CAA ही मोदींच्या हमीबद्दलची साक्ष आहे: लालगंजमध्ये पंतप्रधान मोदीCAA हे मोदींच्या गॅरंटीचे उदाहरण आहे: पंतप्रधान मोदी लालगंजमध्ये
सपा- काँग्रेसच्या राजवटीत सर्वसामान्यांची सुरक्षा देवाच्या भरवशावर सोडण्यात आली होती: पंतप्रधान मोदी यूपीच्या लालगंजमध्ये
आपण सर्वांनी काँग्रेस-सपाच्या धोकादायक अजेंडांच्या तिहेरी डोसपासून अत्यंत सावध राहिले पाहिजेः पंतप्रधान मोदी यूपीच्या लालगंजमध्ये

राम राम!
सब भइया बहिनी के पांय लागी !
भारत माता की जय
भारत माता की जय
भारत माता की जय

दो दिन पहले ही मैं बनारस में था। वहां जो माहौल बना, जिस प्रकार से काशीवासियों ने लोकतंत्र का उत्सव मनाया और स्वाभाविक है कि प्रधानमंत्री वहां नामांकन करने गए थे। तो जरा मीडिया वालों का भी ध्यान ज्यादा रहता है। लेकिन सवाल काशी का नहीं है। हिंदुस्तान के हर कोने में कन्याकुमारी से कश्मीर तक और अटक से कटक तक सब ओर यही उमंग है और यही उत्सव है और लोकतंत्र की क्या ताकत है उसपर दुनिया का ध्यान गया है और मैं पहली बार देख रहा हूं कि दुनिया के अखबारों में पहले पेज पर भारत के लोकतंत्र के उत्सव की खबरें छाई हुई हैं। भारत की पहचान, भारत का महात्मय दुनिया के लिए भी कितना महत्व रखता है, इसका ये परिचय है। दुनिया देख रही है कि जनता-जनार्दन का आशीर्वाद भारतीय जनता पार्टी-एनडीए और हमारे सभी साथियों पर है। जहां भी जाते हैं एक ही स्वर सुनाई देता है। एक ही नारा गूंज रहा है। एक ही संकल्प चारो ओर लोग लेकर चल रहे हैं और वो है- फिर एक बार मोदी सरकार...

भाइयों और बहनों,

आखिर दुनिया को ये विश्वास कैसे है? ये रातों-रात तो नहीं हुआ है। दुनिया ये जनसमर्थन देख रही है...आपका प्रेम, आपका आशीर्वाद और आपका स्नेह दुनिया को अचरज कर रहा है। दुनिया देख रही है कि भारत के लोगों को मोदी की गारंटी पर कितना भरोसा है।

साथियों,

मोदी की गारंटी का मतलब क्या होता है...इसका ताजा उदाहरण CAA कानून है और आपने देखा होगा की कल ही CAA कानून के तहत शरणार्थियों को भारत की नागरिकता देने का काम शुरू हो गया है। पहले लॉट को ऑलरेडी नागरिकता दी गई और ये सभी भाई-बहन हिंदू हैं, सिख हैं, बौद्ध हैं, जैन हैं, पारसी हैं, ईसाई हैं और ये लोग हैं, जो शरणार्थी बनकर के लंबे अरसे से हमारे देश में रह रहे हैं। ये वो लोग हैं, जो धर्म के आधार पर हुए भारत के बंटवारे का शिकार हुए थे। और मजा देखिए, ये महात्मा गांधी का नाम लेकर के सत्ता की सीढ़ियां तो चढ़ जाते हैं। लेकिन महात्मा गांधी की बातों को याद नहीं रखते हैं। खुद महात्मा गांधी ने भरोसा दिया था कि वे कभी भारत आ सकते हैं। 70 वर्षों में हजारों परिवार, प्रताड़ना झेलकर अपनी बेटियों की इज्जत बचाने के लिए अपना धर्म अपनी संस्कृति अपनी परंपरा को बचाने के लिए मजबूरन भारत मां की कोख में आकर के शरण लिया। लेकिन कांग्रेस ने इनकी कभी सुध नहीं ली, क्योंकि ये कांग्रेस के वोट बैंक नहीं थे। ये लोग कौन हैं? ज्यादातर इनमें मेरे दलित भाई-बहन हैं, मेरे ओबीसी समाज के भाई-बहन हैं, मेरे पिछड़े भाई-बहन हैं। और इसलिए इनपर वहां तो जुल्म हुआ ही हुआ, वोटबैंक की राजनीति में डूबे हुए यहां के कांग्रेस की सरकारों ने भी और उनके साथियों ने भी इनपर जुल्म करने में कोई कमी नहीं रखी। लेकिन यहां सपा-कांग्रेस और इंडी गठबंधन वालों ने इनके साथ क्या किया? इन्होंने CAA के नाम पर ऐसा झूठ का पहाड़ खड़ा कर दिया, ऐसा झूठ चलाया... ऐसा झूठ चलाया...। सपा-कांग्रेस जैसे दलों ने यूपी सहित पूरे देश को दंगों की आग में झोंकने का भरपूर प्रयास किया। आज तक ये इंडी-गठबंधन वाले कहते हैं कि मोदी ये जो CAA लाया है ना, जिस दिन मोदी जाएगा, ये CAA भी जाएगा।

भाइयों-बहनों,

क्या इस देश में कोई माई का लाल पैदा हुआ है, जो CAA को खत्म कर सके। ये देश की जनता जान गई है, देश का हर नागरिक जान गया है कि आप लोगों ने वोट बैंक की राजनीति करके और हिंदु-मुसलमान को लड़ा-लड़ा करके और सेक्यूलरिज्म का ऐसा चोला पहन लिया था कि आप की अंदर की पाप की सच्चाई बाहर नहीं आती थी। ये मोदी है, जिसने आपका ये नकाब उतार दिया है। आप ढोंगी हैं, आप सांप्रदायिक हैं, आपने देश को 7 दशक तक सांप्रदायिकता की आग में झुलसने के लिए मजबूर कर दिया है।

मैं साफ-साफ कहना चाहता हूं मेरे भाइयों-बहनों ये मोदी की गारंटी है। देश-विदेश कहीं से भी जो भी ताकत इकट्ठी करनी है कर लो, मैं भी मैदान में हूं, तुम भी मैदान में हो, आप CAA नहीं मिटा नहीं पाओगे। आने वाले कुछ महीनों में ही पश्चिम बंगाल से लेकर दिल्ली-पंजाब तक...जो हजारों शरणार्थी परिवार मां भारती की गोद में रह रहे हैं। अनाथ की तरह रह रहे हैं, वो सम्मान के साथ रहेंगे। उनके पास उनकी एक पहचान होगी। वे मां भारती के बेटे कहने के हकदार हो जाएंगे। हमारे उत्तर प्रदेश में भी ऐसे लाखों परिवार बसे हुए हैं जी।

साथियों,

मोदी की एक और गारंटी आज कश्मीर में भी दिख रही है। पिछले 5-6 दशकों में कश्मीर, देश के हर चुनाव का मुद्दा होता था। सभी दल कश्मीर के मुद्दे को भुनाते थे। आपने देखा होगा हर चुनाव में सभी दल कश्मीर के मुद्दे को भुनाते थे। आपने देखा होगा हमारे विरोधी लोग हैं ना उनकी बोलती बंद हो गई है। उनके मुंह पर ताला लग गया है। और दबी जुबान में उन इलाकों में जाकर कहते हैं कि चिंता मत करो, मोदी भले कुछ भी चिल्लाता रहे। मोदी ने भले ही 370 हटाया, जैसे ही हमको मौका मिलेगा ना। हम 370 भी वापस ले आएंगे।

भाइयों-बहनों

सवाल मोदी का नहीं है, जिस प्रकार से श्रीनगर में ये चौथे चरण के समय मतदान हुआ। 40 साल के बाद वहां भारत के लोकतंत्र का उत्सव मनाया गया। भारत के संविधान का गौरवगान किया गया और मतदान करके लोग गर्व अनुभव कर रहे थे कि वे हिंदुस्तान की सरकार बनाने जा रहे हैं। श्रीनगर के लोगों के जीवन में एक बहुत बड़ा दिन था। श्रीनगर के लोगों का उत्साह साफ दिखाता है कि अब कोई भी 370 वापस लाकर के वोट बैंक की राजनीति नहीं कर पाएगा।

आजमगढ़ के, यूपी के हमारे सैनिक परिवारों की माताएं-बहनें चिंता में रहती थीं...ना जाने कब कश्मीर की धरती पर आतंकी धमाका कर दें...ना जाने कब पत्थरबाजी हो जाए...और ना जाने कब बुरी खबर आ जाए कोई ठिकाना नहीं था। लेकिन मोदी ने कश्मीर में शांति की गारंटी दी थी। मोदी ने 370 की दीवार गिराई दी... 370 की दीवार गिराई। पहले चुनाव आते थे तो हड़तालें होती थीं, मतदान करने वालों को मौत की मुसीबत आ जाती थी। आतंकी धमकी देते थे। लेकिन इस बार श्रीनगर में पिछले अनेक चुनावों के रिकॉर्ड टूट गए भाई।

साथियों,

ऐसा काम वही कर सकता है...जिसकी रग-रग में राष्ट्र प्रथम का संकल्प बह रहा हो। आप याद करिए...10 साल पहले देश में एक सामान्य व्यक्ति की सुरक्षा भगवान भरोसे होती थी। कभी बम धमाके, कभी आतंक, कभी स्लीपर सेल, कभी दंगे और आजमगढ़ की तो पहचान ही बदल दी गयी थी। ना जाने किस-किस नाम से आजमगढ़ को बुलाया जाने लगा था, कितना बदनाम करके छोड़ा था। देश में कहीं भी धमाके होते थे..तो सबसे पहले सबका ध्यान आज़मगढ़ की तरफ जाता था, लोग आजमगढ़ की चर्चा करते थे। और तब यहां समाजवादी पार्टी की सरकार आजमगढ़ की प्रतिष्ठा के लिए ना कुछ सोचती थी ना कुछ करती थी? तब सपा के शहजादे आतंक के समर्थन में दंगाइयों का सम्मान करते थे...धमाके करने वाले आतंकियों को छोड़ा जाता था। स्पीपर सेल्स को राजनीतिक कवर दिया जाता था। इसी रवैये के कारण देश में आतंकवाद फला-फूला। अनेक माताओं ने अपने बच्चों को बर्बाद होते देखा और आज भी इनका रवैया वैसा ही है।

भाइयों और बहनों,

सपा-कांग्रेस...दल दो हैं, लेकिन दुकान एक ही है। ये झूठ का सामान बेचते हैं। ये तुष्टिकरण का, परिवारवाद का और भ्रष्टाचार का सामान बेचते हैं। अब ये लोग तुष्टीकरण की ट्रिपल डोज लेकर आए हैं...एक तरफ ये लोग पिछडे, दलित, आदिवासी का आरक्षण छीन कर अपने वोट बैंक को देना चाहते हैं...दूसरी तरफ ये इंडी गठबंधन वाले आपकी संपत्ति का आधा हिस्सा छीनकर उसको भी अपने वोट बैंक को देना चाहते हैं, साथ ही ये लोग देश के बजट को भी बांटना चाहते हैं और बजट का 15 प्रतिशत भी माइनॉरिटी के नाम पर ही अलॉट करना चाहते हैं। मैं आप सबको कहना चाहता हूं। देश की एकता के लिए, देश में सच्चे अर्थ में संविधान का सम्मान करने के लिए, देश में सच्चे अर्थ में बाबासाहेब अम्बेडकर की भावनाओं को जीने के लिए हमें इनसे बहुत चौकन्ना रहने की जरूरत है। देश को आज सबसे ज्यादा एकता की जरूरत है। 70 साल तक वे हिंदु-मुसलमान, हिंदु-मुसलमान करते रहे। आओ एक बनकर के चले और दुनिया में देश का नाम रोशन करके रहें।

साथियों,

इंडी गठबंधन तुष्टिकरण के दलदल में पूरी तरह धंस चुकी है। समाजवादी पार्टी के शीर्ष नेता, राममंदिर को लेकर आए दिन घटिया बातें कर रहे हैं। कांग्रेस के शहजादे ने तो राममंदिर को गालियां देने का मिशन ही चला रखा है। सिर्फ वोट बैंक को खुश करने के लिए ये लोग हमारी आस्था पर चोट कर रहे हैं।

साथियों,

यहां इतनी बड़ी संख्या में माताएं-बहनें आई हैं। मोदी आपका जीवन बेहतर बनाने के लिए दिन-रात एक कर रहा है। आज हर गरीब को मुफ्त अनाज मिल रहा है...आज हर गरीब को मुफ्त इलाज मिल रहा है...पक्का घर, घर में नल, नल में जल, सस्ता सिलेंडर...ऐसी अनेक सुविधाएं आप तक पहुंची हैं। क्या समाजवादी सरकार में, कांग्रेस की सरकार में उन लोगों ने आपकी कभी चिंता की थी? उन्होंने आपको अपने हाल पर छोड़ दिया था। ये मोदी है, जो आपके जीवन से हर चिंता को दूर कर रहा है।

अभी मोदी ने एक और बड़ा फैसला लिया है। जो आप सबके काम आने वाला है। आप किस जात में पैदा हुए, किस बिरादरी में पैदा हुए, आप धनी हैं नहीं हैं, गांव में रहते हैं, शहर में रहते हैं, कुछ नहीं सबके-सब अब आपके घर में और खास कर हर परिवार में बुजुर्ग लोग होते ही होते हैं। मां-बाप, चाच-चाची, नाना-नानी बुजुर्ग लोग होते ही होते हैं और 70 साल के बाद छोट-मोटी कोई बीमारी भी होती है। दवाई का खर्च भी होता है। अब जो बेटा और बेटी कमाते हैं, उनके मन में ये रहता है खिलाने-पिलाने में तो कोई प्रोब्लम नहीं है, लेकिन अगर दवाई का बोझ जाए तो बेटा-बेटी चिंता में लग जाते हैं कि कैसे करेंगे भाई। उनके सामने प्रशन होता है कि बच्चों की परवरिश करें या फिर बुजुर्गों की चिंता करें। जिम्मेवारी भी है, दोनों जिम्मेवारी है, लेकिन अब आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। ये चिंता अब आपका बेटा मोदी करेगा। 70 साल से ऊपर के आपके परिवार में जो भी लोग होंगे। उन सबकी बिमारी में इलाज के खर्च की जिम्मेवारी मोदी की। ये मोदी की गारंटी है। घुटने की दिक्कत हो...हार्ट की परेशानी हो...कोई भी बीमारी हो...हर बुजुर्ग का इलाज होगा...और वो भी मुफ्त।

साथियों,

मोदी ने एक और योजना शुरू की है। इसमें बिजली बिल जीरो हो जाता है। बिजली बिल जीरो, इतना ही नहीं बिजली बिल जीरो हो जाएगा, लेकिन बिजली इस्तेमाल करने वाला हीरो बन जाता है। सिर्फ निरहुआ हीरो हो गया ऐसा नहीं, आप भी हीरो बन जाएंगे। इस योजना को मैं समझाता हूं। और ऑलरेडी चालू कर दिया है मैंने ऐसा नहीं की चार जून के बाद करूंगा। योजना का नाम है- पीएम सूर्यघर मुफ्त बिजली योजना। आप ऑनलाइन जाकर के अभी से रजिस्ट्रेशन करवा सकते हो, रजिस्ट्रेशन चालू है। मोदी आपको 75 हजार रुपए देगा...आपकी जरूरत के हिसाब से 75 हजार तक मोदी देगा..कितना...कितना...उसमें से आप घर पर सोलर पैनल लगाएंगे। और जो सोलर की बिजली होगी उसे आप अपने परिवार के लिए उपयोग करेंगे और जो ज्यादा बिजली होगी वो योगी जी की सरकार खरीद लेगी। इससे आपका बिजली बिल तो जीरो हो जाएगा, आप बिजली बेच करके कमाई करना शुरू कर दोगे। ये काम मोदी आपके लिए कर रहा है और आप रजिस्ट्री करवाने के लिए ऑनलाइन जाइये सारी चीजें मौजूद हैं।

साथियों,

आज भाजपा सरकार में यूपी का तेजी से विकास हो रहा है। मंदुरी एयरपोर्ट बना है... महाराजा सुहेलदेव यूनिवर्सिटी बनी है... किसान कल्याण के काम हो रहे हैं। लेकिन यूपी के शहजादे को इन कामों से पेट में क्यों दर्द होने लगता है। इन्हें लगता है कि इस क्षेत्र का विकास हो गया, तो इनकी दुकान कैसे चलेगी…आपने तो सपा के गुंडाराज के वो पुराने दिन देखे हैं। बाज़ार शाम 7 बजे ही बंद हो जाते थे...माताएं-बहनें बाहर नहीं निकल पाती थीं...पढ़ाई-लिखाई तक के लिए बेटियों का निकलना मुश्किल होता था।

भाइयों और बहनों,

आज भाजपा सरकार में यूपी इन सारे संकटों से बाहर निकल आया है। योगी जी यहां दंगाइयों की, माफियाओं की, अपहरण-फिरौती गैंग की...मेरा जो स्वच्छता अभियान है, ना योगीजी ने उत्तर प्रदेश में बराबर चलाया है। अब यूपी में तेजी से आधुनिक सुविधाएं बनाई जा रही हैं। मुबारकपुर का साड़ी उद्योग हो या फिर निज़ामाबाद के मिट्टी के बर्तन...या फिर यहां का गुड़...ऐसे हर उत्पाद को दुनिया के बाज़ारों तक पहुंचाना हमारा लक्ष्य है। इसलिए मैं वोकल फॉर लोकल के मंत्र को आगे बढ़ा रहा हूं।

भाइयों और बहनों,

आजमगढ़ को, पूर्वांचल को, देश का विकास इंजन बनाने के लिए आपके वोट बहुत महत्वपूर्ण है। अब उनका हाल देखिए मैं अभी द्वारका जी के दर्शन करने गया था। समंदर के अंदर जाकर के मैंने भगवान श्री कृष्ण जिन्होंने द्वारका नगरी बनाई थी। वहां अपनी श्रद्धा अर्पित करने गया था। तो कांग्रेस वाले इसका भी मजाक उड़ा रहे थे। और मजा ये है कि बिहार में आरजेडी वाले और उत्तर प्रदेश में सपा वाले उनके परिवार के जो मुखियां हैं, वो अपने परिवार को यदुवंशी कहते हैं। अरे कैसे यदुवंशी हो यार तुम, जिसके साथ बैठते हो वो तो भगवान श्री कृष्ण को गाली दे रहा है रे। और हम यदुवंश का महात्मय देखिए मध्य प्रदेश में वोट के लिए नहीं हमारा मुख्यमंत्री है मोहन यादव। यदुवंश का महात्मय कौन समझता है, वो आप जानते हैं।

भाइयों-बहनों

आपको लालगंज से हमारी बहन नीलम सोनकर जी को भारी बहुमत देकर संसद भेजना है। और हां, अब त आजमगढ़ वालन के पास भोजपुरी क साधक हौ, सेवक हौ। निरहुआ क तप अउर तपस्या आप लोगन के सामने ह। परिवारवादी आपके वोट की कीमत नहीं समझ सकते। आप निरहुआ जी को रिकॉर्ड वोटों से विजयी बनाइए...बाकी हम त बगल में बनारस में हइये हई।

मेरा एक और काम करिएगा। एक मतदान ज्यादा होना चाहिए, सुबह 10 बजे से पहले मतदान होना चाहिए। मतदान के पुराने सारे रिकॉर्ड टूटने चाहिए। हर पोलिंग बूथ जीतना चाहिए...करेंगे। करेंगे। मेरा एक काम करेंगे , सबके सब हाथ ऊपर करके बताते हैं, तो बताऊंगा। मेरा एक काम करेंगे, जरा मुझे जवाब दीजिए, मेरा एक काम करेंगे। एक काम करना ज्यादा से ज्यादा परिवारों में जाना। ज्यादा से ज्यादा लोगों से मिलना और कहना की अपने मोदी जी आए थे और मोदी ने परिवार में सबको राम-राम कहा है। मेरा राम-राम पहुंचा देंगे, हरेक को मेरा राम-राम पहुंचा देंगे। हरेक को मेरा राम-राम पहुंचा देंगे।

बोलिए, भारत माता की जय...

भारत माता की जय...

भारत माता की जय...

बहुत-बहुत धन्यवाद

Explore More
77 व्या स्वातंत्र्य दिनानिमित्त लाल किल्ल्याच्या तटबंदीवरून पंतप्रधान नरेंद्र मोदी यांनी केलेले भाषण

लोकप्रिय भाषण

77 व्या स्वातंत्र्य दिनानिमित्त लाल किल्ल्याच्या तटबंदीवरून पंतप्रधान नरेंद्र मोदी यांनी केलेले भाषण
World Bank’s second $1.5 billion loan reflects confidence in India’s green hydrogen policies

Media Coverage

World Bank’s second $1.5 billion loan reflects confidence in India’s green hydrogen policies
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Delegation from Catholic Bishops' Conference of India calls on PM
July 12, 2024

A delegation from the Catholic Bishops' Conference of India called on the Prime Minister, Shri Narendra Modi today.

The Prime Minister’s Office posted on X:

“A delegation from the Catholic Bishops' Conference of India called on PM Narendra Modi. The delegation included Most Rev. Andrews Thazhath, Rt. Rev. Joseph Mar Thomas, Most Rev. Dr. Anil Joseph Thomas Couto and Rev. Fr. Sajimon Joseph Koyickal.”