प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काव्य संग्रह 'आंख आ धन्य छे' का संस्कृत में अनुवाद किया गया है। दक्षिण भारत की प्रकांड विद्वान और कई भाषाओं की ज्ञाता डॉ. राजलक्ष्मी श्रीनिवासन द्वारा संस्कृत में अनुवादित इस पुस्तक का नाम नयनम् इदम् धन्यम्रखा गया है। श्री मोदी ने ये पुस्तक मूल रूप से गुजराती में लिखी थी।

नयनम इदम धन्यम पुस्तक का विमोचन काशी हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने किया। इस मौके पर विदूषी डॉ. राजलक्ष्मी के अलावा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. गिरीश चंद्र त्रिपाठी भी मौजूद थे। विमोचन के दौरान केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के इस काव्य संग्रह में प्रकृति का जीवंत चित्रण किया गया है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी के इस काव्य संग्रह का पहले ही हिंदी, अंग्रेजी और तमिल में अनुवाद किया जा चुका है।

Explore More
अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी
Budget 2024: Small gets a big push

Media Coverage

Budget 2024: Small gets a big push
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM congratulates Abhinav Bindra on being awarded prestigious Olympic Order
July 24, 2024

The Prime Minister Shri Narendra Modi today congratulated athlete Abhinav Bindra on being awarded the Olympic Order.

Shri Modi hailed the 2008 Olympic Gold Medallist for his noteworthy contributions to sports and the Olympic Movement.

The Prime Minister posted on X:

"It makes every Indian proud that @Abhinav_Bindra has been awarded the Olympic Order. Congratulations to him. Be it as an athlete or a mentor to upcoming sportspersons, he has made noteworthy contributions to sports and the Olympic Movement."