का एक्स-रे किया जाएगा। आपकी जमीन कितनी है एक्स-रे होगा। आपके पास गाड़ी कितनी है, स्कूटर कितनी है, साइकिल कितनी है इसका एक्स-रे होगा। महिलाओं के पास स्त्रीधन कितना है, गहने कितने हैं, सोना कितना है, मंगलसूत्र कहां पड़ा है, इसका एक्स-रे किया जाएगा। यानि ये लोग हर घर में छापा मारकर आपकी संपत्ति पर कब्जा करना चाहते हैं। आपकी संपत्ति पर कब्जा करने के बाद कांग्रेस इसे अपने पसंदीदा वोटबैंक को देना चाहती है। क्या आप अपनी गाढ़ी कमाई की संपत्ति को लूटने देंगे। आपने बचाया हुआ सोना-चांदी लूटने देंगे। क्या आप मंगलसूत्र पर किसी को हाथ लगाने देंगे। कोई पंजा आपकी संपत्ति लूट सकता है क्या। मैं कांग्रेस को एलर्ट करना चाहता हूं, ये मंसूबे छोड़ दीजिए। जब तक मोदी जिंदा है, ये आपके मंसूबे मैं पार नहीं होने दूंगा।

साथियों,

इस चुनाव में कांग्रेस ने इनहेरिटेंस टैक्स का नया फॉर्मूला भी निकाला है। ये बड़ा भयंकर है, आपकी नींद उड़ जाएगा। उन्होंने क्या कहा है कि दिल्ली में उनकी सरकार बनेगी तो ऐसा कानून लाएंगे कि आप जो अपने बच्चों के लिए बचाते हैं, आपने मेहनत करके कमाया, खर्चा नहीं किया, मौज नहीं किया, थोड़ा-थोड़ा पैसा जमा किया। और मन में रहता है, मरने के बाद बच्चों को कुछ देकर के जाऊं, छोटा सा घर देकर के जाऊं। कुछ पैसे देकर जाऊं ताकि बच्चों को मेरे मरने के बाद किसी के पास जाना न पड़े। हर मां-बाप ऐसा चाहता है कि नहीं चाहता है। हर मां-बाप अपने बच्चों को कुछ देना चाहता है कि नहीं चाहता। और इसीलिए हर मां-बाप कुछ बचत करके रखता है कि नहीं रखता है। अब ये कांग्रेस वाले कहते हैं, आपने जो बचाया है, अब अपने बच्चों को नहीं दे सकते। आपने जो बचाया है उस पर 55 परसेंट टैक्स लगाकर सरकार वो छीन लेगी। मतलब दो मकान है तो एक कांग्रेस की सरकार की जेब में और दूसरे से अपने दो बच्चों को बांट के दो। अपनी वोट बैंक को बांटने के लिए ये आपकी संपत्ति पर डाका डालना चाहते हैं। क्योंकि उन्होंने घोषणा की है कि इस देश की संपत्ति पर पहला अधिकार किसका है, उनके वोट बैंक है ये डॉक्टर मनमोहन सिंह जी भी कह चुके हैं। मैं कर्नाटका के सभी लोगों से पूछना चाहता हूं, मैं आपके माध्यम से देशवासियों से पूछ रहा हूं, क्या आप ऐसा होने देंगे। ऐसा कानून लाने वाले को आने देंगे। ऐसी सोच वाली कांग्रेस को सजा देंगे। इस चुनाव में हर बूथ पर उनको चुन-चुन कर साफ करेंगे।

भाइयों और बहनों,

बीजेपी, कित्तुर रानी चिन्नमा से प्रेरणा लेती है। इसलिए NDA सरकार ने सेना के हर मोर्चे को महिलाओं के लिए खोल दिए हैं। बेलगावी में तो संगोली रायन्ना सैनिक स्कूल भी बना है। हमारी बेटियां भी अब सैनिक स्कूलों में पढ़ पा रही हैं। बीजेपी सरकार की नीतियों की वजह से Central police forces में महिलाओं की संख्या अब दोगुनी से भी अधिक हो चुकी है।

साथियों,

आपका सपना ही मोदी का संकल्प है। और आपका सपना साकार करने के लिए मेरा पल-पल आपके नाम। मेरा पल-पल देश के नाम। ट्वेंटी फोर बाई सेवन फॉर 2047 ये मोदी का वादा है। इसलिए मेरे बहनों-भाइयों, इस चुनाव में दिल्ली में मुझे कर्नाटका से मजबूत समर्थन की जरूरत है। मैं आज आपके पास कुछ मांगने के लिए आया हूं। मैं आपसे आशीर्वाद मांगने आया हूं। इसलिए, इस चुनाव में बेलगावी से जगदीश शेट्टर जी को और चिक्कोडी से अन्ना साहेब शंकर जोले जी को ज्यादा से ज्यादा वोट दीजिए। और आप जब इनके लिए कमल के निशान पर बटन दबाएंगे न, तो वोट सीधा-सीधा मोदी के खाते में जाएगा। तो मोदी को मजबूत बनाएंगे? मोदी को मजबूत बनाने के लिए घर-घर जाएंगे। मोदी को मजबूत करने के लिए ज्यादा से ज्यादा मतदान करवाएंगे। सुबह 10 बजे के पहले ज्यादा से ज्यादा मतदान करेंगे। पहले मतदान फिर जलपान। आपसे मेरा आग्रह है हमें सारे पुराने रिकॉर्ड तोड़ने हैं, और हर पोलिंग बूथ जीतना है, हर पोलिंग बूथ जीतोगे। अच्छा मेरा एक पर्सनल काम है, करेंगे। आप घर-घर जाइएगा, और कहिएगा कि मोदी जी आए थे और मोदी जी ने आपको नमस्कार कहा है। मेरा नमस्कार पहुंचा देंगे। हर घर मेरा नमस्कार पहुंचाएंगे न तो हर परिवार मुझे आशीर्वाद देगा और हर परिवार का आशीर्वाद मेरे लिए एक नई ऊर्जा बन जाता है और जब नई ऊर्जा बन जाता है तो मैं पूरी शक्ति के साथ आपके सपनों को साकार करने के लिए अपनी जिंदगी खपा देता हूं और इसीलिए मुझे आपके आशीर्वाद चाहिए।
मेरे साथ बोलिए, भारत माता की। भारत माता की। भारत माता की।
बहुत-बहुत धन्यवाद।

Explore More
77 व्या स्वातंत्र्य दिनानिमित्त लाल किल्ल्याच्या तटबंदीवरून पंतप्रधान नरेंद्र मोदी यांनी केलेले भाषण

लोकप्रिय भाषण

77 व्या स्वातंत्र्य दिनानिमित्त लाल किल्ल्याच्या तटबंदीवरून पंतप्रधान नरेंद्र मोदी यांनी केलेले भाषण
Narendra Modi’s Digital Century Gives Democratic Hope From India Amidst Global Turmoil

Media Coverage

Narendra Modi’s Digital Century Gives Democratic Hope From India Amidst Global Turmoil
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM greets people on occasion of Ashadhi Ekadashi
July 17, 2024

The Prime Minister, Shri Narendra Modi has greeted the people on the occasion of Ashadhi Ekadashi.

The Prime Minister posted on X;

“Greetings on Ashadhi Ekadashi! May the blessings of Bhagwan Vitthal always remain upon us and inspire us to build a society filled with joy and prosperity. May this occasion also inspire devotion, humility and compassion in us all. May it also motivate us to serve the poorest of the poor with diligence.”

“आषाढी एकादशीच्या हार्दिक शुभेच्छा! भगवान विठ्ठलाचे आशीर्वाद नेहमीच आपल्यासोबत असू देत आणि आपल्या सर्वांना आनंद आणि समृद्धीने परिपूर्ण समाजाची उभारणी करण्याची प्रेरणा मिळू दे. या उत्सवामुळे आपल्यामध्ये भक्तीभाव, नम्रता आणि करुणा वाढीला लागू दे. अतिशय प्रामाणिकपणे गरिबातील गरिबाची सेवा करण्यासाठी देखील आपल्याला प्रेरणा मिळू दे.”