Share
 
Comments
PM Narendra Modi to visit Varanasi on September 18th
PM Modi to attend a function organized by the Rickshaw Sangh in Varanasi
PM Modi to distribute a package to 602 families under the Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana
PM Modi to distribute 501 paddle rickshaws and 101 e-rickshaws in Varanasi
PM Narendra Modi to distribute 1000 solar lanterns to rickshaw, pushcart and street vendors
Prime Minister Modi to launch Integrated Power Development Scheme at DLW Grounds in Varanasi
PM Modi to lay the foundation stone for various infrastructure projects in Varanasi
Prime Minister Modi to inaugurate Trauma Centre at Banaras Hindu University
PM Modi to inaugurate passenger reservation facility at Ramnagar Post Office in Varanasi

The Prime Minister, Shri Narendra Modi, will visit Varanasi tomorrow, 18th September, 2015.

Soon after arrival in the city, the Prime Minister will attend a function organized by the Rickshaw Sangh in Varanasi, and distribute a package to 602 families under the Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana. He will distribute 501 paddle rickshaws and 101 e-rickshaws. He will distribute 1000 solar lanterns to rickshaw, pushcart and street vendors. The Prime Minister will address the beneficiaries.

Later, the Prime Minister will launch the Integrated Power Development Scheme at a public meeting in the DLW Grounds. He will also lay the foundation stone for some infrastructure projects. He will dedicate to the nation, the Trauma Centre, Banaras Hindu University, by remote, and also inaugurate a passenger reservation facility at Ramnagar Post Office, by remote.

Pariksha Pe Charcha with PM Modi
Explore More
It is now time to leave the 'Chalta Hai' attitude & think of 'Badal Sakta Hai': PM Modi

Popular Speeches

It is now time to leave the 'Chalta Hai' attitude & think of 'Badal Sakta Hai': PM Modi
Govt releases Rs 4,000 crore for Post Matric Scholarship Scheme for Scheduled Castes

Media Coverage

Govt releases Rs 4,000 crore for Post Matric Scholarship Scheme for Scheduled Castes
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
टीका उत्सव पर देशवासियों से आग्रह
April 11, 2021
Share
 
Comments

मेरे प्यारे देशवासियों,

आज 11 अप्रैल यानि ज्योतिबा फुले जयंती से हम देशवासी ‘टीका उत्सव’ की शुरुआत कर रहे हैं। ये ‘टीका उत्सव’ 14 अप्रैल यानि बाबा साहेब आंबेडकर जयंती तक चलेगा।

ये उत्सव, एक प्रकार से कोरोना के खिलाफ दूसरी बड़ी जंग की शुरुआत है। इसमें हमें Personal Hygiene के साथ ही Social Hygiene पर विशेष बल देना है।

हमें ये चार बातें, जरूर याद रखनी है।

Each One- Vaccinate One, यानि जो लोग कम पढ़े-लिखे हैं, बुजुर्ग हैं, जो स्वयं जाकर टीका नहीं लगवा सकते, उनकी मदद करें।

Each One- Treat One, यानि जिन लोगों के पास उतने साधन नहीं हैं, जिन्हें जानकारी भी कम है, उनकी कोरोना के इलाज में सहायता करें।

Each One- Save One, यानि मैं स्वयं भी मास्क पहनूं और इस तरह स्वयं को भी Save करूं और दूसरों को भी Save करूं, इस पर बल देना है।

और चौथी अहम बात, किसी को कोरोना होने की स्थिति में, ‘माइक्रो कन्टेनमेंट जोन’ बनाने का नेतृत्व समाज के लोग करें। जहां पर एक भी कोरोना का पॉजिटिव केस आया है, वहां परिवार के लोग, समाज के लोग ‘माइक्रो कन्टेनमेंट जोन’ बनाएं।

भारत जैसे सघन जनसंख्या वाले हमारे देश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई का एक महत्वपूर्ण तरीका ‘माइक्रो कन्टेनमेंट जोन’ भी है।

एक भी पॉजिटिव केस आने पर हम सभी का जागरूक रहना, बाकी लोगों की भी टेस्टिंग कराना बहुत आवश्यक है।

इसके साथ ही जो टीका लगवाने का अधिकारी है, उसे टीका लगे, इसका पूरा प्रयास समाज को भी करना है और प्रशासन को भी।

एक भी वैक्सीन का नुकसान ना हो, हमें ये सुनिश्चित करना है। हमें जीरो वैक्सीन वेस्ट की तरफ बढ़ना है।

इस दौरान हमें देश की वैक्सीनेशन क्षमता के ऑप्टिमम यूटिलाइजेशन की तरफ बढ़ना है। ये भी हमारी कपैसिटी बढ़ाने का ही एक तरीका है।

हमारी सफलता इस बात से तय होगी कि ‘माइक्रो कन्टेनमेंट जोन’ के प्रति कितनी जागरूकता हम लोगों में है।

हमारी सफलता इस बात से तय होगी कि जब जरूरत न हो, तब हम घर से बाहर न निकलें।

हमारी सफलता इस बात पर तय होगी कि जो टीका लगवाने का अधिकारी है, उसे टीका लगे।

हमारी सफलता इस बात पर तय होगी कि हम मास्क पहनने और अन्य नियमों का किस तरह पालन करते हैं।

साथियों,

इन चार दिनो में व्यक्तिगत स्तर पर, समाज के स्तर पर और प्रशासन के स्तर पर हमें अपने-अपने लक्ष्य बनाने हैं, उन्हें प्राप्त करने के लिए पूरा प्रयास करना है।
मुझे पूरा विश्वास है, इसी तरह जनभागीदारी से, जागरूक रहते हुए, अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए, हम एक बार फिर कोरोना को नियंत्रित करने में सफल होंगे।
याद रखिए- दवाई भी, कड़ाई भी।

धन्यवाद !

आपका,

नरेन्द्र मोदी।