பகிர்ந்து
 
Comments
TMC government has soft corners for foreign intruders but shows no respect for own country’s Prime Minister: PM Modi
Didi’s government was formed to loot people’s hard-earned money, indulge in scams and hooliganism of all kinds: PM Modi in Bengal
I urge all voters to turn out in large numbers and vote for the BJP in these elections and strengthen our resolve to revive the lost glory of West Bengal: Prime Minister Modi

भारत माता की…जय
भारत माता की…जय

आज रवींद्रनाथ टैगोर की जन्म जयंती है। मैं कहूंगा गुरुदेव टैगोर, आप सब को दो बार बोलना हैं अमर रहे, अमर रहे। गुरुदेव टैगोर...अमर रहे, अमर रहे, गुरुदेव टैगोर...अमर रहे, अमर रहे, गुरुदेव टैगोर... अमर रहे, अमर रहे।

पुरुलिया से, पश्चिम बंगाल से जो प्यार मुझे मिल रहा है उससे मैं अभिभूत हूं। आपके इस प्यार को मैं ब्याज समेत लौटाऊंगा और विकास करके लौटाऊंगा।

साथियो, आज कल देश भर में मोदी को गाली देने का एक बहुत बड़ा अभियान चल रहा है, आप सब भी देख रहे हैं। इससे स्पष्ट है की पहले पांच चरणों में देश ने एक मत होकर जो मतदान किया है उससे महामिलावटी दल हताश हो चुके हैं। मैं पुरुलिया के आप लोगों को फिर से शीष झुका करके नमन करता हूं। जिस प्रकार आप यहां दीदी की अत्याचारी सत्ता के विरोध में उठ खड़े हुए हैं, उसने दीदी की जमीन खिसका दी है। मैं आप सभी को आश्वस्त करता हूं की भाजपा का एक-एक कार्यकर्ता आपके साथ है, पूरा देश आपके साथ हैं।

साथियो, कहते हैं पुरुलिया जो आज सोचता है वही कल पश्चिम बंगाल की सोच बन जाती है। जिन्होंने पश्चिम बंगाल में गणतंत्र को गुंडातंत्र में बदला है। उनके दिन अब गिनती के रह गए हैं। पहला धक्का 23 मई को जब चुनाव के नतीजे आएंगे, 23 मई को पहला धक्का लगने वाला है। ये दीदी की दमनकारी सत्ता का पतन शुरु हो जाएगा। 23 मई के बाद भारत का संविधान सभी का हिसाब करेगा, देश का लोकतंत्र सभी का हिसाब चुकता करेगा। मैं आपको आश्वासन देने आया हूं, जिन घुसपैठियों को दीदी ने टीएमसी ने अपना कैडर बनाया है। उनकी चुन-चुन करके पहचान होगी। जो यहां हमारी बेटियों को परेशान करते हैं, हमारे सभ्य बंगाली मानुष को परेशान करते हैं, उनकी पहचान की जाएगी।

साथियो, पूरे पश्चिम बंगाल का मुझ पर ये स्नेह देख कर दीदी डरी हुई है, बौखलाई हुई है।  ये कैमरा वाले सज्जन, ये कैमरा वाले सज्जन अपना कारोबार बंद कीजिए। मैं इन से बात कर रहा हूं, ये कैमरा वाले सज्जन।
भारत माता की...जय
भारत माता की...जय

मुझे बताया गया है की यहां दीदी ने कहा है की वो मोदी को थप्पड़ मारना चाहती है। दीदी, ओह! ममता दीदी, मैं तो आपको दीदी कहता हूं आपका आदर करता हूं, आपका थप्पड़ भी मेरे लिए तो आशीर्वाद बन जाएगा, वो भी खा लूंगा। लेकिन ये भी कहूंगा की अगर आपने अपने उन साथियों को थप्पड़ मारने का दम दिखाया होता, जिन्होंने चिटफंड के नाम पर गरीबों की कमाई लूट ली तो आपको इतना डर न लगता। अगर आप उन टोलेबाजों को थप्पड़ मारने की हिम्मत दिखाती तो आज ट्रिपल-टी यानी तृणमूल तोलाबाजी टैक्स, इसका दाग आपको बर्बाद नहीं करता।
भाइयो और बहनो, मां-माटी और मानुष की बात करके दीदी ने आप सभी का वोट बटोर लिया लेकिन आज पश्चिम बंगाल की क्या स्थिति है? मां, अपनी संतानों की सुरक्षा के लिए परेशान है, बेचैन है बिलख रही है, रो रही है। आपने दूसरी बात माटी की कही थी, माटी लोकतंत्र प्रेमी निर्दोष नागरिकों के खून से लाल रंग में रंग गई है और मानुष, आपकी मां-माटी और मानुष वाला मानुष डर के सायें में जीने के लिए मजबूर है।

साथियो, आज गुरुदेव रबिन्द्र नाथ टैगोर की जयंती है, मैं गुरुदेव को नमन करता हूं। उन्हें आदर पूर्वक अंजलि कर देता हूं। ये मेरा सौभाग्य रहा कि आज के ही पवित्र दिन, गरीबों का जीवन बदलने वाली तीन बड़ी योजनाओं की शुरुआत, चार साल पहले हमने कोलकाता से ही की थी। प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना और अटल पेंशन योजना को देश भर में पश्चिम बंगाल की भूमि से ही लॉन्च किया गया था। सिर्फ, एक रुपए महीना और 90 पैसे के प्रतिदिन के कम प्रीमियम पर हमने गरीबों का बीमा उनको सुरक्षा कवच प्रदान किया। मुझे संतोष है कि गुरुदेव की जन्म जयंती पर जो काम प्रारंभ किया, आज देश के 21 करोड़ गरीब इस सुरक्षा कवच से जुड़े हुए हैं। इतना ही नहीं, दोस्तों आपके प्यार के लिए मैं आपका आभारी हूं ये मैदान भी छोटा पड़ गया और आप, आप इतनी बड़ी मात्रा में आशीर्वाद देने के लिए आए हैं। आप जहां है आप आगे आने की कोशिश मत कीजिए। जहां है वहां खड़े हो जाइए। देखिए औरों को भी परेशानी हो रही हैं। मैं जनता हूं बंगाल का ये दृश्य दिल्ली में बैठ करके मैं भी अनुमान नहीं लगा सकता जो जुस्सा आप में हैं, जो प्यार आप बरसा रहे हैं।

भाइयो बहनो, मैं फिर एक बार सर झुका करके आपका नमन करता हूं। भाइयो-बहनो, इतना ही नहीं मुश्किल की स्थिति में जो हमने ये बीमा कवच दिया है। मुश्किल की स्थिति में जिन 21 करोड़ परिवार इससे जुड़े है अब तक करीब-करीब, 3 हजार करोड़ रुपए से भी ज्यादा क्लेम राशि, इन मुसीबत में फंसे परिवारों को पहुंच गई है।

साथियो, गरीबों का जीवन आसान बनाने, उन्हें अपना पक्का घर मिले, रसोई गैस का कनेक्शन मिले, बिजली मिले, शौचालय मिले, वो सम्मान से जी सकें। इसके लिए आपका ये सेवक लगातार काम कर रहा है।

भाइयो और बहनो, गुरुदेव ने कहा था ऐसा भारत देखना चाहते हैं, जहां मन भयमुक्त हो, और मस्तक सम्मान से उठा हो। लेकिन पहले कांग्रेस और कम्यूनिस्टों ने और अब दीदी ने गुरुदेव की शिक्षा को ही तार-तार कर दिया, चूर-चूर कर दिया। वोट डालने तक के लिए यहां के मानुष को सोचना पड़ता है। राजनीतिक कार्यकर्ताओं की प्रचार करने पर हत्या कर दी जाती है। जय श्री राम और जय मां काली, जय मां दुर्गा, इसके उद्घोष करने वालों को, दीदी इतनी बौखला जाती है जेल तक भेजने का डर दिखाया जाता है।

भाइयो बहनो, लोकतंत्र के लिए, माफिया सायें के खिलाफ यहां के जो वीर शहीद हुए हैं, मैं आपको विश्वास दिलाता हूं, उनकी हत्या ये कभी बेकार नहीं जाएगी, भाइयो बहनो।
भाइयो और बहनो, पुरुलिया में संपदा की कमी नहीं हैं, आप काले सोने पर बैठे हुए हैं लेकिन अब तक जो भी सरकारें रही हैं, उन्होंने यहां पर कोयला माफिया को खड़ा कर दिया है। तृणमूल वालों ने तो माफिया को ही सरकार का हिस्सा बना लिया है।

साथियो, दीदी अपने भतीजे का कैरियर बनाने में जुटी है। मंत्री, विधायक घोटालों-घपले में बिजी हैं और काडर टोलाबाजी। ऐसे में पुरुलिया सहित इस पूरे क्षेत्र के युवा साथियों की चिंता भला कैसे हो पाती। भाइयो और बहनो, रोड, रेल, हवाई जहाज के जरिए कनेक्टिविटी पर हमने विशेष बल दिया है। लेकिन ये दुर्भाग्य है की यहां की सरकार के कुशासन के कारण केंद्र की योजनाएं उस गति से यहां नहीं लागू हो पा रही हैं, जिस गति से होनी चाहिए। दीदी के राज में लोगों को पीने का पानी और किसान को सिंचाई का पानी तक उपलब्ध नहीं हो रहा है। आपके इस सेवक ने संकल्प लिया है की 23 मई को जब चुनाव के नतीजे आएंगे। 23 मई को फिर एक बार... मोदी सरकार, फिर एक बार… मोदी सरकार, 23 मई को फिर एक बार मोदी सरकार बनेगी तब पानी के लिए विशेष मुहिम चलाई जाएगी, इसके लिए अलग से एक जल शक्ति मंत्रालय बनाया जाएगा।

साथियो, किसानों के लिए पशु पालकों के लिए बीजेपी की केंद्र सरकार ने बहुत बड़ी योजनाएं शुरू की हैं। देश भर में 12 करोड़ छोटे किसानों के बैंक खाते में सीधे पैसे जमा किए जा रहे हैं। लेकिन पश्चिम बंगाल की सरकार ने अभी तक पूरी लिस्ट भी नहीं भेजी है। लेकिन जब आप पूरी शक्ति से कमल खिलाएंगे तो दीदी आपका हक कुछ भी करे रोक नहीं पाएगी। हमने फैसला किया है की 23 मई के बाद जब फिर मोदी सरकार बनेगी तब सभी किसान परिवारों को ये मदद मिलने वाली है। भाइयो और बहनो, पुरुलिया तो गौ सेवा के लिए भी जाना चाहता है। हमारी सरकार ने राष्ट्रीय कामधेनु आयोग बनाने का काम किया है ताकि हमारे गौ वंश की सुरक्षा, उनकी देख-रेख ठीक से हो सके।

एक बार फिर आप सभी का इतनी बड़ी तादाद में हमें आशीर्वाद देने के लिए आए, मैं हृदय से आपका आभार व्यक्त करता हूं। मेरे साथ बोलिए, भारत माता की...जय।
दोनों मुट्ठी बंद कर के पूरी ताकत से बोलिए
भारत माता की... जय
भारत माता की... जय
भारत माता की... जय
बहुत-बहुत धन्यवाद।

'மன் கி பாத்' -ற்கான உங்கள் யோசனைகளையும் பரிந்துரைகளையும் உடன் பகிர்ந்து கொள்ளுங்கள்!
20 ஆண்டுகள் சேவை மற்றும் அர்ப்பணிப்பை வரையறுக்கும் 20 படங்கள்
Explore More
’பரவாயில்லை இருக்கட்டும்’ என்ற மனப்பான்மையை விட்டு விட்டு “ மாற்றம் கொண்டு வரலாம்” என்று சிந்திக்கும் நேரம் இப்போது வந்து விட்டது : பிரதமர் மோடி

பிரபலமான பேச்சுகள்

’பரவாயில்லை இருக்கட்டும்’ என்ற மனப்பான்மையை விட்டு விட்டு “ மாற்றம் கொண்டு வரலாம்” என்று சிந்திக்கும் நேரம் இப்போது வந்து விட்டது : பிரதமர் மோடி
Indian startups raise $10 billion in a quarter for the first time, report says

Media Coverage

Indian startups raise $10 billion in a quarter for the first time, report says
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM expresses grief over the loss of lives due to heavy rainfall in parts of Uttarakhand
October 19, 2021
பகிர்ந்து
 
Comments

The Prime Minister, Shri Narendra Modi has expressed grief over the loss of lives due to heavy rainfall in parts of Uttarakhand.

In a tweet, the Prime Minister said;

"I am anguished by the loss of lives due to heavy rainfall in parts of Uttarakhand. May the injured recover soon. Rescue operations are underway to help those affected. I pray for everyone’s safety and well-being."