The dedication of the BJP Karyakartas of Kerala and their abilities to overcome all challenges is second to none
The source of strength for Modi's guarantee is BJP's Karyakartas
BJP Karyakartas must ensure that the developmental policies & benefits percolate to the grassroots level while explaining the misgovernance by LDF-UDF
Every booth must have a robust campaign strategy with a Social Media Incharge to facilitate the same
We must make sure we win the booth first which will translate into Lok Sabha seats enabling our journey towards a 'Viksit Bharat'

नमस्कारम !
‘सुशक्तमाण एंटे बूथ’, कार्यक्रम में आप सभी बीजेपी कार्यकर्ता साथियों का बहुत-बहुत स्वागत है। आज मैं आप सबके साथ प्रधानमंत्री के तौर पर नहीं लेकिन आप जैसे ही एक कार्यकर्ता के रूप में आपसे बात करने आया हूं। मैं जानता हूं कि आप सब आजकल दिन रात कितनी मेहनत करते हैं और मैंने तो हमेशा कहा है कि जितने संघर्ष केरल के कार्यकर्ता ने झेले हैं और केरल के कार्यकर्ता ने हर संकट में जो जिंदादिली दिखाई है शायद ही उसकी तुलनी किसी और से हो सकती है ऐसे तपस्वी कार्यकर्ता, त्यागी कार्यकर्ता, कर्मठ कार्यकर्ता और मिशन के लिए जी जान से जुट जाने वाले कार्यकर्ताओं से बात करना ये अपने आप में खास होता है। ऐसे समय में मुझे आपसे बात करके बहुत अच्छा लग रहा है और मैं आपको सच्चे दिल से बताता हूं जब भी मैं आप सब कार्यकर्ताओं से बात करता हूं तो मुझे भी नई ऊर्जा मिलती है नई प्रेरणा मिलती है।

साथियों,
यहां दिल्ली में जो पॉलिटिकल एक्सपर्ट्स हैं और वो आमतौर पर कहते रहते हैं कि भाई ये मोदी जी हैं ना इनके कारण विजय हो रही है। लेकिन इनको पता नहीं है कि मोदी भी इसीलिए हैं क्योंकि आज लाखों आप जैसे कार्यकर्ता वही उनकी सच्ची शक्ति हैं। वही उनका सच्चा सामर्थ्य हैं और ये सारे कार्यकर्ता एक-एक पोलिंग बूथ में पोलिंग बूथ को जिताने के लिए मैदान में जुटे हुए हैं और ये विजय की जो गारंटी है ना वो बूथ के मेरे कार्यकर्ताओं के कारण है। आप सब के कारण है। आप जो मेहनत करते हैं मैं उसी को विस्तार देता हूं। इसीलिए बूथ में आप क्या अनुभव कर रहे हैं। आप जब इतनी मेहनत करते हैं तो बहुत सी बातें जानने को मिलती होगी तो मुझे भी मन करता है कि ग्रासरूट लेवल की जानकारियां सीधी-सीधी आपसे प्राप्त करूं।

तो चलिए, पहले कार्यकर्ता से मिलते हैं। कौन बात करेगा और कहां से जुड़ रहा है?

श्रीमती उदयाकुमारी, बूथ प्रेसिंडेट, चेन्गानूर, मावेलीकारा

पीएम मोदी: उदयाकुमारी जी, सबसे पहले तो आपको मेरा नमस्कार। अच्छा कुछ बातें मेरे मन में हैं। मैं एक साथ बोल देता हूं आप मुझे जरूर विस्तार से उन चीजों को बताइए। अगर जरूरत है तो कागज पर लिख लीजिए मैं क्या पूछ रहा हूं। उदयाकुमारी जी पहले तो आप अपने बारे में बताइए? दूसरा आपकी सीट पर कैंडिडेट कौन है वो बताइए? आपके यहां कैंपेन कैसा चल रहा है? और दिल्ली में तो लोगों का विश्वास हो गया है कि केरल में इस बार भाजपा नया रिकॉर्ड बनाने वाली है। आप तो बिल्कुल जमीन पर काम कर रही हैं महिलाओं के बीच काम कर रही हैं। घर-घर जा रही हैं आपको क्या लगता है?

श्रीमती उदयाकुमारी: मोदी जी केरल के प्रति आपके प्यार के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। हमारा उम्मीदवार बैजू कलासाला हैं और उनके सफलता के लिए हम बहुत प्रयत्न कर रहे हैं। हम हर घर जा रहे हैं और मोदी जी ने महिलाओं के लिए जो काम किया है जिसमें बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ, मातृ वंदन योजना और मनरेगा मानदेय को बढ़ाना, सुकन्या समृद्धि योदना, मुफ्त गैस कनेक्शन। ऐसी योजनाओं के बारे में हम बताते हैं और लोगों का आपके प्रति बहुत आभार है और इस बार केरल में हमने पांच महिलाओं को खड़ा किया है और इसके लिए भी हम आपका आभार करते हैं और आपको धन्यवाद कहना चाहते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी: उदयाकुमारी जी आपने इतनी योजनाओं के नाम बता दिए और इतने बढ़िया तरीके से बता दिए और आपने ये भी बताया कि आपके जो उम्मीदवार हैं भारतीय जनता पार्टी से वो बहुत ही सामान्य परिवार से गरीब परिवार से आते हैं। मैं समझता हूं यही भारतीय जनता पार्टी की ताकत है। हम कार्यकर्ताओं की पार्टी है। कार्यकर्ता के कारण ही ये भारतीय जनता पार्टी है। कार्यकर्ताओं के सामार्थ्य के कारण ही भारतीय जनता पार्टी है।

मैं सभी केरल के कार्यकर्ताओं से कहूंगा कि सारे देश के भाजपा के लोग हमेशा जब कार्यकर्ता की बात आती है तो केरल के कार्यकर्ता का उदाहरण देते हैं। उसकी मेहनत करने का त्याग करने का इन सारी चीजों का उदाहरण देते हैं। और आप सभी की मेहनत से ही बीजेपी-एनडीए केरल में लगातार मजबूत हो रही है। अब आपको एनडीए के पक्ष में चल रही इस लहर को और बढ़ाना है। और वोटिंग वाले दिन अपने बूथ पर ज्यादा से ज्यादा लोगों द्वारा हमारे उम्मीदवारों को वोट डलवाना है। देखिए वहां पर हमें भारत सरकार ने जो गरीब कल्याण के लिए काम किए हैं उसको आंकडों समेत लोगों को बताना चाहिए और घर-घर जाकर के बैठ कर बताना चाहिए। लाभार्थियों की बूथ की सूची बनानी चाहिए जिनको लाभ मिला है उनके साथ सीधी बात करनी चाहिए और लोगों को वहां की राजनीति की सच्चाई भी बतानी चाहिए कि LDF-UDF वो अलग है ही नहीं वो एक ही हैं वे लड़ने का नाटक करते हैं सारे देश में मिलकर मोदी को हराने के लिए काम... बयानबाजी करते हैं। और वहां पर लड़ाई लड़ने का नाटक करते हैं और इसलिए ये उनका खेल LDF की बुराइयों को UDF बचाता है और UDF की बुराइयों को LDF बचाता है। यही खेल चलता रहा है केरल के लोग पढ़े-लिखे हैं उनके बीच जाकर के हमने बताना चाहिए। और मैं केरल के सभी कार्यकर्ताओं से आग्रह करूंगा कि हमें NDA के सभी कार्यकर्ताओं की बूथ लेवल पर Coordination होना चाहिए। टीम बननी चाहिए एक टीम के रूप में काम करना चाहिए और मैं इसके लिए एक अच्छा तरीका बताता हूं आपको। आप लोग बूथ लेवल पर सभी कार्यकर्ताओं का एक दिन आने वाले चार पांच दिन में ही टिफिन बैठक का कार्यक्रम करें। बूथ के सभी कार्यकर्ता घर से टिफिन लेकर आ जाएं। हो सके तो तीन-चार बूथ के लोग एक साथ इकट्ठे होकर के करें। घर से लाया हुआ मिल बैठकर खाना खायें और अपने बूथ में राजनीति स्थिति क्या है किस परिवार में कौन जाएगा, किस परिवार से कौन बात करेगा? ये सारी प्लानिंग करनी चाहिए। दूसरा हर कार्यकर्ता के जिम्मे कोई ना कोई परिवार की जिम्मेदारी देनी चाहिए कि भाई चलो ये आप तीन कार्यकर्ताओं की टोली है। ये 10 परिवार आप संभालेंगे तो आने वाले 15-20 दिन उन 10 परिवारों में ही जोर लगाएं उनसे जुड़े रहे और उनके वोट करवाएं। ये जितना परफेक्ट प्लानिंग करेंगे मैं समझता हूं कि बूथ जीतना आसान हो जाएगा और आपका मकसद यही होना चाहिए। सभी केरल के कार्यकर्ताओं को मैं यही कहता हूं कि पहला लक्ष्य क्या है बूथ जीतना। अगर बूथ जीत गए तो लोकसभा कभी हार ही नहीं सकते।

चलिए, आगे बढ़ते हैं। अब अगला बूथ प्रेसिडेंट कौन है, बात करने के लिए?

बालागोपाल, बूथ प्रेसिडेंट, पालक्काड़, कुन्नपुरम

माननीय पीएम का सवाल: बालागोपाल जी, मुझे आपसे बात करने का अवसर मिला। आपके माध्यम से मैं केरल के सभी कार्यकर्ताओं से बात कर रहा हूं और इसलिए हमारी ये बातचीत सिर्फ मुझे ही लाभ करेगी ऐसा नहीं, केरल के सभी कार्यकर्ताओं को भी लाभ करेगी। अत: मैं कुछ चीजें आपसे पूछता हूं और सब चीजें एक साथ ही पूछ लूंगा ताकि टाइम ज्य़ादा जाये नहीं और मुझे विश्वास है कि आप सब मुद्दों का अच्छे ढंग से मुझे समझाएंगे। LDF और UDF का जो इंडी अलायंस बना है, इसको लेकर क्या बातें हो रही हैं? इंडी अलायंस का जो करप्शन है, उससे केरल में कितनी नाराज़गी है? बीजेपी, करप्शन के इस रैकेट को खत्म करेगी, ये भरोसा आप जनता को दे रहे हैं क्या?

बालागोपाल का जवाब: मोदी जी, ये हंसने की बात है LDF और UDF वाडाकारा में एक-दूसरे से लड़ रहे हैं। और एक दूसरे पर करप्शन का आरोप लगा रहे हैं। इधर से 30 किलोमीटर दूरी पर जो तमिलनाड आता है वहां पर LDF-UDF इंडी अलायंस बनकर हाथ मिलाकर इलेक्शन लड़ रहे हैं। जब मैं बूथ संपर्क के लिए एक कांग्रेस कार्यकर्ता से मिला। उन्होंने कहा वायनाड की कम्युनिस्ट कैंडिडेट एनी राजा दिल्ली में राहुल गांधी को प्राइम मिनिस्टर बनाने के लिए आवाज उठा रही हैं और केरल में आकर एनी राजा राहुल गांधी को हराने के लिए वायनाड से लड़ रही हैं। इंडी अलायंस के लिए ये लज्जा का विषय है कि एक तरफ वो राहुल गांधी को पीएम बनाने जा रहे हैं और दूसरी तरफ उनसे लड़ रहे हैं। इंडी अलायंस करप्शन के लिए ही हुआ है और केरल के लोग ये जानते हैं कि ये लोग करप्ट वाले हैं और आपकी जो 10 साल की मोदी Government रही है वो करप्शन फ्री रहा है इसीलिए मोदी की गारंटी जो मोदी की गारंटी हम बोलते हैं। उसमें सब लोग विश्वास करते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी: बालागोपाल जी, मैं आपके माध्यम से केरल के सभी कार्यकर्ताओं से कहना चाहता हूं। देखिए इंडी अलायंस बना ही इसलिए है ताकि एक-दूसरे के करप्शन को छुपाया जा सके। अब देखिए गोल्ड स्मगलिंग के तार वहां किस ऑफिस तक पहुंचे हुए हैं, सारा हिंदुस्तान जान गया है। उसी प्रकार से एक करूवन्नूर कॉपरेटिव बैंक स्कैम और उसमें तो ये कम्युनिस्ट पार्टी के बड़े-बड़े नेताओं के नाम आ रहे हैं। गरीब लोगों के पैसे डूब रहे हैं। जिस तरह लेफ्ट के नेताओं पर सवाल उठ रहे हैं, उसे भी केरल के लोग अच्छी तरह जानते हैं। मैं आज केरला के लोगों को फिर भरोसा देता हूं कि इस स्कैम के दोषियों को जनता को लूटने वालों को कभी भी छोड़ा नहीं जाएगा उन पर सख्त कार्रवाई होगी।

बालगोपाल जी, मैं एक और बात बड़ी महत्वपूर्ण करना चाहता हूं और ये केरल के सब कार्यकर्ता वहां घर-घर जाकर बताएं। ये जो कॉपरेटिव बैंक का सब खेल हुआ है उसमें ED के द्वारा काफी मात्रा में संपत्ति जब्त की गई है और हमने सोचा है कि बैंक के जो डिपोजिटर्स हैं जिनके पैसे ड़ूब गए हैं ED ने जो संपत्ति जब्त की है। जरूरत पड़ी तो उसका ऑक्शन कर के और जो कैश जब्त हुआ है वो और जो डिपोजिटर्स है जिनके पैसे डूबे हैं ED वो पैसे उनको वापस दें ताकि गरीब का पैसा उसे वापस मिले। इसके लिए मैं कानूनी सलाह ले रहा हूं और नई सरकार बनने के बाद मैं कोई ना कोई रास्ता खोजूंगा कि जिनके पैसे हैं और जो पैसे ED ने जब्त किए हैं उस प्रकरण में उसमें से जितना पैसा उन डिपोजिटर्स को हम वापस दे सकते हैं हम देंगे। ये आप घर-घर जाकर बताइए ताकि गरीब का पैसा है उसकी मेहनत का पैसा उसकी ईमानदारी का पैसा है। बालगोपाल जी, मैं आप के माध्यम से केरल के सभी कार्यकर्ताओं को ये भी कहना चाहूंगा कि हमारी चुनाव जीतने की पूरी रणनीति पोलिंग बूथ केन्द्रित होनी चाहिए और मैं तो आपसे कहूंगा कि जब तक आप चुनाव के डेट आने से पहले जितने दिन है 5-6 बूथ लेवल के कार्यक्रम आपने अभी से बना देने चाहिए एक दो दिन बूथ की सभी महिलाओं का सम्मेलन, एक दो दिन जो फर्स्ट टाइमर वोटर हैं उनका सम्मेलन, एक दो दिन जो लाभार्थी हैं अलग अलग योजनाओं के आयुष्मान योजना का लाभ मिला होगा। उज्ज्वला गैस का लाभ मिला होगा। पीएम आवास मिला होगा। ऐसे जितने भी हों उन सभी लाभार्थियों का सम्मेलन और उनके मुंह से बुलवाना उनके वीडियो रील निकालना वो वीडियो रील सर्कुलेट करना। ऐसा अगर हम 5-6 कार्यक्रम तय कर लेते हैं। फिशरमैन की मीटिंग बूथ लेवल की भले 100 लोग 150 लोग इकट्ठे होते हैं और उन्हें सारी बात एक-एक कर के आराम से समझाना चाहिए और उसमें खास बहुत इफेक्टिव तरीके से बताना चाहिए। Dynasty और Corruption इस पर जितने प्रहार कर सकते हो केरल में करने चाहिए। क्योंकि ये परिवारवाद ने सारे युवाओं के भविष्य को उस पर ताले लगा दिए और करप्शन ने देश को तबाह करके रख दिया है केरल को तबाह करके रख दिया है। यह बातें बड़े आसानी से आप कर सकते हैं।

अच्छा मैं और एक बात बताना चाहता हूं कि एक तरफ चुनाव की गर्मी बढ़ रही है दूसरी तरफ प्राकृतिक सूरज भी बहुत गर्मी बिखेर रहा है ऐसे में जितना ज्यादा मतदान सुबह-सुबह हम करवा सकते हैं वो योजना अभी से बनवानी चाहिए। जितना ज्यादा पोलिंग बूथ पर से वोटिंग हो जाये और दूसरी बात आप सबसे मेरा यही आग्रह है एक ही मंत्र पोलिंग बूथ जीतना है। पोलिंग बूथ में भाजपा का झंडा झुकने नहीं देंगे। आप सबसे मेरा बालगोपाल जी वगैरहा सबसे आग्रह यही है। पूरे केरल के कार्यकर्ता इसी मंत्र को लेकर आगे बढ़े। आइए इसके आगे कौन कार्यकर्ता है उससे बात करेंगे।

श्री गोपीनाथन पी, पट्टनमथिट्टा, कोन्नी, बूथ प्रेसिडेंट

गोपीनाथन पी: नमस्ते।
प्रधानमंत्री मोदी: नमस्कार, क्या नाम है आपका।
गोपीनाथन पी: गोपीनाथन पी।
प्रधानमंत्री मोदी: गोपीनाथन पी जी, आपको नमस्कारम् और मैं आपसे कुछ सवाल पूछूंगा और समय ज्यादा ना जाये इसलिए एक साथ पूछ लूंगा। आप जरूर मुझे समझाइए ताकि मुझे ग्राउंड रियलिटी का पता चले। देखिए गोपीनाथन जी, आप तो जानते ही हैं कि केंद्र की बीजेपी सरकार सबका साथ-सबका विकास के मंत्र पर काम कर रही है। इसलिए लेफ्ट और कांग्रेस की भेदभाव वाली पॉलिटिक्स फेल हो रही है। अब आप ग्राउंड पर हैं आपका क्या experience है? केंद्र सरकार की किन-किन स्कीम्स को लेकर लोग आपसे ज्यादा चर्चा करते हैं? और सबसे ज्यादा लोगों को उससे संतोष है। जरा मैं इसके विषय में आपका जो धरती पर अनुभव है बूथ पर अनुभव है वो मैं सुनना चाहता हूं।

गोपीनाथन पी: मोदी जी, लोग ये समझते हैं कि लेफ्ट और कांग्रेस का जो अभियान है वो राजनीतिक उद्देश्य से है और वो ये समझते हैं कि आपके जो विकास है। विकसित भारत का जो सपना है उसके प्रति लोगों का बहुत आभार है। हम पट्टनमथिट्टा District में जो वंदे भारत का हमें अनुभव मिला है वो बहुत अच्छा है और हमें लगता है कि हम हवाई जहाज में ट्रैवल कर रहे हैं। ऐसा हमें लगता है और इस जिले में हमें बहुत लाभ मिला है जैसे जल जीवन मिशन से हमें शुद्ध पानी मिला है। गरीब कल्याण योजना से हमें बहुत बढ़ावा मिला है। पट्टनमथिट्टा जिला में 380 करोड़ का किसान सम्मान निधि का लाभ मिला है। इसीलिए ऐसे लाभ हमें सभी योजनाओं से मिल रहे हैं इसीलिए आपकी गारंटी में लोग विश्वास कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी: गोपीनाथन जी, आपने धरती की बहुत बड़ी बात बताई है और मैं भी जब आपकी Constituency में आया था। जो उत्साह, उमंग मैंने देखा था। जो जोश देखा था मुझे पक्का लगता है कि केरल नये रिकॉर्ड बनाने वाला है। देखिए, बीजेपी सरकार सैचुरेशन की अप्रोच पर, सबका साथ-सबका विकास की अप्रोच पर काम कर करती है। और सैचुरेशन का मतलब ही यही है कि हमारी योजनाओं का लाभ बिना भेदभाव हर किसी तक पहुंचता है। केरला में भी केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ हर वर्ग को मिला है। इसलिए हर वर्ग के लोग बार-बार बीजेपी को जिता रहे हैं। जहां बीजेपी की गवर्नमेंट है, वहां गुड गवर्नेंस होती है, इसलिए बीजेपी बार-बार जीतती है और इसलिए इंडी अलायंस वाले लोग झूठ का रास्ता लेते हैं झूठ फैला रहे हैं। भारत सरकार की जो स्किम्स है उसका नाम बदल देते हैं ताकि लोगों को भारत सरकार के काम का पता ना चले। ऐसे में बूथ में घर-घर जाकर सत्य बताना बहुत जरूरी है।

देखिए पोलिंग बूथ जीतना है तो एक काम ये भी करना होता है कि लोगों को पता होना चाहिए कि हमारा चुनावी निशान क्या है? बीजेपी का कौन सा है? या एनडीए का उम्मीदवार है तो एनडीए के उम्मीदवार का कौन सा है? और घर-घर जाकर के निशान का भी परिचय करवाना चाहिए। जैसे कमल है तो कमल का परिचय होना चाहिए। उसी प्रकार से जो EVM मशीन है तो उसमें कितने नंबर पर हमारा नाम है वो भी हमने हर घर जाकर के समझाना चाहिए। जैसा मैंने अभी थोड़ी देर पहले बताया था कि हम महिला सम्मेलन करें, फिशरमैन सम्मेलन करें, फर्स्ट टाइम वोटर सम्मेलन करें, किसान सम्मेलन करें, यूथ सम्मेलन करें। वो तो आप करेंगे ही करेंगे। लेकिन एक मेरा आग्रह है कि डेली आधे घंटे के लिए बूथ में सब कार्यकर्ताओं ने हाथ में झंडे लेकर जुलूस निकालना चाहिए नारे बोलते-बोलते। थाली वगैरहा बजाते हुए डेली तो पूरे बूथ में उसके कारण एक बड़ा वातावरण बन जाता है। उस काम को करना चाहिए और एक मेरा आग्रह है कि हर बूथ में एक सोशल मीडिया इंचार्ज होना चाहिए। सोशल मीडिया पर बहुत बल देना चाहिए। वहां के लोगों की योजनाओं की रील बनाकर के जो उनको लाभ मिला है उसकी बातें। जितने ज्यादा सोशल मीडिया पोस्ट कर सकते हो केरल में करना चाहिए।

केरल के मेरे सभी साथियों,
मेरा आप सभी पर बहुत ही विश्वास है। बहुत ही आपसे मेरा भरोसा भी है और मुझे पक्का विश्वास है कि केरल इस बार चमत्कार करने वाला है। लेकिन आप सबका ध्यान एक ही बात पर केंद्रित होना चाहिए कि हमें हमारा पोलिंग बूथ जीतना है और पोलिंग बूथ जीतने के लिए कितने वोट चाहिए उसका हिसाब कागज पर निकालना चाहिए कि कुल कितने मतदाता है। एवरेज वोटिंग कितने होने की संभावना है। अगर इतना वोटिंग हो तो इसमें जीतने के लिए कितने वोट चाहिए। इतने वोट चाहिए तो कितने परिवारों से मिलेंगे। अभी से टिक मार्क करना चाहिए। आप पक्का कर सकते हैं कि कौन परिवार आपको वोट देगा। कौन परिवार आपके लिए मेहनत करेगा। ये पहले से कर सकते हैं और देखिए सामान्य नागरिक होता है ना प्यार से उसका दिल जीतना चाहिए। जितनी ज्यादा मेहनत आप परिवार में जाकर उनके बीच बैठकर गप्पे मारते-मारते उनका दिल जीतोगे तो आप बूथ जीतोगे। आप बूथ जीतोगे तो आप पार्लियामेंट की सीट जीतोगे और जब हम पार्लियामेंट की सीट जीतेंगे तो देश को विकसित भारत बनाने का सपना पूरा कर पाएंगे।

देखिए मैं कुछ बातें फिर से रिपिट करता हूं। क्योंकि इन चीजों से ही चुनाव जीता जाता है। जैसे हर मतदाता को हमारा निशान पता होना चाहिए। बार-बार उसको निशान के विषय में बताना पड़ेगा। हर मतदाता को हमारी सरकार ने क्या काम किए हैं वो बताना होगा। हर मतदाता को हम आने वाले पांच साल में क्या काम करने वाले हैं वो बताना होगा और इसके लिए हम जितना ज्यादा व्यवस्था कर सकें हमें करना चाहिए और मेरा तो एक आग्रह और है। प्रदेश स्तर पर जिला स्तर पर मंडल स्तर पर लोकसभा सीट के स्तर पर असेंबली सीट के स्तर पर अभी से एक Dedicated कार्यकर्ताओं की टीम सिर्फ लास्ट डे के लिए यानी मतदान के काम के लिए अभी से जोड़ देनी चाहिए। उनके पास कोई काम नहीं हो, उनको सिर्फ मतदान के दिवस उनको क्या काम करना है। कौन पोलिंग एजेंट होंगे? पोलिंग बूथ कौन बनाएगा? मतदाता की सूची किसके पास रहेगी? कितने लोगों का मतदान हुआ वो कौन बाहर बताएगा? कुछ कार्यकर्ता दिनभर लगे रहते हैं तो उनको चाय वगैरहा की व्यवस्था कौन करेगा? इसके लिए अभी से हर स्तर पर एक अलग टीम बना देनी चाहिए। ये बहुत जरूरी है क्योंकि अभी हम चुनाव के समय में हम और कामों में लगे रहते हैं और ये आखिरी दिन का काम भी छूट जाता है। आखिरी दिन का काम पहले करना चाहिए। इसीलिए मेरा आग्रह है पोलिंग के दिन की पोलिंग बूथ की व्यवस्था इसके लिए कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण अगर कुछ गलत होता है तो कैसे कानून मुद्दा उठाना है क्या करना है? कुछ बुरा हो रहा है तो क्या करना है ये सारी चीजों की ट्रेनिंग हो जानी चाहिए। और उस पर आप जरूर ध्यान दीजिए और आप देखिए... आप ही मेरे लिए वहां पोलिंग बूथ पर मेरे मोदी हैं। आप ही मेरे मोदी हैं और इसीलिए ये विजय आपको दिलाना है और जैसा मैंने पहले कहा पोलिंग बूथ जीत रहा है बस यही संकल्प। मैं पोलिंग बूथ जीतकर रहूंगा। मेरे पोलिंग बूथ के कार्यकर्ता पोलिंग बूथ जीतकर रहेंगे। पूरी ताकत पोलिंग बूथ जीतने में लगानी है।

चलिए आप सब से बात करके मुझे बहुत अच्छा लगा। आपको लगता होगा ये देश के प्रधानमंत्री पूरे देश में विजय प्राप्त करने के लिए योजना बनाते होंगे उसके लिए काम करते होंगे। लेकिन मोदी जी तो पिछले 1 घंटे से बूथ की चर्चा कर रहे हैं। इससे आपको समझ आता होगा कि मेरे लिए बूथ कितना महत्व का है। बूथ का कार्यकर्ता कितना महत्व का है और सारे विजय की जड़ जो है ना वो बूथ है। इस बात को मैं बार-बार इसीलिए कह रहा हूं कि बूथ जीतना है। आप योजना बनाइए बूथ जीतने की मेरी आपको बहुत-बहुत शुभकामना है। मुझे बहुत अच्छा लगा। बहुत- बहुत धन्यवाद आप सबका!
बहुत-बहुत धन्यवाद!

 

Explore More
ভারতের ৭৭তম স্বাধীনতা দিবস উপলক্ষে লালকেল্লার প্রাকার থেকে দেশবাসীর উদ্দেশে প্রধানমন্ত্রীর ভাষণ

জনপ্রিয় ভাষণ

ভারতের ৭৭তম স্বাধীনতা দিবস উপলক্ষে লালকেল্লার প্রাকার থেকে দেশবাসীর উদ্দেশে প্রধানমন্ত্রীর ভাষণ
PM Modi Crosses 100 Million Followers On X, Becomes Most Followed World Leader

Media Coverage

PM Modi Crosses 100 Million Followers On X, Becomes Most Followed World Leader
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
সোশ্যাল মিডিয়া কর্নার 15 জুলাই 2024
July 15, 2024

From Job Creation to Faster Connectivity through Infrastructure PM Modi sets the tone towards Viksit Bharat