साझा करें
 
Comments
मणिपुर सहित पूरे नॉर्थ ईस्ट में ब्लॉकेड और हिंसा का लंबा दौर अब खत्म हो रहा है: प्रधानमंत्री मोदी
चौकीदार ने पूरी निष्ठा से, पूरी ईमानदारी से काम किया है: पीएम मोदी
जो कांग्रेस मोदी के विरोध में राष्ट्र की सुरक्षा, राष्ट्रीय एकता तक को दांव पर लगा सकती है, उसकी बातों को लोग कैसे गंभीरता से लेंगे? : प्रधानमंत्री

भारत माता की जय, भारत माता की जय....

मणिपुर के लोकप्रिय मुख्यमंत्री जी, यहां की सरकार के सभी मंत्री महोदय, भारतीय जनता पार्टी और साथी दलों के सभी वरिष्ठ नेता, इस चुनाव में हमारे दोनों उम्मीदवार, मंच पर विराजमान सभी वरिष्ठ महानुभाव और विशाल संख्या में पधारे हुए मणिपुर के मेरे प्यारे भाइयो और बहनो, मैं सबसे पहले आपसे क्षमा मांगता हूं क्योंकि मुझे बताया गया कि डेढ़ दो बजे से आप लोग बैठे हैं, और मैं भ्रमण करते करते यहां पहुंचने में विलंब हो गया, और इसलिए मैं पहले मणिपुर वासियों से क्षमा मांगता हूं। देश की आजादी के लिए, देश और मणिपुर में शांति स्थापना के लिए, अपना सर्वश्र न्योछावर करने वाले, यहां के हर वीर बेटे-बेटियों को मैं आदर पूर्वक नमन करता हूं। मणिपुर का मूड क्या है? नॉर्थ ईस्ट का मन क्या है? ये इंफाल ने आज बता दिया है। आपका ये प्यार, आपका ये जोश मुझे इंस्पायर करता रहा है, और इसलिए एक बार फिर इसी मैदान में बार-बार आपसे मिलने का मुझे मौका मिल जाता है। बीते कुछ महीनों में मैं तीसरी बार मणिपुर आया हूं। साथियों पांच वर्ष के दौरान जो कुछ भी मैं कर पाया हूं।उसका श्रेय आप सभी को जाता है।

अगर आपने मेरा साथ न दिया होता तो देश के लिए कड़े और बड़े फैसले लेने की हिम्मत मैं कभी नहीं कर पाता। ये जो कुछ भी मैं कर पा रहा हूं। वो आपके साथ सहयोग के कारण कर रहा हूं। अब मैं आपसे एक सवाल पूछना चाहता हूं। जवाब दोगे आप लोग...? सब के सब जवाब दोगे..? पूरी ताकत से दोगे..? पूछ लूं..? इधर से तो आवाज नहीं आ रही है.. पूछ लूं...? सब जवाब देंगे? आप मुझे बताइए क्या आप अपने इस चौकीदार से खुश हैं..? ये आपका चौकीदार सही रास्ते पर चल रहा है..? आपके इस चौकीदार ने सही काम किया है...? आपको ये चौकीदार पर विश्वास है? भाइयो और बहनो आपका यहीं प्यार, यहीं स्नेह हैं कि पूरा नॉर्थ ईस्ट आज डेवलपमेंट की मेन स्ट्रीम में आ पाया है। आपका ही आशीर्वाद है कि आज मणिपुर और नॉर्थ ईस्ट में कनेक्टिविटी अभूतपूर्व स्तर पर पहुंची है। आपका ही आशीर्वाद है कि मणिपुर सहित पूरे नॉर्थ ईस्ट में हिंसा का वो लंबा दौर अब खत्म हो रहा है। ये आप ही  का सहयोग है जिसके कारण नॉर्थ ईस्ट नए भारत की एक्ट ईस्ट पॉलिसी का एक अहम सेंटर बनता जा रहा है।

 साथियो, आपका यहीं आशीर्वाद यहीं ऊर्जा आपके इस चौकीदार की ताकत है। इसी ताकत की वजह से हमने निर्णय लेने वाली सरकार चलाई है।फैसले टालने वाले हम लोग नहीं है। इसी ताकत की वजह से आज पूरे भारत की ग्लोबल स्टैंडिंग एक अलग ही स्तर पर है। इसी ताकत की वजह से आज सही मायने में सबका साथ सबका विकास हो रहा है। भाइयो और बहनो, ये आपके आशीर्वाद का ही परिणाम है कि पहली बार कोई सरकार प्रो इनकंबैंसी के साथ जनता का आशीर्वाद प्राप्त कर रही है, और अगर गुस्सा है नाराजगी है, देश पहली बार देख रहा है कि जनता अगर गुस्सा है नाराजगी है तो विरोधी दलों के खिलाफ है ऐसा बहुत बार नहीं होता है। ऐसा इसलिए हुआ है क्योंकि आपके इस चौकीदार ने पूरी निष्ठा से पूरी ईमानदारी से काम करने में कोई कमी नही रखी है। जनता नीयत को पहचानती है। निष्ठा को पहचानती है, और इसी से क्रेडिबिलिटी बनती है। झूठ, अफवाह बिना सिर पैर की बातें करना क्रेडिबिलिटी किस तरह जीरो हो जाती है। ये भी हम देख रहे हैं, दुर्भाग्य से कांग्रेस और उसके महामिलावटी साथियों ने यहीं रास्ता अपनाया। जिसका नुकसान उनको उठाना पड़ रहा है। जो कांग्रेस मोदी के विरोध में राष्ट्र की सुरक्षा, राष्ट्रीय एकता तक को दांव पर लगा सकती है। उसकी बातों को लोग कैसे गंभीरता से लेंगे। आप खुद सोचिए, भारत पहली बार पाकिस्तान में जाकर के आतंकवादियों के ठीकाने पर हमला करता है, और ये कांग्रेस कह रही है सबूत दो, सबूत दो। आपको देश की सेना पर भरोसा है कि नहीं है? हमारी वीरता पर भरोसा है कि नहीं है? हमारे जवान पराक्रम कर सकते हैं इस बात पर आपको भरोसा है कि नहीं है? आपको है... काग्रेस वालों को नहीं है। जो प्रोपेगेंडा पाकिस्तान दुनिया में फैलाना चाहता है ये कांग्रेस के नेता उसी को बोल रहे हैं उसी को आगे बढ़ा रहे हैं। कांग्रेस  उन लोगों के साथ खड़ी है जो कहते हैं कि जम्मू-कश्मीर में दो प्रधानमंत्री होने चाहिए, एक दिल्ली में एक जम्मू-कश्मीर में, यहां तक कि कांग्रेस का जो ढकोसला पत्र है वो भारत का कम पाकिस्तान भोपू ज्यादा लगता है।

साथियो, कांग्रेस ने कहा कि धारा 370 पर कोई भी हाथ नहीं लगा सकता, वहां पाकिस्तान की सरकार ने वहीं बात दोहरा दी। ये कैसा गठबंधन है, ये कैसी मिलावट है। साथियो, नेता जी के साथ मिलकर के जिन्होंने मोइरंग में पहली बार तिरंगा फहराया। ऐसा मणिपुर क्या कभी कांग्रेस को माफ करेगा क्या? कभी कांग्रेस को माफ कर सकते हैं क्या? आप कांग्रेस को सजा देंगे कि नहीं देंगे? बड़ी तगड़ी सजा देंगे कि नहीं देंगे? भाइयो-बहनो, मुझे बताया गया है कि नामदार ने कहा है कि वो नॉर्थ ईस्ट को मैन्युफैक्चरिंग का हब बनाएंगे। इतने वर्षों तक कांग्रेस के शासन में यहां क्या मैन्युफैक्चर हुआ? मैन्युफैक्चरिंग में क्या काम हुआ? दो कदम भी चले क्या ? ये मुझसे ज्यादा आप लोग जानते हैं। उन्होंने कुछ किया है क्या? कोई मैन्युफैक्चरिंग हब बना है क्या? हां ये लोग कुछ चीजें मैन्युफैक्चरिंग करने में एक्सपर्ट हैं, मास्टर ये गाली-गलौज  मैन्युफेक्चर करने में मास्टर हैं, ये झूठ मैन्युफैक्चर करने में मास्टर हैं, आपको याद है कुछ महीने पहले तक देश भर में घूम-घूम कर कहते फिरते थे, मेक इन इंफाल मोबाइल बनाएंगे। भोपाल में जाएंगे तो कहेंगे मेक इन इंडिया भोपाल बनाएंगे। बनारस जाएंगे तो कहेंगे मेक इन इंडिया बनारस बनाएंगे।

ये ऐसे ही बोलते रहते हैं, जब इनको किसी ने बताया कि आज भारत दुनिया में मोबाइल फोन बनाने वाला दूसरा सबसे बड़ा देश है, और पांच वर्ष में मोबाइल फोन बनाने वाली फैक्ट्रियां, उनके जमाने में दो थी, आज 125 हो गई हैं। जब ये किसी ने उनके दिमाग में इंजेक्शन डालकर के भरा तब उनको पता चला और अब जाकर के मेक इन इंडिया मोबाइल बोलना बंद कर दिया उन्होंने, भाइयो- बहनो, कांग्रेस को नॉर्थ ईस्ट की चिंता होती तो इंफाल सहित यहां की सभी राजधानियां अब जाकर के रेलवे से जुड़ी है वो पहले जुड़ जाती। यहां अच्छे हाईवे और सड़के बनाने का काम मोदी को करने की जरूरत नहीं प़ड़ती। एयरपोर्ट से जुड़े प्रोजेक्ट इतने लंबे-लंबे समय तक लटकते न रहते। दोलाईथाबी बैराज को बनाने के लिए मोदी का इंतजार न करना पड़ता। साथियो, मणिपुर सहित पूरे नॉर्थ ईस्ट में स्पोर्ट्स का टैंलेंट तो पहले से ही था। लेकिन कांग्रेस ने कभी चिंता नहीं की। मैरी कॉम, कुंजरानी देवी, मीराबाई चानू, बोम्बायला देवी लैशराम... ऐसे ऐसे अनेक एथलीट ये मणिपुर की धरती ने दिए हैं। हजारों ऐसे टैलेंटेड बेटे- बेटियां यहां के गांव-गांव में मौजूद हैं।

हमारी सरकार ने नेशनल स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बनाने के साथ–साथ मणिपुर को देश का स्पोर्टिंग हब बनाने की तरफ कदम बढ़ाएं हैं। साथियो, वैसे कांग्रेस ने नॉर्थ ईस्ट में भी बहुत से खेल खेले हैं, पर ये खेल उसने आप लोगों की जिंदगियों से खेले हैं। आपके सम्मान के साथ खेला है, मणिपुर के लोग तो फुटबॉल के खेल में चैंपियन हैं। हमारे मुख्यमंत्री बीरेन सिंह जी भी खुद फुटबॉलर हैं। अब राजनीति की इस फुटबॉल में हर बार आपके साथ पूरे नॉर्थ ईस्ट के साथ फाउल करने वाली कांग्रेस को रेड कार्ड दिखाने का वक्त आ गया है। दिखाओंगे न? उन्हें मणिपुर समते पूरे नॉर्थ ईस्ट से इस बार भी रेड कार्ड दिखाकर अगले सारे राजनीतिक मैचों के लिए साइड पर बैठा दीजिए? साथियो, कांग्रेस और उनके साथी नॉर्थ ईस्ट में तब दिखाई देते हैं, जब चुनाव होता है। एक बार चुनाव खत्म तो उनकी छिपने की बारी शुरू हो जाती है। फिर कांग्रेस के नेता आपको कहीं दिखाई देते हैं क्या? ये आपके साथ इसी लुका-छुपी के चलते आपकी समस्याएं हल नहीं होती है। नॉर्थ ईस्ट के साथ जो  व्यवहार कांग्रेस और सहयोगियों की सरकार द्वारा किया गया है। उस गलती को सुधारने का काम भारतीय जनता पार्टी एनडीए की सरकार कर रही है। भाइयो-बहनो, अपने यूथ के टैलेंट और उनकी पढ़ाई और कमाई के लिए बेहतर अवसर बनाने का प्रयास हमारी सरकार ने किया है। मणिपुर में वुमैन मार्केट की व्यवस्था को हमारी सरकार ने मजबूत किया।

नॉर्थ ईस्ट में बीपीओ के माध्यम से युवाओं को रोजगार के नए अवसर मिले हैं। मुद्रा योजना से मणिपुर के एक लाख युवाओं को बिना गारंटी के लोन दिए गए हैं। जिसमें साठ हजार तो महिलाएं हैं। भाइयो बहनो, कांग्रेस के शासन में आय दिन दूसरे शहरों में नॉर्थ ईस्ट के साथियों के साथ बदसलूकी घटना सामने आती थी उनमें अब कमी आई है। बैंगलुरू में कब से नॉर्थ ईस्ट के साथ लेडीज हॉस्टल की मांग कर रहे थे। आपके चौकीदार ने ये मांग भी पूरी तर दी है। साथियो, आपका ये चौकीदार हर वर्ग के हित की सुरक्षा में जुटा है। मणिपुर में करीब सवा लाख किसानों के खाते में सीधी मदद जमा होने शुरू हो चुकी है। वहीं बम्बू की खेती पर यहां के किसान अब अतिरिक्त आय प्राप्त कर सके इसके लिए कानून बदलने का काम भी हमारी सरकार ने किया है। पहले तो अगर बम्बू काटा तो जेल जाना पड़ता था। हमने ऐसा कानून बनाया कि आप बम्बू की खेती भी कर सकते हैं, बम्बू बेच भी सकते हैं, और सरकार आपको परेशान नहीं कर सकती। मणिपुर के मछुआरों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा और अलग बोर्ड बनाने का फैसला भी हमारी सरकार ने ही किया है, और पहली बार मछुआरों के लिए मंत्रालय बनाने का निर्णय हमारी सरकार ने ही किया है।

यहां के करीब तीन लाख गरीब किसान परिवारों को हर वर्ष पांच लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज की सुविधा चौकीदार की सरकार ने की है। यहां के दस हजार गरीब परिवारों को पक्के घर और एक लाख बहनों को एलपीजी गैस भी ये चौकीदार की सरकार ने दिया है। साथियो, ये काम कांग्रेस भी कर सकती थी, लेकिन उनकी नीयत ठगी की थी, करप्शन की थी, यहां मणिपुर में उनकी सरकार जब थी तब उन्होंने चौकीदारों तक को नहीं छोड़ा। जो लोग चौकीदार क्वार्टर स्कैम कर सकते हैं वो आपके हितों की रक्षा कैसे कर पाएंगे? यहां कांग्रेस के नेता चौकीदारों के क्वार्टर हड़प जाते हैं और दिल्ली में उनके नामदार देश की सुरक्षा से जुडे सौदों में दलाली खाते हैं दलाली। ऐसी बदनीयत होने वालों की जमनात जब्त हो इसके लिए आप सभी को भारी संख्या में कमल के फूल के सामने बटन दबाकर चौकीदार को सशक्त करना है।

भाइयो-बहनो, कमल के फूल के सामने आप जब बटन दबाएंगे न तो आपका वोट सीधा सीधा मोदी के खाते में जाने वाला है, तो आपका वोट मोदी को मिलेगा..? इस चौकीदार को मिलेगा?  मैं एक नारा बोलवाता हूं। आप बोलेंगे..? आप बोलेंगे...? मैं कहूंगा ...मैं भी....आप कहेंगे चौकदार...मैं भी...चौकीदार, मैं भी...चौकीदार, पूरी ताकत से बोलिए... हाथ ऊपर करके बोलिए... मैं भी...चौकीदार, गांव-गांव है...चौकीदार, शहर-शहर है... चौकीदार, बच्चा-बच्चा...चौकीदार, बड़े-बुजुर्ग भी...चौकीदार, माता- बहनें...चौकीदार, घर-घर में हैं... चौकीदार, खेत-खलिहान में... चौकीदार, बाग-बगान में..चौकीदार, देश के अंदर..चौकीदार, सरहद पर... चौकीदार, किसान-कामगार भी... चौकीदार, दुकानदार भी...चौकीदार, वकील-व्यापारी...चौकीदार, छात्र- छात्राएं भी... चौकीदार भाइयो बहनो पूरा हिंदुस्तान...चौकीदार, पूरा हिंदुस्तान...चौकीदार, मेरे साथ जोर से बोले भारत माता की जय... भारत माता की जय...बहुत-बहुत धन्यवाद

20 Pictures Defining 20 Years of Seva Aur Samarpan
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
Prime Minister Modi lived up to the trust, the dream of making India a superpower is in safe hands: Rakesh Jhunjhunwala

Media Coverage

Prime Minister Modi lived up to the trust, the dream of making India a superpower is in safe hands: Rakesh Jhunjhunwala
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
सोशल मीडिया कॉर्नर 24 अक्टूबर 2021
October 24, 2021
साझा करें
 
Comments

Citizens across the country fee inspired by the stories of positivity shared by PM Modi on #MannKiBaat.

Modi Govt leaving no stone unturned to make India self-reliant