जब मैं गुजरात का सीएम था, मैंने राजस्थान को पानी दिया और कोई किसी भी प्रकार का कोई विवाद नहीं था: चित्तौड़गढ़ में पीएम मोदी
पीएम मोदी ने कहा, मैं राजस्थान के युवाओं को गारंटी देना चाहता हूं कि पेपर लीक माफिया को बख्शा नहीं जाएगा।
राजस्थान बड़े विश्वास और भरोसे के साथ कह रहा है- भाजपा आएगी और गुंडागर्दी जाएगी, भाजपा आएगी और दंगे रुकवायेगी, भाजपा आएगी और पथराव रुकवायेगी, भाजपा आएगी और बेईमानी रुकवायेगी: पीएम मोदी
पीएम मोदी ने कहा, हर भ्रष्टाचारी, गुंडा, दंगाई, अत्याचारी और कांग्रेस का हर नेता खुद को राजस्थान की सरकार मान बैठा है। कांग्रेस ने प्रदेश को लूटने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को चित्तौड़गढ़ में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि राजस्थान और पूरा मेवाड़ क्या सोच रहा है, यह जनता-जनार्दन के इस जोश और उत्साह से साफ-साफ नजर आ रहा है। राजस्थान में कांग्रेस सरकार की विदाई का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। इस राज्य में निरंतर बढ़ते अपराध, भ्रष्टाचार और कुशासन को देखकर लोग कह रहे हैं कि अब भाजपा आएगी, वही गुंडागर्दी, बेईमानी, दंगे और भ्रष्टाचार रुकवाएगी। वे कह रहे हैं कि भाजपा ही युवाओं के लिए रोजगार, नारी शक्ति के लिए सुरक्षा और राजस्थान के लिए समृद्धि लाएगी। उन्होंने कहा कि दिल्ली में बैठे लोगों को भले ही भरोसा ना हो, लेकिन यहां के सीएम ने तो मान ही लिया है कि वे जा रहे हैं। इसलिए उन्होंने एक प्रकार से भाजपा को बधाई दे दी है। मुख्यमंत्री गहलोत अब आग्रह कर रहे हैं कि भाजपा सरकार बनने के बाद उनकी योजनाओं को बंद ना किया जाए।

महाराणा प्रताप और रानी पद्मिनी के शौर्य की भूमि के साथ ही नाथद्वारा और सांवलिया सेठ जी की पावन धरती मेवाड़ को प्रणाम करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि राजस्थान की पहचान आतिथ्य सत्कार की है। लोक संगीत, लोक संस्कृति, शौर्य और विरासत पर गर्व करने की रही है। लेकिन करीब 5 साल में कांग्रेस की सरकार ने राजस्थान की साख को तबाह कर दिया। आज जब अपराध, अराजकता, दंगे और पत्थरबाजी की बात आती है, तो राजस्थान टॉप पर आता है। आज जब महिलाओं-दलितों-पिछड़ों पर अत्याचार की बात होती है, तो भी राजस्थान ही सबसे आगे दिखता है। क्या आपने इसीलिए कांग्रेस को वोट दिया था? राजस्थान के लोगों को भ्रम में डालकर कांग्रेस ने यहां सरकार तो बना ली, लेकिन वो इसे चला नहीं पाई। जहां मुख्यमंत्री अपनी कुर्सी बचाने में लगे रहे, वहीं आधी कांग्रेस कुर्सी गिराने में जुटी रही।

कांग्रेस के लूट और करप्शन पर चोट करते हुए पीएम ने कहा कि कई मुद्दों पर कांग्रेस की आपस में भिन्नता रही हो, लेकिन भ्रष्टाचार करने में कांग्रेसियों की सहमति रही है। कांग्रेस के राज में हर भ्रष्टाचारी, हर गुंडा, हर दंगाई और हर अत्याचारी खुद को राजस्थान की सरकार मान बैठा है। इसलिए तो प्रदेश की जनता कह रही है- राजस्थान को बचाएंगे, भाजपा सरकार को लाएंगे। उन्होंने कहा कि मैं राजस्थान की जनता को विश्वास दिलाता हूं कि जनहित की किसी योजना को रोका नहीं जाएगा, बल्कि उसे और बेहतर बनाया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मोदी की गारंटी मतलब, हर गारंटी के पूरा होने की गारंटी है, यहां मैं एक और गारंटी देना चाहता हूं। राजस्थान में जिन-जिन ने भ्रष्टाचार किया है, गरीबों के पैसे लूटे हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई जरूर होगी। कांग्रेस सरकार का तो हाल ये है- आपणो घोड़ो छाया में बाँधणों, दूजां को फरबा द्यो! यानि जनता के पैसों से अपनी तिजोरी भरो और जनता को बेहाल छोड़ दो! सरकार ने राजस्थान के युवाओं के साथ जो धोखा किया गया है, भाजपा उसकी तह तक जाएगी। यहां के पेपरलीक माफिया को पाताल से भी पकड़ा जाएगा और कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी।

कांग्रेस के झूठे वादे करने पर पीएम मोदी ने कहा कि यह पार्टी वोट पाने के लिए भांति-भांति के छल-प्रपंच करती है, झूठी घोषणाएं और वादे करती है। दशकों तक कांग्रेस ने सैनिकों के साथ भी वन रैंक वन पेंशन को लेकर ऐसा ही छल किया। कांग्रेस सिर्फ 500 करोड़ रुपये दिखाकर कहती रही कि वन रैंक वन पेंशन को लागू करेगी। इतने कम बजट में ये करना नामुमकिन था। हमने सैनिक परिवारों को वन रैंक वन पेंशन की गारंटी दी थी और इसे डंके की चोट पर पूरा भी किया। अभी तक पूर्व सैनिकों को 70 हजार करोड़ रुपये OROP के तहत मिल चुके हैं। उन्होंने कहा कि जब भी कांग्रेस को पक्का हो जाता है कि वो चुनाव हारने वाली है, वो ऐसे ही झूठी घोषणाएं करने लगती है। लेकिन राजस्थान की जनता पूछ रही है कि इतनी ही चिंता थी तो बीते 4-5 साल कहां थे? कुर्सी बचाने के अलावा और क्या काम किया है?

केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि कोरोना काल में हर परिवार का चूल्हा जलता रहे, ये गारंटी मोदी ने पूरी की। हर गरीब को कोरोना को मुफ्त टीका लगे, अस्पताल में मुफ्त इलाज हो ये गारंटी भी मोदी ने पूरी की। आज राजस्थान के हर गरीब, दलित, पिछड़े और आदिवासी परिवार को एक और गारंटी दे रहा हूं। हमारी सरकार हर गरीब को अपनी छत और पक्के घर देगी। उन्होंने कहा कि अभी तक राज्य के 45 लाख से अधिक परिवारों तक पिछले 4 साल में नल से जल पहुंच चुका है। भाजपा की सरकार बनते ही बाकी परिवारों तक भी ये तेज गति से पहुंचेगा। इस क्षेत्र में किसानों की सिंचाई से जुड़ी समस्याओं का भी समाधान किया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने मोदी मॉडल की बात करते हुए कहा कि इसका अर्थ है- हर लाभार्थी तक सीधा लाभ। इसलिए राजस्थान को भरोसा है कि भाजपा आएगी, बेईमानी जाएगी। जो कांग्रेस सरकार जानमाल की सुरक्षा नहीं कर सकती, उसे हटाना जरूरी है। जैसी बर्बरता उदयपुर में हुई, वैसी कभी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी। जिस वीरों की धरती पर दुश्मन पर भी धोखे से वार ना करने की परंपरा हो, वहां इतना बड़ा पाप हुआ। कांग्रेस सरकार ने बेटियों से अन्याय की परंपरा ही बना दी है। बाड़मेर में दलित महिला से दुष्कर्म हो, सूरतगढ़ में महिला की हत्या हो, भीलवाड़ा में गैंगरेप के बाद बच्ची को भट्टी में जलाने का निर्मम कांड हो या फिर जमवारामगढ़ में महिला को जिंदा जलाने का मामला हो…महिलाओं के खिलाफ यहां लगातार बढ़ रहे हैं। राजस्थान की वीर धरा की कैसी छवि कांग्रेस ने दुनिया के सामने बनाई है। हालात यह हैं कि कोई भी तीज-त्यौहार राजस्थान में शांति से मना पाना संभव नहीं है। इसलिए ही आज राजस्थान की माताएं-बहनें और बेटियां कह रही हैं- भाजपा आएगी, महिला सुरक्षा लाएगी। क्योंकि वो अच्छी तरह जानती हैं कि मोदी उनको दी हुई हर गारंटी पूरा कर रहा है।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन के अंत में नारी शक्ति वंदन अधिनियम की चर्चा की। उन्होंने कहा कि अब लोकसभा और विधानसभा में भी 33 प्रतिशत सीटों में बहनों को आरक्षण की गारंटी मोदी ने पूरी की है। कांग्रेस कितने दशकों से आरक्षण के नाम पर बहनों से वोट मांगती रही। लेकिन संसद में अपने साथियों से बिल को फड़वाती थी। ये तो मोदी पर आपका आशीर्वाद है, जो इस बार इनको समर्थन करना पड़ा। वरना इनकी मानसिकता क्या है, ये आप देख ही रहे हैं। कांग्रेस के घमंडिया गठबंधन के नेता महिलाओं को लेकर कैसी-कैसी अपमानित करने वाली बातें कर रहे हैं। ये इस कानून से बहुत नाराज़ हैं। ये चाहते ही नहीं हैं कि महिलाओं को उनका हक मिले। इसलिए बहाने बना रहे हैं। जाति-धर्म के नाम पर भ्रम फैला रहे हैं। राजस्थान की युवा बेटियों को अपने वोट से कांग्रेस की इस साजिश का जवाब देना है।

पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

Explore More
अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी
Boosting ‘Make in India’! How India is working with Asean to review trade pact to spur domestic manufacturing

Media Coverage

Boosting ‘Make in India’! How India is working with Asean to review trade pact to spur domestic manufacturing
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
गेमिंग वर्ल्ड के सितारों की प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात
April 13, 2024
पीएम मोदी ने अपनी गेमिंग स्किल का प्रदर्शन किया; मोबाइल, PC और VR गेम्स में अपनी दक्षता से भारत के टॉप गेमर्स को किया प्रभावित!
पीएम मोदी ने गेमिंग के फील्ड में इनोवेशन और डिजिटल सशक्तिकरण पर चर्चा की शुरुआत की।
युवा गेमर्स ने पीएम मोदी की कुशलता और अनुकूलता की सराहना की तथा उन्हें ‘NaMo OP' बैज दिया।

PC और VR गेमिंग की दुनिया के साथ गहराई से रूबरू होते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत के टॉप गेमर्स के साथ एक अनूठी बातचीत में भाग लिया। इस दौरान, प्रधानमंत्री ने तेजी से विकसित हो रही गेमिंग इंडस्ट्री के प्रति अपना उत्साह दिखाते हुए, गेमिंग सेशंस में भी सक्रिय भागीदारी प्रदर्शित की।

इस इवेंट में गेमिंग कम्युनिटी के नामचीन चेहरे @gcttirth (तीर्थ मेहता), @PAYALGAMING (पायल धारे), @8bitthug (अनिमेष अग्रवाल), @GamerFleet (अंशु बिष्ट), @MortaLyt (नमन माथुर), @Mythpat (मिथलेश पाटणकर) और @SkRossi (गणेश गंगाधर) ने अपनी उपस्थिति दर्ज की।

प्रधानमंत्री मोदी ने मोबाइल, PC और VR गेमिंग में अपनी कुशलता का प्रदर्शन करते हुए युवा गेमर्स को आश्चर्य से भर दिया। पीएम मोदी की असाधारण गेमिंग स्किल के सम्मान में, गेमिंग कम्युनिटी ने उन्हें ‘NaMo OP’ बैज प्रदान किया।

ट्रेंडिंग गेमिंग शब्दावली जैसे "grind", "AFK" इत्यादि को सीखने के प्रति पीएम मोदी की उत्सुकता ने इस बातचीत को और भी अधिक रोचक बना दिया। उन्होंने अपना खुद का एक शब्द "P2G2" भी शेयर किया, जिसका अर्थ है "Pro People Good Governance."

इस इवेंट ने आइडियाज के वाइब्रेंट एक्सचेंज के लिए एक प्लेटफॉर्म के रूप में कार्य किया, जिसमें यंग जेनरेशन की यूनिक पर्सनल जर्नीज से लेकर, गेमिंग के इस बढ़ते क्षेत्र में उन्हें प्रसिद्धि दिलाने तथा गेमिंग सेक्टर में लेटेस्ट डेवलपमेंट्स तक पर चर्चा हुई।

चर्चा के प्रमुख विषयों में गैंबलिंग और गेमिंग के बीच के फर्क, रेस्पॉन्सिबल गेमिंग प्रैक्टिसेज को बढ़ावा देने और गेमिंग कम्युनिटी के लिए सकारात्मक माहौल बनाने पर भी जोर दिया गया। साथ ही, प्रतिभागियों ने गेमिंग इंडस्ट्री को आगे बढ़ाने के लिए इंक्लूजिविटी और डायवर्सिटी को रेखांकित करते हुए, इस क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के अहम मुद्दे पर भी गहन चर्चा की।

पीएम मोदी ने न केवल esports और कंटेंट क्रिएशन की क्षमता के बारे में बात की, बल्कि गेम डेवलपमेंट की भी बात की, जो भारत और उसकी वैल्यूज पर केंद्रित है। उन्होंने प्राचीन भारतीय खेलों को डिजिटल फॉर्मेट में जीवंत करने की क्षमता पर चर्चा की, वह भी ओपन-सोर्स स्क्रिप्ट के साथ ताकि देश भर के युवा इसमें अपना योगदान दे सकें।