নৌনা থবক খল্লবশিংদা এপোইন্তমেন্ত লেত্তর ৫১,০০০ য়েন্থোকখ্রে
“নহারোলশিং ‘চাউখৎলবা ভারত অমা’ শেমগৎপা মীওইশিং ওইরক্নবা রোজগার মেলানা লম্বী য়াৎলে”
“অদোমগী মরুওইবা থবক্তি মীয়াম হিংবদা লাইহনগদবনি”
“করিগুম্বা মখল অমতগী কান্নবশিং ফংদ্রবা মীওইশিংগী থোংজিলদা সরকারনা লেপ্লরে”
“ভারতনা ইনফ্রাস্ত্রকচরগী অওনবা অমা উবা ফংলে”
“লোইশিন্দনা লৈরিবা প্রোজেকশিং অসি লৈবাক অসিগী পুকচেল শেংবা তেক্স থিরবশিংদা অচৌবা নমথাক অমা তৌবনি, মসি অৱাবা অসি ঐখোয়না য়েংশিল্লি”
“ভারতকী চাউখৎপগী ৱারিদা মালেমগী লুপশিংনা থাজবা থম্লে”

নমস্কার!

লৈবাক অসিদা নহা লাখ কয়াদা সরকারগী থবক পীবগী খোঙথাং মখা চত্থরি। ঙসি, নহা লিশিং 51 হেনবগী মফমদা সরকারগী থবক খনবগী চিথী য়েন্থোক্লি। মসিগী থবক খনবগী চিথীশিং অসিদি অদোমগী হোৎনবা কনবা অমসুং ৱাখল চেৎপগী মহৈনি। ঐহাক্না অদোম অমসুং অদোমগী ইমুংবু থাগৎচরি।

অদোম্না লৈবাক শেম্বগী অদুগুম্বা ইচেল অমগী শরুক ওইগদৌরবনি, অমসুং মসিগা মীয়ামগা হকথেংননা মরী লৈনৈ। অদোম্না ভারত সরকারগী থৌমী অমা ওইনা থৌদাং কয়া অমা পাংথোক্কদবা লৈরে। অদোম্না পায়রিবা ফম, লৈরিবা মফম খুদিংদা খ্বাইদগী অহানবা ওইনা পীগদবা প্রাইওরিতী অসিদি পুন্সি মহিং লাইথোকহনবা (ইজ ওফ লিবিং) হায়বসিদনি।

মরুপশিং,

নুমিৎ খরনিগী মমাংদা, লৈবাক্না নবেম্বর 26তা সংবিধানগী নুমিৎ পাংথোকখি। মসিগী তাং অসিদি ইং 1949দা লৈবাক অসিনা লৈবাক মীয়াম খুদিংদা চপ মান্নবা হক পীবা সংবিধান অমবু য়াদুনা মদুগী মতুং ইন্না চৎপা হৌখিবা নুমিৎনি। সংবিধানগী মরু ওইবা আর্কিতেক্ত, বাবাসাহেব অম্বেদকরনা মঙলান অমা মঙজখিবনি, মদুদি, মীপুম খুদিংদা চপ মান্নবা মিৎয়েং য়েংদুনা সোসিএল জস্তিস লৈবা ভারত অমগী মঙলান। অদুবু লাইবক থীবদি, নিংতম্বা ফংলবা মতুংদা ফাওবা লৈবাক অসিদা মান্নবা মিৎয়েং য়েংবগী পথাপ্পু খঙশিন্নদনা লাকখি।

ইং 2014গী মমাংদা খুন্নাইগী কাঙলুপ অমবুদি তঙাই ফদবা খুদোংচাবা কয়া মৎপীদুনা লাকখি। ঐখোয়না ইং 2014দা লৈবাক্কী সেবা তৌবগী খুদোংচাবা ফংখিবা মতমদা, সরকার চলায়নবা তাঞ্জা ফংখিবা মতমদা, ঐখোয়না খ্বাইদগী অহানবদা, ইন্থোকপীরম্বশিংদা মিৎয়েং চঙবা হায়বা মন্ত্রগা লোয়ননা তুংলমচত্তা চঙশিনবগী খোঙচৎ হৌখি। স্কিম অমত্তগী খুদোংচাবা মমাংদা ফংলমদবা, সরকারগী মাইকৈদগী কান্নবা অমত্তা ফংলমদবা মীওইশিংগী মনাক্তা সরকার মশামক্না চৎখি, মখোয়গী পুন্সি মহিং নুংঙাইহন্নবা লেপ্তনা হোৎনরি।

সরকারগী ৱাখল্লোন, থবক তৌবগী মতৌদা অহোংবা অমা লাক্লিবা অসিনা মরম ওইরগা লৈবাক অসিদা ঙসিদি মশক থোকপা মায় পাকপা কয়া উবা ফংলে। ব্যুরোক্রেসীদি হান্নগুম চপ মান্নরি, মীওইশিংসু হান্নগুম্বা চপ মান্নবা ঙাক্তনি। ফাইলসু চপ মান্নৈ, থবক শুবীনবা মীওইসু চপ মান্নৈ, থৌওংসু চপ মান্নৈ। অদুবু, সরকার অসিনা লৈবাক্কী লাইরবা, মিদ্দল ক্লাসশিংদা অহেনবা প্রাইওরিতী পীরকপা মতমদগী হান্না লৈরম্বা ফিভম খুদিংদা অহোংবা লাকখি। থবক তৌবগী মওংসু অমগী মথংদা অমদা অহোংবা লাকখি। থবক পাংথোকপগী মওংদা অহোংবা লাকপা হৌরকখি, থৌদাং য়েন্থোক্নবা হৌরকখি, মীচম মীয়ামগী য়াইফ য়ুম্বালদা পোজিতিব ওইবা অহোংবা লাকপা হৌরকখি। স্তদী অমগী মতুং ইন্না, দিকেদ মঙাগী মনুংদা লৈবাক্কী লাইরবা করোর 13না লাইরবগী খয়াত্তগী মপান থোক্লকখি। সরকারগী স্কিমশিংনা লাইরবগী মনাক্তা য়ৌবা মতমদা কয়া য়াম্না চাউবা অহোংবা লাকই হায়বা মসিদগী ঐখোয়না খঙবা ঙম্লি। বিকশিৎ ভারত সঙ্কল্প য়াত্রানা খুঙ্গং-খুঙ্গংদা চৎপগী থৌওংসু অদোম্না ঙসিগী অয়ুক্তমক্তদসু উখ্রে। অদোমগুম্বা সরকারগী থৌমীশিংনা সরকারগী স্কিম কয়াবু লাইরবশিংগী য়ুম্থোংদা চত্তুনা য়ৌহল্লি। অদোম্না সরকারগী সেবাগী মনুং হেক চনবদগীদি, মসিগুম্বা ৱাখল্লোন, থৌওং অসিমক লৈদুনা মীয়ামগী মতেং পাংবা তাই। মখোয়গী নুংঙাই য়াইফবগীদমক্তা ইশাগী পুন্সি কত্থোকপা তাই।

 

মরুপশিং,

হোংবা নাইবা ঙসিগী ভারত অসিদা অদোম পুম্নমক্না ইনফ্রাস্ত্রকচরগী ইহৌ অমগী শাখী অমসু ওইরিবনি। মোদর্ন এক্সপ্রেসৱে ওইরো, মোদর্ন রেলৱে স্তেসন ওইরো, এয়রপোর্ত ওইরো, ৱাতর ৱে ওইরো, লৈবাক অসিদা ঙসিদি হীরমশিং অসিদি লুপা করোর লাক্ষ কয়া থাদরি। সরকারনা ইনফ্রাস্ত্রকচরগীদমক্তা অসুক য়াম্বা শেনফম থাদরিবা, ইনভেস্ত তৌরিবা অসিদদি, মসিনা থবক্কী অহেনবা খুদোংচাবা কয়া লৈহল্লকনি হায়বসিদি মহৌশানা পুরকপা ৱাফম ওইরবনি।

ইং 2014গী মতুংদা, অতোপ্পা অচৌবা অহোংবা অমসু লাকখি। মমাংদগী হৌনা পন্দুনা লৈরম্বা স্কিম কয়া ঐখোয়না কোইথী থীদুনা মিসন মোদতা লোইশিন্নবা থবক হোৎনখি। ময়াইদা পনবা প্রোজেক্তশিংনা মপুকচেল শেংবা তেক্সপেয়রশিংগী শেল অরেম্বতা মাঙহনবতা নত্তনা মসিগী কান্নবসু অমত্তা ফংহন্দনা মাঙই অমসুং লোশিনগে হায়রবসু, মদুদা চঙগদবা শেনফম অমুক ৱাংখৎলকই। মসিদি ঐখোয়গী তেক্সপেয়রশিংগী মফমদা অরানবা তৌবীবগা চপ মান্নৈ।

হৌখিবা চহি খরসিদা কেন্দ্র সরকারনা লুপা করোর লাক্ষ কয়াগী প্রোজেক্ত হৌদোক্তুনা মখোয়বু খোঙজেল য়াঙনা লোইশিনহন্নবা লেপ্তনা য়েংশিন্দুনা লাক্লি। মায় পাকপসু য়াম্না ফংলে। মসিনসু, লৈবাক্কী কাচিন কোয়াদা থবক্কী খুদোংচাবা কয়া ফংহনখি। খুদম ওইনা হায়রবদা, চহি 22-23গী মমাংদা হৌদোকখিবা বীদর-কলবুর্গী রেলৱে লাইনগী প্রোজেক্ত। প্রোজেক্ত অসি মতম শাংনা পন্দুনা লৈরুরবনি। অদুবু, ঐখোয়না ইং 2014দা মসি লোইশিনবগী ৱারেপ লৌখি অমসুং শুপ্নগী চহি 3গী মনুংদা প্রোজেক্ত অসিবু লোইশিন্দুনা উৎখি। সিক্কিমগী পাক্যোং এয়রপোর্তকী ৱাখল্লোন অসি ইং 2008তা পুথোকখিবনি। অদুবু, ইং 2014 ফাওবদা মসিনা চেদা খক লৈদুনা লাকখি। অদুগা, ইং 2014গী মতুংদা মসিগা মরী লৈনবা অপনবা খুদিংমক ঐখোয়না লৌথোক্তুনা ইং 2018 ফাওবদা ঐখোয়না লোইশিনখি। মসিনসু থবক কয়া অমা পীখি। পরাদীপ রিফানরীগী ৱাহৌদোকসু চহি 20-22গী মমাংদা থমখ্রবনি, অদুবু ইং 2013 ফাওবদা মশক থোকপা থবক অমত্তা পায়খৎখিদে। অদুগা ঐখোয়গী সরকার হেক লাকপদগী, পন্দুনা লৈরুরবা প্রোজেক্তশিং অমুক হন্না মখা চত্থবগুম্না, পরাদীপ রিফাইনরীগী থবকশু ঐখোয়না পায়খত্তুনা লোইশিনখি। মসিগুম্বা ইনফ্রাস্ত্রকচর প্রোজেক্তশিং লোইশিনবা মতমদা, মখোয়না হকথেংনবা থবক্কী খুদোংচাবা পীবতা নত্তনা অতোপ্পা থবক কয়াসু নাকোইননা পীবা ঙম্মি।

মরুপশিং,

লৈবাক অসিদা থবক চাউনা পীবা ঙম্বা অচৌবা সেক্তর অমসু লৈরি – রিএল ইস্তেত। সেক্তর অসিনা চৎলম্বা মাইকৈ য়েংলুরগদি, মসিনা বিলদরশিংতা নত্তনা মিদ্দল ক্লাসকী মীওই কয়াবুসু লুপহনবা হায়বসি শোইরমদ্রবনি। RERA আইনগী মতেংদগী ঙসিদি সেক্তর অসিদা নুং-পান ফাওনা উনা থবক তৌবদগী ফিভম লাক্লে। সেক্তর অসিদা ইনভেস্ত কয়াসু লেপ্তনা লাক্লি। ঙসিদি, লৈবাক অসিগী লাক্ষ অমদগী হেনবা রিএল ইস্তেত প্রোজেক্তশিংদি RERA আইনগী মখাদা রেজিস্তর তৌরে। প্রোজেক্ত অমা হেক পনখিবা মতমদা থবক্কী খুদোংচাবসি অদুমক মাঙখিবনি। লৈবাক অসিগী চাউখৎলক্লিবা রিএল ইস্তেতনা মশিং য়াম্লবা থবক কয়াগী খুদোংচাবা পীরি।

 

মরুপশিং,

ভারত সরকারগী পোলিসী অমসুং ৱারেপ কয়ানা লৈবাক্কী শেন্মিৎলোনবু অনৌবা থাক্তা পুখৎলে। মালেমগী অচৌবা ইন্সতিত্যুসন কয়ানা ভারতকী শাহৌ লৌবগী চাং অসিদা য়াম্না থাজবা থম্নরি। থাগৎনরি। হন্দক্তসু, ইনভেস্তমেন্ত রেতিংগী হীরমদা মালেমগী মকোক থোংবা লুপ অমনা ভারতকী খোঙজেল য়াঙবা শাহৌ অসিবু শকখঙখ্রে। থবক্কী খুদোংচাবা হেনগৎলক্লিবা, থবক শুবা ঙম্বা মীওইগী মীশিং য়াম্বা অমসুং লেবর প্রদক্তিবিতী হেনগৎলকপা অসিনা মরম ওইরগা ভারতকী শাহৌ লৌবগী খোঙজেল অসিনা য়াঙনা মখা চত্থখিগনি হায়না মখোয়না পানরি। মসিগী মরু ওইবা মরমদি, ভারতকী মেন্যুফেকচরিং অমসুং কনস্ত্রক্সন সেক্তরগী মপাঙ্গল হেনগৎলক্লিবা অসিনি।

ৱাফমশিং অসিনা লাক্কদৌরিবা মতমশিংদা ভারত্তা থবক ফংবা অমসুং মশানা থবক পীজবগী চাউরবা ওইথোকপা অমা লৈ হায়বা তাক্লে। মসিদি লৈবাক্কী নহাশিংগী ওইনা য়াম্না মরু ওইবা ৱাফম্নি। সরকারগে থৌমী অমা ওইনা, মসিদা অদোমগী চাউরবা থৌদাং য়াওরি। ভারত্তা লৈরক্লিবা চাউখৎ থৌরাংগী কান্নবা খুদিংমক খ্বাইদগী অরোইবা মীওইদা ফংহন্নবা অদোম্না হোৎনবা তাবনি। মফম অমনা কয়াদা মনুং হঞ্জিনবা ওইরবসু, মদুদা অদোম্না প্রাইওরিতী পীগদবনি। মীওই অমনা কয়া য়াম্না লাপ্পা মফমদা লৈরবসু, অদোম্না মহাক্কী মনাক্তা শোইদনা য়ৌশিনবা তাবনি। অদোম্না ভারত সরকারগী থৌমী অমা ওইনা ৱাখল্লোন অসিগা লোয়ননা তুংলমচত্তা চঙশিল্লবা মতমদতা চাউখৎপা ভারত অমগী মঙলান মঙফাওনগদৌরিবনি।

মরুপশিং,

মথংগী চহি 25 অসিদি অদোম অমসুং লৈবাক্কী ওইনা য়াম্না মরু ওইরি। মশিং য়ামদ্রবা মীওইদা মসিগুম্বা খুদোংচাবা অসি ফংলি। অদোম্না মসিগী মপুং ফাবা কান্নবা লৌগদবনি। অদোমসু অনৌবা লর্নিং মোদ্যুল, “কর্ময়োগী প্রারম্ভ”তা শোইদনা চঙবীয়ু হায়না অদোমগী মফমদা থমজরি। মসিগা মরী লৈনরবা তুংদা মশাগী কেপাসিতী হেনগৎখিদবা ঐখোয়গী মরুপ অমত্তা লৈখিদ্রি। করিগুম্বা অমা তম্নীংবা ফাওরুবদগী অদোম্না ঙসিগী থাক অসিদা য়ৌরক্লিবা অসিদা, তম্নীংবা ফাওবগী ৱাখল্লোন অদুবু কৈদৌনুংদা মাংহনগনু, ইশাগী থাকপু লেপ্তনা ৱাংখৎহনবীয়ু। তাঞ্জা অসিদা অদোমগী পুন্সি হৌরিবনি, লৈবাকসু চাউখৎলি, অদোমসু চাউখৎকদবনি। থাক অসিদা য়ৌরে হায়দুনা লেপকদবা নত্তে, মসিগী ওইনসু চাউরবা থৌরাং অমা শীনখ্রবনি।

কর্ময়োগী প্রারম্ভ অসি চহি অমগী মমাংদা হৌদোকখিবনি। মদুদগী হৌদুনা, সরকারগী অনৌবা থৌমী লাক্ষ কয়ানা মসিদগী ত্রেনিং লৌখ্রবনি। ঐহাক্কা লোয়ননা প্রধান মন্ত্রী ওফিস, পি.এম.ও.দা থবক তৌরিবশিং, মখোয়দি সেনিয়র ওইরবা মীওইনি, লৈবাক্কী ওইবা মরু ওইবা থৌদোক কয়া মখোয়না মাইয়োক্নখ্রবনি, মখোয়সু মসিদা য়াওদুনা লেপ্তনা তেস্ত পীরিবনি, পরিক্ষা পীরিবনি, কোর্স তৌরিবনি, মসিনা মখোয়গী কেপাসিতী, পাঙ্গল হেনগৎহল্লি, ঐহাক্কী পি.এম.ও.বুসু মপাঙ্গল লৈনা থবক তৌহল্লি, লৈবাক্কী মপাঙ্গল হাপ্লি।

ঐখোয়গী ওনলাইন ত্রেনিং প্লেতফোর্ম, iGoT Karmayogi অসিদসু কোর্স 800 হেন্না য়াওরি। ইশাগী স্কিল হেনগৎহন্নবা মসিবু শোইদনা শিজিন্নবীয়ু। অদোমগী পুন্সিদা অনৌবা অহৌবা অমা লাক্লিবা মতমসিদা, ইশাগী ইমুংগী মঙলানবু ৱাংহল্লিবা মতমসিদা, ঐহাক্না অদোম অমসুং অদোমগী ইমুংগী মফমদা থাগৎ পাউজেল পীজরি। হৌজিকপুদি সরকারগী থবক তৌরগনি। অদুবু মীচম ওইনা চহি 20, 22, 25 হিংলকপা অসিদা খুদোংচাদবা কয়াদি থেংনরমগনি। অদোম্না সরকারদা করি পেন্দবা লৈখি, বস স্তেসন্দা পেন্দবা থেংনরম্বা য়াই, লৈরক খুল্লক্তা নত্ত্রগা সরকারগী লোইশঙদা নুংঙাইতবা কয়া মাইয়োক্নরম্বসু য়াই। পুম্নমক নীংশিন্দুনা দাইরী অমদা ইশিনবা য়াই। শিংনবা নত্ত্রগা খুদোংচাদবশিং অসি সরকারগী থৌমী অমনা থোকহনবা ঙাক্তনি হায়বা অদোম খঙলমগনি। ঐহাক্না মরম ওইরগা মসিগুম্বা খুদোংচাদবা অমত্তা কনামত্তদা মাইয়োক্নহল্লোই হায়না অদোম্না খনবীয়ু, মরী লৈননা থবক তৌবীয়ু। মসিগুম্বা ৱারেপ অসিনা মীচম মীয়ামগী পুন্সিদা কয়া য়াম্না তেংবাংগনি হায়না অদোম অমুক্তা খন্থবীয়ু। লৈবাক শেম্বগী অদোমগী খোঙচৎ অসিদা ঐহাক্না য়াইফ পাউজেল পীজরি।

পুম্নমকপু হন্না হন্না থাগৎচরি।

 

Explore More
৭৭শুবা নিংতম্বা নুমিৎ থৌরমদা লাল কিলাদগী প্রধান মন্ত্রী শ্রী নরেন্দ্র মোদীনা ৱা ঙাংখিবগী মপুংফাবা ৱারোল

Popular Speeches

৭৭শুবা নিংতম্বা নুমিৎ থৌরমদা লাল কিলাদগী প্রধান মন্ত্রী শ্রী নরেন্দ্র মোদীনা ৱা ঙাংখিবগী মপুংফাবা ৱারোল
How India's digital public infrastructure can push inclusive global growth

Media Coverage

How India's digital public infrastructure can push inclusive global growth
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Our government is dedicated to tribal welfare in Chhattisgarh: PM Modi in Surguja
April 24, 2024
Our government is dedicated to tribal welfare in Chhattisgarh: PM Modi
Congress, in its greed for power, has destroyed India through consistent misgovernance and negligence: PM Modi
Congress' anti-Constitutional tendencies aim to provide religious reservations for vote-bank politics: PM Modi
Congress simply aims to loot the 'hard-earned money' of the 'common people' to fill their coffers: PM Modi
Congress will set a dangerous precedent by implementing an 'Inheritance Tax': PM Modi

मां महामाया माई की जय!

मां महामाया माई की जय!

हमर बहिनी, भाई, दद्दा अउ जम्मो संगवारी मन ला, मोर जय जोहार। 

भाजपा ने जब मुझे पीएम पद का उम्मीदवार बनाया था, तब अंबिकापुर में ही आपने लाल किला बनाया था। और जो कांग्रेस का इकोसिस्टम है आए दिन मोदी पर हमला करने के लिए जगह ढ़ूंढते रहते हैं। उस पूरी टोली ने उस समय मुझपर बहुत हमला बोल दिया था। ये लाल किला कैसे बनाया जा सकता है, अभी तो प्रधानमंत्री का चुनाव बाकि है, अभी ये लाल किले का दृश्य बना के वहां से सभा कर रहे हैं, कैसे कर रहे हैं। यानि तूफान मचा दिया था और बात का बवंडर बना दिया था। लेकिन आप की सोच थी वही  मोदी लाल किले में पहुंचा और राष्ट्र के नाम संदेश दिया। आज अंबिकापुर, ये क्षेत्र फिर वही आशीर्वाद दे रहा है- फिर एक बार...मोदी सरकार ! फिर एक बार...मोदी सरकार ! फिर एक बार...मोदी सरकार !

साथियों, 

कुछ महीने पहले मैंने आपसे छत्तीसगढ़ से कांग्रेस का भ्रष्टाचारी पंजा हटाने के लिए आशीर्वाद मांगा था। आपने मेरी बात का मान रखा। और इस भ्रष्टाचारी पंजे को साफ कर दिया। आज देखिए, आप सबके आशीर्वाद से सरगुजा की संतान, आदिवासी समाज की संतान, आज छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के रूप में छत्तीसगढ़ के सपनों को साकार कर रहा है। और मेरा अनन्य साथी भाई विष्णु जी, विकास के लिए बहुत तेजी से काम कर रहे हैं। आप देखिए, अभी समय ही कितना हुआ है। लेकिन इन्होंने इतने कम समय में रॉकेट की गति से सरकार चलाई है। इन्होंने धान किसानों को दी गारंटी पूरी कर दी। अब तेंदु पत्ता संग्राहकों को भी ज्यादा पैसा मिल रहा है, तेंदू पत्ता की खरीद भी तेज़ी से हो रही है। यहां की माताओं-बहनों को महतारी वंदन योजना से भी लाभ हुआ है। छत्तीसगढ़ में जिस तरह कांग्रेस के घोटालेबाज़ों पर एक्शन हो रहा है, वो पूरा देश देख रहा है।

साथियों, 

मैं आज आपसे विकसित भारत-विकसित छत्तीसगढ़ के लिए आशीर्वाद मांगने के लिए आया हूं। जब मैं विकसित भारत कहता हूं, तो कांग्रेस वालों का और दुनिया में बैठी कुछ ताकतों का माथा गरम हो जाता है। अगर भारत शक्तिशाली हो गया, तो कुछ ताकतों का खेल बिगड़ जाएगा। आज अगर भारत आत्मनिर्भर बन गया, तो कुछ ताकतों की दुकान बंद हो जाएगी। इसलिए वो भारत में कांग्रेस और इंडी-गठबंधन की कमज़ोर सरकार चाहते हैं। ऐसी कांग्रेस सरकार जो आपस में लड़ती रहे, जो घोटाले करती रहे। 

साथियों,

कांग्रेस का इतिहास सत्ता के लालच में देश को तबाह करने का रहा है। देश में आतंकवाद फैला किसके कारण फैला? किसके कारण फैला? किसके कारण फैला? कांग्रेस की नीतियों के कारण फैला। देश में नक्सलवाद कैसे बढ़ा? किसके कारण बढ़ा? किसके कारण बढ़ा? कांग्रेस का कुशासन और लापरवाही यही कारण है कि देश बर्बाद होता गया। आज भाजपा सरकार, आतंकवाद और नक्सलवाद के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई कर रही है। लेकिन कांग्रेस क्या कर रही है? कांग्रेस, हिंसा फैलाने वालों का समर्थन कर रही है, जो निर्दोषों को मारते हैं, जीना हराम कर देते हैं, पुलिस पर हमला करते हैं, सुरक्षा बलों पर हमला करते हैं। अगर वे मारे जाएं, तो कांग्रेस वाले उन्हें शहीद कहते हैं। अगर आप उन्हें शहीद कहते हो तो शहीदों का अपमान करते हो। इसी कांग्रेस की सबसे बड़ी नेता, आतंकवादियों के मारे जाने पर आंसू बहाती हैं। ऐसी ही करतूतों के कारण कांग्रेस देश का भरोसा खो चुकी है।

भाइयों और बहनों, 

आज जब मैं सरगुजा आया हूं, तो कांग्रेस की मुस्लिम लीगी सोच को देश के सामने रखना चाहता हूं। जब उनका मेनिफेस्टो आया उसी दिन मैंने कह दिया था। उसी दिन मैंने कहा था कि कांग्रेस के मोनिफेस्टो पर मुस्लिम लीग की छाप है। 

साथियों, 

जब संविधान बन रहा था, काफी चर्चा विचार के बाद, देश के बुद्धिमान लोगों के चिंतन मनन के बाद, बाबासाहेब अम्बेडकर के नेतृत्व में तय किया गया था कि भारत में धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं होगा। आरक्षण होगा तो मेरे दलित और आदिवासी भाई-बहनों के नाम पर होगा। लेकिन धर्म के नाम पर आरक्षण नहीं होगा। लेकिन वोट बैंक की भूखी कांग्रेस ने कभी इन महापुरुषों की परवाह नहीं की। संविधान की पवित्रता की परवाह नहीं की, बाबासाहेब अम्बेडकर के शब्दों की परवाह नहीं की। कांग्रेस ने बरसों पहले आंध्र प्रदेश में धर्म के आधार पर आरक्षण देने का प्रयास किया था। फिर कांग्रेस ने इसको पूरे देश में लागू करने की योजना बनाई। इन लोग ने धर्म के आधार पर 15 प्रतिशत आरक्षण की बात कही। ये भी कहा कि SC/ST/OBC का जो कोटा है उसी में से कम करके, उसी में से चोरी करके, धर्म के आधार पर कुछ लोगों को आरक्षण दिया जाए। 2009 के अपने घोषणापत्र में कांग्रेस ने यही इरादा जताया। 2014 के घोषणापत्र में भी इन्होंने साफ-साफ कहा था कि वो इस मामले को कभी भी छोड़ेंगे नहीं। मतलब धर्म के आधार पर आरक्षण देंगे, दलितों का, आदिवासियों का आरक्षण कट करना पड़े तो करेंगे। कई साल पहले कांग्रेस ने कर्नाटका में धर्म के आधार पर आरक्षण लागू भी कर दिया था। जब वहां बीजेपी सरकार आई तो हमने संविधान के विरुद्ध, बाबासाहेब अम्बेडर की भावना के विरुद्ध कांग्रेस ने जो निर्णय किया था, उसको उखाड़ करके फेंक दिया और दलितों, आदिवासियों और पिछड़ों को उनका अधिकार वापस दिया। लेकिन कर्नाटक की कांग्रेस सरकार उसने एक और पाप किया मुस्लिम समुदाय की सभी जातियों को ओबीसी कोटा में शामिल कर दिया है। और ओबीसी बना दिया। यानि हमारे ओबीसी समाज को जो लाभ मिलता था, उसका बड़ा हिस्सा कट गया और वो भी वहां चला गया, यानि कांग्रेस ने समाजिक न्याय का अपमान किया, समाजिक न्याय की हत्या की। कांग्रेस ने भारत के सेक्युलरिज्म की हत्या की। कर्नाटक अपना यही मॉडल पूरे देश में लागू करना चाहती है। कांग्रेस संविधान बदलकर, SC/ST/OBC का हक अपने वोट बैंक को देना चाहती है।

भाइयों और बहनों,

ये सिर्फ आपके आरक्षण को ही लूटना नहीं चाहते, उनके तो और बहुत कारनामे हैं इसलिए हमारे दलित, आदिवासी और ओबीसी भाई-बहनों  को कहना चाहता हूं कि कांग्रेस के इरादे नेक नहीं है, संविधान और सामाजिक न्याय के अनुरूप नहीं है , भारत की बिन सांप्रदायिकता के अनुरूप नहीं है। अगर आपके आरक्षण की कोई रक्षा कर सकता है, तो सिर्फ और सिर्फ भारतीय जनता पार्टी कर सकती है। इसलिए आप भारतीय जनता पार्टी को भारी समर्थन दीजिए। ताकि कांग्रेस की एक न चले, किसी राज्य में भी वह कोई हरकत ना कर सके। इतनी ताकत आप मुझे दीजिए। ताकि मैं आपकी रक्षा कर सकूं। 

साथियों!

कांग्रेस की नजर! सिर्फ आपके आरक्षण पर ही है ऐसा नहीं है। बल्कि कांग्रेस की नज़र आपकी कमाई पर, आपके मकान-दुकान, खेत-खलिहान पर भी है। कांग्रेस के शहज़ादे का कहना है कि ये देश के हर घर, हर अलमारी, हर परिवार की संपत्ति का एक्स-रे करेंगे। हमारी माताओं-बहनों के पास जो थोड़े बहुत गहने-ज़ेवर होते हैं, कांग्रेस उनकी भी जांच कराएगी। यहां सरगुजा में तो हमारी आदिवासी बहनें, चंदवा पहनती हैं, हंसुली पहनती हैं, हमारी बहनें मंगलसूत्र पहनती हैं। कांग्रेस ये सब आपसे छीनकर, वे कहते हैं कि बराबर-बराबर डिस्ट्रिब्यूट कर देंगे। वो आपको मालूम हैं ना कि वे किसको देंगे। आपसे लूटकर के किसको देंगे मालूम है ना, मुझे कहने की जरूरत है क्या। क्या ये पाप करने देंगे आप और कहती है कांग्रेस सत्ता में आने के बाद वे ऐसे क्रांतिकारी कदम उठाएगी। अरे ये सपने मन देखो देश की जनता आपको ये मौका नहीं देगी। 

साथियों, 

कांग्रेस पार्टी के खतरनाक इरादे एक के बाद एक खुलकर सामने आ रहे हैं। शाही परिवार के शहजादे के सलाहकार, शाही परिवार के शहजादे के पिताजी के भी सलाहकार, उन्होंने  ने कुछ समय पहले कहा था और ये परिवार उन्हीं की बात मानता है कि उन्होंने कहा था कि हमारे देश का मिडिल क्लास यानि मध्यम वर्गीय लोग जो हैं, जो मेहनत करके कमाते हैं। उन्होंने कहा कि उनपर ज्यादा टैक्स लगाना चाहिए। इन्होंने पब्लिकली कहा है। अब ये लोग इससे भी एक कदम और आगे बढ़ गए हैं। अब कांग्रेस का कहना है कि वो Inheritance Tax लगाएगी, माता-पिता से मिलने वाली विरासत पर भी टैक्स लगाएगी। आप जो अपनी मेहनत से संपत्ति जुटाते हैं, वो आपके बच्चों को नहीं मिलेगी, बल्कि कांग्रेस सरकार का पंजा उसे भी आपसे छीन लेगा। यानि कांग्रेस का मंत्र है- कांग्रेस की लूट जिंदगी के साथ भी और जिंदगी के बाद भी। जब तक आप जीवित रहेंगे, कांग्रेस आपको ज्यादा टैक्स से मारेगी। और जब आप जीवित नहीं रहेंगे, तो वो आप पर Inheritance Tax का बोझ लाद देगी। जिन लोगों ने पूरी कांग्रेस पार्टी को पैतृक संपत्ति मानकर अपने बच्चों को दे दी, वो लोग नहीं चाहते कि एक सामान्य भारतीय अपने बच्चों को अपनी संपत्ति दे। 

भाईयों-बहनों, 

हमारा देश संस्कारों से संस्कृति से उपभोक्तावादी देश नहीं है। हम संचय करने में विश्वास करते हैं। संवर्धन करने में विश्वास करते हैं। संरक्षित करने में विश्वास करते हैं। आज अगर हमारी प्रकृति बची है, पर्यावरण बचा है। तो हमारे इन संस्कारों के कारण बचा है। हमारे घर में बूढ़े मां बाप होंगे, दादा-दादी होंगे। उनके पास से छोटा सा भी गहना होगा ना? अच्छी एक चीज होगी। तो संभाल करके रखेगी खुद भी पहनेगी नहीं, वो सोचती है कि जब मेरी पोती की शादी होगी तो मैं उसको यह दूंगी। मेरी नाती की शादी होगी, तो मैं उसको दूंगी। यानि तीन पीढ़ी का सोच करके वह खुद अपना हक भी नहीं भोगती,  बचा के रखती है, ताकि अपने नाती, नातिन को भी दे सके। यह मेरे देश का स्वभाव है। मेरे देश के लोग कर्ज कर करके जिंदगी जीने के शौकीन लोग नहीं हैं। मेहनत करके जरूरत के हिसाब से खर्च करते हैं। और बचाने के स्वभाव के हैं। भारत के मूलभूत चिंतन पर, भारत के मूलभूत संस्कार पर कांग्रेस पार्टी कड़ा प्रहार करने जा रही है। और उन्होंने कल यह बयान क्यों दिया है उसका एक कारण है। यह उनकी सोच बहुत पुरानी है। और जब आप पुरानी चीज खोजोगे ना? और ये जो फैक्ट चेक करने वाले हैं ना मोदी की बाल की खाल उधेड़ने में लगे रहते हैं, कांग्रेस की हर चीज देखिए। आपको हर चीज में ये बू आएगी। मोदी की बाल की खाल उधेड़ने में टाइम मत खराब करो। लेकिन मैं कहना चाहता हूं। यह कल तूफान उनके यहां क्यों मच गया,  जब मैंने कहा कि अर्बन नक्सल शहरी माओवादियों ने कांग्रेस पर कब्जा कर लिया तो उनको लगा कि कुछ अमेरिका को भी खुश करने के लिए करना चाहिए कि मोदी ने इतना बड़ा आरोप लगाया, तो बैलेंस करने के लिए वह उधर की तरफ बढ़ने का नाटक कर रहे हैं। लेकिन वह आपकी संपत्ति को लूटना चाहते हैं। आपके संतानों का हक आज ही लूट लेना चाहते हैं। क्या आपको यह मंजूर है कि आपको मंजूर है जरा पूरी ताकत से बताइए उनके कान में भी सुनाई दे। यह मंजूर है। देश ये चलने देगा। आपको लूटने देगा। आपके बच्चों की संपत्ति लूटने देगा।

साथियों,

जितने साल देश में कांग्रेस की सरकार रही, आपके हक का पैसा लूटा जाता रहा। लेकिन भाजपा सरकार आने के बाद अब आपके हक का पैसा आप लोगों पर खर्च हो रहा है। इस पैसे से छत्तीसगढ़ के करीब 13 लाख परिवारों को पक्के घर मिले। इसी पैसे से, यहां लाखों परिवारों को मुफ्त राशन मिल रहा है। इसी पैसे से 5 लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज मिल रहा है। मोदी ने ये भी गारंटी दी है कि 4 जून के बाद छत्तीसगढ़ के हर परिवार में जो बुजुर्ग माता-पिता हैं, जिनकी आयु 70 साल हो गई है। आज आप बीमार होते हैं तो आपकी बेटे और बेटी को खर्च करना पड़ता है। अगर 70 साल की उम्र हो गई है और आप किसी पर बोझ नहीं बनना चाहते तो ये मोदी आपका बेटा है। आपका इलाज मोदी करेगा। आपके इलाज का खर्च मोदी करेगा। सरगुजा के ही करीब 1 लाख किसानों के बैंक खाते में किसान निधि के सवा 2 सौ करोड़ रुपए जमा हो चुके हैं और ये आगे भी होते रहेंगे।

साथियों, 

सरगुजा में करीब 400 बसाहटें ऐसी हैं जहां पहाड़ी कोरवा परिवार रहते हैं। पण्डो, माझी-मझवार जैसी अनेक अति पिछड़ी जनजातियां यहां रहती हैं, छत्तीसगढ़ और दूसरे राज्यों में रहती हैं। हमने पहली बार ऐसी सभी जनजातियों के लिए, 24 हज़ार करोड़ रुपए की पीएम-जनमन योजना भी बनाई है। इस योजना के तहत पक्के घर, बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य, कौशल विकास, ऐसी सभी सुविधाएं पिछड़ी जनजातियों के गांव पहुंचेंगी। 

साथियों, 

10 वर्षों में भांति-भांति की चुनौतियों के बावजूद, यहां रेल, सड़क, अस्तपताल, मोबाइल टावर, ऐसे अनेक काम हुए हैं। यहां एयरपोर्ट की बरसों पुरानी मांग पूरी की गई है। आपने देखा है, अंबिकापुर से दिल्ली के ट्रेन चली तो कितनी सुविधा हुई है।

साथियों,

10 साल में हमने गरीब कल्याण, आदिवासी कल्याण के लिए इतना कुछ किया। लेकिन ये तो सिर्फ ट्रेलर है। आने वाले 5 साल में बहुत कुछ करना है। सरगुजा तो ही स्वर्गजा यानि स्वर्ग की बेटी है। यहां प्राकृतिक सौंदर्य भी है, कला-संस्कृति भी है, बड़े मंदिर भी हैं। हमें इस क्षेत्र को बहुत आगे लेकर जाना है। इसलिए, आपको हर बूथ पर कमल खिलाना है। 24 के इस चुनाव में आप का ये सेवक नरेन्द्र मोदी को आपका आशीर्वाद चाहिए, मैं आपसे आशीर्वाद मांगने आया हूं। आपको केवल एक सांसद ही नहीं चुनना, बल्कि देश का उज्ज्वल भविष्य भी चुनना है। अपनी आने वाली पीढ़ियों का भविष्य चुनना है। इसलिए राष्ट्र निर्माण का मौका बिल्कुल ना गंवाएं। सर्दी हो शादी ब्याह का मौसम हो, खेत में कोई काम निकला हो। रिश्तेदार के यहां जाने की जरूरत पड़ गई हो, इन सबके बावजूद भी कुछ समय आपके सेवक मोदी के लिए निकालिए। भारत के लोकतंत्र और उज्ज्वल भविष्य के लिए निकालिए। आपके बच्चों की गारंटी के लिए निकालिए और मतदान अवश्य करें। अपने बूथ में सारे रिकॉर्ड तोड़नेवाला मतदान हो। इसके लिए मैं आपसे प्रार्थना करता हूं। और आग्राह है पहले जलपान फिर मतदान। हर बूथ में मतदान का उत्सव होना चाहिए, लोकतंत्र का उत्सव होना चाहिए। गाजे-बाजे के साथ लोकतंत्र जिंदाबाद, लोकतंत्र जिंदाबाद करते करते मतदान करना चाहिए। और मैं आप को वादा करता हूं। 

भाइयों-बहनों  

मेरे लिए आपका एक-एक वोट, वोट नहीं है, ईश्वर रूपी जनता जनार्दन का आर्शीवाद है। ये आशीर्वाद परमात्मा से कम नहीं है। ये आशीर्वाद ईश्वर से कम नहीं है। इसलिए भारतीय जनता पार्टी को दिया गया एक-एक वोट, कमल के फूल को दिया गया एक-एक वोट, विकसित भारत बनाएगा ये मोदी की गारंटी है। कमल के निशान पर आप बटन दबाएंगे, कमल के फूल पर आप वोट देंगे तो वो सीधा मोदी के खाते में जाएगा। वो सीधा मोदी को मिलेगा।      

भाइयों और बहनों, 

7 मई को चिंतामणि महाराज जी को भारी मतों से जिताना है। मेरा एक और आग्रह है। आप घर-घर जाइएगा और कहिएगा मोदी जी ने जोहार कहा है, कहेंगे। मेरे साथ बोलिए...  भारत माता की जय! 

भारत माता की जय! 

भारत माता की जय!