Just like homes, a country cannot run without women: PM Modi in Varanasi, UP
INDI alliance's mentality has always been anti-women: PM Modi in Varanasi, UP
For the first time, a government at center cared about dignity of women: PM Modi in Varanasi, UP
Congress comes, inflation rises: PM Modi in Varanasi, UP

नमः पार्वती पतये....हर हर महादेव!!!!

काशी में राजपाट बाबा विश्वनाथ का है लेकिन, व्यवस्था माता अन्नपूर्णा ही चलातीं हैं।

ई पहली बार ह जब हम काशी क नामांकन अपने माई के उपस्थिति के बिना करले हई। मां गंगा ही अब हमार माई हइन। मैंने इसीलिए कहा था, कि मां गंगा ने पहले मुझे काशी बुलाया था, अब मां गंगा ने मुझे गोद ले लिया है। और आज इस आयोजन में इतनी सारी मातृशक्ति की मौजूदगी मुझे अभिभूत कर रही है। आप सभी समय निकालकर यहां आईं, मैं आपका बहुत-बहुत आभारी हूं।

साथियों,

मैं पार्टी के प्रचार में कितना भी व्यस्त होता हूं, लेकिन बनारस को लेकर हमेशा बहुत निश्चिंत रहता हूं। मुझे कोई चिंता ही नहीं रहती, क्योंकि सब कुछ आप ही लोग संभालें रहते हैं। इसलिए सबसे पहले मैं यही कहूंगा कि इस गर्मी में अपने स्वास्थ्य का ध्यान जरूर रखिए। आपको ज्यादा से ज्यादा लोगों के घरों में जाना होता है, गांवों में जाना होता है, बूथ पर जाना होता है औऱ इसलिए मेरा एक सुझाव है कि कितना ही काम करिए लेकिन पानी खूब पीजिए साथ में पानी हमेशा रखिए और कभी भी बिना खाए घर से निकलें नहीं। मेरा लंबे समय का अनुभव है इसलिए मेरी सलाह आपको जरूर काम आएगी।

माताओं बहनों,

बीते दस साल में पहली बार सरकार की नीतियों से लेकर निर्णयों तक, हमारी माताएं, बहनें, महिलाएं केंद्र में आई हैं। इस पर उतनी चर्चा भले ही न हुई हो लेकिन, ये भारत की सक्सेस स्टोरी का एक बहुत बड़ा फ़ैक्टर है। आप बताइये, जब घर आपके बिना नहीं चलता तो देश आपके बिना कैसे चल जाता? ये बात 60 वर्षों तक सरकारों को समझ ही नहीं आई। कांग्रेस-सपा की सरकारों ने महिलाओं के साथ क्या किया? केवल उपेक्षा और असुरक्षा!

साथियों,

इंडी गठबंधन की मानसिकता ही महिला विरोधी है। इंडी गठबंधन वाले महिलाओं को आरक्षण का विरोध करते हैं। जहां इनकी सरकार आती है, महिलाओं का जीना दूभर हो जाता है। बनारस के लोग तो यूपी-बिहार दोनों में रहे, जंगलराज से परिचित है। बहन बेटियों का घर से निकलना मुश्किल था। बेटियों को सुरक्षा के डर से पढ़ाई छोड़कर घर पर बैठना पड़ता था। और सपा वाले कहते थे औऱ बेशर्मी से कहते थे, लड़के हैं लड़कों से तो गलती हो जाती है। आज सपा के लड़के, जरा गलती करके दिखाएं! योगी जी की सरकार उनका वो हाल करेगी, जो उन्होंने सोचा भी नहीं होगा।

माताओं बहनों, पहली बार केंद्र में ऐसी सरकार आई है, जिसने महिलाओं के सम्मान की चिंता की, उन्हें इज्जत-घर दिए! इसके लिए मजाक उड़ाते थे कि मोदी टॉयलेट, टॉयलेट करता रहता है, टॉयलेट बनाने में लगा है। 11 करोड़ टॉयलेट बनाए हैं, करोड़ों माताओं का मैंने इज्जत घर बनाया है। लेकिन मुझे पता था, मेरी बहन-बेटियों के लिए ये कितनी बड़ी जरूरत थी। मोदी ने गरीब से गरीब महिलाओं के लिए बैंक खाते खुलवाए औऱ वो भी एक रुपये के खर्च के बिना ताकि उन्हें जो भी पैसा मिले वो सुरक्षित रह सके। मोदी ने करोड़ों पीएम आवास, चार करोड़ से ज्यादा घर बनाए, लेकिन उसकी रजिस्ट्री महिलाओं के नाम पर करवायी ताकि करोड़ों माताएं घर की मालकिन बनी हैं। अब महिलाऐं भी संपत्ति की मालकिन बन रही हैं। ये बस योजनाएं नहीं थीं, इससे नारी शक्ति को नया आत्मविश्वास मिला। यही मेरा मिशन था, यही मेरी सोच थी।

माताओं-बहनों,

कांग्रेस की सरकारों की पहचान एक गाने से खूब होती है, और वो गाना बहुत पॉपुलर रहा है, महंगाई डायन खाए जात है। कांग्रेस आई, महंगाई लाई। कांग्रेस सरकार रही होती तो आज आपकी रसोई का बजट दो गुना-तीन गुना बढ़ चुका होता। लेकिन ये भाजपा है, ये गरीब का बेटा मोदी है, मोदी लगातार प्रयास करता है कि आपके खर्चे कम हों, आपकी बचत ज्यादा बढ़े। मोदी ने मुफ्त राशन की योजना चलाई हुई है। ताकि गरीब के घर का चूल्हा जलता रहे। इससे हर परिवार के साल में करीब-करीब 12 हजार रुपए बच रहे हैं। आपको जो उज्ज्वला का सिलेंडर मिलता है, उसमें भी प्रति सिलेंडर आपको 300 रुपए से ज्यादा की बचत हो रही है। बनारस में करीब 40 हजार घरों में अब पाइप से रसोई गैस की सप्लाई होती है। बहुत जल्द ही 80 हजार से ज्यादा घरों को भी पाइप से गैस मिलने वाली है। इससे भी आपकी बचत बढ़ेगी।

माताओं-बहनों,

पिछले 10 साल में बनारस के 3 लाख से ज्यादा लोगों का, ये आंकड़ा जो कोई सुनेगा तो उनको आश्चर्य होगा, कि एक सांसद जब समर्पित भाव से काम करता है तो कितना बड़ा काम कर सकता है। आपको जानकर खुशी होगी कि एक सांसद के नाते मैं एक काम के पीछे पड़ा, लगातार करता रहा, हमारे काशी में तीन लाख से ज्यादा लोगों का मोतियाबिंद का ऑपरेशन हुआ है। ये छोटा काम नही है। औऱ हमें पता है, मोतियाबिंद के हर ऑपरेशन में कम से कम 10 हजार का खर्चा होता है। यानि दो आंख का बीस हजार। मोदी ने यहां 3 लाख परिवारों के 10-10 हजार रुपए बचाने का पवित्र काम किया है। यहां जनऔषधि केंद्रों पर 80 परसेंट डिस्काउंट, 80 परसेंट छूट, के साथ सस्ती दवा मिलती है। सौ रूपए की दवाई दस रूपया, बीस रूपया, पन्द्रह रूपया में मिल जाती है। सस्ती दवा से भी बनारस के लोगों का करोड़ों रुपया खर्च होने से बचा है। यहां बनारस में 90 हजार से ज्यादा गर्भवती महिलाओं को पीएम मातृवंदना योजना का भी लाभ मिला है। इसके तहत हर गर्भवती महिला को पोषण के लिए 6 हजार रुपए सीधे, मोदी सरकार, उनके बैंक में खाते में जमा कराती है।

माताओं-बहनों,

आयुष्मान भारत योजना से बनारस के सवा लाख से ज्यादा लोगों ने मुफ्त इलाज कराया है। अब हम जानते हैं हमारे परिवारों में कितनी ही बीमारी क्यों ना हो, कितनी ही पीड़ा क्यों ना होती हो, लेकिन माताएं बहनें काम करती रहती हैं, घर में किसी को बताती नहीं हैं। दर्द सहती हैं क्योंकि उनके मन में रहता हैकि बीमारी के कारण अस्पताल जाएगें, बहुत बड़ा खर्चा हो जाएगा औऱ अपने बच्चों के सिर पर कर्ज लग जाएगा। औऱ इसलिए माताएं बहनें सहन करती हैं लेकिन बच्चों पर बोझ होने नहीं देती हैं। ये दर्द मैं जानता था, औऱ जब आपका बेटा दिल्ली में बैठा तो मैंने तय किया, अब मुझे किसी मां को यह पीड़ा सहन नहीं करनी पड़ेगी, अस्पताल का पूरा खर्चा, ये आपका बेटा मोदी उठाएगा। औऱ बनारस में जिन लोगों ने इस योजना का लाभ लिया है अब तक करीब करीब उनका 200 करोड़ रुपया, जो अस्पताल में खर्च होने वाला था वो बच गया है, क्योंकि वो खर्चा मोदी ने किया है। और अब तो मोदी ने भी तय किया है कि हमारे देश में, हमारे काशी में, किसी भी परिवार में 70 साल की ऊपर के जो भी माता -पिता, दादा-दादी, चाचा-चाची, नाना-नानी, जो भी होंगे अब उनके खर्चे की जिम्मेवारी भी, अस्पताल में इलाज की जिम्मेवारी, 5 लाख रूपए तक मुफ्त इलाज ये आपका बेटा मोदी करेगा। आप अपना आय़ुष्मान कार्ड बनवाइए, बाकी सब मोदी पर छोड़ दीजिए।

माताओं-बहनों,

मोदी ने कुछ महीने पहले ही पीएम सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना शुरू की है। यहां बनारस में 2 हजार से ज्यादा घरों में सोलर प्लांट लग चुका है। इससे भी लोगों के बिजली बिल में महीने के दो से ढाई हजार रुपए बच रहे हैं, मतलब साल का 25 से 30 हजार रूपया बच रहा है। 4 जून के बाद, आपके आशीर्वाद से जब नई सरकार बनेगी तो इसका और विस्तार होगा औऱ हर परिवार को 75 हजार रूपया ये सोलर पैनल के लिए दिया जाएगा औऱ आपका बिजली का बिल जीरो हो जाएगा।

माताओं-बहनों,

इंडी गठबंधन के नेता, खुलेआम कहते हैं कि हिन्दूओं में जो शक्ति है ना, वो शक्ति का न मैं विनाश करके रहूंगा। शक्ति के विनाश की बात करते हैं। लेकिन 4 जून के बाद मोदी सरकार, वे तो शक्ति का विनाश चाहते हैं, मोदी आपकी शक्ति को महाशक्ति बना कर के रहेगा। मैं लगातार आपके लिए काम कर रहा हूं। आपके आशीर्वाद से लगातार नई उर्जा मिलती रहती है, ना थकता हूं, ना रूकता हूं, यही सपना ले कर चलता हूं कि मेरे 140 करोड़ देशवासियों के जीवन की मुसीबतें, जितनी कम कर सकूं मैं निरंतर करता रहूं। भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में 3 करोड़ नए घर बनाने की बात कही है। मेरा एक काम करोगे आप लोग? जरा हाथ ऊपर करके आप बताइए मेरा एक काम करोगे? सब के सब हाथ ऊपर करके जरा जोर से बताइए, मेरा काम करोगे? आपकी आवाज दूर तक जानी चाहिए, मेरा काम करोगे? अभी आप लोग, लोगों के घरों में संपर्क के लिए जाते होंगे, मोहल्ले में जाते होंगे, छोटे छोटे इलाके में जाते होंगे, चाल में जाते होंगे, बस्ती में जाते होंगे, कहीं पर भी कोई परिवार झोपड़ी में रहता है, कोई परिवार यदि कच्चे घर में रहता है, मेरी तरफ से उनको कह देना 4 जून के बाद उनको भी पक्का घर मिल जाएगा। ये मोदी की गारंटी है। औऱ इसलिए मैं तीन करोड़ नए घर बनाने की योजना ले करके चल रहा हूं।

माताऐं-बहनें,

सेल्फ हेल्प ग्रुप की महिलाओं को हम ड्रोन पायलट बना रहे हैं औऱ मैं ऐसी महिलाओं को मिला, जिन्होंने कहा साहब हमको तो साइकिल भी नहीं आती थी अब ड्रोन पायलट बन गए, पूरा गांव हमको पायलट कह कर के बुला रहा है। और ये ड्रोन पायलट बहनें, हमारे देश में कृषि क्रांति का नेतृत्व करने वाली हैं। पहले मुद्रा योजना में 10 लाख रुपये का लोन मिलता था, और मुझे खुशी है कि मुद्रा योजना का सार्वधिक लाभ हमारी बहनों ने उठाया है। पहले दस लाख देते थे अब 20 लाख रुपये मिलेगा। आपके परिवार की चिंता करने वाले मोदी ने मुफ्त राशन योजना को भी पांच साल के लिए बढ़ा दिया है।

माताओं-बहनों,

अगले 10 दिन हमें काशी के घर-घर जाना है। यहां जो हर तरफ विकास कार्य हुए है, वो अभूतपूर्व हैं। काशी के घर-घर में हमें इन विकास कार्यों की बात पहुंचानी है। इनसे यहां रोजगार के भी नए मौके बने हैं। पिछले ढाई साल में 16 करोड़ से अधिक श्रद्धालु श्री काशी विश्वनाथ धाम में दर्शन करने आए हैं। 16 करोड़ आने से हर प्रकार का कारोबार बढ़ता है। आज पूरे बनारस में दुकानों का, जमीनों का, होटलों का, होम स्टे का रेट बढ़ता चला जा रहा है, क्योंकि इतनी बड़ी संख्या में लोग यहां आ रहे हैं। इससे सबसे ज्यादा फायदा बनारस के ही लोगों को हो रहा है। फूल बेचने वाला भी कमा रहा है, खिलौने बेचने वाला कमा रहा है। साड़ी बेचने वाला कमा रहा है। नाव वाला कमा रहा है। आटो रिक्शा वाला कमा रहा है। हर एक को, काशी में आपने देखा है आधुनिक बनास डेयरी खुल चुकी है। वो भी, हमारे गांव के लोगों के लिए, दूध उत्पादकों के लिए बहुत बड़ा वरदान साबित हुई है। इससे अकेले बनारस के ही 14 हजार से ज्यादा पशुपालक जुड़े हैं। बनास डेयरी आने के बाद पशुपालकों की आमदनी सालाना सवा लाख रुपए से ज्यादा बढ़ी है।

माताओं बहनों,

बनारस में नारीशक्ति के लिए इतना काम हुआ है कि उसे बताते-बताते देर रात हो जाएगी। आपने इतना समय निकाला मैं आप सभी माताओं-बहनों का आभारी हूं। लेकिन याद रखिएगा, हमें हर बूथ जीतना है, जीतेंगे? जीतेंगे? हमें हर बूथ पर कमल खिलाना है, खिलाओगे? औऱ ज्यादा से ज्यादा मतदान। मतदान के सारे रिकार्ड तोड़ने हैं। मैं एक आइडिया बताऊं आपको, मतदान ज्यादा से ज्यादा कैसे करोगे? हमारी बहनें बूथ में, एक-एक बहन 25-30 बहनों को ले करके निकलें, थाली बजाते-बजाते, ढोल बजाते-बजाते, गाना गाते-गाते, पोलिंग स्टेशन पर जाएं औऱ दस बजे के पहले अगर एक पोलिंग बूथ में हम बीस पच्चीस ऐसे जूलूस निकाल देंगे, तो आप देखना आपके पोलिंग बूथ का सबसे ज्यादा वोटिंग हो जाएगा। करेंगे आपलोग? जूलूस में जाएगें? गाना गाते जाएगें?

माताओं-बहनों,

काशी की मातृशक्ति ए बार इहां रिकॉर्ड वोटिंग कराई ना? एक बार मेरे साथ दोनों हाथ उठाकर बोलिए -नम: पार्वती पतये, हर हर महादेव। काशी के इस स्नेह के लिए एक बार फिर आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद।

मेरे साथ बोलिए- भारत माता की... जय! भारत माता की... जय! भारत माता की... जय!

बहुत बहुत धन्यवाद।

Explore More
لال قلعہ کی فصیل سے 77ویں یوم آزادی کے موقع پر وزیراعظم جناب نریندر مودی کے خطاب کا متن

Popular Speeches

لال قلعہ کی فصیل سے 77ویں یوم آزادی کے موقع پر وزیراعظم جناب نریندر مودی کے خطاب کا متن
Indian bull market nowhere near ending, says Chris Wood of Jefferies

Media Coverage

Indian bull market nowhere near ending, says Chris Wood of Jefferies
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Sikkim Governor meets PM
July 18, 2024

The Governor of Sikkim Shri Lakshman Prasad Acharya met Prime Minister Shri Narendra Modi today.

The Prime Minister's Office posted on X:

"Governor of Sikkim, Shri @Laxmanacharya54, met Prime Minister @narendramodi today."