साझा करें
 
Comments
बांग्लादेश हमारी 'नेबरहुड फर्स्ट' नीति का एक प्रमुख स्तंभ है : प्रधानमंत्री मोदी
मेरे लिए गर्व की बात है कि आज आपके साथ बंगबंधु के सम्मान में एक डाट टिकट का विमोचन और बापू-बंगबंधु के ऊपर एक डिजिटल प्रदर्शनी का उद्घाटन करने का मौका मिल रहा है : पीएम मोदी

Your Excellency, प्रधानमंत्री शेख हसीना जी, नमस्कार!

बिजोय दिबशेर औनेक औनेक ओभीनोंदन आर पोश पार्बोनेर शुबेच्छा !

आज सारी दुनिया virtual summits कर रही है। लेकिन आपके और मेरे लिए यह माध्यम नया नहीं है। कई वर्षों से हम वीडियो के माध्यम से बातचीत करते रहे हैं।

कई बार हमने वीडियो के माध्यम से projects को launch और inaugurate भी किया है।

Excellency,

विजय दिवस के तुरंत बाद, आज की हमारी मुलाकात और अधिक विशेष महत्व रखती है।

Anti-liberation forces पर बांग्लादेश की ऐतिहासिक जीत को आपके साथ विजय दिवस के रूप में मनाना हमारे लिए गर्व की बात है।

आज जब बांग्लादेश आजादी के उनचास वर्ष मना रहा है, मैं दोनों देशों के शहीदों को, जिन्होंने अपने प्राणों की आहुति दी, श्रद्धापूर्वक नमन करता हूँ।

विजय दिवस के अवसर पर कल मैंने भारत में राष्ट्रीय समर स्मारक में श्रद्धासुमन अर्पित किए। और एक ‘स्वर्णिम विजय मशाल’ प्रज्वलित करी।

यह चार ‘विजय मशाल’ पूरे भारत में भ्रमण करेंगी, हमारे शहीदों के गाँव-गाँव ले जाई जाएँगी।

16 दिसम्बर से हम ‘स्वर्णिम विजय वर्ष’ मना रहें हैं, जिसमे भारत भर में कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएँगे।

Excellency,

‘मुजीब बर्षो’ के अवसर पर मैं सभी भारतीयों की ओर से आपको बधाई देता हूँ।

अगले वर्ष बांग्लादेश यात्रा के निमंत्रण के लिए आपका धन्यवाद करता हूँ। आपके साथ बंगबंधु को श्रद्धांजलि अर्पित करना मेरे लिए गर्व की बात होगी।

Excellency,

बांग्लादेश हमारी ‘Neighbourhood First’ नीति का एक प्रमुख स्तम्भ है। बांग्लादेश के साथ संबंधों में मजबूती और गहराई लाना मेरे लिए पहले दिन से ही विशेष प्राथमिकता रही है।

यह बात सही है कि वैश्विक महामारी के कारण यह वर्ष चुनौतीपूर्ण रहा है।

लेकिन संतोष का विषय है, कि इस कठिन समय में भारत और बांग्लादेश के बीच अच्छा सहयोग रहा।

चाहे वो दवाइयों या मेडिकल equipment में हो, या फिर health professionals का साथ काम करना हो। वैक्सीन के क्षेत्र में भी हमारे बीच अच्छा सहयोग चल रहा है। इस सिलसिले में हम आपकी आवश्यकताओं का भी विशेष ध्यान रखेंगे l

SAARC framework के तहत बांग्लादेश के योगदान के लिए मैं आपका आभार व्यक्त करता हूँ।

स्वास्थ्य के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी इस वर्ष हमारी विशेष साझेदारी निरंतर आगे बढ़ती रही है।

Land border trade में बाधाओं को हमने कम किया। दोनों देशों के बीच connectivity का विस्तार किया। नए साधनों को जोड़ा।

यह सब हमारे संबंधों को और अधिक मजबूत करने के हमारे इरादों को दर्शाता है।

Excellency,

"मुजीब चिरंतर” - बंगबंधु का संदेश eternal है। और इसी भाव से हम भी उनकी legacy का सम्मान करते हैं।

आपके उत्तम नेतृत्व में बंगबंधु की legacy स्पष्ट रूप से झलकती है। साथ ही, हमारे द्विपक्षीय संबंधों के लिए आपकी निजी प्रतिबद्धता भी स्पष्ट है।

यह मेरे लिए गर्व की बात है कि आज आपके साथ बंगबंधु के सम्मान में एक डाक टिकट का विमोचन, और बापू और बंगबंधु के ऊपर एक डिजिटल प्रदर्शनी का उद्घाटन करने का मौका मिल रहा है। मैं आशा करता हूँ कि बापू और बंगबंधु की प्रदर्शनी हमारे युवाओं को प्रेरणा देगी, इसमे विशेष section कस्तुरबा गाँधी जी और पूजनीय बंगमाता जी को भी dedicate किया गया हैl

Excellency,

अब मैं आपके opening remarks आमंत्रित करना चाहूंगा।

मोदी सरकार के #7YearsOfSeva
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
How Modi government’s flagship missions have put people at the centre of urban governance (By HS Puri)

Media Coverage

How Modi government’s flagship missions have put people at the centre of urban governance (By HS Puri)
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
प्रधानमंत्री के नेतृत्‍व में जम्‍मू-कश्‍मीर के सभी राजनीतिक दलों के साथ बैठक के उपरांत राज्यमंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह का वक्तव्य
June 24, 2021
साझा करें
 
Comments

आज माननीय प्रधानमंत्री के नेतृत्‍व में जम्‍मू-कश्‍मीर के सभी राजनीतिक दलों के साथ चर्चा अभी-अभी समाप्‍त हुई है। जम्‍मू-कश्‍मीर के विकास और लोकतंत्र को मजबूती देने की दिशा में ये एक बहुत ही सकारात्मक प्रयास रहा है। बैठक बहुत ही अच्‍छे वातावरण में हुई। सभी ने भारत के लोकतंत्र और भारत के संविधान के प्रति पूरी निष्‍ठा जताई। गृहमंत्री जी ने जम्‍मू-कश्‍मीर की स्‍थिति, परिस्थिति और बेहतर होते हालात से सभी नेताओं को परिचित कराया। प्रधानमंत्री जी ने पूरी गंभीरता के साथ हर पक्ष, हर तर्क, हर सुझाव को सुना और उन्‍होंने इस बात को सराहा कि सभी जनप्रतिनिधियों ने खुले मन से अपनी-अपनी बात रखी।

 

प्रधानमंत्री जी ने बैठक में दो बड़ी बातों पर विशेष जोर दिया। उन्‍होंने कहा जम्‍मू-कश्‍मीर में लोकतंत्र को grassroot तक ले जाने के लिए हम सबको मिलकर काम करना होगा। दूसरा, जम्‍मू-कश्‍मीर में all round विकास हो, हर इलाके, हर समुदाय तक विकास पहुंचे, इसके लिए साझेदारी हो और जनभागीदारी का एक माहौल बनाया रखा जाए, ये जरूरी है।

माननीय प्रधानमंत्री जी ने इस बात को भी रखा कि जम्‍मू-कश्‍मीर में पंचायती राज से लेकर दूसरे स्‍थानीय निकायों से जुड़े सभी चुनाव सफलतापूर्वक हो चुके हैं। सुरक्षा से जुड़े हालात भी बेहतर हो रहे हैं। पंचायत चुनावों के बाद करीब बारह हजार करोड़ रुपये सीधे-सीधे पंचायतों के पास पहुंचे हैं। इससे गांव में विकास की रफ्तार को गति मिली है। प्रधानमंत्री जी ने कहा कि जम्‍मू-कश्‍मीर में लोकतांत्रिक प्रक्रिया से जुड़े अगले महत्‍वपूर्ण कदम, यानि विधानसभा चुनाव की तरफ हमें मिलकर जाना है। इसके लिए डिलिमिटेशन की प्रक्रिया को तेजी से पूरा करना होगा। ताकि हर क्षेत्र, हर वर्ग को पर्याप्‍त राजनीतिक प्रतिनिधित्‍व विधानसभा में प्राप्‍त हो सके। विशेष रूप से दलितों, पिछड़ों, जनजाति क्षेत्रों के साथियों को एक उचित प्रतिनिधित्‍व देना आवश्‍यक है।

Friends,

डिलिमिटेशन की इस प्रक्रिया में सभी की हिस्‍सेदारी हो, इसको लेकर के बैठक में विस्‍तार से बातचीत हुई। बैठक में मौजूद सभी दलों ने इस प्रक्रिया में हिस्‍सा लेने के लिए सहमति जताई है।

आज की बैठक में प्रधानमंत्री जी ने इस बात पर भी जोर दिया कि जम्‍मू-कश्‍मीर को शांति और समृद्धि के पथ पर ले जाने के लिए ऐसे ही सभी stakeholders को मिलकर साथ चलना होगा। उन्‍होंने कहा आज जम्‍मू-कश्‍मीर हिंसा के कुचक्र से बाहर निकल कर स्‍थिरता की तरफ बढ़ रहा है। जम्‍मू-कश्‍मीर की जनता में एक नयी आशा जगी है, नया आत्‍मविश्‍वास आया है। पीएम यह भी बोले कि हमें इस आत्‍मविश्‍वास को बढ़ाने के लिए, इस भरोसे को और मजबूत करने के लिए दिन-रात मेहनत करनी होगी, साथ मिलकर काम करना होगा। आज की यह बैठक जम्‍मू-कश्‍मीर में लोकतंत्र को मजबूती देने और जम्‍मू-कश्‍मीर के विकास और समृद्धि के लिए एक महत्‍वपूर्ण कदम है। मैं आज की इस बैठक में शामिल होने के लिए सभी राजनीतिक दलों का आभार प्रकट करता हूँ।

धन्‍यवाद !