From where hope from Congress ends, from there Modi's guarantees start, says PM Modi in Sagwara
Congress never helped crores of Adivasis in our country... the BJP made a separate ministry for them and increased the budget for the welfare of Adivasis: PM Modi
In Sagwara, PM Modi says it is important to send away Congress so that all the central government schemes can be implemented faster in Rajasthan

भारत माता की। (पहले यहां सुनने की तकलीफ हो रही थी, अभी ठीक है। सुनाई दे रहा है, उधर पीछे भी सुनाई दे रहा है।)
भारत माता की। भारत माता की।
गोविंद गुरू महाराज की जय! गोविंद गुरू महाराज की जय!
बेणेश्वर धाम की जय!
मावजी महाराज की जय!
श्रीनाथजी की जय
माँ त्रिपुरा सुंदरी की जय!
क्षेत्रपाल दादा की जय!
रघुनाथ दादा सरकार की जय!
राम राम !

केम छो बदा, आपने त साख पड़ोसी एटले। आपके बीच आना तो ऐसा लग रहा है जैसे घर आया हूं। ये वो मिट्टी है जिसने ऐसे वीर पैदा किए हैं, जिन वीरों ने महाराणा प्रताप की कीर्ति बढ़ाने में अपने खून-पसीने का योगदान दिया था। मैं काली बाई के बलिदान को, मानगढ़ धाम में बलिदान देने वाले गोविंद गुरू के अनुयायियों को भी आज श्रद्धापूर्वक नमन करता हूं।

मेरे परिवारजनों,
डुंगरपुर और बांसवाड़ा इलाके में कई बार आया हूं। शायद मेरे पास हिसाब नहीं होगा, इतनी बार आया हूं। आपलोगों के साथ मेरा नाता भी उतना तगड़ा रहा है। लेकिन आज जो मैं यहां जनसागर देख रहा हूं और वहां पीछे तक लोग खड़े हैं। मैं सबसे पहले तो आदिवासी क्षेत्र हो, दूर-दूर गांवों से आना हो, मैं आप सबको सचमुच में प्रणाम करता हूं क्योंकि आप में कई लोग सुबह पांच-पांच छह-छह बजे चले होंगे। ये प्यार ये आशीर्वाद शायद ही किसी को ऐसा सौभाग्य मिलता होगा, जो आशीर्वाद आप मुझे दे रहे हैं। साथियों, डुंगरपुर और बांसवाड़ा यानि वागड़ की इस पावन धरा पर मुझे अनेक बार आने का अवसर तो मिला है। कई बार ये पता लगाना भी मुश्किल हो जाता है कि हम राजस्थान में हैं कि गुजरात में हैं। यहां तो सैकड़ों सालों से मावजी महाराज का चोपड़ा खुलता रहा है। जिस धरती को सटीक भविष्यवाणी के लिए मावजी महाराज का आशीर्वाद मिला है, वहां ये साफ-साफ दिख रहा है कि भाजपा आ रही है। और ये भूमि मावजी महाराज की तपस्या की भूमि है। यहां से निकली हर भविष्यवाणी शत-प्रतिशत सही निकलती है। ऐसा ही है न। ऐसा ही है न। तो मैं मावजी महाराज को प्रणाम करते हुए उनके आशीर्वाद लेते हुए आज एक भविष्यवाणी करने की हिम्मत कर रहा हूं। करूं? मेरी ये भविष्यवाणी ये मेरी नहीं है, इस पवित्र धरती की ताकत है कि मेरे मन में ये विचार आया है। और इसीलिए बोलने की हिम्मत कर रहा हूं। और मावजी महाराज से क्षमा मांगकर बोलने की हिम्मत कर रहा हूं। पूरे राजस्थान के लोग लिखकर के रखें इस बार तो नहीं, अब राजस्थान में कभी भी अशोक गहलोत की सरकार नहीं बनेगी। कभी भी नहीं, ये मावजी महाराज की धरती पर से बोले गए शब्द हैं। और ये मावजी महाराज की धरती से बोला गया शब्द कभी गलत नहीं हो सकता है। कांग्रेस के लोग जहां भी वोट मांगने जा रहे हैं, वहां उनको एक ही जवाब मिल रहा है, एक ही जवाब मिल रहा है। लोग कहते हैं, बच्चे-बच्चे बोलते हैं, बूढ़े बोलते हैं, बुजुर्ग बोलते हैं, वृद्ध माताएं बोल रही हैं, महिलाएं कह रही हैं- गहलोत जी...गहलोत जी...कोनी मिले वोट जी !!! गहलोत जी...कोनी मिले वोट जी !!! और अब तो ये बात राजस्थान में सोशल मीडिया में बच्चों में जैसे स्पर्धा चल पड़ी है। हर घर से बच्चे वीडियो पर ये वाक्य रखकर के सोशल मीडिया में डाल रहे हैं। बच्चे भी बोल रहे हैं...गहलोत जी...कोनी मिले वोट जी !!!

मेरे परिवारजनों,
वागड़ क्षेत्र तो कांग्रेस के कुशासन का बहुत बड़ा भुक्तभोगी रहा है। कांग्रेस के कुशासन से कैसे युवाओं के सपने चकनाचूर हुए हैं, ये डुंगरपुर के लोग अच्छी तरह जानते हैं। कांग्रेस सरकार ने राजस्थान में हर सरकारी भर्ती में घोटाला किया है। किया है कि नहीं किया है? घोटाला ही घोटाला किया है न। कांग्रेस के नेताओं और उनके करीबियों के बीच ऐसा कारोबार, ऐसा कारोबार कि उनके बच्चे तो अफसर बन गए और आपके बच्चे, चुन-चुन कर बाहर कर दिए गए। ये आपके साथ जुल्म है कि नहीं है? आपके बच्चों के साथ अन्याय है कि नहीं है? आपके बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है कि नहीं है? ऐसे लोगों को राजस्थान की धरती पर से चुन-चुन करके साफ करना चाहिए कि नहीं करना चाहिए? जिन्होंने चुन-चुन कर आपके बच्चों के भविष्य को तबाह किया है उनको भी चुन-चुनकर साफ करना चाहिए कि नहीं करना चाहिए? करोगे? जरा पीछे से हाथ ऊपर करके जवाब दीजिए करोगे? शाबाश! कांग्रेस के पाले हुए पेपरलीक माफिया ने राजस्थान के युवाओं का भविष्य बर्बाद कर दिया है। आज जो कांग्रेस नेताओं के यहां छापे में निकल रहा है... आज जो लॉकरों से सोने की ईंटें निकल रही हैं, काले कारनामों की लाल डायरी...ये लाल डायरी के जो पन्ने खुल रहे हैं...वो कांग्रेस की सरकार की लाल डायरी में काली सच्चाई है।

मेरे परिवारजनों,
लोकतंत्र ने आपको कुशासन वाली इस कांग्रेस सरकार को बदलने का मौका दिया है। ये मौका हाथ से जाने नहीं देंगे न। कभी-कभार एक छोटी गलती पांच साल भुगतने के लिए मजबूर कर देती है। आपका एक वोट भी कमल के फूल के अलावा किसी दूसरे-तीसरे दल को मिला, तो वो सीधा कांग्रेस को ही जाएगा। ये जो दूसरे लोग खड़े हैं न वो उनकी योजना से खड़े हैं। तो ऐसी गलती नहीं करोगे न? ये जरा घर-घर जाकर समझाना। ये पिछली बार भी पाप कर गए, आपकी आंखों में धूल झोंक गए। और इस बार नया नाम लेकर कर रहे हैं। और इसलिए आपको याद रखना है...कांग्रेस का सूपड़ा साफ करो...। राजस्थान को दंगों, अपराधों, बहनों-बेटियों पर अत्याचार और भ्रष्टाचार से मुक्त करो। राजस्थान से कांग्रेस की विदाई इसलिए भी जरूरी है, ताकि यहां केंद्र सरकार की हर योजना तेजी से लागू हो। मोदी कितना ही चाहे, आपको कितना ही प्यार करे, सबकुछ करने के लिए पैसे भेजे लेकिन जयपुर में अगर ऐसे लोग बैठ जाएं कि पहुंचेगा ही नहीं तो मोदी भी क्या करेगा? तो मोदी को भी तो काम करने का मौका मिलना चाहिए न? आपके सपने मेरे संकल्प हैं, मैं उसे पूरा करना चाहता हूं। और इसीलिए सारी रुकावटें दूर करिए। 21वीं सदी के राजस्थान को विकास के लिए निवेश और नौकरी बहुत जरूरी है। और ये सिर्फ बीजेपी ही कर सकती है। आप लोग तो गुजरात के हर गली-मोहल्ले को जानते हो। आप में से कोई ऐसा नहीं होगा जो गुजरात में गया न हो या उसके रिश्तेदार गुजरात में रहते न हो। इतनी प्रगति वहां दिख रही है, राजस्थान में क्यों नहीं दिख रही है भई? वहां की जनता ने कमल पर भरोसा किया, भाजपा पर भरोसा किया और तेज गति से आगे बढ़ते चले गए और यहां उनके घर भरते गए, उनके बंगले बनते गए, आपके बच्चों के लिए कुछ नहीं हुआ। कांग्रेस चाहे वादों की पूरी लाल डायरी, उसी को लेकर क्यों न घूमती फिरे, मोदी की गारंटी, इनके हर झूठे वायदों पर भारी है। गरीब कल्याण, जन कल्याण को लेकर जहां कांग्रेस से उम्मीद खत्म होती है, वहां से मोदी की गारंटी शुरू होती है।

साथियों,
कांग्रेस ने दशकों के अपने शासनकाल में जो सोचा तक नहीं, वो बीते 10 साल में आपके सेवक ने देशवासियों के चरणों में समर्पित कर दिया है। किसी ने कल्पना भी नहीं की थी कि कभी भारत के 80 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन मिलेगा। क्या कभी सोचा था? 80 करोड़ लोगों को तीन साल से मुफ्त राशन। ये कांग्रेस सरकार थी, जिसके राज में अनाज सड़ जाता था, लेकिन इन्होंने गरीबों को अनाज देने से मना कर दिया था। गरीब की मां के कोख से पैदा हुआ ये बेटा, वो आपकी चिंताएं, मुसीबतें समझता है और इसीलिए आपके इस सेवक ने संकल्प लिया है कि मुफ्त राशन की ये योजना आने वाले 5 साल तक चालू रहेगी।

साथियों,
कभी गरीब को मुफ्त इलाज मिलेगा, दवाएं 80 प्रतिशत सस्ती होंगी, ये भी किसी ने नहीं सोचा था। मोदी ने आयुष्मान भारत योजना और जन औषधि केंद्रों से ये भी संभव कर दिखाया। कांग्रेस ने तो गरीब को, आदिवासी को, झुग्गियों में रखा, खुले में शौच के लिए मजूबर किया। कांग्रेस ने गरीब को धुएं में जीने के लिए मजबूर रखा, पानी के लिए दर-दर भटकने के लिए मजबूर किया। देश की करोड़ों बहनों ने कांग्रेस से कभी उम्मीद भी नहीं की थी, उन्हें इन मुश्किलों से मुक्ति मिलेगी। इसलिए मैं कहता हूं...जहां से कांग्रेस से उम्मीद बंद होती है...जहां से कांग्रेस से उम्मीद बंद होती है, वहां से मोदी की गारंटी शुरू होती है। आज इन सारी मुश्किलों से देश की, राजस्थान की मेरी बहनों को मुक्ति मिलने लगी है।

मेरे परिवारजनों,
हमारे देश के करोड़ों आदिवासियों को कांग्रेस ने कभी नहीं पूछा। ये भाजपा है जिसने आदिवासी कल्याण के लिए अलग मंत्रालय बनाया। ये भाजपा है जिसने आदिवासी कल्याण का बजट भी कई गुना बढ़ा दिया। कांग्रेस के समय में 8 या 10 वन उपज पर ही MSP मिला करती थी। भाजपा सरकार में अब करीब-करीब 90 वन उपजों पर MSP मिला करती है। आपका पशुधन सुरक्षित रहे, इसके लिए भाजपा सरकार 15 हजार करोड़ रुपए से पशुओं के टीकाकरण का अभियान चला रही है। जैसे हमने कोविड में लोगों को मुफ्त वैक्सीन दिया था न। आपको वैक्सीन मिला था न, मुफ्त में टीका लगा था न। अब मोदी पशुओं के लिए भी मुफ्त टीकाकरण कर रहा है, हजारों करोड़ रुपये लगा रहा है। आपको याद है ना कि इसी गहलोत सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल में वन क्षेत्र में मवेशी चराने पर, आपको याद होना चाहिए, भूलना मत। मवेशी चराने पर, घास काटने पर जुर्माने को 500 रुपए से बढ़ाकर 25 हजार रुपए कर दिया था। ये तो बाद में जब भाजपा सरकार आई तो उसने गहलोत के पापी निर्णयों को खत्म किया था और आपको बचा लिया था, भूलना मत।

कांग्रेस गरीब आदिवासियों से पुराने जमाने के अंग्रेज जैसे दिमाग रखते थे न, वैसे ही अंग्रेज जैसे हिंदुस्तान के लोगों को गुलाम मानते थे न, आजादी के बाद भी कांग्रेस आदिवासियों के साथ वैसा ही व्यवहार करती है। सहज, सच्चे और वफादार मेरे आदिवासी भाई – बहनों के स्वाभिमान को कांग्रेस ने हमेशा चोट पहुंचाई है। हमें आदिवासी भाइयों बहनों की, उनके सम्मान, उनकी शिक्षा और स्वास्थ्य की चिंता है। इसलिए डूंगरपुर में केन्द्रीय सहायता से मेडिकल कॉलेज खोला गया। बांसवाड़ा में गोविन्द गुरू जनजाति विश्वविद्यालय भाजपा सरकार ने प्रारम्भ किया। प्रतापगढ़ में महाराणा प्रताप के नाम पर आर्म्स बटालियन के गठन के लिये भूमि का आवंटन कर दिया गया है। आदिवासी क्षेत्र की वर्तमान में चल रही रिक्तियां भी सरकार बनते ही जल्द से जल्द भरी जाएंगी। मानगढ़ धाम के विकास को पूरा करने के लिए भी भाजपा सरकार यहां पूरी शक्ति से काम करेगी। जिस प्रकार पूरे देश में अपने तीर्थों का भाजपा सरकार कायाकल्प कर रही है, वैसे ही मानगढ़ और बेणेश्वर धाम का विकास होगा। डूंगर बरंडा और बांसिया चरपोटा जैसे हमारे आदिवासी नायकों को भी उचित सम्मान भाजपा ही दे सकती है।

साथियों,
कांग्रेस कभी अपने एक परिवार के आगे किसी को नहीं देखती। जो कांग्रेस के परिवार की ओर आंख उठाकर भी देख लेता है, कांग्रेस उसे नीचा दिखाने के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ती। कांग्रेस ने बाबा साहब के साथ भी यही किया। कांग्रेस ने सरदार पटेल को भी इसी तरह अपमानित किया। भाजपा ने बाबा साहब अंबेडकर से जुड़े प्रमुख जिलों को पंचतीर्थ के रूप में विकसित कराया है। आप सभी के सहयोग से आज गुजरात में केवडिया में एकता नगर में विश्व की सबसे ऊंची सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा...और मैं आप डूंगरपुर के लोगों को कहूंगा कोई परिवार ऐसा नहीं होना चाहिए जो स्टैच्यू ऑफ यूनिटी न देखा हो। सरदार पटेल का ये भव्य स्मारक न देखा हो। आप कार्यक्रम बनाइए, जाइए, आप देखेंगे कैसा बड़ा सम्मान सरदार पटेल को हमने दिया है। ये तो कोई भाजपा के कार्यकर्ता नहीं थे। लेकिन जो देश के लिए करते हैं न हम उनके लिए जीते हैं। हर रोज हजारों लोग स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने के लिए वहां जाते हैं। लेकिन आजतक कांग्रेस का एक भी नेता स्टैच्यू ऑफ यूनिटी नहीं गया। और यही कांग्रेस की सच्चाई है। और इसीलिए ये कांग्रेस से बहुत सावधान रहना। कांग्रेस न दलितों की है, न पिछड़ों की, न आदिवासियों की, न गरीब की। कांग्रेस सिर्फ और सिर्फ एक परिवार की गुलाम होकर रह गई है।

कल मैं जयपुर में रोडशो कर रहा था तो वहां बड़े-बड़े होर्डिंग लगे थे कांग्रेस के चुनाव के। यहां के मुख्यमंत्री की तस्वीर थी लेकिन प्रदेश अध्यक्ष की तस्वीर नहीं थी। उसमें कांग्रेस के एक एमपी की तस्वीर थी लेकिन कांग्रेस के अध्यक्ष जो दलित है, और 40-50 साल का संसदीय जीवन का अनुभव है, कांग्रेस में सबसे सीनियर कुनबे में से एक है, उनकी फोटो नजर नहीं आ रही है। कांग्रेस में दलितों के साथ क्या होता है, ये आप जयपुर में जाकर के... मैंने तो कल देखा तो चौंक गया। अरे भई कम से कम इतने बड़े दलित नेता है खड़गे जी, उनकी एक फोटो लगा देते तो तुम्हारी नौकरी नहीं चली जाती। लेकिन सिर्फ एक परिवार की भक्ति, सिर्फ एक परिवार की भक्ति।

कुछ दिन पहले ही आदिवासी समाज के लिए पीएम जनजाति आदिवासी न्याय...सामाजिक न्याय तो हमने बहुत सुना है...मोदी ने उससे भी आगे बढ़कर के आदिवासी न्याय महा अभियान...आदिवासी समाज को न्याय मिले, आदिवासी समाज में सबसे आखिरी हैं, उनको न्याय मिले...इसीलिए पीएम जनजाति आदिवासी न्याय महा अभियान शुरु किया गया है। 24 हज़ार करोड़ की ये योजना आदिवासी समाज का जीवन बदलने वाली है।

मेरे परिवारजनों,
जब तक इस देश का एक भी गरीब चिंता में है, तब तक मोदी निश्चिंत नहीं हो सकता। जब तक आप सभी तक ये गारंटियां पहुंच नहीं जातीं, तब तक मोदी चैन से नहीं बैठ सकता। और इसीलिए जनजातीय गौरव दिवस पर, भगवान बिरसा मुंडा के जन्म दिवस पर, 15 नवंबर को मोदी की गारंटी वाली सैकड़ों गाड़ियां निकल पड़ी है, सैकड़ों गाड़ियां चल पड़ी है पूरे देश में, ये मोदी की गारंटी की गाड़ी है। जिस-जिस लाभार्थी को अभी ये सुविधाएं नहीं मिली हैं, आने वाले दिनों में उनके गांव में ये गारंटी वाली गाड़ी गांव-गांव जाएगी, अफसर सब लोग लिखेंगे, और जो बाकी रह गया है उनकी सूची बनेगी, और मोदी ये गारंटी भी पूरी करेगा।

जो युवा साथी यहां हैं, जो पेपरलीक के पीड़ित हैं, उनको बता देना कि भाजपा आपके लिए लाखों नौकरियां लेकर आ रही है। और यहां के गरीब...यहां के मध्यम वर्ग को भी मैं एक बात याद दिला दूं- भाजपा आने वाली है, भाजपा आने वाली है, और मोदी की गारंटी है, आपको राहत मिलने वाली है। कांग्रेस ने राजस्थान को देश का बहुत महंगा प्रदेश बना दिया है। यहां डूंगरपुर और आसपास के क्षेत्र में तो दोपहिया वाहनों की, मोटरसाइकिलों की खूब बिक्री होती है। हरेक का सपना रहता है। वो शादी के पहले भी सोचता है ले आऊं। लेकिन आप तो मोटरसाइकिल तो लाते हैं, बढ़िया सेल्फी भी निकाल देते हैं। लेकिन आपको पता है ये राजस्थान सरकार ने आपसे रोज-रोज कैसे लूटती है। देखिए हरियाणा में भाजपा सरकार है, यूपी में भाजपा सरकार है, यहां आपके पड़ोस में भाजपा सरकार है, वहां जो एक लीटर पेट्रोल का खर्चा होता है, आपके राजस्थान में एक लीटर पर 12-13 रुपया ज्यादा मार लेने का काम गहलोत करते हैं। अगर एक दिन में दो लीटर, तीन लीटर, पांच लीटर पेट्रोल डलवाते हो तो वो आपका 25 रुपया, 50 रुपया, 100 रुपया जेब से निकाल देते हैं। आपको मैं गारंटी देता है राजस्थान में भाजपा सरकार बनते ही पेट्रोल-डीजल दामों की समीक्षा होगी और जनहित में फैसले भी होंगे।

राजस्थान भाजपा ने हमारी बहनों-बेटियों को गैस सिलेंडर भी बहुत सस्ता करने की गारंटी दी है। मैं आज राजस्थान के सभी सरकारी कर्मचारियों से भी एक बात कहूंगा। यहां कांग्रेस ने आपके साथ जो विश्वासघात किया है, उसका दुख मैं समझ सकता हूं। कांग्रेस की लूट की वजह से यहां सरकारी खजाना खाली हो चुका है। महीनों-महीनों सरकारी कर्मचारियों के पैसे सरकार के पास अटके रहते हैं और उनकी कोई सुनवाई नहीं होती। यहां ग्रैचुइटी और पीएफ के पैसे तक मिलना मुश्किल हो गया है। कांग्रेस ने यहां व्यवस्था में जितनी बीमारियां लगाई हैं...भाजपा हर बीमारी का इलाज करेगी।

मेरे परिवारजनों,
भाजपा की केंद्र सरकार, इस क्षेत्र में आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास पर भी जोर दे रही है। आपने मुझे अवसर दिया, इसलिए अमदाबाद बांसवाड़ा डूंगरपुर रेल परियोजना शुरू हुई। डूंगरपुर से नई ट्रेन चली। डूंगरपुर और बांसबाड़ा शहर में पाइप से सस्ती गैस देने का काम भी शुरु होने जा रहा है। इससे आप लोगों का जीवन आसान होगा और व्यापार-कारोबार भी बढ़ेगा।

मेरे परिवारजनों,
कांग्रेस ने राजस्थान को अपराधों में अग्रणी बनाया। कांग्रेस ने राजस्थान को किस-किस जगह पर अग्रणी बना दिया है, आपका माथा शर्म से झुक जाएगा। कांग्रेस ने राजस्थान को दंगों में अग्रणी बना दिया। कांग्रेस ने राजस्थान को पेपरलीक में अग्रणी बना दिया। कांग्रेस ने राजस्थान में तुष्टिकरण की सारी हदें पार कर अग्रणी बना दिया। ये है कांग्रेस का चेहरा, ये है कांग्रेस का चरित्र, ये है कांग्रेस के कारनामे। और हम भाजपा के लोग कीचड़ में भी कमल खिलाने वाले लोग हैं। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं, हम राजस्थान की एक ऐसी पहचान बनाएंगे। भाजपा, विकास में राजस्थान को अग्रणी बनाएगी। भाजपा, राजस्थान में महिला सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देगी। भाजपा, राजस्थान को पर्यटन में टॉप पर लाएगी। भाजपा, राजस्थान को स्टार्ट अप का नया हब बनाएगी। भाजपा, राजस्थान में रिकॉर्ड निवेश लाएगी। लेकिन इसके लिए 25 नवंबर को सिर्फ और सिर्फ कमल के फूल पर बटन दबना है। करेंगे काम, पक्का करेंगे। देखिए अभी-अभी दिवाली गई है। और दिवाली में ये हमारी माताएं-बहनें जो हैं न वो घर में स्पेशल सफाई अभियान करती है। हर कोने में सफाई करती है, हर कोने में। छोटा सा टीवी के पीछे भी कुछ रह न जाए, उसकी भी सफाई करती है। कोई कोना नहीं छोड़ती है। सोती नहीं, मेहनत करती है क्यों, दिवाली है। लोकतंत्र भी एक दिवाली है। अब हमें भी सफाई करनी है। हर कोने से कांग्रेस की सफाई होनी चाहिए। एक-एक पोलिंग बूथ से कांग्रेस की सफाई होनी चाहिए। करेंगे?

अच्छा अभी मैं आपको एक संकल्प बोलूंगा। और सामने आपको बोलना है- कमल चुनेगा राजस्थान। क्या बोलना है- ऐसा नहीं, मेरे बोलने के बाद बोलना है। एक स्वर से बोलिए कमल चुनेगा राजस्थान, कमल चुनेगा राजस्थान, कमल चुनेगा राजस्थान। लेकिन मेरे बोलने के बाद बोलना है। बोलोगे न, लेकिन इसके पहले एक काम करिए, अपना मोबाइल फोन निकालिए, अपना मोबाइल फोन निकालकर उसका फ्लैश चालू कीजिए, लाइट चालू कीजिए। सब अपने मोबाइल फोन का लाइट चालू कीजिए। हर कोई, हरेक के मोबाइल फोन का लाइट चालू कीजिए। शाबाश! और मेरे साथ जब मैं कहूं, बराबर मोबाइल फोन को हिलाकर बोलना होगा। आपको बोलना है - कमल चुनेगा राजस्थान।

बहनों बेटियों का होगा मान...कमल चुनेगा राजस्थान
बहनों बेटियों का होगा मान...कमल चुनेगा राजस्थान
गरीब की चिंता, किसान का ध्यान...कमल चुनेगा राजस्थान
गरीब की चिंता, किसान का ध्यान...कमल चुनेगा राजस्थान
तुष्टिकरण का काम तमाम....कमल चुनेगा राजस्थान
तुष्टिकरण का काम तमाम....कमल चुनेगा राजस्थान
आदिवासी की बढ़ेगी शान...कमल चुनेगा राजस्थान
आदिवासी की बढ़ेगी शान...कमल चुनेगा राजस्थान
पेपर माफिया का मिटेगा नामोनिशान....कमल चुनेगा राजस्थान
पेपर माफिया का मिटेगा नामोनिशान....कमल चुनेगा राजस्थान
भ्रष्टाचार की बंद होगी दुकान....कमल चुनेगा राजस्थान
भ्रष्टाचार की बंद होगी दुकान....कमल चुनेगा राजस्थान
बोलिए भारत माता की, भारत माता की।

अच्छा ये तो काम हो गया। आप करेंगे। अब मेरा एक काम करेंगे। करेंगे, ये मेरा निजी काम है। नहीं करेंगे न। आप बोलते तो है नहीं। ये माताएं-बहनें तो बोल ही नहीं रही है। जरा हाथ ऊपर करके बताइए करेंगे। ये मेरा निजी काम है, करेंगे। ये चुनाव वाला काम नहीं है, करेंगे। पक्का करेंगे। देखिए घर-घर जाना है। और घर-घर जाकर के ये कहना कि अपने मोदी जी आए थे। क्या कहेंगे, क्या कहेंगे। देखिए गलती से भी ये मत कहना कि पीएम मोदी आए थे। आपके लिए मैं पीएम-फीएम कुछ नहीं हूं। मैं तो आपका भाई हूं। और इसीलिए घर-घर जाकर कहना है कि अपने मोदी जी आए थे। और मोदी ने आपको राम-राम कहा है। घर-घर जाकर मेरा राम-राम पहुंचाना है। पहुंचाओगे, घर-घर जाकर मेरा राम-राम पहुंचाओगे। देखिए जब आप हर परिवार में मेरा राम-राम पहुंचाओगे न तो हर परिवार मुझे आशीर्वाद देगा। और जब परिवार मुझे आशीर्वाद देता है, एक-एक परिवार आशीर्वाद देता है, तो मेरी ऊर्जा बढ़ जाती है, मेरी शक्ति बढ़ जाती है, मेरे संकल्प में एक नई ताकत भर जाती है। और इसके कारण आपकी सेवा के लिए मैं ज्यादा दौड़ता हूं, ज्यादा काम कर सकता हूं, और इसीलिए मुझे आशीर्वाद लगातार चाहिए, मिलेगा न। घर-घर जाकर बताएंगे। अगर आप मेरा राम-राम पहुंचाओगे न आशीर्वाद मुझे पक्का मिलेगा।

बोलिए भारत माता की। भारत माता की। बहुत-बहुत धन्यवाद।

Explore More
৭৭সংখ্যক স্বাধীনতা দিৱস উপলক্ষে লালকিল্লাৰ প্ৰাচীৰৰ পৰা দেশবাসীক উদ্দেশ্যি প্ৰধানমন্ত্ৰী শ্ৰী নৰেন্দ্ৰ মোদীয়ে আগবঢ়োৱা ভাষণৰ অসমীয়া অনুবাদ

Popular Speeches

৭৭সংখ্যক স্বাধীনতা দিৱস উপলক্ষে লালকিল্লাৰ প্ৰাচীৰৰ পৰা দেশবাসীক উদ্দেশ্যি প্ৰধানমন্ত্ৰী শ্ৰী নৰেন্দ্ৰ মোদীয়ে আগবঢ়োৱা ভাষণৰ অসমীয়া অনুবাদ
India is top performing G-20 nation in QS World University Rankings, research output surged by 54%

Media Coverage

India is top performing G-20 nation in QS World University Rankings, research output surged by 54%
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
চ'ছিয়েল মিডিয়া কৰ্ণাৰ 23 এপ্ৰিল 2024
April 23, 2024

Taking the message of Development and Culture under the leadership of PM Modi