শেয়ার
 
Comments
I applaud our vibrant & growing partnership in Trade & investment, defence, S&T, education, clean energy, health, innovation, and culture: PM
We have agreed to intensify our political dialogue and hold regular bilateral summits: PM
The conclusion of the civil nuclear agreement is a symbol of our mutual trust and our resolve to combat climate change: PM
Defence and security cooperation with the UK is a critical plank of bilateral engagements: PM
India and UK will deepen their financial sector collaboration with the Railway Rupee Bonds: PM
Our bilateral cooperation in clean energy will supplement India’s comprehensive & ambitious national plan on climate change: PM
I thank PM David Cameron for British support for India’s permanent membership of UNSC: PM

प्रधान मंत्री श्री कैमरोन,

मीडिया के सभी साथियो, 

प्रधान मंत्री कैमरोन, आपने संबंधों के प्रति जो भावना और दृष्टि दिखाई है उसके लिए मैं आपका आभार प्रकट करता हूं। आपने भारत ब्रिटेन के संबंधों को सशक्त करने में बड़ा योगदान दिया है।

मैं आपके गर्मजोशी से भरे स्वागत और भारत UK के संबंधों को सशक्त बनाने के आपके योगदान के लिए भी आपका धन्यवाद करता हूं।

आपके निमंत्रण के लिए, आपके गर्मजोशी से किए आदर सत्कार के लिए जिस प्रकार से आपने मेरे लिए समय दिया है उसके लिए भी मैं आभारी हूं।

UK की यात्रा पर आने पर मुझे बहुत प्रसन्नता है। यह संबंध भारत के लिए महत्वपूर्ण हैं। ऐतिहासिक तौर पर हम एक-दूसरे के भलीभांति परिचित हैं। हमारे लोगों के बीच संबंध अतुलनीय हैं। हमारे मूल्य एक समान हैं। और इससे हमारे संबंधों को विशेष स्वरूप मिला है। हर क्षेत्र में हमारी साझेदारी vibrant है। और हमारे संबंधों में निरंतर विस्तार हो रहा है – जैसे trade और investment, Defence और security, शिक्षा और विज्ञान, clean energy और स्वास्थ्य, technology और innovation, कला और संस्कृति।

अंतररष्ट्रीय स्तर पर हमारे साझे हित हैं, जो हम दोनों देशों के लिए महत्वपूर्ण हैं।

आज हमने निर्णय लिया है कि हम अपने Political Dialogue को और घनिष्ठ बनाएगें और नियमित रूप से Bilateral Summit करेंगे। हमारे साझे मूल्यों के आधार पर विश्व के अन्य क्षेत्रों में भी विकास के लिए साझेदारी को शुरू करेंगे। और साथ ही साथ हर क्षेत्र में अपने द्विपक्षीय सहयोग को गहरा बनाएंगे।

आज हमने Civil Nuclear Agreement पर हस्ताक्षर किए हैं। यह हमारे आपसी विश्वास का प्रतीक है। और हमने Climate change का सामना करने के लिए हमारे दृढ़ संकल्प का परिचय भी दिया है। भारत के Global Center for Clean Energy Partnerships में सहयोग पर समझौता हुआ है। इससे वैश्विक Nuclear Industry में safety और security और मजबूत होगी।

UK के साथ रक्षा और सुरक्षा सहयोग को हम बहुत मूल्यवान मानते हैं, जिसमें defence trade और नियमित joint exercises भी शामिल हैं। यह साझेदारी निरंतर बढ़ेटी रहेगी।

मुझे बहुत प्रसन्नता है कि फरवरी 2016 में भारत में होने वाली Internal Fleet Review में UK भी शामिल होगा। भारत Defence के आधुनिकीकरण पर बल दे रहा है। और इसके लिए हम Defence manufacturing में 'Make in India' के मिशन को प्राथमिकता दे रहे हैं। मेरा विश्वास है कि UK इसमें एक महत्वपूर्ण साझेदार होगा।

Economic partnership हमारे संबंधों एक अहम और मजबूत स्तंभ है। मेरा विश्वास है कि यह संबंध आने वाले समय बड़ी तेजी से आगे बढेंगे क्योंकि मैं भारत में आपार संभावनाएं हैं और ब्रिटेन में आर्थिक क्षमता और सामर्थय है। UK भारत में तीसरा बड़ा निवेशक है। भारत UK में जितना निवेश करता है वो बाकि EU देशों में निवेश से अधिक है। भारत में UK के निवेश के प्रस्ताव के लिए हमने भारत में एक fast track mechanism की व्यवस्था बनाने का निर्णय लिया है। हम India UK CEO form के पुनर्गठन का स्वागत करते हैं।

London के financial market का हम funds raise करने के लिए और अधिक प्रयोग करेंगे। मेरे लिए प्रसन्नता का विषय है कि हम भारतीय रेल के लिए लंदन में रेलवे rupee bond जारी करने जा रहे हैं। यह एक तरह से स्वाभाविक कि भारतीय रेल की यात्रा यहीं से शुरू हुई थी।

अगले दो दिनों में हमारे business sector के साथ होने वाली engagements का मैं उत्सुकता के साथ इंतजार कर रहा हूं। और हम business sector से कई महत्वपूर्ण announcements की अपेक्षा करते हैं।

मुझे प्रसन्नता है कि हमारी सरकार और प्राइवेट सेक्टर दोनों के बीच हमारा clean energy और climate सहयोग में प्रगति हुई है। यह क्षेत्र महत्वपूर्ण भी है और इसमें आपार संभावनाएं भी हैं। भारत ने Climate change पर जो एक व्यापक महत्वाकांक्षी राष्ट्रीय योजना बनाई है उससे हमारे द्वीपक्षीय सहयोग से लाभ पहुंचेगा। हम आशा करते हैं कि पैरिस में होने वाले सम्मेलन में UN convention on climate change के framework के अंतर्गत ठोस परिणाम निकलेंगे और विश्व एक sustainable और low कार्बन भविष्य के लिए एक निर्णायक रास्ता तय होगा।

आज हमने कई और क्षेत्रों में ठोस परिणाम निकले हैं जिसका भारत की राष्ट्रीय प्राथमिकता से संबंध है। इनमें स्मार्ट सिटीज़, स्वास्थ्य, river cleaning, skill और शिक्षा शामिल है। हम इस बात पर सहमत हैं कि सभी क्षेत्रों में हमारी साझेदारी के लिए technology, research और innovation में मजबूत नीव प्रदान करेंगे।

हम दोनों देश अपनी इस साझेदारी से जनता के लिए नए अवसर पैदा करेंगे और उनकी समद्धि बढ़ाएंगे। साथ ही साथ साझे हितों को प्राप्त कर पाएंगे और अपनी चुनौतियों का ठीक से सामना कर सकेंगे। जैसे एशिया में शांति और स्थिरता, विशेष करके दक्षिण और पश्चिम एशिया में; समुद्रीक सुरक्षा, साइबर सुरक्षा तथा आतंकवाद और अतिवाद।

इन सभी विषय पर मैं और प्रधान मंत्री Cameron आज और कल चैकरस में अपनी बात जारी रखेंगे।

अंत में, UN security council में भारत की स्थायी सदस्यता और अंतराष्ट्रीय export control regimes में भारत की सदस्यता के लिए ब्रिटेन के महत्वपूर्ण समर्थन के लिए प्रधान मंत्री Cameron जी का आभर व्यक्त करना चाहता हूं।

आज पार्लियामेंट में संबोधन करने का सम्मान मिला है। उसके बाद मैं India UK Business Summit को संबोधित करूंगा। इन दोनों अवसरों पर भारत और भारत – ब्रिटेन संबंधों पर और विस्तार से अपने विचार प्रकट करूंगा।

हमारे strategic partnership के लिए आज हमने एक Bold और महत्वाकांक्षी विजन रेखांकित किया है। और जो निर्णय हमने आज लिए हैं यह इस विजन को पाने के हमारे दृढ़विश्वास और प्रतिबद्धता को दर्शाता है। आज के परिणामों से यह स्पष्ट होता है कि हमारे संबंध नई और ऊंचाइयों पर आज ही पहुंच चुके हैं।

Thank You.

'মন কি বাত' অনুষ্ঠানের জন্য আপনার আইডিয়া ও পরামর্শ শেয়ার করুন এখনই!
Modi Govt's #7YearsOfSeva
Explore More
আমাদের ‘চলতা হ্যায়’ মানসিকতা ছেড়ে ‘বদল সাকতা হ্যায়’ চিন্তায় উদ্বুদ্ধ হতে হবে: প্রধানমন্ত্রী

জনপ্রিয় ভাষণ

আমাদের ‘চলতা হ্যায়’ মানসিকতা ছেড়ে ‘বদল সাকতা হ্যায়’ চিন্তায় উদ্বুদ্ধ হতে হবে: প্রধানমন্ত্রী
Over 28,300 artisans and 1.49 lakh weavers registered on the GeM portal

Media Coverage

Over 28,300 artisans and 1.49 lakh weavers registered on the GeM portal
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Minister of Foreign Affairs of the Kingdom of Saudi Arabia calls on PM Modi
September 20, 2021
শেয়ার
 
Comments

Prime Minister Shri Narendra Modi met today with His Highness Prince Faisal bin Farhan Al Saud, the Minister of Foreign Affairs of the Kingdom of Saudi Arabia.

The meeting reviewed progress on various ongoing bilateral initiatives, including those taken under the aegis of the Strategic Partnership Council established between both countries. Prime Minister expressed India's keenness to see greater investment from Saudi Arabia, including in key sectors like energy, IT and defence manufacturing.

The meeting also allowed exchange of perspectives on regional developments, including the situation in Afghanistan.

Prime Minister conveyed his special thanks and appreciation to the Kingdom of Saudi Arabia for looking after the welfare of the Indian diaspora during the COVID-19 pandemic.

Prime Minister also conveyed his warm greetings and regards to His Majesty the King and His Highness the Crown Prince of Saudi Arabia.