साझा करें
 
Comments

Your Excellency- प्रेसिडेंट बायडन,

सप्लाई chain रेसिलिएंस के महत्वपूर्ण विषय पर इस Summit की पहल करने के लिए मैं आपको धन्यवाद देता हूँ।आपने पदभार संभालते ही कहा था- America is back.और इतने कम समय में हम सब, ये होते हुए देख रहे हैं और इसलिए, मैं कहूंगा- Welcome Back !

Excellencies,

पेंडेमिक के शुरुआती महीनों में हम सभी देशों ने आवश्यक दवाइयों, स्वास्थ्य उपकरणों और वैक्सीन बनाने के Raw Material की कमी महसूस की। अब जब दुनिया इकनोमिक रिकवरी के प्रयासों में जुटी है तो सेमीकंडक्टर्स और अन्य कमोडिटी की सप्लाई प्रोब्लम्स, healthy growth के आड़े आ रही है।दुनिया में किसने सोचा था कि कभी शिपिंग केंटेनर की भी किल्लत हो जाएगी?

Excellencies,

वैक्सीन्स की ग्लोबल सप्लाई सुधारने के लिए भारत ने वैक्सीन के एक्सपोर्ट की गति बढ़ाई है। हम अपने Quad partners के साथ भी इंडो-पेसिफिक क्षेत्र में बेहतर और किफायती Covid-19 वैक्सीन की आपूर्ति करने के लिए काम कर रहे हैं। अगले वर्ष भारत की तैयारी, विश्व के लिए 5 billion COVID वैक्सीन डोज बनाने की है। इसके लिए भी बहुत जरूरी है कि Raw Material की सप्लाई में कोई अड़चन न आये।

Excellencies,

मेरा ये मानना है कि ग्लोबल सप्लाई चेन्स को बेहतर बनाने के लिए तीन पहलू सबसे महत्वपूर्ण हैं – Trusted Source, Transparency और Time-Frame. यह आवश्यक है कि हमारी Supply, Trusted Sources से हो। यह हमारी साझा security के लिए भी महत्वपूर्ण है।Trusted Sources भी ऐसे होने चाहिए जो reactive tendency न रखते हों ताकि supply chain को tit for tat अप्रोच से सुरक्षित रखा जाए। सप्लाई चेन की Reliability के लिए यह भी जरूरी है कि उसमें Transparency रहे।Transparency न होने की वजह से ही आज हम देख रहे हैं कि दुनिया की बहुत सारी कंपनियों को छोटी-छोटी चीजों की किल्लत से जूझना पड़ रहा है।जरूरी चीजों की सप्लाई अगर समय पर न हो, तो बड़ा नुकसान करती ही है।ये हमने कोरोना के इस कालखंड में फार्मा और मेडिकल सप्लाई में स्पष्ट रूप से महसूस किया है।इसलिए Time-Frame में सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए हमें हमारे सप्लाई चेन्स को डाइवर्सिफाई करना होगा।और इसके लिए विकासशील देशों में आल्टरनेटिव मैन्युफैक्चरिंग कैपेसिटी का विकास करना होगा।

Excellencies,

भारत ने pharmaceuticals, IT और दूसरे आइटम्स के Trusted Sources के तौर पर अपनी साख बनाई है। हम क्लीन टेक्नोलोजी supply चेन में भी अपनी भूमिका निभाने के लिए तत्पर है। मेरा सुझाव है कि हम अपनी टीम्स को निर्देश दें कि वे एक निश्चित समय-सीमा में, हमारे साझा लोकतान्त्रिक मूल्यों के आधार पर, आगे की कार्य योजना बनाने के लिए शीघ्र मिलें।

धन्यवाद।

प्रधानमंत्री मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम के लिए भेजें अपने विचार एवं सुझाव
पीएम मोदी की वर्ष 2021 की 21 एक्सक्लूसिव तस्वीरें
Explore More
काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण भारत को एक निर्णायक दिशा देगा, एक उज्ज्वल भविष्य की तरफ ले जाएगा : पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण भारत को एक निर्णायक दिशा देगा, एक उज्ज्वल भविष्य की तरफ ले जाएगा : पीएम मोदी
FPIs invest ₹3,117 crore in Indian markets in January so far

Media Coverage

FPIs invest ₹3,117 crore in Indian markets in January so far
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
प्रधानमंत्री ने महान कत्थक नृत्य कलाकार पंडित बिरजू महाराज के निधन पर शोक व्यक्त किया
January 17, 2022
साझा करें
 
Comments

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने महान कत्थक नृत्य कलाकार पंडित बिरजू महाराज के निधन पर शोक व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा है कि उनका निधन पूरे विश्व के लिये अपूरणीय क्षति है।

एक ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा हैः

"भारतीय नृत्य कला को विश्वभर में विशिष्ट पहचान दिलाने वाले पंडित बिरजू महाराज जी के निधन से अत्यंत दुख हुआ है। उनका जाना संपूर्ण कला जगत के लिए एक अपूरणीय क्षति है। शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और प्रशंसकों के साथ हैं। ओम शांति!"