साझा करें
 
Comments
प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पार्टी की आलोचना करते हुए कहा, कांग्रेस गुजरात के नेताओं को बर्दाश्त या स्वीकार नहीं कर सकती है
मैं कांग्रेस पार्टी को उनके औरंगज़ेब राज के लिए बधाई देता हूं: राहुल गांधी की कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर पदोन्नती पर मणिशंकर अय्यर के वक्तव्य पर प्रधानमंत्री मोदी का जवाब
कांग्रेस ने ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा नहीं दिया; कांग्रेस ओबीसी विरोधी है लोगों को उसे दंडित करना चाहिए: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात को अपमानित करने के लिए आज कांग्रेस पार्टी की आलोचना की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस गुजरात के नेताओं को बर्दाश्त नहीं कर सकती है। कांग्रेस उन्हें स्वीकार नहीं कर सकती है और इसलिए हमेशा उनके और राज्य के लोगों के प्रति अपनी नाराजगी जाहिर करती है। 

पीएम मोदी ने राहुल गांधी की कांग्रेस के अध्यक्ष के रूप में हुई पदोन्नति को लेकर मीडिया में मणिशंकर अय्यर के बयान पर बात करते हुए कहा, "मैं कांग्रेस पार्टी को औरंगजेब राज के लिए बधाई देता हूं।" मणिशंकर अय्यर ने कहा था कि जब शाहजहां के बाद सत्ता औरंगजेब को सौंपी गई तब क्या कोई चुनाव नहीं हुआ था और यह स्वाभाविक है कि सिंहासन बादशाह के उत्तराधिकारी को ही मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा, "125 करोड़ भारतीय मेरे भगवान हैं।" 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "कांग्रेस ने क्यों कहना बंद कर दिया कि भाजपा मुस्लिम विरोधी है। इससे पहले वे अपनी धर्मनिरपेक्षता दिखाते थे, अब सबको दिख रहा है कि चुनाव के समय वे क्या-क्या कर रहे हैं। उनके लिए दुर्भाग्य कि बात यह है कि मुसलमान उन्हें अच्छी तरह से जान चुके हैं। 

पीएम मोदी ने कांग्रेस को ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा नहीं देने की बात पर कहा कि हमने इसे बिल के रूप में पेश किया लेकिन राज्यसभा में उन्होंने इसे अटका दिया। कांग्रेस ओबीसी विरोधी है, लोगों को उसे दंडित करना चाहिए।

प्रधानमंत्री ने गुजरात के आदिवासी क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी के लिए कांग्रेस पार्टी को दोषी ठहराते हुए भाजपा सरकार द्वारा शुरु की गई 108 एम्बुलेंस सेवा का जिक्र किया जिससे इन क्षेत्रों में लोगों के लिए बेहतर स्वास्थ्य सुविधा सुनिश्चित हो रही है।

भावनगर में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि गुजरात शांति, एकता और सद्भावना की शक्ति के परिणामस्वरूप विकसित हुआ है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने बार-बार जाति, समुदाय, शहरी और ग्रामीण की तर्ज पर लोगों को विभाजित करने का प्रयास किया। कांग्रेस ने अंग्रेजों से 'divide and rule' की नीति सीखी है। 

कांग्रेस नेता और वकील कपिल सिब्बल की आलोचना करते हुए पीएम मोदी ने कहा की, "कांग्रेस के पास कपिल सिब्बल के रूप में एक 'सक्षम' वकील है। वह हमेशा सभी तरह के गड़बड़ और गलत मामलों की वकालत करते हैं। 2007 में वह विरामगम आए और कहा कि परिणाम निकलने के बाद मोदी जेल में होंगे। उस समय वह उस सरकार में काफी बड़े पद पर थे।"

 

जूनागढ़ में कांग्रेस शासन की आलोचना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि लोग केवल भाजपा की जीत को देखने के लिए उत्सुक नहीं हैं बल्कि वे यह भी सुनिश्चित कर हैं कि जो लोग गुजरात को अपमानित कर रहे हैं, वे हार गए। 

उन्होंने कहा, "जब हम जूनागढ़ को पर्यटन राजधानी के तौर पर विकसित करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे थे, तब कांग्रेस ने इस क्षेत्र पर ध्यान नहीं दिया। उन्होंने सालों तक 'रोपवे परियोजना' को अटकाए रखा। " 

प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्र को एकजुट करने में सरदार पटेल के योगदान को याद किया। उन्होंने साउनी योजना और राज्य में किसानों को इससे मिले लाभ के बारे में विस्तार से बात की।

जामनगर में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि लोगों को अब कांग्रेस पार्टी से कोई उम्मीद नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक चुनाव के बाद हर राज्य से कांग्रेस का सफाया हो रहा है। 

एलईडी बल्बों के वितरण के बारे में बात करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, "सस्ते एलईडी बल्बों से पैसे की बचत होती है, मध्यवर्गीय परिवारों को इसका लाभ मिला है। मैं कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि आपके समय में एलईडी बल्ब की कीमत ज्यादा क्यों थी।"

प्रधानमंत्री मोदी ने 'पढ़ाई', 'कमाई' और 'दवाई' पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार छात्रों के लिए उचित शिक्षा, युवाओं के लिए रोजगार और बुजुर्गों के लिए उचित स्वास्थ्य सुविधा सुनिश्चित करने के लिए समर्पित है। जबसे गुजरात में भाजपा सत्ता में आई है तबसे राज्य में रोजगार के अवसर बढ़े हैं। देश के विभिन्न हिस्सों से लोग गुजरात में आकर रोजगार कर रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि सरकार भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ एक बड़ी लड़ाई लड़ रही है। नोटबंदी से देश में काले धन और सक्रिय शेल कंपनियों का पता लगाने में मदद मिली है। 

प्रधानमंत्री ने सर्जिकल स्ट्राइक पर कहा कि भारत के सशस्त्र बलों ने अपनी ताकत का प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा, "वायुसेना में किसी उच्च पद पर सेवा करने वाले व्यक्ति ने कहा कि 26/11 के बाद उन्होंने तत्कालीन प्रधानमंत्री से सर्जिकल स्ट्राइक की योजना पर चर्चा की थी। दुर्भाग्य से, तत्कालीन सरकार ने ऐसा करने का साहस नहीं दिखाया। जब उरी में हमला हुआ तब पूरे देश ने देखा कि हमने कैसे आतंकवादियों को जवाब दिया।"

भारत के ओलंपियन को प्रेरित करें!  #Cheers4India
मोदी सरकार के #7YearsOfSeva
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
Over 44 crore vaccine doses administered in India so far: Health ministry

Media Coverage

Over 44 crore vaccine doses administered in India so far: Health ministry
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
प्रधानमंत्री ने सीआरपीएफ कर्मियों को उनके स्थापना दिवस पर बधाई दी
July 27, 2021
साझा करें
 
Comments

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) कर्मियों को उनके स्थापना दिवस पर बधाई दी है।

अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा है, “सीआरपीएफ के स्थापना दिवस पर सभी जांबाज @crpfindia कर्मियों और उनके परिवार वालों को बधाई। सीआरपीएफ को अपनी वीरता और कर्तव्यपरायणता के लिये जाना जाता है। भारत के सुरक्षा तंत्र में उसकी प्रमुख भूमिका है। राष्ट्रीय अखंडता को अक्षुण्ण बनाने में उनका योगदान अत्यंत सराहनीय है।”