बीजेडीचे मामुली नेतेही आता करोडपती झाले आहेत. बीजेडीने तुम्हाला ओडिशातील साधनसंपत्तीचा लाभ होऊ दिला नाही: पंतप्रधान मोदी ढेंकनालमध्ये
बीजेडीने ओडिशाला काहीही दिलेले नाही. शेतकरी, तरुण आणि आदिवासी अजूनही जीवनमान सुधारण्यासाठी संघर्ष करत आहेत: पंतप्रधान मोदी ढेंकनालमध्ये

जय जगन्नाथ! जय जगन्नाथ! जय जगन्नाथ!

जय श्री राम! जय श्री राम! जय श्री राम!

एठी उपस्थिता भाई ओ भौणी मानंकु मोर नमस्कार…जुहार !

यहां मैंने देखा एक बिटिया बहुत बढ़िया चित्र बना कर लाई थी, साथ में राम मंदिर भी बनाया था, वो चित्र के पीछे आपने अपना नाम पता लिखा है। ये बच्ची भी कोई किताब लाई है, देना चाहती है, ले लीजिए भाई। वो कोई नौजवान हमारी मां का चित्र बनाकर लाए हैं। वो भी ले लीजिए। वो बच्ची एक किताब जैसा है उसके हाथ में ले लिया? आप सबने अपना अता-पता लिखा है। आप लोग इतना उत्साह उमंग के साथ इतनी मेहनत करके, अपनी भावनाएं प्रकट कर रहे हैं। मैं आपका बहुत-बहुत आभारी हूं। ये कोई बुजुर्ग आदमी को भी मन कर गया, लेकर आ रहे हैं, उनसे भी ले लीजिए। हमारा ओडिशा कला का धाम है। हर परिवार में कला है। इतनी बढ़िया बढ़िया चीजें बना कर लाते हैं सब, लेकिन इसके साथ आप अपना प्यार भी लेकर आते हैं। आप अपनी शुभकामनाएं लेकर आते हैं और वही मेरी सबसे बड़ी ऊर्जा है वही मेरी सबसे बड़ी ताकत है।

साथियों,

महिमा गोसाईं और भीमा भोई की स्मृति को मैं नमन करता हूँ। मैंने अपने जीवन का लंबा समय पार्टी के और संगठन के कार्य के लिए खपाया है। और मैं संगठन की बारिकियों को बहुत भली भांति जानता हूं। अगर मुझे गुजरात में कोई कहे की बहुत बड़े लीडर ने वाले हैं। सुबह 10-11 बजे रैली करो, तो मैं हाथ जोड़कर कहता था कि नहीं जी 10.30-11.00 बजे कौन आएगा? ये संभव नहीं है आप 2 बजे के बाद का टाइम दे दो। बड़ा मुश्किल होता था। सुबह 10 बजे ये भीड़ ये जनसैलाब, पीछे पूरा स्टेडियम भरा पड़ा है। ये अद्भुत दृश्य है और ये तो 10.30 बजे हैं। मैं जब सुबह 7 बजे पुरी में भगवान जगन्नाथ जी के चरणों में वंदन करने के लिए गया था। भगवान जगन्नाथ जी के यहां आशीर्वाद लेने गया था। सुबह 7 बजे पुरी के रास्तों पर हजारों लोगों की भीड़ और मैं अभी सीधे पुरी से आ रहा हूं। थोड़ी देर पहले मुझे महाप्रभु जगन्नाथ जी के दर्शन और पूजा अर्चना का सौभाग्य मिला है। और जगन्नाथ जी ऐसे हैं हर किसी की आशा पूरी करते हैं, तभी तो वो पुरी है। मैंने ओडिशा और देश की सुख और समृद्धि के लिए महाप्रभु जगन्नाथ जी से आशीर्वाद मांगा है।

भाइयों और बहनों,

आज देश में 5वें चरण का मतदान भी हो रहा है। बड़ी संख्या में वोटर पोलिंग बूथ पर पहुंचकर अपना कर्तव्य निभा रहे हैं। मैं सभी मतदाताओं से और विशेषकर फर्स्ट टाइम वोटर्स से आग्रह करूंगा कि वे अपना वोट जरूर डालें।

साथियों,

जिनको अभी भी मन में दुविधा है गर्मी है, जाऊं ना जाऊं। वो जरा इस सभा में मैं एक नौजवान को देख रहा हूं और मैं देख रहा हूं वो व्हील चेयर पर है। ये इससे बड़ा इंस्परेशन क्या हो सकता है। एक जागरूक नागरिक अपनी असुविधा, अपनी कठिनाई की परवाह किए बिना राष्ट्र के लिए क्या करना चाहिए, इसलिए यहां आकर के मौजूद है, मतदाताओं के लिए यही प्रेरणा है। मैं आपका बहुत आभारी हूं दोस्त।

साथियों,

चुनाव के इस समय में दुनिया के कई एक्सपर्ट देशभर में घूम रहे हैं। इस तरफ जो चित्र लाए हैं, वो ले लीजिए, किसी को निराश मत कीजिए, ये लोग देने के लिए आए हैं। कुछ लेने के लिए नहीं आए हैं। इधर एक बच्ची है उसको आगे आने दीजिए। बहुत प्यारी छोटी सी गुड़िया देखिए, वो चित्र लेकर आई है। उस बच्ची को आगे आने दीजिए, शाबास बेटा। बेटा तुम्हारा चेहरा नहीं दिखाई देता है मुझे, इस बेटी का चेहरा मुझे देखना है। शाबास बेटा। देखिए 2047 में विकसित भारत होगा ना तो ये शान से देश को चलाते होंगे।

साथियों,

चुनाव के इस समय में दुनिया के कई एक्सपर्ट देश के कोने-कोने में जा रहे हैं। वहां के हालात का जायजा ले रहे हैं। लोकतंत्र से इस उत्सव को इंज्वाय कर रहे हैं। वो भारत के मतदाताओं की नब्ज टटोल रहे हैं। हर कोई हैरान है..हर कोई चकित है...ये जनसमर्थन...जनता जनार्दन का ये आशीर्वाद....हर कोई मोदी सरकार को तीसरी बार वापस लाना चाहता है। इसमें भी हमारी माताओं-बहनों का, हमारे नौजवानों का उत्साह बहुत अधिक है। ओडिशा में तो ये मैं सामने देख रहा हूं। यहां एक ही नारा गूंज रहा है-ओडिशा के गांव-गांव गली-गली एक ही नारा गूंज रहा है। ओडिशा में पहली बार...डबल इंजन सरकार! उड़ीसा रे प्रथम थर हेब...डबल इंजीन सरकार l उड़ीसा रे प्रथम थर हेब...डबल इंजीन सरकार l

साथियों,

आपने BJD सरकार पर 25 साल भरोसा किया है...आज पूरा ओडिशा ये आत्ममंथन कर रहा है कि इन 25 वर्षों में उसे क्या मिला। आज भी यहां किसान परेशान हैं...आज भी नौजवान छोटे-छोटे काम के लिए दूसरे राज्यों में जाते हैं। हद तो ये है...कि आदिवासी क्षेत्र जहां जल-जंगल-जमीन है, खनिज संपदा है, वहां सबसे ज्यादा बेहाली है। और इन्ही इलाकों से सबसे ज्यादा पलायन होता है। क्यों भई? इतने समृद्ध ओडिशा की जनता इतनी गरीबी में जीने के लिए मजबूर क्यों है? ये काले शर्ट वाली बच्ची है ना वो कब से किताब लेकर खड़ी है। जरा ले लीजिए उससे, बेटा आगे आ जाइए, यहां आना संभव नहीं है बेटा। अब मैं अपनी बात करूं आगे। आप इतना प्यार बरसाते हैं कि मेरी बोलती बंद हो जाती है।

साथियों,

मैं गुजरात से आया हूं, सोमनाथ की धरती से आया हूं, जगन्नाथ को प्रणाम करने आया हूं। लेकिन मैं ओडिशा में जो गरीबी देखता हूं। मेरे दिल में बहुत बड़ा दर्द होता है। कितना समृद्ध प्रदेश इतनी महान विरासत ये मेरे ओडिशा को किसने तबाह कर दिया। किसने बर्बाद कर दिया, किसने इसके नौजवानों के सपनों को कुचल डाला। एक-एक बात मुझे बहुत दर्द करती है। बहुत पीड़ा करती है। और मैं देखता हूं कि उसकी वजह क्या है। इसकी वजह है, BJD सरकार पूरी तरह से भ्रष्टाचारियों के कब्जे से घिरी हुई है। मुट्ठी भर भ्रष्टाचारी मुख्यमंत्री आवास को, मुख्यमंत्री कार्यालय को कब्जा करके बैठ गए हैं। BJD के छोटे-छोटे नेता भी करोड़ों के मालिक बन गए हैं।

भाइयों और बहनों,

ओडिशा की BJD सरकार ने, यहां की खनिज संपदा का लाभ आपको नहीं मिलने दिया। 2014 में जब से आपने सेवा करने का अवसर दिया, हमने नई खनन नीति बनाई। इसके तहत ओडिशा को ज्यादा रॉयल्टी मिलती है। मोदी ने डिस्ट्रिक्ट मिनरल फंड बनाया...ताकि यहां से निकलने वाले हर खनिज का एक हिस्सा यहीं के विकास में लगे। यहां रहने वाले लोगों को लाभ हो। आप अंदाजा लगा सकते हैं..हमने ओडिशा को कितने रुपए DMF के दिए? डिस्ट्रिक्ट मिनरल फंड..कितने रुपये दिए हैं। डिस्ट्रिक्ट मिनरल फंड के तहत करीब-करीब 26 हजार करोड़ रुपए...ये पैसे ढेंकनाल में बच्चों के स्कूल के लिए, गांवों की सड़कों के लिए खर्च होने थे। लेकिन इसमें भी BJD के लोगों ने भ्रष्टाचार ही भ्रष्टाचार फैलाया।

साथियों,

BJD के राज में न तो ओडिशा की संपदा सुरक्षित है...और न ही ओडिशा की सांस्कृतिक धरोहर सुरक्षित है। ये तो पद्म सम्मान से पुरस्कृत अंतर्यामी मिश्रा जी की धरती है। जिन्होंने जगन्नाथ संस्कृति को लेकर इतना काम किया है। लेकिन BJD सरकार में जगन्नाथ जी का मंदिर भी सुरक्षित नहीं बचा है। पिछले 6 साल से श्री रत्न भंडार की चाबी का अता-पता नहीं है। मैं जरा आप सब से पूछना चाहता हूं। पूरे देश की श्रद्धा, सदियों से जो पूजा होती है। जिसका मालिक स्वंय भगवान जगन्नाथ है। अरे हमारे घर की चाबी खो जाए तो हम मन्नत करके हैं, महाप्रभु जगन्नाथ जी हमारे घर की चाबी खो गई है, कुछ मदद करो और महाप्रभु जगन्नाथ जी के आशीर्वाद से घर की चाबी भी घंटे-दो घंटे में मिल जाती है। 6 साल हो गए रत्न भंडार की चाबी खो गई है। इसके पीछे का बहुत बड़ा राज BJD सरकार और मुख्यमंत्री को घेरा डाल करके जो लोगों ने कब्जा किया हुआ है ना, वो सीधे-सीधे जिम्मेवार हैं। पूरा ओडिशा जानना चाहता है...कि जो जांच हुई थी, उसकी रिपोर्ट में ऐसा क्या है कि BJD ने वो रिपोर्ट ही दबा दी? BJD की खामोशी से लोगों का शक गहरा रहा है। मैं आज ओडिशा के लोगों को भरोसा देता हूं...ओडिशा में भाजपा सरकार बनते ही दूध का दूध, पानी का पानी हो जाएगा। भाजपा सरकार जांच रिपोर्ट को सार्वजनिक करेगी। और महाप्रभु जगन्नाथ जी की हमारी सबसे बड़ी सेवा उसी से शुरू हो जाएगी।

साथियों,

ये बहुत गंभीर घटना है। जिसमें ओडिशा की धरोहरों को लेकर संवेदनशीलता नहीं है...वो धरोहरों का संरक्षण भी नहीं कर सकता। ओडिशा का तेज विकास तो ओडिशा की मिट्टी की संतान ही कर पाएगी। और इसलिए मोदी ने आपको गारंटी दी है। आप यहां भाजपा की सरकार बनाइए...भाजपा, ओडिशा के बेटे या बेटी को ही ओडिशा का मुख्यमंत्री बनाएगी। और आपको पता है ना शपथग्रहण की तारीख? मैं यहां आपको निमंत्रण देने आया हूं, 10 जून...10 जून को ओडिशा में डबल इंजन सरकार का शपथ ग्रहण कार्यक्रम होगा। ये सरकार का जाना तय है।

भाइयों और बहनों,

21वीं सदी के ओडिशा को विकास की जो रफ्तार चाहिए...वो BJD सरकार नहीं दे सकती। इस शताब्दी का अब तक का पूरा हिस्सा आप BJD को मौका दे चुके हैं। अब समय आ गया है कि आप BJD की ढीली-ढाली नीतियां, ढीले-ढाले काम को छोड़कर, Slow रफ्तार को छोड़कर, भाजपा की तेज रफ्तार सरकार चुनें। आप भी देख रहे हैं...पिछले 25 वर्षों से ओडिशा में सिंचाई के अनेक प्रोजेक्ट अटके, लटके और भटके हुए हैं। रेंगाली सिंचाई परियोजना...80 के दशक से बन रही है। आज तक नहरें नहीं बन पाईं। एक और प्रोजेक्ट स्वर्णरेखा सिंचाई परियोजना है। इस पर 1970 से प्लानिंग चल रही थी। आपने मोदी को अवसर दिया...तो इसको हम पीएम कृषि सिंचाई योजना के दायरे में लाए। ओडिशा में ऐसे 8 बड़े सिंचाई प्रोजेक्ट्स थे, जो कई-कई दशकों से लटके हुए थे। इनमें से 5 को तेज रफ्तार मोदी सरकार पूरा कर चुकी है। लेकिन BJD सरकार के ज्यादातर प्रोजेक्ट आज भी अधूरे ही हैं।

साथियों,

ओडिशा के धान किसानों के साथ भी यहां बरसों से विश्वासघात हो रहा है। यहां किसान साल में एक फसल मुश्किल से ले पाता है। वो मेहनत करता है...धान उगाता है...लेकिन 2200 रुपए का घोषित MSP तक उसे नहीं मिल पाता। BJD के नेता, धान किसानों को मंडी में लूटते हैं। इसलिए भाजपा ने गारंटी दी है...आप मेरा एक काम करेंगे, जरा हाथ ऊपर कर बताइए, आप मेरा एक काम करेंगे। जरा जोर से बताइए करेंगे, आप हर किसान को मेरी तरफ से मिलिए और किसान को मेरी एक बात जरूर बताइए, उनको कहिए कि आज तक आपकी जो लूट हुई है। मोदी ने गारंटी दी है कि जब यहां बीजेपी की सरकार बनेगी, तो छत्तीसगढ़ की ही तरह ओडिशा में भी धान का MSP 2200 नहीं, 3100 रुपए क्विंटल होगा। यहां 3100 रुपए क्विंटल वाली बात हर किसान तक पहुंचाएंगे। ये मोदी की गारंटी पहुंचा देंगे। इतना ही नहीं 48 घंटे में यानि दो दिन के भीतर-भीतर धान का पैसा खाते में होगा। उन किसानों को बता दीजिए, अभी तौलने के बहाने जो कटनी-छटनी होती है...जो किसानों को लूटती है। उससे किसान को मुक्ति दिलाने के लिए मंडियों में इलेक्ट्रिक मशीन भी लगाई जाएगी।

साथियों,

BJD सरकार का पहली बार इस तरह कच्चा चिट्ठा पूरे देश के सामने आ रहा है। आदिवासी हितों को लेकर भी यहां की सरकार पूरी तरह बेपरवाह है। आप भी जानते हैं...मोदी सरकार, ने आदिवासी परिवारों के लिए वनधन योजना बनाई। इनके माध्यम से वन उत्पादों की खरीद MSP पर होती है। देशभर में साढ़े 3 हजार से अधिक वन धन केंद्र हैं। यहां ओडिशा में भी पौने 200 वन धन केंद्र खुले हैं। इनमें 80 से ज्यादा वन उत्पादों की खरीद MSP पर होती है। लेकिन BJD सरकार क्या करती है? वो वन उपज पर आपको सही MSP तक नहीं देती। 25 साल हो गए, नवीन बाबू की सरकार आदिवासियों के लिए यहां पेसा कानून तक लागू नहीं कर पाई। इससे आदिवासी परिवारों के भूमि अधिकार से जुड़ी अनेक समस्याएं ज्यों की त्यों हैं।

भाइयों और बहनों,

ओडिशा में BJD सरकार की वजह से हमारी माताओं-बहनों का घर चलाना बहुत मुश्किल हो गया है। अब देखिए...मोदी दिल्ली से आपको मुफ्त चावल देने के लिए पैसा भेजता है। लेकिन BJD के लोग, यहां उसमें अपनी फोटो लगाते हैं और आपके हिस्से का चावल बाहर बेच देते हैं। इसलिए ओडिशा की महिलाओं के लिए भाजपा ने एक बहुत बड़ी योजना बनाई है। भाजपा की सुभद्रा योजना...ओडिशा की हर बहन को बहुत मदद करने वाली है। मोदी आपके घर का बिजली बिल जीरो करने के लिए भी काम कर रहा है। पीएम सूर्यघर- मुफ्त बिजली योजना का तेजी से विस्तार हो रहा है। आप अपने घर पर सोलर पैनल लगाएं इसके लिए मोदी सरकार आपको 75 हजार रुपए से ज्यादा दे रही है। इससे बनी 300 यूनिट तक बिजली आप मुफ्त इस्तेमाल करेंगे और बाकी बिजली बेचकर आपकी कमाई भी होगी।

साथियों,

ओडिशा में डबल इंजन की सरकार के लिए भाजपा के उम्मीदवारों को MLA चुनकर भुवनेश्वर भेजिए। और साथ ही ढेंकनाल से मेरे बहुत पुराने मित्र, सबको आश्चर्य होगा। 40 वर्ष से भी पुरानी हमारी दोस्ती है। ऐसे रुद्र नारायण पाणि जी, 40 साल से मेरा नाता है इनसे और संबलपुर से धर्मेंद्र प्रधान को रिकॉर्ड वोटों से जिताकर दिल्ली भेजिए। यहां कुछ बहनें आशीर्वाद लेकर आई है, एक बच्ची चित्र लेकर आई है। जरा एसपीजी के लोग इसको कलेक्ट कर लीजिए। मैं आपका बहुत आभारी हूं, आप कब से प्रतिक्षा कर रही हैं। मेरी टीम ले लेगी मुझे पहुंच जाएगा, मैं आपके आशीर्वाद के लिए आभारी हूं। इधर भी देखिए एक नौजवान है, वो भी कुछ लेकर आए हैं। जरा इस तरफ भी कलेक्ट कर लीजिए। आपके प्यार का मेरे लिए बहुत मूल्य है जी। मैं आपको निराश नहीं कर सकता हूं। जो जो लोग रात रात चित्र बनाते हैं, या लेकर आते हैं , मेरे दिल को छू जाता है। मैं हृदय से बहुत आभारी हूं। और जिनतक मेरी बात पहुंचती नहीं है उनसे भी क्षमा मांगता हूं, क्योंकि सभा में मेरे लिए ये संभव नहीं होता है कि सबकी तरफ मेरा ध्यान जाए। बहुत से लोग बहुत मेहनत करके आए होंगे और बहुत सी चीजें छूट जाती होंगी। मेरा एक काम करेंगे आपलोग। क्यों ढीले पड़ गए, जरा हाथ ऊपर करके बताइए मेरा एक काम करेंगे। मेरा एक काम करेंगे। आप घर-घर जाइएगा और कहिएगा कि मोदी जी आए थे और मोदी जी ने परिवार में सबको नमस्कार कहा है, जुहार कहा है। मेरा नमस्कार पहुंचा देंगे, मेरा जुहार पहुंचा देंगे।

कहिए...

भारत माता की जय

भारत माता की जय

भारत माता की जय

बहुत-बहुत धन्यवाद !

Explore More
77 व्या स्वातंत्र्य दिनानिमित्त लाल किल्ल्याच्या तटबंदीवरून पंतप्रधान नरेंद्र मोदी यांनी केलेले भाषण

लोकप्रिय भाषण

77 व्या स्वातंत्र्य दिनानिमित्त लाल किल्ल्याच्या तटबंदीवरून पंतप्रधान नरेंद्र मोदी यांनी केलेले भाषण
Narendra Modi’s Digital Century Gives Democratic Hope From India Amidst Global Turmoil

Media Coverage

Narendra Modi’s Digital Century Gives Democratic Hope From India Amidst Global Turmoil
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM greets people on occasion of Ashadhi Ekadashi
July 17, 2024

The Prime Minister, Shri Narendra Modi has greeted the people on the occasion of Ashadhi Ekadashi.

The Prime Minister posted on X;

“Greetings on Ashadhi Ekadashi! May the blessings of Bhagwan Vitthal always remain upon us and inspire us to build a society filled with joy and prosperity. May this occasion also inspire devotion, humility and compassion in us all. May it also motivate us to serve the poorest of the poor with diligence.”

“आषाढी एकादशीच्या हार्दिक शुभेच्छा! भगवान विठ्ठलाचे आशीर्वाद नेहमीच आपल्यासोबत असू देत आणि आपल्या सर्वांना आनंद आणि समृद्धीने परिपूर्ण समाजाची उभारणी करण्याची प्रेरणा मिळू दे. या उत्सवामुळे आपल्यामध्ये भक्तीभाव, नम्रता आणि करुणा वाढीला लागू दे. अतिशय प्रामाणिकपणे गरिबातील गरिबाची सेवा करण्यासाठी देखील आपल्याला प्रेरणा मिळू दे.”