All-round development of Manipur is the priority of BJP: PM Modi

Published By : Admin | March 1, 2022 | 11:36 IST
Share
 
Comments
For them, Manipur was just a haven for corruption. Congress did not develop Manipur, keeping Manipur away from peace and prosperity: PM Modi on how Manipur was treated earlier
Development of Manipur and balanced development of Manipur is the priority of BJP: PM Modi
Our government is working continuously to give you a pucca house, to provide a gas connection, to provide a good road till your homes: PM Modi

नमस्कार।

अईगी नुंगसी जराबा मणिपुर गी, चिंग अमदी तम गी इचिल इनाऊ,पुम्न् मक्पू, खुरुमजरी। सबसे पहले मैं ईबुधऊ पा-खंगबा, ईबुधऊ थांकचिंग और भगवान गोपीनाथ को प्रणाम करता हूँ! मणिपुर की ये धरती रानी गाइदिन्ल्यू, हाईपाऊ जादोनांग, जैनरल थंगाल जैसे राष्ट्र-भक्तों की भूमि है। ये राजा भाग्यचंद्र और सेनानायक पउना ब्रजबासी जैसे वीरों की धरती है। मैं इन महान आत्माओं को नमन करता हूँ।

साथियों, 

मणिपुर की इस ऐतिहासिक धरती ने कल एक नया इतिहास रचा है। और जैसे मुख्यमंत्री जी बता रहे थे कि पहले ही राउंड में जनता ने आशीर्वाद दे दिया है। और कल पहले चरण के चुनाव में मणिपुर ने ये तय कर दिया है कि पूर्वोत्तर में अब विकास का सूरज ही उगेगा। जिन लोगों ने मणिपुर को इतने दशकों तक पीछे धकेला, मणिपुर को अस्थिरता दी, उन्हें अब यहां के लोग फिर मौका नहीं देंगे। अब अगले चरण में भी मणिपुर में बीजेपी की, उसके सहयोगियों की पूर्ण बहुमत की सरकार के लिए ही वोट पड़ने वाले हैं।

साथियों,

मणिपुर में पिछली सरकारों को लगता था कि यहाँ के लोगों के पास विकल्प ही क्या है? उनके लिए मणिपुर भ्रष्टाचार करने का एक ठिकाना भर था। कांग्रेस ने मणिपुर का विकास नहीं किया, मणिपुर को शांति और खुशहाली से दूर ही रखा।

कांग्रेस ने अलगाववाद को बढ़ाया, हिल और वैली के नाम पर लोगों को बांटने के षड्यंत्र रचे! इन लोगों से मणिपुर के लोगों को हमेशा सावधान रहना है।

साथियों,

हम सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास, और सबका प्रयास की नीति पर चल रहे हैं। भाजपा सरकार ‘go to hills, go to village’ जैसे जोड़ने वाले अभियान चला रही है, जिसके कारण, इनके षड्यंत्र टूट रहे हैं। और जैसे-जैसे कांग्रेस की बांटो और राज करो की नीति ध्वस्त हो रही है, वैसे वैसे-वैसे ही काँग्रेस पार्टी भी ध्वस्त हो रही है।

भाइयों और बहनों,

भाजपा के लिए मणिपुर और पूर्वोत्तर हमारी राष्ट्रीय एकता और राष्ट्रीय आस्था का केंद्र हैं। मणिपुर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रहे स्वर्गीय मधुमंगल शर्मा, मेरे बहुत ही अच्छे मित्र रहे वो, सालों तक हमने साथ काम किया। मधुमंगल शर्मा जी ने इस धरती के लिए अपना बलिदान दिया। अटल जी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद इस क्षेत्र के विकास के लिए अलग से मंत्रालय बनाया। लेकिन, 2004 में जब यूपीए की सरकार दिल्ली में आई, तो उन्होंने नॉर्थ ईस्ट के विकास पर ध्यान देना बंद कर दिया, अटल जी के बनाए मंत्रालय को निष्क्रिय बना दिया। कांग्रेस का फोकस मणिपुर का विकास नहीं मणिपुर को लूटने पर था। यहाँ तक कि, इनके नेताओं को मिस्टर 10 परसेंट बुलाया जाता था। ये लोग लूट में इतना मगन थे कि इनके पास मणिपुर के लोगों की तकलीफें, उनका दुख-दर्द समझने का समय ही नहीं था। 

भाइयों बहनों,

मणिपुर का विकास, मणिपुर का संतुलित विकास भाजपा की प्राथमिकता है। हमने एक ऐसी सरकार चलाई है जिसके दरवाजे हमेशा जनता के लिए खुले रहते हैं, जो सरकार खुद जनता के दरवाजे चलकर जाती है। अब सरकार की कैबिनेट मीटिंग्स भी हिल डिस्ट्रिक्ट्स में भी होती हैं। बीरेन सिंह जी, मणिपुर के लोगों के लिए सहज उपलब्ध रहते हैं। मीयाम्गी नुमित और ‘HILL LEADERS DAY’ जैसे गवर्नेंस मॉडल विकास का नया आधार बन रहे हैं। केंद्र सरकार के मंत्री भी अब ज्यादा से ज्यादा मणिपुर और पूर्वोत्तर आते हैं। और मैं खुद पूर्वोत्तर के विकास कार्यों की निरंतर समीक्षा करता हूं। एक्ट ईस्ट पॉलिसी पर चलते हुए हम मणिपुर के विकास को नई गति दे रहे हैं।

साथियों,

ये समय आत्मनिर्भर भारत और भारत के अमृतकाल का समय है। देश ये लक्ष्य तभी हासिल करेगा जब देश का हर राज्य एक साथ आगे बढ़े। ये दशक मणिपुर के विकास और प्रगति का दशक है, और मणिपुर इस दिशा में आज तेजी से आगे बढ़ रहा है। जिस मणिपुर को कभी यहाँ की सरकारों ने बम और ब्लॉकेड में जकड़कर रख दिया था, वही मणिपुर आज पूरे भारत के लिए एक्सपोर्ट और इंटरनेशनल ट्रेड का गेटवे बन रहा है। यूरोप और एशिया को जोड़ने वाला एशियन हाइवे प्रोजेक्ट मणिपुर से गुजर रहा है।

साथियों, 

जब नियत में निष्ठा होती है तो नतीजे भी आते हैं। मणिपुर को आजादी के बाद से पहली ट्रेन का इंतजार था। भाजपा शासन में ही ये इंतज़ार खत्म हुआ, और मणिपुर रेल लाइन से देश के बाकी हिस्सों से जुड़ा है। वन्गाई-चुन्पाओ - इम्फाल रेलवे लाइन भी निर्माणाधीन है। मणिपुर को दशकों से अच्छी कनेक्टिविटी का इंतज़ार था, आज मणिपुर में नए हाइवेज़ बन रहे हैं। आज नए मणिपुर की पहचान स्किल, स्टार्ट अप्स और स्पोर्टस से बढ़ रही है। स्टार्टअप इंडिया के साथ स्टार्टअप मणिपुर कदम से कदम मिलाकर चल रहा है। प्रदेश सरकार साढ़े पाँच हजार से ज्यादा स्टार्टअप्स को मदद दे रही है। आने वाले समय में हमारी सरकार 100 करोड़ रुपए का मणिपुर स्टार्टअप फंड भी स्थापित करेगी। मणिपुर में निवेश और उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए दो स्पेशल इकोनॉमिक जोन भी बनाए जाएंगे। इन अवसरों के लिए हमारे युवाओं को तैयार करने के लिए मणिपुर स्किल यूनिवर्सिटी की स्थापना भी की जाएगी। मणिपुर के लिए ये संकल्प भाजपा ने लिए हैं, और यहां के लोगों के साथ मिलकर भाजपा ही इन्हें पूरा करेगी। 

साथियों, 

हमारे मणिपुर ने देश को मैरी कॉम और मीराबाई चानू जैसे खिलाड़ी दिये हैं। यहाँ के युवाओं में खेलों की असाधारण क्षमता है। लेकिन, खेल सुविधाओं के लिए युवाओं को भटकना पड़ता था। मणिपुर में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की स्थापना का काम भी डबल इंजन सरकार ने ही किया है। हमें इसे इंटरनेशनल लेवेल का स्पोर्ट्स इंस्टीट्यूट बनाना है।

साथियों,

डबल इंजन सरकार से पहले मणिपुर को दशकों तक मूलभूत सुविधाओं के लिए इंतज़ार करना पड़ा। अब जाकर ये इंतज़ार खत्म हो रहा है। आपको पक्के घर देने के लिए, गैस कनेक्शन देने के लिए, आपके घर तक अच्छी सड़क पहुंचाने के लिए हमारी सरकार लगातार काम कर रही है। आज जल जीवन मिशन के तहत मणिपुर के घर घर पानी पहुँचाने का प्रयास किया जा रहा है। पांच सालों में पाइप कनेक्शन का कवरेज 10 गुना से ज्यादा हो गया है। आज बेहतर इलाज के लिए आयुष्मान योजना जैसी सुविधाएं आपके पास हैं। डबल इंजन सरकार अगले कार्यकाल में मणिपुर में एम्स की स्थापना भी करेगी। कोरोना के इस काल में हमारी सरकार मुफ्त राशन से लेकर मुफ्त वैक्सीन तक, सबकी व्यवस्था कर रही है।

साथियों,

मणिपुर हमेशा से भारत की एकता अखंडता का प्रतिनिधित्व करता रहा है। यहाँ के लोगों ने आजादी की लड़ाई में अपना बलिदान दिया था। लेकिन काँग्रेस ने मणिपुर के इस इतिहास को, इन बलिदानों को और नेताजी को कभी सच्चे मन से श्रद्धांजलि तक नहीं दी। मोइरांग का संग्रहालय बनाने में भी इन लोगों ने भ्रष्टाचार किया था। इनके इन पापों का हिसाब हमें वोट की ताकत से करना है। मणिपुर को रोकने के ये जो सपने देख रहे हैं, उन्हें जवाब देकर विकास की इस यात्रा को नई ताकत देनी है। डबल इंजन की सरकार के लिए मैं आपका निरंतर आशीर्वाद चाहता हूँ। 5 तारीख को आप बड़ी संख्या में मतदान करें, मणिपुर की शांति के लिए मतदान करें। मणिपुर के विकास के लिए मतदान करें। मणिपुर के भविष्य के लिए मतदान करें। यही अपेक्षा है। मैं मुख्यमंत्री जी का भी दिल से आभार व्यक्त करता हूं। आप सब भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को प्रथम चरण में जिस प्रकार से उन्होंने उत्साह के साथ लोगों को मतदान के लिए प्रेरित किया और एक प्रकार से विजय सुनिश्चित किया, इसके लिए मैं मणिपुर के भारतीय जनता पार्टी के हर छोटे-मोटे कार्यकर्ता को हृदय से बहुत-बहुत बधाई देता हूं। मैं मणिपुर के नागरिकों को भी हृदय से अभिनंदन करता हूं कि उन्होंने मणिपुर के विकास को प्राथमिकता दी है, मणिपुर की शांति को प्राथमिकता दी है, मणिपुर के उज्ज्वल भविष्य के लिए प्राथमिकता दी है और इसलिए मणिपुर की जनता का भी हृदय से बहुत-बहुत अभिनंदन करता हूं।                 

बहुत बहुत धन्यवाद !

 

 

 

 

Explore More
Today's India is an aspirational society: PM Modi on Independence Day

Popular Speeches

Today's India is an aspirational society: PM Modi on Independence Day
Robust activity in services sector holds up 6.3% GDP growth in Q2

Media Coverage

Robust activity in services sector holds up 6.3% GDP growth in Q2
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Exclusive pictures of PM Modi's roadshow in Ahmedabad
December 02, 2022
Share
 
Comments

Prime Minister Narendra Modi held a massive roadshow in Ahmedabad on December 1, 2022. After campaigning for the state elections in Kalol, Chhota Udepur and Himmatnagar, PM Modi arrived to a roaring welcome in Ahmedabad.

 

 

 

 

 

 


People from all walks of life joined the kilometres long roadshow. Their enthusiasm reflected that the BJP would certainly make a comxeback in Gujarat.

 

 

 

 

 

 

 


The atmosphere was thrilling as sea of supporters at the roadshow chanted 'Modi-Modi' slogans greeting the Prime Minister. The mood on the ground clearly indicated that people favoured BJP's development-oriented policies.