साझा करें
 
Comments

जनवरी 2020 में संग्रहित सकल जीएसटी राजस्व रुपये 1,10,828 करोड़ है जिसमें से सीजीएसटी रुपये 20,944 करोड़, एसजीएसटी रुपये 28,224 करोड़ (आयातों पर संग्रहित रुपये 23,481 करोड़) और सेस रुपये 8,637 करोड़ (आयातों पर संग्रहित रुपये 824 करोड़) है। 31 जनवरी, 2020 तक दिसम्बर महीने के लिए फाइल किए गए जीएसटीआर 3बी रिटर्न की कुल संख्या 83 लाख (अनंतिम) है।

सरकार ने नियमित निपटान के रूप में सीजीएसटी को रुपये 24,730 करोड़ और आईजीएसटी से एसजीएसटी को रुपये 18,199 करोड़ का निपटान किया है। जनवरी 2020 में नियमित निपटान के बाद केन्द्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा अर्जित कुल राजस्व सीजीएसटी के लिए रुपये 45,674 करोड़ और एसजीएसटी के लिए  रुपये 46,433 करोड़ है।

घरेलू कारोबार से जनवरी 2020 के दौरान जीएसटी राजस्वों ने जनवरी 2019 के राजस्व की तुलना में 12 प्रतिशत की प्रभावी वृद्धि दर्ज की है।

चार्ट वर्तमान वर्ष के दौरान राजस्व का रूझान प्रदर्शित करता है। सारणी जनवरी 2019 की तुलना में जनवरी 2020 के दौरान प्रत्येक राज्य में संग्रहित जीएसटी के राज्य-वार आंकड़े प्रदर्शित करती है।

 

जनवरी 2020 के लिए राज्य-वार आंकड़े


 राज्य

जनवरी-19

जनवरी-20

वृद्धि

1

जम्मू और कश्मीर

331

371

12%

2

हिमाचल प्रदेश

647

675

4%

3

पंजाब

1,216

1,340

10%

4

चण्डीगढ

159

195

22%

5

उत्तराखण्ड

1,146

1,257

10%

6

हरियाणा

4,815

5,487

14%

7

दिल्ली

3,525

3,967

13%

8

राजस्थान

2,776

3,030

9%

9

उत्तर प्रदेश

5,485

5,698

4%

10

बिहार

1,039

1,122

8%

11

सिक्किम

176

194

11%

12

अरूणाचल प्रदेश

38

52

36%

13

नागालैंड

17

32

84%

14

मणिपुर

24

35

48%

15

मिजोरम

26

24

-8%

16

त्रिपुरा

52

56

8%

17

मेघालय

104

128

24%

18

असम

787

820

4%

19

पश्चिम बंगाल

3,495

3,747

7%

20

झारखण्ड

1,965

2,027

3%

21

ओडिशा

2,338

2,504

7%

22

छत्तीसगढ़

2,064

2,155

4%

23

मध्य प्रदेश

2,414

2,674

11%

24

गुजरात

6,185

7,330

19%

25

दमन एवं दीव

101

117

16%

26

दादर एवं नागर हवेली

173

165

-5%

27

महाराष्ट्र

15,151

18,085

19%

29

कर्नाटक

7,329

7,605

4%

30

गोवा

394

437

11%

31

लक्ष्यद्वीप

1

3

150%

32

केरल

1,584

1,859

17%

33

तमिलनाडू

6,201

6,703

8%

34

पुड्डुचेरी

159

188

18%

35

अण्डमान एवं निकोबार द्वीप समूह

35

30

-13%

36

तेलंगाना

3,195

3,787

19%

37

आन्ध्र प्रदेश

2,159

2,356

9%

97

अन्य क्षेत्र

194

139

-28%

99

केन्द्र अधिकार क्षेत्र

45

119

166%

 

कुल योग

77,545

86,513

12%

20 Pictures Defining 20 Years of Seva Aur Samarpan
मन की बात क्विज
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
World's tallest bridge in Manipur by Indian Railways – All things to know

Media Coverage

World's tallest bridge in Manipur by Indian Railways – All things to know
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
प्रधानमंत्री ने एनसीसी दिवस पर एनसीसी कैडेट्स को शुभकामनाएं दीं
November 28, 2021
साझा करें
 
Comments
एनसीसी के पूर्व छात्रों से एनसीसी अलुमनाई एसोसिएशन को समृद्ध बनाने का अनुरोध किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने एनसीसी दिवस पर एनसीसी कैडेट्स को शुभकामनाएं दी हैं। श्री मोदी ने देश भर के एनसीसी के पूर्व छात्रों से एनसीसी अलुमनाई एसोसिएशन को समर्थन देने और गतिविधियों में भागीदारी से एसोसिएशन को समृद्ध बनाने का भी अनुरोध किया।

कई ट्वीट्स के माध्यम से प्रधानमंत्री ने कहा,

“एनसीसी दिवस पर शुभकामनाएं। “एकता और अनुशासन” के आदर्श वाक्य से प्रेरित एनसीसी भारत के युवाओं को उनकी वास्तविक क्षमताओं का अहसास कराने और राष्ट्र निर्माण में अंशदान के लिए एक महान अनुभव की पेशकश करती है। यह इस साल जनवरी में एनसीसी रैली के दौरान दिया गया भाषण है।

कुछ दिन पहले, झांसी में ‘राष्ट्र रक्षा समर्पण पर्व’ के दौरान मुझे एनसीसी अलुमनाई एसोसिएशन के पहले सदस्य के रूप में पंजीकरण कराने का सम्मान प्राप्त हुआ। एक अलुमनाई एसोसिएशन की स्थापना उन सभी को एक साथ लाने का सराहनीय प्रयास है, जो एनसीसी के साथ जुड़े रहे हैं।

मैं देश भर के एनसीसी अलुमनाई से एसोसिएशन को अपने समर्थन और गतिविधियों में भागीदारी से एनसीसी अलुमनाई एसोसिएशन को समृद्ध बनाने का अनुरोध करता हूं। भारत सरकार ने एनसीसी के अनुभव को ज्यादा जीवंत और सार्थक बनाने के लिए कई प्रयास किए हैं। https://t.co/CPMGLryRXX”