ସେୟାର
 
Comments
ନାଗରିକତା ଅଧିନିୟମ : କୌଣସି ମଧ୍ୟ ଭାରତୀୟ ନାଗରିକ ଆଇନ ଦ୍ୱାରା ପ୍ରଭାବିତ ହେବେ ନାହିଁ , ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ମୋଦୀ କଂଗ୍ରେସ ଉପରେ ଭୟର ବାତାବରଣ ସୃଷ୍ଟି କରିବାର ଆରୋପ ଲଗାଇଛନ୍ତି
ନାଗରିକତା ସଂଶୋଧନ ଅଧିନିୟମ ଭାରତୀୟ ନାଗରିକଙ୍କ କୌଣସି ମଧ୍ୟ ଅଧିକାରକୁ ଛଡ଼ାଇ ନେବ ନାହିଁ ଅବା କୌଣସି ମଧ୍ୟ କ୍ଷତିର କାରଣ ହେବ ନାହିଁ : ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ମୋଦୀ
କଂଗ୍ରେସ ଏବଂ ତାହାର ସହଯୋଗ ରାଜନୈତିକ ଉଦ୍ଦେଶ୍ୟ ପାଇଁ ମୁସଲମାନଙ୍କୁ ଉସୁକାଉଛନ୍ତି ଏବଂ ଦେଶର କିଛି ଅଂଶରେ ଚାଲିଥିବା ଅଶାନ୍ତି ଏବଂ ପୋଡ଼ାଜଳା ପଛରେ ସେମାନଙ୍କ ହାତ ଅଛି : ଝାଡ଼ଖଣ୍ଡ ରାଲିରେ ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ମୋଦୀ
ଝାଡ଼ଖଣ୍ଡରେ ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ମୋଦୀ ,ବିରୋଧୀ ଦଳମାନଙ୍କ ଉପରେ ଧାରା 370 ପ୍ରସଙ୍ଗରେ ରାଜନୈତିକରଣ କରିବାର ଆରୋପ ଲଗାଇଛନ୍ତି
ମୁଁ କଲେଜର ଯୁବାଙ୍କୁ ଅପିଲ କରୁଛି ଯେ ସେମାନେ ଆମର ନୀତିଗୁଡ଼ିକ ଉପରେ ତର୍କ କରନ୍ତୁ ,ଗଣତାନ୍ତ୍ରିକ ପ୍ରକ୍ରିୟାରେ ପ୍ରତିବାଦ କରନ୍ତୁ : #CAA ର ପ୍ରତିବାଦ ଉପରେ ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ମୋଦୀ

भारत माता की जयभारत माता की जयभारत माता की जय। अभी-अभी यहां आने से पहले मुझे अमर शहीद सिद्धू कान्हूचांद भैरव को श्रद्धांजलि अर्पण करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। आपको लगा होगा कि हेलिकॉप्टर तो आ गया प्रधानमंत्री क्यों नहीं आए लेकिन प्रधानमंत्री तो वहां सर झुकाने के लिए चले गए थे। ये मेरा एक और सौभाग्य है कि इस बार के झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए आज ये मेरी अंतिम सभा वीरों की माटी और बाबा बागेश्वर नाथ के सानिध्य में हो रही है। ऐसे ही वीर-वीरांगनाओं के आशीर्वाद से भाजपा सरकार पूरे देश में आदिवासी सेनानियों से जुड़े संग्रहालय बना रही हैम्यूजियम बना रही है।

भारत के स्वतंत्रता संग्राम मेंभारत के निर्माण मेंहिंदुस्तान के हर कोने में इन आदिवासी वीरों के योगदान को भारत हमेशा-हमेशा याद रखेगा। आने वाली पीढ़ियां इनसे प्रेरित हों यही हमारी कामना है। मैं ऐसी तमाम पुण्य आत्माओं को नमन करता हूंउनके संघर्ष को प्रणाम करता हूं। साथियोझारखंड में चार चरणों का मतदान हो चुका है और हर चरण में भारी मतदान हुआ हैशांतिपूर्ण मतदान हुआ है। झारखंड के मतदाताओं ने डर और भय से मुक्त होकर मतदान किया है। इस बार भी हर तरफ एक ही आवाज है झारखंड पुकारा भाजपा दोबाराझारखंड पुकारा भाजपा दोबाराझारखंड पुकारा भाजपा दोबारा। भाइयो और बहनो, ये आवाज इसलिए बुलंद हुई है क्योंकि कमल के फूल से झारखंड को विकास और सुरक्षा की गारंटी मिली है। जब कमल का फूल खिलता है तो गरीब का भला होता हैमहिलाओं का भला होता हैयुवाओं का भला होता हैआदिवासियों का भला होता हैपिछड़े इलाकों का भला होता हैपूरे समाज का भला होता है।

साथियोजब से भाजपा कीएनडीए की सरकार देश में है तब से हर वर्गहर संप्रदाय के हित में ही हमने काम किया है। झारखंड सहित पूरे देश के करोड़ों किसान परिवारों के बैंक खातों में अगर 36 हजार करोड़ रुपए सीधे जमा हो चुके हैं तो ये हर वर्गहर संप्रदाय के किसानों के खाते में जमा हुए हैंकोई भेदभाव नहीं होने दिया है। देश भर के करोड़ों गरीब किसानोंखेत मजदूरोंअसंगठित क्षेत्र के श्रमिकोंछोटे-छोटे दुकानदारोंकारोबारियों को 3 हजार रुपए की पेंशन की सुविधा मिली है तो ये भी बिना भेदभाव के सभी को मिली है। झारखंड सहित देश भर की आठ करोड़ से अधिक बहनो को पहली बार मुफ्त गैस कनेक्शन मिला है। ये आदिवासी को भी मिलापिछड़े को भी मिलादलित को भी मिलासामान्य वर्ग को भी मिलाहर पंथ और संप्रदाय के लोगों को भी इसका लाभ मिल रहा है। देश के करीब दो करोड़ गरीबों और झारखंड के 10 लाख गरीबों के लिए अगर घर बने तो ये भी बिना भेद के किया जा रहा है। जिसके पास नहीं है उन सबको मिलेपक्का घर मिले इसलिए हम काम कर रहे हैं। आयुष्मान भारत के तहत हर वर्ष पांच लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज भी हर गरीब को मिल रहा हैइस योजना से पूरे देश के करीब 67 लाख और झारखंड के 2 लाख से ज्यादा गरीब परिवारों का मुफ्त इलाज हो ही चुका है।

भाइयो-बहनोजब गरीब कोआदिवासी को लगता है कि मेरा कोई अपना है जो दिल्ली में बैठकर उसका ध्यान रख रहा हैउसके बच्चों का ध्यान रख रहा है तो गरीब से गरीब जंगलों में रहने वाला मेरा भाईमेरी बहनेमेरी माताएं हम पर भरपूर आशीर्वाद बरसाती हैं। आप देखिए इतनी दूर-दूर से जहां भी मेरी नजर जाती है लोग ही लोग हैं। इतनी बड़ी तादाद में आप यहां मुझे आशीर्वाद देने आए हैंहम सबको आशीर्वाद देने आए हैं। आपका यही स्नेहयही आशीर्वाद तो जेएमएमकांग्रेसआरजेडी और देश भर के वामपंथियों को परेशान करता है उनकी नींद हराम कर देता है। मोदी कोभाजपा को मिल रहा देश का प्यार इनको पच नहीं रहा हैइनको ये समझ ही नहीं आ रहा है कि जिन बातों को लेकर दशकों तक देश को इन्होंने डराया वो आखिर झूठ क्यों साबित हुईंसब झूठ चलाया था अब सच उजागर हो कर के सामने आ गया है कि अगर सबसे ज्यादा सुरक्षा कहीं है तो ये भाजपा की सरकारों में ही है। वे आखिर इस बात से परेशान हैं कि आखिर जिन मामलों को दशकों तक लटकाए रखाऐसे मसले जो लटके पड़े थेलोगों को भी चिंतित कर देते थेउत्तेजित कर देते थेपरेशान कर देते थे। ऐसे उलझे हुए मामलों को आज मोदी ने कैसे सुलझा दिया।

साथियोये हमारे बरहेट में राम-जानकी विराजमान हैं और भगवान राम जी ने 14 साल वनवास में आदिवासियों के बीच में अपनी जिंदगी गुजारी थी और इसलिए यहां भव्य श्रद्धा केंद्रराम जी का मंदिर है। अब आप मुझे बताइएअयोध्या में राम जन्मभूमि का मामला इतने सालों से लटकता रहाइसका समाधान होना चाहिए था कि नहीं होना चाहिए थाये मसला शांति से सुलझना चाहिए था कि नहीं सुलझना चाहिए थासत्य के मार्ग पर सबको चलना चाहिए था कि नहीं चलना चाहिए था लेकिन क्यों नहीं हुआक्योंकि वो वही काम करते थे जिसमें उनकी राजनीति की रोटियां सिंकती रहें। इसलिए नहीं हुआ क्योंकि इसका हल कांग्रेस और उसके साथी कभी नहीं चाहते थेलटकाना-भटकाना इसी में उनकी राजनीति की खिचड़ी पकती थी। वो राजनीति करते रहेसबको डराते रहे और देश अयोध्या में राम मंदिर का इंतजार करता रहा। मेरे प्यारे भाइयो-बहनोहम राष्ट्रनीति पर चले और अयोध्या में एक भव्य राम मंदिर के निर्माण का रास्ता आज साफ हो गया भाइयो-बहनो। कहीं कोई तनाव हुआ क्याकोई दंगा हुआ क्यामारपीट हुई क्याशांति से हुआ कि नहीं हुआदेश में सब काम शांति से होने चाहिए कि नहीं होने चाहिएअब मोदी शांति से सब करने की कोशिश कर रहा है तो उनके पेट में चूहे दौड़ रहे हैं।

भाइयो-बहनोआर्टिकल 370 को लेकर भी इन्होंने यही डर दिखायाअगर 370 को हाथ लगाएंगे तो करंट लग जाएगाबवाल हो जाएगादेश का टुकड़ा हो जाएगा। यही बोलते थे नायही डर दिखाते थे नाउन्होंने जम्मू कश्मीर में अलगाव को बढ़ने दियाआतंकवाद को बढ़ने दियावहां से पंडित लोग निकाले गएये देखते रह गए लेकिन निर्णय नहीं कियाफैसला नहीं लिया। आपने जब इस सेवक को फिर आदेश दिया तो आर्टिकल 370 भी निकल गया और शांतिपूर्ण तरीके से आज कश्मीर आगे बढ़ गया। साथियोआपने इस डर कोइस छल को नकार दिया। पूरे देश ने कांग्रेस और उसके साथियों की नकारात्मक सोच को ही नकार दिया। लेकिन साथियोलोगों को डराने कोझूठी बातें फैलाने को उन्होंने अपनी राजनीति का आधार बना दिया है।

जनता की सेवा कर के राजनीति नहीं कर सकतेझूठ फैला कर के हीडर का माहौल फैला कर के ही वे अपनी राजनीति करने की अपनी आदत अभी भी उसी के भरोसे चल रहे हैं। अब देखिए नागरिकता संशोधन कानून को लेकर फिर से ये सफेद झूठ बोलने लगे हैंलोगों को डराने लगे हैं। कांग्रेस और उसके जैसे दलों और उसके वामपंथी इको सिस्टम ने पूरी ताकत झोंक दी है भारत के मुसलमानों को डराने के लिए। ये लोग देश में झूठ और डर का माहौल बना रहे हैंहिंसा फैला रहे हैं जबकि ये बात पत्थर की लकीर की तरह साफ है कि नागरिकता संशोधन कानून से भारत के एक भी नागरिक कोचाहे वो हिंदू होमुसलमान होइसाई हो या पारसी होकिसी की भी नागरिकता पर कोई असर नहीं होगा। ये मेरी बात आपको समझ में आ गईबराबर आ गईमैंने साफ-साफ बताया कि नहीं बतायासंसद में भी बताया थाआपको समझ में आता है उनको समझ में नहीं आता है क्योंकि उनकी राजनीति की खिचड़ी नहीं पक रही है।

भाइयो-बहनोफिर भी कांग्रेस और उसके साथी झूठ फैला रहे हैंअफवाह फैला रहे हैंअपप्रचार कर रहे हैं। साथियोआज झारखंड की इस धरती सेइन वीर पुत्रों की धरती से देश के लिए मर मिटने वाले इन शहीदों की धरती से मैं फिर एक बार पूरे देश कोदेश के हर एक नागरिक को चाहे हिंदू होमुसलमान होहर किसी को फिर से कहना चाहता हूं कि इस कानून से किसी भी भारतीय नागरिक की नागरिकता पर कोई असर नहीं होगा। हमने जो कानून बनाया है ये तो हमारे पड़ोस के तीन देशों मेंबांग्लादेशपाकिस्तानअफगानिस्तानतीन देशों में धार्मिक अत्याचार की वजह से भारत आने वाले लोगों के लिए हमने कानून बनाया है। ये उन लोगों के लिए बनाया गया है जो बरसों से बहुत ही दयनीय स्थिति में हैंजिनके पास वापसी का कोई रास्ता ही नहीं है। मैं पूछना चाहता हूं कि आखिर इसमें भारतीय मुसलमानों या किसी भी भारतीय नागरिक के अधिकारों का हनन कहां होता है। क्यों झूठ बोल रहे होक्यों झूठ फैला रहे होक्यों देश को बर्बाद करने में तुले हुए हो।

साथियोनागरिकता संशोधन कानून ना किसी भारतीय का अधिकार छीनता है ना ही उसे किसी तरह का नुकसान पहुंचाता है लेकिन फिर भी कांग्रेस और उसके साथी इस मुद्दे पर मुसलमानों को भड़काने काडराने काभयभीत करने का प्रयास करके अपनी राजनीतिक खिचड़ी पकाना चाहते हैं। भाइयो-बहनोकांग्रेस की बांटो और राज करो इसी नीति की वजह से देश का एक बार बंटवारा हो चुका हैमां भारती के टुकड़े पहले हो चुके हैंयही कांग्रेस है। जितने अवैध तरीके से लाखों घुसपैठियों को भारत में घुसने दियायहां उनको वोट बैंक के नाते इस्तेमाल कियाघुसपैठियों के कारण जो समस्याएं पैदा हुई हैं उसके लिए भी कांग्रेस और उसके साथी दल जो इतने सालों तक सत्ता भोगते रहे वो ही जिम्मेदार हैं।

साथियोमैं कांग्रेस सहित उन तमाम दलों को इस वीरों की धरती से आज चुनौती देता हूं। साथियोबताइएचुनौती दूं या ना दूंआपके आशीर्वाद हैं नाये वीरों की भूमि से आवाज उठनी चाहिए कि नहीं उठनी चाहिएमैं आज कांग्रेस और उनके जितने चेले-चपाटे हैंजितने उनके साथी दल हैं उनको आज खुले आम चुनौती देता हूंअगर उनमें हिम्मत है तो वो खुल कर के घोषणा करें कि वो पाकिस्तान के हर नागरिक को भारत में नागरिकता देने के लिए तैयार हैंकह दें जरादेश उनका हिसाब चुकता कर देगा। इतना ही नहीं अगर कांग्रेस में साहस है तो वो ये भी खुलकर घोषणा करें कि वो जम्मू कश्मीर और लद्दाख में फिर से आर्टिकल 370 को लागू करेंगेबोलो जराहिम्मत हो तो बोलो। मोदी ने हटाया है आप वापस लाने का देश के सामने घोषणा करके दिखाओगुमराह कर रहे हैं लोगों को?

अगर कांग्रेस में हिम्मत है, अगर कांग्रेस के साथियों में हिम्मत है तो वो ये भी खुलकर के घोषणा करें कि तीन तलाक के खिलाफ जो कानून बना है उसे वो रद्द कर देंगे, जरा हिम्मत के साथ बताओ। कांग्रेस इस चुनौती को स्वीकार करे, खुल कर के ऐलान करे वरना देश से झूठ बोलना, देश में भ्रम फैलाना, दूसरों को अपनी ढाल बनाकर ये गोरिल्ला राजनीति करना बंद कर दें। मैं कांग्रेस और उनके साथियो को ये भी कहना चाहता हूं वो देश के युवाओं को बर्बाद करने के ये खेल खेलना बंद कर दें, किसी का भला नहीं होगा, देश के उज्जवल भविष्य का भला नहीं होगा। जिन मां-बाप ने गाढ़ी मजदूरी करके बच्चों को पढ़ने के लिए भेजा है, उन मां-बाप के सपनों को तहस-नहस करने का पाप अपनी राजनीति के लिए मत करो। देश देख रहा है कैसे सफाई से कांग्रेस ने सिटिजनशिप एमेंडमेंट कानून, नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के बारे में बोलना ही बंद कर दिया है लेकिन दूसरे मुद्दों को उछाल कर के, उसके पीछे छिप कर के डर फैलाना, भ्रम फैलाना, गंदी राजनीति को हवा देना शुरू कर दिया है।

मैं फिर से स्पष्ट कर दूं भारत की सरकार का एक ही पवित्र ग्रंथ है, बाबा साहब अंबेडकर का दिया हुआ भारत का संविधान, यही हमारा ग्रंथ है। हमारे लिए एक ही मंत्र सर्वोपरि है, एक ही मंत्र हमारी प्रेरणा है, एक ही हमारा मंत्र हमें पुरुषार्थ करने के लिए प्रेरित करता है और वो मंत्र है भारत माता की जय। हम सिर्फ और सिर्फ भारत माता की जय, इस मंत्र के लिए जी रहे हैं, जूझ रहे हैं और जी-जान से जुटे हुए हैं। इनके दायरे में लिए गए हर फैसले के साथ मां भारती के कल्याण के लिए, मां भारती के जय-जयकार के लिए गए हर फैसले के साथ ये आपका सेवक खड़ा रहेगा।

मैं देश के कॉलेजों और युनिवर्सिटी के युवा साथियों से भी आग्रह है कि आप अपने महत्व को समझेंआपके जीवन के इस मूल्यवान समय को समझेंजहां आप पढ़ रहे हैं उन संस्थानों के महत्व को समझें। सरकार के फैसले और नीतियों को लेकर चर्चा करेंडिबेट करेंआप को कुछ गलत लगता है तो लेकतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन करेंसरकार तक अपनी बात पहुंचाएं। ये सरकार आपकी हर बातआपकी हर भावना को सुनती हैसमझती है लेकिन आपको ये भी समझना होगा कि कहीं कुछ दलकथित अर्बन नक्सलकही अपने आप को बुद्धिजीवी कहने वाले लोग आपके कंधे पर बंदूकें चलाकर अपना राजनीतिक उल्लू तो सीधा तो नहीं कर रहे हैंआपकी बर्बादी करने के पीछे इनका षड्यंत्र नहीं है। याद रखिएगा और ये देश 20 साल से देख रहा हैउन्हें सिर्फ और सिर्फ मोदी से नफरत है। देशहित से जुड़ा कोई भी मुद्दा होवो मोदी के प्रति उनकी जो नफरत है उससे आगे देख ही नहीं पाते हैं।

भाइयो-बहनोजेएमएमकांग्रेसआरजेडी और वामपंथियों के सिर्फ नाम अलग हैंइनकी सोच और कारनामे एक जैसे ही हैं। इन्होंने झारखंड के निर्माण को लेकर भी तो इसी तरह झूठ और डर की राजनीति की थी। झारखंड जब बिहार का हिस्सा था तब इन्होंने वहां के लोगों से झूठ बोलाउनको डराया लेकिन आपके संघर्ष और भाजपा की प्रतिबद्धता के कारण ही आज झारखंड देश के विकास में अहम भागीदारी निभा रहा है। हालांकि आदिवासियों कोपिछड़ों कोदलितों को डराने का काम आज भी कांग्रेसजेएमएम और आरजेडी वाले पहले की तरह कर ही रहे हैंफिर यहां झूठ प्रचार किया जा रहा है। कहीं पिछड़ों को डरा रहे हैं तो कहीं आदिवासियों को डरा रहे हैं। भाइयो-बहनोमैं सिद्धू कान्हू की इस धरती से पूरे जनजातीय समाज कोआदिवासी साथियो को फिर एक बार आश्वस्त करता हूं कि आपके जलआपके जंगल और आपके जमीन पर कोई आंच नहीं आएगी। आपके साथ आपके विश्वास से ही यहां का विकास होगा। आपको मालूम है ना ये लगातार कहते रहते थे मोदी आएगा तो आरक्षण चला जाएगा। ये झूठ फैलाते थे कि नहीं फैलाते थेये झूठ बोलते थे कि नहीं बोलते थेदिन-रात बोलते थे कि नहीं बोलते थेअभी हमने पार्लियामेंट में आरक्षण के कानून को फिर से आगे बढ़ा दियाफिर दस साल के लिए आगे बढ़ाने का काम ये मोदी सरकार ने पिछले हफ्ते कर दिया हैअब उनकी बोलती बंद हो गईउनके मुंह पर ताला लग गयाइनका एक झूठ चलने वाला नहीं है।

साथियो, भाजपा का संकल्प, हमारा एक ही संकल्प है देश का विकास हो, झारखंड का विकास हो। भाजपा आपके हित और आपके सपनों को पूरा करने के लिए समर्पित है, यही कारण है कि आपकी मूल समस्याओं पर हम ध्यान दे रहे हैं। बीते पांच वर्षों में सड़क और बिजली जैसे काम पर हमने ध्यान दिया, बहनो को शौचालय और गैस कनेक्शन की सुविधा दी। आने वाले पांच वर्षों में अब उसी तरह पूरे समर्पण भाव से हम घर-घर पानी पहुंचाने के काम पर जुटे हैं। साल 2024 तक हर घर जल, ये पहुंचे इसके लिए हम काम कर रहे हैं। किसान को, हमारी बहनो को पानी के लिए परेशान ना होना पड़े, ये काम भारतीय जनता पार्टी ये कमल के फूल वाली सरकार कर रही है। इसके लिए हम अलग से मंत्रालय बनाकर और जल-जीवन मिशन के तहत हमने काम शुरू भी कर दिया है। इसके तहत आने वाले पांच वर्षों में साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे, जिसमें से झारखंड को 200 करोड़ से अधिक स्वीकृत भी हो चुके हैं। ये पैसा ठीक से यहां लगे, यहां ठीक से पानी की पाइप गांव-गांव तक पहुंचे इसके लिए यहां भाजपा सरकार बनाना बहुत जरूरी है वरना लूटने वालों की सरकार अगर बन गई तो वो आपको पानी तो नहीं देंगे, आपके हक के इस पैसे को भी लूट लिया जाएगा। इनकी नीयत अगर आपको पानी देने की होती तो आपको पाइप से पानी के लिए इतना इंतजार नहीं करना पड़ता। एक बार साफ पानी आपके घर पहुंचा तो अनेक बीमारियां अपने आप दूर हो जाएंगी। 

साथियो, ये क्षेत्र तो गुमानी और मेराल की धारा से समृद्ध है, आपको मां गंगा का आशीर्वाद भी मिला है। यह पानी का उपयोग पीने और सिंचाई के साथ-साथ रोजगार के लिए भी उपयोग हो सकता है, ये सोच भी कांग्रेस और जेएमएम सरकारों को कभी नहीं आई। आजादी से पहले तो यहां से खूब व्यापार, कारोबार विदेशों के लिए होता था लेकिन आजादी के बाद कांग्रेस जेएमएम की सरकारों ने इसको भी ठप कर दिया। भाइयो-बहनो, भाजपा सरकार ने ही गंगा के पानी को परिवहन के लिए, यातायात के लिए उपयोग करने का बीड़ा उठाया है। हल्दिया से वाराणसी तक गंगा जी पर जहाज चलने का रास्ता साफ हो चुका है। यहां साहिबगंज में भी मल्टीमॉडल टर्मिनल बनाने का काम आज तेजी से चल रहा है। इससे साहिबगंज, देश और विदेश के तमाम हिस्सों में पानी के रास्ते जुड़ जाएगा, इसका लाभ यहां के कोयला आधारित उद्योगों को भी मिलेगा। स्टोन चिप्स, खाद, सीमेंट और चीनी के साथ-साथ अन्य सामानों की धुलाई भी आसानी से हो पाएगी यानी यहां नए उद्योगों के लिए, व्यापार-कारोबार के लिए नए रास्ते खुलेंगे। साथियो, इस इलाके के विकास को प्राथमिकता देते हुए यहां रेलवे सहित आवाजाही की तमाम दूसरी सुविधाओं को भी सशक्त किया जा रहा है। यहां जो गंगा जी पर पुल निर्माण की शुरुआत होनी है उसको लेकर दिक्कतों को भी दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। साथियो, यहां पहले से ही अनेक प्राचीन मंदिर हैं, यहां प्राचीन जीवात्मा भी है। ऐसे में जब कनेक्टिविटी सुधरेगी, पर्यटन उद्योग का भी विस्तार होगा तो इस क्षेत्र में रोजगार के अवसर बनेंगे।

भाइयो-बहनो, भाजपा की सरकार झारखंड को रेशम का, कपड़े का हब भी बनाना चाहती है, इसके लिए बीतें पांच वर्षों में करोड़ों रुपए की मदद झारखंड को दी गई है। इसी का परिणाम है कि पहले जहां हर वर्ष 2 हजार मीट्रिक टन का उत्पादन होता था अब करीब-करीब 2700 मीट्रिक टन उत्पादन होता है। इसी का परिणाम है कि बीते पांच वर्षों में सिर्फ रेशम उद्योग में ही पौने 2 लाख नए रोजगार मिले हैं। भाजपा की सरकार यहां रेशम उत्पादन की ईकाइयों को सशक्त बनाने में जुटी है। वन विभाग और जनजातीय विभाग मिलाकर रेशम के उत्पादन और उसको नया बाजार देने के लिए काम करे, इसके लिए अनेक काम किए जा रहे हैं। इतना ही नहीं यहां के हजारों बुनकर परिवारों को हस्तशिल्पियों को पहली बार आईडी कार्ड दिए गए हैं। उनको मशीनों के लिए, कच्चे माल के लिए बैंकों से ऋण लेना अब आसान हुआ है।

मुद्रा योजना के तहत उनको बिना गारंटी का ऋण मिल पा रहा है। साथियोहमारा प्रयास है कि गांव की अर्थव्यवस्था में महिलाओं की भूमिका को सशक्त किया जाएइसके लिए हम निरंतर नई-नई योजनाओं पर काम कर रहे हैं। उज्जवला योजना से सबसे ज्यादा लाभ किसका हुआहमारी माताओ-बहनो का हुआहमारी बहन-बेटियो को हुआ। शौचालय का सबसे ज्यादा लाभ किसको हुआहमारी बहन-बेटियो को हुआ। मुद्रा योजना से सबसे ज्यादा लाभ हुआ हमारी बहन-बेटियो कोयहां तक कि प्रधानमंत्री आवास योजना से भी घर की मालकिन बनने का हक मिलावो भी हमारी बहन-बेटियो को मिला। यहां की भाजपा सरकार ने तो इससे एक कदम आगे बढ़ते हुए एक रुपए में ही महिलाओं के नाम रजिस्ट्री करने की सुविधा भी कर दी है।

भाइयो-बहनोयही नहीं हम सखी मंडलों को भी ताकत दे रहे हैंउनको स्वरोजगार से जोड़ रहे हैं। ये भाजपा की ही सरकार है जिसने महिलाओं को खानों के अंदर काम करने का रास्ता साफ कर दिया हैइससे जुड़ा कानून बनाया है इससे झारखंड की इन सभी बहनो को सबसे अधिक लाभ हो रहा है। साथियोभाजपा का प्रयास है कि आदिवासी क्षेत्रों के बेटे-बेटियां खूब पढ़ेंखेलों में भी आगे बढ़ें। इसके लिए झारखंड के हर ब्लॉक में एकलव्य मॉडल स्कूल की सुविधा तैयार की जा रही है। जंगल से जो उपज आदिवासी परिवार इकट्ठा करते हैं उसके अधिक दाम मिलें इसके लिए वन-धन केंद्र बनाए जा रहे हैं।

भाइयो-बहनोमुफ्त इलाज होगैस कनेक्शन होकिसानों को मिल रहा पैसा होपक्का घर हो ऐसी अनेक सुविधाओं को जारी रखने के लिए भाजपा की सरकार बहुत जरूरी है। आपका आने वाला 50 साल का भविष्य तय करने के लिए ये पांच वर्ष बहुत महत्वपूर्ण हैं वरना जहां भाजपा सरकार नहीं है वहां के लोगों तक ये सुविधाएं पहुंचने में रोड़े अटकाए जा रहे हैंदीवारें खड़ी की जा रही हैंमैं दिल्ली से कितना ही जोर लगाऊं वो राजधानी में भी अटका कर के बैठ जाते हैं। झारखंड का तेज विकास तभी संभव है जब दिल्ली और रांची में दोनों एक ही सोच वालीएक ही उद्देश्य वाली डबल इंजन की सरकारें हों। इसी को ध्यान में रखते हुए आपको फूल छाप पर बटन दबाना है। याद रखिए आपका वोट सिर्फ विधायक बनाने के लिए नहीं हैसिर्फ मुख्यमंत्री बनाने के लिए नहीं हैविकास कर के दिखाने वाली सरकार बनाने के लिए है। आपका वोट सिर्फ झारखंड को ही नहीं बल्कि मुझे भी मजबूत करेगा और इसलिए मैं आप सबसे फिर से एक बार आग्रह करता हूं कि आप बड़ी संख्या में जा कर के आखिरी चरण का जब मतदान है तो कमल के फूल पर बटन दबाकर के भारतीय जनता पार्टी को और मुझे आपकी सेवा करने का मौका दीजिए। फिर एक बार आप सभी काझारखंड के हर साथी का बहुत-बहुत आभार। भारत माता की जयभारत माता की जयभारत माता की जयबहुत-बहुत धन्यवाद।

ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ମୋଦୀଙ୍କ 'ମନ କି ବାତ' ପାଇଁ ଆପଣଙ୍କ ବିଚାର ଏବଂ ଅନ୍ତର୍ଦୃଷ୍ଟି ପଠାନ୍ତୁ !
Modi Govt's #7YearsOfSeva
Explore More
ଆମକୁ ‘ଚଳେଇ ନେବା’ ମାନସିକତାକୁ ଛାଡି  'ବଦଳିପାରିବ' ମାନସିକତାକୁ ଆଣିବାକୁ ପଡ଼ିବ :ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ମୋଦୀ

ଲୋକପ୍ରିୟ ଅଭିଭାଷଣ

ଆମକୁ ‘ଚଳେଇ ନେବା’ ମାନସିକତାକୁ ଛାଡି 'ବଦଳିପାରିବ' ମାନସିକତାକୁ ଆଣିବାକୁ ପଡ଼ିବ :ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ମୋଦୀ
Govt allows Covid vaccines at home to differently-abled and those with restricted mobility

Media Coverage

Govt allows Covid vaccines at home to differently-abled and those with restricted mobility
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM Modi's remarks at Quad Leaders' Summit
September 24, 2021
ସେୟାର
 
Comments

First of all, Mr. President I would like to express my gratitude for this very warm welcome full of friendship, not only to me but to my delegation.

Mr. President, in 2016, and even before that in 2014, we had an opportunity to have discussions in detail. And at that time Mr. President you had laid out your vision for the relations between India and the United States and you had enunciated that in great detail and really that was a vision that was inspirational and today Mr. President, as President, you are making all efforts and taking initiative, to implement that vision and I warmly welcome that.

Mr. President, you have talked/spoken in detail about the Biden surname in India and in fact you had mentioned that to me earlier too. Well, after you mentioned it to me I hunted for documents and today I have brought along some documents. May be we’ll be able to take this matter forward and may be those documents could be of use to you.

Mr. President, I firmly believe that in our summit talks and summit meeting today, what I see is that this is the third decade of the 21st century, this is the first year of the third decade and I see that when I look at the entire decade, I find that under your leadership, the seeds have been sown for the Indo-US relations to expand and for all democratic countries in the world, this is going to be a transformative period. I can see that, Thank You!

This is when I see that this transformative period is in Indo-US relations, and when I talk about traditions, I am talking about the democratic traditions, democratic values, traditions to which both our countries are committed and I find that importance of these traditions will only increase further.

Similarly, Mr. President, you mentioned that more than 4 million Indian-Americans who are participating in the journey of progress of America and when I look at the importance of this decade and the role that is going to be played by this talent of Indian-Americans, I find that this people to people talent will play a greater role and Indian talent will be a co-partner in this relationship and I see that your contribution is going to be very important in this.

Mr. President, on similar lines, the most important driving force in the world today would be that of technology and the technology that is going to be for the service and for the use of humanity and I find that opportunities for this are going to be tremendous.

Similarly, Mr. President, between India and the United States, trade will continue to assume importance and we find that the trade between our two countries are actually complementary. There are things that you have and there are things that we have and then we in fact complement each other. And I find that in the area of trade during this decade, that is also going to be tremendously important.

Mr. President, you just mentioned that on the 2nd October, we will be celebrating the birth anniversary of Mahatma Gandhi and Mahatma Gandhi always used to talk about the principle of trusteeship of the planet and this decade, Mr. President from that point of view, is also going to be important as this entire principle of trusteeship. It means that the planet that we have, we have to bequeath it to the following generations and this sentiment of trusteeship is going to assume more and more importance globally but also between the relations between India and the United States and it is these ideals that Mahatma Gandhi espoused when he talked about trusteeship of the planet and where the responsibility of the global citizens is only going to go up.

Mr. President, you mentioned very important issues and after assuming charge as President of the United States, you have taken very unique initiatives whether that be COVID 19, climate change or even Quad and in the days after taking this initiative, you have made and deployed great efforts to implement your vision and also today we have this opportunity to discuss all these issues in great detail. How and after our discussions, we will look towards how we can work further together not only for our respective countries but for the entire world how we can take positive actions and I am quite and absolutely convinced that under your leadership whatever we do, it will be extremely relevant for the entire world

Once again Mr. President, let me thank you profusely for this very warm welcome.