Share
 
Comments
"Narendra Modi talks about the importance of co-operative sector"
"Narendra Modi gives a clarion call to move towards next generation co-operative banking"
"Let us move towards online transactions. Best way to end black money is online transactions: Narendra Modi"

On the evening of Wednesday 4th December 2013 Shri Narendra Modi inaugurated the new building of the Gujarat State Co-operative Bank in Ahmedabad. Shri Narendra Modi talked about the importance of co-operative sector and said that for Gujarat, the co-operative sector have been a part of the value system of the state. Shri Modi called for the need to move towards next generation co-operative banking. He suggested looking at online cash transactions and even said that we need to move beyond cash transactions. Shri Modi affirmed that the best way to end menace of black money is to have online transactions.

Shri Modi recalled how tough decisions by him and the Gujarat government were instrumental in winning the people’s trust in the co-operative sector once again after the series of bank collapses that plagued the sector in 2001. He said, “I remember what happened after the Madhavpura Scam. It was like we had suffered 2 quakes- the quake in Kutch and the bank. Economy was affected and the trust of the people was broken. It was upto us to rebuild this trust. And during those days people were expert at spreading rumors. They would say A Bank is falling or B bank is falling.”

Narendra Modi inaugurates new building of Gujarat State Co-operative Bank

He added, “We wanted to take strong steps. People would tell me, Narendra Bhai this is the right thing but you will not be able to do it. But, for me this was not about politics. We did take strong steps, people were even sent to jail. No one was sparred and we one the trust of the people. The message was clear- what happened, happened in the past. And I must say you all cooperated with me for which I thank you. People told me- Narendra Bhai if I was the CM I would never have taken such decisions.”

Cooperatives Minister Shri Babubhai Bokhiria, former Deputy CM Shri Narhari Amin, Shri Vipul Chaudhary and others were present on the occasion.

Narendra Modi inaugurates new building of Gujarat State Co-operative Bank

Narendra Modi inaugurates new building of Gujarat State Co-operative Bank

Narendra Modi inaugurates new building of Gujarat State Co-operative Bank

Narendra Modi inaugurates new building of Gujarat State Co-operative Bank

Pariksha Pe Charcha with PM Modi
Explore More
It is now time to leave the 'Chalta Hai' attitude & think of 'Badal Sakta Hai': PM Modi

Popular Speeches

It is now time to leave the 'Chalta Hai' attitude & think of 'Badal Sakta Hai': PM Modi
Govt releases Rs 4,000 crore for Post Matric Scholarship Scheme for Scheduled Castes

Media Coverage

Govt releases Rs 4,000 crore for Post Matric Scholarship Scheme for Scheduled Castes
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
टीका उत्सव पर देशवासियों से आग्रह
April 11, 2021
Share
 
Comments

मेरे प्यारे देशवासियों,

आज 11 अप्रैल यानि ज्योतिबा फुले जयंती से हम देशवासी ‘टीका उत्सव’ की शुरुआत कर रहे हैं। ये ‘टीका उत्सव’ 14 अप्रैल यानि बाबा साहेब आंबेडकर जयंती तक चलेगा।

ये उत्सव, एक प्रकार से कोरोना के खिलाफ दूसरी बड़ी जंग की शुरुआत है। इसमें हमें Personal Hygiene के साथ ही Social Hygiene पर विशेष बल देना है।

हमें ये चार बातें, जरूर याद रखनी है।

Each One- Vaccinate One, यानि जो लोग कम पढ़े-लिखे हैं, बुजुर्ग हैं, जो स्वयं जाकर टीका नहीं लगवा सकते, उनकी मदद करें।

Each One- Treat One, यानि जिन लोगों के पास उतने साधन नहीं हैं, जिन्हें जानकारी भी कम है, उनकी कोरोना के इलाज में सहायता करें।

Each One- Save One, यानि मैं स्वयं भी मास्क पहनूं और इस तरह स्वयं को भी Save करूं और दूसरों को भी Save करूं, इस पर बल देना है।

और चौथी अहम बात, किसी को कोरोना होने की स्थिति में, ‘माइक्रो कन्टेनमेंट जोन’ बनाने का नेतृत्व समाज के लोग करें। जहां पर एक भी कोरोना का पॉजिटिव केस आया है, वहां परिवार के लोग, समाज के लोग ‘माइक्रो कन्टेनमेंट जोन’ बनाएं।

भारत जैसे सघन जनसंख्या वाले हमारे देश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई का एक महत्वपूर्ण तरीका ‘माइक्रो कन्टेनमेंट जोन’ भी है।

एक भी पॉजिटिव केस आने पर हम सभी का जागरूक रहना, बाकी लोगों की भी टेस्टिंग कराना बहुत आवश्यक है।

इसके साथ ही जो टीका लगवाने का अधिकारी है, उसे टीका लगे, इसका पूरा प्रयास समाज को भी करना है और प्रशासन को भी।

एक भी वैक्सीन का नुकसान ना हो, हमें ये सुनिश्चित करना है। हमें जीरो वैक्सीन वेस्ट की तरफ बढ़ना है।

इस दौरान हमें देश की वैक्सीनेशन क्षमता के ऑप्टिमम यूटिलाइजेशन की तरफ बढ़ना है। ये भी हमारी कपैसिटी बढ़ाने का ही एक तरीका है।

हमारी सफलता इस बात से तय होगी कि ‘माइक्रो कन्टेनमेंट जोन’ के प्रति कितनी जागरूकता हम लोगों में है।

हमारी सफलता इस बात से तय होगी कि जब जरूरत न हो, तब हम घर से बाहर न निकलें।

हमारी सफलता इस बात पर तय होगी कि जो टीका लगवाने का अधिकारी है, उसे टीका लगे।

हमारी सफलता इस बात पर तय होगी कि हम मास्क पहनने और अन्य नियमों का किस तरह पालन करते हैं।

साथियों,

इन चार दिनो में व्यक्तिगत स्तर पर, समाज के स्तर पर और प्रशासन के स्तर पर हमें अपने-अपने लक्ष्य बनाने हैं, उन्हें प्राप्त करने के लिए पूरा प्रयास करना है।
मुझे पूरा विश्वास है, इसी तरह जनभागीदारी से, जागरूक रहते हुए, अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए, हम एक बार फिर कोरोना को नियंत्रित करने में सफल होंगे।
याद रखिए- दवाई भी, कड़ाई भी।

धन्यवाद !

आपका,

नरेन्द्र मोदी।