शेअर करा
 
Comments
I thank the people of the country. Not because they have made us successful in the elections. But because they rely on the democratic process, says PM Modi
No re-polling and peaceful conduct of voting were the distinctive features of Bihar Elections. Earlier there used to be news of booth capturing etc: PM Modi
Poll win or loss is a different thing, but our election process is a matter of pride for every Indian, says PM Modi
In his victory speech, PM Modi says when people think of governance, they think of BJP
The people of India have clearly stated that the only point of debate during elections would be development in the 21st century India: PM Modi

 

भारत माता की जय, भारत माता की जय, भारत माता की जय,नमस्कार..

मैं आज आभार व्यक्त करता हूं, महान देश की महान जनता का, मैं आज धन्यवाद अर्पित करता हूं देश के कोटि-कोटि नागरिकों का।
धन्यवाद इसलिए नहीं कि उन्होंने इन चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को इतनी बड़ी सफलता दी है, इसके लिए तो वो हकदार हैं ही।
धन्यवाद इसलिए, क्योंकि लोकतंत्र के इस महान पर्व को हम सभी ने मिलकर बहुत उत्साह से मनाया है। चुनाव भले ही कुछ सीटों पर हुआ हो, कुछ क्षेत्रों में हुआ हो, लेकिन कल सुबह से लेकर देर रात तक, पूरे देश की नजरें टीवी पर थीं, ट्विटर पर थीं, चुनाव आयोग की वेबसाइट पर थीं।

लोकतंत्र के प्रति हम भारतीयों की जो आस्था है, उसकी मिसाल पूरी दुनिया में कहीं नहीं मिलती। चुनाव नतीजों में हार-जीत अपनी जगह है लेकिन चुनाव की ये प्रक्रिया हर भारतीय के लिए गौरव का विषय है। इसलिए मैं पूरे देश को बधाई देता हूं, कोटि-कोटि देशवासियों का धन्यवाद करता हूँ। इन चुनावों को सफलतापूर्वक, शांतिपूर्वक, संपन्न कराने के लिए चुनाव आयोग, देश के सुरक्षाबल और स्थानीय प्रशासन भी बधाई के पात्र हैं।

कुछ चीजें तो हम देश में भूल गए हैं। आपको पता होगा, पहले जब चुनाव होते थे दूसरे दिन क्या खबर आती थी, हेडलाइन। इतने बूथ लूट लिए गए, इतने बूथ में रीपोलिंग होगा।
आज हेडलाइन होती है, पहले से इतना परसेंटेज वोटिंग बढ़ा, पुरुषों से महिलाओं का वोटिंग बढ़ा। यानी पुरानी चीजें, बिहार में चुनाव मतलब, इतने लोग मारे गए, इतने बूथ लूटे गए यही खबरें रहती थीं। एक भी बूथ में रीपोलिंग ना होना, शांतिपूर्ण मतदान होना और कोरोना के कारण मतदान कम होगा, ये सारी आशंकाओं को जहां-जहां चुनाव हुआ लोगों ने निरस्त कर दिया, यही तो देश की ताकत है।

कोरोना के इस संकट काल में ये चुनाव कराना आसान नहीं था। लेकिन हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्थाएं इतनी सशक्त हैं, पारदर्शी हैं, कि इस संकट के बीच भी उन्होंने इतना बड़ा चुनाव, कराकर के दुनिया को भी भारत की पहचान कराई है।

साथियो, इन चुनाव परिणामों में भाजपा को, एनडीए को अपार जन समर्थन मिला है, इसके लिए भारतीय जनता पार्टी के, एनडीए के लाखों कार्यकर्ता भाइयो-बहनो को जितनी बधाई दूं उतनी कम है। मैं हर कार्यकर्ता को, उनके परिवारजनों को हृदय से बधाई देता हूं। ये चुनावी नतीजे भारतीय जनता पार्टी के हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमान जेपीनड्डा जी की कुशलता और प्रभावी रणनीति का भी परिणाम है।
मैं कहूंगा नड्डा जी आगे बढ़ो, आप कहिएगा हम सब आपके साथ हैं।
नड्डा जी आगे बढ़ोहम सब आपके साथ हैं, नड्डा जी आगे बढ़ोहम सब आपके साथ हैं, नड्डा जी आगे बढ़ोहम सब आपके साथ हैं।

भाइयो और बहनो, कल जो चुनाव नतीजे आए, उसका निहितार्थ बहुत गहरा है, उसके मायने बहुत बड़े हैं। लोकसभा चुनाव में जो नतीजे आए थे, ये उसका और व्यापक विस्तार है।

भारतीय जनता पार्टी पूर्व में जीती, मणिपुर में कमल का झंडा फहरा दिया। भारतीय जनता पार्टी सुदूर पश्चिम में, कच्छ के रेगिस्तान में, अबडासा में, गुजरात की सभी की सभी सीटें जीत लीं। भाजपा को उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में विजय प्राप्त हुई और भाजपा को दक्षिण में कर्नाटका-तेलंगाना में सफलता मिली।

इन दिनों दो केंद्रशासित प्रदेशों में भी चुनाव हुआ, जैसे अभी नड्डा जी बता रहे थे लद्दाख में, उसी प्रकार दीव, दमन और सिलवास में भी, वहां भी भारतीय जनता पार्टी का जय-जयकार हो गया।

भाजपा ही एकमात्र ऐसी राष्ट्रीय स्तर की पार्टी है जिसका परचम देश के नागरिकों ने ही पूरे देश में फहराया है। आप याद कीजिए कभी हम दो सीट पर थे औरदो कमरों से पार्टी चला करती थी, आज हिंदुस्तान के हर कोने में हैं। हर किसी के दिल में है।
आखिर ऐसा क्यों हुआ, कैसे हुआ?
इसका उत्तर कल जो नतीजे आए हैं, उसी में मिल जाता है।

साथियो,भारत के लोग, 21वीं सदी के भारत के नागरिक, बार-बार अपना संदेश स्पष्ट कर रहे हैं।अब सेवा का मौका उसी को मिलेगा, जो देश के विकास के लक्ष्य के साथ ईमानदारी से काम करेगा।
हर राजनीतिक दल से देश के लोगों की यही अपेक्षा है कि देश के लिए काम करो, देश के काम से मतलब रखो।
कल जो नतीजे आए, उन्होंने साबित कर दिया है कि आप काम करेंगे, तो लोगों से आपको भरपूर आशीर्वाद भी मिलेगा।आप खुद को समर्पित करेंगे, चौबीसों घंटे देश के विकास के बारे में सोचेंगे, कुछ नया करने की चेष्टा करेंगे, तो आपको नतीजे भी मिलेंगे।
देश की जनता आपकी मेहनत को देख रही है, आपकी तपस्या को देख रही है, आपकी नीयत को देख रही है, और इसीलिए चुनाव के समय बिना किसी भ्रम में पड़े जनता-जनार्दन आपको वोट कठिनाई के बीच से निकलकर के देकर के आती है।
कल के नतीजों में देश की जनता ने फिर ये तय कर दिया है कि 21वीं सदी में देश की राजनीति का मुख्य आधार- सिर्फ और सिर्फ विकास ही होगा।

साथियो, हमारे यहां ये भी कई बार कहा जाता है कि बैंक खाते, गैस कनेक्शन, घर, स्वरोजगार के लिए सुविधाएं, अच्छी सड़कें, अच्छे रेलवे स्टेशन, बेहतर हवाई अड्डे, नदियों पर बनते आधुनिक पुल, इंटरनेट कनेक्टिविटी,ऐसे मुद्दे कोई अहमियत नहीं रखते। सुना होगा आपने ऐसा।
जनता ऐसे लोगों को बार-बार ये कह रही है कि असली मुद्दे यही हैं।
देश का विकास, राज्य का विकास, आज सबसे बड़ी कसौटी है और आने वाले समय में भी यही चुनाव का आधार रहने वाला है। जो लोग ये नहीं समझ रहे, इस बार भी, क्या हुआ मालूम है ना, जगह-जगह जमानत जब्त हो गई है।

साथियो,आज देश, भारतीय जनता पार्टी पर जो स्नेह दिखा रहा है, एनडीए पर जो स्नेह दिखा रहा है उसकी सबसे बड़ी वजह यही है कि भाजपा ने, एनडीए ने देश के विकास को, लोगों के विकास को अपना सर्वोपरि लक्ष्य बनाया हुआ है। और मैं देश वासियों को विश्वास दिलाना चाहता हूं और हम सभी कार्यकर्ता उसी संकल्प से बंधे हुए हैं।
हम हर वो काम करेंगे जो देश को आगे ले जाए।हम हर वो फैसला लेंगे जो देशहित में हो, देश के लोगों के हित में हो।
साथियो, आज भाजपा ही देश की एकमात्र राष्ट्रीय पार्टी है, जिसमें गरीब, दलित, पीड़ित, शोषित, वंचित, अपना प्रतिनिधित्व देखते हैं, अपना भविष्य देखते हैं।
आज भाजपा ही देश की एकमात्र राष्ट्रीय पार्टी है, जो समाज के हर वर्ग की आवश्यकताओं को समझती है, हर क्षेत्र की आवश्यकताओं को समझती है और उनके लिए काम कर रही है।आज भाजपा ही एकमात्र पार्टी है जो राष्ट्रीय आकांक्षाओं के साथ ही हर क्षेत्र के गौरव को भी उतने ही गर्व के साथ अपने साथ लेकर चलती है।
और इसलिए,
आज देश के नौजवानों को सबसे ज्यादा भरोसा किसी पर है तो वो भाजपा है।दलितों-पीड़ितों-शोषितों की अगर कोई आवाज है, तो वो भाजपा है।देश के मध्यम वर्ग के सपनों को पूरा करने के लिए कोई दिन-रात प्रयास अगर कोई कर रहा है, तो वो भाजपा है।
महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए, उनकी गरिमा-उनका गौरव सुनिश्चित करने के लिए जिस पार्टी पर भरोसा किया जा रहा है, तो वो भाजपा है।आर्थिक सुधार हों, कृषि सुधार हों या फिर देश की सुरक्षा, शिक्षा की बात हो, नई व्यवस्थाओं की बात हो या फिर किसानों-श्रमिकों का हित, ये भाजपा ही है जिस पर देश आज सबसे ज्यादा भरोसा कर रहा है।
ये भरोसा भाजपा के लिए, मेरे लिए, आपके प्रधानसेवक के लिए बहुत बड़ी पूंजी है।ये भरोसा, ये हमारी सबसे बड़ी पूंजी है।

साथियो,ये भाजपा ही है, जिसके लिए लोगों का आशीर्वाद और जनता-जनार्दन का स्नेह निरंतर बढ़ता जा रहा है।लोकसभा चुनाव में पार्टी ने पहले से और ज्यादा सीटें जीतकर सरकार में अपनी वापसी की।
बिहार में तीन बार सरकार में रहने के बाद भाजपा ही एकमात्र पार्टी है जिसकी सीटों में वृद्धि हुई है।
गुजरात में भाजपा 90 के दशक से है और वहां भी इन उपचुनावों में पार्टी ने सभी सीटें जीतकर दिखाई हैं।मध्य प्रदेश में भी भाजपा ने सीटें जोड़ी हैं जबकि वहां भी हमारी सरकार इतने वर्षों से सत्ता में है।
यानी, देश के लोग भाजपा को ही बार-बार मौका दे रहे हैं।भाजपा पर ही सबसे ज्यादा विश्वास कर रहे हैं।
साथियो,भाजपा की सफलता के पीछे उसका गवर्नेंसमॉडल है।जब लोग गवर्नेंसके बारे में सोचते हैं, तो भाजपा के बारे में भी सोचते हैं।
भाजपा सरकारों की पहचान ही गुड गवर्नेंस। गुड गवर्नेंससे कैसे स्थितियां बदल जाती हैं, बड़ी से बड़ी आपदाओं का सामना करने में इससे मदद मिलती है औरये हमने कोरोना के इस काल में भी देखा है।
जब कोरोना आया, तो ये संकट कितना बड़ा है, इसका अंदाजा बड़े-बड़े एक्सपर्ट और वैज्ञानिक भी नहीं लगा पाए थे।दुनिया में ऐसा कोई नहीं है जिसे कोरोना ने प्रभावित न किया हो।लेकिन कोरोना के खिलाफ जैसी लड़ाई भारत ने लड़ी, वैसी संभवत: कहीं नहीं लड़ी गई।
जनता कर्फ्यू से लेकर अभी तक जिस तरह इस महामारी का मुकाबला किया गया, इन चुनाव नतीजों ने, उसे भी अपना समर्थन दिया है।
कोरोना काल में गरीब को राशन से लेकर रोजगार तक के लिए, जिस स्तर पर भारत में प्रयास हुए हैं, ये उसको समर्थन है।कोरोना काल में बचाया गया एक-एक जीवन भारत की सफलता की कहानी है।

साथियो, मुझे पता है आप लोग और खासकर मीडिया के साथी बार-बार सोच रहे होंगे कि मोदी ये लंबा-लंबा बोल रहा है लेकिन बिहार पर भी तो कुछ बोलूं, बिहार पर भी जरा विस्तार से बात करूं, बिहार तो सबसे खास है।
अगर आज आप मुझे बिहार के चुनाव नतीजों के बारे में पूछेंगे तो मेरा जवाब भी जनता के जनादेश की तरह, जैसे बिहार की जनता ने जनादेश दिया है, जितना साफ-सुथरा जनादेश दिया है मेरा जवाब भी उतना ही साफ है और मेरा एक ही जवाब है, चुनाव जीतने का एक ही रहस्य है,सबका साथ-सबका विकास, सबका विश्वास, इस मंत्र की जीत हुई है।बिहार में विकास के कार्यों की जीत हुई है।
बिहार में सच जीता है, विश्वास जीता है। बिहार का युवा जीता है, बिहार कीमाताएं-बहनें-बेटियां जीती हैं,बिहार का गरीब जीता है, किसान जीता है। ये बिहार की आकांक्षाओं की जीत है, बिहार के गौरव की जीत है।
ये दिखाता है कि बिहार के जन-जन में NDA की परफॉर्मेंस, और भविष्य की संभावनाओं के प्रति कितना विश्वास है।
मैं बिहार के अपने भाइयों और बहनों से कहूंगा,
आपने एक बार फिर सिद्ध किया है कि बिहार क्यों लोकतंत्र की जमीन कहा जाता है।आपने फिर सिद्ध किया है कि वाकई, बिहारवासी पारखी भी हैं और जागरूक भी।
आत्मनिर्भर बिहार के जिस संकल्प के लिए आपने जो अपार प्यार दिया है, उससे भी मैं और हमारी पूरी टीम अभिभूत हैं।हम सभी भाजपा के कार्यकर्ता, नीतीश जी के नेतृत्व में NDA के कार्यकर्ता, हर बिहारवासी के साथ, इस संकल्प को सिद्ध करने में कोई कसर बाकी नहीं रखेंगे।

और साथियो,मैं कल से टीवी पर देख रहा हूं, अखबारों में चर्चा है साइलेंटवोटर्स, अब उनकी गूंज सुनाई देने लगी है। बीजेपीके पास साइलेंटवोटर्सका एक ऐसा वर्ग है जो उसे बार-बार वोट दे रहा है, निरंतर वोट दे रहा है।
ये साइलेंटवोटर्सहैं, देश की महिलाएं, देश की नारीशक्ति।
ग्रामीण इलाकों से लेकर शहरी इलाकों तक, महिला वोटर ही भाजपा की सबसे बड़ीसाइलेंटवोटर्स का समूह बन गया है।
आखिर ऐसा क्यों है?
क्योंकि ये भाजपा ही है, जिसके शासन में महिलाओं को सम्मान भी मिलता है और सुरक्षा भी मिलती है।
बैंक अकाउंट से लेकर बैंक लोन तक, गर्भावस्था के दौरान मुफ्त जांच से लेकर 6 महीने के अवकाश तक, रसोई को धुएं से मुक्त करना हो या फिर शौचालयों का निर्माण एक रुपए में सैनिटरीपैड की सुविधा हो याहर घर बिजली पहुंचाना हो या फिर हर घर जल के लिए अभियान हो,ये बीजेपी ही है जो भारत की महिलाओं के जीवन स्तर को सुधारने के लिए, उम्र के हर पड़ाव को देखते हुए विशेष प्रयास कर रही है।
इसलिए भाजपा पर ये साइलेंटवोटर्सहर बार अपना स्नेह दिखाती हैं, अपना आशीर्वाद देती हैं।मैं इस स्नेह, इस आशीर्वाद के लिए सभी माताओं-बहनों-बेटियों को नमन करता हूं।

साथियो,21वीं सदी का भारत, एक नए मिजाज का भारत है।न हमें आपदाएं रोक सकती हैं और न ही बड़ी-बड़ी चुनौतियां।
मैं एक नए भारत के उदय को देख रहा हूं।एक ऐसा भारत, जो आत्मविश्वास से भरा हुआ है, जो अपने सामर्थ्य को पहचानता है, जो अपने लक्ष्यों के प्रति सचेतभी है, गंभीर भी है। ये बात हमने इस कोरोना काल में भी देखी है।
जब दुनिया के अनेक देश थम गए थे, हमारे देश ने नई नीतियां भी बनाईं, नए निर्णय भी लिए।कृषि क्षेत्र में लिए गए ऐतिहासिक सुधार हुए वो भी कोरोना काल में।ऐतिहासिक श्रम सुधार हुए, कोरोना काल में।नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू किया गया, वोभीकोरोना काल में।स्पेस सेक्टर को सभी के लिए खोला गया, वोभीकोरोना काल में।
देश के सभी गांवों को ब्रॉडबैंड से जोड़ने का अभियान शुरू हुआ, वोभीकोरोना काल में,नेशनल डिजिटलहेल्थ मिशन शुरू हुआ, वोभीकोरोना काल में।
गांव की जमीन और घर के लिए प्रापर्टी कार्ड देने वाली स्कीम- स्वामित्व योजना ये भी तो कोरोना काल में शुरू हुई।
पिछले 7-8 महीने, कोरोना की मुश्किलों के बावजूद हम भारत के लोग, देश के लिए जी जान से जुटे रहे हैं, देश को आगे बढ़ाते रहे हैं।मुझे विश्वास है सभी देशवासियों का यही सामर्थ्य आत्मनिर्भर भारत का संकल्प भी पूरा करके रहेगा।

साथियो,भारत के लोकतंत्र में डगर-डगर पर, परिपक्वता के दर्शन होते हैं। हमारा लोकतंत्र हर पल नए आयामों को चूमता है। नई संभावनाओं को खोजता है, फलता है, फूलता है, खिलता है। ये हमारे लोकतंत्र की विशेषता है

भारत की युवा पीढ़ी, लोकतंत्र के प्रति सच्ची निष्ठा और श्रद्धा रखती है।मजबूत लोकतंत्र में ही देश के नौजवान को अवसर नजर आते हैं और अपने अधिकारों की रक्षा के प्रति वो ज्यादा आश्वस्त रहता है।
लेकिन दुर्भाग्य से कश्मीर से कन्याकुमारी तक परिवारवादी पार्टियों, परिवार की पार्टियों इसका जो जाल नजर आ रहा है, जरा नजर कीजिए कश्मीर से कन्याकुमारी तक फैमली पार्टियां। ये पार्टियों का जाल लोकतंत्र के लिए खतरा बनता जा रहा है। और ये देश का युवा भली-भांति जानता है।

परिवार की पार्टियां या परिवारवादी पार्टियां, लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा है।दुर्भाग्य से देश की एक राष्ट्रवादी पार्टी,अनेक दशकों तक देश का नेतृत्व करने वाली पार्टी, वो भी एक परिवार के चंगुल में फंस गई है, परिवार की पार्टी बनकर रह गई है।

ऐसे में भारतीय जनता पार्टी का दायित्व और बढ़ जाता है।हमें अपनी पार्टी में भीतर के लोकतंत्र को मजबूत बनाएं रखना है। हमें अपनी पार्टी को जीवंत लोकतंत्र का जीता-जागता उदाहरण बनाना है। और तभी तो देश का प्रधानमंत्री मंच से कह सकता है, नड्डा जी तुम आगे बढ़ो हम तुम्हारे साथ हैं। यही तो पार्टी के लोकतंत्र की ताकत है। पार्टी हर कार्यकर्ता और हर नागरिक के लिए अवसरों का एक बेहतरीन मंच बने। जहां प्रतिभा के साथ न्याय हो और परिश्रम को पुरस्कार मिले।

मैं देश के युवाओं को, जिनके दिल में राष्ट्रहित सर्वोपरि है, जिनमें लोकतंत्र के लिए प्रतिबद्धता है, ऐसे युवाओं को निमंत्रित करता हूं।
देश के युवाओं से मेरा आह्वान है, वो आगे आएं और बीजेपी के माध्यम से देश की सेवा में जुट जाएं।अपने सपनों को साकार करने के लिए, अपने संकल्पों को सिद्ध करने के लिए, कमल को हाथ में लेकर चल पड़ें।

साथियो, देश में हो रहे इन प्रयासों के बीच, भाजपा का कार्यकर्ता होने के नाते, मैं भाजपा के अपने कार्यकर्ता साथियों की मेहनत देखकर भी, मनबहुत खुश होता है, प्रसन्न होता है।
आज भाजपा का विस्तार हो रहा है इसकी वजह भाजपा के प्रत्येक कार्यकर्ता का तप, त्याग और तपस्या है।और सफलता के इन क्षणों में, हमें ये याद रखना है कि हमारा दायित्व भारत के जन-जन के प्रति है।
जीत का उन्माद नहीं, हार का अवसाद नहीं, यही हमारी परिपाटी रही है और यही हमारी पार्टी के विकास का मंत्र रहा है।देश का आशीर्वाद हमारे साथ है।इस आशीर्वाद को हमें अपना दायित्व पूरा करके निभानाही हमारी जिम्मेवारी है।
राष्ट्रनिर्माण का, आत्मनिर्भर भारत के निर्माण का हमारा मिशन अनवरत जारी है।समाज में अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति के जीवन को हम कैसे आगे बढ़ाएं, हमारे प्रयास इसी एकनिष्ठ लक्ष्य के लिए होने चाहिए।

साथियो, जो लोग लोकतांत्रिक तरीके से हमारा मुकाबला नहीं कर पा रहे हैं, हमें चुनौती नहीं दे पा रहे हैं ऐसे कुछ लोगों ने रास्ता अपनाया है भारत के कार्यकर्ताओं की हत्या करने का, देश के कुछ हिस्सों में। उनको लगता है कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतार करके वे अपने मंसूबे पूरे कर लेंगे। मैं उन सब से आग्रहपूर्वक समझाने का प्रयास भी करता हूं, मुझे चेतावनी देने की जरूरत नहीं है क्योंकि वो काम जनता जनार्दन करेगी।
चुनाव आते है, जाते हैं। जय-पराजय होता रहता है, कभी ये बैठेगा-कभी वो बैठेगा, ये मौत का खेल लोकतंत्र में कभी नहीं चल सकता है और मौत का खेल, खेल कर के कोई मत नहीं पा सकता है, ये जरा दीवार पर लिखे हुए शब्द पढ़ लेना।

और इसलिए मेरे साथियो, हम लोकतंत्र को समर्पित हैं, देश ने हम पर जो भरोसा रखा है उस भरोसे को पूर्ण करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। हमारी तरफ से हमारे इरादों पर कोई शक नहीं कर सकता, हमारे प्रयासों के प्रति कभी कोई निराश नहीं होता है। हम प्रयास करते रहेंगे, अविरत करते रहेंगे, जनता-जनार्दन के लिए करेंगे, मां भारती की एक-एक संतान के लिए करेंगे। और ये जो चुनाव में आशीर्वाद मिलते हैं, ये आशीर्वाद हमें अधिक काम करने की ताकत देते हैं। अधिक काम करने की ऊर्जा देते हैं, अधिक काम करने की प्रेरणा देते हैं। और उसी आशीर्वाद के लेकर के, मैं जनता-जनार्दन के चरणों में अपना शीष झुका करके उनके सपनों को पूरा करने के लिए प्रयास में कोई कमी नहीं रखेंगे ये विश्वास दिलाना चाहता हूं।

मैं फिर एक बार देश के सभी मतदाताओं को और मैं भारतीय जनता पार्टी को भी धन्यवाद करता हूं क्योंकि हमारे नड्डा जी ने इस कार्यक्रम को विजयोत्सव के बजाए धन्यवाद का कार्यक्रम बनाया। इसलिए मैं विशेष रूप से बधाई देता हूं, क्योंकि हम जनता-जनार्दन के ऋणी हैं इसलिए हम उनका जितना धन्यवाद करें उतना कम है।

साथियो, दीपावली एक प्रकार से दरवाजे पर दस्तक दे ही रही है, खूब धूम-धाम से मनाइए। अपना ध्यान रखिए और अपनों का भी ध्यान रखिए। कोरोना से भी सतर्क रहिए और एक बात हम भाजपा वाले करें ऐसा नहीं देश का हर व्यक्ति करे। और सिर्फ एक दीवाली के लिए नहीं, आने वाले हर समय के लिए अब हमारा मंत्र है, ‘वोकलफॉर लोकल’, ये गूंजना चाहिए।

हमें लोकल चीजों पर, हमारे लोगों का जिसमें पसीना है, जिसमें हमारे देश की मिट्टी की सुगंध है, जिसमें हमारे देश के नौजवान की टैलेंट है। जिसमें हमारे देश के उज्जवल भविष्य के सपने हैं, ऐसी हर भारत में बनी हुई चीज, इस पर हम आग्रही बनें, लोकल के लिए आग्रही बनें, देखिए देश में, दुनिया का कोई देश कोई हमें दबा नहीं पाएगा दोस्तो, आप मान के चलिए।

मेरे साथ पूरी ताकत से बोलिए, भारत माता की जय, भारत माता की जय, भारत माता की जय, बहुत-बहुत धन्यवाद।

' मन की बात' बाबतच्या तुमच्या कल्पना आणि सूचना पाठवा!
Modi Govt's #7YearsOfSeva
Explore More
चलता है' ही मनोवृत्ती सोडायची वेळ आता आली आहे. आता आपण 'बदल सकता है' असा विचार करायला हवा : पंतप्रधान मोदी

लोकप्रिय भाषण

चलता है' ही मनोवृत्ती सोडायची वेळ आता आली आहे. आता आपण 'बदल सकता है' असा विचार करायला हवा : पंतप्रधान मोदी
Govt allows Covid vaccines at home to differently-abled and those with restricted mobility

Media Coverage

Govt allows Covid vaccines at home to differently-abled and those with restricted mobility
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM congratulates those who successfully cleared the UPSC Civil Services examination
September 25, 2021
शेअर करा
 
Comments

The Prime Minister, Shri Narendra Modi has congratulated those who successfully cleared the UPSC Civil Services examination.

In a series of tweets, the Prime Minister said;

"Congratulations to those who successfully cleared the UPSC Civil Services examination. An exciting and satisfying career in public service awaits.

Those who have cleared the exam will go on to have key administrative roles during an important period of our nation’s journey.

To those young friends who did not clear the UPSC examination, I would like to say- you are very talented individuals. There are more attempts awaiting.

At the same time, India is full of diverse opportunities waiting to be explored. Best wishes in whatever you decide to do."