साझा करें
 
Comments
"At the Mahila Sashaktikaran Sammelan in Tapi, Shri Narendra Modi gave away the Mata Yashoda Awards and other prizes to the Anganwadi workers and women who have been winners of various sports competitions"
"Shri Modi spoke of the momentous contribution of the Aanganwadi workers and their equally inspiring success story which was a result of the Gujarat government’s relentless efforts to empower them"

 

बाजीपुरा में आयोजित महिला सशक्तिकरण सम्मेलन में आदिवासी नारी समाज का सैलाब उमड़ा

गुजरात की विकासयात्रा में भागीदार बनीं नारीशक्तिः श्री मोदी

समग्र गुजरात के सभी जिला मुख्यालयों में महिला सशक्तिकरण सम्मेलन संपन्न

मुख्यमंत्री ने किया सुमूल पशु आहार फैक्टरी का भूमिपूजन

मुख्यमंत्री के हाथों- माता यशोदा पुरस्कार, महिला खिलाड़ियों को पुरस्कार, महिला विकास पुरस्कार और मुख्यमंत्री कन्या केळवणी निधि में से कन्याओं को सहायता

मेडिकल एवं इंजीनियरिंग अभ्यास के लिए आदिवासी कन्याओं को लैपटॉप

गुजरात के मुख्यमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज पूर्व-दक्षिण गुजरात के आदिवासी क्षेत्र में विशाल महिला सशक्तिकरण सम्मेलन में साफ तौर पर कहा कि गुजरात की नारीशक्ति विकास में भागीदार बनी है। पुरुष और स्त्री दोनों की विकास में समान भागीदारी का वातावरण गुजरात में बना है। बाजीपुरा में विराट महिलाशक्ति का अभिवादन करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि गुजरात अभी अनेक नई ऊंचाइयां छूने को प्रतिबद्ध है।

उन्होंने कहा कि गुजरात ने बताया है कि विकास किसे कहते हैं। विकास के नाम पर भूतकाल की सरकारों ने धन का अपव्यय ही किया है जबकि आज गुजरात में हर जगह विकास नजर आ रहा है।

Mahilasamelan-vyara-140214-in5

नवरचित तापी जिले की वालोड तहसील के बाजीपुरा में आज आदिवासी नारीशक्ति का विराट साक्षात्कार कराने वाला महिला सशक्तिकरण सम्मेलन आयोजित हुआ।

मुख्यमंत्री के हाथों गुजरात सरकार की ओर से माता यशोदा अवार्ड, महिला विकास के क्षेत्र में उत्तम योगदान देने वाली बहनों को अवार्ड, महिला खिलाड़ियों को पुरस्कार और मुख्यमंत्री कन्या केळवणी निधि में से कन्याओं को सहायता वितरीत की गई। बाजीपुरा में सुमूल डेयरी की पशु आहार फैक्टरी का भूमिपूजन भी उन्होंने किया।

मुख्यमंत्री ने समाज के स्वास्थ कल्याण के लिए राज्य सरकार की संवेदनशीलता की भूमिका पेश करते हुए कहा कि राज्य में आंगनबाड़ी और नंदघर तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बहनों की उपेक्षित स्थिति में क्रांतिकारी बदलाव लाकर उनका दर्जा गौरवपूर्ण बनाया है। आंगनबाड़ी की बहनें छोटे बालकों के संस्कारी लालन-पालन के लिए जिस वात्सल्य के साथ देखभाल कर रही हैं, वह गुजरात के आने वाले कल की स्वस्थ पीढ़ी के निर्माण की सरकार की चिन्ता है।

उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी में चूल्हा के बदले गैस एवं कूकर प्रदान कर विकास में धन के अपव्यय के बजाय सही मायने में विकास को अंजाम दिया जा रहा है।

Mahilasamelan-vyara-140214-in1

श्री मोदी ने कहा कि गुजरात में नारीशक्ति ने सार्वजनिक परीक्षाओं में बाजी मारी है और अब तो खेलकूद के क्षेत्र में भी कन्या खिलाड़ियों ने गुजरात का गौरव बढ़ाया है।

कन्या केळवणी की योजनाओं से बेटियां न सिर्फ पढ़ें बल्कि बेटियां अच्छे से अच्छी शिक्षा हासिल करें, उच्च अभ्यास, खेलकूद में बेटियां नाम रोशन करें, इसके लिए सरकार ने जो काम किया है वह आने वाले कल के गुजरात की शिक्षित नारीसमाज का गौरव बढ़ाएगा ऐसा विश्वास मुख्यमंत्री ने व्यक्त किया।

मुख्यमंत्री ने बताया कि गिर के जंगलों में एशियाई सिंहों की रक्षा के लिए एवं वनसृष्टि के व्यवस्थापन के लिए गुजरात की वीरांगना बेटियों की भर्ती फॉरेस्ट सेक्टर में की है।

सुमूल पशु आहार फैक्टरी के भूमिपूजन के अवसर पर श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि पशु स्वास्थ्य मेला अभियान से ग्रामीण अर्थव्यवस्था में दूध उत्पादन में गुणात्मक बढ़ोतरी हुई है।

उन्होंने कहा कि बदलते युग में गुजरात की नारी को अवसर मिले तो घर-संसार और परिवार की जवाबदारी के साथ देश एवं समाज के विकास में नेतृत्व प्रदान करने की क्षमता रखती है। शिक्षा एवं स्वास्थ्य क्षेत्र तथा खेतीबाड़ी में महिलाशक्ति राष्ट्रशक्ति बने ऐसा अभिगम गुजरात ने अपनाया है।

महिला सम्मेलन में राज्य की राजस्व, मार्ग एवं मकान विभाग की मंत्री श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में गुजरात की महिलाओं के सशक्तिकरण, शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में जो कामकाज हुआ है उसने पूरे देश का ध्यान आकर्षित किया है। श्रीमती पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री ने महिलाओं के सर्वांगीण विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी है। महिलाओं की योग्यता, कौशल और कार्यवृत्ति को विस्तार देने के लिए राज्य में सखी मंडलों के माध्यम से विविध प्रकार के कार्य किए जा रहे हैं।

वन-पर्यावरण एवं आदिजाति विकास मंत्री तथा तापी जिले के प्रभारी मंत्री गणपतसिंह वसावा ने मुख्यमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा आदिवासियों की सर्वाधिक चिंता का उल्लेख कर उनके सर्वांगीण विकास के लिए किए गए कामकाज की जानकारी दी।

कार्यक्रम में प्रदेश भाजपा महामंत्री भरतसिंह परमार सहित उपस्थित महानुभावों के हाथों तहसील स्तरीय तापी-सूरत जिले के माता यशोदा अवार्ड का वितरण आंगनबाडी कार्यकर्ता बहनों को किया गया।

कार्यक्रम के प्रारंभ में राज्य के महिला एवं बाल विकास विभाग की सचिव श्रीमती अंजु शर्मा ने सभी का स्वागत किया, जबकि दिनेशभाई दासा ने आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर विधानसभा उपाध्यक्ष मंगूभाई पटेल, विधायकगण कांतिभाई गामित, मोहनभाई ढोडिया, ईश्वरभाई परमार, प्रफुलभाई पानसेरिया, मुकेशभाई पटेल, गुजरात राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के चेयरमैन भूपेन्द्रभाई लाखावाला, जिला पंचायत सूरत के अध्यक्ष अश्विनभाई पटेल, सुमूल के चेयरमैन मानसिंहभाई पटेल, सूरत जिला भाजपा अध्यक्ष सुरेशभाई पटेल, खेलकूद विभाग के सचिव भाग्येश झा, प्राथमिक शिक्षा विभाग की अग्रसचिव संगीता सिंह, महिला आर्थिक विकास निगम की एमडी अनुराधा मलल सहित कई महानुभाव उपस्थित थे।

Mahilasamelan-vyara-140214-in2

Mahilasamelan-vyara-140214-in3

Mahilasamelan-vyara-140214-in4

Mahila Sashaktikaran Sammelan in Tapi

Mahilasamelan-vyara-140214-in7

Mahilasamelan-vyara-140214-in8

Mahilasamelan-vyara-140214-in9

Explore More
बिना किसी तनाव के उत्सव मूड में परीक्षा दें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

बिना किसी तनाव के उत्सव मूड में परीक्षा दें: पीएम मोदी
Gross NPA ratio of banks fell to six-year low of 5.9% in March: RBI

Media Coverage

Gross NPA ratio of banks fell to six-year low of 5.9% in March: RBI
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
सोशल मीडिया कॉर्नर 1 जुलाई 2022
July 01, 2022
साझा करें
 
Comments

India’s UPI is accelerating innovation in payment technology globally, creating a neutral marketplace and commerce platform that is low-cost and accessible.

Citizens show appreciation for PM Modi’s visionary leadership, good governance and infrastructure developments.