साझा करें
 
Comments
बनासकांठा में भविष्य का हाईड्रोजन हब बनने की पूरी संभावना है। बनासकांठा, मिशन हाइड्रोजन को गति देगा : बनासकांठा में पीएम मोदी
सौनी योजना हो, सुजलाम सुफलाम योजना हो, ये आज गुजरात के विकास की अमृत धारा बन चुकी हैं : गुजरात में पानी की कमी पर पीएम मोदी
पिछले 20 सालों में गुजरात की समस्याएं कम हुई हैं और सुविधाएं बढ़ी हैं: मोडासा में पीएम मोदी
कांग्रेस नेता केवल सत्ता और सिंहासन की परवाह करते हैं और देश में बांटने की राजनीति करते हैं: मोडासा में पीएम मोदी
विकसित गुजरात की नई गाथा लिखने जा रही हैं गुजरात की बेटियां: दहेगाम में पीएम मोदी
जब संसाधनों और सुविधाओं की बात आती थी तो कांग्रेस की सरकारों में गांवों पर विचार तक नहीं किया जाता था। नतीजा यह हुआ कि गांवों और शहरों के बीच की खाई बढ़ती चली गई: बावला में पीएम मोदी
कांग्रेस सरकारों की यह पहचान रही है कि वे न तो विकास को प्राथमिकता देती हैं और न विरासत को : पीएम मोदी

अपने प्रचार अभियान को जारी रखते हुए पीएम मोदी ने आज गुजरात के पालनपुर, मोडासा, दहेगाम और बावला में जनसभाओं को संबोधित किया। पीएम मोदी ने पालनपुर में अपने संबोधन में पर्यटन, पर्यावरण, जल, पशुधन और पोषण पर विस्तार से बात की। मोडासा में पीएम मोदी ने बीजेपी को 100 फीसदी चुनावी सीटें देने के उत्तर गुजरात के संकल्प पर बात की। दहेगाम और बावला में अपने संबोधन में पीएम मोदी ने गुजरात के अगले 25 वर्षों के विकास पर बात की।

पालनपुर जनसभा की प्रमुख बातें

पीएम मोदी ने याद किया है कैसे पूर्व राष्ट्रपति डॉ एपीजे अब्दुल कलाम ने 2004 में पर्यटन के विस्तार की आवश्यकता पर बल दिया था। पीएम ने कहा कि कोरोना काल के बाद, घरेलू पर्यटन में बड़े पैमाने पर वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि बनासकांठा सहित इस पूरे क्षेत्र में भी पर्यटन की अभूतपूर्व संभावनाएं हैं। पर्यावरण की रक्षा में बनासकांठा की भूमिका पर पीएम मोदी ने कहा, "बनासकांठा में भविष्य का हाईड्रोजन हब बनने की पूरी संभावना है। बनासकांठा, मिशन हाइड्रोजन को गति देगा। भूपेंद्र भाई की सरकार जिस तेजी से हाईड्रोजन इकोसिस्टम पर काम कर रही है, उससे ये ऊर्जा से जुड़ा भविष्य का सबसे महत्वपूर्ण अभियान बन गया है।"

पीएम मोदी ने कहा," मैंने मां नर्मदा के पानी को घर-घर तक पहुंचाने के लिए पूरी शक्ति लगा दी। आज गुजरात में 3 हज़ार किलोमीटर लंबी बल्क पाइपलाइन है, 2 लाख किलोमीटर लंबी ग्रुप पाइपलाइन का नेटवर्क है। सौनी योजना हो, सुजलाम सुफलाम योजना हो, ये आज गुजरात के विकास की अमृत धारा बन चुकी हैं।" पीएम मोदी ने पशुपालन क्षेत्र को विकसित करने के लिए भाजपा सरकार के प्रयासों के बारे में बात की। पीएम मोदी ने आखिरकार गुजरात में कुपोषण मिटाने के सरकार के प्रयासों के बारे में लोगों को जानकारी दी।

 

मोडासा जनसभा की प्रमुख बातें

विपक्ष पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने गुजरात और राजस्थान में विपरीत स्थिति का उल्लेख किया। पीएम ने कहा,"जितना विश्वास यहां सरकार पर है, उतना ही प्रचंड अविश्वास वहां कांग्रेस सरकार पर है।" पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के नेता केवल सत्ता और सिंहासन की परवाह करते हैं और देश में विभाजनकारी राजनीति करते हैं। पीएम मोदी ने आगे कहा, "बीजेपी का एक ही लक्ष्य है- 'एक भारत, श्रेष्ठ भारत"

पीएम मोदी ने पिछले 2 दशकों में गुजरात द्वारा किए गए विकास का उल्लेख किया। उन्होंने कहा,"पिछले 20 वर्षों में गुजरात की समस्याएं कम हुई हैं और सुविधाएं बढ़ी हैं।" पीएम मोदी ने राज्य में कुपोषण के खिलाफ लड़ाई के बारे में विस्तार से बात की और लोगों को 'नरेंद्र-भूपेंद्र' सरकार के तहत राज्य की तेज प्रगति के बारे में बताया। पीएम मोदी ने आगे कहा कि उत्तर गुजरात की पानी की समस्या का बड़े पैमाने पर समाधान किया गया है और बताया कि कैसे आज पूरे गुजरात के घरों में नल के पानी के कनेक्शन हैं।

गुजरात को बिजली सरप्लस राज्य बनाने पर पीएम मोदी ने कहा,"आज गुजरात में बिजली पैदा करने की क्षमता पहले से 5 गुना ज्यादा हो गई है।" उन्होंने आगे कहा कि सरप्लस बिजली की वजह से पशुपालन क्षेत्र को काफी फायदा हुआ है। अंत में पीएम मोदी ने गुजरात में अगले 25 वर्षों तक निरंतर विकास के महत्व के बारे में बताया।

दहेगाम जनसभा की हाइलाइट्स

पीएम मोदी ने गुजरात में पिछले 20-25 सालों में बुनियादी सुविधाओं के विकास पर बात की और कहा कि गुजरात विकास के कई पैमानों पर देश में अग्रणी है। उन्होंने यह भी बताया कि आज भारत की अर्थव्यवस्था दुनिया में 5वें नंबर पर है। 8 वर्ष पहले 10 नंबर पर थी। पीएम मोदी ने कहा, "गुजरात की अर्थव्यवस्था पिछले 20 वर्षों में 14 गुना बढ़ी है"।

गांधीनगर के शिक्षा के केंद्र के रूप में उभरने की बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि पिछले 20 वर्षों में गांधीनगर में कई संस्थान, विश्वविद्यालय और स्कूल स्थापित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि कैसे गुजरात बुनियादी विकास से परे जा रहा है और आधुनिक बुनियादी ढांचे का निर्माण कर रहा है। पीएम मोदी ने GIFT शहर को आधुनिक विकास के एक चमकदार मॉडल के रूप में आगे बढ़ाया। पीएम मोदी ने आगे एक विकसित गुजरात की बराबरी की जो एक विकसित भारत के लिए जरूरी है।


गुजरात के विकास में महिलाओं और बच्चियों की भूमिका पर पीएम मोदी ने कहा, "गुजरात की बेटियां विकसित गुजरात की नई गाथा लिखने जा रही हैं।" पीएम मोदी ने कहा कि कैसे डबल इंजन सरकार विभिन्न योजनाओं के माध्यम से महिलाओं को सशक्त बना रही है। पीएम मोदी ने आगे कहा," अब आयुष्मान भारत-मां योजना से 5 लाख रुपए तक का इलाज मुफ्त है। ये सुविधा अनेक प्राइवेट अस्पतालों में भी उपलब्ध है। इसका लाभ गुजरात के लाखों परिवार ले चुके हैं।"

 

बावला जनसभा की प्रमुख बातें

दिन की अपनी आखिरी जनसभा में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा," गांधी जी कहा करते थे, भारत की आत्मा उसके गांवों में बसती है। लेकिन कांग्रेस के शासन में भारत की आत्मा को भी नजरअंदाज किया गया। जब संसाधनों की बात आती थी, सुविधाओं की बात आती थी, तो कांग्रेस सरकारों में गांवों को पूछा तक नहीं जाता था। नतीजा ये हुआ कि गांवों और शहरों में खाई लगातार बढ़ती गई।" पीएम मोदी ने आगे कहा कि 20 साल पहले गुजरात के गांवों की स्थिति बहुत खराब थी, लेकिन आज बीजेपी सरकार के तहत पूरी तरह से कायाकल्प कर दिया गया है।

पीएम मोदी ने कहा कि कैसे नियमित जल आपूर्ति ने क्षेत्र में धान की फसलों की पैदावार और गुणवत्ता को मजबूत किया है। पीएम मोदी ने आगे भाजपा सरकार द्वारा गांवों में शहर जैसी सुविधाएं लाने के लिए किए गए प्रयासों पर बात की। पीएम मोदी ने ग्रामीणों को विभिन्न योजनाओं और उनके लाभों का उदाहरण दिया।


गुजरात में विकसित हो रहे नये औद्योगिक क्षेत्र पर पीएम मोदी ने कहा "बावला, साणंद, चांगोदर और केराला में Gujarat Industrial Development Corporation के प्रयास से नए उद्योग लगे हैं, यहां के लोगों को नए अवसर मिले हैं।" उन्होंने कहा कि गुजरात की नई औद्योगिक पॉलिसी की वजह से गुजरात में रोजगार के 15 लाख नए अवसर बनेंगे।


अंत में विरासत के विकास और संरक्षण में कांग्रेस की विफलताओं पर लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, "कांग्रेस सरकारों की पहचान रही है कि वो ना तो विकास को प्राथमिकता देती हैं और ना ही विरासत को। कांग्रेस ने कैसे गुजरात के हर गौरव को भुलाने की कोशिश की, उसका एक उदाहरण लोथल भी है।
कांग्रेस सरकारों के समय ना तो लोथल का गौरवगान किया गया और ना ही भारत की इस अनमोल विरासत की ताकत को पहचाना गया।"

 

Explore More
आज का भारत एक आकांक्षी समाज है: स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

आज का भारत एक आकांक्षी समाज है: स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी
A day in the Parliament and PMO

Media Coverage

A day in the Parliament and PMO
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
सोशल मीडिया कॉर्नर 8 फ़रवरी 2023
February 08, 2023
साझा करें
 
Comments

PM Modi's Visionary Leadership: A Pillar of India's Multi-Sectoral Growth

New India Appreciates PM Modi's Reply to The Motion of Thanks in The Lok Sabha