Odisha BJP has pledged to ensure that paddy farmers receive a MSP of Rs 3100: PM Modi in Balangir rally
Under Poshan Abhiyaan, for pregnant women, I send Rs 6,000 to the bank account of every sister of Odisha but the govt here has halted this scheme: PM

जय जगन्नाथ!

जय जगन्नाथ!

जय श्री राम!!

जय श्री राम!!

बलांगीर रा अधिष्ठात्री देवी मां पाटनेश्वरी नकु मोर कोटि कोटि जुहार! मां शमलेश्वरी, मां सुरेश्वरी और मां लंकेश्वरी के चरणों में कोटि-कोटि प्रणाम।

इतनी विशाल संख्या में यहां आप आए हैं, विशेष रूप से माताएं-बहनें आई हैं। यह देख कर के और जहां-जहां मैं उड़ीसा में गया हूं, मैं साफ कह सकता हूं कि ओडिशा में बीजेडी सरकार की विदाई का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। पूरा ओडिशा एक सुर में कह रहा है- उड़ीसा रे प्रथम थर हेब डबल इंजीन सरकारl ओडिशा में पहली बार...डबल इंजन सरकार!

भाइयों और बहनों,

आप मुझे एक बात बताइए, यह उड़ीसा मोदी प्रधानमंत्री बना उसके बाद उड़ीसा का जन्म हुआ क्या। मेरा सवाल समझे आप। क्या मोदी के बाद उड़ीसा आया क्या। पहले था कि नहीं। हजारों साल से था कि नहीं। उड़िया भूमि, उड़िया संस्कृति हजारों साल पुरानी है कि नहीं है। लेकिन कांग्रेस ने सिर्फ यहां की गरीबी की तस्वीरें ही दुनिया को दिखाई। बीजेडी वालों ने भी ना तो गरीबी दूर करने के लिए कुछ किया और ना ही कांग्रेस के प्रयासों को रोकने की हिम्मत दिखाई। लेकिन साथियों, भगवान जगन्नाथ का ये बेटा, आपका ये बेटा, ओडिशा की गौरवमयी धरोहर को मां भारती का सर्वश्रेष्ठ आभूषण मानता है। साल 2022 में हमने बलांगीर के ही नरसिंह प्रसाद गुरी जी को पद्म सम्मान दिया। आप देखिए, इस वर्ष 4 ओडिया कलाकारों- बिनोद कुमार पसायत जी, भागबत प्रधान जी, गोपीनाथ स्वैनजी और बिनोद महराना जी, इनको पद्म पुरस्कार दिया गया है। क्योंकि इन्होंने ओडिया कला-संस्कृति की सेवा की है। जब दिल्ली में G-20 सम्मेलन हुआ, पूरी दुनिया के बड़े-बड़े नेता आएतो मैंने वहां कोणार्क सूर्यमंदिर के चक्र के सामने उनकी तस्वीरें खिंचवाई। और आज दुनिया के यह बड़े बड़े नेताओं के घर में यह कोर्णाक के सूर्य चक्र वाली तस्वीर है। पूरी दुनिया में है, ये हमारी सरकार है जिसने ओडिया वीरता के प्रतीक, पाइका संग्राम के मेमोरियल को स्वीकृति दी। हमारी सरकार ने पाइका संग्राम के सम्मान में एक सिक्का और डाक टिकट भी जारी किया। और सबसे बड़ी बात, ये भाजपा की सरकार है जिसने पहली बार एक आदिवासी बेटी को देश का राष्ट्रपति बनाया। आज ओडिशा की बेटी देश की तीनों सेनाओं को कमांड करती है। आज उड़ीसा की बेटी राष्ट्र का गौरव है। आज उड़ीसा की बेटी राष्ट्र को दिशा दे रही है। यह उड़ीसा का गौरव हमारे लिए है। मुझे बताइए जब उड़ीसा की बेटी इतने ऊंचे पद पर पहुंची तो आपको गर्व होता है कि नहीं होता है। बताइए आपको गर्व होता है कि नहीं होता है। आपको गर्व होता है कि नहीं गर्व होता है। उड़ीसा का सम्मान बढ़ा कि नहीं बढा। माताओं बहनों का सम्मान बढा कि नहीं बढ़ा। आदिवासी समाज का सम्मान बढा कि नहीं बढ़ा। ये किसने किया, किसने किया, किसने किया, किसने किया, भाई किसने किया। अरे आपका जवाब गलत है। ये मोदी ने नहीं किया, आपके एक वोट ने कर दिया है। आपने वोट देकर के मोदी को बिठाया इसके कारण उड़ीसा का गौरव पूरी दुनिया में हो रहा है। यह आपके वोट की ताकत है। मोदी तो निमित्त है। देश की हर मां बहन बेटी को इसका गर्व है।

भाइयों और बहनों,

ओडिशा के लोग बहुत ही स्वाभिमानी होते हैं। वो कभी अन्याय के सामने झुकते नहीं हैं। जब भी मैं ओडिशा के बारे में सोचता हूं, मुझे जयी राजगुरु, बक्सी जगबंधु, वीर सुरेंद्र साई...ऐसे महापुरुषों का स्मरण होता है। मैं चंद्रशेखर बेहरा और उत्कलमणि गोपालबंधु दास जैसे महान व्यक्तित्वों को याद करता हूं। मैं शहीद बाजी राउत और उनके साथियों को याद करता हूं। मैं डॉक्टर हरेकृष्ण महताब और बीजू बाबू को याद करता हूं। मैं इस भूमि के सपूत महाराजा राजेंद्र नारायण सिंह देव जी को भी स्मरण करता हूं। इन सभी ने कभी ओडिशा के सिद्धांतों और इसकी अस्मिता से समझौता नहीं किया। आज ये लोग ओडिशा की स्थिति देखकर क्या सोचते होंगे। उनकी आत्मा पर कितनी बीतती होगी, कितनी दुखी होती होगी उनकी आत्मा। आज उड़िया संस्कृति संकटों में घिरी हुई है। उड़िया अस्मिता कैसे बचेगी। हम उड़िया अस्मिता को किसी के यहां गिरवी भी नहीं रख सकते हैं दोस्तों और इसलिए बीजेपी ने ठान लिया है कि वो ओडिशा को इन संकटों से निकालकर ही रहेगी। और भाइयों बहनों आप डायरी रखते हैं तो लिख लीजिए, आप लिख लीजिए 4 जून ये बीजेडी सरकार की एक्सपायरी डेट है। और मैं आपको अभी से निमंत्रण देता हूं आप लिख के रखिए, ये मोदी आपको निमंत्रण देने आया है। 10 जून को आपको भुवनेश्वर आना है, क्यों 10 जून को भुवनेश्वर क्यों आना है? क्यों आना है? 10 जून को भुवनेश्वर में बीजेपी का मुख्यमंत्री शपथ लेने वाला है। और यह भी लिख रखिए भुवनेश्वर में भाजपा का मुख्यमंत्री बनेगा और वह बनेगा जो उड़िया भूमि में जन्मा है जो यहां की संस्कृति को जीता है जो भगवान जगन्नाथ के चरणों में बड़ा हुआ है वही और एहा हेऊछी मोदी र ज्ञारेंटी!

भाइयों और बहनों,

ये उड़ीसा राज्य अमीर राज्य है। हिंदुस्तान के सबसे अमीर राज्यों में एक नाम उड़ीसा का है। लेकिन हिंदुस्तान के सबसे ज्यादा गरीबों का अगर कहीं रहना होता है तो उड़ीसा में होता है। यहां की जनता गरीबी से जूझ रही है। इतना धनवान प्रदेश, लोग गरीब क्यों है। 50 साल आपके बर्बाद हो चुके, 50 साल। अब उड़ीसा को बचाना है कि नहीं बचाना है। उड़ीसा की अस्मिता बचानी है कि नहीं बचानी है। उड़ीसा के बच्चों का भविष्य बचाना है कि नहीं बचाना है। और इसलिए मैं आज उड़ीसा के लिए आपसे आशीर्वाद मांगने आया हूं।

भाइयों-बहनों,

आप मुझे पूरी ताकत से बताइए, यह हमारे उड़ीसा की बर्बादी हुई। इतनी संपदा, प्राकृतिक संपदा का भव्य खजाना है यहां, लेकिन यहां बर्बादी ही बर्बादी है। इसका गुनहगार कौन है? इसका गुनहगार कौन है? इसका गुनहगार कौन है? उनको विदाई देनी चाहिए कि नहीं देनी चाहिए। और अब तो आपके इलाके में मुख्यमंत्री आए चुनाव लड़ने के लिए। जरा गाजे बाजे के साथ कर दो भाई। अच्छा एक काम करना। अगर यहां आपके मुख्यमंत्री जो यहां से चुनाव लड़ने वाले हैं ना और हमारे यादव जी उनके खिलाफ लड़ रहे हैं शेर लड़ रहा है शेर। एक काम करना भाई। जब नवीन बाबू अगर गलती से भी यहां चुनाव प्रचार के लिए आ जाएं और अगर आपके नसीब में उनको मिलना हो जाए क्योंकि वो किसी को मिलते नहीं है लेकिन अगर आपका मिलना हो जाए तो उनको पूछिए कि आप जहां से चुनाव लड़ रहे हैं, ये कांताबाजी से चुनाव लड़ रहे हैं। उनको एक प्रश्न पूछोगे मेरी तरफ से। पूछोगे, नहीं पूछोगे भाई, 25 तक नहीं पूछा आपने, इसलिए ये आपकी हालत हुई है। उनको एक सवाल पूछना कि आप कांताबाजी से चुनाव लड़ रहे हैं वहां के बिना कागज लिए, हाथ में कागज नहीं रखना है, बिना कागज लिए 10 गांवों के नाम बोल दीजिए। बस इतना पूछ लीजिए। वे 10 गांवों के नाम नहीं बता पाएंगे। इतने साल मुख्यमंत्री रहे हैं और जहां चुनाव लड़ने आए हैं वहां के 10 गांव के नाम बिना कागज बोल दें, आप देखिए साहब वो यहां की जमीन से कटे हुए हैं, वो आपसे कटे हुए हैं, वो आपके दुख नहीं जानते, वो आपके सपनों को नहीं समझते हैं, वो आपके सामर्थ्य को नहीं जानते। भाइयों बहनों, और इसीलिए हमारा उड़ीसा इतना धनवान होने के बाद भी यहां के लोग गरीब हैं, मेरे गुजरात में इतने उड़िया लोग रहते हैं मैंने इनमें इतनी ताकत देखी है, इतना सामर्थ्य देखा है, इतने प्रतिभावान लोग हैं, मेरे गुजरात की आन बान शान बढ़ाने में काम कर रहे हैं, वो तो उड़ीसा लिए बहुत कुछ कर सकते हैं भाई। आपने करीब 25 साल तक BJD को अवसर दिया। बीजेडी नेताओं के पास बंगले हो गए, गाड़िया आ गईं, लेकिन यहां से नौजवान दादन के लिए मजबूर है, पलायन के लिए मजबूर है। आप मुझे बताइए साथियों, पलायन की ये परंपरा ये मजबूरी समाप्त होनी चाहिए कि नहीं, समाप्त होनी चाहिए कि नहीं, ये कौन करेगा? कौन करेगा? कौन करेगा? कौन करेगा? आप करेंगे पक्का, आपका वोट करेगा। कमल को असेंबली में भी, कमल को पार्लिमेंट में भी, कमल का बटन दबाइए समस्याओं का जाना शुरू हो जाएगा। यहां से साथी बहन संगीता कुमारी सदेव जी लोकसभा का चुनाव लड़ रही है और विधानसभा के हमारे कई विधायक साथी चुनाव लड़ रहे हैं। मैं इन सबसे आग्रह करूंगा जरा जो कैंडिडेट हैं वे आगे आ जाएं। ये हमारे मजबूत साथी हैं जो आपकी समस्याओं को दूर करने वाले हैं। (मैं एक मिनट उनको पास जाके आता हूं।) इनमें सबको जो असेंबली लड़ रहे हैं उनको एमएलए बनाइए और जो पार्लियामेंट लड़ रहे हैं उनको एमपी बनाइए और आप देखिए आपके देखते देखते बदलाव साफ साफ नजर आना शुरू हो जाएगा।

साथियों,

BJD की सरकार ने किसानों के साथ बहुत बड़ा धोखा किया है। यहां धान किसानों को अपना MSP तक नहीं मिलता। यहां धान मंडी घोटाला होता है। किसान का बहुत बड़ा हिस्सा कटनी-छटनी में चला जाता है। 2200 रुपए के आसपास का MSP तय है। लेकिन लोग बताते हैं कि 1600-1700 रुपए ही किसानों को मिल पाते हैं। 500-600 रुपया कट। इसलिए अब ओडिशा भाजपा ने बहुत बड़ी घोषणा की है। उड़ीसा भाजपा ने कहा है, आप एक-एक किसान को बताएंगे, एक-एक किसान को बताएंगे, जरा हाथ ऊपर करके बताइए तो मैं बोलूं। एक-एक किसान को बताएंगे, हर किसान को समझाएंगे। बीजेपी ने क्या वादा किया है? बीजेपी ने कहा है कि धान किसानों के पास से 3100 रुपये का यानि जो 1500-1600 है उसके सामने 3100 का एमएसपी धान किसानों को मिलेगा भाइयों। डबल हो जाएगा। यह किसानों को बताओगे अगर किसानों को नहीं बताओगे वो तो फिर जैसे जीता है वैसा जीता रहेगा। तो इतना काम कर दोगे ना भुवनेश्वर में सरकार बन जाएगी। और उनको यह भी बता दीजिए कि मोदी की गारंटी है कि बीजेपी की सरकार बनने के बाद जैसा ही आपका धान लेंगे 48 घंटे में 48 घंटे में आपके खाते में सीधा पैसा जमा हो जाएगा। देखिए आपने यहां उड़ीसा के बगल में छत्तीसगढ़ है। छत्तीसगढ़ में भी भाजपा ने गारंटी दी थी और पहले 30 दिन में ही यह गारंटी पूरी कर दी। यहां के किसानों को छोटे-छोटे खर्चों के लिए चिंता ना करनी पड़े इस पर भी भाजपा का ध्यान है। बलांगीर के करीब ढाई लाख किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि के साढ़े 500 करोड़ रुपए मिले हैं। मोदी कटहल-प्याज़ जैसी सब्जियां उगाने वाले किसानों की भी चिंता कर रहा है। हम पूरे देश में प्याज़ जैसी सब्जियों के लिए कोल्ड स्टोरेज के क्लस्टर बनाने वाले हैं। इसका फायदा यहां के सब्जी किसानों को होगा।

साथियों,

यहां बीजेडी की सरकार ने सिंचाई परियोजनाओं में भी घोटाला किया है। कितनी ही परियोजनाएं यहां दशकों से लटकी हुई हैं। बीजेडी सरकार यहां ना तो सिंचाई का पानी दे रही है और ना ही रोजगार। ओडिशा की जनता कब तक ऐसी जिंदगी जीती रहेगी? आपकी जिंदगी में बदलाव लाने की गारंटी मोदी देता है। हम सिंचाई का पानी भी देंगे, हम रोजगार के अवसर भी देंगे। यहां के कपास किसानों की मुश्किलें कम करने के लिए भी भाजपा सरकार पूरा प्रयास करेगी।

भाइयों और बहनों,

जब तक यहां BJD की भ्रष्टाचारी सरकार होगी, तबतक लाभार्थियों को पूरा हक नहीं मिल पाएगा। एक परिवार को जो कुछ चाहिए, वो मोदी उपलब्ध कराने में जुटा है। पक्का घर, शौचालय, बिजली, गैस सिलेंडर, नल और नल में जल, ये मोदी की योजनाएं हैं। अब मुफ्त चावल भी दिया जा रहा है। बलांगीर में करीब दो लाख परिवार ऐसे हैं, जिनको पक्के घर, मुफ्त बिजली कनेक्शन और नल कनेक्शन मिले हैं। ये तब है जब यहां BJD सरकार, इन योजनाओं में लूट-खसूट करती है। यहां भाजपा सरकार बनेगी, तो हर लाभार्थी को पूरा लाभ मिलेगा।

साथियों,

भाजपा सरकार के प्रयासों से पिछले 10 साल में, 10 करोड़ बहनें, ये आंकड़ा बहुत बड़ा है, 10 करोड़ बहनें स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी हैं। मोदी ने इन समूहों से जुड़ी तीन करोड़ बहनों को, मेरी माताएं-बहनें यहां बैठी हैं। मोदी का लक्ष्य है, मुझे तीसरी बार सरकार बनाने के बाद तीन करोड़ महिलाओं को लखपति दीदी बनाना है। इस देश में गांव में तीन करोड़ लखपति दीदी बन जाए ना तो पूरी इकोनॉमी बदल जाएगी भाइयों बहनों। यह काम करना है। भाजपा सरकार होम स्टे के निर्माण के लिए भी, क्योंकि उड़ीसा में टूरिज्म की बहुत संभावना है। होम स्टे टूरिज्म के लिए बहुत उपयोगी बिजनेस हो गया है। जो मां-बहनें होम स्टे की व्यवस्था खड़ी करना चाहते हैं, ऐसी महिलाओं को भाजपा सरकार मदद करने को तैयार है। उड़ीसा भाजपा ने यहां की बहनों के लिए सुभद्रा योजना बनाने की भी घोषणा की है। महिलाओं को इससे बहुत मदद मिलेगी। यह योजना उनका बड़ा संबल बनेगी। महाप्रभु जगन्नाथ के आशीर्वाद से यह गारंटी भी पूरी की जाएगी। मोदी सरकार पहले ही माता बहनों के लिए पोषण अभियान चला रही है गर्भावस्था के दौरान हर बैंक के खाते में हर बहन के खाते में मैं दिल्ली से 6000 भेजता हूं लेकिन ये पैसे उड़ीसा की मेरी बहनों को मिल नहीं पाते क्योंकि उड़ीसा सरकार ने यहां इस योजना पर लोग रोक लगा रखी है, बताओ। अब गरीब माताओं-बहनों की सेवा भी ना करने दे ऐसी सरकार की कोई जरूरत है क्या। यहां की सरकार को आपकी कोई परवाह नहीं है। ऐसी सरकार को जाना चाहिए कि नहीं जाना चाहिए। सबके सब बताओ तो पता चलेगा मुझे। ऐसी सरकार जानी चाहिए, ऐसी सरकार जानी चाहिए, ऐसी सरकार जानी चाहिए?

साथियों,

यहां ओडिशा में डबल इंजन की सरकार पक्की है। लेकिन इसके लिए लोकसभा हो या विधानसभा, आपका एक-एक वोट कमल के निशान पर भाजपा को मिलना चाहिए। आपका हर वोट जब आप इनको वोट देंगे ना, एमएलए को वोट देंगे, एमपी को वोट देंगे, कमल पर बटन दबाए ना तो वोट सीधा सीधा मोदी के खाते में जमा हो जाएगा और वह मोदी की ताकत बढ़ा देगा, मोदी को मजबूत करेगा। तो आप कमल को वोट करेंगे, ज्यादा से ज्यादा मतदान कराएंगे। घर-घर जाएंगे, सुबह 10 बजे के पहले मतदान हो जाएगा। पहले मतदान फिर जलपान यह मंत्र काम करेगा। जब तक मतदान नहीं करेंगे, जलपान नहीं करेंगे, यह संकल्प ले सकते हैं। अच्छा मेरा एक काम करेंगे? क्यों भाई चुनाव में तो सब हुं कर रहे हो। मोदी जब कह रहा है मेरा काम करोगे तो चुप हो गए। अरे मेरा काम करोगे, जरा दोनों हाथ ऊपर करके बताओ, करोगे।0 जरा दोनों हाथ ऊपर करके बताइए करोगे, पक्का करोगे। अच्छा देखिए यहां से ज्यादा से ज्यादा परिवारों को जाकर के मिलिए और परिवारों को मिलकर के कहिए कि मोदी ने आपको मोदी ने आपको जय जोहार कहा है, जय जगन्नाथ कहा है। मेरा जय जगन्नाथ पहुंचा दोगे। हर परिवार में पहुंचा दोगे, मेरे नाम से पहुंचाना होगा पहुंचाओ?

बोलिए मेरे साथ भारत माता की।

भारत माता की।

भारत माता की।

बहुत-बहुत धन्यवाद

Explore More
77வது சுதந்திர தினத்தை முன்னிட்டு செங்கோட்டை கொத்தளத்தலிருந்து பிரதமர் திரு நரேந்திர மோடி நிகழ்த்திய உரையின் தமிழாக்கம்

பிரபலமான பேச்சுகள்

77வது சுதந்திர தினத்தை முன்னிட்டு செங்கோட்டை கொத்தளத்தலிருந்து பிரதமர் திரு நரேந்திர மோடி நிகழ்த்திய உரையின் தமிழாக்கம்
Union Budget 2024: A blueprint for India's manufacturing renaissance

Media Coverage

Union Budget 2024: A blueprint for India's manufacturing renaissance
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Prime Minister meets former Prime Minister Shri HD Devegowda
July 25, 2024

The Prime Minister, Shri Narendra Modi met with former Prime Minister Shri HD Devegowda at 7, Lok Kalyan Marg in New Delhi.

In a X post, the Prime Minister said;

“It was an honour to meet former Prime Minister, Shri HD Devegowda Ji at 7, Lok Kalyan Marg. His wisdom and perspective on various subjects are deeply valued. I am also thankful for the artwork that he gave me, taking my mind back to my recent visit to Kanyakumari. @H_D_Devegowda @hd_kumaraswamy”