In NDA we take everyone along, but on the other hand there is Congress party which has only one agenda - to use and throw the people of the alliance: PM Modi
NDA alliance carries both regional aspiration and national progress, the support of BJP in this election, our partners are continuously increasing, says PM Modi
The aim of NDA is to build a developed Andhra Pradesh for developed India: PM Modi in Palnadu
I am getting the blessings of Brahma, Vishnu and Mahesh from Kotappakonda, with the blessings of the 'tri dev', the country in the third term of our government will make big decisions: PM

ना आंध्र कुटुम्ब सभ्युल्लन्दरिकी नमस्कारालु
कल ही देश में लोकसभा चुनाव का बिगुल बजा है औऱ आज मैं आप सबके बीच आंध्र प्रदेश में हूं।
यहाँ मुझे कोटप्प-कोण्डा से मुझे ब्रह्मा, विष्णु और महेश, तीनों का आशीर्वाद मिल रहा है।
त्रिदेवों के इस आशीर्वाद से, हमारी सरकार के तीसरे कार्यकाल में देश और भी बड़े निर्णय लेगा।
आप एक संयोग और देखिए,
इस बार चुनावों के परिणाम 4 जून को आने वाले हैं।
अब पूरा देश कह रहा है- 4 जून को 400 पार !
विकसित भारत के लिए....400 पार।
विकसित आंध्र प्रदेश के लिए...400 पार।
नालगु वंदलु दाटाली….NDA-कि वोटु वेय्याली
--00--
साथियों,
हमारा NDA गठबंधन regional aspirations और national progress दोनों को साथ लेकर चलता है।
इस चुनाव में बीजेपी के सहयोगी, हमारे साथी लगातार बढ़ रहे हैं, NDA की ताकत बढ़ रही है।
चंद्रबाबू नायडू जी और पवन कल्याण जी, दोनों लंबे समय से लोगों के विकास के लिए काम करते रहे हैं।
एनडीए का लक्ष्य है- विकसित भारत के लिए विकसित आंध्र प्रदेश का निर्माण!
आंध्र प्रदेश में NDA की डबल इंजन सरकार होने से यहां के विकास को और गति मिलेगी।

साथियों,
केंद्र की NDA सरकार, गरीब की सेवा करने वाली सरकार है, गरीब की चिंता करने वाली सरकार है।
हमारी सरकार के 10 साल में 25 करोड़ लोग गरीबी से बाहर निकले हैं।
पूरी दुनिया में NDA सरकार के विकास कार्यों की चर्चा हो रही है।
NDA सरकार ने आंध्र प्रदेश में गरीबों को पीएम आवास योजना के करीब 10 लाख घर दिए हैं।
यहां पलनाडु में भी गरीबों को करीब 5 हजार पक्के घर बनाकर दिए गए हैं।
जल जीवन मिशन के तहत आंध्र प्रदेश के करीब 1 करोड़ परिवारों तक नल का कनेक्शन पहुंचा है।
आयुष्मान भारत योजना के तहत यहां सवा करोड़ से ज्यादा गरीबों ने अपना मुफ्त इलाज कराया है।
आज NDA सरकार की वजह से यहां पलनाडु के 5 लाख से ज्यादा जरूरतमंदों को मुफ्त राशन भी मिल रहा है।
हमारी सरकार किसानों की छोटी-छोटी जरूरतों का भी ध्यान रख रही है।
पीएम किसान सम्मान निधि के तहत यहां पलनाडु के किसानों को करीब तीन सौ करोड़ रुपए दिए गए हैं।
यहां केंद्र सरकार की योजनाएं और बेहतर तरीके से लागू हों, इसके लिए आपको ज्यादा से ज्यादा संख्या में NDA के सांसद, एनडीए के सभी विधायकों को जिताना है।
NDA के सभी सांसद, NDA के सभी विधायक बहुत सेवा भाव से आपके लिए काम करेंगे। ये मोदी की गारंटी है।

साथियों,
आंध्र के युवा के सामर्थ्य को और बढ़ाने के लिए हम राज्य को देश का बड़ा एजुकेशन हब बना रहे हैं।
यहां गुंटूर में NIDM
पलासमुद्रम में National Academy of Customs, Indirect Taxes and Narcotics.
तिरुपति में IIT
तिरुपति में आइसर
कुरूनूल में ट्रिपल आईटी-डीएम
श्री सिटी में ट्रिपल आईटी
विशाखापट्टनम में IIM
विशाखापट्टनम में Indian Institute of Petroleum and Energy.
मंगलगिरी में AIIMS.
विजयवाड़ा में National Institute of Design
ताड़ेपल्लीगुड़म में NIT
विजयानगरम में Central Tribal University
ऐसे कितने ही टॉप एजुकेशनल इंस्टीट्यूट का लोकार्पण या शिलान्यास केंद्र की एनडीए सरकार ने किया है, जो आप के युवाओं का भाग्य बदलने वाला है।
--00—
साथियों,
एनडीए में हम सबको साथ लेकर चलते हैं लेकिन दूसरी ओर काँग्रेस पार्टी है, जिसका एक ही एजेंडा है- गठबंधन के लोगों को ‘यूज एंड थ्रो’ करना!
आज काँग्रेस को भले ही मजबूरी में इंडी अलायंस बनाना पड़ा हो, लेकिन इनकी सोच वही है।
आप देखिए,
लेफ्ट और काँग्रेस केरला में एक दूसरे को क्या कहते हैं!
बंगाल में टीएमसी और लेफ्ट एक दूसरे के लिए क्या-क्या बोलते हैं!
पंजाब में कांग्रेस और AAP एक दूसरे के लिए कैसी भाषा बोलते हैं!
जो लोग चुनाव से पहले अपने फायदे के लिए ऐसे लड़ते हों, ऐसे झगड़ते हों, वो चुनाव के बाद क्या करेंगे, आप अंदाजा लगा सकते हैं।

साथियों,
मुझे याद है कि कैसे राम मंदिर के लोकार्पण पर्व के दिन पूरे राज्य में रामलला के फिर घर लौटने का उत्सव मना था।
तेलुगु लोग कभी नहीं भूल सकते कि एनटीआर गारु कैसे वो भगवान राम और भगवान कृष्ण के रोल को जीवंत कर देते थे!
उन्होंने जीवन भर किसानों और गरीबों के हक की लड़ाई लड़ी थी और इस वजह से उन्हें काँग्रेस के अत्याचारों को भी सहना पड़ा।
कांग्रेस ने हमेशा आंध्र प्रदेश के गौरव का अपमान किया है।
ये हमारी सरकार है जिसने हमेशा आंध्र गौरव का सम्मान किया।
पिछले वर्ष ही हमारी सरकार ने एनटीआर गारु के शताब्दी वर्ष पर स्मारक सिक्का जारी किया था।
कुछ समय पहले ही NDA सरकार ने तेलगू धरती के सपूत पी.वी नरसिम्हा राव जी को भारत रत्न दिया है।
कांग्रेस ने कैसे उनका अपमान किया था, मैं इसके विस्तार में नहीं जाना चाहता।
लेकिन ये बीजेपी है, NDA है, जो हमेशा पार्टी लाइन से ऊपर उठकर देश के लिए समर्पित नेताओं का सम्मान करती है।

साथियों,
आंध्र प्रदेश के लोग, इस चुनाव में दो बड़े संकल्प लेकर आगे बढ़ रहे हैं।
पहला- लोगों ने तय कर लिया है कि वो दिल्ली में NDA सरकार को वापस लाकर रहेंगे।
दूसरा- यहां के लोग राज्य सरकार से इतना आक्रोशित हैं कि उसे हटाने का मन बना चुके हैं।
यहां राज्य सरकार के मंत्रियों में एक दूसरे से ज्यादा भ्रष्टाचार करने का कंपटीशन चल रहा है।
आंध्र प्रदेश के लोग देख रहे हैं कि राज्य के तेज विकास के लिए जिस सकारात्मक वातावरण को बढ़ाने की जरूरत थी, उसे पिछले 5 साल में यहां धक्का लगा है।
आंध्र प्रदेश के लोगों ने देश के विकास के लिए, आंध्र प्रदेश के विकास के लिए पूरी सकारात्मकता के साथ वोट देने का निर्णय लिया है।

आंध्र के मेरे प्यारे भाइयों-बहनों,
आप ये गलती कभी मत करना कि आंध्र में जगन की पार्टी और कांग्रेस पार्टी अलग है। ये दोनों एक ही हैं, एक ही परिवार के लोग दोनों पार्टी चला रहे हैं। ये उनकी मिली भगत है कि जो सरकार के प्रति गुस्सा है, वो थोड़ा गुस्सा कांग्रेस के प्रति चला जाए, ताकि एनडीए के लोगों को लाभ ना मिले। तो ये दोनों की चालाकी है, ये दोनों एक ही चट्टे-बट्टे के आजू-बाजू हैं। कोई गलती मत करना।

साथियों,
अगले 5 साल आंध्र प्रदेश के तेज विकास के लिए बहुत जरूरी हैं।
अगले 5 साल विकसित आंध्र की नींव मजबूत करने वाले होंगे।
अगले 5 साल आंध्र प्रदेश में गरीब कल्याण की योजनाओं के विस्तार के होंगे
अगले 5 साल आंध्र के युवाओं, यहां की महिलाओं को नए अवसर देने वाले होंगे।
अगले 5 साल आंध्र प्रदेश में इंफ्रास्ट्रक्चर डवलपमेंट को नई ऊंचाई पर ले जाने वाले होंगे।
अगले 5 साल आंध्र प्रदेश में पोर्ट लेड डवलपमेंट के होंगे, ब्लू इकॉनॉमी के विस्तार के होंगे।
इसलिए आपको डबल इंजन की सरकार के लिए आंध्र की विधानसभा और दिल्ली की लोकसभा के लिए वोट करना है। आपको विकसित भारत के लिए वोट करना है।

साथियो
लोकतंत्र का उत्सव आज से आरंभ हुआ है। मेरी आप सभी से रिक्वेस्ट है कि लोकतंत्र के उत्सव का हम स्वागत करें। लोकतंत्र के स्वागत के लिए आप अपनी मोबाइल फोन को बाहर निकालिए, अपने मोबाइल फोन का फ्लैश लाइट चालू कीजिए। सब लोग अपने मोबाइल का फ्लैश लाइट चालू करें।
--00—
जिसके पास भी मोबाइल है फ्लैश लाइट चालू करके आज से लोकतंत्र के उत्सव का स्वागत करें। ये विशाल जनसागर दिल्ली को भी संदेश देगा और आंध्र के घर-घर में भी संदेश देगा।

मेरे साथ बोलिए
भारत माता की जय
बहुत बहुत धन्यवाद!

Explore More
77వ స్వాతంత్ర్య దినోత్సవం సందర్భంగా ఎర్రకోట ప్రాకారాల నుండి ప్రధాన మంత్రి శ్రీ నరేంద్ర మోదీ ప్రసంగం పాఠం

ప్రముఖ ప్రసంగాలు

77వ స్వాతంత్ర్య దినోత్సవం సందర్భంగా ఎర్రకోట ప్రాకారాల నుండి ప్రధాన మంత్రి శ్రీ నరేంద్ర మోదీ ప్రసంగం పాఠం
Indian economy grew 7.4% in Q4 FY24; 8% in FY24: SBI Research

Media Coverage

Indian economy grew 7.4% in Q4 FY24; 8% in FY24: SBI Research
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Unimaginable, unparalleled, unprecedented, says PM Modi as he holds a dynamic roadshow in Kolkata, West Bengal
May 28, 2024

Prime Minister Narendra Modi held a dynamic roadshow amid a record turnout by the people of Bengal who were showering immense love and affection on him.

"The fervour in Kolkata is unimaginable. The enthusiasm of Kolkata is unparalleled. And, the support for @BJP4Bengal across Kolkata and West Bengal is unprecedented," the PM shared in a post on social media platform 'X'.

The massive roadshow in Kolkata exemplifies West Bengal's admiration for PM Modi and the support for BJP implying 'Fir ek Baar Modi Sarkar.'

Ahead of the roadshow, PM Modi prayed at the Sri Sri Sarada Mayer Bari in Baghbazar. It is the place where Holy Mother Sarada Devi stayed for a few years.

He then proceeded to pay his respects at the statue of Netaji Subhas Chandra Bose.

Concluding the roadshow, the PM paid floral tribute at the statue of Swami Vivekananda at the Vivekananda Museum, Ramakrishna Mission. It is the ancestral house of Swami Vivekananda.