Share
 
Comments
Government is working towards improving ease of living for the people of Andaman and Nicobar Islands: PM Modi
PM Modi appreciates the people of the Nicobar Islands for their spirit and hard work in rebuilding the islands after the tsunami
PM Modi reaffirms Government's determination to not leave anyone, or any part of the country behind, in the march towards development

मंच पर उपस्थित सभी महानुभाव, कार निकोबार के मेरे प्‍यारे भाइयो और बहनों।

मैं कल काशी में मां गंगा के पास था और आज सुबह यहां इस विराट समंदर की गोद में आप सबके बीच मौजूद हूं। मां गंगा अपनी पवित्रता से जिस प्रकार भारत के जनमानस को आशीर्वाद देती रही है, उसी प्रकार ये सागर अनंतकाल से मां भारती के चरणों का वंदन कर रहा है, राष्‍ट्र की सुरक्षा और सामर्थ्‍य को ऊर्जा दे रहा है।

साथियो, आज जब मैं यहां आया हूं, तब आपसे पहले मैं कार निकोबार सहित यहां के तमाम द्वीपों पर बसे हमारे पूर्वजों को नमन करता हूं, जिन्‍होंने आजादी के लिए, यहां के विकास के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया।

साथियो, आपके पास प्रकृति का अद्भुत खजाना तो है ही, आपकी संस्‍कृति, परम्‍परा, कला और कौशल भी बेहतरीन है। थोड़ी देर पहले यहां पर जो नृत्‍य प्रस्‍तुत किया गया, बच्‍चों ने जो कला का प्रदर्शन किया; वो दिखाता है कि भारत की सांस्कृतिक सम्पन्नता हिंद महासागर जितनी ही विराट है।

विशेषतौर पर आप लोगों ने संयुक्‍त परिवार की जिस परम्‍परा को संजोकर रखा है- joint family, वो भारतीय जीवन-शैली की एक बहुत बड़ी ताकत है। काम का, संसाधनों का, श्रम का किस प्रकार से उचित उपयोग हो सकता है, कैसे मिल-बांटकर जीवन जिया जाता है; उसकी ये सच्‍ची मिसाल है। करगिल से लेकर कार निकोबार तक, कच्‍छ से लेकर कोहिमा तक हमारे समाज में ये family institution, family system बहुत बड़ी ताकत रहा है।

साथियो, थोड़ी देर पहले मैं सुनामी मेमोरियल, Wall of Lost Souls गया था। वहां मैंने उस भीषण प्राकृतिक आपदा में जीवन खोने वाले स्‍वजनों को श्रद्धासुमन अर्पित किए। 14-15 वर्ष पहले उस हृदय विदारक घटना ने यहां के जनमानस, आप सभी के जीवन को अस्‍त–व्‍यस्‍त कर दिया था, अपनों को दूर कर दिया था। लेकिन जिस प्रकार अपने पुरुषार्थ से आप सभी ने कार निकोबार को खड़ा कर दिया है, वो सचमुच में प्रशंसनीय है।

भाइयो और बहनों, कार निकोबार में जीवन और आसान हो, आप सभी को बेहतर सुविधाएं मिलें, अवसर मिलें- इसके लिए आज करोड़ों रुपये के projects का यहां लोकार्पण और शिलान्‍यास किया गया है। इसमें शिक्षा से लेकर स्‍वास्‍थ्‍य तक, रोजगार से लेकर skill development तक, transportation से लेकर बिजली तक, sports से लेकर tourism तक के अनेक project शामिल हैं। इन सभी projects के लिए मैं आप सभी को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। ये देश के विकास के लिए हमारी उस सोच का विस्‍तार है, जिसके मूल में infrastructure है, connectivity है। ‘सबका साथ सबका विकास’ यानी विकास से देश का कोई नागरिक भी न छूटे और कोई कोना भी अछूता न रहे, इसी भावना का ये प्रकटीकरण है1

देश के विस्‍तृत हिस्‍से की दूरियां भी मिटें और दिलों में सह-अस्तित्‍व का भाव भी मजबूत हो, इसी लक्ष्‍य के साथ हम काम कर रहे हैं। पिछले चार वर्षों से मेरा ये निरंतर प्रयास रहा है कि प्रधानमंत्री होने के नाते मैं खुद देश के कोने-कोने में जाऊं और आप सबसे मिल करके आप से संवाद कर सकूं।

साथियो, थोड़़ी देर पहले जिन परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्‍यास किया गया है, उसमें sea wall का प्रोजेक्‍ट भी शामिल है। आप सभी की ये लम्‍बे समय से मांग थी कि मिट्टी के कटाव के चलते जो खतरा पैदा हो रहा था, उससे निपटने के लिए उपाय किए जाएं। आपकी इस मांग को देखते हुए करीब 50 करोड़ रुपये की लागत से Sea Wall का निर्माण यहां किया जाएगा, जिसका शिलान्‍यास आज करने का मुझे सौभाग्‍य मिला है। अब इस कार्य पर तेज गति से काम होगा और जब ये निर्माण पूरा हो जाएगा तो ये Sea Wall कार निकोबार के लिए सुरक्षा कवच की तरह काम करेगी।

साथियो, सुरक्षा के साथ-साथ कार निकोबार में विकास की पंचधारा बहे- बच्‍चों को पढ़ाई, युवाओं को कमाई, बुजुर्गों को दवाई, किसानों को सिंचाई और जन-जन की सुनवाई; ये सभी सुविधाएं मिलें, इसके लिए भी काम किया जा रहा है। मुझे एहसास है कि यहां के युवा साथियों को शिक्षा के लिए, ट्रेनिंग के लिए दूर-दूर तक जाना पड़ता था। अब Arong गांव में industrial training institute यानी ITI बनने से आप सभी युवा साथियों को बहुत लाभ होने वाला है। यहां से अब कार निकोबार के युवा electrician, plumber, automotive technician बन करके निकलेंगे और देशभर में कहीं पर भी रोजगार के लिए समर्थ होंगे।

साथियो, कार निकोबार के युवा पारम्‍पारिक रोजगार के साथ-साथ आज शिक्षा, चिकित्‍सा और दूसरे कामों में भी आगे बढ़ रहे हैं। Sports की skill तो यहां के युवा साथियों में रची-बसी है। आपकी रगों में खेलकूद है। कार निकोबार फुटबॉल समेत अनेक खेलों में देश के बेहतरीन sporting talent के लिए भी मशहूर हो रहा है। थोड़ी देर पहले यहां के प्रतिभाशाली खिलाडि़यों से मुझे मिलने का अवसर भी मिला। मुझे बताया गया है कि यहां की जूनियर फुटबॉल टीम ने चार बार मशहूर सुब्रतो मुखर्जी कप जीता है।

साथियो, यहां के talent को, यहां की प्रतिभा को और निखारने के लिए अब लपाती गांव में बना आधुनिक खेल परिसर आपके लिए समर्पित है। ये अंडमान और निकोबार द्वीप समूह का एकमात्र ऐसा परिसर है। करीब 8 करोड़ रुपये की लागत से बने इस खेल परिसर में तमाम सुविधाएं बनाई गई हैं। Boys और Girls hostel के साथ-साथ यहां एक synthetic track भी बनाया गया है।

साथियो, फुटबॉल के अलावा साईक्लिंग हो, कायाकिंग हो, रोइंग हो- कार निकोबार के अनेक प्रतिभाशाली खिलाड़ी आपने देश को दिए हैं। आज जिस खेल परिषद को लोकार्पण हुआ है, भविष्‍य में यहां साइक्लिंग के लिए वेलोड्रोम और स्‍वीमिंग पूल बनाने की भी योजना है।

साथियो, केन्‍द्र सरकार अंडमान और निकोबार में रहने वाले हर नागरिक के लिए जीवन से जुड़ी हर व्‍यवस्‍था को आसान करने में जुटी है। सस्‍ता राशन हो, स्‍वच्‍छ पानी हो, गैस कनेक्‍शन हो, केरोसिन तेल हो; हर सुविधा को आसान करने का प्रयास किया जा रहा है। विशेषतौर पर यहां रहने वाले आप सभी जनों को बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं देने के लिए भी सरकार प्रतिबद्ध है। डिगलीपुर के सब-डिस्ट्रिक्‍ट अस्‍पताल का विस्‍तार होने से स्‍वास्‍थ्‍य सेवा में बहुत सुधार होने वाला है।

साथियो, केन्‍द्र सरकार यहां की आवश्‍यकताओं, यहां की परिस्थितियों के हिसाब से ही विकास करने में जुटी है। सरकार का प्रयास है कि पर्यावरण और स्‍थानीय संस्‍कृति के संरक्षण के साथ-साथ विकास हो। इसी भावना के तहत सरकार ने अनेक महत्‍वपूर्ण फैसले लिए हैं।

अंडमान निकोबार समेत देश के समुद्री तटीय इलाकों में रहने वाले कोपरा और नारियल के खेती से जुड़े किसानों के लिए बड़ा फैसला सरकार ने लिया है। कोपरा में, जो कोपरा के एमएसपी में 2000 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोत्‍तरी की गई है, जो मिलिंग कोपरा होता है उसका समर्थन मूल्‍य अब 7,750 रुपये से बढ़कर 9,500 रुपये प्रति क्विंटल किया गया है तो वहीं बॉल कोपरा का समर्थन मूल्‍य 7,750 रुपये से बढ़ाकर 9,920 रुपये किया गया है। इस बढ़ोत्‍तरी से कोपरा की खेती से जुड़े अनेक किसानों को लाभ होगा।

साथियो, केन्‍द्र सरकार हमारे मछुआरों को सशक्‍त करने में जुटी है। हाल में ही देश में मछली पालन को लाभकारी व्‍यवसाय बनाने के लिए सात हजार करोड़ रुपये के एक विशेष फंड का प्रावधान किया गया1 इसके तहत मछुआरों को उचित दरों पर ऋण उपलब्‍ध कराया जा रहा है।

हमारे समुद्री किनारे Blue Revolution के सेंटर बनने में सक्षम हैं- इसी सोच के साथ सरकार आगे बढ़ रही है। मछली से जुड़ा व्‍यवसाय हो, seaweed की खेती हो; ऐसे अनेक प्रोजेक्‍ट्स को प्रोत्‍साहित किया जा रहा है। आधुनिक boats के लिए सरकार मछुआरों को आर्थिक सहायता भी दे रही है। इसी vision के साथ यहां fisheries, खेती और पशुपालन से जुड़ी अनेक योजनाओं के लिए पैकेज दिया गया है।

भाइयो और बहनों, कार निकोबार के पर्यावरण को संरक्षित रखते हुए सौर ऊर्जा की संभावनाओं को तलाशा जा रहा है, तराशा जा रहा है। आज भारत दुनिया के उन देशों में है जहां सौर ऊर्जा का उत्‍पादन और उपयोग सबसे तेजी से आगे बढ़ रहा है। सौर ऊर्जा से देश को सस्‍ती और green energy देने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। आज International solar alliance के माध्‍यम से पूरी दुनिया में सौर ऊर्जा की क्रांति के लिए भारत लीडरशिप ले रहा है, अगुवाई कर रहा है। One world, One Sun, One Grid के व्‍यापक vision के लिए भारत काम कर रहा है।

साथियो, भारत का जो समुद्री तट है, यहां तो renewable energy के लिए बहुत अधिक संभावनाएं हैं। इन संभावनाओं को हम अवसरों में बदलने के लिए काम कर रहे हैं। इसी योजना के तहत कार निकोबार में 300 किलोवॉट के Roof Top Solar Plant लगाने का लक्ष्‍य रखा गया है। मुझे जानकारी दी गई है यहां के स्‍कूलों, अस्‍पतालों समेत अनेक संस्‍थानों में 50-50 किलोवॉट के Solar Panel already काम कर रहे हैं, लगाए जा चुके हैं। सरकार का प्रयास है कि आने वाले समय में कार निकोबार की सारी बिजली की सारी जरूरतें सौर ऊर्जा से ही पूरी हों।

साथियो, हमारा ये कार निकोबार, ये पूरा समुद्री क्षेत्र, देश, ये Malacca Strait, संसाधन और सुरक्षा दोनों के लिए बहुत महत्‍वपूर्ण है। ये हिन्‍द महासागर और प्रशांत महासागर के बीच एक प्रमुख Shipping Channel है। ये मालवाहक जहाजों के लिए दुनिया का सबसे व्‍यस्‍त रास्‍ता है। इसको ध्‍यान रखते हुए यहां Transportation के माध्‍यमों का भी विकास किया जा रहा है। इससे आप सभी को सुविधा भी मिलेगी और रोजगार के अवसर भी तैयार होंगे।

भाइयो और बहनों, देश की जरूरतों को ध्‍यान में रखते हुए यहां Trans-shipment Port की आधारशिला आज रखी गई है। इस परियोजना से खाड़ी के दक्षिणी हिस्‍से में नए उद्यमों के लिए अवसर बनेंगे।

इसी के साथ-साथ सागरमाला योजना के तहत देशभर के समुद्री तटों को विकसित करने, यहां Infrastructure विकसित करने की बड़ी योजना चल रही है। इस योजना के तहत करीब ढाई लाख करोड़ रुपये की लागत से सैंकड़ों projects पर काम चल रहा है। देशभर में 14 Coastal Employment Zones यानी CEZs का विकास आने वाले समय में देश के समुद्री किनारे के आसपास होना है।

सा‍थियो, सागरमाला योजना के तहत कार निकोबार में भी Campbell Bay में करीब 50 करोड़ रुपये की लागत से Campbell Bay Jetty का विस्‍तार करीब 150 किलोमीटर तक किए जाने का निर्णय लिया गया है। इसके साथ-साथ Mus Jetty की गहराई बढ़ाने के लिए भी योजना बनाई गई है ताकि यहां बड़े जहाजों को रुकने में मुश्किल न हो।

भाइयो और बहनों, आने वाले समय में यहां हवाई सेवाओं की बेहतर connectivity की तरफ भी सरकार काम कर रही है। सरकार आप सभी के जीवन स्‍तर को ऊपर उठाने, आपका जीवन आसान करने के लिए प्रयासरत है।

साथियो, मैं Tribal Council का भी हृदयपूर्वक आभार व्‍यक्‍त करता हूं। आप सभी देश के लोकतंत्र को मजबूत करने और यहां के विकास की गति को तेज करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। मुझे बताया गया है कि यहां जो Village Council है, उनमें बहनों-बेटियों की अच्‍छी भागीदारी है। ये भी सराहनीय प्रयास है।

साथियो, कार निकोबार के विकास के लिए सरकार पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। आने वाले नए साल में भी हमारे प्रयास नए उत्‍साह, नए जोश के साथ जारी रहेंगे। अंत में एक बार फिर आप सभी को विकास की तमाम योजनाओं के लिए बहुत-बहुत‍ बधाई देता हूं।

बहुत-बहुत धन्‍यवाद। जय हिंद।

donation
Explore More
It is now time to leave the 'Chalta Hai' attitude & think of 'Badal Sakta Hai': PM Modi

Popular Speeches

It is now time to leave the 'Chalta Hai' attitude & think of 'Badal Sakta Hai': PM Modi
‘Modi Should Retain Power, Or Things Would Nosedive’: L&T Chairman Describes 2019 Election As Modi Vs All

Media Coverage

‘Modi Should Retain Power, Or Things Would Nosedive’: L&T Chairman Describes 2019 Election As Modi Vs All
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Prime Minister expresses sadness on demise of Dr. Sree Sree Sree Sivakumara Swamigalu
January 21, 2019
Share
 
Comments

PM Narendra Modi expressed sadness on demise of His Holiness Dr. Sree Sree Sree Sivakumara Swamigalu. The Prime Minister said, “His Holiness Dr. Sree Sree Sree Sivakumara Swamigalu lived for the people, especially the poor and vulnerable. He devoted himself towards alleviating ills like poverty, hunger and social injustice. Prayers and solidarity with his countless devotees spread all across the world.”

Shri Modi said that HH Dr. Sree Sree Sree Sivakumara Swamigalu remained at the forefront of ensuring better healthcare and education facilities for the marginalised, adding that “he represented the best of our traditions of compassionate service, spirituality and protecting the rights of the underprivileged.”

Recalling his meetings with HH Dr. Sree Sree Sree Sivakumara Swamigalu, the PM added, “I have had the privilege to visit the Sree Siddaganga Mutt and receive the blessings of His Holiness Dr. Sree Sree Sree Sivakumara Swamigalu. The wide range of community service initiatives being done there is outstanding and is at an unimaginably large scale.”