The credibility of the Congress and the Left is such that even after decades of governing, they have nothing to count as their achievements, says PM Modi in Attingal
Your vote on the lotus button on 26th April will strengthen this ongoing movement against corruption: PM Modi in Attingal rally

जय-जय पद्मनाभ!
तिरुवनन्तपुरथे एन्टे सहोदरी-सहोदरनमारे, एल्लावरक्कुम एन्टे नमस्कारम। चैत्र नवरात्रि के पावन अवसर पर आज मुझे पद्मनाभ स्वामी और माता भद्रकाली की धरती पर आने का अवसर मिला है। इस भूमि पर श्री नारायण गुरू जी, महात्मा अय्यंकाली जी और श्री विद्यादिराजा का आशीर्वाद रहा है। कल मलयाली नववर्ष विशू का पर्व भी था, ऐसे शुभ समय में केरला की जनता का ये आशीर्वाद हमें मिल रहा है। ये आशीर्वाद केरला में नई शुरुआत का आशीर्वाद है। ये आशीर्वाद बदलाव का आशीर्वाद है। आपका ये विश्वास बता रहा है कि- फिर एक बार, मोदी सरकार! फिर एक बार, मोदी सरकार! फिर एक बार, मोदी सरकार! दूसरा मैं क्षमा चाहूंगा। एक तो मुझे आने में विलंब हुआ, दूसरा मंच पर जो प्रोटोकॉल थे उसको मैं निभा नहीं पाया। कई साथियों के साथ अन्याय हुआ होगा। वे सब मुझे क्षमा करें। क्योंकि मुझे अभी तमिलनाडु जाना है और वहां हेलिकॉप्टर उड़ेगा, नहीं उड़ेगा, ये चिंता का विषय होने के कारण मैं एकदम जल्दी-जल्दी में तुरंत आके माइक ले लिया। तो मंच के सभी लोग मुझे क्षमा करेंगे, और आप सब भी क्षमा करेंगे। मेरे साथ बोलिए...भारत माता की।

साथियों,
इस शुभ माहौल में कल दिल्ली में बीजेपी ने अपना संकल्प-पत्र जारी किया है। बीजेपी का संकल्प-पत्र यानी, मोदियुडे गारण्टी। मोदियुडे गारण्टी- Next five years में भारत world’s third largest economy बनेगा। मोदियुडे गारण्टी- भारत world class infrastructure का सेंटर बनेगा। मोदियुडे गारण्टी- भारत स्पेस सेक्टर में गगनयान जैसी monumental achievements हासिल करेगा। मोदियुडे गारण्टी- पीएम किसान सम्मान निधि का पैसा किसानों को मिलना जारी रहेगा। और इस सबके साथ ही, गरीबों के लिए Three Crore नए घर भी बनेंगे, Seventy Years के ऊपर के हर सिटिज़न को free treatment की सुविधा मिलेगी, और Ten Crore बहनों के सेल्फ हेल्प ग्रुप को हम आईटी, हेल्थ, टूरिजम, रिटेल और ऐसे अन्य सेक्टर्स की ट्रेनिंग देंगे। यानी, बीजेपी के development vision में केरला के हर वर्ग, हर समाज के लिए एक व्यापक रोडमैप मौजूद है। सबसे पहले तो इधर-उधर जिधर मेरी नजर जा रही है। छोटी-छोटी गुड़िया, सब ... कर रही है। मेरा इन सभी गुड़ियां को बहुत-बहुत आशीर्वाद। अब आपलोग बैठिए। आपलोग बहुत समय से हाथ हिला रहे हैं, बैठिए।

साथियों,
बीजेपी ने अपने मेनिफेस्टों में घोषणा की है कि हम अपनी विरासत से ग्लोबल टूरिस्ट को जोड़ेंगे और अपनी विरासत को वर्ल्ड हेरिटेज के स्तर पर ले जाएंगे, उस ऊंचाई तक पहुंचाएंगे। यहां केरला में तो इसकी बहुत ज्यादा संभावना है। बीजेपी का प्लान, बड़े टूरिस्ट डेस्टिनेशंस के ओवरऑल डवलपमेंट है। भाजपा केरला में इको-टूरिज्म के नए सेंटर्स भी बनाएगी। इससे होम स्टे के जो अवसर बनेंगे उसका बड़ा लाभ हमारे ट्राइबल परिवारों को मिलेगा। बीजेपी गवर्नमेंट होम स्टे के लिए महिलाओं को Financial Help भी देगी।

साथियों,
बीजेपी ने अपने मेनिफेस्टो में संकल्प लिया है कि हम कोस्ट लाइन प्रोटेक्शन के लिए काम करेंगे। ये केरला के मेरे फिशरमेन साथियों को बहुत फायदा पहुंचाएगा। इनकी आजीविका को जो LDF-UDF ने पिछले बरसों में बर्बाद किया है, उसे हम बचाने का भरपूर प्रयास करेंगे। हम फिशरीज के प्रोडक्शन और प्रोसिंसिंग के लिए नए क्लस्टर्स बनाएंगे। हम केरला के फिशरमैन परिवारों की Quality Of life सुधारेंगे, उनकी Dignity बढ़ाने के लिए काम करेंगे।

साथियों,
तेजी से आगे बढ़ता हुआ भारत, मॉर्डन इंफ्रास्ट्रक्चर पर लाखों करोड़ रुपए Invest कर रहा है। अगले कुछ वर्षों में आप भारतीय रेल का कायाकल्प होते हुए देखेंगे। वंदेभारत ट्रेनों के तीन स्वरूप- स्लीपर, चेयरकार और मेट्रो, तीनों ही भविष्य में भारत की शान बढ़ाएंगे। अब बीजेपी ने अपने मेनिफेस्टो में एक और बड़ी घोषणा की है। आप जानते हैं भारत के पश्चिम में अहमदाबाद-मुंबई के बीच बुलेट ट्रेन का काम चल रहा है। वो आने वाले कुछ समय में पूरा भी होगा। बुलेट ट्रेन दौड़ना भी शुरू होगी। लेकिन उसमें से जो हमने सीखा है, समझे हैं, उसके आधार पर भारत के उत्तर में, भारत के पूरब में और भारत के साउथ में भी बुलेट ट्रेन चलाई जाएगी। NDA सरकार के तीसरे कार्यकाल में बहुत जल्द बुलेट ट्रेन से जुड़ा सर्वे का काम शुरू कराया जाएगा।

साथियों,
केरला का विकास वही पार्टी कर सकती है, जिसकी अपनी विश्वसनीयता हो, जिसकी अपनी credibility हो। आप मुझे बताइये,क्या आप कांग्रेस और LDF पर विश्वास कर सकते हैं क्या? न इनके काम की कोई क्रेडेबिलिटी है, न इनके पॉलिटिकल कैरक्टर की कोई क्रेडेबिलिटी है। ये लोग केरला में आपस में सबसे बड़े दुश्मन की तरह लड़ते हैं। लेकिन, दिल्ली में यही कांग्रेस और लेफ्ट दोस्ती बढ़ाने के लिए मीटिंग्स करते हैं। यहां केरला में ये दोनों एक दूसरे के खिलाफ लड़ रहे हैं। लेकिन, यहां से कुछ ही दूर पर तिरुनेवेली में कांग्रेस और लेफ्ट एक ही अलायंस का हिस्सा हैं।

साथियों,
कांग्रेस और लेफ्ट की विश्वसनीयता इतनी है कि दशकों तक सरकार चलाने के बाद भी इनके पास गिनाने के लिए अपने काम नहीं हैं। ये जनता के बीच में जाते हैं तो झूठ बोलकर केंद्र सरकार की योजनाओं का क्रेडिट खाने का प्रयास करते हैं। यहां तो बारी-बारी से UDF-LDF की सरकार रही है, मैं इनका रिपोर्ट कार्ड आपको बताता हूं। आज केरला में, वरकला और नेडुमंगाड जैसी जगहों में ड्रग्स का खुला कारोबार फैल रहा है, ड्रग्स माफियाओं को संरक्षण मिल रहा है। केरला के युवाओं का भविष्य खत्म किया जा रहा है। इसका क्रेडिट किसका है? ये पाप के लिए जिम्मेवार कौन है। आज केरला के कई हिस्सों में पानी का संकट पैदा हो चुका है। लोगों को पानी नहीं मिल रहा है। इस पाप के लिए कौन जिम्मेवार है। इसका क्रेडिट किसका है? आज केरला की कॉयर industry बंद होने की कगार पर है। कॉयर industry के वर्कर्स के आगे जीवनयापन का संकट है। इस पाप के लिए कौन जिम्मेवार है। इसका क्रेडिट कौन लेगा?

साथियों,
आज देश में कांग्रेस और लेफ्ट में कोई अंतर नहीं बचा है। लेफ्ट और कांग्रेस, दोनों का बस नाम ही बचा है। दोनों को देश ने रिजेक्ट कर दिया है। कांग्रेस-लेफ्ट दोनों विकास विरोधी हैं। कांग्रेस-लेफ्ट दोनों ही भ्रष्टाचार में एक दूसरे का मुकबला करते हैं। कांग्रेस-लेफ्ट का ट्रैक रिकॉर्ड विकास के लिए जरूरी इंडस्ट्री को तबाह करने का है। दोनों की जहां सरकार रह जाती है, उस राज्य को बर्बाद कर देते हैं। केरला की जनता आज इसी पीड़ा से गुजर रही है। आज केरला की चर्चा राजनैतिक हिंसा और महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों के लिए हो रही है।

साथियों,
पहले कांग्रेस, और अब LDF की सरकारों ने केरला को अपनी लूट और भ्रष्टाचार के अड्डे के तौर पर इस्तेमाल किया। ये एक ऐसी सरकार है, जिस पर खुद गोल्ड स्मगलिंग में संलिप्त होने, स्मगलर्स को संरक्षण देने के आरोप लगते हैं। गोल्ड स्मगलिंग स्कैम में अपराधियों को बचाने के लिए पूरी सरकार लगी हुई है।

साथियों,
केरला में गरीबों, मजदूरों, महिलाओं, गल्फ से लौटे लोगों के पैसे की खुलेआम लूट हो रही है। केरला में 300 से ज्यादा कॉपरेटिव बैंक हैं और इनके पास केरला के लोगों का करीब-करीब One Lakh Crore Rupees जमा हैं। CPM के करप्शन की वजह से ये पैसा खतरे में पड़ा हुआ है। कितने ही कॉपरेटिव बैंकों में CPM के सदस्यों द्वारा गरीबों का पैसा लूट लिया गया है। इस करप्शन में CPM के नेताओं को जो रिश्वत मिली है, वो भी सैकड़ों करोड़ रुपए में है। जैसे अकेले त्रिशूर में ही Eighty से ज्यादा अघोषित खातों में 25 करोड़ रुपए की रिश्वत जमा है। अकेले त्रिशूर के CPM जिला सचिव के नाम पर 100 से ज्यादा प्रॉपर्टी खरीदी गई है। जब एक स्थान का ये हाल है, तो हम बाकी केरला का अंदाजा लगा सकते हैं। कोचीन मिनरल्स एंड रूटाइल लिमिटेड से जुड़े एक और घोटाले में तो आरोपियों ने सीधे मुख्यमंत्री और उनकी बेटी तक को रिश्वत दिए जाने की बात स्वीकार की है। इस केस की जांच ना हो, इसके लिए केरला सरकार पूरी ताकत लगा रही है।

केरला में इन स्कैम्स की वजह से हजारों परिवारों का जीवन दांव पर लग गया है। यहां CPM के मुख्यमंत्री लगातार झूठ बोल रहे हैं कि कॉपरेटिव स्कैम के पीड़ितों को उनका पैसा वापस मिलेगा, दोषियों पर कार्रवाई होगी। ये आपका सेवक मोदी है जो सख्ती से इस केस की जांच करवा रहा है। अब तक स्कैम करने वालों की करीब Ninety Crore Rupees की संपत्ति अटैच हो चुकी है। मैं इस बारे में कानूनी सलाह ले रहा हूं कि कैसे जिन गरीबों ने बैंकों में पैसा रखा था और जिन गरीबों का पैसा डूबा है, इनकी संपत्ति जब्त करके मैं इन गरीबों को पैसे वापस कैसे दूं इस पर मैं काम कर रहा हूं। बीजेपी सरकार पहले भी देश में Seventeen Thousand Crore Rupees ऐसे स्कैम पीड़ितों को वापस दिलवा चुकी है। इसलिए, मैं कॉरपेटिव स्कैम के पीड़ितों को भरोसा देता हूं कि उनका पैसा वापस दिलाने में मैं पूरी ताकत लगा दूंगा और पाई-पाई उनसे निकलवाउंगा। और आपको पैसा वापस मिले इसके लिए पूरी ताकत लगा दूंगा।

साथियों,
खुली लूट के कारण केरला आर्थिक तबाही की कगार पर पहुंच चुका है।सरकारी खजाने खाली हो चुके हैं। राज्य सरकार के पास अपने कर्मचारियों को, पेंशनर्स को सैलरी देने के लिए पैसे नहीं बचे हैं। केंद्र सरकार, केरला के विकास के लिए जो पैसा भेजती है, उससे राज्य सरकार अपना कर्जा चुकाने में खर्च करती है। और ये लोग केंद्र सरकार पर झूठे आरोप लगाते हुए सुप्रीम कोर्ट गए, तो वहां से भी इन्हें फटकार ही मिली। सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा कि केरला में फाइनेंसियल क्राइसिस के लिए यहां की राज्य सरकार जिम्मेदार है। कांग्रेस हो या लेफ्ट, ये लोग केरला में मजबूत रहे तो केरला को तबाह करके मानेंगे। कुछ भी नहीं बचने देंगे।

साथियों,
पिछले 10 साल में मैंने देश में ईमानदार सरकार चलाकर दिखाई है। हमारी सरकार ने करप्शन पर भी कड़ी कार्रवाई की है। इसीलिए, ये करप्ट लोग मोदी को रोकने के लिए अलायंस बना रहे हैं। लेकिन, मोदी इनसे डरने वाला नहीं है। 26 को कमल के बटन पर आपका एक-एक वोट करप्शन के खिलाफ चल रहे इस आंदोलन को मजबूत करेगा।

साथियों,
बीजेपी ने कोल्लम से श्री कृष्णकुमार जी को अपना उम्मीदवार बनाया है। उनके लोकसेवा के कार्यों और लोकप्रियता से आप सभी परिचित हैं। बीजेपी ने तिरुवनंतपुरम से मेरे मित्र श्री राजीव चंद्रशेखर और अट्टिंगल लोकसभा से श्री वी. मुरलीधरन को प्रत्याशी बनाया है। इन दोनों ही लोगों ने अपनी शिक्षा और योग्यता से देश में अलग पहचान बनाई है, केरला का सम्मान बढ़ाया है। मुरलीधरन जी ने विदेश राज्यमंत्री के तौर देश-विदेश में अपनी प्रतिभा को साबित किया है। वैश्विक संकट के कई मौकों पर इन्होंने केरला और देश के लोगों को वापस भारत लाने के लिए बहुत काम किया है। राजीव जी आईटी सेक्टर, सेमीकंडक्टर और ऐसे महत्वाकांक्षी क्षेत्रों को आगे बढ़ाने के काम में लगे हैं। इन तीनों दिया गया आपका हर वोट केरला के विकास की नींव रखेगा। आप पर एक जिम्मेदारी मेरी तरफ से है। आप केरला के घर घर जाकर के मोदी जी का प्रणाम जरूर पहुंचाइए। मेरे साथ बोलिए... भारत माता की। पूरी ताकत से बोलिए। आप नहीं बोलोगे तो चलेगा। (मंच पर बैठे लोगों से)
भारत माता की।

भारत माता की।

भारत माता की।

बहुत बहुत धन्यवाद।

Explore More
৭৭শুবা নিংতম্বা নুমিৎ থৌরমদা লাল কিলাদগী প্রধান মন্ত্রী শ্রী নরেন্দ্র মোদীনা ৱা ঙাংখিবগী মপুংফাবা ৱারোল

Popular Speeches

৭৭শুবা নিংতম্বা নুমিৎ থৌরমদা লাল কিলাদগী প্রধান মন্ত্রী শ্রী নরেন্দ্র মোদীনা ৱা ঙাংখিবগী মপুংফাবা ৱারোল
Unveiling India’s market magnetism: Why international brands flock to expand amidst rising opportunities

Media Coverage

Unveiling India’s market magnetism: Why international brands flock to expand amidst rising opportunities
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
সোসিয়েল মিদিয়াগী মফম 16 জুন, 2024
June 16, 2024

PM Modi becomes synonymous with Viksit Bharat at home and abroad