यावेळची निवडणूक म्हणजे एनडीएच्या नेतृत्वाखालील सरकारचे 'संतुष्टिकरण' मॉडेल विरुद्ध काँग्रेस-सपाचे 'तुष्टिकरण मॉडेल' यांच्यातील लढत आहे: पीएम मोदी यूपीतील जौनपूर येथे

भारत माता की। भारत माता की। भारत माता की।

शीतला धाम चौकिया के ई पावन धरती जौनपुर के हमरे सब परिवार के लोगन के हमार प्रणाम! आपका ये आशीर्वाद, आपका ये स्नेह, ये दिखाता है कि यूपी में इंडी गठबंधन वालों के लिए एक सीट भी जीतना भी मुश्किल कर दिया है आप लोगों ने। 4 जून को जौनपुर में इतनी ‘इमरती’ बंटेगी कि सारे रिकॉर्ड टूट जाएंगे।

भाइयों और बहनों,

ये चुनाव देश के प्रधानमंत्री चुनने का अवसर है। अब ऐसा प्रधानमंत्री, जो एक दमदार सरकार चलाए, जिस पर दुनिया रौब न जमा सके लेकिन वो भारत के दमखम से दुनिया को परिचित करवाए। इसलिए जब आप जौनपुर से हमारे कृपाशंकर जी को वोट देते हैं, मछलीशहर से बीपी सरोज जी को वोट देते हैं, तो आपका वोट दमदार सरकार बनाता है। आप इनको जो वोट देंगे वो वोट सीधा सीधा मोदी के खाते में जाएगा। (बैठिए भैया बैठिए सरोज जी) और दमदार सरकार कैसे काम करती है, ये आपने काशी में देखा है। ये आप अयोध्या में होते देख रहे हैं। पहले लोग विकास की बातें करते थे, तो चर्चा कभी दिल्ली की होती थी, कभी मुंबई की होती थी। अब देश और दुनिया काशी की भी चर्चा करता है, अयोध्या की भी चर्चा करता है। भाइयों-बहनों इतनी बड़ी तादाद में आपका आना, उसमें भी मैं देख रहा हूं चारों तरफ मुझे माताएं-बहनें के दर्शन हो रहे हैं, यह मेरा बड़ा सौभाग्य है कि इतनी बड़ी मात्रा में माताएं-बहनें इस लोकतंत्र के उत्सव को मना रही है, उसका नेतृत्व कर रही है और आपके आशीर्वाद जीवन में और क्या चाहिए मां-बहनें आपका आशीर्वाद यह मेरी बहुत बड़ी शक्ति बन गई है।

साथियों,

विकसित भारत बनाना, ये मेरा प्रण है! और विकसित भारत का ग्रोथ इंजन पूर्वांचल होगा, पूर्वी भारत होगा। इसलिए, जब मैं एक्सप्रेसवे बनाता हूं तो जौनपुर वालों को बड़ा लाभ होता है। जब मैं बनारस के हवाई अड्डे को अपग्रेड करता हूं, तो भी यहां के लोगों को फायदा होता है। ये पूरा क्षेत्र हेल्थ और एजुकेशन, शिक्षा और स्वास्थ्य का एक बड़ा मजबूत हब बन रहा है। आने वाले 5 सालों में मोदी-योगी, पूर्वांचल की तस्वीर और तकदीर, दोनों बदलने वाले हैं।

साथियों,

जौनपुर तो, देश को IAS और IPS देने वाला जिला है। NDA सरकार, परीक्षा से लेकर भर्ती तक नई औऱ पारदर्शी व्यवस्थाएं बनाने में जुटी है। पहले केंद्र सरकार के ग्रुप- सी, डी की भर्तियों में इंटरव्यू होते थे। मोदी ने ये खत्म कर दिया, ताकि युवाओं को बेवजह की परेशानी ना हो, पारदर्शिता के साथ उनका चयन हो। राष्ट्रीय शिक्षा नीति में भी हमने बड़ा फैसला लिया। मेडिकल और इंजीनियरिंग की पढ़ाई पहले सिर्फ अंग्रेज़ी में होती थी। अगर आपका बच्चा स्कूल में अंग्रेजी में पढ़ा है तभी उसको आगे जाने का कोई खिड़की खुलती है। अब मुझे बताइए भाई एक गरीब मां का बेटा, गरीब मां की बेटी, बच्चे को अंग्रेजी पढ़ाने कहां जाएगी, अंग्रेजी पढ़ाने के पैसे कहां से लाएगी? तो क्या मेरा मे दलित का बेटा डॉक्टर नहीं बनेगा क्या? मेरे पिछड़े का बच्चा डॉक्टर नहीं बनेगा क्या? और इसलिए भाइयों-बहनों मैंने तय कर लिया अब डॉक्टर बनना है, इंजीनियर बनना है तो आप अपने गांव की भाषा में पढ़ कर के आएंगे तो भी डॉक्टर बनेंगे इंजीनियर बनेंगे। अब गरीब मां का बेटा भी डॉक्टर बनेगा, गरीब मां की बेटी भी डॉक्टर बनेगी इंजीनियर बनेगी। अब हमने हिंदी में पढ़ाई और हिंदी में परीक्षा यह रास्ता खोल दिया है। लेकिन आप जानते हैं कांग्रेस और इंडी गठबंधन इसका भी विरोध करते हैं। यह लोग आपके बच्चों का उज्जवल भविष्य नहीं चाहते।

साथियों,

भाजपा, युवाओं की आकांक्षाओं को समझती है, उनके लिए काम करती है। ये भाजपा है जिसने मेडिकल की परीक्षा में ओबीसी आरक्षण को लागू किया है। हमने सामान्य वर्ग के गरीबों को भी 10 प्रतिशत आरक्षण दिया है। पेपर लीक माफिया के खिलाफ सख्त कानून भी मोदी सरकार ने बनाया है। ये हमारी सरकार है जो हर जिले में मेडिकल कॉलेज बना रही है। हम रिकॉर्ड संख्या में IIT,IIM, AIIMS, बना रहे हैं। और इस महाअभियान का सबसे ज्यादा फायदा युवाओं को मिल रहा है।

भाइयों और बहनों,

इस चुनाव में देश के सामने दो मॉडल हैं। एक तरफ हम लोग हैं मोदी है भाजपा है एनडीए है, हम लोगों का रास्ता क्या है हम लोगों का रास्ता है संतुष्टिकरण। हर किसी को संतुष्ट करना, संतोष देना और दूसरी तरफ सपा हो कांग्रेस हो घमंडिया गठबंधन हो उनका मॉडल है तुष्टीकरण अपीजमेंट। देश में जब सपा कांग्रेस का तुष्टीकरण मॉडल चलता था तो सिर्फ और सिर्फ कुछ परिवारों का ही लाभ हुआ। सामाजिक न्याय के नाम पर गरीब, दलित, पिछड़ों के साथ छल हुआ है छल, अपराध हुआ है। कच्चे घर, गंदा पानी, खुले में शौच न जाने कितने अपमान, बिजली गैस का अभाव। (कोई इस बच्चे से फोटो ले लीजिए उस बच्चे को इतने प्यार से आया है। बेटे थोड़े आगे आ जाओ तुम, बेटा आगे आ जाओ थोड़ा। एसपीजी वाले आप उसको बेचारे को परेशान मत करो। देखिए कितना बढ़िया स्केच बना के लाया है। वाह खुद बनाते हो बेटा खुद बनाते हो। अच्छा पीछे तुम्हारा नाम पता लिखा है, हां तो मैं चिट्ठी लिखूंगा तुझे। देखिए तुम इतना अच्छा बनाते हो तो पढ़ाई भी उसी में करना तुम बहुत अच्छे आर्टिस्ट बनोगे।) साथियों, गरीब को कैसे अभाव में जीना पड़ता था, बिजली नहीं, गैस के चूल्हे का तो सवाल नहीं, राशन नहीं, अस्पताल में इलाज नहीं, नौजवान के लिए पलायन करने के सिवाय कोई चारा नहीं और वो जहां जाते थे वहां भी चैन से नहीं रह सकते थे। उनकी पीठ पीछे यहां दबंग माफिया घर और जमीन पर कब्जा कर लेते थे। जब वापस आते थे तो घर पर कोई और बैठ जाता था।

भाइयों और बहनों,

मोदी के संतुष्टिकरण, संतोष वाला मॉडल ने स्थिति बदल दी है। यूपी में भाजपा ने, जमीन माफिया की कमर तोड़ दी है, ये जो उद्योग चल रहा था उसकी कमर तोड़ दी। अब नागरिकों का हित सर्वोपरि है। जो जौनपुर में राशनकार्ड बना है, अब उसी पर मुंबई जाओ, सूरत जाओ, हैदराबाद जाओ मुफ्त राशन उस पर मिल जाएगा। क्योंकि मोदी ने वन नेशन, वन राशन कार्ड लागू कर दिया है। यहां यूपी में 50 लाख पक्के घर लाभार्थियों को मिल चुके हैं। इसमें से 1 लाख घर यहीं जौनपुर जिले में मिले हैं। 1 लाख घर जिले में। मुझे बताइए, हर मां मोदी को आशीर्वाद देगी कि नहीं देगी। फिर ये ईवीएम ईवीएम करके चिल्लाते हैं। अरे इनको मालूम नहीं है ये ईवीएम का खेल नहीं है यह हर मां बहन के आशीर्वाद है, जिसको रहने के लिए पक्का घर मिला है। और मुझे कभी-कभी मौका मिल जाता है तो मैं इन लाभार्थियों के घर में जाकर देखता हूं इनमें शौचालय, नल से जल, बिजली, सस्ता सिलेंडर ये सारी सुविधाएं घर के साथ होती हैं, सिर्फ चार दीवारें नहीं, घर याने पक्का घर। और ज्यादातर घर, हमारे समाज का रिवाज कैसा है मेरी माताएं-बहनों को जरूर बता देना। मेरी ये बात जरूर बता देंगे आप लोग। हमारे यहां परंपरा क्या थी घर है तो पति के नाम। (ये क्या बढ़िया मोदी योगी बना लाए हो भाई। और ये मोदी तो इतना सुंदर लग रहा है, क्या बढ़िया मेकअप किया है भाई। और हाथ भी बढ़िया वाह दोनों मोदी योगी बनके आ गए। शाबाश बहुत बढ़िया किया आपने। देखिए सब अखबार वालों की नजर मेरे से हट गई आप पर आ गई। बढ़िया है वाह। ये मोदी को तो हाथ हिलाना भी आ गया है)

अच्छा माताएं बहनें सुनिए, (भाई उन बच्चों को बिठाइए परेशान मत कीजिए। मैं उनका बहुत आभारी हूं) देखिए हमारे समाज में कैसा रहा घर है तो मालिक कौन कोई पति या पुत्र, दुकान है तो मालिक कौन पति या पुत्र, गाड़ी लाए तो मालिक कौन पति या पुत्र, खेत है तो मालिक कौन पति या पुत्र, हमारी माताओं-बहनों के नाम पर कुछ नहीं। मोदी ने कह दिया ये नहीं चलेगा और इसलिए मोदी जो घर देता है ना वह महिलाओं के नाम पर देता है। और मैंने तो तय किया है मैं तीन करोड़ लखपति दीदी बनाने वाला हूं। और मैं आपको एक और गारंटी दूंगा जिनको भी घर, गैस, पानी का नल नहीं मिला है, मेरा एक काम करोगे आप लोग? हाथ ऊपर करके सबके सब बताओ तो बोलूंगा मेरा एक काम करोगे, पक्का करोगे। जरा हाथ ऊपर करके बताइए मेरा एक काम करोगे? देखिए इस चुनाव में आप जहां-जहां जाएंगे और हो सकता है किसी गांव में एकाध दो परिवार ऐसे मिल जाएं जिनको अभी पक्का घर नहीं मिला है, किसी को नल से जल नहीं मिला है, किसी को गैस का कनेक्शन नहीं मिला है तो उसका नाम पता लिख कर के मुझे भेज दीजिए और उसको कह देना कि मोदी जी ने गारंटी दी है कि 4 जून के बाद जब तीसरी बार सरकार बनेगी तो जिनको अभी घर नहीं मिला उनको मिल जाएगा, जिनको गैस नहीं मिला मिल जाएगा, ये मेरा काम करोगे? मुझे सबको देना है क्योंकि मेरे लिए तो ये माताओं-बहनों की पूजा है, भक्ति है मेरी। ये भक्ति मैं करूंगा और प्रसाद में चढ़ाऊंगा उनके लिए पक्का घर। ये मेरी भक्ति है।

साथियों,

अब मोदी ने और एक काम तय किया है। मैंने तय किया है कि आपका जो बिजली का बिल है ना घर में अब मोदी ने बिजली तो दी, लेकिन लोग आके भड़काते हैं, देखो बिजली दी क्या मिला, इतना बिल दिया मोदी ने तो। अब मैंने कह दिया है अब मोदी ने बिजली तो दी अब बिल भी मुझे जीरो करना है, बिजली का बिल जीरो। इतना ही नहीं आप बिजली पैदा भी करेंगे और घर के काम की बिजली के अतिरिक्त जो बिजली होगी वह सरकार खरीद करके आपको कमाई भी होगी। यह पीएम सूर्य घर योजना के तहत होगा। मोदी की एक और गारंटी आपके परिवार की बचत बढ़ाने वाली है। अब देखिए हर परिवार में बुजुर्ग लोग होते हैं। 70 वर्ष से ऊपर की आयु के माता पिता दादा दादी चाचा चाची नाना नानी कोई कोई तो होता ही है। और 70 साल हो जाते हैं तो छोटी मोटी बीमारी भी आ जाती है। अब जो बेटा और बेटी कमाते हैं उनके सामने एक तरफ खुद का रोजमर्रा की जिंदगी, दूसरी तरफ बच्चों का भविष्य और ऊपर से बुजुर्ग माता-पिता की जिम्मेवारी और उसमें भी अगर कोई बीमारी आ गई तो तो वह परिवार बेचारा तबाह हो जाता है। कितना ही मेहनती बेटा हो कितनी मेहनती बेटी हो, लेकिन बीमारी परिवार में मुसीबत कर देती है। तो मोदी की एक और गारंटी आपके माता-पिता दादा-दादी चाचा-चाची नाना-नानी अगर वो 70 साल से ऊपर के हैं तो उनके इलाज की चिंता आप नहीं, ये मोदी करेगा, आपका बेटा करेगा। और इससे आपका जो पैसा बचेगा उससे आपको अपने बच्चों का भविष्य बनाना है। बनाएंगे?

भाइयों और बहनों,

एक तरफ मोदी संतुष्टिकरण से सच्चा सामाजिक न्याय देने में जुटा है तो वहीं सपा-कांग्रेस का इंडी-गठबंधन तुष्टिकरण के गर्त में गिरता ही चला जा रहा है। वोट बैंक की राजनीति से ऊपर नहीं उठता है। आए दिन कभी छिप करके, कभी खुलेआम हिंदू-मुसलमान हिंदू-मुसलमान 70 साल से यही खेल करते रहे। अब मुझे बताइए भाइयों, इस देश को 500 साल के इंतजार के बाद राम मंदिर मिला कि नहीं मिला। आपको आनंद हुआ कि नहीं हुआ। गर्व हुआ कि नहीं हुआ। पूरा देश खुश है दुनिया में रहने वाला हर हिंदुस्तानी खुश है। लेकिन यह परिवारवादी गालियां दे रहे हैं गालियां। सपा के शहजादे, उनके चाचा वह तो राम मंदिर को कहते हैं बेकार है। ये सपा के शहज़ादे काशी का मज़ाक उड़ाते हैं।

साथियों,

अपने वोट बैंक को खुश करने के लिए ये लोग हर हद पार कर रहे हैं। मुझे तो हैरानी है, 21वीं सदी और ये तीन तलाक का झंडा लेकर घूम रहे हैं। यह माताओं-बहनों के साथ जुल्म हो रहा है। ये समझने को तैयार नहीं, क्यों? वोट मिलता है। यह आर्टिकल 370 जो हटाया हमने, देश का संविधान पूरे देश में लागू किया। अब कहते नहीं, हम 370 की दीवार फिर से बना देंगे। ये धर्म के आधार पर देश में आरक्षण की वकालत करते हैं। ये देश का संविधान बदल एससी एसटी ओबीसी को जो आरक्षण मिला है उसका हक छीनना चाहते हैं, डाका डालना चाहते हैं। और ये काम उन्होंने कर्नाटक में कर दिया। वहां उन्होंने क्या किया, जितने मुसलमान थे कर्नाटका में, कितने ही सुखी हो, संपन्न हो, पढ़े लिखे हो, उन्होंने रातों रात सभी मुसलमानों को एक हुकम करके ओबीसी बना दिया। इससे क्या हुआ जो ओबीसी को आरक्षण मिला था उसमें बहुत बड़ा डाका डाल दिया रातोंरात आरक्षण के दो हिस्से हो गए। एक हिस्सा उनके पास चला गया और बाकी जो इतने सालों से ओबीसी का आरक्षण था वे बेचारे रोते रह गए। और यह पूरा मॉडल पूरे देश में लागू कर करना चाहते हैं। भाइयों बहनों, मैं भी आप के बीच में से निकला हूं। क्या मेरे जीते जी कर पाएंगे क्या? मेरे जीते जी यह ओबीसी का आरक्षण छीन पाएंगे क्या? मेरे जीते जी एससी का आरक्षण छीन पाएंगे क्या? मेरे जीते जी एसटी का आरक्षण छीन पाएंगे क्या? भाइयों बहनों मैं जिंदा हूं ना तब तक मैं इनको ये राजनीति नहीं करने दूंगा। अब आपने सुना होगा ये कांग्रेस वाले एक एक्सरे मशीन लाए एक्सरे मशीन लाया, जरा उससे सावधान रहने की जरूरत है। ये कांग्रेस वाले अभी पिछले एक हफ्ते से मैं उनके हिडन एजेंडे को खुला कर रहा हूं तबसे डर गए हैं। मुझे लगता है उनका एक्सरे मशीन बिगड़ा हुआ है रिपेरिंग में गया लगता है। वो कहते हैं हम आपकी संपत्ति का एक्सरे निकालेंगे। शादी करके आए तो आपके पास कितना सोना था, कितने गहने थे, आपके पास मंगल सूत्र था कि नहीं था, बैंक में कुछ पैसा पड़ा है कि नहीं पड़ा है। खेत खलिहान कितना है, गाड़ी वाड़ी व्यापार वगैरह... बोले हम सारा एक्सरे निकालेंगे और आपके आवश्यकता से ज्यादा है वो हम छीन लेंगे। मुझे बताइए, आप छीनने देंगे क्या? आपका खेत खलिहान छीनने देंगे क्या? आपका मंगलसूत्र छीनने देंगे क्या? आपके गहने छीनने देंगे क्या? भाइयों बहनों, इनका तो इरादा है कि अब आपके पास जो है ना, वह मरने के बाद आप अपने बच्चों को नहीं दे सकते हैं बताइए। हमारे देश में मां-बाप जीवन के आखिर में चाहता है कि मेरे पास कुछ ज्यादा हो ताकि मैं बच्चों को देकर के जाऊं। ये कहते हैं मरने के बाद आप अपने बच्चों को नहीं दे पाएंगे आधे से ज्यादा सरकार ले लेगी। क्या आप लेने देंगे क्या?

साथियों,

आपको कांग्रेस की एक्स-रे मशीन से भी सावधान रहना है। कांग्रेस के शहज़ादे एक्स-रे मशीन लेकर घूम रहे हैं। वो कहते हैं कि जो आपने अपनी संतानों के लिए बचाया है, कमाया है... उसका एक्स-रे करेंगे और एक हिस्सा अपने वोटबैंक को दे देंगे। अब आप ही बताइए साथियों... आप अपनी कमाई...अपनी तनख्वाह का आधा हिस्सा...अपनी संपत्ति का आधा हिस्सा सपा-कांग्रेस को देंगे क्या?

भाइयों-बहनों,

ये सपा-कांग्रेस के खेल खतरनाक हैं। शहजादों की नीति खतरनाक है। वो यहां आपसे वोट मांग रहे हैं और दक्षिण भारत में जाकर के उत्तर प्रदेश के लोगों का अपमान करते हैं, गालियां देते हैं। उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए अनाप शनाप भाषा बोलते हैं। ये लोग सनातन धर्म को गालियां दिलवाते हैं। इनके साथी डीएमके के लोग हों, केरल में लेफ्ट के लोग हों, कर्नाटक और तेलंगाना कांग्रेस के लोग हों जब वो दल यूपी के लोगों को गालियां देते हैं तो सपा-कांग्रेस वाले अपने कान में रुई डाल देते हैं। क्या यूपी के लोगों को गाली देने वाले इंडी गठबंधन को आप माफ कर देंगे क्या? हम उत्तर प्रदेश के लोगों को गाली देने वालों को माफ कर देंगे क्या?

साथियों,

विकसित भारत के लिए हमें भारत भाजपा को जिताना है। हमें भारत को मजबूत बनाना है। ई बताव हम ईहां से जीत के लिए आश्वस्त होई के जाई ना? बोला...? मछलीशहर में भी कमल के फूल खिली न, बोला खिली न? यही जोश है, जिसके चलते देश कह रहा है- फिर एक बार…मोदी सरकार ! मैं बहुत-बहुत आपका आभारी हूं। मेरे साथ बोलिए, भारत माता की। भारत माता की। भारत माता की।

बहुत बहुत धन्यवाद

Explore More
77 व्या स्वातंत्र्य दिनानिमित्त लाल किल्ल्याच्या तटबंदीवरून पंतप्रधान नरेंद्र मोदी यांनी केलेले भाषण

लोकप्रिय भाषण

77 व्या स्वातंत्र्य दिनानिमित्त लाल किल्ल्याच्या तटबंदीवरून पंतप्रधान नरेंद्र मोदी यांनी केलेले भाषण
Around 8 million jobs created under the PMEGP, says MSME ministry

Media Coverage

Around 8 million jobs created under the PMEGP, says MSME ministry
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
सोशल मीडिया कॉर्नर 23 जुलै 2024
July 23, 2024

Budget 2024-25 sets the tone for an all-inclusive, high growth era under Modi 3.0