Share
 
Comments
The recent terror attacks in Sri Lanka reiterated that terrorism remains a great threat to the whole world and needs a strong approach to eliminate it: PM Modi
Compared to the anti-national promises made by the Congress in its election manifesto, the BJP-led NDA stands firm on its resolve and commitment for greater security for all Indians: PM Modi in M.P.
These days Congress leaders are dreaming about killing Modi because he is acting so strong on terror: Prime Minister Modi

भारत माता की जय, भारत माता की जय

जय राम जी की, नर्मदा मैया की धरती है, औज यहां कंकड़ कंकड़ भी शंकर है। इस धरती ने देश को साहित्य के सूरमा दिए हैं। जिन्होंने भारत की भावना को अपने शब्दों में समेटा है। ऐसे हर व्यक्तित्व को मैं आदर पूर्वक नमन करता हूं। सबसे पहले तो मैं आपसे क्षमा चाहता हूं कि फरवरी में ही यहां आने का कार्यक्रम था, लेकिन आ नहीं पाया था। पुलवामा में पाकिस्तान के पाले पोसे आंतकियों ने हमारे सपूतों को शहीद किया। जिसके कारण तब वो कार्यक्रम रद्द करना पड़ा था। लेकिन आज जब आपके बीच आया हूं तो कह सकता हूं कि खाली हाथ नहीं आया हूं।

आतंक के सरपरस्तों को हमारे वीर जवानों ने उनके घर में घुसकर के मारा है। ऐसा घाव दिया है कि न बताते बन रहा है न छिपाते बन रहा है। भारत ने ये कार्रवाई बड़ी ताकत के साथ की है। दुनिया में इसकी चर्चा है। मैं जरा आपसे पूछना चाहता हूं। क्या आपको इस बात का गर्व है? कितने बजे से आए हैं आप लोग, थक गए हैं क्या? नहीं थके हैं? हौसला बुलंद है, मैं आपसे सवाल पूछ रहा हूं जब घर में घुस कर के मारा आपको गर्व है क्या? जो आतंकी पहले पाकिस्तान में खुलेआम ट्रेनिंग लेते थे अब पाताल में छुपने को मजबूर है। मैं जरा आपसे पूछना चाहता हूं ये डर अच्छा है कि नहीं है? ये डर अच्छा है? उसी दिशा में चलना चाहिए।

साथियो, आज मोदी के नाम से ही पाकिस्तान की नींद उड़ गई है। मोदी को किसी भी तरह रोका जाए। मोदी को हटाया जाए। इसके लिए आतंक के आका दुआ मांग रहे हैं दुआ। आपका प्यार मेरे सर आंखों पर। मैं आपका बहुत आभारी हूं। भाइयो-बहनो, भारत की जनता कह रही है कि पाकिस्तान और आतंक की पैरवी करने वालों कुछ भी कर लो, आएगा तो मोदी ही। आएगा तो मोदी ही। साथियो, कांग्रेस की भी मुझ पर बहुत कृपा है। मैंने सुना कांग्रेस के एक बयान बहादुर मुंहफट ने यहां आकर कहा है कि मोदी को ऐसा छक्का मारो कि सीमा पार मरे। ये कांग्रेस के नेता का बयान है। सोचिए, कांग्रेस वालों को आपके मोदी से इतनी नफरत हो गई है। इतनी नफरत हो गई है कि वो मोदी को मारने तक के सपने देखने लगे। लेकिन वो भूल रहे हैं कि मोदी की तरफ से मध्य प्रदेश की जनता पूरे हिंदुस्तान की जनता बैटिंग कर रही है। अब कांग्रेस वालों को बताना चाहिए कि वो किस टीम से खेल रहे हैं। भारत की टीम से या पाकिस्तान के सरपरस्तों की टीम से।

भाइयो-बहनो, अगर आप सोच रहे हैं कि कांग्रेस गलत लाइन लेंथ पर बॉल डाल रही है, नो बॉल डाल रही है तो ये आपका भ्रम है। ये कांग्रेस पूरी तरह एक सोची समझी रणनीति के तहत ये सब कर रही है। इनके ढकोसला पत्र को जिसको वो मेनिफेस्टो कहते हैं। उस ढकोसला पत्र को उठाकर देखिए कांग्रेस कहती है कि जम्मू कश्मीर से सेना हटनी चाहिए। सैनिकों को मिला विशेष अधिकार अफ्सपा भी हटना चाहिए। कांग्रेस उन लोगों के साथ खड़ी है जो कहते हैं कि जम्मू-कश्मीर के लिए अलग प्रधानमंत्री होना चाहिए।

साथियो, जिस पार्टी ने देश पर इतने साल राज किया वो किस तरह देश विरोधी हरकतों पर उतर आई है। आप भी देख रहे हैं। मैं आपको इसका एक और उदाहरण देता हूं। भाइयो-बहनो, अभी हाल में श्रीलंका में जो बम धमाके हुए थे। उसके बाद वहां की सरकार ने श्रीलंका की सरकार ने ज़ाकिर नायक के टीवी चैनल पर बैन लगाने का फैसला किया।

क्या आप जानते हैं कि ज़ाकिर नायक है कौन ? श्रीलंका में बॉम ब्लास्ट हुए 300 लोग मारे गए, और श्रीलंका ने जो कदम उठाए हैं उसमें ज़ाकिर नायक के टीवी चैनल पर प्रतिबंध लगाया। ये वहीं ज़ाकिर नायक है जिसके दरबार में जाकर दिग्गी राजा उसकी तारीफ करते नहीं थकते थे। ये वहीं ज़ाकिर नायक है जिसको कांग्रेस की सरकार ने आप ये सुनकर चौंक जाएंगे इन लोगों ने देश कैसे चलाया है। इसी ज़ाकिर नायक को भारत सरकार ने कांग्रेस की सरकार ने हमारे देश के पुलिस अफसरों को संबोधित करने के लिए बुलाया था, और वो भी आतंकवाद के मुद्दे पर। भाइयो-बहनो, जिस ज़ाकिर नायक के शब्द श्रीलंका में बम धमाके करवाते हैं, श्रीलंका को उसकी टीवी चैनल बंद करनी पड़ती है। उस ज़ाकिर नायक को हिंदुस्तान में दिग्गी राजा जैसे लोग कंधे पर बिठाकर नाच रहे हैं भाइयो। डूब मरो डूब मरो कांग्रेस वालो। ये वोट बैंक की पराकाष्ठा है या नहीं है। साथियो, कांग्रेस के दरबारी और राग दरबारी ज़ाकिर नायक को शांति का दूत दिखाने का प्रयास कर रहे हैं। आप मुझे बताइए क्या देश ज़ाकिर नायक जैसे लोगों को आगे बढ़ाने वालों उनके कंधों पर लेकर नाचने वाले ऐसे खलनायकों को माफ करेगा क्या? मध्य प्रदेश माफ करेगा क्या ? अरे चुन चुन कर के हिसाब लोगे कि नहीं?

साथियो, राष्ट्रकवि मैथिलीशरण गुप्त ने कहा था कि नर हो न निराश करो, मन को न निराश करो, कुछ काम करो, कुछ काम करो, साथियो ये देश काम से नाम की तरफ बढ़ने वालों की कद्र करता है। जो मेहनत करता है उसकी कद्र करता है। यहीं हमारी संस्कृति है। यहीं हमारे संस्कार है। लेकिन कंग्रेस वाले इसका उल्टा ही कर रहे हैं।  कांग्रेस कहती है क्या जरूरत है काम की जब छाप है बस नाम की, और कांग्रेस का तो मंत्र है साथ आओ, मलाई खाओ। साथ आओ, मलाई खाओ। मध्य प्रदेश ने तो देख लिया। दोनों हाथ से लगे हैं। इसी को आज कांग्रेस ने अपनी सियासत का आधार बना लिया है। अब ये लोग अपने ही झूठ के मकड़जाल में ऐसे उलझ कर रह गए हैं कि बाहर आने का रास्ता नहीं मिल रहा है। याद कीजिए मध्य प्रदेश के किसानों से ये कहकर वोट लिया था कि दस दिन में दो लाख रुपये तक का कर्ज माफ कर देंगे। वो दस दिन कब आएंगे ये बताने को कोई तैयार नहीं है। दस दिन हो गए कि नहीं हो गए? हो गए कि नहीं हो गए?  हमने तो सुना है कि किसानों को नोटिस आने लगे हैं, ये लोग कहकर गए थे कि मध्य प्रदेश के युवाओं को भत्ता देंगे।

भाइयो-बहनो, जरा मैं पूछना चाहता हूं, मध्य प्रदेश के नौजवानों बताइए, भत्ता आना शुरू हो गया न ? सब बैंक में जमा हो गया न ? मालामाल हो गए न ? सुनो, सुनो उनकी बातें सुनो, अरे देशवासियों ये मध्य प्रदेश का हाल देखों अभी तो चार महीने हुए तबाह कर के रख दिया। इन लोगों ने बिजली का बिल हाफ करने की बात कही थी। लेकिन ये नहीं बताया था कि बिजली सप्लाई हाफ कर के बिजली का बिल हाफ करने के तरीके पर चलेंगे। बिजली नहीं आती तो बिल कहां से आएगा भाई। बिजली आती है क्या ? कल को मैंने सुना कि वो दिग्गी राजा के कार्यक्रम में भी नहीं। भाइयो और बहनो, खुद तो कुछ करेंगे नहीं, जो केंद्र की सरकार यहां के लाखों किसान परिवारों के खाते में सीधे पैसे जमा करना चाहती है उसमें भी देरी कर रहे हैं। इसलिए इन लोगों को सजा देना इन लोगों पर दवाब बनाना बहुत जरूरी है।

भाइयो-बहनो, 23 मई को इस समय चुनाव के नतीजे आ गए होंगे। 23 मई को जब फिर एक बार मोदी सरकार। फिर एक बार मोदी सरकार। फिर एक बार मोदी सरकार। 23 मई को फिर से एक बार मोदी सराकर आएगी, तो मध्य प्रदेश के हर किसान परिवार को चाहे कितनी भी जमीन क्यों न हो। ये मदद देने का प्रयास किया जाएगा। इतना ही नहीं जो छोटे किसान है, खेत मजदूर है, छोटे-छोटे दुकानदार है उनको 60 वर्ष की आयु के बाद नियमित पेंशन की सुविधा भी हम देने वाले हैं। हर महीना उसको पेंशन मिलेगा। उसके बुढ़ापे की चिंता अब वो विश्वास के साथ जी सकता है।

साथियो, कांग्रेस हर स्तर पर बेइमानी करती है। वो बेइमानी करने में मशहूर है। उसकी आदत है। वो बेइमानी किए बिना रह नहीं सकते। लेकिन दो चीजें ऐसी है जिसमें वो पक्के ईमानदार है। दो चीज में वो पक्के ईमानदार हैं। एक वंशवाद और दूसरा भ्रष्टाचार। ये बड़ी ईमानदारी से करते रहते हैं। दिल्ली में नामदार का चेहरा चमकाने के लिए मध्य प्रदेश के गरीब बच्चों, प्रसूता माताओं के लिए जो पैसा चौकीदार ने दिल्ली से भेजा था ये उसी को ही डकार गए। और आपने देखा होगा नोटों से भरे बोरे कांग्रेसियों के पास से निकल रहे हैं, और तुगलक रोड चुनाव घोटाले में सारा खेल खेला जा रहा है। गरीबों के मुंह से निवाला छीनने वाले को क्या आप माफ करेंगे क्या? माफ करेंगे क्या? माफ करेंगे क्या?

भाइयो-बहनो, कांग्रेस का एक और कल्चर है योजनाओं को लटकाना, और भटकाना। आज जब मध्य प्रदेश में पानी की किल्लत है तो इसके पीछे कांग्रेस की यहीं संस्कृति रही है। देश भर में करीब 100 सिंचाई परियोजनाएं इन्होंने 30-30, 40 साल से लटका कर रखी थी। इनमें से 14 तो यहीं मध्य प्रदेश की थी। बीते पांच वर्षों में हमने इन परियोजनाओं को हाथ में लिया और शिवराज जी के सहयोग से दस पूरी भी कर दी। अगर यहां की सरकार ने अड़ंगा नहीं लगाया तो बाकी को भी जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा।

साथियो, कांग्रेस लटकाती है, भटकाती है। जबकी हम समय के मूल्य को समझते हैं। मिशन मोड़ पर काम करते हैं। इटारसी तो देश के सबसे बड़े जंक्शन में से एक है। ऐसे में अगर रेलवे की ही बात मैं आपको बताता हूं। साथियो, देश में रेलवे पटरियों को बिछाने का काम हो या फिर बिजलीकरण का काम पहले से दोगुनी रफ्तार से हो रहा है। हम भारतीय रेल को परंपारिक ट्रेन की बजाए बिजली से चलने वाली ट्रेन यानी मेमो और डेमो में बदलने की तरफ तेजी से काम कर रहे हैं। रेलवे में बिजली के लिए भी अब हम सोलर या विंड एनर्जी पर ज्यादा बल दे रहे हैं। इसके अलावा आप भी देख रहे होंगे कि देश के सभी रेलवे स्टेशनों में LED लाइट लगाई जा चुकी है। भाइयो-बहनो, सबसे बड़ी बात भारत में ही पूरी तरह से बनी देश की सबसे तेज ट्रेन वंदे भारत एक्सप्रेस आज पटरी पर दौड़ रही है। बहुत जल्द ही देश के अनेक हिस्सों में ये वंदे भारत एक्सप्रेस चलने वाली है।

साथियो, इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास हो, या फिर सामान्य मानवी के जीवन को ऊपर उठाना हमने पूरी क्षमता से काम किया है। 2022 तक देश के हर गरीब बेघर को अपना पक्का घर देने के लिए हम काम कर रहे हैं। शौचालय हो, रसोई घर में एलपीजी गैस का कनेक्शन हो, गरीब बहनों को सम्मान का जीवन देने का निरंतर प्रयास हम करते रहे हैं। आयुष्मान भारत के तहत गरीब से गरीब व्यक्ति को हर वर्ष पांच लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज हमने सुनिश्चित किया है। भाइयो-बहनो, कांग्रेस नामदारों की नई पीढ़ी को मजबूत बनाने के मैदान में है और भाजपा एक मजबूत नए भारत के लिए आपके सेवा में हाजिर है। मजबूत भारत के लिए पूर्ण बहुमत की सरकार के लिए आप सभी को कमल पर बटन दबाने के लिए मैं प्राथना करने के लिए आया हूं।

भाइयो-बहनो, आप मुझे बताइए आज जो आठ सीट पर चुनाव लड़ रहे हैं कर्नाटक में वे सोच रहे हैं कि वो सबसे अच्छे प्रधानमंत्री बन सकते हैं। जो 20 सीट पर लड़ रहे हैं वो कह रहे हैं कि वो सबसे अच्छे प्रधानमंत्री बन सकते हैं। जो 40 सीट लड़ रहे हैं वो कहते हैं कि वो प्रधानमंत्री बनने के लिए योग्य है। भाइयो-बहनो, हमारे देश में विपक्ष का नेता होना चाहिए न विपक्ष का, तो भी 50 से ऊपर सीट जीत कर के आना पड़ता है। विपक्ष का नेता बनने के लिए, प्रतिपक्ष का नेता बनने के लिए। ये 40 सीट भी नहीं लड़ रहे और प्रधानमंत्री बनने का ख्वाब देख रहे हैं।

भाइयो-बहनो, ये जितने चेहरे हैं आपके सामने जो अपने आप प्रधानमंत्री के लिए बिल्कुल बेस्ट मानते हैं। उनको लगता है कि मोदी निकम्मा है बस वही ठीक है। ऐसा मानते हैं। जरा इन चेहरों को याद करो, ये जो लोग कहते हैं कि प्रधानमंत्री वो बनना चाहते हैं एक-एक चेहरा को याद करो। अब मुझे बताइए इसमें से कौन है जो आतंकवाद को खत्म कर सकता है? आतंकवाद को कौन खत्म कर सकता है? आतंकवाद से कौन भिड़ सकता है? घर में घुसकर कौन मार सकता है?  

भाइयो-बहनो, आपका जवाब आधा सत्य है और आधा गलत है। अब 50% मिले आपको, 50 % से काम नहीं चलता है भाई 100% मिलना चाहिए। आतंकवाद को कौन मार सकता है? भाइयो-बहनो आप मोदी-मोदी कर रहे हो, लेकिन सत्य ये है कि आपका एक वोट आतंकवाद को खत्म कर सकता है। आपके वोट की ताकत है जो ये चौकीदार को मजबूत बनाती है और चौकीदार आतंकवादियों का हिसाब चुकता करता है, और इसलिए भाइयो-बहनो, कमल के फूल के सामने बटन दबाइए और आपका वोट सीधा सीधा मोदी के खाते में जाएगा।

आप सब मतदान करेंगे, मतदान कराएंगे, अपना बूथ मजबूत करेंगे। बूथ पूरा का पूरा जीतेंगे। अधिक से अधिक लोगों से मतदान कराएंगे। अब से लेकर चुनाव के दिन तक घर-घर जाएंगे। लोगों को समझाएंगे। चार महीने में जो बर्बादी की है ये भी बताएंगे। एक परिवार के 55 साल और एक चाय वाले के 55 महीने आप लोगों को बताएंगे। कमल के फूल पर बटन दबाएंगे। भाइयो-बहनो, आप इतनी बड़ी मात्रा में मुझे आशीर्वाद देने के लिए आए, मैं आपका बहुत-बहुत आभारी हूं।

भारत मात की जय, भारत माता की जय, भारत माता की जय  

 

 

Donation
Explore More
It is now time to leave the 'Chalta Hai' attitude & think of 'Badal Sakta Hai': PM Modi

Popular Speeches

It is now time to leave the 'Chalta Hai' attitude & think of 'Badal Sakta Hai': PM Modi
Dreams take shape in a house: PM Modi on PMAY completing 3 years

Media Coverage

Dreams take shape in a house: PM Modi on PMAY completing 3 years
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM’s Meeting with Mr. Tony Abbott, Former Prime Minister of Australia
November 20, 2019
Share
 
Comments

Prime Minister Shri Narendra Modi met Mr Tony Abbott, Former Prime Minister of Australia today.

The Prime Minister conveyed his condolences on the loss of life and property in the recent bushfires along the eastern coast of Australia.

The Prime Minister expressed happiness at the visit of Mr. Tony Abbott to India, including to the Golden Temple on the 550th year of Guru Nanak Dev Ji’s Prakash Parv.

The Prime Minister fondly recalled his visit to Australia in November 2014 for G-20 Summit in Brisbane, productive bilateral engagements in Canberra, Sydney and Melbourne and his address to the Joint Session of the Australian Parliament.

The Prime Minister also warmly acknowledged the role of Mr. Tony Abbott in strengthening India-Australia relations.