साझा करें
 
Comments
यह 'जन शक्ति' की ही देन है कि एक गरीब परिवार में जन्म लेने वाला व्यक्ति भी भारत का प्रधानमंत्री बन सकता है: श्री मोदी
बजट को पहले पेश किया जाना फंड के बेहतर उपयोग को सुनिश्चित करेगा: प्रधानमंत्री मोदी
हमारा संघर्ष गरीबों के लिए है, हम यह सुनिश्चित करेंगे कि उन्हें उनका हक मिले: प्रधानमंत्री
विमुद्रीकरण देश को कालेधन और भ्रष्टाचार से मुक्त करने के लिए शुरू किया गया अभियान है: प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद दिया। उन्होंने इस मौके पर सरकार की विकास से जुड़ी योजनाओं, जनशक्ति की ताकत, स्वच्छता अभियान समेत कई विषयों पर अपनी बात रखी।

प्रधानमंत्री ने अपने भाषण के प्रारंभ में जनशक्ति की अहमियत पर जोर दिया। साथ ही आपात काल को याद करते हुए कहा कि उन्‍हें अंदाजा नहीं था कि जनशक्ति क्‍या होती है, लोकतंत्र को कुचलने के ढेर सारे प्रयासों के बावजूद भी इस देश की जनशक्ति का सामर्थ्‍य था कि लोकतंत्र पुन: स्‍थापित हुआ और उस जनशक्ति की ताकत है कि गरीब मां का बेटा भी इस देश का प्रधानमंत्री बन सकता है।जनशक्ति की ही चर्चा करते हुए उन्होंने गैस सब्सिडी की भी बात कही। मोदी ने कहा कि पहले जहां 9 और 12 सिलेंडर की चर्चा होती थी, आज स्थिति यह है कि महज एक आह्वान पर 1 करोड़ 20 लाख से ज्यादा लोगों ने गैस सब्सिडी छोड़ दी है।

प्रधानमंत्री मोदी ने आह्वान किया कि स्वच्छता पर राजनीति की जगह सब मिलकर इस अभियान को आगे बढाएं। उन्होंने कहा गांधी कहते थे कि आजादी से पहले भी अगर मुझे कुछ पाना है, तो मुझे स्‍वच्‍छता पानी है।आगे वो कहते हैंक्‍या हम मिल करके एक स्‍वर में समाज को इस पवित्र कार्य में जोड़ने को, गांधी जी के सपने को पूरा करने के लिए आगे नहीं बढ़ सकते। कौन रोकता है?”

बेनामी संपत्ति कानून का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि ये कानून 1988 में बना था, लेकिन 26 साल बाद अब सरकार ने इसे नोटिफाइ किया है। उन्होंने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान कहा कि काले धन के खिलाफ अचानक से कार्रवाई नहीं की गई है। श्री मोदी ने कहा कि क्‍या यह निर्णय अचानक हुआ? मैं जानकारी देना चाहता हूं कि जिस दिन हमारी सरकार बनी, सबसे पहला काम किया कैबिनेट में, SIT बनाई। इसके बाद विदेश में जमा कालेधन के खिलाफ नया कठोर कानून बनाया। प्रोपर्टी जब्‍त करने की बात कही। इस बार भी बजट में एक नए कानून की बात कही गई है।

श्री मोदी ने लोकसभा में बोलते हुए विकास कार्यों की भी चर्चा की और बताया कि किस तरीके से नई सरकार आने के बाद इसमें तेजी आई है।

नेशनल ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क का जिक्र करते हुए जानकारी दी कि 2011 से 2014 तक तीन साल में सिर्फ 59 गांव में यह Optical Fiber Network लगा था। जबकि नई सरकार आने के बाद बहुत कम समय में 76000 गांवो में Optical Fiber Network, last mile connectivity के साथ पूरा हो गया।

पहले जहां प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना प्रति दिन 69 किलोमीटर होती थी। वहीं अब यह 111 किलोमीटर प्रति दिन हो गई है। उन्होंने ये भी बताया कि अब रोड बनाने में Space Technology का उपयोग होता है।

ग्रामीण आवास योजना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि पहले जहां एक साल में 10,83000 घर बनते थे। इस सरकार में एक वर्ष में 22,27000 घर बने।

National Urban Renewal Mission के तहत पहले एक महीने में 8,017 घर बने। अब इस योजना से 13530 घर बने हैं।

पहले Broad Gauge Railway का commissioning एक साल में 1500 किलोमीटर हुआ करता था। अब यह दोगुना यानी 3000 किलोमीटर हो गया है।

बिजली उत्पादन क्षमता का जिक्र करते हुए कहा कि 2014 में बिजली उत्पादन 2700 मेगावाट थी, जो बढ़कर अब 9100 मेगावाट कर दी गई है।

रेलवे में सरकारी की योजनाओं से टांसपोर्टेशन में 1300 करोड़ की बचत हुई है।

LED Bulb के बारे में बताते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अब तक 21 करोड़ LED बल्ब लगाने में सफलता मिली है, इससे आम नागरिकों के बिजली बिल में 11,000 करोड़ रुपये की कमी आई है।

उन्होंने यह भी बताया कि बजट में शिड्यूल कास्ट के लिए कुल आबंटन बढ़ा दिए गए हैं। साथ ही इसमें 33.7 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है।

17 मंत्रालयों की 84 योजनाओं को Direct Benefit Transfer AADHAR योजना के साथ जोड़ दिया गया है, जिससे 32 करोड़ लोगों को फायदा मिला है।

प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी बताया कि किस तरह से यूरिया में नीम कोटिंग के फैसले से फसलों के उत्पादन में वृद्धि हुई है।

इस मौके पर प्रधानमंत्री ने एक बार फिर जोर दिया कि करोड़ों रुपये की बर्बादी को रोकने के लिए लोकसभा और विधानसभा चुनाव साथ कराए जाने चाहिए।

प्रधानमंत्री ने धन्यवाद प्रस्ताव पर बोलते हुए फसल बीमा योजना, सॉयल हेल्थ कार्ड जैसी योजनाओं पर भी चर्चा की। सर्जिकल स्ट्राइक पर बोलते हुए उन्होंने विपक्षी नेताओं के बयानों को लेकर सवाल भी खड़े किए।

पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

प्रधानमंत्री मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम के लिए भेजें अपने विचार एवं सुझाव
पीएम मोदी की वर्ष 2021 की 21 एक्सक्लूसिव तस्वीरें
Explore More
काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण भारत को एक निर्णायक दिशा देगा, एक उज्ज्वल भविष्य की तरफ ले जाएगा : पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण भारत को एक निर्णायक दिशा देगा, एक उज्ज्वल भविष्य की तरफ ले जाएगा : पीएम मोदी
India's forex reserves up by $2.229 billion to $634.965 billion

Media Coverage

India's forex reserves up by $2.229 billion to $634.965 billion
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
सोशल मीडिया कॉर्नर 21 जनवरी 2022
January 21, 2022
साझा करें
 
Comments

Citizens salute Netaji Subhash Chandra Bose for his contribution towards the freedom of India and appreciate PM Modi for honoring him.

India shows strong support and belief in the economic reforms of the government.