কংগ্রেস এখনও একবিংশ শতাব্দীতে পৌঁছয়নি: হিমাচল প্রদেশের মান্ডিতে প্রধানমন্ত্রী মোদী
পুরো কংগ্রেসই মহিলা-বিরোধী: হিমাচল প্রদেশের মান্ডিতে প্রধানমন্ত্রী মোদী
কংগ্রেস হিমাচলকে ধ্বংসের দিকে নিয়ে যাচ্ছে: হিমাচল প্রদেশের মান্ডিতে প্রধানমন্ত্রী মোদী

काशी के सांसद की तरफ से, छोटी काशी में दूर-दूर से आए आप सभी परिवारजनों को प्रणाम। मांडव ऋषि की इस तपोस्थली से मैं सभी देवी-देवताओं को, तीर्थों को श्रद्धापूर्वक नमन करता हूं। मंडी आ जाएं तो पुरानी यादें भी आ जाती हैं साथ-साथ। काफी पुराने चेहरे भी नजर आ रहे हैं और पुरानी यादें भी बहुत ताजा हो जाती हैं। मैं आपके बीच में यहां बहुत लंबे समय तक रहा हूं। हमारे सरदार संतोष सिंह जी, अवरिन्द्र सिंह जी, गुरमान सिंह जी, आर के राजू कितने ही साथी, इनके साथ रह करके मैंने काम किया। औऱ उस समय हम लोग दूसरे नेताओं की रैलियों के लिए आय़ोजन करते थे, नीचे बैठ करके प्लानिंग करते थे कि कौन कहां बैठेगा। औऱ उस समय देखता था कि इतनी बड़ी रैली नहीं कर पाते थे, मैं खुद यहां काम देखता था, लेकिन आज जिस प्रकार से आपने माहौल बना दिया है, जो जनसैलाब उमड़ा है और मुझे मालूम है मंडी लोकसभा की रैली अपनेआप में पहाड़ चढ़ने जैसा है। कहां से कहां तक ये क्षेत्र फैला हुआ है। मंडी लोकसभा क्षेत्र, ब्यास औऱ सतलुज को आपस में जोड़ता है। किन्नौर, लाहोल स्पिति, बांगी, भरमौर-ये सारे इलाके तो कितने दुर्गम हैं। देखिए, इतनी बड़ी सभा, आपलोग दूर दूर से आए हैं, इतना उत्साह, इतना जोश, मंडी हो, कूल्लू हो, रामपुर हो, लाहौल स्पिति हो, किन्नौर हो, बांगी हो, भरमौर हो, चप्पे चप्पे से एक ही आवाज आ रही है, एक ही गूंज सुनाई दे रही है। फिर एक बार मोदी सरकार! फिर एक बार मोदी सरकार! फिर एक बार मोदी सरकार!

भाइयों और बहनों,

पालपपुर यहां से ज्यादा दूर नही है और आज मैं याद दिलाना चाहता हूं, ये भाजपा का पालमपुर बीजेपी की वर्किंग कमेटी थी औऱ पालमपुर बीजेपी वर्किंग कमेटी में, जो निर्णय हुआ इसी हिमांचल की धरती में उससे इतिहास रचा गया। इसी अधिवेशन में भाजपा ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण का संकल्प लिया था। इस देव भूमि में संकल्प हुआ था, पालमपुर में हुआ था। यानि हिमाचल, राम मंदिर के निर्माण की संकल्प भूमि है। हिमाचल में लिया गया वो ऐतिहासिक संकल्प सिद्ध हो चुका है। 500 साल का ये इंतज़ार किसने खत्म किया? 500 साल तक अविरत संघर्ष चला, कितनी पीढियों ने इंतजार इंतजार करते करते अपना जीवन पूरा कर दिया, लाखों लोगों ने शहादत दी। अब वो 500 साल का इंतजार खत्म हुआ। किसने किया? ये इंतजार खत्म किसने किया? इस इंतजार को खत्म किसने किया? जरा आवाज, दबी हुई लग रही है किसने किया? किसने किया? किसने किया? आपका जवाब शत प्रतिशत गलत है। ये इंतजार खत्म किया है आपके एक वोट ने। ये आपके वोट की ताकत है, जिसने पांच सौ साल का इंतजार खत्म किया। आज अयोध्या में रामलला विराजमान हुए , हिमाचल खुश हुआ है, देवी-देवता खुश हुए हैं लेकिन कांग्रेस इससे खुश नहीं हुई है। अगर आपके एक वोट ने मोदी की ताकत नहीं बढ़ाई होती तो कांग्रेस कभी राम मंदिर नहीं बनने देती। ये आपको एक वोट की ताकत है।

साथियों,

आपके एक वोट ने जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 की दीवार को गिरा दिया। आपके एक वोट ने, हिंदू, सिख और बौद्ध शरणार्थियों को नागरिकता देने वाला CAA कानून बनाया। आपके एक वोट ने हमारे पूर्व सैनिकों को वन रैंक वन पेंशन दिलवाई। आपके एक वोट ने भारत को दुनिया की 5वीं बड़ी आर्थिक ताकत बनाया। और ये आपका ही वोट है जिसने विधानसभा और लोकसभा में महिलाओं के लिए आरक्षण का प्रावधान किया है।

भाइयों और बहनों,

चौबीस के इस चुनाव में 5 चरणों के चुनाव हो चुके हैं। इन पांच चरणों में BJP-NDA को बहुमत से ज्यादा सीटें मिल चुकी हैं। अब इसमें हिमाचल की चार सीटें जुड़ जाएंगी, तो सोने पर सुहागा हो जाएगा। और मैं देख रहा हूं, फिर एक बार मोदी सरकार! फिर एक बार मोदी सरकार! औऱ उसके लिए 4-0 से हैट्रिक बनाने जा रहा है। देश लगातार तीसरी बार कांग्रेस को रिजेक्ट करने जा रहा है।

साथियों,

आपने दशकों तक कांग्रेस का शासन देखा है। कांग्रेस को ऐसा भारत पसंद है जहां गरीबी हो, संकट हो, नागरिक समस्याओं से घिरे हों, इसलिए वो देश में पुराने हालात वापस लाना चाहती है। वो देश के विकास में रिवर्स गीयर लगाना चाहती है। और इसलिए कांग्रेस कह रही है, अगर हम सत्ता में आएगें तो 370 को वापस लाएंगे। कांग्रेस कह रही है, CAA को खत्म करेंगे। कांग्रेस के साथी को यहां तक पागलपन आया है, कह रहे हैं कि हमारे परमाणु हथियार खत्म करेंगे। चुनाव में घोषणा कर रहे हैं।

साथियों,

मोदी ने समान नागरिक संहिता का संकल्प लिया है। भारत का नागरिक, भले ही वो हिंदू हो, मुस्लिम हो, सिख हो या ईसाई हो, बौद्ध हो, उसके लिए एक समान नागरिक कानून होने चाहिए, लेकिन कांग्रेस समान नागरिक संहिता का विरोध कर रही है। कांग्रेस मुस्लिम पर्सनल लॉ के बहाने शरिया को समर्थन देती है। क्या देश को, हिमाचल को ऐसी कांग्रेस मंजूर है? ऐसी कांग्रेस मंजूर है? भाइयों और बहनों, कांग्रेस घोर सांप्रदायिक है। कांग्रेस घोर जातिवादी है। कांग्रेस घोर परिवारवादी है।

साथियों,

इस देश को वो नहीं बना सकते जो सिर्फ बाप-दादा की विरासत पर ही जीते हैं। इस देश को वो बनाएंगे हैं जो मिट्टी से उठकर पहाड़ जितनी ऊंचाइयां छूते हैं। इसलिए, आज भारत का भविष्य हमारे स्टार्ट अप्स शुरू करने वाले नौजवान हैं।आज भारत का भविष्य, स्पेस में अपनी सैटेलाइट भेजने वाले नौजवान हैं।आज भारत का भविष्य, खेतों में ड्रोन उड़ा रही बेटियां हैं। आज भारत का भविष्य, लड़ाकू विमान उड़ा रही बेटिया हैं। इसलिए, बहन कंगना भी सिर्फ हमारी कैंडिडेट भर नहीं हैं, ये देश के नौजवानों की, हमारी बेटियों की aspirations को represent करती हैं। बेटियां भी एकदम नई फील्ड में जाकर, अपने दम पर successful हो सकती हैं, ये इस विश्वास को रिप्रेज़ेंट करती हैं। लेकिन
साथियों, कांग्रेस उसी दकियानूसी सोच में डूबी हुई है। आपने देखा है, अपने दम पर सफलता हासिल करने वाली बेटियों को कांग्रेस क्या बोलती है? कांग्रेस ने मंडी का नाम लेकर कंगना जी के लिए जो भद्दी बातें कही हैं, वो मंडी का अपमान है, वो छोटी काशी का अपमान है, हिमाचल का अहमान है, हिमाचल की हर बेटी का अपमान है। जिस हिमाचल में शिकारी माता, मां ज्वाला, मां चिंतपूर्णी, मां भीमाकाली की पूजा होती है, वहां की बेटी का ऐसा अपमान आज तक कांग्रेस के शाही परिवार ने इसके लिए माफी नहीं मांगी है। क्या आपको ऐसा अपमान मंजूर है क्या? ऐसा अपमान करने वालों को सजा देंगे क्या ? इस चुनाव में हर पोलिंग बूथ में चुन चुन करके इनको साफ कर दीजिए।

भाइयों और बहनों,

ये कांग्रेस, अभी भी 21वीं सदी में आ ही नहीं पाई। लोग आगे बढ़ते हैं, कांग्रेस उल्टा चलती है। ये 20वीं सदी, 19 वीं सदी, की तरफ जा रही है। कांग्रेस का शाही परिवार घोर बेटी विरोधी है। पूरी कांग्रेस घोर महिला विरोधी है। लेकिन हिमाचल के मेरे परिवारजनों, मेरी बात लिख लीजिए, आप अपनी बेटियों को खूब पढ़ाइए। उनको खुला सुरक्षित माहौल देने और नई बुलंदियां देने की गारंटी, ये मोदी की गारंटी है। मैंने सैनिक स्कूलों और डिफेंस अकेडमी के दरवाज़े बेटियों के लिए खोल दिए हैं। मैंने सेना में बेटियों के लिए जो दरवाजे पहले बंद थे, वो भी खोल दिए हैं।10 साल में केंद्रीय बलों में महिलाओं की संख्या दो गुने से अधिक हो चुकी है। फाइटर पायलट हों या फिर पैसेंजर जहाज़ों की पायलट, बेटियों के लिए आने वाले 5 साल बुलंद उड़ान के होने वाले हैं। और ये, अगर आप लिखते हैं तो लिख लेना, पत्रकार भी मेरी इस बाइट को भी सेव करके रख लेना, बड़ी जिम्मेवारी से कह रहा हूं, यहां जैसी सरकार ने झूठे वादे किए थे न, वो मोदी का काम नहीं। औऱ इसलिए कहता हूं, ये मोदी की गारंटी है। ये मोदी की गारंटी है।

भाइयों और बहनों,

कांग्रेस को सिर्फ धोखा देना और ताला लगाना ही आता है। कहां तो हिमाचल में लाखों नौकरियां देने की घोषणा की थी, और कहां सर्विस कमीशन में ही इन्होंने ताला लगा दिया। और इन्होंने सिर्फ सर्विस कमीशन पर सिर्फ ताला नहीं लगाया, उन्होंने हमारे हिमाचल प्रदेश के बेटे बेटियों नवजवानों को भविष्य के उनके ताला लगा दिया है। मेरे मित्र, जयराम जी ने, सरकार के समय में सैकड़ों संस्थान खोले थे, कांग्रेस ने उनमें ताला लगा दिया। मंडी में बड़ा एयरपोर्ट बनाने की प्रक्रिया चल रही थी, कांग्रेस ने उस पर ताला लगा दिया। क्या मंडी में हवाई अड्डा बनना चाहिए की नहीं बनना चाहिए? टूरिज्म के लिए जरूरी है की नहीं है ? उस पर भी ताला लगा दिया। यहां बहनें 1500 रुपए का इंतज़ार कर रही है, 1500 रूपया मिला क्या ? सवाल 1500 रूपए का नहीं है, सवाल आपने हमारे साथ धोखा किया है। आज हिमाचल का एक एक नागरिक, हर्ट फिल कर रहा है। उसको लगता है कि इतना बड़ा धोखा, चुनाव के समय ऐसी ऐसी बातें करके वोट ले गए और अब हाथ ऊपर करके बैठ गए। कोई बातें नहीं होती हैं, समझ सकते हैं। देश, धोखेबाजों को कभी माफ नहीं करता है। और मैं जानता हूं हिमाचल को, हिमाचल के जीवन में कर्मचारी ही एक बहुत बड़ी जिंदगी है। पूरा परिवार उसके भरोसे चलता है, आधे से ज्यादा हिमाचल की जिंदगी उससे जुड़ी हुई है। उस कर्माचरी के साथ कितना बड़ा धोखा किया। वो महंगाई भत्ते का आज भी इंतज़ार कर रहा है। ये कैसी सरकार चला रहे हो तुम ? आपदा के बाद केंद्र ने सैकड़ों करोड़ रुपए भेजे, यहां उसकी भी बंदरबांट कर दी गई। और मेरे शब्द लिख कर रखिए, ये सरकार का कोई भविष्य नहीं है, ये सरकार का जाना तय है। औऱ मैं पहला काम करूंगा, मैंने आपदा के समय जो पैसे भेजे हैं,उस पैसे में कहां कहां बंदरबाट हुई, किस ने उसमें से चोरी की है, मैं सारा खोज करके निकालूंगा और मंडी के लोगो के हाथ में दूंगा। डेढ़ साल में ही हिमाचल इस धोखेबाज़ी से तंग आ चुका है।

भाइयों और बहनों,

मोदी हिमाचल के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। मुझे याद है कि जब हम पहले चंडीगढ़ से आते थे तो स्वारघाट का सफर मार देता था। मंडी पहुंचते-पहुंचते कमर टूट जाती थी। अब कीरतपुर-मनाली फोर लेन और और अटल टनल ने चंडीगढ़ से लेकर लाहौल तक का सफर सुहाना कर दिया है। अब लाहौल से भी फल-सब्ज़ी तेज़ी से मंडियों तक पहुंच रहे हैं और पर्यटन भी फल-फूल रहा है।

साथियों,

हिमाचल में बौद्ध धर्म के महत्वपूर्ण स्थान हैं। कांग्रेस की सरकार तो इतनी डरपोक थी कि दलाई लामा जी का नाम लेने से भी डरती थी, कांपते थे। मेरी तो दलाई लामा जी से अक्सर बात होती है। वो हमारी समृद्ध विरासत के प्रणेता हैं। भारत, बुद्ध का देश है और मोदी सरकार ने ज़ोर शोर से अपनी इस विरासत का प्रचार प्रसार किया है। इसका लाभ हिमाचल के पर्यटन को भी होगा।

साथियों,

हिमाचल का, देश का गौरव और समृद्धि बढ़ाने के लिए आपका एक-एक वोट ज़रूरी है। कांग्रेस यहां पर हिमाचल को बर्बादी के रास्ते पर ले जा रही है। इसलिए इसे रोकना जरूरी है। हिमाचल को कांग्रेस से शिकंजे से निकालने में मुझे आपका साथ चाहिए। मैं हिमाचल की जनता से आग्रह करूंगा कि यहां विधानसभा उपचुनाव में भी सभी 6 की 6 सीटें बीजेपी को जिताएं। हिमाचल का भविष्य सुनिश्चित करें, लाहौल-स्पिति से बीजेपी उम्मीदवार रवि ठाकुर जी तो मंच पर मौजूद भी हैं। उन्हें और उनके बाकी 5 साथियों को भारी मतों से विजयी बनाना है। इसके अलावा लोकसभा में मंडी सीट से बहन कंगना जी को आफका वोट मिले, वो आपकी आवाज बनेंगी औऱ यहां के विकास के लिए अपने आपको खपा देगी। हिमाचल की चारों लोकसभा सीटों पर बीजेपी की बंपर जीत का नया रिकॉर्ड बनाना है। करेंगे? गांव-गांव जाएगें? घर -घर जाएगें? ज्यादा से ज्यादा मतदान कराएगें? हर पोलिंग बूथ पर विजय दिलाएगें? पक्का? वादा? गारंटी? आपकी भी ? मेरी भी। अच्छा एक और काम करना है। एक काम करना है, मेरा काम करना है, करेंगे? कमाल हो यार, मैं इन लोगों के लिए कह रहा तो , उछल उछल कर बोल रहे थे, मैं जो कह रहा हूं तो ठंडे पड़ गए। मेरा एक काम करोगे? पक्का करोगे? ये चुनाव का काम नहीं है। करोगे? मेरा पर्सनल काम है, करोगे? मेरी भक्ति से जुड़ा हुआ काम है। देखिए, मैंने हिमाचल में बहुत समय निकाला है औऱ मैं, हमारे देवी देवता, उनके आशिर्वाद, ये मेरी बहुत बड़ी शक्ति है। लेकिन मैं, इतना समय निकाल नहीं पाता हूं, मैं जा नहीं पाता हूं। तो मुझे आपकी मदद चाहिए। मेरी तरफ से हर गांव में, जितने भी देवी देवता हैं मेरी तरफ से मत्था टेकना, शीश नवाइएगा और सभी देवी देवाताओँ से आशिर्वाद चाहिए। मोदी के लिए,नहीं। मोदी के परिवार के लिए, नहीं। मोदी की बिरादरी के लिए. नही। मुझे मेरे देश के उज्जवल भविष्य के लिए आशिर्वाद चाहिए। विकसित भारत बनाने के लिए आशिर्वाद चाहिए। विकसित हिमचाल बनान के लिए आशिर्वाद चाहिए।

मेरे साथ बोलिए- भारत माता की जय!

भारत माता की जय!

भारत माता की जय!

बहुत बहुत धन्यवाद !

Explore More
ভারতের ৭৭তম স্বাধীনতা দিবস উপলক্ষে লালকেল্লার প্রাকার থেকে দেশবাসীর উদ্দেশে প্রধানমন্ত্রীর ভাষণ

জনপ্রিয় ভাষণ

ভারতের ৭৭তম স্বাধীনতা দিবস উপলক্ষে লালকেল্লার প্রাকার থেকে দেশবাসীর উদ্দেশে প্রধানমন্ত্রীর ভাষণ
Budget 2024: Small gets a big push

Media Coverage

Budget 2024: Small gets a big push
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
সোশ্যাল মিডিয়া কর্নার 23 জুলাই 2024
July 23, 2024

Budget 2024-25 sets the tone for an all-inclusive, high growth era under Modi 3.0