ಶೇರ್
 
Comments
I have only one caste-‘poverty.’ I have lived through poverty and will work for empowering the poor till my last breath: PM Modi
While corruption and fraud characterized the governance record of the ‘Mahamilawat,’ in UP, on the other hand, transparency and speed characterized the BJP’s record: PM Modi in U.P.
The Mahamilawat’s election campaign is solely focused on making personal abuses on Modi, asking about Modi’s caste and his family background: Prime Minister Modi

बलिया और सलेमपुर के रउवा सब के प्रणाम करत बानी

अमर शहीद मंगल पांडेय जी, शेर-ए-बलिया चित्तू पांडेय जी, वीर कुंवर सिंह जी के नमन करत बानी। इस धरती के सपूत युवा तुर्क की उपाधि से सुशोभित स्वर्गीय चंद्रशेखर जी को भी नमन करता हूं। अपनी तरफ से श्रद्धांजलि देता हूं। यहां सलेमपुर और पूर्वांचल के दूसरे हिस्सों से भी अनेक साथी पधारे हैं। आपका भी बहुत-बहुत अभिनंदन, इससे पहले मई के महीने में ही आपके बीच आया था। तब क्रांतिवीरों की इस धरती से गरीब बहनों के जीवन में क्रांतिकारी परिवर्तन लाने वाली आत्मविश्वास पैदा करने वाली उज्ज्वला योजना शुरू हुई थी। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना से आज देश की सात करोड़ से अधिक गरीब बहनों की रसोई में मुफ्त गैस कनेक्शन पहुंचा है। कभी हिंदुस्तान को गुलामी से मुक्ति दिलाने के लिए बागी हुआ बलिया अब देश के गरीब बहनों को धुएं से मुक्ति दिलाने का भागीदार बना है बलिया। यही कारण है कि आज पूरे देश में गरीब माताओं-बहनों का भरपूर समर्थन आपके इस सेवक को मिला है।

साथियो, इसी समर्थन का परिणाम है कि महामिलावट वाले सपा हो, बसपा हो, कांग्रेस हो ये सारे एक ही काम में जुट गए हैं मोदी को को गाली दो गाली दो गाली दो। ऐसा कोई दिन नहीं है जब मोदी के लिए उनके मुंह से गाली नहीं निकलती है। ये 6 चरणों के चुनाव के बाद माहौल की बौखलाहट है। हार की हताशा साफ साफ दिख रही है। भाइयो-बहनो, मैं इनकी गालियों को उपहार मानता हूं। इनकी गालियों का जवाब मोदी को नहीं देना पड़ेगा। ये जनता जनार्दन पूरे हिंदुस्तान की जनता कमल के निशान पर बटन दबाकर के हर गाली का जवाब देने वाले हैं। मैं तो मां-बहनों बेटियों के सम्मान में खड़ा हूं। मैं गरीब के आत्मविश्वास को बढ़ाने के लिए खड़ा हूं। मैं समाज की आखिरी पंक्ति में जो खड़ा हुआ व्यक्ति है उसको सशक्त करने के लिए जुटा हूं। भाइयो-बहनो, इसी हताशा में अब ये महामिलावटी लोग पूछ रहे हैं कि मोदी की जाति क्या है? साथियो, ये बुआ-बबुआ दोनों मिलकर जितने साल मुख्यमंत्री नहीं रहे उससे कहीं ज्यादा समय मैं गुजरात का सीएम रहा। मैंने अनेक चुनाव लड़े भी हैं और लड़ाए भी हैं। लेकिन कभी अपनी जाति का सहारा नहीं लिया। मैं पैदा भले ही अति पिछड़े जाति में हुआ हूं लेकिन मेरा लक्ष्य हमारे इस हिंदुस्तान को दुनिया में अगड़ा बनाने का मेरा लक्ष्य है। भाइयो-बहनो, अभी योगी जी बता रहे थे मेरे दिमाग में जाति नहीं है, मेरे जहन में जाति नहीं है। इसलिए घर भी जाति पूछ कर के नहीं, गैस का चूल्हा भी जाति पूछ कर के नहीं दिया, शौचालय भी जाति पूछ कर के नहीं दिया, और इसलिए वोट भी जाति के नाम पर नहीं मांग रहा हूं भाई। न देता जाति के नाम पर हूं, न लेता जाति के नाम पर हूं। मुझे मेरे देश के लिए जीना है, देश के लिए कुछ करना है, इसलिए वोट भी देश के लिए मांगता हूं।

भाइयो-बहनो, ये मेरे दिल की आवाज है, ये मेरे दिल की आवाज है जो आज मैं बलिया में आपसे कहना चाहता हूं। जय प्रकाश नारायण की जहां छाया हो, उस धऱती से कहना चाहता हूं। बहनों, मैं नहीं चाहता कि आपकी संतान आपकी तरह पिछड़ी जिंदगी जीने के लिए मजबूर हो। मैं नहीं चाहता कि आपकी संतानों को विरासत में पिछड़ापन मिले। मैं नहीं चाहता कि आपके बच्चों को विरासत में गरीबी मिले। पीढ़ी दर पीढ़ी चली आ रही इस दयनीय स्थिति को मुझे बदलना है और इसलिए मुझे आपका आशीर्वाद चाहिए। साथियो, आप सोच रहे होंगे कि आखिर मोदी ये काम कैसे कर पाएगा। इतने बड़े-बड़े सपने कैसे कर पाएगा, इतने सारे प्रधानमंत्री आकर के गए नहीं कर पाए मोदी कैसे कर पाएगा। भाइयो-बहनो, मैं ये काम इसलिए कर पाउंगा क्योंकि मैं आपके बीच में से निकल कर के आया हूं। मैंने गरीबी को पिछड़ेपन को भुगता है। जो दर्द आप आज सह रहे हैं वो मैंने खुद से सहा है। मैं मेरा पिछड़ापन, मेरी गरीबी दूर करने नहीं आपके लिए जीता हूं। आपके लिए जूझता हूं, इसलिए मुझे विश्वास है कि इस परिस्थिति को बदलने में हम सफल होंगे। भाइयो-बहनो, इन महामिलावटी लोगों ने कैसी राजनीति की है, सत्ता के नाम पर कैसे आपको धोखा दिया है, लूटा है। आप इसे भलिभांति जानते हैं। इन लोगों ने जाति की राजनीति के नाम पर अपने और अपने रिश्तेदारों के लिए बंगले खड़े किए हैं, महल बनाए हैं। इन्होंने नामी और बेनामी संपत्ति का अंबार लगाया है। जिनका पूरा हिसाब आजकल एजेंसिया ले रही है। यहीं कारण है कि कभी एक दूसरे को पानी पी पी कर भद्दी भद्दी गालियां देने वाले आज महामिलावट करने पर मजबूर हैं। कल जब रात को देर से मैं दिल्ली पहुंचा, टीवी देख रहा था सपा-बसपा के कार्यकर्ता एक दूसरे के सर फोड़ रहे थे। गालियां दे रहे थे। कपड़े फाड़ रहे थे। ये पूरे देश ने देखा है, अभी तो चुनाव बाकी है और हिसाब चुकता करना शुरू कर दिया है। भाइयो-बहनो, बलिया जिस प्रकार के गुलामी के खिलाफ बागी हुआ वैसे ही ये मोदी भी गरीबी से लड़ते लड़ते, गरीबी के खिलाफ ही बागी हो गया है। मेरी एक ही जाति, और मेरी जाति है गरीबी, और इसलिए मैंने गरीबी के खिलाफ बगावत की है।

भाइयो-बहनो, मैं अपनी मां को बचपन में रसोई में घुएं से जुझते हुए देखा है।शौचालय न होने की वजह से घर और आस पड़ोस की महिलाओं को पीड़ा सहते मैंने देखा है। बरसात में टपकती छत के कारण दिन रात जागते परिवारों को देखा है। पैसे के अभाव में इलाज के लिए गरीब के खेत बिकते हुए देखा है। मिट्टी के तेल में डिबरी में पढ़ाई कितनी मुश्किल होती है मुझे पता है। यही वह अनुभव थे जिन्होंने मुझे गरीबी के खिलाफ बगावत के लिए पैदा किया है, प्रेरित किया है। साथियो, इसी गरीबी ने मुझे जीवन भर के सबक दिए, इसी गरीबी को दूर करने की प्रेरणा हमारी सरकार की योजनाओं को स्वरुप दिया। हमारी प्रेरणा से आज बहनों को गैस कनेक्शन, बिजली का मुफ्त कनेक्शन, शौचालय दिए जाना एक के बाद एक अनेक काम हो रहे हैं। इसी प्रेरणा से हम 2022 तक हर गरीब के पास अपना पक्का घर हो, इसके लिए काम कर रहे हैं और ये मोदी है ये चौकीदार है 2022 तक हर किसी को पक्का घर देकर ही सांस लेने वाला है। इसी प्रेरणा से ही गरीब से गरीब को पांच लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज की सुविधा दी गई है। साथियो, गरीबी के जीवन से निकली यहीं प्ररेणा है कि आज छोटे किसानों के खाते में सीधे पैसे जमा किए जा रहे हैं।

23 मई के बाद हर किसान परिवार को ये मदद मिलने वाली है। इतना ही नहीं छोटे किसान खेत मजदूर और छोटे दुकानदारों को 60 वर्ष की आयु के बाद हर महीने पेंशन मिले इसकी योजना भी ये चौकीदार बनाएगा। गरीबी की प्रेरणा से ही सामान्य वर्ग के गरीबों को सामान्य वर्ग के गरीबों को 10 प्रतिशत का आरक्षण दिया गया। ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया गया है। साथियो, करीब दो दशक से मैं सीएम और पीएम के रुप में काम कर रहा हूं। मैं इन महामिलावट वालों को खुली चुनौती देता हूं, और ये मेरी खुली चुनौती है। इनमें हिम्मत हो गाली-गलौज करने के बजाय मेरी इस चुनौती को स्वीकार कर के मैदान में आओ। मैं इन महामिलाटियों को खुली चुनौती देता हूं। ये लोग दिखा दें कि मैंने कोई बेनामी संपत्ति जमा की है क्या? कोई फॉर्म हाउस बनाया है क्या? कोई शॉपिंग कॉम्प्लेक्स बनाया है क्या? विदेशी बैंकों में पैसे जमा करवाए हैं क्या? विदेश में कोई संपत्ति खरीदी है क्या? लाखों-करोड़ों की गाड़िया भी क्या मोदी ने ली है क्या? करोडों के बंगले मोदी ने बनाए है क्या? भाइयो-बहनो, न मैंने कभी अमीरी के सपने देखे हैं न तो मैंने कभी गरीब के पैसे लूटने का कोई पाप किया है।

हमारे लिए गरीब का कल्याण और मातृभूमि का सम्मान उसकी रक्षा ये हमारी जिंदगी से भी सर्वोपरी है। यही कारण है कि पाकिस्तान और उसके आतंकियों की सारी हेकड़ी आज हवा हो गई है। जो आतंकी पाकिस्तान में खुलकर हथियारों की नुमाइश करते थे वो आज जमीन के नीचे छुपकर मोदी को हटाने की दुआ कर रहे हैं। कभी वो जंगलों को देखते हैं, कभी आसमान को कभी समंदर को बैचेन रहते हैं। नींद हराम हो गई है। उनको लगती है कब कहां से भारत के सपूत आ धमकेंगे। साथियो, आपके आशीर्वाद से मैंने देश के सपूतों को खुली छूट दे रखी है। इसलिए पहले सर्जिकल स्ट्राइक हुई और फिर एयर स्ट्राइक की। आज आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को हम सीमा के उस पार लेकर गए हैं। लेकिन साथियों, क्या आपने सपा, बसपा, और कांग्रेस की महामिलावट को इस चुनाव में आतंक पर या राष्ट्र पर एक बार भी बोलते हुए सुना है क्या? वो तो सिर्फ सपूतों के शौर्य पर सवाल उठाते हैं और पाकिस्तान के नापाक सपूतों पर विश्वास करते हैं। साथियो, जो लोग गली के गुंडों तक पर लगाम नहीं लगा पाए वो आतंकवाद पर क्या लगाम लगाएंगे। पूरी दुनिया जिस आतंकवाद से परेशान है उससे निपटने के लिए दिल्ली में एक मजबूत और तुष्टिकरण के बिना, वोट बैंक की राजनीति के बिना हिम्मत के साथ देश के लिए फैसले लेने वाली सरकार चाहिए।

भाइयो-बहनो, सबका साथ सबका विकास हमारा मंत्र है, और सबको सुरक्षा और सबको सम्मान ये हमारा प्रण है। इसी पर चलते हुए पूर्वांचल और पूर्वी भारत के विकास पर हमने विशेष ध्यान दिया है। विशेष तौर पर कनेक्टिविटी को सशक्त किया है। आज यहां ट्रेनों की आवाजाही बढ़ी है। रेल लाइनों का बिजलीकरण हुआ है। बलिया से वाराणसी का सफर आसान हुआ है। जब कनेक्टिविटी अच्छी होती है तब उद्योगों की संभावनाए बढ़ती है। साथियो, हमारी सरकार ने मोबाइल कनेक्टिविटी पर भी बहुत जोर दिया है। मोबाइल फोन आज घर घर पहुंचा है। जिसके कारण भोजपुरी गीत संगीत और सिनेमा को भी बहुत लाभ हुआ है। पहले की सरकार 2G घोटाले में व्यस्त थी और हमने 4G को गरीब से गरीब तक पहुंचाया है। आपके हाथ में जो मोबाइल फोन है वो मेक इन इंडिया है इसलिए सस्ता हुआ है। इतना ही नहीं हामरी सरकार की नीतियों की वजह से आज इंटरनेट भी दुनिया में सबसे सस्ता भारत में ही है। साथियो, गरीब के मान सम्मान उसका जीवन आसान बनाने और मां भारती की सुरक्षा के लिए फिर कमल खिलाना जरूरी है। आपका हर वोट, भाइय-बहनो, आप जब कमल के निशान पर बटन दबाएंगे तब दिल्ली में मजबूत सरकार बनेगी। और मजबूत सरकार मजबूत हिंदुस्तान के लिए काम करेगी। आपका हर एक वोट जो कमल के निशान पर दबाएंगे वो वोट सीधा सीधा मोदी के खाते में जाएगा। हमें आशीर्वाद देने के लिए इतनी बड़ी तादाद में आप आए मैं आपका आभार व्यक्त करता हूं। और दोनों हाथ ऊपर कर के मुट्ठी बांधकर के पूरा ताकत से बोलिए

भारत माता की जय, भारत माता की जय, भारत माता की जय

बहुत बहुत धन्यवाद  

 

20 ವರ್ಷಗಳ ಸೇವಾ ಮತ್ತು ಸಮರ್ಪಣದ 20 ಚಿತ್ರಗಳು
Mann KI Baat Quiz
Explore More
ಜಮ್ಮು ಮತ್ತು ಕಾಶ್ಮೀರದ ನೌಶೇರಾದಲ್ಲಿ ಭಾರತೀಯ ಸಶಸ್ತ್ರ ಪಡೆಗಳ ಸೈನಿಕರ ಜೊತೆ ದೀಪಾವಳಿ ಆಚರಣೆ ಸಂದರ್ಭದಲ್ಲಿ ಪ್ರಧಾನ ಮಂತ್ರಿ ಅವರ ಸಂವಾದ

ಜನಪ್ರಿಯ ಭಾಷಣಗಳು

ಜಮ್ಮು ಮತ್ತು ಕಾಶ್ಮೀರದ ನೌಶೇರಾದಲ್ಲಿ ಭಾರತೀಯ ಸಶಸ್ತ್ರ ಪಡೆಗಳ ಸೈನಿಕರ ಜೊತೆ ದೀಪಾವಳಿ ಆಚರಣೆ ಸಂದರ್ಭದಲ್ಲಿ ಪ್ರಧಾನ ಮಂತ್ರಿ ಅವರ ಸಂವಾದ
India achieves 40% non-fossil capacity in November

Media Coverage

India achieves 40% non-fossil capacity in November
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
ಸಾಮಾಜಿಕ ಮಾಧ್ಯಮ ಕಾರ್ನರ್ 4 ಡಿಸೆಂಬರ್ 2021
December 04, 2021
ಶೇರ್
 
Comments

Nation cheers as we achieve the target of installing 40% non fossil capacity.

India expresses support towards the various initiatives of Modi Govt.