Northeast was only used as an ATM by Congress: PM Modi in Dimapur, Nagaland

Published By : Admin | February 24, 2023 | 11:03 IST
Our mantra for Nagaland has been - Peace, progress and prosperity, and this is the reason people's trust in BJP is rising: PM Modi in Dimapur
Northeast was only used as an ATM by Congress. They used to withdraw money from this region and took it to Delhi, filling the safes of their masters: PM Modi in Dimapur
Earlier northeast had politics of 'DIVIDE', we have now transformed it into a 'DevINE' governance scheme: PM Modi in Nagaland’s Dimapur

नमस्कार,
आपने खान किनी का असे?
दीमापुर में दूर-सुदूर से पहुंचे सभी साथियों को मेरा नमस्कार !

नागालैंड की सांस्कृतिक विविधता से मैं हमेशा प्रभावित रहा हूं। आपका ये प्यार देखकर बहुत अच्छा लग रहा है। मैं बीजेपी-NDPP के पक्ष में बहुत बड़ा जनसमर्थन देख रहा हूं। नागालैंड में विकास और विश्वास की लहर चल रही है।

भाइयों और बहनों,
नागालैंड में बीजेपी-NDPP सरकार के लिए इतना समर्थन आज इसलिए है, क्योंकि हम नॉर्थ ईस्ट के तेज विकास का संकल्प लेकर दिन-रात काम कर रहे हैं। नॉर्थ ईस्ट के लिए, नागालैंड के लिए, कांग्रेस और उसके पार्टनर्स की पॉलिसी रही है- वोट पाओ और भूल जाओ। कांग्रेस के दिल्ली के नेता नागालैंड की तरफ देखते तक नहीं हैं। कांग्रेस और इसके सहयोगियों की सरकारों ने अपनी politics में नागालैंड की stability और नागालैंड की prosperity को कभी भी महत्व नहीं दिया। तभी कांग्रेस के शासनकाल में नागालैंड में हमेशा political instability रही। कांग्रेस के लोगों ने नागालैंड की सरकार को दिल्ली से रिमोर्ट कंट्रोल से चलाया। इसका कारण ये है कि दिल्ली में पहले फैमिली फर्स्ट वाली सोच थी। दिल्ली से लेकर दीमापुर तक इन लोगों ने परिवारवाद को ही प्राथमिकता दे रखी थी। इसलिए नागालैंड सहित पूरा नॉर्थ ईस्ट आज कांग्रेस को उसके किए कामों को, पापों की सज़ा दे रहा है।

साथियों,
बीजेपी की, एनडीए की हमारी सरकार ने पूरे नॉर्थ ईस्ट के लिए दिल्ली की पॉलिटिकल सोच को ही बदल दिया है। कांग्रेस के समय में नॉर्थ ईस्ट को सिर्फ कांग्रेस के नेताओं को एक जेब भरने के लिए, हमेशा नॉर्थ ईस्ट को ATM ही माना, ATM की तरह Use किया। आप जानते हैं जब पैसों की जरूरत होती है, लोग ATM से पैसे निकालते हैं। ये दिल्ली में बैठे हुए कांग्रेस के नेता नॉर्थ ईस्ट के हक का जो पैसा था न वो ATM की तरह निकालकर दिल्ली ले जाते थे। सरकार का पैसा यहां जनता के पास नहीं, बल्कि करप्ट पार्टियों की तिजोरी में पहुंचता था।

साथियों,
आपको याद होगा, कांग्रेस के एक पूर्व प्रधानमंत्री कहते थे कि वो दिल्ली से 1 रुपया भेजते हैं और जनता तक 15 पैसा ही पहुंचता है। लेकिन नॉर्थ ईस्ट तक तो पहले ये 15 पैसा भी नहीं पहुंचता था। 10 साल पहले कोई सपने में नहीं सोच सकता था कि नॉर्थ ईस्ट में कभी हालात भी बदल सकते हैं। लेकिन बीजेपी ने टेक्नोलॉजी की ताकत से करप्शन पर बड़ा प्रहार किया है। आज दिल्ली से भेजा पूरा रुपया आपके बैंक अकाउंट में पहुंच रहा है। पीएम किसान सम्मान निधि का लगभग 400 करोड़ रुपया नागालैंड के हज़ारों किसानों के बैंक अकाउंट में सीधा आया है। बीच में कोई कट नहीं, कमीशन नहीं। बीच में कोई ATM नहीं। कोरोना काल में यहां की हज़ारों बहनों के बैंक अकाउंट में करोड़ों रुपए सीधे दिल्ली से यहां आपके खाते में जमा हुए हैं। एक पैसा भी कहीं लीक नहीं हुआ।

साथियों,
आपको याद होगा, राशन को लेकर पहले कितनी परेशानी होती थी। जिसके पास राशन कार्ड था उसे पैसा देकर भी पूरा राशन नहीं मिल पाता था। आज केंद्र सरकार नागालैंड के हज़ारों परिवारों को मुफ्त राशन दे रही है, पूरा राशन दे रही है।

भाइयों और बहनों,
ये इसलिए हो पा रहा है क्योंकि हम नागालैंड को, नॉर्थ ईस्ट के आठ राज्यों को कांग्रेस की तरह ATM नहीं, बल्कि हमारे लिए तो ये अष्टलक्ष्मी है, अष्टलक्ष्मी है। इस अष्टलक्ष्मी को भारत की ताकत मानते हैं। नॉर्थ ईस्ट का कल्चर, यहां का यंग टैलेंट और यहां के रिसोर्सेस नॉर्थ ईस्ट के ही काम आए, इसके लिए हमने काम शुरू किया है। इसलिए हमारा ये प्रयास है कि दिल की दूरियां भी मिटें और दिल्ली से दूरी भी कम हो। हमने दिल्ली को भी कनेक्ट किया है और बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर से गांवों और शहरों को भी आपस में कनेक्ट किया है। बीते 9 वर्षों में दर्जनों बार मैं खुद आपके बीच आया हूं। केंद्र सरकार के मंत्री यहां बार-बार आते हैं। यहां के प्रसिद्ध हॉर्निबिल फेस्टिवल की रौनक, मैं कभी नहीं भूल सकता। मुझे इस बात की खुशी है कि दिलों की दूरियां मिटाने में नागालैंड बीजेपी की टीम भी बहुत ही अच्छा काम कर रही है। यहां के हमारे बीजेपी प्रेसिडेंट, तेमजन इमना, की बातें आज पूरा देश सुनता है, मजा लेता है। डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर वे नागालैंड और नॉर्थ ईस्ट को शानदार तरीके से रिप्रेजेंट कर रहे हैं। मैं भी सोशल मीडिया में उनको हमेशा देखने की कोशिश करता हूं। आज़ाद भारत के इतिहास में नागालैंड को पहली राज्यसभा एमपी देने का अवसर भी एनडीए को ही मिला है। फान्गनॉन कोन्याक जी आज देश की संसद में नागालैंड की बहनों-बेटियों के टैलेंट और कैपेबिलिटी को रिप्रेज़ेंट कर रही हैं। इसके अलावा ये महिलाओं को सम्मान देने वाले नागा कल्चर का भी सम्मान है। ये रानी गाइदिन्ल्यू के प्रति भी हमारी सच्ची श्रद्धांजलि है। और ये मेरा सौभाग्य है कि मुझे गुजरात में रानी गाइदिन्ल्यू जी का स्वागत करने का सौभाग्य मिला था। जब मैं राजनीतिक जीवन में नहीं था, मैं सामाजिक जीवन में काम करता था।

साथियों,
आप सभी ने मेरा मन की बात कार्यक्रम जरूर सुना होगा। मैं मन की बात में भी नागालैंड की अक्सर चर्चा करता रहता हूं। नागा कल्चर, क्राफ्ट, नागा लाइफ स्टाइल और यहां के म्यूजिक को प्रमोट करने वाली "लिडि-क्रो-यू" संस्था के बारे में मैंने मन की बात में, विस्तार से बात की थी। नागालैंड की किंग चिली आज देश-विदेश में धूम मचा रही है। नागालैंड के किसानों के इस सामर्थ्य को भी मैंने देश के साथ शेयर किया है। नागालैंड में आज जो भी अच्छा काम हो रहा है, वो देश तक पहुंच रहा है और उसपर पूरा देश गर्व करता है।

साथियों,
अपने ही लोगों पर अविश्वास करके देश नहीं चलता। देश चलता है अपने लोगों का सम्मान करके, उनकी समस्याओं का समाधान करके। इसलिए पहले जहां नॉर्थ ईस्ट में DIVIDE की Politics चलती थी, हमने उसे DIVINE Governance model में बदला है। आज PM-DIVINE के रूप में विशेष योजना नॉर्थ ईस्ट के विकास के लिए हम चला रहे हैं। इस योजना के तहत ये सुनिश्चित किया जा रहा है कि नॉर्थ ईस्ट के विकास से जुड़े प्रोजेक्ट समय पर पूरे हों।

भाइयों और बहनों,
नागालैंड के लिए हमारा मंत्र रहा है- Peace, Progress and Prosperity. इसलिए नागालैंड का भरोसा बीजेपी पर, एनडीए पर लगातार बढ़ रहा है। बीते वर्षों में अनेक युवाओं ने हिंसा का रास्ता छोड़ा है। और मुझे खुशी है जैसे मैं नागालैंड आता हूं वैसे मैं एक बार सभी हमारे गांव-बूढ़े जो नेता हैं, उन सबको मेरे घर दिल्ली बुलाया था, उनका स्वागत सम्मान किया था। और उन्होंने मुझे इतने आशीर्वाद दिए थे, इतने आशीर्वाद दिए थे कि आज भी गांव-बूढे़ हर कोई मुझे उतना ही आशीर्वाद देता रहता है। पिछले 9 वर्षों में नागालैंड में हिंसा की घटनाओं में लगभग 75 प्रतिशत कमी आई है। 75 पर्सेंट रिड्यूस हुआ है। नागालैंड में अनेक क्षेत्रों से AFSPA को हटाया जा चुका है। पूरे नागालैंड में AFSPA की ज़रूरत ना पड़े, इसके लिए हम दिन-रात ईमानदारी से जुटे हैं। नागालैंड में permanent peace और Progress ही भाजपा की Politics का आधार है। नॉर्थ ईस्ट के राज्यों में बीजेपी और एनडीए सरकारें होने से बॉर्डर से जुड़े disputes भी तेज़ी से हल हो रहे हैं। इससे भी इस पूरे क्षेत्र में progress और prosperity के लिए नए अवसर बन रहे हैं। 2 मार्च को फिर सरकार बनने के बाद यहां Extortion करने वालों पर भी, और सख्त कार्रवाई की जाएगी।

भाइयों और बहनों,
बीजेपी और एनडीए सरकार नागालैंड के, नॉर्थ ईस्ट के विकास के लिए कमिटेड है। पिछले 9 वर्षों में नागालैंड सहित पूरे नॉर्थ ईस्ट में रोड हो, रेल हो, हवाई कनेक्टिविटी हो, इसमें बहुत बड़ा बदलाव आया है। कांग्रेस सरकार के दौरान फाइनेंस कमीशन के तहत नागालैंड के लिए ग्रांट 2 हजार करोड़ के आसपास थी। जबकि हमारी सरकार ने इसे 2 गुणा से ज्यादा बढ़ाया है। अब ये बजट 5 हज़ार करोड़ रुपए के करीब है। साल 2014 की तुलना में नागालैंड में नेशनल हाईवे नेटवर्क लगभग दोगुना हो चुका है। नागालैंड अब म्यांमार से भी कनेक्ट हो रहा है। नागालैंड में दीमापुर एयरपोर्ट से नॉर्थ ईस्ट के 8 रूट्स पर उड़ान योजना के तहत फ्लाइट्स शुरु की गई हैं। 100 साल बाद नागालैंड को अपना दूसरा रेलवे स्टेशन मिला है। राजधानी कोहिमा को रेलवे से जोड़ने के लिए भी तेज़ गति से काम चल रहा है। जब कोहिमा तक ट्रेन पहुंच जाएगी तो ease of living और ease of doing business, दोनों बेहतर होगा।

साथियों,
भाजपा सरकार नागालैंड के युवाओं को टूरिज्म से टेक्नोलॉजी तक और स्पोर्ट्स से लेकर स्टार्ट-अप्स तक, कदम-कदम पर साथ दे रही है। कोहिमा में software technology park अपने आप में एक बहुत बड़ा Initiative है। आज जब भारत दुनिया की एक बड़ी स्पोर्ट्स पावर बनने की तरफ बढ़ रहा है, तो इसमें हमारे नागालैंड के युवाओं की बहुत बड़ी भूमिका है। हम भारत की ओलंपिक फुटबॉल टीम के पहले कैप्टन, तालिमेरेन ओ को बहुत गर्व के साथ याद करते हैं। स्पोर्ट्स की इतनी rich legacy नागालैंड के पास है। नागालैंड का ये स्पोर्ट्स पोटेंशियल देश के काम आए, इसके लिए एनडीए सरकार काम कर रही है। इसी लक्ष्य के साथ नागालैंड में खेलो इंडिया स्टेट सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बनाया गया है। इससे Wrestling, आर्चरी और Boxing जैसे खेलों में नागालैंड के युवाओं को Best facilities मिल रही हैं।

साथियों,
एनडीए सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास के मंत्र पर चल रही है। इसलिए हम गरीबों के, आदिवासियों के, महिलाओं के विकास पर बहुत अधिक फोकस कर रहे हैं। ये समाज का वो हिस्सा है, जो विकास के लाभ से वंचित रहा है। इसलिए आज हमारी हर स्कीम में इस वर्ग को प्राथमिकता दी जा रही है। गरीब को घर हो, टॉयलेट हो, बिजली हो, गैस कनेक्शन हो, ये सब भी बीजेपी सरकार गरीब के पास जाकर खुद दे रही है। आप कल्पना कीजिए, गरीबों के 55 हज़ार से अधिक घर नागालैंड के लिए स्वीकृत किए गए हैं। पाइप से घर-घर पानी मिले, ये तो नागालैंड के एक बहुत बड़े हिस्से की बहनों का सपना होता था। पिछले साढ़े 3 वर्षों में ही नागालैंड के साढ़े 3 लाख से अधिक परिवारों तक पाइप से पानी की सुविधा पहुंची है। इसका सबसे अधिक लाभ हमारी ट्राइबल बहनों को हुआ है। आयुष्मान भारत योजना का लाभ भी बहुत बड़ी संख्या में हमारी बहनों को हुआ है, आदिवासी परिवारों को हुआ है। नागालैंड के हजारों साथियों ने इस स्कीम के तहत मुफ्त इलाज कराया है। भाजपा सरकार ना रीजन को लेकर भेदभाव करती है और ना ही रीलिजन को देखकर भेदभाव करती है। आप याद करिए, जब कोरोना महामारी फैली, जब वैक्सीन आई, तो हमने सबको वैक्सीन पर जोर दिया, सबको बिना भेदभाव वैक्सीन लगाई।

साथियों,
बीजेपी-एनडीए सरकार की हर योजना चाहे इंफ्रास्ट्रक्चर की हो या फिर वेलफेयर की, ये सबके लिए हैं, सबके हित में है। कोई भेदभाव नहीं। यही सबका विकास है। सबका विकास का एक और उदाहरण हमारी किसानों से जुड़ी योजनाएं हैं। हमारी सरकार छोटे किसानों, आदिवासी किसानों को मदद दे रही है। दीमापुर सहित इस पूरे क्षेत्र में जैसे-जैसे कनेक्टिविटी बढ़ रही है, वैसे-वैसे छोटे किसानों के लिए संभावनाएं भी बढ़ रही हैं। नैचुरल फार्मिंग और मिलेट्स-श्रीअन्न को प्रमोट करने के लिए बहुत बड़े कदम इस वर्ष के बजट में उठाए गए हैं। इससे नागालैंड के छोटे किसानों, ट्राइबल किसानों को बहुत लाभ होने वाला है। इससे नागालैंड की ऑर्गेनिक खेती को बल मिलने वाला है। बांस की खेती को लेकर भी जो पुराना कानून था, उसको भी बीजेपी सरकार ने बदला है। इसका लाभ आज नागालैंड के आदिवासी परिवारों को हो रहा है। इसी सेवा भावना की वजह से देश के ट्राइबल बेल्ट में बीजेपी को बहुत प्यार मिल रहा है। वही प्यार, वही उत्साह मैं नागालैंड में भी देख रहा हूं। मुझे पूरा विश्वास है कि वोटिंग के दिन हर बूथ में भी यही उत्साह दिखेगा। अभी त्रिपुरा में चुनाव हुआ, पिछले हफ्ते। 80-90 प्रतिशत तक वोटिंग हुआ, और कई दशकों के बाद, त्रिपुरा में भाजपा सरकार बनने के बाद, पूरे चुनाव में मतदान हो गया, कहीं पर भी हिंसा की कोई घटना नहीं घटी, किसी की हत्या नहीं हुई, बहुत दशकों के बाद पहली बार हुआ है क्योंकि वहां भाजपा की सरकार है। शांतिपूर्ण पूरे नार्थ ईस्ट में चुनाव जब भी मौका आता है आज वो वातावरण बना है।
बीजेपी-NDPP के हर उम्मीदवार को आप भारी मतों से जिताएं। और मुझे भी नागालैंड की सेवा करने की अधिक ताकत दें। इसीलिए आज मैं आपके पास आया हूं, ताकि मैं गांव-बूढ़ों को जो वादा किया है मैं हर दिन वो वादे पूरा करना चाहता हूं। नागालैंड की जनता को जो मैंने वादे किए हैं वो हर वादे मैं पूरा करना चाहता हूं। नागालैंड के युवाओं को, नागालैंड की महिलाओं को, नागालैंड के किसानों को मैंने जो वादे किए हैं उन वादों को मुझे धरती पर उतारना है। और हमारे इन साथियों की मदद से वो उतारना संभव होने वाला है। इसीलिए मुझे आपका वोट चाहिए, इसीलिए मुझे आपकी मदद चाहिए। आप इतनी बड़ी तादाद में आकर के आशीर्वाद दिए, मैं आपका बहुत-बहुत आभारी हूं।
बहुत-बहुत धन्यवाद !

Explore More
৭৭শুবা নিংতম্বা নুমিৎ থৌরমদা লাল কিলাদগী প্রধান মন্ত্রী শ্রী নরেন্দ্র মোদীনা ৱা ঙাংখিবগী মপুংফাবা ৱারোল

Popular Speeches

৭৭শুবা নিংতম্বা নুমিৎ থৌরমদা লাল কিলাদগী প্রধান মন্ত্রী শ্রী নরেন্দ্র মোদীনা ৱা ঙাংখিবগী মপুংফাবা ৱারোল
Railways cuts ticket prices for passenger trains by 50%

Media Coverage

Railways cuts ticket prices for passenger trains by 50%
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Together, let’s build a Viksit and Aatmanirbhar Bharat, PM comments on Sachin Tendulkar’s Kashmir visit
February 28, 2024

The Prime Minister, Shri Narendra expressed happiness as Sachin Tendulkar shared details of his Kashmir visit.

The Prime Minister posted on X :

"This is wonderful to see! @sachin_rt’s lovely Jammu and Kashmir visit has two important takeaways for our youth:

One - to discover different parts of #IncredibleIndia.

Two- the importance of ‘Make in India.’

Together, let’s build a Viksit and Aatmanirbhar Bharat!"