We have started a scheme to empower women - the 'Namo Drone Didi', says PM Modi in Rudrapur
‘Neeyat Sahi, Toh Nateeje Sahi’, says PM Modi as he talks about the development of Uttarakhand and various government schemes which have benefitted the state
After staying out of power for just 10 years, Congress has started talking about igniting fire in India. Will you punish such people? asks PM Modi in Rudrapur
The Congress, with its Emergency-era mentality, has lost faith in democracy. Therefore, it has now engaged in agitating against the mandate: PM Modi

मां नंदा देवी की जय !
जय बाबा गोल्ज्यू !
जय श्री राज राजेश्वरी!
भै कैस हैरो हालचाल?
देवभूमि उत्तराखंड में ये मेरी पहली चुनावी सभा है। अब मैं तय नहीं कर पा रहा हूं कि ये प्रचारसभा है कि विजयसभा है।.. ये जो सज्जन बहुत बढ़िया चित्र बना के लाए हैं, मेरी माता जी का भी चित्र लाए हैं। मैं आपका बहुत आभारी हूं, लेकिन आप जब इसे ऊंचा करते हैं ना तो पीछे वाले देख नहीं पाते। क्या आप इसको नीचे रख देंगे? इसको नीचे रख देंगे आप? आप ने मेरी बात मान ली इसलिए मैं आपका हृदय से आभार व्यक्त करता हूं। मैं सबसे पहले जो पीछे धूप में तप रहे हैं उन सबसे क्षमा मांगता हूं। हमलोगों ने सोचा था वो पंडाल छोटा पड़ गया, मैदान छोटा पड़ गया और इसलिए जितने अंदर बैठे हैं उससे कही ज्यादा लोग बाहर धूप में तप रहे हैं। जो धूप में तप रहे हैं, हमारी व्यवस्था की कमी रही इसके लिए मैं आप सबसे क्षमा मांगता हूं। लेकिन मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि आप जो धूप में तप रहे हैं ये आपकी तपस्या को मैं बेकार नहीं जाने दूंगा। मैं इसे विकास कर के लौटाऊंगा। आपके इस प्यार के लिए मैं आपका बहुत आभारी हूं। जो लोग, देवभूमि का ये आशीर्वाद... ये मेरी बहुत बड़ी पूंजी है। देवभूमि के हर गांव से आपका जो ये प्यार मिल रहा है, आपके आशीर्वाद मिल रहे हैं मैं इसके लिए आपका हृदय से बहुत-बहुत आभारी हूं।

भाइयों-बहनों,
ये चुनावी सभा भी ऐसे क्षेत्र में हो रही है, जिसे मिनी इंडिया कहा जाता है। और एक प्रकार से ये देवभूमि का भी आशीर्वाद है और मिनी इंडिया का भी आशीर्वाद है। मैं जब भी उत्तराखंड की पवित्र धरती पर आता हूं, खुद को बहुत धन्य महसूस करता हूं। और इसलिए ही मेरे दिल की गहराई से एक बात निकली थी और एक बार मैंने यहां कहा भी था...
“देव भूमि के ध्यान से ही...
मैं सदा धन्य हो जाता हूँ...
है भाग्य मेरा, सौभाग्य मेरा,
मैं तुमको शीश नवाता हूँ"

साथियों,
देवभूमि उत्तराखंड के प्रति भाजपा का जो प्रेम है, जो अपनत्व है, वो जगजाहिर है। हमें उत्तराखंड को विकसित बनाना है, सबसे आगे लेकर जाना है। और इसके लिए केंद्र की भाजपा सरकार कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ रही है। बीते 10 वर्षों में जितना विकास उत्तराखंड का हुआ है, उतना आजादी के बाद के साठ-पैंसठ साल में नहीं हुआ है। आज उत्तराखंड हर प्रकार की आधुनिक कनेक्टिविटी से जुड़ रहा है। उत्तराखंड में भाजपा ने गरीबों को 85 हजार पक्के घर बनाकर दिए हैं। उत्तराखंड में भाजपा ने 12 लाख घरों तक पानी का कनेक्शन पहुंचाया है। यहां भाजपा सरकार ने साढ़े पांच लाख से ज्यादा शौचालयों का निर्माण कराया है। यहां की 5 लाख से ज्यादा महिलाओं को उज्ज्वला का मुफ्त गैस कनेक्शन दिया गया है। यहां करीब 3 लाख लोगों को स्वामित्व योजना के तहत उनकी प्रॉपर्टी के कार्ड दिए गए हैं। उत्तराखंड के 35 लाख लोगों के पास पहले बैंक में खाते तक नहीं थे। भाजपा सरकार ने 35 लाख लोगों के बैंक खाते खुलवाए हैं, उन्हें बैंकों से जोड़ा है। भाजपा सरकार ने उत्तराखंड के छोटे किसानों के बैंक खातों में 2200 करोड़ रुपए से ज्यादा सीधे भेजे हैं। भाइयों-बहनों ये सूची बहुत लंबी है, लेकिन मैं इसमें आपका ज्यादा समय नहीं लेता, लेकिन इतने सारे काम कैसे होते हैं... जब नीयत सही होती है, तो ऐसे ही काम होते हैं। और इसलिए मैं कहता हूं- नीयत सही, तो नतीजे भी सही।

साथियों,
आप जानते हैं कि मोदी ने भारत को दुनिया की तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत बनाने की गारंटी दी है। तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत का मतलब है- लोगों की कमाई बढ़ेगी, लोगों को नौकरी के अवसर बढ़ेंगे। गांव हो शहर हो लोगों की सुविधा बढ़ेगी। और इसका बहुत बड़ा लाभ ये देवभूमि मेरे उत्तराखंड को भी होगा। और आप जानते हैं, मोदी की गारंटी यानि गारंटी पूरी होने की गारंटी। अब याद कीजिए मैंने आपसे कहा था कि यहां एम्स का सेटेलाइट सेंटर बनेगा, मैंने ये गारंटी पूरी करके दिखाई। बाबा केदार के आशीर्वाद से मेरे मुंह से निकला था कि ये दशक, उत्तराखंड का दशक होने वाला है। कमल निशान पर पड़ा आपका हर वोट, इसी संकल्प को और सशक्त करेगा।

साथियों,
मोदी की गारंटी ने उत्तराखंड के घर-घर में सुविधा पहुंचाई है, लोगों का स्वाभिमान बढ़ाया है। अब तीसरे टर्म में आपका ये बेटा एक और बड़ा काम करने जा रहा है। मेरा लक्ष्य है, आपको 24 घंटे बिजली मिले, बिजली का बिल ज़ीरो हो और बिजली से कमाई भी हो। इसके लिए मोदी ने, पीएम सूर्यघर- मुफ्त बिजली योजना शुरू की है। इसके तहत छत पर सोलर पैनल लगाने के लिए सरकार मदद दे रही है। इससे, जो एक मध्यम वर्ग परिवार होता है, जिसके घर में तीन-चार पंखे हो, एक-आध दो एसी हो, वॉशिंग मशीन हो, रेफ्रिजरेटर हो, एक छोटी सी इलेक्ट्रिकल वेहिक्ल की चार्जिंग की बात हो तो उसे करीब-करीब 300 यूनिट बिजली खपती है। ये 300 यूनिट तो मुफ्त मिलेगी ही और जरूरत से ज्यादा जो बिजली होगी उसको सरकार खरीदेगी और उससे आपकी कमाई होगी। क्या आप इस योजना का लाभ लेंगे? जीरो बिल वाली योजना का लाभ लेंगे? तो उसकी एप्लिकेशन कर दीजिए, उसके एप्लिकेशन का काम चालू है। आपके इस सेवक ने बहनों के लिए नमो ड्रोन दीदी योजना भी बनाई है। इसके तहत महिला स्वयं सहायता समूहों को लाखों रुपए का ड्रोन दिया जा रहा है। और हमारे लिए गर्व की बात है कि गांव-गांव हमारी बहनें ड्रोन पायलट बन रही है। इसका भी बड़ा लाभ यहां देवभूमि मेरे उत्तराखंड की बहनों-बेटियों को भी होगा।

साथियों,
आपको लगता होगा कि इतना सारा काम मोदी कर रहा है। घर-घर कुछ ना कुछ पहुंच रहा है तो ये मोदी थकता क्यों नहीं है, ये मोदी रुकता क्यों नहीं है। अरे कोई और होता तो मौज करता.. मोदी मौज करने के लिए पैदा नहीं हुआ है। मोदी मेहनत करने के लिए पैदा हुआ है। मोदी आपके लिए मेहनत करने के लिए पैदा हुआ है। और इसलिए मेरे भाइयों-बहनों ये जो 10 साल में हुआ है ना, पहले वालों से बहुत ज्यादा हुआ है, हर कोई मानता है, लेकिन मोदी नही मानता है, मोदी तो कहता है... ये 10 साल में जो विकास हुआ है ना वो तो सिर्फ ट्रेलर है ट्रेलर। अभी तो बहुत कुछ करना है। अभी तो हमें देश को बहुत आगे लेकर जाना है। और तब तक ना रुकना है ना थकना है। और अभी तो हमें ये हमारे उत्तराखंड को भी बहुत-बहुत-बहुत आगे लेकर जाना है। मेरा प्रयास है कि केदारखंड की तरह ही मानसखंड से भी देश और दुनिया और अधिक परिचित हो। पिछले वर्ष मैं आदि कैलाश गया था, तब पूरे देश ने इस क्षेत्र के अद्भुत सामर्थ्य को देखा था। और अभी मुझे अजय जी बता रहे थे, पहले तो आदिकैलाश को कोई जानता नहीं था, कभी-कभार लोग आते थे, संख्या मुश्किल से पांच हजार होती थी, अभी ये आंकड़ा लाखों में पहुंच रहा है।

साथियों,
खेती हो, पर्यटन हो, या फिर इंडस्ट्री, इस क्षेत्र में अभूतपूर्व संभावनाएं बनने जा रही हैं। मैं उत्तराखंड के नौजवानों से कहूंगा, मेरे हर भाई-बहन से कहना चाहूंगा... आपका सपना ही मोदी का संकल्प है। बीते वर्षों में यहां से पलायन रुका है। वो दिन दूर नहीं जब रोज़गार के लिए शहर गए साथी वापस लौटेंगे।

भाइयों और बहनों,
मोदी के इन प्रयासों के बीच, कांग्रेस और इंडी-गठबंधन ने अपने इरादे दिखा दिए हैं। कांग्रेस के शाही परिवार के शहजादे ने ऐलान किया है कि अगर देश ने तीसरी बार बीजेपी सरकार को चुनी तो, आग लग जाएगी। 60 साल तक देश पर राज करने वाले, 10 साल सत्ता से बाहर क्या रह गए, अब देश में आग लगाने की बात कर रहे हैं। क्या ये आग लगाने की बात आपको मंजूर है? क्या इस देश को आग लगाने देंगे? क्या आग लगाने की ये भाषा उचित है? क्या ये आग लगाने वाली भाषा लोकतंत्र की भाषा है? ऐसे लोगों को सजा करोगे? पक्की सजा करोगे? चुन-चुन कर साफ कर दो इस बार इनको मैदान में नहीं रहने दो भाइयों। इमरजेंसी की मानसिकता वाली कांग्रेस का भरोसा अब लोकतंत्र पर नहीं बचा है। इसलिए वो अब जनादेश के विरुद्ध लोगों को भड़काने में जुट गई है।

साथियों,
कांग्रेस, भारत को अस्थिरता की तरफ ले जाना चाहती है, अराजकता में झोंकना चाहती हैं। कर्नाटक में कांग्रेस के एक बड़े नेता ने दक्षिण भारत को देश से अलग करने की बात कही, दो टुकड़े करने की बात कही। आप मुझे बताइए, देश के टुकड़े करने वालों को सजा मिलनी चाहिए कि नहीं मिलनी चाहिए? लेकिन कांग्रेस ने क्या किया? सजा देने की बजाए कांग्रेस ने देश को बांटने की घोषणा करने वाले को चुनाव का टिकट दे दिया। उत्तराखंड के लोग भूल नहीं सकते कि इसी कांग्रेस ने देश के वीर सपूत, स्वर्गीय बिपिन रावत जी तक का अपमान किया था। ऐसी कांग्रेस से देशभक्ति की भाषा, उनकी देशभक्ति की बातें किसी के गले उतरती नहीं है।

साथियों,
कांग्रेस, तुष्टिकरण के दलदल में ऐसा धस गई है कि कभी देशहित का सोच ही नहीं सकती। यही कांग्रेस है जो घुसपैठियों को बढ़ावा देती है। लेकिन जब भाजपा CAA के माध्यम से मां भारती में आस्था रखने वालों को भारत की नागरिकता देती है, तो कांग्रेस को सबसे ज्यादा तकलीफ होती है। इस क्षेत्र के लोग भी जानते हैं कि पाकिस्तान और बांग्लादेश से जो शरणार्थी आए हैं, उनमें से अधिकतर दलित परिवार हैं, हमारे सिख भाई-बहन है, हमारे बंगाली भाई-बहन है। लेकिन कांग्रेस इन लोगों को नागरिकता देने का विरोध कर रही है। कांग्रेस कितना भी घोर विरोध करे, इन लोगों के पास मोदी की गारंटी है। और मोदी की गारंटी, यानि गारंटी पूरी होने की गारंटी।

साथियों,
इस धरती का संबंध तो गुरु नानक देव जी, गुरु गोविंद सिंह जी और उदासी संत गुरु रामराय जी से है। कांग्रेस ने देश का ऐसा बंटवारा किया कि गुरु नानक जी की वह पवित्र धरती हमसे छिन गई। दशकों तक अपने गुरू को हमें दूरबीन से देखना पड़ा। अब जाकर बीजेपी सरकार ने करतारपुर कॉरिडोर बनाकर लोगों की जिंदगी आसान की है। कांग्रेस कमज़ोरी ना दिखाती तो- हमारी सीमाओं पर नज़र डालने की किसी की हिम्मत ना होती। इतने बड़े सीमा विवाद ना होता। कांग्रेस ने कैसे अपने हाथों से मां भारती के टुकड़े किए, इसका एक और ताजा उदाहरण देश के सामने आया है। ये हमारा उत्तराखंड तो वीर माताओ की भूमि है जो वीर संतानों को जन्म देती है। यहां के वीर संतान मां भारती की एक-एक इंच जमीन के लिए अपनी जान की बाजी लगा देते हैं लेकिन यही कांग्रेस पार्टी अभी जो बात सामने आई है, बात तो तमिलनाडु की है लेकिन ये वीरों की भूमि है मातृभूमि की भक्ति क्या होती है उत्तराखंड को सिखाना नहीं पड़ता। उत्तराखंड के लोगों को भी ये कांग्रेस का गुनाह जानना जरूरी है। तमिलनाडु के पास समंदर में एक कच्चाथीवू टापू है द्वीप है। वो द्वीप भारत का हिस्सा था लेकिन कांग्रेस ने उसको श्रीलंका को दे दिया। अब इस द्वीप के आसपास भी कोई भारतीय मछुवारे गलती से चला जाता है, तो उसे गिरफ्तार कर लिया जाता है, जेल में बंद कर दिया जाता है। आप मुझे बताइए, ऐसी कांग्रेस, जो भारत के टुकड़े करने की बात उनके नेता करते हों, जो कच्चीथीवू द्वीप के दे देते हों क्या वो देश की रक्षा कर सकती है? जरा पूरी ताकत से बताइए... क्या देश की रक्षा कर सकती है? क्या कांग्रेस देश की रक्षा कर सकती है?

भाइयों और बहनों,
कांग्रेस ने तो देश के सीमावर्ती गांवों को भी देश का आखिरी गांव मानकर वहां विकास करना बंद कर दिया था। ये भाजपा की सरकार है जिसने सीमा किनारे बसे गांवों को देश का प्रथम गांव माना है, वहां तेज गति से विकास किया है। कांग्रेस की सरकार रहती तो आज भी पूर्व सैनिकों को वन रैंक वन पेंशन नहीं मिल पाती। लेकिन मोदी ने सैनिक परिवारों को गारंटी दी थी और इसे पूरा करके दिखाया। आज देशभर के सैनिक परिवारों को OROP के एक लाख करोड़ रुपए से ज्यादा मिल चुके हैं। इसमें से उत्तराखंड के भी हजारों परिवारों को लाभ हो रहा है। इसलिए ही मैं कहता हूं- नीयत सही, तो नतीजे सही।

साथियों,
चौबीस के इस चुनाव में अब स्पष्ट रूप से दो खेमें बन गए हैं। एक तरफ हमलोग ईमानदारी और पारदर्शिता जनता-जनार्दन के सामने लेकर के आए हैं, दूसरी तरफ भ्रष्टाचारी, परिवारवादियों का जमावड़ा है। ये भ्रष्टाचारी, मोदी को धमकी भी दे रहे हैं, दिन-रात गाली भी दे रहे हैं। अब देखिए, क्या खेल चल रहा है। हम हैं जो कह रहे हैं- भ्रष्टाचार हटाओ और वो कह रहे हैं- भ्रष्टाचारी बचाओ। आप मुझे बताइए भ्रष्टाचार हटना चाहिए कि नहीं हटना चाहिए? भ्रष्टाचार हटना चाहिए कि नहीं हटना चाहिए? भ्रष्टाचार से मुक्ति मिलनी चाहिए कि नहीं मिलनी चाहिए? भ्रष्टाचारी जेल जाने चाहिए कि नहीं जाने चाहिए? भ्रष्टाचारियों को सजा होनी चाहिए कि नहीं होनी चाहिए? ये देश की आवाज है और मोदी आपकी हर आवाज को सुनता है और इसके लिए ताकत भी लगा देता है। लेकिन साथियों हमें कितनी ही गालियां दी जाए, कितने ही आरोप लगाए जाए मोदी इनकी गालियों और आरोपों से डरने वाला नहीं है। हर भ्रष्ट पर कार्रवाई जारी रहेगी। और तीसरे टर्म की शुरुआत में अब दो सबा दो महीने रह गए हैं बहुत कम समय बाकी रह गया है। तीसरे टर्म में भ्रष्टाचार पर और तेज प्रहार होगा। ये मैं आपको गारंटी देने आया हूं। भ्रष्टाचार, हर गरीब का हक छीनता है, हर मध्यम वर्ग का हक छीनता है। और मैं गरीब का हक, मध्यम वर्ग का हक, किसी को छीनने नहीं दूंगा। ये मोदी की गारंटी है।

साथियों,
आने वाले 5 साल, अभूतपूर्व काम के और देशहित में बड़े फैसलों के होंगे। लेकिन इसके लिए, मेरी आपसे प्रार्थना है आपको मोदी को और मजबूत करना होगा। करोगे? करोगे? जरा सबके सब हाथ ऊपर करके बताओ कि मोदी को मजबूत करोगे? मोदी को नई ताकत दोगे? मोदी को नई ऊर्जा दोगे? उत्तराखंड की सारी सीटों पर भाजपा को ज्यादा से ज्यादा वोटों से विजय दिलाने के लिए मैं आपसे प्रार्थना करने आया हूं। नैनीताल-उधम सिंह नगर से हमारे अजय भट्ट जी चुनाव लड़ रहे है, अल्मोड़ा से अजय टमटा जी चुनाव लड़ रहे हैं। हमारे और दो साथी अपने-अपने क्षेत्र में हैं। हरिद्वार से त्रिवेंद्र सिंह रावत जी, टिहरी गढ़वाल से श्रीमती माला राज लक्ष्मी जी और गढ़वाल से भाई अनिल बलूनी जी...सभी को, इन पांचों मेरे साथियों को जिताकर के उत्तराखंड ये कमल दिल्ली पहुंचाए यही मेरी आपसे प्रार्थना है। और इसलिए... आपको याद रखना है... फिर एक बार...मोदी सरकार! ... फिर एक बार... फिर एक बार... चार जून..400 पार! चार जून... चार जून... अच्छा मेरा एक और काम करोगे? मेरा एक काम करोगे? ऐसा नहीं हाथ ऊपर करके बताओ करोगे? आप यहां से गांव जाएंगे तो वहां जो देवी देवता है वहां मोदी की तरफ से माथा टेकना है। करोगे? और गांव में सभी परिवारजनों को कहिएगा कि मोदी जी उत्तराखंड में आए थे और आपको प्रणाम भेजा है। मेरा प्रणाम पहुंचाओगे? घर-घर पहुंचाओगे? और एक बात इस बार गर्मी जरा ज्यादा ही तेजी से बढ़ रही है। कितनी ही गर्मी क्यों ना हो मतदान होगा कि नहीं होगा? ज्यादा से ज्यादा मतदान होगा। सुबह जल्दी-जल्दी मतदान होगा, जलपान से पहले मतदान होगा। मैं सभी से आग्रह करूंगा, गर्मी कितनी ही क्यों ना हो लेकिन लोकतंत्र की रक्षा के लिए हमें अपना दायित्व निभाना है। निभाएंगे? निभाएंगे?
मेरे साथ बोलिए.... भारत माता की.... भारत माता की... भारत माता की... भारत माता की... बहुत-बहुत धन्यवाद।

Explore More
ভারতের ৭৭তম স্বাধীনতা দিবস উপলক্ষে লালকেল্লার প্রাকার থেকে দেশবাসীর উদ্দেশে প্রধানমন্ত্রীর ভাষণ

জনপ্রিয় ভাষণ

ভারতের ৭৭তম স্বাধীনতা দিবস উপলক্ষে লালকেল্লার প্রাকার থেকে দেশবাসীর উদ্দেশে প্রধানমন্ত্রীর ভাষণ
10 years of Modi govt: How has the Indian economy fared?

Media Coverage

10 years of Modi govt: How has the Indian economy fared?
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM Modi's interview to Punjab Kesari, Jag Bani, Hind Samachar, and Navodaya Times
May 27, 2024

In an interview with Punjab Kesari, Jag Bani, Hind Samachar, and Navodaya Times, Prime Minister Modi discussed the Lok Sabha elections and the country's development. On the issue of farmers, he stated that farmers are our 'Annadatas.' He said that his government has undertaken work in the agricultural sector that no previous government had done. Regarding the opposition, he remarked that the INDI alliance lacks any plan or vision for the country's development and is therefore engaged in nonsensical rhetoric.

Following is the clipping of the interview: