साझा करें
 
Comments
चुनावों से तात्पर्य है - ‘लोक शिक्षण’ एवं लोगों व लोकतंत्र के बीच के बंधन को मजबूत करना: पीएम मोदी
देश की युवा शक्ति के सपने के एक न्यू इंडिया का निर्माण हो रहा है: पीएम मोदी
एक ऐसे न्यू इंडिया का निर्माण हो रहा है जो अपनी नारी शक्ति की आकांक्षाओं को पूरा करता हो: पीएम मोदी
एक ऐसे न्यू इंडिया का निर्माण हो रहा है जहाँ गरीबों के लिए अवसर होंगे: पीएम मोदी
गरीबों की ताकत और मध्यम वर्ग की आकांक्षाएं भारत को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगी: प्रधानमंत्री
प्रधानमंत्री ने बीजेपी को विश्व की सबसे बड़ी पार्टी बनाने के लिए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और पार्टी के अन्य कार्यकर्ताओं की सराहना की
सरकार बनती बहुमत से है लेकिन चलती सर्वमत से है। हमारी सरकार सभी के लिए है: प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज भारतीय जनता पार्टी के दिल्ली मुख्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।  उन्होंने देशवासियों को होली की शुभकामना देते हुए कहा कि भारत का हर त्योहार हमें अपनी कमियों को परास्त करते हुए आगे बढ़ने का संकल्प लेने का संदेश देता है। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि देश को 2022 तक वे न्यू इंडिया के तौर पर देखना चाहते हैं और पांच राज्यों के ये चुनाव न्यू इंडिया की नींव है।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि ‘’2022 में भारत की आजादी के 75 साल होंगे और 2022 के भारत के सपनों को पूरा करने के लिए एक आंदोलन करना है।‘’  उन्होंने कहा कि देश ने चुनाव केंद्रित सपनों की वर्षा बहुत देखी है। हम सवा सौ करोड़ देशवासियों को साथ लेकर न्यू इंडिया को आगे बढ़ाना चाहते हैं और पहला मुकाम हमारे सामने 2022 है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह न्यू इंडिया देश के युवाओं के लिए नए अवसर की मांग करता है। पांच राज्यों के चुनाव नतीजे नए हिंदुस्तान की नई नींव रखने जा रहे हैं। यह एक नए भारत का उदय है, नौजवानों के सपनों का न्यू इंडिया है, अभूतपूर्व रूप से जागरूक महिला समूहों के सपनों का न्यू इंडिया है।

प्रधानमंत्री ने देश की कार्यशील आबादी को और अधिक मौके उपलब्ध कराने की बात कही। श्री मोदी ने कहा ‘’गरीबों की सामर्थ्य शक्ति को पहचान कर उन्हें और अधिक अवसर उपलब्ध कराना है।‘’ श्री मोदी ने कहा कि देश का गरीब अब ‘कुछ दे दो’ की मानसिकता से निकल चुका है। अब देश के गरीब भी कहने लगे हैं कि आप मुझे अवसर दीजिए और मैं मेहनत करूंगा। उन्होंने कहा कि एक बार देश के गरीबों के अंदर खुद का बोझ उठाने की ताकत आ जाएगी तो इस देश के मध्यवर्ग पर पड़ने वाला अतिरिक्त बोझ पूरी तरह से हट जाएगा। उन्होंने कहा कि अर्थशास्त्र यह रूप न्यू इंडिया में दिखता नजर आ रहा है।

प्रधानमंत्री ने मतदान प्रतिशत में बढ़ोतरी को लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत कहा। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के प्रति प्रतिबद्धता और गहरी हो,  राष्ट्र निर्माण में लोगों की भागेदारी बढ़े, यह भारत जैसे देश के लिए बहुत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि हमें निरंतर कोशिश करते रहना चाहिए ताकि हम जनता जनार्दन की आकांक्षाओं को पूरी कर पाएं।

श्री मोदी ने कहा कि राष्ट्र के निर्माण में गरीबों को जितना अधिक अवसर मिलेगा उतनी ही तेज गति से देश विकास करेगा।

पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

प्रधानमंत्री मोदी के साथ परीक्षा पे चर्चा
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
Riding on direct payment, Punjab wheat procurement hits new high

Media Coverage

Riding on direct payment, Punjab wheat procurement hits new high
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Prime Minister, Shri Narendra Modi condoles demise of Giani Joginder Singh Vedanti
May 16, 2021
साझा करें
 
Comments

The Prime Minister, Shri Narendra Modi has expressed grief over the demise of Giani Joginder Singh Vedanti Ji.

"In a tweet, the Prime Minister said, "Giani Joginder Singh Vedanti Ji was scholarly and humble. His life was a manifestation of selfless human service. He worked to create a compassionate and harmonious society. Pained by his demise. Condolences to his family and admirers."