State Budget for the year 2012-2013 presented in Gujarat Assembly

Published By : Admin | February 24, 2012 | 09:55 IST

Annual Budget for the year 2012-2013 presented by Finance Minister Vajubhai Vala on the floor of the Assembly

Shri Narendra Modi says the budget show details of how the state will achieve inclusive growth

All sectors of the economy covered in the Budget. New measures in the health, education and women development also announced.

Gujarat Chief Minister Shri Narendra Modi said that the Annual Budget for year 2012-2013 shows the details of how the state will achieve inclusive growth.

“This budget shows that the state is heading to which direction. In last fifty years the size of planning was Rs 2,30,000 crore , while only in last five year the size was Rs 2,50,000 crore. Even a common person can understand this leap jump of the state in the direction of development,” said Shri Modi.

He added that both in terms of figures and economic soundness, this budget is on top and his very ambitious. He said that the term ‘inclusive growth’ is often repeated but through the budget we can come to know what it actually means. Shri Modi believed that the budget gives an impetus to development in an organized way and that there was something for everyone in this budget. It allows the farmers of Gujarat to stand on their own feet, Shri Modi said.

BUDGET HIGHLIGHTS Finance Minister Shri Vajubhai Vala presented the annual Budget for the year 2012-2013 on the floor of the Gujarat Assembly in the presence of Shri Narendra Modi. The Budget contains a series of new development measures and several pro-people announcements that spread across all sectors of Gujarat’s economy.

The Finance Minister said that the Government would clear all pending applications for new agriculture power connections in the state within the next 3 years. In the last decade the Gujarat Government has already given 4 lakh connections whereas all previous governments gave 6 lakh connections in total, Shri Vala said.

A dedicated TV channel for agriculture training and promotion would be launched. 2 food parks and food-processing mission have been announced. The Minister announced Rs 20 crore for 3 lakh cotton farmers as an aid for cotton crop insurance premium.

The Budget also included 5 new animal hostels, 50 veterinary dispensaries and 57 new mobile veterinary centres. The Gauseva Board will now be renamed as Gauseva and Gauchar Vikas Board and will work for development of Gauchars.

For women development, a special women’s economic zone would be set up at the Sanand GIDC. In addition 5 new it is and 41 Naari Adalats were announced.

In the health sector, Shri Vala announced the purchase of 50 new ambulances for the 108 service. Himmatnagar in North Gujarat will have a new medical college. The Adivasi dominated areas would get new Ayurvedic and Homeopathic Colleges. The Amrutam Scheme was announced whereby there would be free treatment worth Rs. 200 crore for BPL patients of burns, neuro or cancer with each a limit of Rs 2 lakh per patient. Rs 100 crore was announced for Ahmedabad’s Civil Hospital and Rs 40 crore for a new trauma centre there. Rs 20 crore was allotted to expand Ahmedabad’s kidney hospital and Rajkot would get a new cancer research institute.

15 new arts, science and commerce colleges were announced in the budget.

On the infrastructure front, Rs 133 crore was announced for the Ahmedabad-Dholera Expressway. A new river bridge at Vautha connecting Ahmedabad and Kheda was allotted Rs. 16.35 crore. 1600 new state transport busses would be added and Rs 2000 crore was announced for urban middle class housing.

With instruments for heart treatment becoming tax free, hear treatment would become cheaper in Gujarat. Various ‘Pooja Samagri’ would also become tax-free since this year.

Explore More
77મા સ્વતંત્રતા દિવસના પ્રસંગે લાલ કિલ્લાની પ્રાચીર પરથી પ્રધાનમંત્રી શ્રી નરેન્દ્ર મોદીનાં સંબોધનનો મૂળપાઠ

લોકપ્રિય ભાષણો

77મા સ્વતંત્રતા દિવસના પ્રસંગે લાલ કિલ્લાની પ્રાચીર પરથી પ્રધાનમંત્રી શ્રી નરેન્દ્ર મોદીનાં સંબોધનનો મૂળપાઠ
How Kibithoo, India’s first village, shows a shift in geostrategic perception of border space

Media Coverage

How Kibithoo, India’s first village, shows a shift in geostrategic perception of border space
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Govt is striving to cut down the electricity bills of consumers to zero: PM Modi
February 24, 2024
Inaugurates, dedicates to nation and lays foundation stone for multiple development projects worth over Rs 34,400 crore in Chhattisgarh
Projects cater to important sectors like Roads, Railways, Coal, Power and Solar Energy
Dedicates NTPC’s Lara Super Thermal Power Project Stage-I to the Nation and lays foundation Stone of NTPC’s Lara Super Thermal Power Project Stage-II
“Development of Chhattisgarh and welfare of the people is the priority of the double engine government”
“Viksit Chhattisgarh will be built by empowerment of the poor, farmers, youth and Nari Shakti”
“Government is striving to cut down the electricity bills of consumers to zero”
“For Modi, you are his family and your dreams are his resolutions”
“When India becomes the third largest economic power in the world in the next 5 years, Chhattisgarh will also reach new heights of development”
“When corruption comes to an end, development starts and creates many employment opportunities”

जय जोहार।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय जी, छत्तीसगढ़ के मंत्री गण, अन्य जन प्रतिनिधि और छत्तीसगढ़ के कोने-कोने में, मुझे बताया गया कि 90 से अधिक स्थान पर हजारों लोग वहां जुड़े हुए हैं। कोने-कोने से जुड़े मेरे परिवारजनों! सबसे पहले तो मैं छत्तीसगढ़ की सभी विधानसभा सीटों से जुड़े लाखों परिवारजनों का अभिनंदन करता हूं। विधानसभा चुनावों में आपने हम सभी को बहुत आशीर्वाद दिया है। आपके इसी आशीर्वाद का परिणाम है कि आज हम विकसित छत्तीसगढ़ के संकल्प के साथ आपके बीच में हैं। भाजपा ने बनाया है, भाजपा ही संवारेगी, ये बात आज इस आयोजन से और पुष्ट हो रही है।

साथियों,

विकसित छत्तीसगढ़ का निर्माण, गरीब, किसान, युवा और नारीशक्ति के सशक्तिकरण से होगा। विकसित छत्तीसगढ़ की नींव, आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर से मज़बूत होगी। इसलिए आज छत्तीसगढ़ के विकास से जुड़ी लगभग 35 हज़ार करोड़ रुपए की परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण हुआ है। इनमें कोयले से जुड़े, सौर ऊर्जा से जुड़े, बिजली से जुड़े और कनेक्टिविटी से जुड़े अनेक प्रोजेक्ट्स हैं। इनसे छत्तीसगढ़ के युवाओं के लिए रोजगार के और नए अवसर बनेंगे। इन परियोजनाओं के लिए छत्तीसगढ़ के मेरे सभी भाई-बहनों को, आप सबको बहुत-बहुत बधाई।

साथियों,

आज NTPC के 1600 मेगावाट के सुपर थर्मल पॉवर स्टेशन स्टेज–वन को राष्ट्र को समर्पित किया गया है। इसके साथ ही इस आधुनिक प्लांट के 1600 मेगावाट के स्टेज-टू का शिलान्यास भी हुआ है। इन प्लांट्स से देशवासियों को कम लागत पर बिजली उपलब्ध हो पाएगी। हम छत्तीसगढ़ को सौर ऊर्जा का भी एक बहुत बड़ा केंद्र बनाना चाहते हैं। आज ही राजनांदगांव और भिलाई में बहुत बड़े सोलर प्लांट्स का लोकार्पण किया गया है। इसमें ऐसी व्यवस्था भी है, जिससे रात में भी आस-पास के लोगों को बिजली मिलती रहेगी। भारत सरकार का लक्ष्य सोलर पॉवर से देश के लोगों को बिजली देने के साथ ही उनका बिजली बिल जीरो करने का भी है। मोदी हर घर को सूर्य घर बनाना चाहता है। मोदी हर परिवार को घर में बिजली बनाकर, वही बिजली बेचकर कमाई का एक और साधन देना चाहता है। इसी उद्देश्य के साथ हमने पीएम सूर्यघर- मुफ्त बिजली योजना शुरु की है। अभी ये योजना 1 करोड़ परिवारों के लिए है। इसके तहत घर की छत पर सौर ऊर्जा पैनल लगाने के लिए सरकार मदद देगी, सीधे बैंक खाते में पैसा भेजेगी। इससे 300 यूनिट तक बिजली मुफ्त मिलेगी और ज्यादा बिजली पैदा होगी, वो सरकार खरीद लेगी। इससे परिवारों को हर वर्ष हज़ारों रुपए की कमाई होगी। सरकार का जोर हमारे अन्नदाता को ऊर्जादाता बनाने पर भी है। सोलर पंप के लिए, खेत के किनारे, बंजर ज़मीन पर छोटे-छोटे सोलर प्लांट लगाने के लिए भी सरकार मदद दे रही है।

भाइयों और बहनों,

छत्तीसगढ़ में डबल इंजन सरकार जिस प्रकार अपनी गारंटियों को पूरा कर रही है, वो बहुत प्रशंसनीय है। छत्तीसगढ़ के लाखों किसानों को 2 वर्ष का बकाया बोनस दिया जा चुका है। चुनाव के समय मैंने तेंदुपत्ता संग्राहकों के पैसे बढ़ाने की भी गारंटी दी थी। डबल इंजन सरकार ने ये गारंटी भी पूरी कर दी है। पहले की कांग्रेस सरकार गरीबों के घर बनाने से भी रोक रही थी, रोड़े अटका रही थी। अब भाजपा सरकार ने गरीबों के घर बनाने के लिए तेज़ी से काम कर दिया है। हर घर जल की योजना को भी सरकार अब तेज़ी से आगे बढ़ा रही है। PSC परीक्षा में हुई गड़बड़ियों की जांच का भी आदेश दे दिया गया है। मैं छत्तीसगढ़ की बहनों को महतारी वंदन योजना के लिए भी बधाई देता हूं। इस योजना से लाखों बहनों को फायदा होगा। ये सारे निर्णय दिखाते हैं कि बीजेपी जो कहती है, वो करके दिखाती है। इसलिए लोग कहते हैं, मोदी की गारंटी यानि गारंटी पूरा होने की गारंटी।

साथियों,

छत्तीसगढ़ के पास परिश्रमी किसान, प्रतिभाशाली नौजवान और प्रकृति का खज़ाना है। विकसित होने के लिए जो कुछ भी चाहिए, वो छत्तीसगढ़ के पास पहले भी मौजूद था और आज भी है। लेकिन आज़ादी के बाद जिन्होंने देश पर लंबे समय तक शासन किया, उनकी सोच ही बड़ी नहीं थी। वो सिर्फ 5 साल के राजनीतिक स्वार्थ को ध्यान में रखते हुए फैसले लेते रहे। कांग्रेस ने सरकारें बार-बार बनाईं, लेकिन भविष्य का भारत बनाना भूल गई, क्योंकि उनके मन में सरकार बनाना यहीं काम था, देश को आगे बढ़ाना ये उनके एजेंडा में ही नहीं था। आज भी कांग्रेस की राजनीति की दशा और दिशा यही है। कांग्रेस, परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टिकरण से आगे सोच ही नहीं पाती। जो सिर्फ अपने परिवारों के लिए काम करते हैं, वो आपके परिवारों के बारे में कभी नहीं सोच सकते। जो सिर्फ अपने बेटे-बेटियों का भविष्य बनाने में जुटे हैं, वो आपके बेटे-बेटियों के भविष्य की चिंता कभी नहीं कर सकते। लेकिन मोदी के लिए तो आप सब, आप ही मोदी का परिवार हैं। आपके सपने ही मोदी का संकल्प है। इसलिए, मैं आज विकसित भारत-विकसित छत्तीसगढ़ की बात कर रहा हूं।

140 करोड़ देशवासियों को, उनके इस सेवक ने अपने परिश्रम, अपनी निष्ठा की गारंटी दी है। 2014 में, मोदी ने गारंटी दी थी कि सरकार ऐसी होगी कि पूरी दुनिया में हर भारतीय का माथा गर्व से ऊंचा होगा। ये गारंटी पूरी करने के लिए मैंने अपने आप को खपा दिया। 2014 में, मोदी ने गारंटी दी थी कि सरकार गरीबों के लिए कोई कोर कसर बाकी नहीं रखेगी। गरीबों को लूटने वालों को गरीबों का पैसा लौटाना पड़ेगा। आज देखिए, गरीबों का पैसा लूटने वालों पर सख्त कार्रवाई हो रही है। गरीबों का जो पैसा लुटने से बचा है, वही पैसा गरीब कल्याण की योजनाओं में काम आ रहा है। मुफ्त राशन, मुफ्त इलाज, सस्ती दवाएं, गरीबों के घर, हर घर नल से जल, घर-घर गैस कनेक्शन, हर घर टॉयलेट, ये सारे काम हो रहे हैं। जिन गरीबों ने इन सुविधाओं की कभी कल्पना भी नहीं की थी, उनके घर में भी ये सुविधाएं पहुंच रही हैं। विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान मोदी की गारंटी वाली गाड़ी, इसलिए ही गांव-गांव तक आई थी। और अभी माननीय मुख्यमंत्री जी ने गारंटी वाली गाड़ी में क्या-क्या काम हुए उसके सारे आकड़ें बताएं, उत्साह बढ़ाने वाली बातें बताई।

साथियों,

10 वर्ष पहले मोदी ने एक और गारंटी दी थी। तब मैंने कहा था कि ऐसा भारत बनाएंगे, जिसके सपने हमारी पहले वाली पीढ़ियों ने बहुत आशा के साथ, उन सपनों को देखा था, सपनों को संजोया था। आज देखिए, चारों तरफ, हमारे पूर्वजों ने जो सपने देखे थे ना वैसा ही नया भारत बन रहा है। क्या 10 वर्ष पहले किसी ने सोचा भी था कि गांव-गांव में भी डिजिटल पेमेंट हो सकता है? बैंक का काम हो, बिल जमा कराना हो, कहीं अर्जी-एप्लीकेशन भेजनी हो, वो घर से संभव हो सकता है? क्या ये कभी किसी ने सोचा था कि बाहर मजदूरी करने गया बेटा, पलक-झपकते ही गांव अपने परिवार तक पैसे भेज पाएगा? क्या कभी किसी ने सोचा था कि केंद्र की भाजपा सरकार पैसे भेजेगी और गरीब के मोबाइल पर तुरंत संदेश आ जाएगा कि पैसा जमा हो चुका है। आज ये संभव हुआ है। आपको याद होगा, कांग्रेस के एक प्रधानमंत्री थे, उन प्रधानमंत्री ने अपनी ही कांग्रेस सरकार के लिए कहा था, खुद की सरकार के लिए कहा था, उन्होंने कहा था कि दिल्ली से 1 रुपया भेजते हैं तो गांव में जाते-जाते-जाते सिर्फ 15 पैसा पहुंचता है, 85 पैसा रास्ते में ही गायब हो जाता है। अगर यही स्थिति रहती तो आज आप कल्पना कर सकते हैं कि क्या स्थिति होती? अब आप हिसाब लगाइए बीते 10 साल में बीजेपी सरकार ने 34 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा, 34 लाख करोड़ से ज्यादा, ये आंकड़ा छोटा नहीं है, DBT, Direct Benefit Transfer यानि दिल्ली से सीधा आपके मोबाइल तक पैसा पहुंच जाता है। DBT के माध्यम से देश की जनता के बैंक खातों में 34 लाख करोड़ रूपये भेजे हैं। अब आप सोचिए, कांग्रेस सरकार होती और 1 रूपये में से 15 पैसे वाली ही परंपरा होती तो क्या होता, 34 लाख करोड़ में से 29 लाख करोड़ रुपए, रास्ते में ही कहीं न कहीं कोई बिचौलिया चबा जाता। बीजेपी सरकार ने मुद्रा योजना के तहत भी युवाओं को रोजगार-स्वरोजगार के लिए 28 लाख करोड़ रुपए की मदद दी है। अगर कांग्रेस सरकार होती तो उसके बिचौलिए भी, इसमें से 24 लाख करोड़ मार लेते। बीजेपी सरकार ने पीएम किसान सम्मान निधि के तहत किसानों को पौने तीन लाख करोड़ रुपए बैंक में ट्रांसफर किए। अगर कांग्रेस सरकार होती तो इसमें से भी सवा दो लाख करोड़ तो अपने घर ले जाती, किसान को पहुंचते ही नहीं। आज ये भाजपा सरकार है जिसने गरीबों को उसका हक दिलाया है, उसका अधिकार दिलाया है। जब भ्रष्टाचार रुकता है तो विकास की योजनाएं शुरू होती हैं, रोजगार के अनेक अवसर मिलते हैं। साथ ही, आपपास के क्षेत्रों के लिए शिक्षा, स्वास्थ्य की आधुनिक सुविधाएं भी बनती हैं। आज जो ये चौड़ी सड़कें बन रही हैं, नई रेल लाइनें बन रही हैं, ये बीजेपी सरकार के सुशासन का ही नतीजा है।

भाइयों और बहनों,

21वीं सदी की आधुनिक जरूरतों को पूरा करने वाले ऐसे ही कामों से विकसित छत्तीसगढ़ का सपना पूरा होगा। छत्तीसगढ़ विकसित होगा, तो भारत को विकसित होने से कोई नहीं रोक सकता है? आने वाले 5 वर्षों में जब भारत दुनिया की तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत बनेगा, तो छत्तीसगढ़ भी विकास की नई बुलंदी पर होगा। ये विशेष रूप से फर्स्ट टाइम वोटर्स के लिए, स्कूल-कॉलेज में पढ़ रहे युवा साथियों के लिए बहुत बड़ा अवसर है। विकसित छत्तीसगढ़, उनके सपनों को पूरा करेगा। आप सभी को फिर से इन विकास कार्यों की बहुत-बहुत बधाई।

धन्यवाद !