मतदानाच्या पहिल्या चार टप्प्यातच लोकांनी INDI आघाडीला पराभूत केले आहे: पंतप्रधान मोदीफतेहपूरमध्ये
काँग्रेस आणि INDI आघाडी लांगूलचालनासाठी कोणत्याही थराला जाऊ शकतात: पंतप्रधान मोदी फतेहपूर येथे

भारत माता की।

भारत माता की।

महर्षि भृगु और गंगा-जमुना माता के आशीर्वाद की धरती फतेहपुर के मेरे परिवारजनों को मैं प्रणाम करता हूं। फ़तेहपुर का ये जनसैलाब बहुत कुछ बता रहा है। आपका ये स्नेह, ये आशीर्वाद कह रहा है, 4 जून को किसकी फतेह होने वाली है और कौन फेल होने वाले हैं!

साथियों,

अभी देश में 4 चरण के चुनाव हुए हैं। लेकिन, जनता जनार्दन ने इन 4 चरणों में ही इंडी गठबंधन को, सपा-कांग्रेस और उसके साझीदारों को चारों खाने चित कर दिया है। भानुमती का पूरा कुनबा बिखरने लगा है। उसने हथियार डाल दिए हैं, बचे हुए चुनाव में कोई मेहनत भी नहीं करना चाहता। इंडी गठबंधन के कार्यकर्ता पहले से ही निराश थे। अब उन्होंने घर से निकलना ही छोड़ दिया है। हारी हुई बाजी को कौन खेले? मैं आपको भीतर की बात बताता हूं। बताऊं? आपलोगों का ध्यान हो तो बताऊं, पक्का। सब के सब याद रखोगे। इधर वाले तो बोलते ही नहीं हैं। देखिए, जब मैं भीतर की बात बोलता हूं, तो जब खबर पक्की होती है! तब बोलता हूं, वर्ना नहीं बोलता हूं। आपको पता होगा, मैंने कहा था ये शहजादे केरल में वायनाड से भागेंगे? भागे कि नहीं भागे? मैंने कहा था कि वो अमेठी की तरफ जाने की हिम्मत नहीं करेंगे। खबर पक्की निकली या नहीं निकली? अब आगे की खबर बताऊं? खबर ये है कि इज्जत बचाने के लिए कांग्रेस ने मिशन-50 रखा है। यानी, कांग्रेस ने पिछले तीन-चार दिन से बड़ी माथापच्ची की और उन्होंने आदेश दिया कि भाई कुछ भी करो, आकाश पाताल एक कर दो, लेकिन कांग्रेस को कम से कम 50 सीटें मिल जाए, इसके लिए अब वह हाथ पैर इधर-उधर मार रहे हैं। इसके लिए भानुमती के कुनबे में हवा भरने की कोशिश हो रही है। लेकिन जिस इंडी गठबंधन की गाड़ी का टायर पहले दिन से पंचर हो, वो कितना आगे जाएगी। एक ना एक दिन उसका भट्ठा बैठना ही था औऱ वो अब बैठ गया। आपको पता है हालत क्या हो गई है? (आप ये ध्वज नीचे कीजिए, पीछे किसी को दिखता नहीं है। नीचे कर दीजिए, जरा सिक्योरिटी के लोग उनसे लेकर कहीं लगा दीजिए। शाबाश, बड़े समझदार लोग हैं। हां, पीछे लोगों को दिखता नहीं था। बड़े सम्मान के साथ बाहर ले जाना।) साथियों, पंजे और साइकल के सपने टूट गए, खटाखट-खटाखट! अब 4 जून के बाद की प्लानिंग हो रही है कि हार का ठीकरा फोड़ा जाए, खटाखट-खटाखट! और मुझे तो कोई बता रहा था कि विदेश यात्रा का टिकट भी बुक हो गया है, खटाखट-खटाखट!

साथियों,

यूपी में कांग्रेस का कोई वजूद नहीं बचा है। पूरी कांग्रेस परिवार की इज्जत बचाने में लगी हुई है लेकिन, फिर भी हर चुनाव में ‘दो लड़कों की जोड़ी’ लांच हो जाती है। क्योंकि, कांग्रेस और सपा दोनों के सारे गुण मिलते हैं। ये दोनों परिवारवाद को समर्पित हैं, दोनों भ्रष्टाचार के लिए राजनीति में हैं, दोनों अपने वोटबैंक को खुश करने के लिए कुछ भी कर सकती हैं, दोनों अपराधियों और माफियाओं को बढ़ावा देती हैं और सपा-कांग्रेस, दोनों आतंकवादियों की उतनी ही हमदर्द है। इसलिए जब सपा-कांग्रेस सत्ता में आती है तो आतंकवादियों को खुली छूट मिल जाती है। सपा का तो सिद्धांत ही है, उत्तर प्रदेश का बच्चा-बच्चा जानता है, उनका तो गवर्नेंस का मॉडल ही था- ‘वन डिस्ट्रिक्ट, वन माफिया’ हर जिले को ये लोग एक गुंडे-माफिया को ठेके पर दे देते हैं। माफ़िया व्यापारियों से वसूली करते हैं। अपहरण उद्योग शुरू हो जाता है। फिरौती वसूली जाती है। हमारी बहन-बेटियों का घर से निकलना मुश्किल हो जाता है। आप सबने वो दिन देखे हैं। लेकिन, जब से योगी जी, हमारे केशव प्रसाद मौर्य, यहां जब से भाजपा की सरकार आई है, आजकल ये माफिया माफी मांगते घूम रहे हैं। लेकिन, सपा का माफ़िया मोह अभी भी खत्म नहीं हुआ है। इनके मुखिया माफिया की कब्र पर फ़ातिहा पढ़ते घूम रहे हैं।

साथियों,

तुष्टिकरण के लिए ये लोग किसी भी हद को पार कर सकते हैं। कांग्रेस कश्मीर में अलगाववादियों की जमात को खाद-पानी देती थी। पाकिस्तान हमारे देश पर हमला करता था। कांग्रेस सरकार उसे क्लीन चिट देती थी। और साथियों, ये लोग आतंकवाद का आरोप किस पर लगाते थे? इन्होंने भगवा आतंकवाद के नाम पर एक नया झूठ गढ़ा था! और, यूपी में क्या हालात थे? सपा सरकार दंगाइयों की खातिरदारी करती थी। दंगाई मुख्यमंत्री से मिलने के लिए हेलीकाप्टर से जाते थे। और सरकार, आतंकवाद के आरोपियों से मुकदमे वापस लेती थी। आज यह लोग समाज को बांटने के लिए फिर से जहर घोल रहे हैं।

भाइयों बहनों,

सपा-कांग्रेस को लगता है कि ये हमारे समाज को तोड़कर अपना काम बना लेंगे। इसीलिए, इनके हौसले बढ़ गए हैं। कांग्रेस के शहजादे राममंदिर पर ताला डलवाने का ख्वाब देख रहे हैं। सपा के बड़े नेता कहते हैं, राममंदिर तो बेकार का है। इनका गठबंधन देखिए, इनके गठबंधन के लोग कहते हैं कि वो सत्ता में आकर सनातन धर्म का विनाश कर देंगे। आप मुझे बताइये, ये लोग आपके एक भी वोट के हकदार हैं क्या? इनको एक वोट भी देना चाहिए क्या। इनकी जमानत जब्त होनी चाहिए कि नहीं होनी चाहिए।

साथियों,

सपा सरकार में यूपी अपराध में टॉप पर होता था। लेकिन, विकास में यूपी की गिनती पिछड़े प्रदेश के तौर पर होती थी। लेकिन, आज भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश को विकास में टॉप पर बना दिया है। आज यूपी सबसे ज्यादा एक्सप्रेसवे वाले राज्यों में टॉप पर है। आज सबसे ज्यादा एयरपोर्ट के मामले में यूपी टॉप पर है। यूपी 7 शहरों में मेट्रो शुरू करके भी टॉप पर है। यही नहीं, गरीब कल्याण की जो योजनाएं मैं चलाता हूं, यूपी उनमें भी बहुत बेहतर कर रहा है।

साथियों,

जब मैं 2014 में केंद्र सरकार में आया था तो समझता था कि सपा के शहजादे को गरीब के दुख की, उनकी तकलीफों की थोड़ी-बहुत समझ होगी। मुलायम सिंह जी के बेटे से मैं इतनी उम्मीद तो करता ही था। लेकिन बहुत जल्द ही सपा के शहजादे से मेरी सारी उम्मीदें टूट गईं। मैं आपको एक उदाहरण देता हूं। यहां यूपी से ही हमने गरीबों के लिए पीएम आवास योजना शुरू की थी। ये योजना शुरू होने के बाद देश के तमाम राज्यों में गरीबों के लिए पक्के घर बनना शुरू हुए। हमारी सरकार, यहां सपा के शहजादे से लिस्ट मांगती रह गई कि यूपी में कितने गरीबों के घर बनने हैं, वो हमें भेजो। लेकिन महलों में रहने वाले इन लोगों ने उन गरीबों के नाम की लिस्ट नहीं भेजी। अगर वो लिस्ट भेजते तो गरीबों को पक्के घर मिलते। दो साल में केंद्र सरकार ने अनेकों बार तब की सपा सरकार को चिट्ठी लिखीं, अखिलेश जी को समझाया कि भाई जरा कुछ करो, लेकिन टालते रहे। बहुत मिन्नतें करने पर सपा सरकार में कुछ हजार घर ही बन पाए। यूपी के गरीब के इस अपमान को मैं किसी तरह बर्दाश्त नहीं करता। मैं जानता था कि ऐसी गरीब विरोधी सरकार को यूपी के लोग उखाड़ कर फेंक देंगे। और हुआ भी यही। अब 2017 के बाद से यूपी में, जबसे भाजपा सरकार आई है, पीएम आवास योजना-शहरी के घर तेजी से बनने शुरू हुए हैं। अब तक भाजपा सरकार शहरों में 15 लाख औऱ गांवों में 35 लाख पक्के घर बनाकर गरीबों को दे चुकी है। और जिन्हें अब तक पक्के घर नहीं मिले हैं, उन्हें भी मैं गारंटी दे रहा हूं, हर गरीब को पक्का घर मिलेगा, जरूर मिलेगा।

साथियों,

विकास कैसे होता है, ये फ़तेहपुर, बांदा और कौशांबी के लोग खुद महसूस कर रहे हैं। पहले इनफ्रास्ट्रक्चर के मामले में इस क्षेत्र को पिछड़ा कहा जाता था। लेकिन आज आप देखिए, कानपुर-कोलकाता हाइवे अब 6 लेन का हो रहा है। आज यहां लिंक रोड्स और ओवरब्रिज हो, अमृतरेलवे स्टेशन हों, हर तरफ हो रहा विकास यहां का भाग्य बदल रहा है।

साथियों,

पहले पाइप से गैस गिने-चुने शहरों में पहुंचती थी। लेकिन, अब वही सर्विस फ़तेहपुर में शुरू हो चुकी है। बाकी जिलों में भी इसका विस्तार किया जा रहा है। यहां सीमेंट फ़ैक्टरी का काम भी शुरू हो गया है। इससे यहां के युवाओं को बड़ी संख्या में रोजगार मिलेंगे। हमारी सरकार ने MSMEs के लिए भी आसान लोन और क्रेडिट जैसी योजनाएं चलाईं। उसका लाभ फ़तेहपुर के लोगों को हुआ है। आप मुझे बताइये, कांग्रेस के 60 साल में आपने ये बदलाव देखा था क्या? सपा के माफियाओं से आप इस विकास की उम्मीद कर सकते थे क्या?

साथियों,

20 मई को आपका एक वोट देश का भविष्य तय करेगा। यूपी के विकास के लिए मोदी की हर गारंटी पूरी हो, इसके लिए मुझे आपका आशीर्वाद चाहिए। 20 मई को कौशांबी से भाई विनोद सोनकर जी, फतेहपुर से साध्वी निरंजन ज्योति जी और बांदा से आर के सिंह पटेल जी को विजयी बनाइए। ज्यादा से ज्यादा मतदान कराओगे। पुराने सारे रिकॉर्ड तोड़ोगे, पोलिंग बूथ जीतोगे।

बोलिए, भारत माता की।

भारत माता की।

भारत माता की।

बहुत-बहुत धन्यवाद

 

Explore More
77 व्या स्वातंत्र्य दिनानिमित्त लाल किल्ल्याच्या तटबंदीवरून पंतप्रधान नरेंद्र मोदी यांनी केलेले भाषण

लोकप्रिय भाषण

77 व्या स्वातंत्र्य दिनानिमित्त लाल किल्ल्याच्या तटबंदीवरून पंतप्रधान नरेंद्र मोदी यांनी केलेले भाषण
PM Modi Crosses 100 Million Followers On X, Becomes Most Followed World Leader

Media Coverage

PM Modi Crosses 100 Million Followers On X, Becomes Most Followed World Leader
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Chief Minister of Meghalaya meets Prime Minister
July 15, 2024

The Chief Minister of Meghalaya, Shri Conrad K Sangma met Prime Minister, Shri Narendra Modi today in New Delhi.

The Prime Minister’s Office said in a X post;

“Chief Minister of Meghalaya, Shri @SangmaConrad, met Prime Minister @narendramodi. @CMO_Meghalaya”