साझा करें
 
Comments
एनडीए के लिए एक वोट इस क्षेत्र में बेहतर निवेश के लिए एक वोट है। हम यहां और अधिक उद्योगों को लाने के लिए सही माहौल बना रहे हैं: मदुरै में प्रधानमंत्री मोदी
1980 के दशक में कांग्रेस ने एमजीआर के लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित सरकार को बर्खास्त कर दिया था फिर चुनाव में उन्होंने जीत हासिल की थी : प्रधानमंत्री मोदी
डीएमके और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि दोनों दलों के पास बात करने के लिए कोई वास्तविक एजेंडा नहीं है और उन्हें अपने झूठ पर नियंत्रण रखना चाहिए।
नारी शक्ति को सशक्त बनाने के लिए मदुरै हमें महत्वपूर्ण सबक सिखाता है और हम इसे मीनाक्षी अम्मन की पूजा के तरीके में देखते हैं: प्रधानमंत्री मोदी
आज देश की सोच स्पष्ट रूप से भाई-भतीजावाद की राजनीति के खिलाफ है : कन्याकुमारी में प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने आज तमिलनाडु के मदुरै और कन्याकुमारी में जनसभाओं को संबोधित किया। मदुरै के मीनाक्षी मंदिर की अपनी यात्रा के बारे में जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा, "कल मुझे श्री मीनाक्षी मंदिर में प्रार्थना करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। मैं अपने जीवन में उन दिव्य पलों को संजोता रहूंगा।"

मदुरै का तमिल संस्कृति के साथ जुड़ाव की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, " मदुरै, दुनिया की सबसे पुरानी भाषा तमिल से निकटता से जुड़ा हुआ है। मैं तमिल संस्कृति और साहित्य को अधिक लोकप्रिय बनाने के लिए काम करने वाले सभी लोगों की सराहना करना चाहता हूं। इस भूमि का महात्मा गांधी पर बहुत प्रभाव था।"

एमजीआर के योगदान की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा," दक्षिण तमिलनाडु और विशेष रूप से मदुरै का एमजीआर के साथ एक विशेष संबंध है। मदुरै वीरन ... इस फिल्म को कौन भूल सकता है? हम सभी जानते हैं कि एमजीआर को अपनी आवाज देने वालों में कौन था- ये टी एम साउंडराजन थे। 1980 में कांग्रेस ने एमजीआर की लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित सरकार को बर्खास्त कर दिया था। फिर हुए चुनाव में एमजीआर ने मदुरै पश्चिम सीट से जीत हासिल की। मदुरै के लोग चट्टान की तरह उनके पीछे खड़े थे। 1977, 1980 और 1984 में, एमजीआर ने दक्षिणी तमिलनाडु से जीत हासिल की।"


प्रधानमंत्री मोदी ने केंद्र द्वारा शुरू की गई विकासात्मक योजनाओं पर प्रकाश डाला और कहा, " हमने जल जीवन मिशन शुरू किया है। हमारा उद्देश्य 2024 तक भारत के हर घर में नल का जल कनेक्शन सुनिश्चित करना है। तमिलनाडु में जल जीवन मिशन लॉन्च होने के बाद से 16 लाख से अधिक नल के पानी के कनेक्शन प्रदान किए गए हैं। इस साल के केंद्रीय बजट में इकोनॉमिक कॉरिडोर की एक सीरीज की घोषणा की गई है और उनमें से एक मदुरई-कोल्लम कॉरिडोर है। तमिलनाडु में रेलवे इन्फ्रा प्रोजेक्ट्स के लिए आवंटित फंड में 2009 की तुलना में रिकॉर्ड 238% की वृद्धि हुई है।"

प्रधानमंत्री ने कहा, "सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र से प्रेरित होकर एनडीए सरकार 130 करोड़ भारतीयों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए काम कर रही है। तमिलनाडु और विशेष रूप से दक्षिणी तमिलनाडु के लिए हम इन्फ्रास्ट्रक्चर, सिंचाई, निवेश पर ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं।"

कांग्रेस-डीएमके गठबंधन पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने आरोप लगाया," डीएमके और कांग्रेस के पास बात करने के लिए कोई वास्तविक एजेंडा नहीं है, लेकिन उन्हें अपने झूठ पर नियंत्रण रखना चाहिए क्योंकि लोग नासमझ नहीं हैं। कांग्रेस-डीएमके खुद को तमिल संस्कृति के एकमात्र रक्षक के रूप में दिखाते रहते हैं, लेकिन तथ्य कुछ और ही बताते हैं।"

मदुरै में रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, " 2016 में तमिलनाडु कांग्रेस के घोषणापत्र में जल्लीकट्टू पर प्रतिबंध लगाने की बात कही गई थी। कांग्रेस और डीएमके को खुद पर शर्म आनी चाहिए। 2016-2017 में तमिलनाडु के आम लोग इसका समाधान चाहते थे और वे चाहते थे कि जल्लीकट्टू जारी रहे। मैं उनके दर्द को महसूस कर सकता था। हमारी सरकार ने तब तमिलनाडु में AIADMK सरकार द्वारा लाए गए अध्यादेश को मंजूरी दी।"

विपक्ष की आलोचना करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, " कांग्रेस और डीएमके ने काम न करने की कला में महारत हासिल की है और फिर उन लोगों के बारे में झूठ फैला रहे हैं जो वास्तव में काम करते हैं। एम्स मदुरै का मुद्दा इसका एक क्लासिक उदाहरण है। सत्ता में कई वर्षों में तक रहने के बावजूद कांग्रेस और डीएमके ने इसके बारे में नहीं सोचा। यह हमारी सरकार थी जिसने यहां एम्स लाया।"

नारी शक्ति के बारे में बात करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, " नारी शक्ति को सशक्त बनाने में मदुरै हमें महत्वपूर्ण सबक सिखाता है। हम इसे उस तरीके में देखते हैं जिस तरह से मीनाक्षी अम्मन की पूजा की जाती है। हम इसे कन्नगी अम्मान, रानी मंगम्मल, रानी वेलू नाचियार के सम्मान में देखते हैं।"

कन्याकुमारी में पीएम मोदी ने 1964 में क्षतिग्रस्त हुई रामेश्वरम-धनुषकोडी रेलवे लाइन के बारे में बात की। उन्होंने कहा, "50 लंबे साल लेकिन रामेश्वरम-धनुषकोडी की रेलवे लाइन की मरम्मत के बारे में किसी ने नहीं सोचा। यह हमारी सरकार थी जिसने एक नई रेलवे लाइन बनाने का काम शुरू किया। पम्बन रेल ब्रिज के साथ भी ऐसा ही हुआ। पिछली सरकार ने इसे नजरअंदाज किया। हमने इसे फिर से बनाने पर ध्यान केंद्रित किया।"

कांग्रेस के खिलाफ अपने तेवर को जारी रखते हुए प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया," सेंट्रल दिल्ली में केवल एक राजवंश के स्मारकों के लिए बहुत मूल्यवान अचल संपत्ति दी गई है। हमने क्या किया? हमने तमिलनाडु में प्रिय डॉक्टर कलाम के लिए एक स्मारक बनाया। मैं व्यक्तिगत रूप से इसके उद्घाटन के लिए गया था।"

प्रधानमंत्री ने कहा कि तमिलनाडु में स्थिति ऐसी है कि डीएमके के वरिष्ठ नेता, जिन्होंने कलैगनार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम किया है, पार्टी के नये क्राउन प्रिंस के कारण घुटन महसूस कर रहे हैं। उन्होंने वंशवाद की राजनीति के लिए विपक्ष की निंदा की और कहा, " हमारा ध्यान विकास है, विपक्ष ने खुद को एक वंश क्लब में बांध लिया है। वे सभी चाहते हैं कि अपने बच्चों और पोते की स्थिति को सुरक्षित रखें। वे लोग आपके बेटों और पोते के बारे में परेशान नहीं हैं।"


प्रधानमंत्री मोदी ने कन्याकुमारी की रैली में कहा, " हमारी सरकार सेवा करने से पहले लोगों की जाति, पंथ या संप्रदाय नहीं देखती है। हमारी सरकार सबके लिए है। फादर एलेक्सिस प्रेम कुमार तमिलनाडु के हैं। लेकिन, दूसरों की सेवा करने की उनकी इच्छा उन्हें अफगानिस्तान ले गई। 18 महीनों तक आतंकवादियों ने उन्हें बंधक बना लिया। उनके परिवार ने उम्मीद छोड़ दी थी, लेकिन हमारी सरकार ने नहीं। वे सुरक्षित घर लौट आए। इसी तरह से फादर टॉम, यमन से सुरक्षित वापस लौटे।

तटीय क्षेत्रों के विकास के लिए तीन स्तंभों की बात करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, " पहला- पोर्ट लेड डेवलपमेंट और मॉर्डन इफ्रास्ट्रक्चर के माध्यम से बढ़ते अवसर, दूसरा- हम ब्लू इकोनॉमी को आगे पुश कर इनकम बढ़ा रहे हैं। नये फिशिंग हार्बर और फिश लैडिंग सामने आ रहे हैं, तीसरा स्तंभ है - बेहतर सड़कों और अंतर्देशीय जलमार्गों के माध्यम से कनेक्टिविटी बढ़ाना।"

प्रधानमंत्री मोदी ने तमिलनाडु के लोगों को जनसभा में आने के लिए धन्यवाद दिया और मतदाताओं से आगामी चुनावों में एनडीए को वोट देने के लिए रिकॉर्ड संख्या में मतदान करने का आग्रह किया।

 

मोदी सरकार के #7YearsOfSeva
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
India to share Its CoWIN success story with 20 countries showing interest

Media Coverage

India to share Its CoWIN success story with 20 countries showing interest
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
सोशल मीडिया कॉर्नर 22 जून 2021
June 22, 2021
साझा करें
 
Comments

Citizens hail Modi Govt for raising the pace of the vaccination drive in an unprecedented way

India putting up well-planned fight against Covid-19 under PM Modi's leadership