प्रधानमंत्री ने 7 सितंबर 2023 को जकार्ता में 20वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन और 18वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन (ईएएस) में भाग लिया।

आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री ने आसियान-भारत व्यापक रणनीतिक साझेदारी को और सुदृढ़ बनाने और इसके भविष्य की रूपरेखा तैयार करने पर आसियान भागीदारों के साथ व्यापक चर्चा की। प्रधानमंत्री ने हिंद-प्रशांत क्षेत्र में आसियान की केंद्रीयता की पुष्टि की और भारत के हिंद-प्रशांत महासागर पहल (आईपीओआई) और हिंद-प्रशांत पर आसियान दृष्टिकोण (एओआईपी) के बीच तालमेल को रेखांकित किया। उन्होंने आसियान-भारत एफटीए (एआईटीआईजीए) की समीक्षा को समयबद्ध तरीके से पूरा करने की आवश्यकता पर भी जोर दिया।

प्रधानमंत्री ने भारत-आसियान सहयोग को मजबूत बनाने हेतु कनेक्टिविटी, डिजिटल परिवर्तन, व्यापार और आर्थिक सहभागिता, समकालीन चुनौतियों का समाधान, जनता के बीच आपसी संपर्क और रणनीतिक सहभागिता को प्रगाढ़ बनाने जैसे मुद्दों को शामिल करते हुए एक 12-सूत्री प्रस्ताव प्रस्तुत किया, जो इस प्रकार है:

दक्षिण-पूर्व एशिया-भारत-पश्चिम एशिया-यूरोप को जोड़ने वाले मल्टी-मॉडल कनेक्टिविटी और आर्थिक गलियारे की स्थापना
आसियान साझेदारों के साथ भारत के डिजिटल पब्लिक इंफ्रास्ट्रक्चर स्टैक को साझा करने की पेशकश
डिजिटल परिवर्तन और वित्तीय कनेक्टिविटी में सहयोग पर ध्यान केंद्रित करते हुए डिजिटल भविष्य के लिए आसियान-भारत कोष की घोषणा
हमारी सहभागिता बढ़ाने के लिए ज्ञान साझेदार के रूप में कार्य करने हेतु आसियान और पूर्वी एशिया के आर्थिक और अनुसंधान संस्थान (ईआरआईए) को समर्थन की पुन:स्‍थापना की घोषणा
विकासशील देश (ग्लोबल साउथ) के समक्ष आने वाले मुद्दों को बहुपक्षीय मंचों पर सामूहिक रूप से उठाने का आह्वान

आसियान देशों को भारत में डब्‍ल्‍यूएचओ द्वारा स्थापित किए जा रहे ग्लोबल सेंटर फॉर ट्रेडिशनल मेडिसिन में शामिल होने का आमंत्रण
मिशन लाइफ पर एक साथ काम करने का आह्वान
जन-औषधि केंद्रों के माध्यम से लोगों को किफायती और गुणवत्तापूर्ण दवाएं प्रदान करने संबंधी भारत के अनुभव को साझा करने की पेशकश
आतंकवाद, आतंक के वित्तपोषण और साइबर-दुष्प्रचार के खिलाफ सामूहिक लड़ाई का आह्वान
आसियान देशों को आपदा प्रतिरोधी अवसंरचना के लिए गठबंधन में शामिल होने के लिए आमंत्रण
आपदा प्रबंधन में सहयोग का आह्वान
समुद्री सुरक्षा, संरक्षा और डोमेन कार्य क्षेत्र जागरूकता पर सहयोग बढ़ाने का आह्वान
दो संयुक्त वक्तव्यों - एक समुद्री सहयोग पर और दूसरा खाद्य सुरक्षा पर – को अंगीकार किया गया।

शिखर सम्मेलन में भारत और आसियान नेताओं के अलावा, तिमोर-लेस्ते ने पर्यवेक्षक के रूप में भाग लिया।

18वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में, प्रधानमंत्री ने ईएएस तंत्र के महत्व को दोहराया और इसे और मजबूती प्रदान करने में सहायता देने की फिर से पुष्टि की। प्रधानमंत्री ने आसियान की केंद्रीयता के लिए भारत के समर्थन को रेखांकित किया तथा स्वतंत्र, खुले और नियम आधारित हिंद-प्रशांत सुनिश्चित करने का आह्वान किया।

प्रधानमंत्री ने भारत और आसियान के बीच हिंद-प्रशांत के लिए दृष्टिकोणों के तालमेल पर प्रकाश डाला और इस बात को रेखांकित किया कि आसियान क्वाड के दृष्टिकोण का केंद्र बिंदु है।

प्रधानमंत्री ने आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन तथा भोजन और दवाओं सहित आवश्यक वस्तुओं के लिए लचीली आपूर्ति श्रृंखला और ऊर्जा सुरक्षा सहित वैश्विक चुनौतियों से निपटने के लिए सहयोगपूर्ण दृष्टिकोण अपनाने का भी आह्वान किया। उन्होंने जलवायु परिवर्तन के क्षेत्र में भारत की ओर से उठाए गए कदमों और आईएसए, सीडीआरआई, लाइफ और ओएसओडब्‍ल्‍यूओजी जैसी हमारी पहलों पर प्रकाश डाला।

नेताओं ने क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर भी वैचारिक आदान-प्रदान किया।

पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

Explore More
अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी
BJP manifesto 2024: Super app, bullet train and other key promises that formed party's vision for Indian Railways

Media Coverage

BJP manifesto 2024: Super app, bullet train and other key promises that formed party's vision for Indian Railways
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Text of PM Modi's speech at public meeting in Alathur, Kerala
April 15, 2024
बीजेपी का संकल्प-पत्र देश के विकास का संकल्प-पत्र है: आलत्तूर में पीएम मोदी
यूपी में अपनी खानदानी सीट को बचाने के लिए जूझ रहे एक बड़े कांग्रेसी नेता ने केरल में शरण ली है: पीएम मोदी का विपक्ष पर कटाक्ष
पिछले दशक में, केरल की जनता ने देश की प्रगति को खुद अपनी आंखों से देखा है: पीएम मोदी
इस नववर्ष का शुभारंभ विकास, राजनीति में बदलाव और संसद में एक साहसिक आवाज के उदय का प्रतीक है: आलत्तूर में पीएम मोदी

वड़क्कुम नाथन्टे मन्नील, ओरिक्कल कूड़ी, वरान साधिचतिल, एनिक्य,
अतियाया संतोषम उण्ड
वड़कुम नाथन, त्रिपायर रामास्वामी मंदिर और गुरुवायूर मंदिर की इस पावन भूमि को मैं प्रणाम करता हूं। कुछ ही समय पहले मुझे त्रिपायर रामास्वामी मंदिर और गुरुवायूर मंदिर में दर्शन के लिए आने का सौभाग्य मिला था। और आज मैं एक ऐसे अवसर पर आलत्तूर आया हूं, जब चैत्र नवरात्रि का पावन पर्व चल रहा है। इस समय केरला में नए वर्ष का, विशू का उत्सव मनाया जा रहा है। कुछ सप्ताह पहले ही आप सभी ने यहां धूमधाम से मणापुल्लिकावू वेला भी मनाया था। लोकतंत्र के इस महापर्व के बीच त्रिशूर पूरम पर्व भी मनाया जाएगा। कुछ ही दिनों में रामनवमी का पर्व भी आने वाला है। यहां पड़ोस के त्रिशूर में स्थित त्रिपायर मंदिर को तो दक्षिण की अयोध्या कहा जाता है। इतने सारे संयोग बता रहे हैं, कि ये समय कुछ खास है। ये Positive वातावरण, विकसित भारत के संकल्प को नई ऊर्जा दे रहा है।

साथियों,
आप सबका ये जनसमर्थन और प्रेम देखकर मैं विश्वास से कह सकता हूं, केरला का ये नया वर्ष एक नया आरंभ लेकर आया है। ये नववर्ष केरला के विकास का वर्ष होगा। ये नववर्ष नई राजनीति के आरंभ का वर्ष होगा। अब केरला पार्लियामेंट में अपनी मजबूत आवाज भेजेगा। इसीलिए, आज केरला भी कह रहा है- फिर एक बार, मोदी सरकार! फिर एक बार, मोदी सरकार! फिर एक बार, मोदी सरकार! फिर एक बार, मोदी सरकार!

साथियों,
कल नववर्ष, विशू के पावन अवसर पर ही बीजेपी ने अपना संकल्प-पत्र जारी किया है। बीजेपी का संकल्प-पत्र, देश के विकास का संकल्प पत्र है। बीजेपी के संकल्प-पत्र में मोदियुडे गारंटी होती है। आयुष्मान भारत के तहत केरला के 73 लाख से ज्यादा लाभार्थियों को आर्थिक मदद मिली है। अब बीजेपी ने घोषणा की है कि 70 साल से अधिक आयु के सभी सीनियर सिटिज़न्स को आयुष्मान योजना के तहत फ्री चिकित्सा मिलेगी। और यही है- मोदियुडे गारण्टी। मोदियुडे गारण्टी यानि- पीएम आवास योजना में गरीबों के लिए 3 करोड़ नए घर, नए आवास बनेंगे। यहां केरला में भी हजारों गरीबों को नए घर मिलेंगे।मोदियुडे गारण्टी यानि- केरला के हर जन-औषधि केंद्र पर लोगों को 80 परसेंट डिसकाउंट पर सस्ती दवाएं मिलती रहेंगी। मोदियुडे गारण्टी यानि- हमारे युवाओं को मुद्रा योजना में अब 10 लाख की जगह 20 लाख रुपये का सपोर्ट मिलेगा।

साथियों,
बीजेपी ने अगले 5 साल के लिए विकास और विरासत, दोनों का विज़न सामने रखा है। ये क्षेत्र केरला का इतना बड़ा सांस्कृतिक केंद्र है। पाल्लकाड़ को तो गेटवे टू केरला कहा जाता है। यहां की प्राकृतिक सुंदरता, किसी का भी मन मोह लेती है। यहां केरला में कितने ही भव्य मंदिर हैं, चर्च हैं, आस्था के स्थल हैं। अगले पांच साल में हम केरला की इस हेरिटेज को ग्लोबल बनाने के लिए काम करेंगे। हम केरला को हाइवेज, एक्स्प्रेसवेज और हाइस्पीड वंदेभारत ट्रेनों के नेटवर्क से जोड़ेंगे। और हमारे सुरेश जी का जब एमपी थे तब भी वंदे भारत नेटवर्क के लिए बहुत ही आग्रह रहता, पूरी डिजाइन बनाकर लाते ते और आज मैं आपको वादा करता हूं, इन सारे कामों की दिशा में आगे बढ़ेंगे। यहां पर्यटन के अवसरों को, बहुत संभावना है केरल में, जितना लाभ लेना चाहिए अभी तक लिया नहीं है। और इसीलिए हम टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए हर प्रकार के प्रयास करेंगे।

साथियों,
विकसित होते भारत की पहचान आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर से भी होगी। आज देश में नए एक्सप्रेसवे बन रहे हैं, नए एयरपोर्ट बन रहे हैं। अब बीजेपी ने कल अपने मेनिफेस्टो में घोषणा की है कि जैसे पश्चिम भारत में अहमदाबाद मुंबई के बीच बुलेट ट्रेन का काम चल रहा है। आने वाले कुछ समय में ये काम पूरा होकर के बुलेट ट्रेन दौड़ना शुरू करेगी। देश की पहली बुलेट ट्रेन दौड़ेगी। इसका अनुभव देखते हुए कल हमने संकल्प पत्र में कहा है कि जैसे पश्चिम भारत में बुलेट का काम आगे चल रहा है, आगे चल करके नार्थ, साउथ, ईस्ट तीन क्षेत्रों में बुलेट ट्रेन के सर्वे का काम शुरू कर दिया जाएगा। और साउथ में भी बुलेट ट्रेन चले,साउथ में चलने वाले ये बुलेट ट्रेन, यहां के विकास को गति देगी और रोजगार के हजारों नए अवसर बनाएगी। एनडीए सरकार के तीसरे कार्यकाल में इसके लिए बहुत जल्द सर्वे का काम शुरू किया जाएगा।

साथियों,
ये चुनाव देश के भविष्य के लिए फैसले लेने का चुनाव है। ये चुनाव आपके उज्ज्वल भविष्य की गारंटी के लिए चुनाव है। ये चुनाव आपके बच्चों के उज्ज्वल जीवन के लिए गारंटी देने का चुनाव है। केरल के लोगों ने पिछले 10 साल में देखा है कि कैसे एनडीए सरकार ने दुनिया भर में भारत की साख बढ़ाई है। कांग्रेस सरकार ने भारत की छवि कमजोर देश की बना दी थी। बीजेपी सरकार ने भारत को एक मजबूत देश बनाया है। आज जब कोई भारतीय विदेश जाता है, गल्फ जाता है, तो उसे सम्मान से देखा जाता है। आज का भारत युद्ध में फंसे अपने नागरिकों को rescue करने की ताकत रखता है। आज का भारत कोरोना जैसी महामारी में दूसरे देशों की ओर नहीं देखता। आज का भारत कोरोना जैसी महामारी में दूसरे देशों की ओर नहीं देखता। हम स्वदेशी वैक्सीन बनाते हैं, अपने देश के साथ-साथ विश्व के दूसरे देशों की भी सहायता करते हैं। मैं ये बताना चाहता हूं, पिछले 10 साल में जो हुआ है, आपको लगता है बहुत कुछ हुआ है, पूरे देश में बदल रहा है, लेकिन मोदी क्या कहता है, मोदी तो कहता है 10 साल में इतना सारा भले हुआ, लेकिन जो हुआ है न, वो तो ट्रेलर है ट्रेलर। अभी तो बहुत कुछ करना है, अभी तो हमें हमारे देश को, हमारे केरला को बहुत आगे लेकर जाना है।

साथियों,
NDA सरकार नारायण गुरु के उन विचारों पर काम करती है। हमारी प्राथमिकता है, गरीब कल्याण और लोक कल्याण! इसीलिए, पिछले 10 साल NDA सरकार में ‘जलजीवन मिशन के तहत केरला में 36 लाख से ज्यादा नल से जल कनेक्शन मिले हैं। लेकिन मुझे दुख के साथ कहना है कि पूरे देश में जिस गति से जलजीवन मिशन चला है, केरला में यहां की सरकार उतना चलने नहीं दे रही है। वो भ्रष्टाचार की तलाश में होते हैं, और इसीलिए आज भी केरल में घरों में पीने के पानी का संकट है। अगर हिंदुस्तान में कोई सुनेगा, राजस्थान में पानी का संकट है या गुजरात में पानी का संकट है, तो लोगों को लगता है हां, यार मुसीबत है, केरल में पानी का संकट ये यहां की सरकार की विफलता का जीत-जागता सबूत है। और मैं गारंटी देता हूं, मैं हर घर नल से जल पहुंचाना चाहता हूं, आप मुझे आशीर्वाद दीजिए। पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना से करीब एक करोड़ पचास लाख लाभार्थियों तो मुफ्त राशन मिल रहा है। बीजेपी ने संकल्प-पत्र में ये गारंटी दी है कि ये योजना अगले 5 साल और बढ़ाई जाएगी। NDA सरकार केरला में फिशरीज क्लस्टर्स बनाकर यहां के मछुआरों का जीवन बदलने के लिए काम करेगी।

साथियों,
आज बीजेपी के शासन में देश तेजी से आगे बढ़ रहा है। लेकिन, LDF-UDF केरला को पीछे धकेल रहे हैं। NDA सरकार केरला और इस क्षेत्र के विकास के लिए जो प्रयास कर रही है, राज्य सरकार उसमें भी बाधा डाल रही है। ये लोग नेशनल हाइवेज के प्रोजेक्ट्स भी रोकना चाहते हैं। क्योंकि, लेफ्ट सरकारों का एक ही कैरक्टर है। चाहे वो त्रिपुरा में हो, बंगाल में थे तब भी ऐसा ही करते थे और केरल में भी जब मौका मिलता है, ऐसा ही करते हैं। लेफ्ट सरकारों का कैरक्टर क्या है- Nothing Left and Nothing Right. यानी, जहां लेफ्ट का शासन हो जाता है, वहां कुछ भी बाकी नहीं रहता और कुछ भी सही नहीं होता। इन्होंने बंगाल को बदहाल बनाया। ये लोग त्रिपुरा में त्रासदी लाए थे। वही काम ये केरला में भी कर रहे हैं।

साथियों,
आज केरला जैसे शांतिप्रिय राज्य में हिंसा-अराजकता आम हो गई है। आज केरला में खुलेआम राजनैतिक हत्याएं कराई जाती हैं। कॉलेज के कैंपस तक असामाजिक तत्वों के अड्डे बन गए हैं। सांप्रदायिक सौहार्द को बिगाड़ने वाले एलिमेंट्स को सरकारी संरक्षण मिलता है। हमारे बच्चे तक सुरक्षित नहीं हैं।

साथियों,
केरला में जनता के पैसे की खुलेआम लूट हो रही है। ये लोग भ्रष्टाचार के नए-नए मॉडल लेकर आते हैं, जनता का every single रुपया लूटना चाहते हैं। करूवन्नूर Co-Operative Bank Scam लेफ्ट की लूट का एक ऐसा उदाहरण है, हर कोई जिससे परेशान है। जिस बैंक में गरीबों ने, मध्यम वर्ग ने अपनी मेहनत के सैकड़ों करोड़ रुपए जमा किए थे, उस बैंक को CPM के लोगों ने पूरी तरह लूटकर कंगाल कर दिया। ये जो गरीबों ने, मध्यम वर्ग बैंक में पैसे रखे थे, क्योंकि घर में बेटी की उम्र बढ़ रही थी, उन्होंने सोचा कि बेटी की शादी करवानी है, बैंक में पैसे जमा कराएं, कुछ ब्याज मिलेगा, पैसे मिलेंगे, और जब शादी का समय आएगा, तो बेटी के काम आएगा। लेकिन इन सीपीएम वालों ने गरीब की बेटी की शादी को भी अनेक संकटों में डाल दिया। मध्यम वर्ग के बच्चों की शादी भी इन्होंने संकट में डाल दिया। गरीबों के खिलाफ ऐसी मिलीभगत का उदाहरण आपको बहुत कम मिलेगा। इस स्कैम की वजह से हजारों परिवारों का जीवन दांव पर लग गया है। अभी मुझे हमारी उम्मीदवार बहन डॉ. सरसू बता रही थी, कुछ दिन पहले टेलीफोन पर उन्होंने समस्या का जिक्र किया था। अब वो कह रही हैं, उनको इतने टेलीफोन आते हैं, और लोग टेलीफोन पर रोते हैं कि कितनी मेहनत के पैसे उनके चले गए। कौन ये पैसे वापस लाएगा। हर कोई शिकायत कर रहा है।

साथियों,
यहां CPM के मुख्यमंत्री तीन साल से झूठ बोल रहे हैं कि इस कॉपरेटिव स्कैम के पीड़ितों को उनका पैसा वापस मिलेगा। ये ये भी झूठ बोलते हैं कि दोषियों पर कार्रवाई होगी। ये आपका सेवक मोदी है जिसने इस केस की जांच करवाई। अब तक स्कैम करने वालों की करीब 90 करोड़ रुपये की संपत्ति अटैच हो चुकी है। मैं इस बारे में कानूनी सलाह ले रहा हूं कि कैसे जिनके पैसे डूब गए हैं, उन गरीबों को उनका पैसा वापस दिलाया जाए। ये 90 करोड़ रुपया उनको कैसे बांट दूं। बीजेपी सरकार पहले भी देश में 17 हजार करोड़ रुपये ऐसे स्कैम पीड़ितों को वापस दिलवा चुकी है। इसलिए, मैं इस कॉरपेटिव स्कैम के पीड़ितों को भरोसा देता हूं कि उनका पैसा वापस दिलाने में भाजपा और मेरी सरकार कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जाएगी।

साथियों,
कांग्रेस के एक बड़े नेता, जिनको यूपी में अपनी खानदानी सीट पर इज्जत बचाना मुश्किल हो गया है, उन्होंने केरला में अपना नया ठिकाना बना लिया है। चुनाव जीतने के लिए, यहां कांग्रेस ने उस संगठन के पोलिटिकल विंग से बैकडोर समझौता किया है, जिसको देश में देश विरोधी प्रवृत्ति के लिए बैन किया गया है। लेकिन, क्या आपने कभी सुना है, कांग्रेस के इन नेताओं के मुंह से, कभी भी Co-Operative Bank Scam के लिए, कैसे पैसे लूटे हैं। कांग्रेस के ये युवराज केरला के लोगों से वोट तो मांगेगे लेकिन, आपके हक, आपके मुद्दों पर एक शब्द भी नहीं बोलेंगे। केरला के लोगों को LDF-UDF, दोनों से सावधान रहना है। केरला में भले ही कांग्रेस पार्टी लेफ्ट के लोगों को आतंकवादी कहती है, लेकिन, दिल्ली में ये लोग एक साथ बैठकर चुनावी गठजोड़ करते हैं, एक ही थाली में खाते हैं। यहां केरला से बाहर निकलते ही, पड़ोस में तमिलनाडु में ही दोनों पार्टियां एक साथ मिलकर चुनाव लड़ रहे हैं। यहां भाषण देते हैं कि आतंकवादी है, और वहां मिल करके चुनाव लड़ते हैं। और, जो लेफ्ट वाले लोग कांग्रेस पर परिवारवाद के आरोप लगाते थे, अब वो खुद उनसे परिवारवाद के फायदे क्या हैं, इसके टिप्स ले रहे हैं। ये लोग इंडी अलायंस बनाकर साथ आए हैं, क्योंकि ये जानते हैं कि मोदी इनके लूट के सब ठिकानों को ठप्प कर रहा है। इसीलिए, चाहे लेफ्ट हो या कांग्रेस, सबके निशाने पर मोदी ही है। लेकिन, मैं आपको गारंटी देता हूं, बीजेपी और NDA को दिया गया आपका एक-एक वोट गरीब के एक एक पैसे का हिसाब करेगा।

साथियों,
26 अप्रैल, ये केरला के लिए विकास के संकल्प का दिन होगा। केरल के उज्ज्व भविष्य के लिए वोट करने का दिन होगा। मेरी अपील है कि वोटिंग के दिन आप, आलत्तूर से श्रीमती डॉ. टी.एन.सरसू, त्रिशूर से श्री सुरेश गोपी, पोन्नानी से श्रीमती निवेदिता सुब्रह्मणयम, मलप्पुरम से श्री वी.सी.अब्दुल सलाम और, चालाकुडी से एनडीए उम्मीदवार श्री के.ए.उन्नीकृष्णन इन सबको रिकॉर्ड वोटों से जीत दिलाकर मुझे दिल्ली में मदद करने के लिए भेजिए। आप मेरा ये अनुरोध हर घर तक पहुंचाएं, और हर घर ये भी बताएं कि मोदी जी ने हर परिवार को, हर बुजुर्ग को, हर माता को सबको प्रणाम कहा है। मेरे साथ बोलिए, भारत माता की। दोनों मुट्ठी बंद करके पूरी ताकत से बोलिए... भारत माता की... भारत माता की… भारत माता की…
बहुत-बहुत धन्यवाद!