66वां स्वतंत्रता पर्व

राज्यस्तरीय महोत्सव जूनागढ़ जिले में आजादी पर्व की आन-बान-शान बरकरार रखेंगे : मुख्यमंत्री

नवनिर्मित जिला सेवासदन, पुलिस भवन और जिला पंचायत भवन का लोकार्पण

विभिन्न संस्थाओं की सोरठ विकास रैली आयोजित

जूनागढ़ को मेडिकल कॉलेज मिलेगा

मुख्यमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी भारत के 66वें आजादी पर्व के जूनागढ़ जिले में राज्य स्तरीय समारोह के सिलसिले में देशभक्ति और विकास के उत्साह में सराबोर जनता-जनार्दन के आनंद में पूरे दिन सहभागी रहे। आजादी पर्व की आन-बान-शान को उजागर करते जूनागढ़ में आज सुबह मुख्यमंत्री श्री मोदी पहुंचे थे। सुबह से देर रात तक जूनागढ़ में देशभक्ति के अभूतपूर्व माहौल में शहरों और जिले का विकास उत्सव एक नजारा बन गया।

स्वतंत्रता पर्व पर जनशक्ति के साक्षात्कार को शुभकामनाएं देते हुए श्री मोदी ने आज जूनागढ़ कृषि विश्वविद्यालय के आईसीटी लॉन्चिंग ऑफ लाइफ प्रोजेक्ट का उद्घाटन जिले के किसानों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से वार्तालाप करके किया। राज्य के सभी 18,000 गांवों में इसका सीधा प्रसारण किया गया। कृषि क्षेत्र में प्रगतिशील किसानों की सफलतागाथा को विकास में नई ताकत उपलब्ध करवाने के लिए उन्होंने किसानों को शुभकामना देते हुए कहा कि, टेक्नोलॉजी द्वारा किसानों और कृषि वैज्ञानिकों के बीच सीधे संवाद का यह आयाम गुजरात ने ही शुरू किया है। जूनागढ़ जिले की कृषि विकास कार्य योजना का विमोचन करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अब भारत सरकार के पास से 36 मेगाहट्र्ज का सैटेलाइट ट्रांसपोर्डर लेकर दूरदराज के गांवों में, खेतों में कार्यरत किसान कृषि वैज्ञानिकों से मार्गदर्शन हासिल करे, ऐसी सैटेलाइट इन्फर्मेशन टेक्नोलॉजी लॉन्ग डिस्टेन्स कृषि शिक्षा का सफल प्रयोग भी गुजरात ने किया है।

किसानों को खेती विकास की समस्याओं के समाधान की उत्तम सेवा मिलेगी, यह विश्वास व्यक्त करते हुए श्री मोदी ने कहा कि अकालग्रस्त गुजरात ने कृषि क्रांति कर दिखाई है। कृषि विकास दर कृषि महोत्सव और जलसंचय के कारण लगातार 10 प्रतिशत रही है। उत्पादकता बढ़ी है और वैल्यू एडीशन की कृषि में अद्भुत प्रेरणा मिली है। कृषि विज्ञान के इस अवसर का लाभ लेकर गुजरात के प्रयोगशील किसान देश की कृषि क्रांति की नई राह दिखलाएंगे। गिर-सोमनाथ को नया जिला बनाया जाएगा। अकाल के साए के बावजूद यह सरकार किसानों के साथ खड़ी रहेगी, मुक पशुओं की रक्षा करेगी और अकालपीडि़तों को कोई परेशानी न हो इसके लिए एड़ीचोटी का जोर लगा देगी।

गुजरात की नारीशक्ति और युवाशक्ति के सामथ्र्य को नित-नये अवसर देने का संकल्प व्यक्त करते हुए जूनागढ़ में विवेकानंद युवा सम्मेलन और सोरठी शक्ति सम्मेलन में मुख्यमंत्री ने स्वामी विवेकानंद की 150वीं जन्मजयंति के वर्ष के विशिष्ट अवसर पर युवा पीढ़ी और नारी वर्ग के सशक्तिकरण की भूमिका रखी।

राज्य के 18,000 गांवो, 225 तहसीलों, 159 नगरपालिकाओं, 8 महानगरों के वार्डों और 26 जिलों में विवेकानंद युवा केन्द्रों का गठन करने का महाअभियान शुरू किया गया है। इसकी घोषणा करते हुए श्री मोदी ने कहा कि प्रत्येक केन्द्र को खेलकूद के साधनों का किट-सहायता राज्य सरकार देगी और युवाशक्ति को खेलकूद के क्षेत्र में अपनी क्षमता दिखाने का अवसर प्रदान करेगी।

मिशन मंगलम के तहत सखी मंडल कार्यरत कर ग्रामीण नारी समाज के सशक्तिकरण की क्रांतिकारी पहल गुजरात ने की है और आर्थिक प्रवृत्ति में भागीदार बनाकर नारीशक्ति को नेतृत्व प्रदान करने के अनोखे अवसर दिए हैं।

इस समारोह में मुख्यमंत्री ने सखी मंडलों की बहनों को आर्थिक प्रवृत्ति के लिए बैंकों की कैश-क्रेडिट, एम्पॉवर तालीम सफलतापूर्वक लेने वाले युवाओं को प्रमाण पत्र और युवा केन्द्रों के खेलकूद साधनों के किट का वितरण किया। आज की युवा पीढ़ी में भी स्वामी विवेकानंद और वीर शहीद भगत सिंह प्रेरणामूर्ति रहे हैं। 1893 में स्वामी विवेकानंद ने जूनागढ़ की धरती पर परिभ्रमण किया था, इसका स्मरण करते हुए श्री मोदी ने कहा कि जनता तय करे तो सार्वजनिक स्वच्छता के साथ ही गुजरात गौरवपूर्ण बनेगा।

एम्पॉवर कंप्यूटर टेक्नोलॉजी के प्रशिक्षण में दो लाख जितने युवक-युवती शामिल हुए हैं। इसका गौरवपूर्ण उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि गुजरात में युवा रोजगार की छलांग को देखते हुए आईटीआई और हुनर-कौशल्य में लाखों युवाओं को निपुण किया जाएगा। गुजरात के युवाओं को उत्तेजित करने वाले झूठ के कारनामों से सावधान रहने का अनुरोध करते हुए श्री मोदी ने कहा कि दहेज की केन्द्र सरकार की ओएनजीसी ईकाई में 2000 में से मात्र 5 गुजराती युवाओं को रोजगार मिला है। जबकि गुजरात ने पूरे देश में सबसे ज्यादा रोजगार दिए हैं।

उन्होंने कहा कि गुजराती समाज में नारीशक्ति का संख्या बल 50 प्रतिशत है। पंचायत और स्थानीय स्वराज की संस्थाओं में महिलाओं को 50 प्रतिशत प्रतिनिधित्व देने वाला विधेयक पास किया गया, लेकिन महिला राज्यपाल इसे मंजूरी नहीं देते। गुजरात में सवा दो लाख से ज्यादा सखी मंडलों की लाखों बहनों के हाथ में 1600 करोड़ का आर्थिक कारोबार है जिसे बढ़ाकर 5000 करोड़ किया जाएगा। जूनागढ़ के समुद्रतट पर बसने वाली गरीब महिलाओं के लिए सी-विड समुद्री वनस्पति का उत्पादन सखी मंडलों द्वारा किया जाए, इसके लिए आर्थिक सशक्तिकरण किया जाएगा।

जूनागढ़ को मेडिकल कॉलेज द्वारा चिकित्सा शिक्षा के 1500 बिस्तरों वाले हॉस्पीटल के साथ सुविधा देने के संकल्प के साथ गुजरात मेडिकल एजुकेशन रिसर्च सोसायटी द्वारा संचालित मेडिकल कॉलेज संकुल का शिलान्यास करने के साथ ही स्वतंत्रता पर्व महोत्सव का प्रारंभ मुख्यमंत्री ने किया था। सोरठ की विकास यात्रा की झलक पेश करती 10,000 विद्यार्थियों की महारैली को प्रस्थान करवाने के बाद मुख्यमंत्री ने जिला राजस्व सेवा सदन और जिला पुलिस भवन के आधुनिकतम प्रशासनिक संकुलों का लोकार्पण किया।

श्री मोदी के साथ विभिन्न कार्यक्रमों में वित्त मंत्री वजूभाई वाळा, कृषि एवं सहकारिता मंत्री दिलीपभाई संघाणी, राज्य मंत्री कनुभाई भालाळा, संसदीय सचिव एलटी राजाणी, विधायक महेन्द्रभाई मशरू, वंदनाबेन मकवाणा, रामभाई सुरेजा, भगवानभाई करगठिया, प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष नीरुबेन कामलिया, जिला पंचायत प्रमुख देवीबेन बारिया, पूर्व मेयर ज्योतिबेन वाघाणी, प्रदेश भाजपा महामंत्री जीतुभाई वाघाणी, भाजपा युवा नेता प्रदीपसिंह वाघेला, प्रभारी सचिव विपुल मित्रा, स्वास्थ्य अग्र सचिव राजेश किशोर, जिला कलक्टर, जिला विकास अधिकारी, पुलिस कमिशनर, भाजपा के पदाधिकारीगण एवं अधिकारी और जनता भारी संख्या में मौजूद थे।

Explore More
अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी
Unstoppable bull run! Sensex, Nifty hit fresh lifetime highs on strong global market cues

Media Coverage

Unstoppable bull run! Sensex, Nifty hit fresh lifetime highs on strong global market cues
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
सोशल मीडिया कॉर्नर 28 मई 2024
May 28, 2024

India Appreciates PM Modi’s Relentless Efforts to Ensure our Move Towards a Viksit Bharat