In the next 5 years, 3 crore more new houses will be built for poor: PM Modi in Assam's Nalbari
'Jai Shri Ram' slogan being raised by PM Modi and people present at Nalbari rally as PM speaks about the 'Surya Tilak' ritual of Ram Lalla being performed in Ayodhya
Modi has given a guarantee that all the elderly people above 70 years of age will get free treatment facilities up to Rs 5 lakh under Ayushman Yojana: PM on BJP’s Sankalp Patra
Congress fueled separatism in Northeast and Modi made efforts for peace and security. What Congress could not do in 60 years, Modi did in 10 years: PM in Nalbari

भारत माता की, भारत माता की, भारत माता की।

मोई हमुह अहमबाखी लोई…रंगाली बिहु आरू अहमीया नबोबोर्खोर… खुबेश्या ज्ञापोन कोरिलु।

मैं मां कामाख्या और मां काली के चरणों में प्रणाम करता हूं। मैं श्री हरि मंदिर, श्री वासुदेव मंदिर, बिल्लेश्वर मंदिर और शिव मंदिर को भी सर झुकाकर नमन करता हूं। मैं आप सभी को बोहाग बिहु की हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं। आज रामनवमी का ऐतिहासिक अवसर भी है। 500 वर्षों के इंतज़ार के बाद, आखिर भगवान राम अपने भव्य मंदिर में विराजमान हुए हैं। और अभी कुछ ही मिनटों के बाद प्रभु राम को सूर्य तिलक करके उनका जन्मोत्सव अयोध्या की पवित्र नगरी में राम मंदिर में मनाया जाएगा। आज देश सदियों की साधना की, पीढ़ियों के बलिदान की सिद्धि को सेलिब्रेट कर रहा है।

साथियों,

इतनी बड़ी संख्या में आपकी ये उपस्थिति, ये जनसैलाब महान ब्रह्मपुत्र के विस्तार से कम नहीं है। और मैं तो देख रहा हूं, ये पब्लिक मीटिंग तीन मंजिला है। एक तो लाखों लोग मेरे सामने बैठे हैं। दूसरे हजारों लोग उधर सामने ऊपर बैठे हैं। और तीसरे सैकड़ों लोग ब्रिज पर खड़े होकर सभा सुन रहे हैं। यानि शायद ये पहली सभा होगी जो तीन मंजिला सभा हो रही है। 4 जून को नतीजा क्या होने जा रहा है, ये साफ दिखाई दे रहा है। दिखता है कि नहीं दिखता है। चार जून क्या होने वाला है ये आज पूरा देश देख रहा है। और इसीलिए लोग कहते हैं 4 जून, 400 पार! 4 जून, 400 पार! 4 जून, 400 पार! जरा पूरी ताकत से आवाज आनी चाहिए। 4 जून, 400 पार! फिर एक बार, मोदी सरकार!! फिर एक बार, मोदी सरकार!! फिर एक बार, मोदी सरकार!! शारी ज़ून, शारी सो पार, शारी ज़ून, शारी सो पार। आकौ एबार, मोदी शोरकार।

साथियों,

2014 में मोदी आपके बीच एक उम्मीद लेकर आया था। 2019 में मोदी जब आया, तो एक विश्वास लेकर आया। और 2024 में, आज जब मोदी असम की धरती पर आया है, मोदी गारंटी लेकर आया है। मोदी की गारंटी यानी, गारंटी पूरा होने की गारंटी! अभी बोहाग-बिहू के दिन बीजेपी ने अपना संकल्प-पत्र भी जारी किया है। बीजेपी वो पार्टी है, जो सबका साथ, सबका विकास के मंत्र पर चलती है। NDA सरकार की योजनाओं में कोई भेदभाव नहीं होता, उनका लाभ हर किसी को मिलता है। अब NDA ने ठाना है कि देश के हर नागरिक तक पहुंचकर, जिस सुविधा का वो पात्र है, वो सुविधा उसे दी जाएगी। अगले 5 वर्षों में गरीबों के लिए 3 करोड़ और नए मकान बनाए जाएंगे और बिना भेदभाव वो सबको मिलेंगे। अगले 5 वर्षों तक आपको मुफ्त राशन ऐसे ही मिलता रहेगा, बिना भेदभाव मिलता रहेगा। आप मुझे बताइए....NDA सरकार की योजनाओं में आपको कहीं पर भी भेदभाव का सामना करना पड़ा? भेदभाव का सामना करना पड़ा है? भेदभाव का सामना करना पड़ा है?

साथियों,

अब बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में एक और बहुत बड़ी घोषणा की है, जिसका लाभ देश के हर घर को होगा और वो भी बिना भेदभाव के होगा। आप जानते हैं हर परिवार में आजकल दादा-दादी, पिता-माता 70 साल के ऊपर के लोग परिवार में होते हैं। और उनको कोई भी तकलीफ हो तो परिवार के संतान पर बोझ पड़ता है। बेटे के सारे प्लान बिगड़ जाते हैं, अगर पिता-माता, दादा को कोई बीमारी आ जाए। अगर बेटी की शादी का प्लान बना दिया है और अचानक पता चले कि पिता को गंभीर बीमारी आई है, माता को गंभीर बीमारी आई है, तो बेटी की शादी का प्लान ही बिगड़ जाता है। और इसीलिए मोदी ने तय किया है कि आप जो मेरे भाई-बहन हैं, जो 50 साल के होंगे, 40 साल के होंगे,स 30 साल के होंगे, 60 साल के होंगे, अपने बुजुर्ग मां-बाप की सेवा करते हैं, अब मोदी ने तय किया है, मोदी ने गारंटी दी है कि आपके परिवार में 70 साल के ऊपर के जितने भी बुजुर्ग हैं, उनके इलाज की चिंता ये आपका बेटा मोदी करेगा। इन बुजुर्गों को आयुष्मान योजना के तहत 5 लाख रुपए तक के मुफ्त इलाज की सुविधा मिलेगी। वो बुजुर्ग गरीब हों, मध्यम वर्ग के हों, गांव के हों, शहर के हों, सैलरी कैटेगरी में आते हों, किसान परिवार के हों या फिर उच्च वर्ग के हों, इसमें भी बिना भेदभाव उनके इलाज की चिंता मोदी करेगा और इससे आपके पैसे बचेंगे। आप अपनी योजना के हिसाब से अपने परिवार के सपनों को पूरा कर पाएंगे। इतना बड़ा काम ये मोदी करने वाला है।

मेरा भाषण आगे बढ़ने से पहले, अब 12:00 बजने में कुछ ही पल बाकी है। अयोध्या में और पूरे देश में प्रभु राम के जन्मोत्सव, प्रभु राम के स्वागत का बहुत बड़ा अभियान चल रहा है। बहुत बड़ा उत्सव चल रहा है। हम भी उससे जुड़ना चाहते हैं। भले हम अयोध्या नहीं पहुंच पाए। हम यहां से प्रभु राम के जन्मोत्सव में जुड़ने के लिए अभी कुछ ही पल में वहां पर सूर्य तिलक होने वाला है। आप भी अपना मोबाइल फोन निकाल करके उसकी फ्लैशलाइट चालू करके, हम भी प्रभु राम को प्रणाम करें। उस सूर्य तिलक की तरह हम भी अपने मोबाइल का फ्लैश निकाल करके, फ्लैश चालू करके सब लोग अपने मोबाइल का फ्लैश चालू करें। सब लोग, भले दिखाई नहीं देगा, लेकिन आप करें। प्रभु श्री राम को सूर्य तिलक हो रहा है। तब हमारे मोबाइल फोन से भी प्रभु राम को हम प्रणाम कर रहे हैं। हम भी उस सूर्य तिलक में हमारे मोबाइल की किरण भेज रहे हैं। मेरे साथ बोलिए, जय श्री राम, जय श्री राम, जय जय श्री राम, जय जय श्री राम, जय जय श्री राम, राम लक्ष्मण जानकी जय बोलो हनुमान की, राम लक्ष्मण जानकी, राम लक्ष्मण जानकी, राम लक्ष्मण जानकी, राम लक्ष्मण जानकी, राम लक्ष्मण जानकी, जय बोलो हनुमान की। राम लक्ष्मण जानकी, जय बोलो हनुमान की। जय श्री राम, जय श्री राम, जय जय श्री राम, जय जय श्री राम, जय जय श्री राम, जय जय श्री राम। प्रभु राम के जन्मोत्सव को हम सबने यहां से उसमें शरीक हो करके आज जब सूर्य देवता स्वयं प्रभु राम जी के जन्मदिन को मनाने के लिए अयोध्या की धरती पर किरण के रूप में उतर रहे हैं। पूरे देश में एक नया माहौल है। और यह प्रभु राम का बर्थडे 500 साल के बाद आया है। जब वह अपने निज घर में बर्थडे मनाने का सौभाग्य मिला है। बोलिए प्रभु रामचंद्र की, प्रभु रामचंद्र की, सियावर रामचंद्र की, सियावर रामचंद्र की।

साथियों,

बीजेपी ने आपके लिए और भी कई घोषणाएं की हैं। आपका बिजली बिल जीरो आए, इसके लिए कम दाम पर सोलर पैनल दिए जाएंगे। और उसके कारण आपका बिजली बिल जीरो हो जाएगा। बिजली का बिल तो जीरो होगा आने वाले दिनों में जब आप इलेक्ट्रिक वेहिकल खऱीदेंगे, स्कूटी हो, स्कूटर हो, गाड़ी हो तो सोलर वाली बिजली से उसका चार्जिंग भी होगा और आज ट्रैवलिंग का जो खर्चा है न, पेट्रोल-डीजल का जो खर्चा है वो भी जीरो हो जाएगा। देश की करोड़ों बहनें आज स्वयं सहायता समूह से जुड़ी हैं। हमने लक्ष्य रखा है- 3 करोड़ बहनों को हम लखपति दीदी बनाएंगे। गांव-गांव में हमारी बहनें ड्रोन पायलट बनेंगी। इन फैसलों का बहुत बड़ा लाभ हमारे असम के लोगों को, यहां के गरीब, वंचित, दलित, किसानों, पीड़ित और चाय बागानों के मजदूरों को होगा।

साथियों,

जब किसानों की बात होती है, तो यहां कोई ‘खार-भात’ को कैसे भूल सकता है! यहां तो हर कोई जानता है- ‘खारखुआ असमीस’ इसीलिए, हमारी सरकार यहां के चावल किसानों की खास चिंता करती है। हमने खरीफ की फसलों का एमएसपी बढ़ाया है। इससे यहां के लाखों किसानों को लाभ हुआ है। असम के किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि के तहत भी 5400 करोड़ रुपए से ज्यादा मिले हैं। और अब बीजेपी ने इस योजना को जारी रखने का ऐलान किया है। यानि असम के किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि का पैसा मिलता रहेगा...और वो भी.....बिना भेदभाव मिलता रहेगा।

साथियों,

आज पूरे देश में मोदी की गारंटी चल रही है। और नॉर्थ ईस्ट तो खुद ही मोदी की गारंटी का गवाह है। जिस नॉर्थईस्ट को कांग्रेस ने सिर्फ समस्याएं दी थीं, उसे बीजेपी ने संभावनाओं का स्रोत बना दिया है। कांग्रेस ने अलगाववाद को खाद-पानी दिया। मोदी ने पूर्वोत्तर को गले लगाने का काम किया। मोदी ने शांति और सुरक्षा के लिए प्रयास किया। जो कांग्रेस के 60 वर्षों में नहीं हुआ, वो मोदी ने 10 वर्षों में करके दिखाया। क्योंकि मेरे लिए, आपके सपने ही मेरे संकल्प हैं। और इसलिए हर पल आपके नाम, हर पल देश के नाम, हर पल आपके सपनों के नाम, और इसलिए 24 बाय 7 फॉर 2047.

साथियों,

मोदी ने ही अपनी मुस्लिम बहनों को तीन तलाक की टेंशन से मुक्ति दिलाई। हमने तीन तलाक की कुप्रथा के खिलाफ कानून बनाया। इसका फायदा ना सिर्फ मुस्लिम बहनों को मिला बल्कि उनके उनके पूरे परिवार को मिला। माता को मिला, पिता को मिला, भाई को मिला। तीन तलाक की वजह से मुस्लिम बेटियों के साथ उनके परिवार की भी ज़िंदगी तबाह हो रही थी। इसका लाभ असम की भी हमारी हजारों बहनों को हुआ है।

साथियों,

असम का विकास इस बात का सबूत है कि जब नीयत सही हो, तो नतीजे भी सही आते हैं। कांग्रेस पार्टी ने सियासी फ़ायदों के लिए इस क्षेत्र को अपने पंजे में फंसाकर रखा था। कांग्रेस के पंजे ने पूर्वोत्तर को इसलिए जकड़ रखा था ताकि उनके लिए भ्रष्टाचार और लूट के दरवाजे खुले रहें। अब ये पंजा खुल गया है तो असम में सबका साथ सबका विकास का मंत्र लागू हुआ है।

साथियों,

अभी कुछ ही दिनों पहले मैंने असम में, देश की बहुत बड़ी सेमीकंडक्टर फेसिलिटी का शिलान्यास किया है। इस सेमीकंडक्टर असेंबली और टेस्ट फेसिलिटी पर 27 हजार करोड़ से ज्यादा का निवेश किया जा रहा है। आने वाले समय में अकेली इस यूनिट से इस क्षेत्र के युवाओं के लिए 15 हजार से ज्यादा रोजगार के अवसर बनेंगे। आने वाले समय में पूरी दुनिया में असम को सेमीकंडक्टर सेक्टर के एक बड़े हब के रूप में पहचान मिलेगी। ये शुरुआत ऐतिहासिक और अप्रत्याशित है। ये निर्णय इस क्षेत्र के विकास को एक नई शक्ति देने वाला है। नॉर्थ ईस्ट रीजन में हुआ निवेश, विकसित भारत और विकसित नॉर्थ ईस्ट के हमारे संकल्प का उदाहरण है। नॉर्थ ईस्ट के नौजवानों को भविष्य के भारत के हर सेक्टर में नए अवसरों से जोड़ा जाए, मेरे लिए ये सबसे बड़ी प्राथमिकता है। और ये अवसर लगातार इसी रफ्तार से बढ़ते रहेंगे, ये मोदी की गारंटी है।

साथियों,

असम आज केवल दूसरे राज्यों की बराबरी नहीं कर रहा, असम विकास के नए रिकॉर्ड बना रहा है। जिस असम में सड़कें नहीं होती थीं, वहां 10 वर्ष में 25 सौ किलोमीटर नेशनल हाइवेज बने हैं। दरांग, उदलगुरी, बारपेटा और कोकराझार के लोगों के लिए अकेले इस क्षेत्र में ही करीब 2 हजार करोड़ रुपए की सड़क परियोजनाओं पर काम हो रहा है। आज देश का सबसे बड़ा रिवर ब्रिज, भूपेन हजारिका सेतु असम में है। आज देश का सबसे लंबा बोगीबील रेल-रोड ब्रिज असम में है। अब गुवाहाटी में ही असम का अपना एम्स खुल चुका है। इसके अलावा बारपेटा और कोकराझार में भी मेडिकल कॉलेज खुले हैं। असम में 5 जिलों में कैंसर अस्पताल खोलने की योजना पर भी काम चल रहा है। असम को 6 नए इंजीनियरिंग कॉलेज की भी सौगात मिली है। नॉर्थ ईस्ट की ऊर्जा की जरूरतों को पूरा करने के लिए 90 हजार करोड़ रुपए की लागत से नॉर्थ ईस्ट गैस ग्रिड को तैयार किया जा रहा है। हाल ही में पीएम ऊर्जा गंगा योजना के तहत बरौनी-गुवाहाटी पाइपलाइन को देश को समर्पित किया गया है।

भाइयों बहनों,

ये केवल विकास के आंकड़ें नहीं हैं। ये सबका प्रयास का उदाहरण हैं। यहां कहा जाता है- राइज़े नख जोकारिले नोइ बोइ। यानि, यदि सब लोग मिलकर काम करें तो कठिन से कठिन काम आसान हो जाता है। असम आगे बढ़ रहा है, आप लोगों के प्रयास हैं।

साथियों,

यहां से मानस नेशनल पार्क और टाइगर रिजर्व बहुत दूर नहीं है। बीजेपी सरकार में देश में टाइगर्स की संख्या भी बढ़ी है और वन क्षेत्र का भी विस्तार हुआ है। कुछ समय पहले ही मैं काजीरंगा नेशनल पार्क गया था, मैं देश का पहला प्रधानमंत्री था जो रात में वहां रुका था। असम सरकार की सख्ती की वजह से अब राइनो का शिकार बीते दिनों की बात बन रहा है। असम की ये बायो डायवर्सिटी, यहां की बहुत बड़ी ताकत है। बीजेपी ने अपने मेनिफेस्टो में संकल्प लिया है कि देश की हेरिटेज को, ग्लोबल मैप पर ले जाएगी। इससे ग्लोबल टूरिस्ट्स के भी असम आने की संभावना और बढ़ेगी। असम में बढ़ता टूरिज्म, यहां रोजगार के भी ज्यादा से ज्यादा मौके बनाएगा।

साथियों,

हम विकास भी और विरासत भी के मंत्र पर चल रहे हैं। हम बारपेटा को बोइकुंठ धाम मानकर नमन करते हैं। इसी धरती ने श्रीमंत शंकरदेव और श्री माधवदेव जैसे संत दिये हैं। इसीलिए, आज अगर काशी में विश्वनाथ धाम का निर्माण होता है, तो असम में कामाख्या कॉरिडॉर का विकास भी किया जा रहा है। बीजेपी सरकार के प्रयासों से असम के महान योद्धा लसित बोरफुकन की 400वीं जयंती पूरे देश ने मनाई। और असम के गमोशा का ब्रांड एंबेसडर तो खुद आपका मोदी है।

लेकिन भाइयों बहनों,

कांग्रेस को देश की विरासत से भी दिक्कत है। मैं असम की स्थानीय परंपरा के कपड़े पहन लेता हूं, तो कांग्रेस वाले मजाक उड़ाते हैं। कांग्रेस को असम के लोगों की भावनाओं की कोई परवाह नहीं है।

साथियों,

हमारे मुख्यमंत्री हेमंता बिस्वासर्मा जी, असम के विकास के लिए इतनी मेहनत करते हैं कि यहां कांग्रेस का स्कोप ही खत्म हो गया है। कांग्रेस को दिया आपका वोट केंद्र में सरकार नहीं बनाएगा। बीजेपी को दिया आपका वोट- विकसित भारत बनाएगा। इस बार बारपेटा से फणीभूषण चौधरी जी को, कोकराझार से जोयंता बासुमतारी जी को, और गुवाहाटी में बहन बिजुली कलिता मेधी जी को आपको रिकॉर्ड वोट से जिताना है। 7 मई को वोटिंग के पिछले सारे रिकॉर्ड टूटेंगे न? सारे रिकॉर्ड टूटेंगे न? सारे रिकॉर्ड टूटेंगे न? हर बूथ जीतेंगे न? घर-घर जाएंगे? मतदाता को जगाएंगे, सुबह-सुबह मतदान कराएंगे। अच्छा मेरा एक और काम है, वो भी करना है। आप घर-घर जाना और घर-घर जाकर कहना कि हमारे मोदी जी आए थे और मोदी जी ने परिवार के सभी को प्रणाम पहुंचाया है। मेरा प्रणाम पहुंचा देंगे? मेरा प्रणाम पहुंचा देंगे?

मेरे साथ बोलिए, भारत माता की, भारत माता की। जय श्री राम, जय श्री राम। जय-जय श्रीराम, जय-जय श्रीराम।

बहुत-बहुत धन्यवाद!

Explore More
୭୭ତମ ସ୍ବାଧୀନତା ଦିବସ ଅବସରରେ ଲାଲକିଲ୍ଲା ପ୍ରାଚୀରରୁ ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ନରେନ୍ଦ୍ର ମୋଦୀଙ୍କ ଅଭିଭାଷଣର ମୂଳ ପାଠ

ଲୋକପ୍ରିୟ ଅଭିଭାଷଣ

୭୭ତମ ସ୍ବାଧୀନତା ଦିବସ ଅବସରରେ ଲାଲକିଲ୍ଲା ପ୍ରାଚୀରରୁ ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ନରେନ୍ଦ୍ର ମୋଦୀଙ୍କ ଅଭିଭାଷଣର ମୂଳ ପାଠ
Industry Upbeat On Modi 3.0: CII, FICCI, Assocham Expects Reforms To Continue

Media Coverage

Industry Upbeat On Modi 3.0: CII, FICCI, Assocham Expects Reforms To Continue
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM reviews fire tragedy in Kuwait
June 12, 2024
PM extends condolences to the families of deceased and wishes for speedy recovery of the injured
PM directs government to extend all possible assistance
MoS External Affairs to travel to Kuwait to oversee the relief measures and facilitate expeditious repatriation of the mortal remains
PM announces ex-gratia relief of Rs 2 lakh to the families of deceased Indian nationals from Prime Minister Relief Fund

Prime Minister Shri Narendra Modi chaired a review meeting on the fire tragedy in Kuwait in which a number of Indian nationals died and many were injured, at his residence at 7 Lok Kalyan Marg, New Delhi earlier today.

Prime Minister expressed his deep sorrow at the unfortunate incident and extended condolences to the families of the deceased. He wished speedy recovery of those injured.

Prime Minister directed that Government of India should extend all possible assistance. MOS External Affairs should immediately travel to Kuwait to oversee the relief measures and facilitate expeditious repatriation of the mortal remains.

Prime Minister announced ex- gratia relief of Rupees 2 lakh to the families of the deceased India nationals from Prime Minister Relief Fund.

The Minister of External Affairs Dr S Jaishankar, the Minister of State for External Affairs Shri Kirtivardhan Singh, Principal Secretary to PM Shri Pramod Kumar Mishra, National Security Advisor Shri Ajit Doval, Foreign Secretary Shri Vinay Kwatra and other senior officials were also present in the meeting.