PM Modi holds #ParivartanRally in Jehanabad, Bihar
Congratulate the election commission for their arrangements on polling day: PM #ParivartanRally
Once the followers of JP, now caught in corruption on his birth anniversary... Can't be anything worse than this: PM
Till BJP was a part of Government in Bihar, there was no corruption: PM
Our leaders talk about developing Bihar, other parties are busy attacking Modi: PM #ParivartanRally
I urge people of Bihar to vote for BJP led NDA Govt for development of the state: PM Modi

भारत माता की जय, भारत माता की जय, भारत माता की जय

तोहनी सबके प्रणाम करै हीयो। मंच पर विराजमान बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ नेता श्रीमान जीतन राम मांझी जी, यहीं के जनप्रिय सांसद एवं मेरे मित्र डॉ. अरुण कुमार, भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्रीमान शाहनवाज़ हुसैन जी, विधान पार्षद श्री कृष्ण कुमार जी, श्री अनिल शर्मा जी, श्री संजीव श्याम सिंह, श्री आशीष सूद जी, हम पार्टी के महासचिव श्री वीरेन्द्र कुमार सिंह, श्री राधा मोहन शर्मा, श्री नरेश कुमार, जिलाध्यक्ष श्रीमती पूनम शर्मा जी, भाई शिवराज सिंह, और इस चुनाव में भाजपा के उम्मीदवार श्री प्रेम कुमार जी, चित्तरंजन कुमार जी, मसौढ़ी से हम पार्टी की उम्मीदवार नूतन पासवान जी, वजीरगंज से भाजपा के उम्मीदवार वीरेन्द्र सिंह जी, हमारे उम्मीदवार श्री अरविंद कुमार सिंह जी, कोसी से हम पार्टी के उम्मीदवार श्री राहुल कुमार, बेलागंज से हम पार्टी के उम्मीदवार श्यामली जी, जहानाबाद से रालोसपा के उम्मीदवार प्रवीण कुमार जी, रालोसपा के उम्मीदवार अशोक कुमार वर्मा जी; मंच पर विराजमान सभी वरिष्ठ महानुभाव और विशाल संख्या में आये हुए मेरे भाईयों और बहनों

ये मौसम ऐसा होता है जिस मौसम में बड़ी चिलचिलाती गर्मी होती है। चमड़ी को भी चीर डाले, ऐसी भयंकर गर्मी होती है। चुनाव की गर्मी भी होती है और ऐसे माहौल में भी इतनी बड़ी विशाल जनसभा होना... जहानाबाद के दोस्तों, मेरी शिकायत है और मेरी शिकायत मेरे मित्र अरुण से भी है। मैं लोकसभा के चुनाव में भी यहाँ आया था; लोकसभा के चुनाव में मैं ख़ुद चुनाव लड़ रहा था, अरुण चुनाव लड़ रहा था लेकिन आधे लोग भी नहीं आये थे और आज मैं देख रहा हूँ ऐसा जनसैलाब। हवा का रूख क्या है, उसका पूरा-पूरा पता चल जाता है। उस समय आधे लोग थे, फिर भी जीत गए और इस समय तो इतनी बड़ी भीड़ हमें समर्थन देने के लिए आई है।

भाईयों और बहनों, आज एक हिस्से में मतदान जारी है। मुझे जानकारी मिली कि मतदाता बहुत ही शांतिपूर्ण ढंग से और काफ़ी उमंग और उत्साह के साथ भारी संख्या में मतदान कर रहे हैं। आज जहाँ मतदान हो रहा है, मैं वहां के सभी मतदाताओं को ह्रदय से अभिनंदन करता हूँ। वे आज अपने अधिकार का उपयोग करने जा रहे हैं। मैं चुनाव आयोग का भी अभिनंदन करता हूँ क्योंकि जब मैं दिल्ली से निकला तो मैंने टीवी पर एक पोलिंग बूथ देखा जहाँ पर जो मतदाता लाईन में खड़े रहते हैं, उनके लिए बैठने और पानी पीने का प्रबंध था। मैं सच में मानता हूँ कि हमारे देश में मतदान के दिन चुनाव आयोग ऐसी व्यवस्था करे, ये अपने आप में एक गौरवपूर्ण विषय है। भारत के लोकतंत्र की ताकत, इसकी निष्पक्षता की ताकत, और चुनाव आयोग की प्रतिष्ठा, पूरे विश्व में ऐसी प्रतिष्ठा बनी है जिस पर हम गर्व कर सकें। मैं सभी का ह्रदय से अभिनंदन करता हूँ और बहुत-बहुत बधाई देता हूँ।

कल लोकनायक जयप्रकाश नारायण जी की जन्म जयंती थी। हिन्दुस्तान में हर जगह उनकी जन्मतिथि मनाई गई। 113वीं जन्म जयंती थी। सभी जगह से दो बातें प्रमुख रूप से उभर कर आई। एक – जयप्रकाश जी लोकतंत्र के प्रति समर्पण और दूसरा भ्रष्टाचार के खिलाफ़ उनका संघर्ष। हर जगह एक ही आवाज़ थी कि 1975 में लोकतंत्र की हत्या की गई थी, जयप्रकाश बाबू को जेल में डाल दिया गया था और जयप्रकाश बाबू का एक ही गुनाह था कि वे देश में भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए मैदान में आए थे और भ्रष्टाचार के खिलाफ़ देश को तैयार कर रहे थे। पूरे हिन्दुस्तान ने जयप्रकाश जी की जयंती भ्रष्टाचार के खिलाफ़ संकल्प करके मनाया लेकिन जो उन्हीं के चेले कहे जाते हैं और उन्हीं की उंगली पकड़कर राजनीति में आए और दिन-रात जेपी-जेपी बोल करके राजनीति करते रहते थे, उन्होंने कल जयप्रकाश जी का जन्मदिन कैसे मनाया? मैंने तो रात को मुंबई से आने के बाद टीवी पर देखा, 4 लाख रूपया... जयप्रकाश जी के जन्मदिन पर उनकी विरासत का दावा करने वाले उनके जन्मदिन पर उनका ऐसा अपमान कभी नहीं हुआ होगा।

भाईयों-बहनों, जब तक भाजपा यहाँ सरकार का हिस्सा थी, तब तक कोई स्टिंग ऑपरेशन नहीं हुआ और न ही कोई भ्रष्टाचार की घटना घटी लेकिन जैसे ही ये महाशय ने नए जोड़ीदार ढूंढ लिये, जिनका इतिहास इन्हीं कामों में मशहूर है और जिन कामों पर न्यायालय ने भी ठप्पा मार दिया है, सारी बाजी बिगाड़ने लगी, लोग बिगड़ने लगे, उनके कारनामे बिगड़ने लगे। अगर यही चला तो बिहार में कुछ बचेगा क्या? ये रूपयों का खेल चलता रहेगा तो आप पैसे कहाँ से लाओगे? अगर आपको नौकरी चाहिए तो क्या आप 4 लाख रूपये ला पाओगे क्या? आपको कोई काम करवाना है तो 4 लाख रूपये ला सकते हो क्या? अगर 4 लाख रूपये की बोली लगती है, हिसाब-किताब इस तरह से होता है और सरकार में रहते हुए होता है... जयप्रकाश जी को अगर सच्ची श्रद्धांजलि देनी है तो इस पाप के साथ जिस राजनीतिक पार्टी का संबंध है, जिस गठबंधन का संबंध है, चुन-चुन कर ऐसे लोगों को साफ़ कर दो।

जब मैं आज जहानाबाद आया हूँ तो स्वाभाविक रूप से मुझे शहीद जगदेव बाबू की याद आती है। बिहार की राजनीति में वंचितों के लिए लड़ाई लड़ने वाले, जीवन खपाने वाले जगदेव बाबू; उनकी हत्या किस समय हुई, किसकी सरकार थी, सरकार में बैठे हुए किन-किन लोगों पर आरोप लगे थे? तब जगदेव बाबू खुद सरकार में मंत्री थे लेकिन इसके बावजूद उन्हें मार दिया गया था। वे वंचितों, पीड़ितों, शोषितों की आवाज़ थे, उस आवाज़ को दबा दिया गया और अब तक बिहार को पता तक नहीं चलने दिया कि जगदेव बाबू को कैसे मार दिया गया।

मैं आज जहानाबाद की धरती पर बिहार के मुख्यमंत्री, लालू जी से सवाल पूछता हूँ कि आप ऐसी कांग्रेस पार्टी के साथ कैसे बैठ सकते हो जिसने वंचितों के लिए उठाने वाली आवाज़ को दबा दिया, जगदेव बाबू को मौत के घाट उतार दिया गया। ऐसे लोगों के साथ आप कैसे समझौता कर सकते हैं? सत्ता के लिए ये जो स्वार्थ का बंधन हुआ है, इनको पहचानने की आवश्यकता है। आपने देखा होगा इस चुनाव में दो बातें प्रमुख रूप से उभर करके आई हैं। एक बात जो हम सब लोग बोलते हैं कि बिहार के विकास के लिए हमें मौका दीजिए। हम बिहार के विकास के लिए वोट मांग रहे हैं। हमारा एक ही एजेंडा है – बिहार का विकास। उनके भाषण सुनिये, क्या बोलते हैं; पत्रकार प्रश्न पूछें या प्रेस कांफ्रेंस करें तो क्या बोलते हैं – हम मोदी का विनाश करके रहेंगे। भाईयों-बहनों, निर्णय आपको करना है कि इस चुनाव में बिहार के विकास के लिए वोट देना है कि नहीं देना है? बिहार को विकास चाहिए कि नहीं?

मोदी का विनाश – क्या ये चुनाव का मुद्दा हो सकता है क्या? चुनाव क्या ऐसे मुद्दों पर लड़ा जाता है क्या? आए दिन एक ही बात एक नेता तो यहाँ तक कहते हैं कि एक बार बिहार निपट जाएगा तो मोदी दिल्ली में भी ख़त्म हो जाएगा। लोकतंत्र किसी को ख़त्म करने के लिए नहीं होता है बल्कि लोकतंत्र जनता-जनार्दन की आशा-आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए होता है। राजनीतिक दलों को विकास का एक एजेंडा लेकर जाना होता है और तब जाकर सामान्य मानविकी की आशा-आकांक्षाएं पूरी होती हैं।

हमने बिहार को 1 लाख 65 हज़ार करोड़ रुपये का पैकेज दिया। 1 लाख 25 हज़ार करोड़ रुपये का पैकेज नए विकास के लिए और 40 हज़ार करोड़ का पैकेज, जिसकी कागज़ पर तो योजना बनी थी लेकिन दिया नहीं गया। मुझे बताईये कि अगर इतना रूपया बिहार के विकास में लगता है तो बिहार का भाग्य बदलेगा कि नहीं बदलेगा? बिहार के नौजवान को रोजगार मिलेगा कि नहीं मिलेगा? चारों तरफ बिहार की जय-जयकार होगी कि नहीं होगी? मैं यही सपना लेकर आपके बीच आया हूँ। मैं चाहता हूँ बिहार हिन्दुस्तान की सबसे बड़ी ताकत बन जाए; बिहार आर्थिक रूप से संपन्न बन जाए; यहाँ के नौजवान को रोजगार मिल जाए; बिहार विकास की नई ऊँचाईयाँ प्राप्त कर ले और इसलिए मैं आपका जन समर्थन मांगने के लिए आया हूँ।

बिहार में एक कठिनाई लंबे अर्से से चल रही है। मैं प्रार्थना करने आया हूँ पिछले 30 साल से बिहार में जिसकी सरकार होती है, दिल्ली में उससे हमेशा झगड़ा ही होता है या दिल्ली में जिसकी सरकार होती है, उसका बिहार से हमेशा झगड़ा होता है। बिहार और दिल्ली लड़ते रहें, दोनों में आशंका हो, ये स्थिति अच्छी है क्या? इसके कारण हमारे 30 साल बर्बाद हुए। पहली बार ऐसा मौका आया है जिसमें दिल्ली में जो सरकार है, लोगों ने उसकी मित्र सरकार बिहार में बनाने का फ़ैसला कर लिया है। पहले बिहार सरकार की ताकत दिल्ली से लड़ने में जाती थी। कुछ भी नहीं होता था तो दिल्ली को गाली देते थे और वे यहाँ बच जाते थे। अब बिहार को ऐसी सरकार चाहिए जिसका जवाब बिहार सरकार को भी देना पड़े और दिल्ली सरकार को भी देना पड़े।

मैं आग्रह करता हूँ कि आप इस बार ऐसी सरकार बनाईए जिसके साथ मुझे कंधे से कंधा मिलाकर काम करने का अवसर मिले। मुझे बिहार के लिए काम करना है लेकिन अगर यहाँ रुकावट करने वाली सरकार होगी तो मैं दिल्ली से लाख कोशिश करूंगा, ये राजनीति करते रहेंगे और बिहार बर्बाद होता रहेगा और देश कभी आगे नहीं बढ़ेगा। बिहार के लिए एक मित्र सरकार चाहिए। भाजपा के नेतृत्व वाली एनडीए की सरकार चाहिए ताकि दिल्ली और बिहार के बीच 30 साल से जो संघर्ष चल रहा है, वो समाप्त हो जाए और बिहार विकास की नई ऊंचाईयों पर पहुँच जाए।

मैं आज कुछ आंकड़े देख रहा था और मैं हैरान हो गया कि क्या स्थिति है; बिहार सरकार कैसे काम कर रही है। भारत सरकार ने जो पैसे दिये, इन पैसों का क्या हाल है, आप देखिये। अगर ऐसी सरकार बिहार आई तो 1 लाख 65 हज़ार के पैकेज का क्या होगा। आज जो सरकार है, उसका हाल क्या है – शिक्षा के क्षेत्र में भारत सरकार ने जो पैसे भेजे, उसमें से 1000 करोड़ रुपये का हिसाब बिहार सरकार ने नहीं दिया काम ऐसे चल सकता है? सरकार ऐसी चलाओगे क्या? सिर्फ़ शिक्षा में 1000 करोड़ रुपये का हिसाब नहीं मिला। स्वास्थ्य के क्षेत्र में 500 करोड़ रुपये का हिसाब अभी तक बिहार सरकार ने नहीं दिया है। गरीब, पिछड़े वर्ग की छात्राओं के लिए जो पैसे भेजे गए, उसमें से अब तक 300 करोड़ रुपये का हिसाब दिल्ली सरकार को नहीं दिया गया। अब बताईये कि अगर दिल्ली से पैसे आएं और यहाँ की सरकार हिसाब देने के लिए भी तैयार न हो और इतने पैसों का कोई अता-पता ही न हो तो बताईये कि वो पैसा क्या आपके काम आएगा?

पिछले वर्ष बिहार के विकास के लिए, अलग-अलग योजनाओं के लिए 9100 करोड़ रुपये भेजे गए और आपको जानकर हैरानी होगी कि इसमें से 5000 करोड़ रुपये बैंक में ही पड़े हुए हैं। ऐसी सोई पड़ी सरकार होगी, दिन-रात राजनीति में डूबी पड़ी सरकार होगी तो क्या होगा इनको लेने की फुर्सत नहीं है क्योंकि कोई योजना नहीं है। ये ऐसी सरकार है कि बैंक में पैसे सड़ते रहें, ये राजनीति करते रहें, उनका यही कारोबार चल रहा है। इसलिए मैं अनुरोध करता हूँ कि ऐसी सरकार जो पैसे के बावजूद योजना नहीं बना पा रही है और न काम कर पा रही है, ऐसी सरकार को आप कितने भी पैसे दे दो, कुछ नहीं कर पाएगी। बिहार का भाग्य बदलने का मेरा सपना है और इसके लिए मुझे साथ देने वाली सरकार दीजिए ताकि मैं बिहार का कल्याण कर सकूँ और आपको हिसाब दे सकूँ।

हमने इतना बड़ा पैकेज दिया और सिर्फ़ बातें नहीं की। यहाँ अच्छे रास्ते होने चाहिए और इसके लिए 54,000 करोड़ रूपया बिहार को सड़कें बनाने के लिए दी गई। गांवों में पक्की सड़क हों, 13,800 करोड़ रूपये की लगत से बिहार में 22 हज़ार किमी लंबी ग्रामीण सड़कों का जाल बिछाने का हमने निर्णय किया है। जैसे शरीर में शिरा और धमनी होती है, वैसे ही बिहार की आर्थिक प्रगति के लिए एक तरफ राजमार्ग और एक तरफ ग्रामीण सड़क, इतना बड़ा अभियान हमें चलाना है। इसलिए मैं आपसे अनुरोध करता हूँ कि भाजपा की सरकार बनाईए, एनडीए की सरकार बनाईए; जीतन राम मांझी के साथ जो अन्याय हुआ है, उस अन्याय का बदला लीजिये। 25 साल हो गए, इन्होंने बिहार को बर्बाद किया है, इन्हें सजा देने का काम कीजिये।

ये स्वार्थबंधन के लोग, 25 साल इन्होंने सरकार चलाई और एक दूसरे की कैसी गाली देते थे, किस भाषा में बोलते थे, आप सब जानते हो। आज मिल गए हैं क्योंकि उन्हें कुर्सी की चिंता है, बिहार की चिंता नहीं है। सरकार उसकी बननी चाहिए जिसको बिहार की चिंता हो। यहाँ के किसानों का क्या हाल किया है; आप देखिये, चावल की खेती में - हिन्दुस्तान में  प्रति हेक्टेयर औसतन 2,400 किलो चावल पैदा होता है और बिहार में सिर्फ़ 1700 किलो प्रति हेक्टेयर उत्पादन होता है। अब देखिये कि यहाँ हमारे किसान को कितना नुकसान होता है। अगर देश की औसत जितना चावल पैदा होता तो यहाँ 75 लाख टन चावल पैदा होता लेकिन अभी यहाँ 20 लाख टन चावल पैदा होता है अर्थात किसान को लगभग 4000 करोड़ रुपये का नुकसान होता है। हम और कुछ करें न करें लेकिन देश के अन्य राज्यों के किसानों की स्थिति में बिहार के किसानों को ला सकते हैं कि नहीं? अगर लाएंगे तो यहाँ के किसान की आय 4000 करोड़ रुपये ज्यादा बढ़ जाएगी। किसानों को न सरकार के पास जाना पड़ेगा, न दिल्ली सरकार से मांगना पड़ेगा और विकास अपने आप होगा लेकिन इनको करना नहीं है।

मैं हमेशा कहता हूँ कि बिहार का पानी और यहाँ की जवानी बिहार की इतनी बड़ी ताकत है जिस पर किसी ने ध्यान नहीं दिया। आप देखिये कि पंजाब में पांच प्रमुख नदियाँ हैं और बिहार में इतनी सारी नदियाँ हैं कि आप गिनने जाओ तो भूल जाओगे। पंजाब में पांच नदियाँ होने के बावजूद भी पंजाब पूरे हिन्दुस्तान का पेट भरने में कामयाब हो गया तो बिहार में तो इतनी सारी नदियाँ हैं। पानी समुंदर में चला जाता है, यही पानी कभी-कभार गांवों को डुबा जाता है, खेतों को नष्ट कर देता है, इसी पानी का सही उपयोग हुआ होता तो बिहार का पानी यहाँ के किसान की ताकत बनता और बिहार की जवानी हिन्दुस्तान की ताकत बनकर उभरती।

मैं आपसे आग्रह करता हूँ कि इस चुनाव में भारी संख्या में मतदान कीजिये। 16 को मतदान है। ज्यादा-से-ज्यादा मतदान कीजिये और मेरा नारा है – ‘पहले मतदान, फिर जलपान’। मतदान करना हमारा पवित्र दायित्व है। मतदान अवश्य करें और एक मजबूत सरकार बनाईए, दो-तिहाई बहुमत वाली सरकार बनाईए। आप देखिये, बिहार भी काफ़ी तेज़ी से आगे बढ़ेगा। मैं आपका बहुत-बहुत आभारी हूँ। सब लोग एक साथ मिल कर बोलिये -

भारत माता की जय! भारत माता की जय! भारत माता की जय!

बहुत-बहुत धन्यवाद।

Explore More
No ifs and buts in anybody's mind about India’s capabilities: PM Modi on 77th Independence Day at Red Fort

Popular Speeches

No ifs and buts in anybody's mind about India’s capabilities: PM Modi on 77th Independence Day at Red Fort
EPFO Payroll data shows surge in youth employment; 15.48 lakh net members added in February 2024

Media Coverage

EPFO Payroll data shows surge in youth employment; 15.48 lakh net members added in February 2024
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
I not only make plans with true intentions but also guarantee them: PM Modi in Chikkaballapur
April 20, 2024
INDI Alliance currently lacks leadership, and a vision for the future: PM Modi in Chikkaballapur
I not only make plans with true intentions but also guarantee them: PM Modi in Chikkaballapur
Biggest beneficiaries of Modi government schemes are SC/ST/OBC families: PM Modi in Chikkaballapur

भारत माता की... भारत माता की...
चिक्काबल्लापुरदा, नन्ना सोदारा सोदरियारिगे, नमस्कारगड़ु ! संत कैवारा तातैया और सर एम विश्वेश्वरैया की इस धरती पर आप सभी जनता-जनार्दन के दर्शन ये मेरा बहुत बड़ा सौभाग्य है।

साथियों,
First phase की वोटिंग ने देश का उत्साह बढ़ा दिया है और ये उत्साह मुझे यहां भी नजर आ रहा है। पहले फेज में वोटिंग NDA के पक्ष में हुई है, विकसित भारत के पक्ष में हुई है। और मैं आदरणीय देवगौड़ा जी का हृदय से आभार व्यक्त करता हूं। 90 साल की आयु में जो ऊर्जा है जो कमिटमेंट है, मेरे जैसे युवक को भी उनसे बहुत प्रेरणा मिलती है। और मैं भाषा तो नहीं समझ पाया, लेकिन मैं अनुभव कर रहा था कि कर्नाटक के प्रति उनका जो कमिटमेंट है, आज की कर्नाटक की दुर्दशा, इसका उनके दिल में जो दर्द है, और उनकी वाणी में जो जोश है ये कर्नाटक के उज्ज्वल भविष्य का गवाही दे रहा है। मैं देवगौड़ा जी का हृदय से आभार व्यक्त करता हूं उनके आशीर्वाद के लिए। देवगौड़ा जी ने इंडी गठबंधन के एक-एक पात्र का बढ़िया वर्णन किया है। इसलिए मैं उसमें जाना नहीं चाहता हूं, लेकिन इंडी गठबंधन के पास वैसे भी प्रेजेंट में कोई लीडर नहीं है, और फ्यूचर के लिए कोई विजन नहीं और उनकी हिस्ट्री स्कैम की रही है। चिक्काबल्लापुर और कोलार का मैसेज भी साफ है फिर एक बार... फिर एक बार... फिर एक बार..
लोकतंत्र में मेरा दायित्व बनता है कि मैं देश की जनता-जर्नादन को मेरे कार्य का हिसाब दूं। साथियों आज मैं आपके बीच अपने रिपोर्ट कार्ड के साथ आपसे आशीर्वाद मांगने के लिए आया हूं। मैंने आप सभी को मेरा परिवार माना है। आपके लिए दिन रात मेहनत करने में मैंने कोई कमी नहीं रखी है। आपका सपना ही मोदी का संकल्प है। पल-पल आपके नाम, पल-पल देश के नाम। 24 बाय सेवन फॉर 2047। और इसीलिए मैं सच्ची नीयत से सिर्फ योजना ही नहीं बनाता बल्कि गारंटी भी देता हूं।

साथियों,
हमारे देश के गरीब ने कभी ये उम्मीद भी नहीं की थी कि उन्हें Free Ration मिलेगा। लेकिन ये गरीब का बैटा मोदी है। जो किसी ने नहीं सोचा वो मोदी ने करके दिखाया। आज चिक्काबल्लापुर के भी 8 लाख से ज्यादा लाभार्थियों को फ्री राशन मिलता है। पूरा राशन मिलता है। अब मोदी की गारंटी है कि आने वाले फाइव इयर तक ये ऐसे ही मिलता रहेगा।

साथियों,
गरीब ने कभी Free Treatment की कभी कल्पना भी नहीं की थी। लेकिन Ten Years में कर्नाटक के लाखों परिवारों को Free Treatment की गारंटी मिली है। यहां चिक्काबल्लापुर में भी four lakh से ज्यादा आयुष्मान कार्ड बने हैं। अब मोदी की गारंटी है कि हर परिवार में जो Seventy Years से बड़े सीनियर सिटिजन्स हैं, उनको भी Five Lakh रुपए तक का Free Treatment मिलेगा।

साथियों,
मोदी सरकार की योजनाओं के सबसे बड़े लाभार्थी, SC/ST/OBC परिवार हैं। पहले की सरकारों में SC/ST परिवारों को गंदगी में, झुग्गियों में रहना पड़ता था, बिजली-पानी तक की सुविधाएं तक नहीं मिलती थी। उन्होंने भी सरकारों से सारी उम्मीदें छोड़ दी थीं। आपका ये भरोसा मोदी की गारंटी ने लौटाया है। इसी वजह से पिछले Ten Years में Twenty Five Crore देशवासी गरीबी से बाहर निकले हैं।

साथियों,
पिछले 10 सालों में चिक्काबल्लापुर में 14 thousand और कोलार में 20 thousand, पक्के घर मिल चुके हैं। अब मोदी ने Three Crore और नए घर बनाने की गारंटी दी है। जिनको अभी तक घर नहीं मिला है, उनको भी जरूर मिलेगा। जिनको सबसे अंत में पूछा जाता था, उनको NDA सरकार ने पंक्ति में सबसे आगे कर दिया है। Year 2014 में NDA सरकार बनी तो, देश के पहले नागरिक यानि हमारे राष्ट्रपति एक SC परिवार के बेटे बने। Year 2019 में NDA सरकार बनी तो, देश की पहली नागरिक यानि हमारी राष्ट्रपति एक ट्राइबल परिवार की बेटी बनीं। ये हमारी सरकार ही है जिसने डॉक्टर बाबा साहेब आंबेडकर से जुड़े पांच स्थानों को पंच-तीर्थों के रूप में विकसित किया।

साथियों,
सबका साथ, सबका विकास के मंत्र पर चलते हुए NDA सरकार ने SC/ST/OBC युवाओं की शिक्षा पर बल दिया है। इस वजह से, Higher Education में SC विद्यार्थियों का नामांकन Forty-Four परसेंट बढ़ा है। Higher Education में ST विद्यार्थियों का नामांकन Sixty-Five परसेंट बढ़ा है। Higher Education में OBC विद्यार्थियों का नामांकन Forty-Five परसेंट बढ़ा है।

साथियों,
बिना गारंटी के लोन वाली मुद्रा योजना के सबसे अधिक लाभार्थी SC/ST/OBC युवा ही हैं। अब मोदी की गारंटी है कि मुद्रा योजना के तहत Financial Help 10 Lakh से बढ़ाकर Twenty Lakh तक किया जाए।

भाइयों और बहनों,
यहां इतनी बड़ी संख्या में माताएं-बहनें आई हैं। आप जितनी मेहनत करती हैं, आप जिन चुनौतियों से अपने परिवार को पालती हैं, ये मोदी ने अपने घर में देखा है। आजकल देश-दुनिया के बड़े-बड़े ताकतवर लोग, मोदी को हटाने के लिए एकजुट हो गए हैं। लेकिन ये नारीशक्ति का आशीर्वाद है, मातृशक्ति का आशीर्वाद है, आपका सुरक्षा कवच है कि मोदी हर चुनौती से टकराते हुए चलता जा रहा है।

साथियों,
हर माता-बहन-बेटी की सेवा और सुरक्षा, ये मोदी की प्राथमिकता है। 10 Years में हमने 10 Crore बहनों को सेल्फ हेल्प ग्रुप्स से जोड़ा। One Crore बहनों को लखपति दीदी बनाया। अब मोदी की गारंटी है कि Three करोड़ बहनें लखपति दीदी बनेंगी, जिनकी इनकम साल में एक लाख से अधिक होगी। साथियों, एनडीए सरकार, नमो ड्रोन दीदी योजना से बेटियों को ड्रोन पायलट की ट्रेनिंग दे रही है। वो दिन दूर नहीं जब कोलार और चिक्काबल्लापुर के खेतों में भी हमारी बेटियां ड्रोन से खेती में मदद करेंगी।

भाइयों और बहनों,
ये धरती, मैंगो, मिल्क और सिल्क की धरती है। NDA सरकार गांवों को, किसानों को अधिक से अधिक समर्थ बनाने में जुटी है। अब हमारे पास आदरणीय एच डी देवेगौड़ा जी जैसे, आज देश के वे सीनियरमोस्ट पालिटिशियन हैं, सबसे ज्यादा अनुभवी पोलिटिशियन हैं, उनके व्यक्तित्व का मार्गदर्शन भी हमें मिलेगा। ये NDA सरकार है जिसने पशुपालकों और मछुवारों को भी किसान क्रेडिट कार्ड दिए। ये हमारी सरकार है जिसने पहली बार पशुओं के लिए फ्री वैक्सीनेशन का अभियान चलाया। हम co-operative movement का दायरा हर सेक्टर में बढ़ाने में जुटे हैं। NDA सरकार ने श्री अन्न के रूप में मिलेट्स को भी दुनियाभर के बाज़ारों तक पहुंचाने का बीड़ा उठाया है। इससे चिक्काबल्लापुर और कोलार के अनेक छोटे किसानों की इनकम बढ़ेगी।

साथियों,
इस क्षेत्र में पानी की कमी को दूर करने के लिए भी हर प्रयास किए जा रहे हैं। यहां इस क्षेत्र में ही 150 अमृत सरोवर बनाए गए हैं, ताकि पानी की समस्या कम हो। कोलार और चिक्काबल्लापुर में Two lakh Seventy thousand परिवारों को नल कनेक्शन दिए गए हैं। साथियों, कांग्रेस किस तरह किसानों को धोखा देती है, इसका बहुत बड़ा उदाहरण कर्नाटक है। हमने छोटे किसानों के लिए पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम बनाई। यहां जब बीजेपी सरकार थी, तो किसानों को Ten Thousand रुपए मिलते थे। Six Thousand Rupees केंद्र सरकार देती थी और Four Thousand Rupees कर्नाटका की बीजेपी सरकार देती थी। लेकिन कांग्रेस सरकार आते ही उसने किसानों को four thousand रुपए देना बंद कर दिया। ऐसी anti-farmer कांग्रेस को आप सज़ा देंगे ये मेरा पूरा विश्वास है।

भाइयों और बहनों,
NDA सरकार, सेरीकल्चर को बढ़ावा देने के लिए भी लगातार काम कर रही है। हमारी सरकार ने सिल्क समग्र योजना के तहत राज्यों को करीब Thirteen Hundred crore Rupees की मदद दी है। यहां के शिडलाघट्टा सिल्क और रॉ सिल्क से बनी साड़ियों को हमने वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट मिशन में शामिल किया है।

साथियों,
नाडप्रभु केम्पेगौड़ा जी के विजन से inspired होकर एनडीए सरकार कर्नाटक में आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का विस्तार कर रही है। पिछले Ten Years में कर्नाटक में नेशनल हाइवे की संख्या Twenty Five से बढ़कर Forty Nine हो गई है। इस Region में Special Economic Zone की स्थापना से रोजगार और आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा। साथियों, यहां नंदी हिल्स भी है...ताई भुवनेश्वरी और ताई कोलाराम्मा उनका आशीर्वाद भी है। हमारी सरकार इस क्षेत्र में तीर्थ यात्रा और weekend getaway के रूप में इसे और popular बनाने के लिए भी काम करेगी।

भाइयों और बहनों,
26 अप्रैल को आप सभी को मतदान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना है। इसके लिए विशेष प्रार्थना आपको कर रहा हूं। चिक्कबल्लापुर से डॉ. के सुधाकर और कोलार सीट से मल्लेश बाबू को बड़ी जीत दिलानी है। और आपको घर-घर जाकर ये भी कहना है कि मोदी जी आए थे और आप सभी को नमस्कार कहा है।
भारत माता की... भारत माता की... भारत माता की... भारत माता की... बहुत-बहुत धन्यवाद