মোদীর জন্ম আনন্দের জন্য নয়, একটি মিশনের জন্য হয়েছে: পালামুতে প্রধানমন্ত্রী মোদী
জেএমএম-কংগ্রেস জোটের নেতারা দুর্নীতির মাধ্যমে প্রচুর সম্পদ সংগ্রহ করেছেন: পালামুতে প্রধানমন্ত্রী মোদী
গত ১০ বছরে মোদী আপনাদের একটি মজবুত বাড়ি, বিদ্যুৎ, গ্যাস, জল দিয়েছেন: পালামুতে প্রধানমন্ত্রী মোদী

आप सब लोगन के प्रणाम। रऊआ सब के गोड़ लागत थी, प्रणाम करत ही। ऐसा लग रहा है, आपने जेएमएम और कांग्रेस को दिन में ही तारे दिखा दिए। वहां जो पीछे सिक्योरिटी औऱ प्रशासन के लोग काम करते हैं, मैं देख रहा हूं, बहुत लोग आ रहे हैं, एक शायद उन्होंने एंट्री प्वाइंट बहुत कम बनाए हैं, इसलिए लोगों को आने में दिक्कत हो रही है। अच्छा होगा, पीछे आ रहे हैं तो आने दिजिए। इतनी स्क्रूटनी करने की क्या जरूरत है। बहुत बड़ी मात्रा में हूजूम का हूजूम आ रहा है। शायद यहां से मेरी बात, प्रशासन वालों को मेरी बात सुनाई देगी या नहीं सुनाई देगी, मुझे मालूम नही, otherwise यहां के कोई व्यक्ति वहां जाकर समझाएं, ताकि ज्यादा लोग अंदर आ सकें। वैसे भी, ये पंडाल छोटा पड़ गया है।

साथियों,

मैंने लंबे अर्से तक पार्टी के संगठन का काम किया है। यहां झारखंड में भी, और इलाके में जाया करता था। चुनाव लड़वाएं भी हैं, औऱ चुनाव लड़े भी हैं। लेकिन सुबह दस, साढ़े दस बजे इतनी बड़ी रैली करने की हिम्मत मैं नहीं कर सकता था। मैं यहां आपकी पूरी टीम को बधाई देता हूं, भाई। इतनी बड़ी रैली सुबह साढ़े दस बजे करना, ये बहुत बड़ी ताकत लगती है। आपने बड़ा कमाल किया है जी। ये धरती, शहीद नीलांबर-पीतांबर की धरती है। इस धरती को प्रणाम करता हूँ। इतनी बड़ी रैली, इतनी बड़ी संख्या में माताएं-बहनें. आपका ये आशीर्वाद, आपका ये प्यार, ये मैं कभी नहीं भूल सकता।

भाइयों और बहनों

आप सभी अपने एक वोट के महत्व को बहुत अच्छी तरह जानते हैं। 2014 में आपके एक वोट ने ऐसा काम क्या किया, ऐसा काम किया, कि पूरी दुनिया भारत के लोकतंत्र की ताकत को सलाम करने लग गई। आपने 2014 में अपने एक वोट से कांग्रेस की महाभ्रष्ट सरकार को हटा दिया था। आपके एक वोट ने BJP-NDA की सरकार बनाई। और आपकी इस एक वोट की ताकत का परिणाम क्या हुआ? आज भारत का डंका पूरी दुनिया में बज रहा है। 500 साल से हमारी कितनी ही पीढ़ियां संघर्ष करती रही, इंतजार करती रही, लाखों लोग शहीद होते रहे, पांच सौ साल लंबा अविरल संघर्ष चला, शायद दुनिया में इतना लंबा अविरल संघर्ष इतिहास में कहीं हुआ होगा, जो अयोध्या में हुआ। आपके वोट की ताकत देखिए, 500 साल तक लड़ाई लड़नी पड़ती थी। 500 साल तक इंतजार करना पड़ता था। 500 साल तक अनेक पीढ़ियां चली गई। लेकिन जो काम नहीं हुआ वो आपके एक वोट से आज राम मंदिर बन गया। देश आजाद हुआ, जम्मू कश्मीर में आए दिन, खतरे की घंटी बजती रहती थी। जम्मू कश्मीर का क्या होगा चिंता रहती थी। बम धमाके, गोला बारूद, कश्मीर से वही सुनाई देता था, आपके एक वोट की ताकत देखिए, आपने जम्मू कश्मीर देखा भी नहीं होगा लेकिन आपके वोट की ताकत देखिए जो 370 की दीवार थी, आपके वोट ने 370 की उस दीवार को जमींदोज करके जमीन में गाड़ दिया। आए दिन हमारे झारखंड में, छत्तीसगढ़ में, उड़ीसा में, बिहार में, आंध्रं में पशुपति से ले करके तिरूपति तक नक्सलवाद के आतंकवाद को फैला करके इस धरती को लहूलूहान कर देता था। इतनी माताएं अपना जवान बेटा खो देती थीं, पाल पोस कर के बड़ा किया बेटा, गलत संगत में आ कर, बंदूक उठाकर जंगलों में भाग जाता था। आपके एक वोट ने कितनी ही माताओं की आस पूरी की, बच्चों को बचा लिया। आपके एक वोट ने, इस धरती को लहूलूहान करने वाले नक्सलवादी आतंकवादी से मुक्ति दिला दी, ये आपके एक वोट की ताकत है।

साथियों,

याद करिए कांग्रेस के समय क्या हाल था, यहां बम फूटते थे, आतंकवादी गोलियां चलाते थे। निर्दोषों को मौत के घाट उतारते थे, और दिल्ली की सरकार पाकिस्तान को लव लेटर भेजती थी, पाकिस्तान को लव लेटर भेजती थी, अमन की आस लगाते थे, अमन की आस, पाकिस्तान के पास जितने लेटर जाते थे उससे ज्यादा आतंकी भेजता था। औऱ बम-गोले लेकर वो देश में फिर खून की होली खेलते थे। और जब आपने एक वोट दिया न, उस वोट ने मुझमें इतना दम भर दिया, इतना दम भर दिया मैंने आते ही कह दिया, enough is enough, बहुत हो चुका है। मैंने कहा, अब ये खेल नहीं चलेगा, मां भारती का अपमान नहीं सहन करूंगा, निर्दोषों को मारने नहीं दूंगा। आज नया भारत डोजियर नहीं देता है, ये नया भारत है घर में घुस करके मारता है। सर्जिकल स्ट्राइक और एयरस्ट्राइक के तमाचे ने पाकिस्तान को हिलाकर रख दिया था। पहले एक समय ऐसा था कि कोई महीना ऐसा नही जाता था कि झारखंड, बिहार के इस इलाके से, देश की सेवा करते करते हमारे नौवजवान सीमा पर शहीद न होते हों, और तिरंगे में लिपटकरके उनके शरीर वापिस न आते हों, ये हर महीने चलता था। आज वो सब बंद हो चुका है। ये आपके वोट ने किया है। एक वो स्थिति थी जब आतंकी हमले के बाद कांग्रेस की डरपोक सरकार दुनिया भर में जा-जाकर रोती थी। एक ये स्थिति है, वो वक्त चला गया जब हम दुनिया में जा करके रोते रहे। आज स्थिति ये है पाकिस्तान दुनिया भर में जा-जा करके रो रहा है। बचाओ, बचाओ चिल्ला रहा है। आज पाकिस्तान के नेता, कांग्रेस के शहजादे को पीएम बनाने के लिए दुआ कर रहे हैं। लेकिन मज़बूत भारत तो अब मज़बूत सरकार ही चाहता है। ये दृश्य दिखाता है, पूरा हिन्दुस्तान में हर कोई कहता है मजबूत भारत के लिए मजबूत सरकार, मजबूत सरकार के लिए मोदी की सरकार। फिर एक बार मोदी सरकार, फिर एक बार मोदी सरकार, फिर एक बार मोदी सरकार,

भाइयों और बहनों,

मुझे सीएम और पीएम के रूप में देश वासियों की सेवा करते करते, लगभग 25 साल हो जाएगें। आपके आशीर्वाद से पच्चीस साल हो गए, मोदी पर एक पैसे के घोटाले का आरोप नहीं लगा है। और मेरे लिए तो मेरी ये मॉ बहनें बैठी हैं न, उनकी दुआ उनके आशिर्वाद ही मेरे लिए बहुत है, काफी है। मुझे जीवन किसी औऱ की जरूरत नहीं है जी, मैं आज भी पद प्रतिष्ठा, सुख, समृद्धि इन सबसे दूर वैसा हूँ जैसा आपने मुझे यहां भेजा था। मोदी मौज के लिए नहीं मिशन के लिए पैदा हुआ है। जेएमएम कांग्रेस के नेताओँ ने भ्रष्टाचार से अपार धन संपदा खड़ी की है। मेरे पास अपनी साइकिल भी नहीं है। न मेरा घर है।

साथियों,

संपत्ति हो, राजनीति हो, सब कुछ ये अपने-अपने बच्चों के लिए अर्जित कर रहे हैं। ये उनके लिए विरासत में ढेर सारी काली कमाई छोड़ कर जाएंगे। लेकिन मोदी को किसके लिए छोड़ना है भाई, आगे भी कुछ रखा नहीं है पीछे भी कुछ रखा नहीं है। मेरे वारिस तो आप सभी हैं, आपके बच्चे हैं, आपके नाती-पोते, यही मेरे वारिस हैं। मेरी इच्छा है, मैं विरासत में आपको, आपके बच्चों को विकसित भारत ही दे करके जाऊं, ताकि आपको कभी मुसीबत भरी जिंदगी जीने की नौबत न आए। आपका अच्छा जीवन हो। आपको वो सब न देखना पड़े, जो मेरे जैसे परिवार, जो मैंने कभी देखा था, मेरे जैसे लाखों करोड़ों परिवारों ने देखा है। मैं उन स्थितियों से देश को मुक्त कराना चाहता हूँ।

भाइयों-बहनों,

आप मेरे जीवन को भलीभांति जानते हैं। मैं तो गरीबी का जीवन जीकर आया हूं। मैंने गरीबी को जीया है। गरीब की जिंदगी कितनी तकलीफ वाली होती है न उससे गुजरते-गुजरते यहां मैं आय़ा हूँ। इसलिए, 10 वर्षों में गरीब कल्याण की हर योजना की प्रेरणा, मेरे अपने जीवन के अनुभव से जन्म लिया है। जब आज मैं लाभार्थियों से मिलता हूं, तो ख़ुशी के मारे मेरे आंख में से आंसू निकल आते हैं। ये आंसू वही समझ सकता है, जिसने गरीबी देखी हो, जिसने कष्ट में जीवन गुजारा हो। जिसने मां को धुएं में खांसते देखा नहीं, उसको ये आंसू कभी भी समझ नहीं आ सकते। जिसने अपना पेट बांधकर, मां को सोते नहीं देखा,जिसने लोटा भर पानी पीकर मां को भूख मिटाते नहीं देखा, जिसने अपनी बीमारी को छिपाते नहीं देखा, शौचालय के अभाव में पीड़ा और अपमान सहती मां को नहीं देखा, वो मोदी के इन आंसुओं का मर्म नहीं समझेगा। लेकिन भाइयों और बहनों, ये कांग्रेस के शहज़ादे, मोदी के आंसुओं में अपनी खुशी ढूंढ रहे हैं। कहते हैं मोदी के आंसू अच्छे लगते हैं। ये निराश-हताश लोग अब इतने कुंठित हो गए हैं। एक कहावत है: जाके पांव न फटे बिवाई, सो क्या जाने पीर पराई। कांग्रेस के शहज़ादे की हालत वही है। वो तो गर्व से कहते हैं कि उनके घर में कई प्रधानमंत्री थे। खुद चांदी के चमम्च से खाते रहे, गरीब की, दलित-आदिवासी की झोपड़ी में फोटो खिंचवाते रहे, लेकिन गरीब के लिए कुछ नहीं किया। मोदी के 10 साल के सेवाकाल में 25 करोड़ देशवासी गरीबी से बाहर निकले हैं। इसलिए वो आज भाजपा को आशीर्वाद दे रहे हैं। यही मेरे गरीब भाई बहन है, उन्हीं के आशीर्वाद तो मेरी शक्ति है। यही तो मेरी पूंजी है।

साथियों,

कांग्रेस ने, उसके सहयोगियों ने पलामू को भी तो अपने हाल पर छोड़ दिया था। दिल्ली में बैठे इनके नेताओं को नक्शा दिखाकर पूछ लीजिए की पलामू कहां है, तो पता ही नहीं होगा। ऐसे ही जिलों में देश के सबसे ज्यादा दलित-पिछड़े-आदिवासी, मेरे भाई बहन रहते हैं। लेकिन इसकी उन्हें परवाह ही नहीं थी। ऊपर से ऐसे जिलों को पिछड़ा जिला कहकर पलामू को अपमानित किया जाता था। ये तो बैकवर्ड डिस्ट्रिक्ट है बैकवर्ड डिस्ट्रिक्ट है। यानि कोई अच्छा अफसर यहां आने को तैयार नहीं, ये हाल बनाकर रखा। आपने मुझे 2014 में सेवा का मौका दिया। मैंने कहा ऐसे नहीं चलेगा, मैंने पिछड़ा-पिछड़ा सारी जो इन जिलों को बैकवर्ड बैकवर्ड कह करके बरबाद करके रख था न, मैंने कहा आकांक्षी जिले हैं, यहां के लोगों के भी सपने हैं। यहां के लोगों की भी आंकाक्षाऐं हैं। मैं उसे मरने नहीं दूंगा। मैं उसमें नई जान भर दूंगा।और मैं इन आंकाक्षी जिलों को, होनहार जिला बनाकर रहूंगा। पहले अफसर ऐसे जिलों में जाने से डरते थे। अफसरों लगता था यहां पेस्टिंग मतलब यहां मेरा पनिशमेंट पोस्टिंग हो गया, सज़ा देने के लिए यहां तैनात किया गया। मैंने देश के सबसे अच्छे अफसरों को पलामू में लगाया, अब मेरे पलामू के लोगों की मेहनत देखिए,पलामू में आकांक्षी जिला कार्यक्रम से शुरू होने से पहले और अब, जमीन आसमान का फर्क आ गया है। 100 में से सिर्फ 14 गरीब परिवार ऐसे थे, जिनके पास पक्के घऱ थे, आज पलामू में करीब-करीब हर परिवार के पास पक्का घर हो रहा है। और मैं आपको भी कहता हूँ जब इस चुनाव अभियान में घर-घर जाएगें न, औऱ गांव में कहीं भी कच्चा मकान दिखे, अगर किसी गरीब परिवार को नहीं पहुंचा है। ऐसे एक दो लोग मिल सकते हैं, उनका नाम पता ले करके मुझे भेज दिजिए, मैं आपको गारंटी देता हूँ, मैं आपको गारंटी देता हूँ तीसरे टर्म में, जब मैं अगली बार प्रधानमंत्री बनूंगा, उनका पक्का घर बना करके दे दूंगा। और आप लोग भी मुझे जानते हो नहीं जानते हो, आप मान लिजिए, मेरे लिए आप ही मोदी हैं, जा करके गारंटी दे देना। आकांक्षी जिला कार्यक्रम शुरू होने से पहले, यहां 100 में से 80 परिवार अंधेरे में रहने के लिए मजबूर थे। यह भी आंकड़ा याद रखिए, सौ में से 80 परिवार अंधेरे में। आज पलामू के हर घऱ, हर स्कूल में बिजली है, 2014 के पहले, पलामू की 100 में से 3 ग्राम पंचायतों में इंटरनेट था, आज यहां हर गांव डिजिटल क्रांति का हिस्सा है। ये सब मोदी ने किसके लिए किया है? भाई। मोदी ये किसके लिए मेहनत करता है? मोदी ये किसके लिए मेहनत करता है, भाई ? किसके लिए करता है? मुझे संतोष हो रहा है कि मैं इस प्रकार से आपकी सेवा कर रहा हूँ। ये मैं आपके, आपके बच्चों के लिए कर रहा हूँ। मैं, यह आपके उज्ज्वल भविष्य के लिए कर रहा हूं।

भाइयों और बहनों

आज मैं पलामू को बधाई देने के साथ ही आपको सतर्क करने भी आया हूं। मोदी यहां रोजगार बढ़ाना चाहता है, मोदी आपके जीवन में खुशहाली लाना चाहता है, लेकिन कांग्रेस वालों की नजर आपकी जमीन-जायदाद पर पड़ गई है। कांग्रेस हो या जेएमएम हो उनको कुछ और नजर ही नहीं आता है, और ये कांग्रेस ने अभी अपना मैनिफेस्टो निकाला है, और बेईमानी देखिए, वो कह रहे हैं कि वो आपका एक्स रे करेंगे, एक्स करेंगे, कितनी जमीन है, घर कहां है, कितने कमरे हैं, घर में सोना है कि नहीं है, चांदी है कि नही है, मंगलसूत्र है कि नही है, जांच कराएगें औऱ फिर उनसमें से कुछ हिस्सा छीन लेंगे। औऱ आपस से वो ले करके अपने वोट बैंक को देना चाहते हैं। क्या आप आपकी पूंजी छीनने देंगे, किसी भी सरकार को आप अपनी पूंजी लेने देंगे? आपकी मेहनत की कमाई, आपकी बचाय़ी हुई कमाई किसी को देने देंगे, आपके पूर्वजों ने जो दिया है से आप किसी को देने देंगे? ये आपकी कमाई का, आपकी फसल का, आपके वन धन का, हिस्सा भी हड़प लेना चाहते हैं।

साथियों,

कांग्रेस और इंडी गठबंधन ने एक और खतरनाक बात कही है। ये लोग अब SC/ST/OBC का आरक्षण छीन लेना चाहते हैं। जब हमारा संविधान बन रहा था, तब संविधान निर्माताओं ने मिलकर तभी एक बात तय की थी। और ये पक्का हो गया था कि भारत में कभी भी धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं दिया जाएगा। लेकिन अब कांग्रेस और उनके चट्टे बट्टे, ये जेएमएम औऱ आरजेडी सब ये आदिवासियों का, पिछ़ड़ों का, दलितों का आरक्षण में डाका डालकर, आरक्षण में से कुछ हिस्सा छीन करके, धर्म के आधार पर, संविधान बदल करके, मुसलमानों को देना चाहती है। और कांग्रेस चिल्ला चिल्ला कर कह रही है औऱ आरजेडी औऱ जेएमएम वाले जवाब भी नहीं दे रहे हैं। वो कांग्रेस के इस एलान को मौन सहमति दे रहे हैं। क्या आप अपने आरक्षण के हक को जाने देंगे? क्या आप अपने आरक्षण के हक को जाने देंगे? बाबा साहेब अंबेडकर ने दिया है, उसको छीनने देंगे क्या? मेरे आदिवासी भाई बहन, मेरे दलित भाई बहन, मेरे पिछड़े भाई बहन, आप लिखकर रखिए, ये मेरी गारंटी है कि जब तक मोदी जिंदा है, जब तक मोदी जिंदा है तब तक दलितों के, आदिवासियों के, पिछड़ों के आरक्षण में से रत्ती भर मैं धर्म के आधार पर उनके वोट बैंक को नहीं देने दूंगा। मैं संविधान के साथ कोई भी छेड़छाड़ नहीं करने दूंगा।

साथियों,

भाजपा ने, NDA ने, हमेशा आदिवासी हितों को सर्वोपरि रखा है। ये मेरा सौभाग्य कि, मैं देश का पहला प्रधानमंत्री हूं जो उलिहादु गया, भगवान बिरसा मुंडा के गांव गया। साल 2025 भगवान बिरसा मुंडा का 150वां जन्मजंयती वर्ष है। मोदी ने तय किया है कि मेरे तीसरे प्रधानमंत्री के कार्यकाल के दरम्यान हमारे बिरसा मुंडा जी के 150 वीं जयंती हिन्दुस्तान के हर कोने में शान से मनायी जाएगी। बिरसा मुंडा की जन्म, उस जन्म दिवस को जनजातीय गौरव दिवस मनाते हैं, 150 के निमित्त जनजातीय गौरव वर्ष के रूप में मनाया जाएगा। भगवान बिरसा मुंडा की प्रेरणा से ही मैंने 24 हज़ार करोड़ रुपए की पीएम-जनमन योजना शुरू की है। इसका लाभ आदिवासियों में भी जो सबसे पिछड़ी जनजातियां हैं, उन्हें होगा।
भाइयों और बहनों, बीते 10 साल में मोदी ने आपको पक्का घर दिया है, बिजली गैस पानी दिया है। मोदी का तीसरा कार्यकाल शुरू होने दीजिए, जिन-जिन लोगों को अब तक मोदी की योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाया है, उन्हें भी इसका लाभ मिलेगा। औऱ ये मोदी की गारंटी है।

साथियों,

NDA सबका साथ-सबका विकास के लिए प्रतिबद्ध है। यहां झारखंड में ‘आजसू’ पार्टी और सुदेश महतो जी के साथ मिलकर एक ताकत से लड़ाई लड़ रही आपको पलामू से हमारे विष्णु दयाल राम जी को ज्यादा से ज्यादा मतों से विजयी बनाना है। ये हमारे विष्णु दयाल जी इतने सरल हैं, इतने सरल हैं कि पार्लियामेंट में जब मैं उनका किसी से परिचय करवाता हूँ, कि ये डीजीपी थे तो मानने को तैयार नही है। एकदम सरल , जमीन पर रहकरके, सुख दुःख के साथी, ऐसे आपके म्मीदवार हैं, देश को ऐसे लोगों की जरूरत है। 13 मई को आपको अपना बूथ जीतना है। जीतेंगे? पोलिंग बूथ जीतेंगे? मुझे चुनाव तो जीतना है, मुझे पोलिंग बूथ भी जीतना है। आप आप घर-घर जाएगें? दोनों हाथ ऊपर करके बताइए, घर-घर जाएगें? मतदाताओं को मिलेंगे? अच्छा पोलिंग के दिन छोटी छोटी यात्राऐं निकलवा करके मतदान करवाइए। रामधुन करते करते जाइए, उत्सव का माहौल बनाइए, और भारी संख्या में मतदान कराइए, कितनी ही गर्मी क्यों न हो पहले मतदान फिर जनलपान। अच्छा मेरा एक काम करेंगे? मेरा एक काम करेंगे? मुझे बताइए, मेरा एक काम करेंगे? हाथ ऊपर करके बताइए, मेरा एक काम करेंगे? मेरा पर्सनल काम है करेंगे? ये चुनाव का काम नहीं है, करेंगे? ये मोदी का काम है करेंगे? मेरा एक काम करना, घर- घर जाना जा करके कहना, मोदी जी आए थे, और मोदी जी ने आपको जयश्रीराम कहा है। मेरा जयश्रीराम पहुंचा देंगे? पक्का पहुंचा देंगे? बोलिए, भारत माता की जय !

भारत माता की जय !

भारत माता की जय !

बहुत बहुत धन्यवाद

Explore More
ভারতের ৭৭তম স্বাধীনতা দিবস উপলক্ষে লালকেল্লার প্রাকার থেকে দেশবাসীর উদ্দেশে প্রধানমন্ত্রীর ভাষণ

জনপ্রিয় ভাষণ

ভারতের ৭৭তম স্বাধীনতা দিবস উপলক্ষে লালকেল্লার প্রাকার থেকে দেশবাসীর উদ্দেশে প্রধানমন্ত্রীর ভাষণ
PM Modi Crosses 100 Million Followers On X, Becomes Most Followed World Leader

Media Coverage

PM Modi Crosses 100 Million Followers On X, Becomes Most Followed World Leader
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
সোশ্যাল মিডিয়া কর্নার 15 জুলাই 2024
July 15, 2024

From Job Creation to Faster Connectivity through Infrastructure PM Modi sets the tone towards Viksit Bharat