साझा करें
 
Comments

मैं मीनाक्षी- सुंदरेश्‍वर मंदिर के लिए विख्‍यात और एक ऐसा स्‍थान, जिसका नाम भगवान शिव के शुभ आशीर्वाद से जुड़ा है- मदुरै में आकर प्रसन्‍न हूं। देश ने कल गणतंत्र दिवस मनाया। एक प्रकार से आज मदुरै में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान का शिलान्‍यास ‘एक भारत श्रेष्‍ठ भारत’ के हमारे विजन को परिलक्षित करता है।

मित्रों,

हम सभी जानते हैं कि दिल्‍ली में एम्‍स ने स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल में अपने लिए एक ब्रांड नाम स्‍थापित कर लिया है। मदुरै में एम्‍स के साथ हम यह कह सकते हैं कि स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल के इस ब्रांड को अब देश के सभी कोनों में – कन्‍याकुमारी से कश्‍मीर से मदुरै और गुवाहाटी से गुजरात तक विस्‍तारित कर दिया गया है। मदुरै में एम्‍स का निर्माण 1600 करोड़ रुपए से अधिक की लागत के साथ किया जाएगा। इससे तमिलनाडु के सभी लोगों को लाभ पहुंचेगा।

मित्रों,

एनडीए सरकार स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र को काफी प्राथमिकता दे रही है जिससे कि हर व्‍यक्ति स्‍वस्‍थ रहे और स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल किफायती हो। प्रधानमंत्री स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा योजना के तहत हमने भारतभर में सरकारी चिकित्‍सा महाविद्यालयों के उन्‍नयन का समर्थन किया है। आज मैं मदुरै के सुपर स्‍पेशिएलिटी ब्‍लॉक्‍स, तंजावुर एवं तिरुनेलवेल्‍ली चिकित्‍सा महाविद्यालयों का उद्घाटन कर प्रसन्‍न हूं।

जिस गति एवं परिमाण से मिशन इंद्रधनुष कार्य कर रहा है, वह बचाव संबंधी स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल में एक नया उदाहरण प्रस्तुत कर रहा है। प्रधानमंत्री मातृत्‍व वंदना योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व अभियान सुरक्षित गर्भावस्‍था को एक जन आंदोलन बना रहे हैं। पिछले साढे चार वर्षों में पूर्व स्‍नातक मेडिकल सीटों की संख्‍या में लगभग 30 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। आयुष्‍मान भारत की शुरुआत भी एक बडा कदम है।

हमारे देश के लिए सार्वभौ‍मिक स्‍वास्‍थ्‍य कवरेज की उपलब्धि सुनिश्चित करना हमारा एक सुविचारित दृष्टिकोण है। आयुष्‍मान भारत स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं के समग्र समाधान में पथ प्रदर्शक कदम उठाता है। व्‍यापक प्राथमिक देखभाल एवं बचाव संबंधी स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं उपलब्‍ध कराने के लिए वन प्‍वाइंट पांच लाख स्‍वास्‍थ्‍य एवं कल्‍याण केंद्रों की स्‍थापना की जा रही है।

प्रधानमंत्री जन आरोग्‍य योजना अस्‍पताल में भर्ती होने की ि‍स्‍थति में 10 करोड़ से अधिक जरूरतमंद परिवारों को प्रतिवर्ष प्रत्‍येक परिवार पांच लाख रुपए तक की वित्‍तीय सुरक्षा उपलब्‍ध कराती है। यह विश्‍व में सबसे बड़ी स्‍वास्‍थ्‍य बीमा योजना है।मुझे यह जानकर प्रसन्‍नता हुई है कि तमिलनाडु के 1 करोड़ 57 लाख व्‍यक्ति इस योजना के तहत शामिल हैं।

तीन महीनों की अवधि के भीतर ही लगभग 89 हजार लाभार्थियों को भर्ती किया गया और तमिलनाडु में भर्ती मरीजों के लिए 200 करोड़ रुपए से अधिक की राशि अधिकृत की गई है। मुझे यह जानकर भी प्रसन्‍नता हुई है कि तमिलनाडु में पहले ही 1320 स्‍वास्‍थ्‍य एवं कल्‍याण्‍ केंद्र आरंभ कर दिए हैं।

रोग नियंत्रण मोर्चे पर हम राज्‍यों को तकनीकी एवं विततीय सहायता प्रदान कर रहे हैं। हमारी सरकार 2025 तक तपेदिक उन्‍मूलन के लिए प्रतिबद्ध है। मुझे यह जानकर प्रसन्‍नता हुई है कि राज्‍य सरकार तपेदिक मुक्‍त चेन्‍नई पहल को बढ़ावा दे रही है और 2023 तक ही राज्‍य से तपेदिक उन्‍मूलन की कोशिश कर रही है।

मैं राज्‍य के संशोधित राष्‍ट्रीय तपेदिक नियंत्रण कार्यक्रम के सभी पहलुओं के कार्यान्‍वयन की दिशा में उसकी प्रतिबद्धता के लिए सराहना करता हूं। मैं आश्‍वस्‍त करता हूं कि भारत सरकार इन रोगों से निपटने में राज्‍य के प्रयासों को सभी आवश्‍यक सहायता देने के लिए प्रतिबद्ध है।आज मैं तमिलनाडु में 12 डाकघर पासपोर्ट सेवा केंद्रों को समर्पित करके भी प्रसन्‍न हूं। यह पहल हमारे नागरिकों के ‘जीवन की सुगमता’ को बेहतर बनाने का एक और उदाहरण है।

मैं एक बार फिर से आश्‍वस्‍त करना चाहता हूं कि हमारी सरकार सर्वभौमिक स्‍वास्‍थ्‍य कवरेज सुनिश्चित करने के लिए स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल में उठाए गए कदमों को सुदृढ़ बनाने के लिए प्रतिबद्ध है।

20 Pictures Defining 20 Years of Seva Aur Samarpan
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
Reading the letter from PM Modi para-swimmer and author of “Swimming Against the Tide” Madhavi Latha Prathigudupu, gets emotional

Media Coverage

Reading the letter from PM Modi para-swimmer and author of “Swimming Against the Tide” Madhavi Latha Prathigudupu, gets emotional
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
प्रधानमंत्री ने हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुए अग्निकांड के कारण हुई त्रासदी पर गहरा दु:ख व्यक्त किया
October 27, 2021
साझा करें
 
Comments

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में अग्निकांड की त्रासदी के कारण प्रभावित हुए परिवारों के प्रति गहरा दु:ख व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा है कि राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव के काम में पूरी तत्परता से जुटे हुए हैं।

प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा;

"हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुआ अग्निकांड अत्यंत दुखद है। ऐतिहासिक मलाणा गांव में हुई इस त्रासदी के सभी पीड़ित परिवारों के प्रति मैं अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव के काम में पूरी तत्परता से जुटे हैं।"